GLIBS
22-09-2020
आयकर विभाग ने भेजा शरद पवार और उद्धव ठाकरे को नोटिस

नई दिल्ली। राष्ट्रवादी कांग्रेस प्रमुख और पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद पवार को आयकर विभाग ने नोटिस भेजा है। बताया जा रहा है कि ये नोटिस पिछले चुनाव में दिए गए हलफनामे को लेकर पहुंचा है।आयकर विभाग ने यह नोटिस शरद पवार सहित महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, मंत्री आदित्य ठाकरे, एनसीपी नेता सुप्रिया सुले को भेजा गया है। बताया जा रहा है कि आयकर विभाग की ओर से इस नोटिस के जरिए पिछले कुछ चुनावों में दाखिल किए गए हलफनामे की जानकारी मांगी गई है। 

 

13-09-2020
उद्धव ठाकरे ने तोड़ी चुप्पी, कहा- मेरी खामोशी को कमजोरी न समझा जाए

मुंबई। कोरोना, कंगना रनौत के कारण सवालों में घिरे महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने रविवार को अपनी चुप्पी तोड़ी। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए लोगों को संबोधित करते हुए उद्धव ने कहा कि महाराष्ट्र को बदनाम करने का सिलसिला चल रहा है। लेकिन यह कामयाब नहीं होगा। उद्धव ने सुशांत, कंगना पर बात करने के बजाय मराठा आरक्षण और कोरोना पर ज्यादा देर तक बात की। महाराष्ट्र की बदनामी का जो सिलसिला चल रहा है उस बारे में बात करुंगा उद्धव ठाकरे ने कहा कि ये राज्य मेरा परिवार है। हम चाहे विदर्भ हो या राज्य के दूसरे हिस्से, सभी पर बारी-बारी से ध्यान दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि जितने भी राजनीतिक तूफान है, उनका मैं सामना करूँगा। कोई परवाह नहीं है। जनता से उनका यही कहना है कि वे सरकार से खबरदारी लें, जबकि जवाबदारी सरकार देगी। उन्होंने कंगना का नाम लिए बिना कहा कि उनकी खामोशी को कमजोरी न समझा जाए। उन्होंने कहा कि राजनीतिक साइक्लोन आते रहेंगे और वो उनका सामना करते रहेंगे। उद्धव ने कहा कि कोरोना महामारी आखिरी स्टेज पर है। लेकिन अभी पूरी तरह गई नहीं है।इसलिए घर से बाहर निकलते हुए मास्क पहने और सामाजिक दूरी का पालन करें। उन्होंने कहा कि मास्क नही लगाने पर दंड वसूला जाएगा। अगर दुकानदारों ने सावधानी नहीं बरती तो उन पर भी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि कोरोना से निपटने के लिए पिछले 4 महीने में 3 लाख 60 हजार बेड की संख्या बढ़ाई गई है। 

 

06-09-2020
उद्धव ठाकरे के आवास मातोश्री को बम से उड़ाने की धमकी, बढ़ाई गई सुरक्षा, अतिरिक्त बल तैनात

मुंबई। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के घर मातोश्री की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार मातोश्री के लैंडलाइन पर शनिवार रात की फोन आया था। फोन पर दूसरी तरफ से बात कर रहे शख्स ने खुद को दाऊद इब्राहिम का आदमी बताया और उद्धव ठाकरे के आवास मातोश्री को बम से उड़ाने की धमकी दी। इसके बाद मातोश्री की सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है। वहां बड़ी संख्या में पुलिस बल की तैनाती कर दी गई है।
मुंबई पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि एक अज्ञात व्यक्ति ने शनिवार की रात लगभग साढ़े दस बजे दो बार फोन किया,जिसके बाद कालानगर कॉलोनी में स्थित ठाकरे के बंगले की सुरक्षा बढ़ा दी गई।

फोन करने वाला शख्स मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से बात करना चाहता था, लेकिन ऑपरेटर ने मुख्यमंत्री से शख्स की बात नहीं कराई। इसके बाद उसने पूरे बंगले को बम से उड़ाने की धमकी दी। अधिकारी ने कहा, ‘फोन करने वाले व्यक्ति ने अपनी पहचान नहीं बताई और केवल इतना कहा कि वह दाऊद इब्राहिम की तरफ से दुबई से बोल रहा है।इसके बाद स्थानीय पुलिस को इस संबंध में सूचित किया गया और बंगले के बाहर अतिरिक्त सुरक्षा बल तैनात किये गये। उन्होंने बताया कि इस सिलसिले में कोई मामला दर्ज नहीं किया गया है। पुलिस के एक शीर्ष अधिकारी ने बताया, ‘हम यह पुष्टि करने का प्रयास कर रहे हैं कि फोन दुबई से किया गया था या किसी अन्य स्थान से, जांच जारी है।'

 

27-07-2020
उद्धव ठाकरे के जन्मदिवस पर किया गया पौधरोपण

जांजगीर चाम्पा। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के जन्मदिवस पर शिवसेना जांजगीर चाम्पा जिलाध्यक्ष ओंकार सिंह गहलौत के नेतृत्व में शिवसैनिकों ने ग्राम पंचायत पिसौद में पौधरोपण किया। इस अवसर पर शुभम सिंह राजपूत  लासचिव, रमेश साहू अध्यक्ष पिसौद, दिलीप साहू उपाध्यक्ष पिसौद, दिनेश साहू सचिव पिसौद, नीरज कुम्भकार, राजेन्द्र साहू, दीपक साहू, प्रदीप दुबे, शिव केंवट, हेमंत साहू सहित अन्य शिवसैनिक उपस्थित थे।

 

26-07-2020
महाराष्ट्र सरकार जिस किसी को भी गिरानी है, अभी गिराकर दिखाए : उद्धव ठाकरे

मुंबई। महाराष्ट्र की महाविकास अघाड़ी सरकार के मुखिया उद्धव ठाकरे ने खुली चुनौती दी है कि जिस किसी को भी महाराष्ट्र की सरकार गिरानी है, गिराकर दिखाए। उन्होंने कहा कि कुछ लोग कहते हैं कि अगस्त-सितंबर में गिराएंगे। मैं कहता हूं कि अभी गिराओ। मैं फेविकॉल लगाकर नहीं बैठा हूं। ठाकरे ने प्रदेश में मुख्य विपक्षी दल पर इशारों में तंज कसते हुए कहा, 'आपको (भाजपा को) गिराने-पटकने में आनंद मिलता है न। कुछ लोगों को बनाने में आनंद मिलता है। कुछ लोगों को बिगाड़ने में आनंद मिलता है। बिगाड़ने में होगा तो बिगाड़ो। मुझे परवाह नहीं है। गिराओ सरकार।' ठाकरे से जब पूछा गया कि क्या वह चुनौती दे रहे हैं, तो उन्होंने कहा कि चुनौती नहीं बल्कि यह उनका स्वभाव है। ठाकरे ने कहा, 'इस सरकार का (महाविकास अघाड़ी का) भविष्य विपक्ष के नेता पर निर्भर नहीं है, इसलिए मैं कहता हूं कि सरकार गिराना होगा तो अवश्य गिराओ।' गठबंधन के तीन दलों को उद्धव ने रिक्शा के तीन पहिए बताया। उन्होंने कहा कि रिक्शा गरीबों का वाहन है। बुलेट ट्रेन या रिक्शा में चुनाव करना पड़ा तो मैं रिक्शा ही चुनूंगा। उन्होंने कहा,'मैं गरीबों के साथ खड़ा रहूंगा। मेरी यह भूमिका मैं बदलता नहीं हूं। कोई ऐसी सोच न बनाए कि अब मैं मुख्यमंत्री बन गया हूं, मतलब बुलेट ट्रेन के पीछे खड़ा रहूंगा। नहीं, मैंने इतना ही कहा कि मैं मुख्यमंत्री होने के नाते सर्वांगीण विकास करूंगा।'

 

14-06-2020
राजनाथ सिंह, विराट कोहली, उद्धव ठाकरे ने सुशांत सिंह राजपूत के निधन में जताया शोक, कही यह बात..

नई दिल्ली। बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत ने मुंबई में अपने घर में फांसी लगाकर जान दे दी। वह 34 साल के थे। सुशांत पिछले छह महीनों से डिप्रेशन से गुजर रहे थे। सुशांत के निधन से बॉलीवुड समेत खेल जगत भी काफी सदमे में हैं। टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली इस घटना से काफी स्तब्ध रह गए। विराट कोहली ने ट्वीट किया, ये खबर सुनकर सदमे में हूं। विश्वास नहीं हो पा रहा है। भगवान उनकी आत्मा को शांति दे।" राजनाथ सिंह ने लिखा, 'हिंदी फ़िल्मों के युवा कलाकार सुशांत सिंह राजपूत की मृत्यु का समाचार स्तब्ध करने वाला है। उनकी अभिनय क्षमता,प्रतिभा और कौशल के लोग क़ायल था। उनका यूँ चले जाना पीड़ादायक है और यह फ़िल्मजगत के लिए एक बड़ा नुक़सान है। ईश्वर उनके परिवार एवं प्रशंसकों को यह दुःख सहने की शक्ति दे।' वहीं महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने लिखा,'सुशांत सिंह राजपूत के आकस्मिक निधन के बारे में सुनकर बेहद हैरान और दुख हुआ। भगवान उनके परिवार, प्रशंसकों और प्रियजनों को शक्ति दे।'

12-06-2020
उद्धव ठाकरे ने कहा, प्रदेश में दोबारा नहीं लगेगा लॉक डाउन, कहीं भी न लगाएं भीड़

मुंबई। महाराष्ट्र में कोरोना के बढ़ रहे मामलों के बीच मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा है कि राज्य में लॉक डाउन नहीं लगाया जाएगा। उद्धव ठाकरे के कार्यालय की ओर से किये गये ट्वीट में कहा गया है कि लॉक डाउन की फिर से घोषणा नहीं की जाएगी। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने लोगों से अनुरोध किया है कि वे कहीं भी भीड़ न लगाएं और सरकार की ओर से जारी किए गए निर्देशों का पालन करें। बता दें गुरुवार को महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के 3,607 नये मामले सामने आने के बाद कुल मामलों की संख्या 97,648 हो गई। इस महामारी से 152 और लोगों की मौत होने से मृतक संख्या 3,590 पहुंच गई। इससे पहले गुरुवार को ठाकरे ने लोगों से पाबंदियों का पालन करने की अपील की थी। उन्होंने कहा था, अगर लोग पाबंदियों का सम्मान करने में विफल रहे, तो राज्य में एक बार फिर लॉक डाउन लागू करना पड़ सकता है। सीएम ने ये भी कहा था कि लोकल ट्रेनों को फिर से शुरू करने की मांग हम केंद्र से कर चुके हैं। लॉक डाउन की वजह से कई लोग फिर से अपनी ड्यूटी शुरू नहीं कर पा रहे हैं। गौरतलब है कि लॉकडाउन में ढील मिलने के बाद सड़कों पर लोगों की भीड़ भी देखी जा रही है।. ऐसी कई तस्वीरें सामने आई हैं, जिनमें लोग सोशल डिस्टेंसिंग के नियम तोडऩे और बिना मास्क के दिख रहे हैं। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने इस पर कड़ी आपत्ति जताई है।

11-06-2020
उद्धव ठाकरे बोले- सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें, नहीं तो फिर लगाना पड़ सकता है लॉक डाउन

मुंबई। देश भर में कोरोना मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। वहीं महाराष्‍ट्र में कोरोना का संक्रमण थमने का नाम नहीं ले रहा है। भारत में कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य महाराष्ट्र है। यहां पर कोरोना मरीजों की संख्या 95 हजार के करीब हो गई है, जबकि 3500 के करीब लोगों की मौत हो चुकी है। इस बीच लॉक डाउन में ढील मिलने के बाद सड़कों पर लोगों की भीड़ भी देखी जा रही है। ऐसी कई तस्वीरें सामने आई हैं, जिनमें लोग सोशल डिस्टेंसिंग के नियम तोड़ने और बिना मास्क के दिख रहे हैं। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने इस पर कड़ी आपत्ति जताई है। उद्धव ठाकरे ने लोगों से पाबंदियों का पालन करने की अपील की है। उन्होंने कहा, 'अगर लोग पाबंदियों का सम्मान करने में विफल रहे, तो राज्य में एक बार फिर लॉक डाउन लागू करना पड़ सकता है। सीएम ने ये भी कहा कि लोकल ट्रेनों को फिर से शुरू करने की मांग हम केंद्र से कर चुके हैं। शटडाउन की वजह से कई लोग फिर से अपनी ड्यूटी शुरू नहीं कर पा रहे हैं।

13-05-2020
कोरोना संकट: उद्धव ठाकरे ने केंद्र से मांगी केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बल की मदद

मुंबई। महाराष्‍ट्र में बिगड़ते कोरोना संकट को देखते हुए उद्धव ठाकरे सरकार ने केंद्र सरकार से केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बल की मदद मांगी है। महाराष्ट्र सरकार ने केंद्र सरकार से राज्य में केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बलों की 20 कंपनियां तैनात करने का अनुरोध किया है ताकि कोरोना वायरस के बीच क्षमता से अधिक काम कर रहे पुलिसकर्मियों को कुछ आराम दिया जा सके। बता दें कि राज्य में अब तक कुल 24427 लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं और 921 लोगों की मौत भी हो चुकी है साथ ही 5125 लोग ठीक भी हो चुके हैं। मुंबई की स्थिति सबसे खराब बनी हुई है। मुंबई में अकेले करीब 15 हजार से अधिक लोग संक्रमित हुए हैं और अब तक 500 से अधिक मौतें भी हो गई है। राज्य के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने बुधवार को यह जानकारी दी। देशमुख ने कहा कि महाराष्ट्र के पुलिसकर्मी कोरोना वायरस की रोकथाम के लिये दिन-रात काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि कई पुलिसकर्मी कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं, जिन्हें आराम की जरूरत है। मंत्री ने ट्विटर पर वीडियो संदेश में कहा, हमने केन्द्र से केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सीएपीएफ) की 20 कंपनियां यानि दो हजार सुरक्षा कर्मी तैनात करने का अनुरोध किया है।. एक आधिकारिक बयान के अनुसार महाराष्ट्र में केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की 32 कंपनियां पहले ही तैनात की जा चुकी हैं, जो राज्य की पुलिस के साथ तालमेल बनाकर काम कर रही हैं। नगर निकाय अधिकारी ने बताया, मुंबई के धारावी में कोरोना वायरस के 66 नये मरीजों के साथ ही 1000 के पार चले गये और इलाके में अबतक 40 लोगों की इस महामारी से मौत हुई है।

12-05-2020
उद्धव ठाकरे के पास 143 करोड़, 25 लाख की चल-अचल संपत्ति लेकिन एक भी कार के मालिक नहीं

रायपुर/मुंबई। मुख्यमंत्री और शिवसेना के सुप्रीमो उद्धव ठाकरे के पास 143 करोड़ 25 लाख रुपए से अधिक की चल-अचल संपत्ति है। लेकिन आश्चर्य वाली बात यह है कि इतनी संपत्ति के बावजूद भी वे एक भी कार के मालिक नहीं है। सोमवार को विधान परिषद चुनाव के लिए उम्मीदवारी का पर्चा भरते समय शपथ पत्र में की गई घोषणा में दी गई है। ठाकरे द्वारा शपथ पूर्वक दी गई इस घोषणा में जानकारी दी गई है कि उनके पास कुल 61 करोड़, 89 लाख, 57 हजार 443 रूपए की चल सम्पत्ति है। जबकि 81 करोड ,37 लाख, 72 हजार 320 रुपय की अचल संपत्ति है। लेकिन इसी शपथ पत्र के अनुसार इतनी संपत्ति का मालिक होने के बावजूद भी वे एक भी कार के मालिक नहीं हैं।

10-05-2020
एमएलसी चुनाव में उद्धव ठाकरे का चुना जाना तय, कांग्रेस ने वापस लिया उम्‍मीदवार का नाम

मुंबई। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे निर्विरोध विधान परिषद सदस्य (एमएलसी) बनने वाले हैं, क्योंकि कांग्रेस अपना एक उम्मीदवार हटाएगी। यह जानकारी प्रदेश कांग्रेस प्रमुख बालासाहेब थोराट ने दी। उन्होंने बताया कि कांग्रेस अपने दूसरे प्रत्‍याशी राज किशोर मोदी का नाम वापस लेगी। इससे पहले उद्धव ठाकरे के लिए उस समय मुश्किल बढ़ गई थी, जब कांग्रेस ने भी महाराष्ट्र विधान परिषद की नौ सीटों के लिए होने वाले चुनाव में दूसरा उम्मीदवार खड़ा कर दिया था। लेकिन अब उद्धव ठाकरे के लिए राहत की खबर है कि राज्‍य में उनकी सहयोगी कांग्रेस पार्टी ने अपने उम्‍मीदवार के नाम वापस लेने का विचार कर लिया है। गौरतलब है कि 21 मई को होने वाले चुनाव के लिए उम्‍मीदवारों की नाम वापसी की आखिरी तारीख 14 मई तय की गई है। मुख्यमंत्री ठाकरे 11 मई को नामांकन दाखिल करेंगे। इस चुनाव में विपक्षी दल भाजपा ने चार उम्मीदवारों के नाम की घोषणा की है। 

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804