GLIBS
21-07-2020
राज्यपाल लालजी टंडन का निधन, बेटे आशुतोष ने ट्वीट कर दी जानकारी

लखनऊ। मध्यप्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन का मंगलवार सुबह निधन हो गया। वह 85 वर्ष के थे। उनके बेटे आशुतोष टंडन ने ट्विटर पर इसकी जानकारी दी। उन्होंने ट्विटर पर लिखा- 'बाबूजी नहीं रहे।" भाजपा के वयोवृद्ध नेता लालजी टंडन बीते कई दिनों से बीमार थे और उनका लखनऊ के एक अस्पताल में इलाज चल रहा था। उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री रहे लालजी टंडन ने आज सुबह 5.35 बजे अंतिम सांस ली। उनका अंतिम संस्कार आज शाम किया जायेगा।
टंडन पिछले कई दिनों से राजधानी लखनऊ स्थित मेदांता अस्पताल में भर्ती थे। सोमवार को उनकी हालत नाजुक बताई जा रही थी। इसको लेकर सोमवार को मेदांता अस्पताल की तरफ से मेडिकल बुलेटिन भी जारी किया गया था, जिसमें उनकी हालत नाजुक होने की बात कही गई थी।

मेदांता अस्पताल में भर्ती मध्य प्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन को वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया था। डॉक्टरों ने उनकी तबीयत गंभीर होने की बात कही थी। सांस लेने में परेशानी, बुखार और पेशाब में दिक्कत के कारण बिते 11 जून को उन्हें अस्पताल में भर्ती किया गया था। तबीयत 15 जून को अधिक बिगड़ गई थी। पेट में ब्लीडिंग होने पर उनका आॅपरेशन भी किया गया था। इसके बाद से वह लगातार वेंटिलेटर पर थे। टंडन की तबीयत खराब होने के कारण उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल को मध्य प्रदेश का अतिरिक्त कार्यभार दिया गया है। उनका पार्थिव शरीर त्रिलोकनाथ रोड स्थित सरकारी बंगले पर लाया जाएगा। यह बंगला उनके पुत्र मंत्री आशुतोष टंडन के नाम आवंटित है। 12:00 बजे उनका पार्थिव शरीर चौक स्थित आवास सोंधी टोला जाएगा। वहीं तीन बजे उनका अंतिम संस्कार गोमती तट पर गुलाला घाट पर किया जाएगा।

30-12-2019
प्रियंका गांधी ने कहा, यूपी में पुलिस और सरकार कर रही आम लोगों का उत्पीड़न

नई दिल्ली। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा है कि उत्तर प्रदेश सरकार आम लोगों का उत्पीड़न कर रही है। प्रियंका ने लखनऊ में प्रेस कॉन्फेंस कर कहा कि नागरिकता कानून के खिलाफ बोलने पर उत्तर प्रदेश सरकार की कार्रवाई बर्बर है। सोमवार को इस पूरे मामले को लेकर कांग्रेस का प्रतिनिधिमंडल राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से मिला। इसमें राज्य सरकार के इशारे पर प्रशासन पर उत्पीड़न के आरोपों को लेकर ध्यान देने की दरख्वास्त की है। राज्यपाल से मिलने के बाद प्रियंका ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर उत्तर प्रदेश सरकार उत्पीड़न के गंभीर आरोप लगाए हैं।

25-12-2019
नरेन्द्र मोदी ने किया अटल बिहारी वाजपेयी की 25 फुट ऊंची प्रतिमा का अनावरण

लखनऊ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को लखनऊ में लोकभवन परिसर में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की 25 फुट ऊंची प्रतिमा का अनावरण किया। अटल बिहारी वाजपेयी की ये प्रतिमा कांस्य से बनी है, जो 25 फीट ऊंची व पांच टन वजनी है। अटलजी की प्रतिमा को जयपुर की एक कंपनी ने बनाया है और इसकी लागत 89 लाख रुपये है। यह प्रतिमा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर संस्कृति विभाग ने निर्मित करवाई है। प्रतिमा अनावरण करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लोकभवन के प्रेक्षागृह में अटल बिहारी चिकित्सा विश्वविद्यालय का बटन दबाकर शिलान्यास किया। इस अवसर पर रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य आदि मौजूद थे। 

07-12-2019
मायावती ने राज्यपाल से कहा- यूपी में जंगलराज है, आप महिला हैं, हस्तक्षेप करें

लखनऊ। उन्नाव गैंगरेप पीडि़ता की मौत के बाद उत्तर प्रदेश की सियासत में भूचाल आ गया है। सपा, कांग्रेस और बसपा सहित तमाम विपक्षी दलों ने योगी सरकार पर हमला बोल दिया है। सुबह सपा प्रमुख अखिलेश यादव यूपी विधानसभा के सामने धरने पर बैठ गए और दो मिनट का मौन रखा। वहीं लखनऊ दौरे पर आईं प्रियंका गांधी अचानक कार्यक्रम बदलकर उन्नाव पहुंच गईं। यहां उन्होंने गैंगरेप पीडि़ता से मुलाकात की। उधर बसपा सुप्रीमो मायावती ने भी राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से मुलाकात की है। मायावती ने कहा कि यूपी की कानून व्यवस्था खराब है। जंगलराज चल रहा है। उन्होंने राज्यपाल से कहा कि आप एक महिला भी हैं और गवर्नर भी हैं। आप संवैधानिक दायित्व का निर्वहन करें और यूपी सरकार पर सख्ती दिखाएं। मुख्यमंत्री और पुलिस के मुखिया को बुलाकर देखें कि महिलाओं के खिलाफ  लगातार क्यों हो रहे हैं? इस संंबंध में उन्होंने एक मांगपत्र भी राज्यपाल को सौंपा है। इससे पहले बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा कि पिछले कई सालों और खासकर वर्तमान बीजेपी सरकार में महिलाएं सुरक्षित नहीं हैं। उत्तर प्रदेश में एक भी दिन ऐसा नहीं जाता है जब किसी महिला के खिलाफ अपराध न हो। उन्होंने कहा कि जब तक राज्य सरकार समयबद्ध ढंग से अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं करती है, तब तक इन घटनाओं को रोका नहीं जा सकता है।

25-08-2019
राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने टीबी रोग से पीडि़त बच्ची को लिया गोद

लखनऊ। राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने रविवार को राजभवन में आयोजित एक कार्यक्रम में टीबी रोग से ग्रसित एक बच्ची को गोद लिया तथा इसी के साथ ही टीबी रोग से ग्रसित 21 अन्य बच्चों को राजभवन के सभी अधिकारियों ने सहयोग की दृष्टि से गोद लिया। गोद लेने वाले अधिकारियों का यह दायित्व होगा कि वे बच्चों को सरकारी दवा सुचारू रूप से मिलती रहे तथा बच्चा नियमित रूप से दवा का प्रयोग करें और पौष्टिक आहार का सेवन करे। इसका ध्यान रखेंगे। राज्यपाल ने यह भी सलाह दी कि बच्चों की शिक्षा में कोई व्यवधान हो तो उसका भी निस्तारण किया जाये। उन्होंने कहा कि गोद लेना कोई उपकार नहीं है। जागृत समाज का फर्ज है कि समाज स्वस्थ हो। 

 

29-06-2019
राजभवन में आज अमरजीत भगत लेंगे शपथ 

रायपुर। सीतापुर से कांग्रेस के विधायक अमरजीत भगत आज भूपेश मंत्रिमंडल में 13वें मंत्री के रूप में पद एवं गोपनीयता की शपथ लेंगे। राज्यपाल आनंदीबेन पटेल उन्हें शपथ दिलाएंगी। 
राजभवन में आयोजित शपथ ग्रहण समारोह में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी पीएल पुनिया सहित कांग्रेस संगठन के तमाम वरिष्ठ नेता इस अवसर पर उपस्थित रहेंगे। भगत सीतापुर विधानसभा सीट पर वर्ष 2003 में चुनाव मैदान में उतरे और भाजपा के राजाराम भगत को पराजित कर सीतापुर सीट कांग्रेस की झोली में डाल दिया। इसके बाद वर्ष 2008 में उन्होने भाजपा के ही दिग्गज नेता गणेशराम भगत को, वर्ष 2003 में एक बार फिर से राजाराम भगत को पराजित कर अपनी जीत का हैट्रिक लगाया। इसके बाद हालिया संपन्न विधानसभा चुनाव में उन्होंने भाजपा प्रत्याशी गोपालराम को पराजित कर एक बार फिर से कांग्रेस का परचम बुलंद किया। संभवत: यही वजह है कि अब उन्हें मंत्रिमंडल में शामिल किया जा रहा है।

26-06-2019
राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने जिला अस्पताल का किया निरीक्षण

रायपुर। राज्यपाल आनंदीबेन पटेल आज यहां राजधानी के जिला अस्पताल में पहुंची और निरीक्षण किया। उन्होंने प्रसूती वार्ड में मरीजों को फलों का वितरण किया। पटेल ने प्रसूती वार्ड, पोस्ट नेटल वार्ड, गहन शिशु चिकित्सा इकाई, पोषण पुनर्वास केन्द्र का अवलोकन किया। राज्यपाल ने कहा कि गहन शिशु चिकित्सा इकाई में भर्ती होने वाले बच्चों का डाटा रजिस्टर में रखें। यह बच्चे किस क्षेत्र या किस मोहल्ले से आ रहे हैं, उसकी भी जानकारी रखें और इसे विश्वविद्यालयों को भेंजे ताकि वहां इन पर शोध किया जा सके। इनसे निकले परिणाम से यह पता लग सकता है कि किसी विशेष क्षेत्र में बच्चों को कोई समस्या तो नहीं है। उन्होंने वहां उपस्थित मरीजों से भी मुलाकात की और व्यवस्थाओं की जानकारी ली। 
इस अवसर पर राज्यपाल के सचिव सुरेन्द्र कुमार जायसवाल, रायपुर संभागायुक्त जीआर चुरेन्द्र, कलेक्टर एस. भारतीदासन, पुलिस महानिरीक्षक आनंद छाबड़ा, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आरिफ शेख, नगर निगम आयुक्त शिव अनन्त तायल और जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी गौरव सिंह उपस्थित थे।

 

 

20-06-2019
सीएम बघेल और राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने दीं अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर शुभकामनाएं

 

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने प्रदेशवासियों को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की शुभकामनाएं दी हैं। अपने संदेश में मुख्यमंत्री ने कहा है कि योग का उल्लेख हमारे प्राचीन साहित्य में मिलता है। हमारे ऋषि मुनियों ने हजारों साल पहले शरीर को स्वस्थ और निरोग रखने के लिए अनेक विधियों की खोज की थी। योग वस्तुत: शरीर, मन और आत्मा को शुद्ध करने की प्रक्रिया है। योग से बिना किसी खर्च के लोग अपने शरीर को स्वस्थ और निरोग रख सकते हैं। यह आधुनिक जीवन शैली से जुड़ी अनेक समस्याओं से भी निजात दिलाती है। राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने कहा है कि योग का वर्णन हमारे वेद-उपनिषदों में मिलता है। यह हमारे प्राचीन जीवन पद्धति का अंग है। हमारे ऋषि-मुनियों ने योग के अनेकों विधियां और आसन बताएं हैं, जिनसे कई बीमारियों का उपचार हो सकता है। आज आधुनिक जीवन शैली और अनियमित दिनचर्या के कारण सभी आयु वर्ग के लोग रोगग्रस्त हो जा रहे हैं। हम नियमित रूप से योग को अपनाकर ऐसे रोगों से मुक्ति पा सकते हैं। योग से मन के भीतर नकारात्मक शक्तियों के स्थान पर सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है। शरीर, मन एवं आत्मा में संतुलन स्थापित होता है, जिससे मनुष्य एकनिष्ठ, एकाग्र एवं स्थिर होता है। राज्यपाल ने आम जनता से अपील करते हुए कहा है कि हम योग को अपने दिनचर्या का अंग बनाए और तनावमुक्त, स्वस्थ होकर राष्ट्र निर्माण में योगदान दें।

13-06-2019
सीएम बघेल और राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने आशाराम डहरिया के निधन पर जताया दु:ख 

 

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने प्रदेश के नगरीय प्रशासन और श्रम मंत्री डॉ शिव कुमार डहरिया के पिता आशा राम डहरिया के निधन पर गहरा दु:ख प्रकट किया है। बता दें कि आशाराम डहरिया का देर रात निजी अस्पताल में इलाज के दौरान स्वर्गवास हो गया। वे 81 वर्ष के थे । मुख्यमंत्री ने आशाराम डहरिया के परिवारजनों के प्रति संवेदना प्रकट करते हुए दिवंगत आत्मा की शान्ति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की है। इसी तरह राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने आशाराम डहरिया के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए मृतात्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की है।

17-05-2019
बुद्ध पूर्णिमा पर सीएम बघेल व राज्यपाल आनंदीबेन ने दीं शुभकामनाएं

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल व राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने बुद्ध पूर्णिमा के अवसर पर प्रदेशवासियों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दी हैं। भूपेश बघेल ने कहा कि महात्मा बुद्ध के विचार तत्कालीन समय में क्रांतिकारी थे और वर्तमान समय में भी उनके विचार एक बेहतर समाज और राष्ट्र निर्माण के लिए प्रासंगिक हैं। महात्मा बुद्ध ने लोगों को समानता और बंधुत्व का संदेश दिया। उन्होंने मानव मात्र की महत्ता को स्थापित किया, इससे समाज के सभी वर्गों में जागृति आई और लोगों में एक नई आशा और विश्वास का संचार हुआ। राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने बुद्ध पूर्णिमा के अवसर पर कहा कि भगवान बुद्ध ने प्रेम, करुणा एवं अहिंसा की भावना को सर्वोपरि मानते हुए पूरे विश्व को नई राह दिखाई। वर्तमान युग में भी भगवान बुद्ध की शिक्षा प्रासंगिक है। इस समय आवश्यकता है कि समाज में सामाजिक सद्भाव और बंधुत्व कायम रखने के लिए उनके आदर्शों को अपनाते हुए उनके बताए हुए रास्ते पर चलें।

07-04-2019
संस्कृतियों का अनुपम संगम स्थल है मैनपाट : राज्यपाल आनंदीबेन पटेल  

अम्बिकापुर। छत्तीसगढ़ की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने कहा है कि मैनपाट में बसे तिब्बती गौतम बुद्ध के संदेशों को आत्मसात करते हुए यहां के स्थानीय लोगों के साथ मिल-जुलकर जीवन-यापन कर रहे हैं और तिब्बती संस्कृति के साथ ही स्थानीय संस्कृति को महत्व देकर मैनपाट में संस्कृतियों का अनुपम संगम स्थापित किया है। उन्होंने कहा कि भगवान गौतम बुद्ध का संदेश पूरे विश्व को एक परिवार के रूप में एकाकार करने का रहा है। उनका संदेश वसुधैव कुटुम्बकम के लिए प्रेरित करता है। पटेल मैनपाट के एक दिवसीय प्रवास के दौरान एक नम्बर कैम्प स्थित प्रथम बुद्ध मंदिर में आयोजित तिब्बती संास्कृतिक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उक्त विचार व्यक्त किए। इसके पूर्व तिब्बती समुदाय द्वारा राज्यपाल आनंदीबेन पटेल का तिब्बती परंपरा के अनुसार स्वागत किया गया। पटेल ने बुद्ध मंदिर में भगवान बुद्ध की पूजा-अर्चना कर प्रदेश की समृद्ध एवं खुशहाली के लिए कामना की। इस दौरान स्कूली बच्चों ने तिब्बती संस्कृति को समेटे हुए मनमोहक सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए। राज्यपाल  आंनदीबेन पटेल ने मैनपाट स्थित पर्यटन स्थल टाइगर प्वाइंट तथा जलजली पहुंचकर वहां के प्राकृतिक सौंदर्य का अवलोकन किया। उन्होंने मैनपाट की हरीतिमा तथा शीतल जलवायु की सराहना करते हुए इसे छत्तीसगढ़ का शिमला कहा। राज्यपाल ने टाइगर प्वाइंट में मौलश्री पौधे का रोपण किया। राज्यपाल आनंदीबेन ने तिब्बती समुदाय द्वारा संचालित वृद्धाश्रम का अवलोकन कर वहां निवासरत बुजुर्गों से मुलाकात की। राज्यपाल ने  एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय का अवलोकन किया। राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने सरगुजा जिले के गोदना एवं भित्तीचित्र शिल्पकारों द्वारा निर्मित कलाकृति एवं  कोसा एवं सूती कपड़े में हस्त निर्मित की गई गोदना पेंटिंग का अवलोकन किया। इस अवसर पर वनमण्डलाधिकारी प्रियंका पाण्डेय, अपर कलेक्टर कुलदीप शर्मा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ओम चंदेल, अनुविभागीय राजस्व अधिकारी अतुल शेट्टे, हस्तशिल्प विकास बोर्ड के संभागीय अधिकारी जितेन्द्र सिंह, तहसीलदार राधेश्याम वर्मा, मैनपाट जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एससी गुप्ता सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804