GLIBS
15-04-2020
बिहार में तबलीगी जमात से जुड़े 57 विदेशी गिरफ्तार

नई दिल्ली। बिहार के विभिन्न जिलों से पुलिस ने तबलीगी जमात से जुड़े 57 विदेशी नागरिकों को वीजा नियमों का उल्लंघन करने के मामले में गिरफ्तार किया। पटना के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक उपेंद्र शर्मा ने बताया कि किर्गिस्तान निवासी कुल 17 लोग पर्यटन वीजा पर भारत आए थे और वीजा नियम का उल्लंघन करते हुए धार्मिक प्रचार कार्य कर रहे थे। उन्होंने बताया कि इन लोगों के खिलाफ विदेशी अधिनियम के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई और उन्हें जेल भेज दिया गया है उल्लेखनीय है कि 23 मार्च को पुलिस ने इन लोगों को पटना के दीघा और फुलवारीशरीफ थाना क्षेत्र से हिरासत में लेकर उनकी पटना एम्स में मेडिकल जांच कराई थी और कोरोना वायरस का संक्रमण नहीं पाए जाने पर उन्हें अलग-अलग स्थानों पर पृथकवास में रखा गया था।

किशनगंज के पुलिस अधीक्षक कुमार आशीष ने बताया कि पर्यटन वीजा पर यहां आए 10 इंडोनेशिया और एक मलेशिया के नागरिक को वीजा नियम का उल्लंघन किए जाने और किशनगंज आने की स्थानीय पुलिस को जानकारी नहीं देने के मामले में इन विदेशी नागरिकों के विरुद्ध सदर थाने में प्राथमिकी दर्ज करके उन्हें गिरफ्तार करके न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है। उन्होंने कहा कि 31 मार्च को इनकी मेडिकल जांच कराई गई थी, जिसकी रिपोर्ट चार दिनों के बाद और जांच में सभी में कोरोना वायरस का संक्रमण नहीं पाया गया था। आशीष ने कहा कि इन विदेशी लोगों को एहतियात के तौर पर एक स्थानीय मस्जिद में पृथक कर रखा गया था। बिहार के अररिया जिला में वीजा के नियमों का उल्लंघन के आरोप में तबलीगी जमात से जुडे 18 विदेशियों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस अधीक्षक धूरत सायली ने बताया कि गिरफ्तार किए गए विदेशियों में नौ मलेशियाई और नौ बांग्लादेशी शामिल हैं। इनमें से नौ मलेशियाई नागरिकों के खिलाफ अररिया नगर थाने में, नौ बांग्लादेशी नागरिक के विरूद्ध नरपतगंज थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी।

02-04-2020
विदेशी नागरिक के ठहरने की जानकारी छुपाने वाले होटल संचालक के खिलाफ जुर्म दर्ज

रायपुर/अंबिकारपुर। ऑस्ट्रेलिया के एक व्यक्ति के होटल में लगभग एक माह तक रूकने और चेक आउट कर जाने के मामले में जिला प्रशासन एवं पुलिस विभाग ने होटल संचालक के खिलाफ अपराध दर्ज किया है। गौरतलब है कि संक्रामक रोग कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए केंद्र व राज्य शासन के निर्देशानुसार जिला दंडाधिकारी सरगुजा की ओर से नगरीय निकाय अंबिकापुर में धारा 144 लागू किया गया है। सुरक्षात्मक दृष्टिकोण से जिला दंडाधिकारी की ओर से नगर में सभी अति आवश्यक वस्तुओं एवं संस्थाओं को छोड़कर अन्य सभी निजी, शासकीय संस्थाओं को अनिवार्य रूप से बंद रखने का आदेश जारी किया गया है।

22 मार्च को जनता कर्फ्यू के बाद लॉकडाउन का आदेश जारी किया गया है। इसके बाद स्थानीय होटलों में बाहर से आकर रुके व्यक्तियों पर निगरानी रखी जा रही है। कोतवाली थाना पुलिस ने होटल के संचालक जगदीप सिंह की ओर से अपने होटल में मोहम्मद रेजा जहापना नामक ऑस्ट्रेलियाई व्यक्ति को 25 फरवरी से 23 मार्च तक बतौर ग्राहक ठहराने की सूचना नहीं देने के मामले में एफआईआर दर्ज किया है। संचालक ने चेक इन तथा चेक आउट की सूचना जिला प्रशासन एवं पुलिस विभाग को नहीं दी थी। पुलिस ने होटल संचालक के खिलाफ धारा 188, 269, 270, 202, 203 भारतीय दंड संहिता का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया है।

25-03-2020
तमिलनाडु के मदुरै में कोरोना से एक की मौत, देश में अब तक 11

नई दिल्ली। कोरोना वायरस को लेकर पूरे देश में मंगलवार की मध्य रात्रि से शुरू हुए लॉकडाउन के दौरान तमिलनाडु में बुधवार की सुबह इस जानलेवा विषाणु से एक व्यक्ति की मौत हो गई। बता दें कि स्वास्थ्य मंत्री डा. सी विजयभास्कर ने ट्वीट कर इस खबर की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि मदुरै के राजाजी सरकारी अस्पताल में आज तड़के कोरोना वायरस से संक्रमित 54 वर्षीय व्यक्ति की मौत हो गई। उन्होंने कहा कि डाक्टरों ने उस मरीज को बचाने का हरसंभव प्रयास किया लेकिन उसे बचाया नहीं जा सका।

इसके साथ ही देश में कोरोना वायरस के संक्रमण से अब तक कुल 11 लोगों की मौत हो चुकी है। देश में कोरोना वायरस का संक्रमण फैलता जा रहा है और देश में इससे संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 519 हो गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक देश में कोरोना के 519 मामलों की पुष्टि हो चुकी है, जिनमें से 476 मरीज भारतीय हैं जबकि 43 विदेशी नागरिक हैं। गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार की रात पूरे देश मेें कोरोना वायरस से लड़ने के लिए 21 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा करते हुए इसके खिलाफ सघन अभियान चलाने की बात कही है।

22-03-2020
धमतरी में फिर देखा गया एक जर्मनी नागरिक, प्रशासन सतर्क

धमतरी। जिले के मगरलोड क्षेत्र के पास फिर एक विदेशी नागरिक देखे जाने की बात सामने आ रही है। हाल में ही इजराइल के 4 नागरिकों के धमतरी जिले के नगरी क्षेत्र पहुंचने का मामला सामने आया था। फिर एक विदेशी नागरिक के मिलने की सूचना बताई जा रही है। शनिवार की रात मगरलोड थाना क्षेत्र के ग्राम परसाबुड़ा में वहां के युवाओं ने एक विदेशी नागरिक को ऑटो सेंटर के पास सोए हुए देखा, उससे पूछे जाने पर उसने जर्मनी के होने का बताया, वही बाइक आंध्र पासिंग की बताई जा रही है। एएसपी मनीषा ठाकुर ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि वह 6-7 महीनों से भारत में ही है। विदेशी नागरिक को हॉस्पिटल ले जाया गया।

20-03-2020
मेघा में मिले 4 इजराइल नागरिक, दिसम्बर माह से जिले में, सभी कोरोना वायरस से सुरक्षित

धमतरी। नगरी में देखें गए 4 इजराइल नागरिक को आज मगरलोड के ग्राम मेघा में विदेशी नागरिक पुलिस को मिल गए है, जिनका पुलिस रात से पता लगा रही थी। ज्ञात हो कि कल नगरी में कुछ विदेशी नागरिकों को देख लोगों ने पुलिस को सूचना दी थी। सवाल भी उठाये जा रहे थे कि कोरोना के भय के बीच बाहर विदेश के लोग यहां कैसे पहुंच गए। उनकी पड़ताल की जा रही थी। सुबह उन्हें मगरलोड के मेघा में देखें जाने की सूचना पर पुलिस ने उनसे पूछताछ की। मगरलोड थाना प्रभारी सन्तोष जैन ने बताया कि विदेशी नागरिक इजराइल देश के है जो कि दिसम्बर माह से जिले में रह कर एनजीओ समेत कुछ-कुछ कार्य कर रहे है। कुरूद एसडीओपी लक्ष्मीकांत मिश्र ने बताया उसके बाद सावधानीपूर्वक उन्हें सुरक्षित स्थान में उच्च अधिकारियों के मार्गदर्शन लेकर रखा जाएगा। मगरलोड चिकित्सा अधिकारी डॉ. शारदा ठाकुर ने बताया कि चारों विदेशियों की जांच सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मगरलोड में की जा रही है। वर्तमान में अभी सभी कोरोना वायरस से सुरक्षित है। उन्हें अभी निगरानी में रखा गया है।

 

 

20-03-2020
नगरी में देखे गए चार विदेशी, पूछे जाने पर बताया इसराइली नागरिक

धमतरी। करोना वायरस का असर पूरी दुनिया में देखा जा रहा है। विदेश से आने वाले  लोगों पर हर प्रदेश द्वारा रोक लगा दी गई है। लेकिन धमतरी जिले के नगरी में कुछ अलग ही देखने मिला। यहां चार इसराइली नागरिक कार में घूमते हुए नजर आए। इन्हें लोग रुककर अचंभित होकर देखते रहे क्योंकि लोगों में लगातार भय बना हुआ है कि विदेश से कोरोना का संक्रमण फैल रहा है। इतनी कड़ाई और बंदिश के बावजूद यह विदेशी नागरिक धमतरी जिले में कैसे पहुंचे यह स्पष्ट नहीं हो पाया है। संवाददाता ने जब उनसे बात करने की कोशिश की तो उन्होंने सिर्फ इतना ही बताया कि वे 4 लोग हैं और इजराइल से आये है। तत्काल डॉक्टर को खबर की गई लेकिन जब तक डॉक्टर पहुंचते तब तक चारों नागरिक अपनी कार में निकल पड़े थे। ऐसे लोगों को ढूंढना जरूरी है जो धमतरी क्षेत्र में घूम रहे है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804