GLIBS
दो वर्ष से फरार गैंगरेप के इनामी आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ़्तार

भोपाल। सोमवार को राजगढ़ जिले की पुलिस में पिछले 2 वर्षों से फरार चल रहे गैंगरेप के इनामी आरोपियों को पकड़ने में सफलता हासिल की है। पुलिस अधीक्षक सिमाला प्रसाद द्वारा महिलाओं पर होने वाले घटित अपराधों को रोकने तथा आरोपियों को सख्त से सख्त सजा दिलवाने के मकसद से समस्त थाना प्रभारियों को निर्देशित किया जा चुका है तथा उसी कड़ी में थाना सारंगपुर के अपराध क्रमांक 89/16 धारा 376 354 366 भा द वि एवं 3/2/5 एससी एसटी एक्ट में 2 वर्ष से फरार 5 हजार रुपये का आरोपी त्रिलोक उर्फ सोनू  पिता भेरू लाल तथा आरोपी बद्रीलाल पिता लक्ष्मी नारायण पाल एवं बद्री लाल पाल की पत्नी वक्त घटना से फरार हो गए थे। जिनकी गिरफ्तारी हेतु पुलिस अधीक्षक सिमाला प्रसाद द्वारा एसडीओपी प्रकाश मिश्रा सारंगपुर के मार्गदर्शन तथा थाना प्रभारी सारंगपुर सुनील शर्मा के नेतृत्व में टीम का गठन कर टीम के द्वारा लगातार आरोपियों की दस्ताबीके प्रयास किए गए तथा आरोपियों की धरपकड़ हेतु साइबर सेल की भी मदद ली गई थी। इस दौरान गैंगरेप का मुख्य आरोपी त्रिलोक उर्फ सोनू पिता भेरुलाल कुमार प्रजापत उम्र 25 साल निवासी मंडोरा मूलचंद नगर कॉलोनी मोहन बड़ोदिया जिला शाजापुर का देवास में होने की सूचना पर टीम द्वारा देवास में दबिश दी गई जिसे देवास से गिरफ्तार किया गया तथा आरोपियों की निशानदेही पर आरोपी बद्रीलाल पिता लक्ष्मीनारायण पाल उम्र 32 साल एवं आरोपिया बद्री लाल की पत्नी उम्र 30 साल निवासी कुपा थाना लिमा चौहान जिला राजगढ़ को ग्राम कूपा में दबिश दी जा कर पकड़ा गया पूछताछ  करने पर घटना को अंजाम देना बताया  तीनों आरोपियों को गिरफ्तार किया जा कर कस्बा सारंगपुर में पैदल जुलूस निकालते हुए आज विशेष न्यायालय राजगढ़ में पेश किया गया जहां से आरोपियों को जेल राजगढ़ में जुलूस निकालते हुए भेजा गया हैं।

हथियार और जिंदा कारतूस के साथ 2 आरोपी गिरफ्तार

भोपाल। लंबे समय से मुखबिर द्वारा आ रही सूचना की तस्दीक एवं दबिश कार्यवाही करते हुए राजगढ़ पुलिस ने जिन्दा कारतूस और हथियार के साथ 2 आरोपियों को राजगढ़ पुलिस ने गिरफ्तार किया हैं। राजगढ़ पुलिस अधीक्षक सिमाला प्रसाद के निर्देशन में थाना कोतवाली थाना प्रभारी मुकेश गौड़ सहायक उपनिरीक्षक अरुण जाट प्रधान आरक्षक हरी पुरी आरक्षक दिनेश गुर्जर शादाब खान परवेज खान बालिस्टर हेमंत कुशवाहा के द्वारा मुखबिर की सूचना पर अवैध हथियारों का व्यवसाय करने वाले धीरज सिंह पिता जगन्नाथ तमारो, दुर्गा प्रसाद पिता मांगील़़ल निवासी भानपुरा के कब्जे से एक देसी पिस्टल एक जिंदा कारतूस 315 बोर के देसी करते एवं दो जिंदा कारतूस जब्त किए गए, आरोपीगणों को गिरफ्तार किया गया अपराध क्र 200/18 तथा 201/18 धारा 25,27 आर्म्स एक्ट का अपराध  पंजीबद्ध कर आरोपी गणों को न्यायालय पेश किया गया।

15 लाख के अवैध मादक पदार्थ के साथ आरोपी गिरफ्तार

भोपाल। अवैध मादक पदार्थ के साथ राजगढ़ पुलिस ने युवक को गिरफ्तार किया है। जिले के थाना प्रभारी करनवास उमेश यादव को मुखबीर से सूचना मिली कि सारंगपुर का आबिद खान अपनी कार नंबर MP 42 C 3557 से बड़ी मात्रा में अवैध पदार्थ गांजा लेकर करनवास में सप्लाई करने वाला है, सूचना मिलते ही पुलिस अधीक्षक महोदय सिमाला प्रसाद को अवगत कराया गया। पुलिस अधीक्षक सिमाला प्रसाद के निर्देश पर पुलिस अधीक्षक प्रजापति, एसडीओपी ब्यावरा दंडोतिया के मार्गदर्शन में तथा थाना प्रभारी उमेश यादव के नेतृत्व में टीम बनाकर दबिश दी गई। जहां एक कार स्लेटी रंग में बैठे आबिद खान और ओमप्रकाश भिलाला से पूछताछ करने पर दोनों  घबराने लगे तब कार की तलाशी लेने पर कार में रखा 1 क्विंटल गांजा कीमती करीब 15 लाख रूपए एवं आल्टो कार दोनों आरोपियों से जप्त की गई। और इनके खिलाफ अपराध धारा 17/ 18 धारा 8/२० एनडीपीएस एक्ट का अपराध पंजीबद्ध किया गया।

उक्त सराहनीय कार्य में थाना प्रभारी उमेश यादव शिवचरण यादव ,आरक्षक रामकरण, चंदन सिंह, सुनील तथा सैनीक धर्मेंद्र की मुख्य भूमिका रही है। इन्हें पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा प्रथक से उचित इनाम से पुरस्कृत किया जाएगाl साथ ही करनवास पुलिस ने दूधी के कंजरों द्वारा अवैध रूप से स्प्रिट शराब बेचने के संबंध में 17 जनवरी को पुलिस अधीक्षक महोदय राजगढ़ सिमाला प्रसाद को मुखबिर से सूचना मिली थी। एक टैंकर जिस में अवैध स्प्रिट मंदिरा निकालकर दूधी के कंजरों को बेची जा रही है, मिली सूचना पर पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा एक टीम का गठन किया। जिसमें अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक आर एस प्रजापति, एसडीओपी ब्यावरा आर एस दंडोतिया के निर्देशन में तथा थाना प्रभारी देहात ब्यावरा संजीत मवई के नेतृत्व में की गई उक्त टीम द्वारा आईटीआई के बगल मे ग्राम कचनारिया ब्यावरा में दबिश दी गई। जहां पर एक टैंकर में से स्प्रिड मंदिरा निकाल कर कुछ लोगों को बेचते हुए पाया गया। तब उक्त टीम द्वारा दबिश जिसमे 2 व्यक्ति भागने में सफल हो गए तथा पकड़े गए व्यक्ति ने अपना नाम किशोर पिता नारायण शर्मा 45 निवासी झारखंड एवं दूसरे व्यक्ति ने अपना नाम रमेश कुमार निवासी अंबाला हरियाणा का होना बताया। किशोर कुमार टेंकर चालक है जबकि रमेश कुमार टैंकर पर क्लीनर का कार्य करता है। उक्त दोनों व्यक्ति से पूछताछ करने पर टैंकर में भोपाल से जयपुर 25000 बल्क लीटर स्प्रिट शराब कीमती 12,68,250 रुपये ले जाना था किंत उक्त दोनों व्यक्ति द्वारा ITI के बगल में स्क्रीट शराब को बेचा जा रहा था तब वह दोनों व्यक्तियों किशोर शर्मा एवं रमेश शर्मा से 50 -50 लीटर वाले नीले रंग के प्लास्टिक ड्रम जिनमें तीन ड्रम भरे हुए तथा 1 ड्रम आधा भरा हुआ था। उक्त व्यक्ति से लाइसेंस के संबंध में पूछा गया जिन्होंने नहीं होना बताया उक्त व्यक्तियों का धारा 34 (2 )49 आबकारी अधिनियम पाए जाने से समक्ष पंचान के टैंकर पीबी 11बी एन 3102 कीमती 15,00000 तथा मौके पर खड़ी मोटरसाइकिल बिना नंबर कीमती 50 हजार को जप्त किया गया है। उक्त कार्य में थाना प्रभारी देहात ब्यावरा संजीत मवई, प्रधान आरक्षक ,समीर खान ,सुरेश, आरक्षण आशीष दुबे ,गौरव तथा चालक आरक्षक संजय का सराहनीय कार्य रहा है उक्त सराहनीय कार्य के लिए पुलिस अधीक्षक महोदय राजगढ़ द्वारा उक्त टीम को उचित इनाम से पुरस्कृत किया जाएगा।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804
Visitor No.