GLIBS
21-11-2020
नाबालिग से छेड़छाड़ के आरोप में वन विभाग का कर्मचारी गिरफ्तार

रायपुर। शहर के माना थाना इलाके में नाबालिग से छेड़छाड़ के मामले में पुलिस ने वन विभाग के कर्मचारी को गिरफ्तार किया है। घटना 19 नवंबर की थी। 13 वर्ष की नाबालिग के साथ आरोपी ने छेड़छाड़ की थी। पीड़िता की मां ने माना थाने में घटना के संबंध में शिकायत दर्ज कराई थी। आरोपी जागेश्वर लहरे (43) फॉरेस्ट कॉलोनी माना बस्ती का निवासी है। शिकायत पर पुलिस ने पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज कर विवेचना में लिया था। महिला संबंधी अपराध को गंभीरता से लेते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय यादव के निर्देश पर टीम गठित की गई थी। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक तारकेश्वर पटेल और नगर पुलिस अधीक्षक लालचंद मोहल्ले के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी माना दुर्गेश रावटे की टीम ने शनिवार को आरोपी को गिरफ्तार किया।

21-11-2020
पत्नी के अवैध संबंध के कारण मानसिक रूप से परेशान डॉक्टर ने लगाया मौत को गले

नई दिल्ली। गुरुग्राम के एक नामी अस्पताल के डॉक्टर ने आत्महत्या कर ली है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक डॉक्टर अपने परिवार के साथ सेक्टर 49 ऑर्चिड पेटल्स सोसायटी में रहते थे। इनकी एक बेटी जोधपुर में पढ़ाई करती है। फिलहाल आधिकारिक तौर पर अभी इस मामले में कोई कुछ नहीं बोल रहा है।मृतक डॉक्टर के पिता ने इस बारे में अपनी बात कही है। उनका कहना है कि उनका बेटा पत्नी के अवैध संबंधों से परेशान था और अक्सर इस मामले को लेकर दोनों में मनमुटाव भी हो जाता था। पिता ने बहू पर आरोप लगाते हुए कहा है कि बहू की वजह से ही उनके बेटे ने आत्महत्या की है। पिता ने बहू के खिलाफ शिकायत भी दर्ज करा दी है।मृतक के पिता बुजुर्ग विनोद सोढ़ी ने बताया कि वह पत्नी के साथ भिवाड़ी में रहते हैं। जबकि बेटा मनुज सोढ़ी अपनी पत्नी के साथ गुड़गांव में ऑर्चिड पेटल्स सोसायटी में रहता था। वो कई साल से मेदांता में डॉक्टर था। मोनिका भी एक निजी स्कूल में टीचर है। अगस्त महीने में बेटा उनके पास भिवाड़ी आया और खूब रोया। पोती जोधपुर में पढ़ रही है। पोती ने बेटे को बताया था कि मां के किसी के साथ अवैध संबंध है। 

पत्नी का अवैध संबंध बीते तीन साल से चल रहा था, जिसके चलते डॉक्टर मानसिक तौर पर वह परेशान था। इसी के चलते बेटी को पढ़ाई के लिए घर से दूर भेज दिया। शनिवार सुबह बेटे के पड़ोसी ने उन्हें कॉल कर बताया कि आपके बेटे की तबियत खराब है। इसके बाद वे गुड़गांव पहुंचे। बेटे ने कोई इंजेक्शन खुद को लगा लिया था, जिससे उसकी तबियत बिगड़ी। हॉस्पिटल में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। सूचना पर सेक्टर-50 थाना पुलिस मौके पर पहुंची और कार्रवाई की। बुजुर्ग ने अपनी बहू के खिलाफ बेटे को आत्महत्या के लिए मजबूर करने का आरोप लगाते हुए शिकायत पुलिस को दी है। पुलिस प्रवक्ता सुभाष बोकन ने बताया कि मामले की जांच कर कार्रवाई की जा रही है।

 

20-11-2020
झगड़ा हुआ एजाज से गुस्सा उतरा सलमान पर कविता ने इनडायरेक्टली लगाया पक्षपात का आरोप

रायपुर/मुंबई। कलर्स के शो ‘बिग बॉस 14’ में आए दिन झगड़े होते रहते हैं। मंगलवार के एपिसोड में एक ऐसा झगड़ा हुआ कि धक्का-मुक्की तक बात पहुंच गई। शो में दोबारा वाइल्ड कार्ड एंट्री बनकर पहुंची कविता कौशिक लगातार ऐजाज खान से अनबन के चलते सुर्खियों में बनी हुई हैं। कविता की एंट्री के समय ऐजाज ने उन्हें अपना दोस्त बताया था, जिसके बाद दोनों की इस पर लड़ाई हुई थी। इसके बाद कविता ने ऐजाज की पर्सनल बातें शेयर करते हुए बताया कि वो दोनों कभी दोस्त नहीं थे। इस पर सलमान ने कविता को जमकर फटकार लगाई और ऐजाज का पक्ष लिया था।

अब दोबारा कविता और ऐजाज के बीच गर्मागर्मी हुई है, जिसके बाद कविता ने सलमान खान पर इनडायरेक्टली पक्षपात करने का आरोप लगाए हैं। घर के काम को लेकर सोमवार को प्रसारित हुए एपिसोड में कविता और ऐजाज के बीज जमकर झगड़ा हुआ। ऐजाज, कविता के बेहद करीब आ गए थे, जिससे नाराज होकर एक्ट्रेस ने ऐजाज को धक्का तक दे दिया था। कविता पर ऐजाज समेत घर के कई सदस्यों ने फिजिकल होने के आरोप लगाए थे, जिस पर बिग बॉस ने खुद सभी घरवालों की गलतफहमी दूर करते हुए इससे इनकार किया।

09-11-2020
ननकीराम कंवर ने भाजपा को आइना दिखाया : कांग्रेस

रायपुर। भाजपा के प्रशिक्षण सत्र में वरिष्ठ भाजपा नेता ननकीराम कंवर की ओर से उठाये गए सवाल-15 साल अच्छे  काम किए तो हारे क्यों? ने भाजपा और रमन एंड कंपनी को एक बार फिर से आइना दिखाया है। प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने आरोप लगाया है कि रमन सिंह के 15 साल के भ्रष्टाचार और कुशासन के कारण जनता ने भाजपा को विधानसभा चुनाव में नकारा था। इसके बावजूद भाजपा के कुछ  नेता जबरिया रमन सिंह और उनके कार्यो का गुणगान कर भाजपा की बची खुची साख भी मिटाने में लगे है। स्पष्टवादिता और बेबाकी के लिए मशहूर भाजपा के ही वरिष्ठ नेता ननकीराम कंवर ने यह बड़ा सवाल खड़ा कर यह बता दिया कि रमन राज में प्रदेश का कितना बड़ा नुकसान हुआ था।कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा है कि अपने सरकार के जिस कमीशन खोरी और भ्रष्टाचार को रायगढ़ की भाजपा कार्यसमिति की बैठक में स्वयं रमन सिंह ने स्वीकारा था।

उसी सरकार की झूठी तारीफ में यदि अजय चंद्राकर जैसे नेता कसीदे पढ़ेंगे तो ननकीराम जैसे वरिष्ठ नेता सवाल तो खड़ा करेंगे ही। भाजपा सरकार के 15 साल छत्तीसगढ़ के इतिहास के झूठ, फरेब और वायदा खिलाफी कुशासन का काला अध्याय है। झलियामारी, नसबंदी कांड, अंखफोडवा कांड, गर्भाशय कांड ने प्रदेश के सिर को शर्म से झुका दिया था। प्रदेश की जनता झीरम जैसा दुर्दांत नरसंहार कैसे भूल सकती है। भाजपा ने किसान, गरीब, आदिवासी सभी को धोखा दिया था। कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा है कि आज प्रदेश में वायदों को पूरा करने वाली सरकार बनी है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने किसानो का कर्ज माफ किया। धान की खरीदी 2500 रुपए में की गई। राजीव गांधी किसान न्याय योजना, नरवा, गरवा, घुरवा, बारी गोधन न्याय योजना के माध्यम से ग्रामीण अर्थव्यवस्था खेती किसानी को मजबूत किया गया। 400 यूनिट तक बिजली के दाम आधे किये गये, युवाओं के लिए सरकारी नौकरी की बंद पड़ी भर्तिया शुरू की गई। तेंदूपत्ता संग्रहण की राशि 2500 से बढ़ाकर 4000 रुपए किया गया। वनोपज समर्थन मूल्य पर खरीदने की व्यवस्था की गई। पिछले 23 माह में छत्तीसगढ़ विकास और विस्तार के रास्तें पर चल रहा है। ऐसे में भाजपा के नेता अपनी ही पार्टी के प्रशिक्षण कार्यक्रम में झूठ बोलेंगे तो उन्हें अपने ही लोगों का विरोध सहना पड़ेगा, जैसा अजय चंद्राकर को ननकीराम के विरोध का सामना करना पड़ा।

 

09-11-2020
भूपेश बघेल को उन्हीं के लोग आइना दिखा रहे : राजेश मूणत

रायपुर/बिलासपुर। बिलासपुर विधायक शैलेश पांडे के पुलिस की ओर से वसूली किए जाने के आरोप पर पूर्व मंत्री राजेश मूणत ने प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा है कि यह बिलासपुर ही नहीं कांग्रेस सरकार की सच्चाई है और सच्चाई को कितने दिन तक दिल में छुपा कर रख सकते हैं, जुबा बयां कर ही देती है। प्रदेशभर में अपराध भ्रष्टाचार बढ़ावा देने अपराधियों को संरक्षण देने के कारण वैसे ही भूपेश सरकार के हाथ पुलिस विभाग से दबे हुए हैं। यही आक्रोश जनप्रतिनिधि के जरिए दिखाई दे रहा है।मूणत ने कहा है कि विभाग के ही थाने के उद्घाटन में विधायक अपने ही पुलिस के पर वसूली का आरोप लगाए, तो आप समझ सकते हैं वह कितना असहाय है। यह एक शहर विशेष की बात ही नहीं वरन पूरे प्रदेश में भूपेश बघेल के नेतृत्व में कांग्रेस की सरकार बनते ही अपराध और अपराधियों को संरक्षण देने का क्रम जारी है,जो दिन प्रतिदिन बढ़ते ही जा रहा है।

यदि जिम्मेदारों की मनोवृति ही ऐसी रहेगी तो पुलिस कर भी क्या सकती है। जिस तरीके से जिम्मेदार विधायक ने रेट लिस्ट लगवा कर काम का दर तय करने की बात कही, यह इस सरकार के कार्य प्रणाली को दशार्ती है। यह विडंबना ही है कि जिस राज्य की पहचान डॉ. रमन के नेतृत्व में भाजपा शासन काल में भयमुख रहित विकासोन्मुखी की थी। उस राज्य में भय और आतंक के सहारे भ्रष्टाचार फैलाया जा रहा है। भाजपा लगातार पुलिस प्रशासन की खामियों को उजागर करती रही है। कांग्रेस विधायक का उक्त  कथन भाजपा के आरोपों की पुष्टि करता है । सभी को आइना भेजने वाले भूपेश बघेल को अब उन्हीं के लोग आइना दिखाने का काम कर रहे हैं।

 

07-11-2020
मिलिंद सोमन के खिलाफ अश्लीलता फैलाने के आरोप में मामला दर्ज

पणजी। गोवा पुलिस ने मॉडल मिलिंद सोमन के खिलाफ अश्लीलता फैलाने के आरोप में मामला दर्ज किया है। यह मुकदमा सोमन द्वारा कथित तौर पर यहां के एक तट पर निर्वस्त्र दौड़ते हुए अपनी एक तस्वीर पोस्ट करने के सिलसिले में दर्ज किया गया है।पुलिस के अधिकारी ने शनिवार को बताया कि इस बाबत गुरुवार को राजनीतिक संगठन गोवा सुरक्षा मंच (जीएसएम) ने एक शिकायत दर्ज कराई थी,जिसके बाद शुक्रवार को मामला दर्ज किया गया। सोमन ने अपने इंस्टाग्राम पेज पर एक तस्वीर पोस्ट की थी, जिसमें वह अपने 55वें जन्मदिन के मौके पर एक तट पर निर्वस्त्र दौड़ते हुए दिख रहे हैं।

रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस अधीक्षक (दक्षिण) पंकज कुमार सिंह ने बताया,‘गोवा सुरक्षा मंच की शिकायत पर सोमन के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 294 (सार्वजनिक स्थल पर अश्लील कृत्य करना) और सूचना एवं प्रौद्योगिकी अधिनियम की धारा 67 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।’ अपने इंस्टाग्राम पोस्ट में सोमन ने फोटो खींचने का श्रेय अपनी पत्नी अंकिता कुंअर को दिया है। बता दें कि धारा 294 अश्लील अभिनय और गानों के लिए है और आईटी एक्ट की धारा 67 अश्लील सामग्री को इलैक्ट्रॉनिक फॉर्म में पब्लिश और शेयर करने के खिलाफ है। जीएसएम ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया है कि मॉडल ने सार्वजनिक स्थान पर अश्लीलता की है। संगठन ने यह भी कहा कि तस्वीर गोवा को गलत तरीके से पेश करती है। 

 

06-11-2020
ग्रामीणों ने लगाया शासकीय उचित मूल्य दुकान में खाद्यान्न वितरण व्यवस्था में गड़बड़ी का आरोप, कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

पखांजूर। विकासखंड कोयलीबेड़ा में स्थित ग्राम पंचायत विष्णुपुर के ग्रामीणों ने शासकीय उचित मूल्य दुकान में खाद्यान्न वितरण व्यवस्था में गड़बड़ी का आरोप लगाया है। ग्रामीणों ने कलेक्टर कांकेर के नाम अनुविभागीय अधिकारी को ज्ञापन सौंपकर कार्रवाई की मांग की है। ग्रामीणों ने ज्ञापन सौंपते हुए अवगत कराया कि जनपद पंचायत कोयलीबेड़ा की ग्राम पंचायत विष्णुपुर में शासकीय खाद्यान्न की कालाबाजारी की जा रही है। ग्रामीणों ने बताया कि शासन द्वारा कोविड-19 के मद्देनजर प्रधानमंत्री जनकल्याण योजना के तहत राशन वितरण व्यवस्था में प्राथमिक कार्ड के प्रत्येक सदस्य की निर्धारित मात्रा में तीन किलो एवं अंत्योदय कार्ड धारी प्रत्येक हितग्राही को पांच किलो बढ़ोतरी की गई है।
ग्रामीणों का आरोप है कि ग्राम पंचायत में शासकीय उचित मूल्य की दुकान से राशन कार्डधारियों को प्रति कार्ड में 10-15 किलो चावल कम देने एवं खाद्यान्न की कालाबाजारी की जा रही है।

पीयूष मंडल की रिपोर्ट

 

04-11-2020
धान खरीदी पर सियासत गरम, सत्ता पक्ष और विपक्ष की बयानबाजी जारी

रायपुर। सत्ता पक्ष और विपक्ष के बीच धान खरीदी को लेकर लगातार बयानबाजी का सिलसिला जारी है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के बयान पर नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने पलटवार करते हुए राज्य सरकार पर आरोप लगाया है कि सरकार किसानों का धान नहीं खरीदना चाहती ​हैं। धान खरीदी के मसले पर खाली बयानबाजी कर रही है। किसानों का धान अक्टूबर से आ गया है। मजबूरन अब किसानों को अपने धान कम दाम में बेचने पड़ रहे हैं। गौरतलब है कि मुख्यमंत्री बघेल ने बारदानों की कमी के कारण धान खरीदी में देरी होने की बात कही थी। मुख्यमंत्री ने कहा था कि कोरोना के कारण लॉक डाउन में जूट मिले बंद थी, जिसके कारण बारदानों का उत्पादन नहीं हो सका।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804