GLIBS
29-06-2020
Breaking : छत्तीसगढ़ में 47 नए कोरोना पॉजिटिव की पहचान, राजनांदगांव से सबसे अधिक 

रायपुर। छत्तीसगढ़ में सोमवार को 47 कोरोना पॉजिटिव मरीजों की पहचान हुई है। इनमें जिला राजनांदगांव से 23, दुर्ग से 9, गरियाबंद से 6, रायपुर से 5, महासमुंद से 3 और बलौदाबाजार से 1 मरीज शामिल है। सभी मरीजों की भर्ती प्रक्रिया जारी है।

27-06-2020
वेनटिलेटर पर जा पहुंची पालिका को 6 माह में संसाधनों से किया लैस : प्रकाश चन्द्राकर

महासमुंद। नगर पालिका अध्यक्ष प्रकाश चन्द्राकर ने आज पुराना रेस्ट हाऊस में पालिका के सभी पार्षदों, सभापतियों के साथ अपने 6 महीने के कार्यकाल में शहर की सबसे बड़ी समस्या पेयजल आपूर्ति को स्थाई रूप से समाप्त करने में कामयाबी सहित शहर में कराये अन्य विकास कार्यों को पूरे परिषद की कामयाबी बताया।प्रेसवार्ता में चन्द्राकर ने कहा कि 1 जुलाई  से पूर्व निर्धारित समय सुबह साढ़े 6 और शाम साढ़े 5 बजे दो समय पेयजल सप्लाई किया जाएगा। इन 6 महीनों में ही 2 करोड़ के विकास कार्यों को मूर्त रूप दिया गया। इन 6 महीनों में 2 करोड़ रूपए शहर के विकास में खर्च किया गया है। इनमें एक करोड़ 3 लाख रुपए से विभिन्न वार्डों में कांक्रीटीकरण सड़क बनाया गया है। 22 लाख से नाली निर्माण किया गया। इसी प्रकार अलग अलग वार्ड में करीब 25 लाख के पेवर ब्लॉक बिछाई जा रही है। इस गर्मी में पार्षद निधि के 20 लाख से बोर खनन किया गया। वहीं मोटरपंप, पाइपलाइन, संपवेल, 5 हजार लीटर के 10 और 25 सौ लीटर के 8 टंकी में करीब 30 लाख रुपए खर्च किएं गए हैं। पालिका अध्यक्ष ने बताया कि प्रति वर्ष टैंकर से पानी सप्लाई में पालिका द्वारा 20 लाख रुपए का व्यय किया जाता था, लेकिन इस साल  संसाधनों से नगर पालिका को लैस किया और तीन महीने की गर्मी में 20 लाख रुपए की खर्च को बचाने का स्थाई विकल्प चुना गया। नागरिकों को तीन समय पानी देने में कामयाबी हासिल की। इस काम को करने में चुनौतियों का सामना भी करना पड़ा। लेकिन सभी ने हार नहीं मानी, और शहर को टैंकर मुक्त करने में सफल हुए। शहर को स्वछ बनाने के लिए 8 लोगों की एक विशेष कमाण्ड़ो टीम बनाया गया है। जो पहले सुबह 6 से दोपहर 12 बजे तक सफाई अभियान में जुटे थे। उनमें फेरबदल किया गया है। अब ये कमाण्ड़ो दोपहर एक से संध्या 7 बजे तक बस स्टैंड, गोल बाजार, सब्जी बाजार की सफाई में लगाया गया है।कोरोन वायरस (कोविड-19) से बचाव के लिए इन सफाई कमाण्ड़ो को बरसात के लिए रैन कोर्ट और वॉटर बोतल अन्य सुरक्षा उपकरण दिया जाएगा। पालिका अध्यक्ष चंद्राकर ने पत्रकारों को बताया जिन मुद्दों पर चुनाव जीत कर वे आए उनमें से तीन समय पानी देने का बादा को पूरा किया। दूसर फुटपाथ व्यवसायियों का व्यवस्थापन किया जा रहा है। तीसरा है नगर पालिका का नवीन भवन जिसकी तैयारी चल रही है। उन्होंने पत्रकारों से कहा इस परिषद के जितने भी युवा उपाध्यक्ष, सभापति एवं पार्षद, कर्मचारी, खासकर जल विभाग की टीम ने जनता के लिए बेहतर तरीके से काम किया है, और कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि तमाम राजनीतिक दल एवं जिला प्रशासन का प्रत्यक्ष अप्रत्यक्ष रूप से इस परिषद को भरपूर सहयोग मिला है और भविष्य में भी मिलता रहेगा।

 

24-06-2020
प्रेस क्लब चुनाव में आनंद साहू अध्यक्ष और रवि विदानी बने महासचिव

महासमुंद। प्रेस क्लब महासमुंद के दो वर्षीय कार्यकाल के लिए नई कार्यकारिणी का गठन किया गया। अध्यक्ष आनंदराम साहू, उपाध्यक्ष संजय महंती, महासचिव रवि विदानी बहुमत से निर्वाचित हुए। वहीं एकल नामांकन होने से कोषाध्यक्ष देवीचंद राठी, सहसचिव संजय यादव और प्रचार एवं संगठन सचिव प्रभात महंती निर्विरोध निर्वाचित घोषित किए गए।मिनी स्टेडियम रोड महासमुन्द स्थित प्रेस क्लब के सांस्कृतिक भवन में निर्वाचन अधिकारी शकील लोहानी ने दोपहर 12 बजे चुनाव की प्रक्रिया प्रारंभ की। अध्यक्ष पद के लिए आनंदराम साहू और रत्‍‌नेश सोनी, उपाध्यक्ष के लिए संजय महंती, दिनेश पाटकर तथा महासचिव के लिए रवि विदानी, विपिन दुबे ने नामांकन दाखिल किया। मतदान के तत्काल बाद मतगणना  हुई। इसमें अध्यक्ष के लिए आनंदराम साहू को 18 और रत्‍‌नेश सोनी को 9 वोट मिले। इस तरह आनंदराम साहू नौ मतों के अंतर से लगातार दूसरी बार अध्यक्ष निर्वाचित हुए। उपाध्यक्ष के लिए संजय महंती को 15 और दिनेश पाटकर को 12 मत मिले। महासचिव पद के लिए रवि विदानी को 14 और विपिन दुबे को 13 वोट मिले।विजयी प्रत्याशियों को निर्वाचन अधिकारी ने संरक्षकों व सदस्यों की उपस्थिति में निर्वाचन प्रमाण पत्र सौंपा। नवनिर्वाचित पदाधिकारियों को उपस्थित सभी सदस्यों ने बधाई देते हुए प्रेस क्लब की उत्तरोत्तर प्रगति के लिए कार्य करने प्रेरित किया। कुल 28 सदस्यों में 27 सदस्यों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया।उल्लेखनीय है कि 22 मार्च को प्रेस क्लब का चुनाव निर्धारित था। इस बीच  कोरोना संक्रमण के कारण जनता कर्फ्यू और बाद में लॉक डाउन हो जाने से चुनाव स्थगित हो गया था। अनलाक के बाद प्रशासन से 23 जून को निर्वाचन के लिए अनुमति प्रदान की थी।

कार्यकारिणी का गठन

चुनाव होने के बाद सांस्कृतिक सचिव और चार कार्यकारिणी सदस्यों का मनोनयन के आधार पर पदपूर्ति का विशेषाधिकार अध्यक्ष को प्रदान किया गया। अध्यक्ष आनंदराम साहू ने सांस्कृतिक सचिव ललित मानिकपुरी, कार्यकारिणी सदस्यों में प्रज्ञा चौहान, दिनेश पाटकर, जसवंत पवार, अजय पांडेय को मनोनीत किया।

 

20-06-2020
ग्रामीण महिलाएं घुरवा से पा रही है आर्थिक लाभ


रायपुर /महासमुंद। महिला स्व-सहायता समूह की महिलाएं लगातार लाभान्वित हो रही है। ऐसे ही जिला मुख्यालय महासमुंद के निकटस्थ ग्राम बरोण्डा बाजार के महिला स्व-सहायता समूह की महिलाएं घुरवा से आर्थिक लाभ प्राप्त कर रही है। कामधेनु महिला स्व-सहायता समूह की सदस्यों ने शनिवार को यहां जिले के प्रवास पर पहुंचे प्रभारी मंत्री कवासी लखमा से मुलाकात कर बताया कि वे कृषि विभाग के सहयोग से गौठान के गोबर एवं अपशिष्ट पदार्थ का उपयोग कर जैविक खाद का उत्पादित कर रही हैं। महिला समूह के सदस्यों ने बताया कि यह कार्य उनके समूह ने दिसम्बर 2019 से प्रारम्भ किया था। उन्होंने बताया कि राज्य शासन की महत्वाकांक्षी योजना नरवा, गरवा, घुरवा, बाड़ी के अंतर्गत निर्मित बने इस गौठान में आने वाले पशुओं के उत्सर्जित अपशिष्ट पदार्थ से अब तक 35 क्विंटल जैविक खाद का उत्पादित किया जा चुका हैं। उत्पादित खाद जैविक खाद को प्रति क्विंटल 800 रूपए की दर से विक्रय किया जाता हैं। इससे उन्हें फायदा मिल रहा हैं। उत्पादित खाद को स्थानीय स्तर पर भी विक्रय किया जाता हैं। इस पर प्रभारी मंत्री लखमा ने उनके इन कार्याें की सराहना करते हुए उनका हौसला अफजाई किया।

 

17-06-2020
महासमुंद में आज कोरोना के कुल 4 पॉजिटिव मरीज मिले

महासमुंद। जिले में बुधवार को कोरोना के कुल 4 पॉजिटिव मरीजों की पुष्टि हुई है।  एम्स रायपुर ने जांच के बाद मामले की रिपोर्ट जिला प्रशासन को दी है। जिला प्रशासन ने इसकी पुष्टि की है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार बागबाहरा विकासखण्ड के ग्राम सिमगांव (ग्रामपंचायत दरगांव)में 1 व्यक्ति  संक्रमित पाया गया है। यह महिला प्रयागराज(उत्तर प्रदेश) से आई थी। वहीं पिथौरा विकासखंड के ग्राम जबलपुर में 1 व्यक्ति ( पुरूष)कोरोना संक्रमित पाया गया है। यह बस्ती (उत्तर प्रदेश)से आया है। महासमुंद विकासखंड के ग्राम मचेवा में एक गर्भवती महिला कोरोना संक्रमित हैं। यह महिला सुल्तानपुर (उत्तरप्रदेश)से आई है। इसी तरह सरायपाली विकासखंड के ग्राम माल्दामाल में 1 व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाया गया है। यह व्यक्ति बेमेतरा से आया था।  

 

17-06-2020
श्रमिकों को छोडऩे जा रही बस खेत में घुसी

रायपुर/महासमुंद। सोमवार शाम मजदूरों को उनके गांव छोडऩे जा रही बस अनियंत्रित होकर खेत में जा घुसी। ओडिशा से आए सेवाती कोल्दा, बरगांव और सम्हर के करीब 10 मजदूरों को यह बस छोडऩे जा रही थी कि सेवाती कोल्दा से पहले अनियंत्रित हो गई और बस खेत में जा घुसी। लेकिन, चालक ने गंभीर घटना नहीं होने दी और तत्काल बस को नियंत्रित कर लिया। इससे बड़ी दुर्घटना टल गई। बस में सवार सभी मजदूर सकुशल हैं।

 

17-06-2020
महासमुंद में मिले दो कोरोना पॉजिटिव, जिला प्रशासन ने की पुष्टि

महासमुंद। जिले में बुधवार को दो कोरोना मरीजों की पुष्टि हुई है। एम्स रायपुर ने रिपोर्ट की सूचना जिला प्रशासन को दी। जिला प्रशासन ने इसकी पुष्टि की है। प्राप्त जानकारी के अनुसार बागबाहरा विकासखण्ड के ग्राम सिमगांव (ग्रामपंचायत दरगांव)में 01व्यक्ति संक्रमित पाया गया है। कोरोना पॉजिटिव महिला प्रयागराज(उत्तर प्रदेश) से आई थी। वहीं पिथौरा विकासखंड के ग्राम जबलपुर में 01 व्यक्ति ( पुरूष) कोरोना संक्रमित पाया गया है। कोरोना संक्रमित यह व्यक्ति बस्ती (उत्तर प्रदेश)से आया था।

14-06-2020
लघु वनोपजों और वनौषधियों में वेल्यू एडीशन करने वाले उद्योगों को हरसंभव मदद देगी सरकार

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रविवार को अपने निवास कार्यालय में बस्तर,धमतरी, महासमुंद,कांकेर, बालोद के उद्योगपतियों और व्यापारियों से चर्चा की। मुख्यमंत्री बघेल ने कहा है कि राज्य सरकार लघु वनोपजों और वनौषधियों में वेल्यू एडीशन करने वाले उद्योगों को हरसंभव मदद देगी। वेल्यू एडीशन से न केवल वनवासियों को लाभ होगा, अपितु उद्योगपतियों और व्यवसायियों को भी अच्छा फायदा होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ के अधिकांश उद्योगपति और व्यापारी वर्तमान में लघु वनोपजों की खरीदी करके बड़ी कंपनियों को सप्लाई करते हैं। यदि वे लघु वनोपजों का वेल्यू एडीशन करें, तो इससे स्थानीय लोगों को रोजगार मिलेगा। साथ ही व्यापारियों को भी अच्छा लाभ होगा। राज्य सरकार के राजस्व में बढ़ोत्तरी होगी। वेल्यू एडीशन के लिए आगे आने वाले उद्योगपतियों और व्यापारियों को अड़चन आने पर उसे दूर करने के लिए राज्य सरकार पूरी संवेदनशीलता से मदद करेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि इसके लिए उद्योगपति और व्यवसायी लघु वनोपज का संग्रह करने वाली समितियों से गुणवत्ता और मूल्य के बारे में चर्चा करें। वेल्यू एडीशन के प्लांट में इन लोगों को काम दें। फिनिशड प्रोडक्ट तैयार कर बड़ी कंपनियों को दें या व्यापारिक संस्थाओं के माध्यम से इसकी मार्केटिंग कराएं। अपनी फैक्ट्री में स्थानीय संग्राहकों को काम दें, इससे उन्हें रोजगार और आय का एक नया जरिया मिलेगा और व्यापारियों को भी लाभ होगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आदिवासियों और वनवासियों को सतत रूप से आय का जरिया देने वन विभाग को जंगलों में इमारती लकड़ी की जगह चार चिरौंजी, इमली जैसे लघु वनोपज के वनों का रोपण करने के निर्देश दिए गए हैं। वन अधिकार पट्टा प्राप्त हितग्राहियों की जमीन में भी ऐसे पौधों का रोपण करने को कहा गया है। इन पौधों के बीच इंटर क्रॉपिंग के जरिए हल्दी, अदरक, तिखुर की खेती की जा सकती है। इससे वनवासियों को वर्ष भर आमदनी मिलती रहेगी। आंवला और चिरौंजी के वृक्ष को बिना नुकसान पहुंचाए आंवला और चिरौंजी की तोड़ाई के लिए तकनीक विकसित करनी होगी। इससे इनके वृक्ष भी बचे रहें। उन्होंने कहा कि हर गांव में 3 से 5 एकड़ की जमीन पर गौठान विकसित किए जा रहे हैं। यहां फलदार वृक्षों के साथ-साथ लघु वनोपज और वन औषधियों के पौधे भी लगाए जा रहे हैं। गौठानों को राज्य सरकार आजीविका केंद्र के रूप में विकसित करने का प्रयास कर रही है। व्यवसायी इन केंद्रों से जुड़कर वहां काम कर रहे समूहों की सहायता से प्रोसेसिंग का काम प्रारंभ कर सकते हैं। गौठान आने वाले समय में छत्तीसगढ़ में बड़े बदलाव का माध्यम बनेगा। खुले में मवेशी नहीं रहने से किसानों को दोहरी फसल लेने में भी सुविधा होगी। गौठानों में पशु पालन और डेयरी का काम भी किया जा रहा है। गौठानों के प्रबंधन और संचालक के लिए व्यवसायी और उद्योगपति अपने अनुभव और ज्ञान से ग्रामीणों की मदद कर सकते हैं। चर्चा के दौरान उद्योगपतियों ने अपनी विभिन्न समस्याओं की जानकारी दी। मुख्यमंत्री ने उन पर गंभीरता पूर्वक विचार करने का आश्वासन दिया। इस दौरान मोहन भाई पटेल, मुकेश ढोलकिया, जीतेन्द्र चंद्राकर, सुरेश जैन, रोशन अग्रवाल, प्रमोद चंद्राकर और दीपक उपाध्याय सहित अनेक उद्योगपति उपस्थित थे।

 

14-06-2020
देर रात मिले कोरोना के 38 नए मरीज, एम्स ने किया ट्वीट

रायपुर। प्रदेश में शनिवार की देर रात कोरोना के 38 नए केस सामने आए हैं। इसमें रायपुर से 11, महासमुंद से 8, दुर्ग से 6, राजनांदगांव से 4,  बलौदाबाजार से 4,जांजगीर-चांपा से3, बेमेतरा 1 और धमतरी से 1 केस सामने आए है। 

13-06-2020
हाथियों का दल पहुँचा था बागडोंगरी, कई घरों की केला बाड़ी को बनाया अपना आहार

कांकेर। महासमुंद के 20 से 22 हाथियों का झुंड चंदा गंगरेल के डुबान क्षेत्र में विचरण करते हुए नरहरपुर ब्लॉक के ग्राम मुरुमतरा,बगडोंगरी करियापहर के जंगलों में पंहुच गये,जिससे आस-पास क्षेत्रों अफरा तफरी मच गई थी। वहीं में रात्रि में बागडोगरी पंचायत के गांव में कई घरों के केला बाड़ी को अपना आहार भी बनाया व मुरुमतरा झुरा नाला से पानी पीकर वापस धमतरी डिवीजन पार कर जंगल में चले गए है। लेकिन खतरा अभी टला नही है। देर रात इनके आगे जाने की खबर से स्थिति स्पष्ट हो पाएगी। गौरतलब है कि तीन चार दिन से हाथियों का बड़ा दल जिले के अलग-अलग क्षेत्रों में विचरण कर रहा है, पहले यह दल मगरलोड क्षेत्र में दिखाई दिया था।  इसके बाद उन्हें केरेगांव क्षेत्र के जंगल अरौद हरफर डूबान में भी देखा गया अब इन हाथियों की मौजूदगी रात से दोपहर तक नरहरपुर ब्लॉक के जंगलों में देखी जा रही थी लेकिन दोपहर बाद वे फिर उसी दिशा में लौट गए हैं। हालांकि वन विभाग की टीम भी लगातार हाथियों के दल पर दिन भर नजरें गड़ाए हुए थे। वहीं आसपास के ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को सतर्कता बरतने की मुनियादी भी करा दी गई है। रात में मशाल जलाकर रखने व कच्चे मकान वालों को भी खास एहतियात बरतने कहा गया है। इस संबंध में वन परीक्षेत्र अधिकारी कैलाश ठाकुर ने बताया कि हाथियों का दल नरहरपुर ब्लॉक के मुरुमतरा करियापहर क्षेत्र के जंगलों में मौजूद था लेकिन अभी उनका दिशा धमतरी जिले के पहारियाकोंहा के जंगलों की तरफ है। वन विभाग उन पर निगरानी रखे हुए है, वहीं आस-पास के गांव वालों को सतर्क रहने को कहा गया है।

 

11-06-2020
प्रशासनिक लापरवाही से महासमुंद में कोरोना संक्रमण फैलाव की आंशका : चुन्नीलाल साहू

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के संसद सदस्य चुन्नीलाल साहू ने महासमुंद के सरायपाली विकासखंड में कोरोना संक्रमण के प्रति बरती गई प्रशासनिक लापरवाही पर नाराजगी व्यक्त की है। साहू ने कहा कि छत्तीसगढ़ में विस्फोटक होते जा रहे कोरोना संक्रमण के इस दौर में भी प्रदेश सरकार और उसके प्रशासन की लापरवाही के उदाहरण प्रकाश में आ रहे हैं। न केवल सरायपाली क्षेत्र, अपितु महासमुंद जिले में कोरोना संक्रमण के फैलाव की आशंका है। चुन्नीलाल साहू ने बताया कि सरायपाली ब्लॉक के विभिन्न स्थानों पर क्वारेंटाइन कर रखे गए लोगों के स्वाब सैंपल की जाँच रिपोर्ट उनके क्वारेंटाइन अवधि में नहीं आने के कारण वे लोग क्वारेंटाइन अवधि के बाद घर लौट गए और उसके 5 दिनों के बाद 10 जून को उनकी जाँच रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है, जिससे लोग दहशत में दिख रहे हैं।सांसद साहू ने कहा कि प्रशासन यह तय करे कि क्वारेंटाइन कर रखे गए लोगों की जाँच रिपोर्ट हरसंभव उनके क्वारेंटाइन अवधि में आ जाए और किन्हीं अपरिहार्य तकनिकी वजहों से यह न हो सके तो क्वारेंटाइन अवधि पूरा कर घर लौटने वालों को मुनादी कर, तब तक होम आइसोलेशन में रखा जाए। जब तक उनकी जाँच रिपोर्ट नहीं आ जाती। चुन्नीलाल साहू ने कहा ये मामले क्वारेंटाइन सेंटर्स की बदहाली और बदइंतजामी को लेकर भाजपा की चिंता को सिद्ध कर रहे हैं लेकिन इस पर गंभीर होने के बजाय सरकार इसे राजनीतिक रंग देने की कोशिश कर रही है।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804