GLIBS
14-05-2020
राजीव गांधी किसान न्याय योजना से किसानों को खाते में मिलेंगे पैसे, 21 मई से होगी शुरुआत : भूपेश बघेल

रायुपर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से पत्रकारवार्ता की। उन्होंने राजीव गांधी किसान न्याय योजना की जानकारी दी। भूपेश बघेल ने कहा कि 21 मई को पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पूण्य तिथि है। इस दिन राजीव गांधी किसान न्याय योजना लागू करेंगे। सरकार किसानों के लिए काम कर रही है। 21 मई से किसानों के खाते में पैसे डाले जाएंगे। योजना से 19 लाख किसानों को फायदा होगा। कोरोना की रोकथाम के लिए प्रदेश में किए जा रहे कार्यों की जानकारी उन्होंने दी। भूपेश बघेल ने कहा कि कोरोना की लड़ाई में हम सफल होते जा रहे हैं। 16499 क्वारेंटाइन सेंटर बनाए गए हैं। प्रदेश में हजारों की संख्या में मजदूर आए हैं। उनके लिए भी पर्याप्त व्यवस्था सरकार ने की है। राशन पर उन्होंने कहा कि राशनकार्डधरियों को जून का राशन मुफ्त मिलेगा। सरकार ने सभी वर्गों का ध्यान रखा है।

08-05-2020
कोरोना संकट पर राहुल गांधी बोले- छोटे व्यापारियों को पैसे दे सरकार, नहीं तो आएगी बेरोजगारी की सुनामी

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और वायनाड से सांसद राहुल गांधी ने शुक्रवार को कोरोना वायरस के मुद्दे पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस दौरान उन्होंने कोरोना के लगातार बढ़ते संकट और लॉक डाउन की वजह से आ रही मुश्किलों पर बात की। उन्होंने कहा कि इकॉनमी को फिर से शुरू करने की जरूरत है। हम समय गंवा रहे हैं। मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए राहुल गांधी ने कहा कि सरकार को लॉक डाउन खोलने की नीति जनता को बतानी चाहिए। न्याय योजना की तर्ज पर मजदूरों के खाते में सीधे पैसे जमा करने चाहिए। राहुल गांधी ने कहा कि एमएसएमई को क्रेडिट सुरक्षा योजना, छह महीने की ब्याज सब्सिडी देने की जरूरत है। वहीं बड़े बिजनेस को भी सुरक्षा देने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि अब समय आ गया है कि छोटे कारोबारियों के लिए राहत पैकेज की घोषणा की जाए।

लॉक डाउन खोलने की तैयारी की जाए। कांग्रेस नेता ने कहा कि केंद्र और राज्य सरकारें मिलकर रणनीति बनाएं। उन्होंने कहा कि अब सरकार को जनता को बताना चाहिए कि आखिर लॉक डाउन कब खुलेगा।राहुल गांधी ने कहा कि सरकार को बताना चाहिए कि क्या हो रहा है। जनता को बताना चाहिए कि किस परिस्थिति में लॉक डाउन को खोला जाएगा। ये महामारी काफी खतरनाक हो गई है, लॉक डाउन के दौरान काफी कुछ बदल गया है। आप किसी भी कारोबारी से पूछेंगे तो पता चलेगा कि सप्लाई चेन को लेकर दिक्कते आ रही हैं। प्रवासी मजदूर, गरीब, छोटे कारोबारियों को आज पैसे की जरूरत है, वरना नौकरी जाने की सुनामी आ जाएगी।

05-05-2020
दोस्तों ने छीने पैसे तो शराब के नशे में पुलिस चौकी पहुंचा युवक, खुद को किया आग के हवाले

नई दिल्ली। यूपी के हापुड़ जिले की पिलखुआ कोतवाली क्षेत्र के रहने वाले एक युवक ने शराब पीने के बाद पुलिस चौकी के पास पहुंच कर खुद को आग लगा ली। चौकी इंचार्ज ने दौड़ कर जलते युवक की आग बुझाई और उसे अस्पताल में भर्ती कराया। 40 दिन बाद खुले शराब के ठेके की लेकर जहां भीड़ उमड़ने पर पुलिस को लाठी फटकारनी पड़ी। वहीं देर शाम कस्बा निवासी एक युवक शराब पीने के बाद छिजारसी पुलिस चौकी के पास पहुंच गया। अपने ऊपर कोई पदार्थ डालकर आग लगा ली। युवक को जलता देख चौकी में तैनात दरोगा ने दौड़ लगा दी। दरोगा ने युवक को बचाते हुए किसी तरह आग बुझाई। इस दौरान दरोगा भी झुलस गए। पुलिस ने झुलसे युवक को स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया। सीओ पिलखुवा ने बताया कि युवक शराब के नशे में अपने दोस्तों के साथ जुआ खेल रहा था। उसका आरोप है कि उसके दोस्तों ने उसका पैसा और मोबाइल छीन लिया। वापस न करने पर उसने खुद को आग लगाई है। सीओ ने बताया कि युवक 20 प्रतिशत जला है जो अब खतरे से बाहर है।

29-04-2020
आरक्षक ने मानवता का दिया परिचय, एटीएम से निकले पैसे को पहुंचाया उसके मालिक तक          

  दुर्ग। पुलिस अधीक्षक ग्रामीण लखन पटेल ने बताया कि बुधवार को एटीएम से निकले पैसे को वापस करके आरक्षक ने किया मानवता का परिचय दिया। उन्होंने बताया कि  कि आरक्षक राहुल सोनी क्रमांक 657 पुलिस लाइन दुर्ग, एटीएम में पैसा निकालने गया था। जहां पर उसने देखा कि एटीएम में पहले से पांच हजार रुपये निकले हुए थे। इसके आस पास कोई व्यक्ति नहीं था। इस बात की जानकारी आरक्षक राहुल सोनी द्वारा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण लखन पटेल को दी गई। इसके बाद यह पता किया गया कि या राशि किसके द्वारा निकाली गई थी। पुलिस द्वारा पतासाजी करने पर पता चला कि विजय कुमार साहू ग्राम धनोरा द्वारा कुछ देर पहले एटीएम से पैसा निकाला गया है। विजय कुमार साहू से पता किए जाने पर बताया कि गंजपारा स्टेट बैंक स्थित एटीएम में पैसा निकालने गए थे। एटीएम से 25 हजार निकालने के लिए पिन नंबर डाला। इसमें से पांच हजार रुपये नहीं निकले थे। जो कुछ देर रुपये ना निकलने पर, एटीएम से चला गया था। विजय कुमार साहू को आरक्षक द्वारा पांच हजार की राशि वापस की गई। इसके लिए विजय कुमार साहू ने दुर्ग पुलिस और प्रशासन का आभार व्यक्त किया है।

 

23-04-2020
पत्नी की तेरहवीं में होने वाले खर्च के पैसे को जरूरतमंदों के लिए कर दिया दान

 कांकेर। जहां पूरा देश कोरोना से जंग लड़ रहा है। वहीं दूसरी ओर लॉक डाउन के कारण बहुत से गरीब परिवार एंव अन्य जगहों के फसे लोगों के पास खाने के लिए राशन शासन प्रशासन पंहुचा रही है और लोग भी बढ़ चढ़ के लोगों के मदद के लिए हाथ बढ़ा रहे है। इसी तरह भानुप्रतापपुर में एक व्यक्ति ने अपने पत्नी के तेरहवीं में होने वाले खर्च के पैसे को जरुरत मंद लोगों की मदद करने राहत केंद्र में दान किया। बता दें भानूप्रतापपुर सुभाष वार्ड निवासी गजाधर सिंह ठाकुर की पत्नी कांति ठाकुर का पिछले दिनों निधन हो गया था पर लॉक डाउन के कारण किसी भी प्रकार के सामजिक कार्यक्रम की मनाही है, जिसके कारण गजाधर सिंह ठाकुर की पत्नी के तेरहवीं कार्यक्रम मे ज्यादा लोग शामिल नहीं हुए इससे जो खर्च होना था। वह खर्च का पैसा बच गया जिसे गजाधर सिंह ठाकुर ने सामुदायिक भवन राहत केंद्र शिविर में पहुँचकर नगर पंचायत अध्यक्ष सुनील पाढ़ी को चावल और 5001 रु नगद पैसा सौंपते हुए कहा कि इसे जरूरतमंद लोगों को राहत पहुंचाएं मेरे ओर से छोटी सी मदद है।

22-04-2020
कोरोना से जंग में बच्चों ने गुल्लक के पैसे मुख्यमंत्री सहायता कोष में दिए दान

रायपुर। कोरोना संक्रमण की रोकथाम में शासन को जनता आर्थिक मदद कर रही है। बड़े उद्योगपतियों से लेकर सामान्य व्यक्ति भी मुख्यमंत्री सहायता कोष और पीएम रिलीफ फंड में दान दे रहा है। इसी कड़ी में प्रदेश के लोरमी के दो बच्चों ने अपने गुल्लक की जमा राशि मुख्यमंत्री सहायता कोष में दान की। इस पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि तीन साल की बच्ची हर्षिता डिंडोरे और उसका आठ साल का बड़ा भाई हर्ष अपना गुल्लक लेकर दोनों प्यारे बच्चे लोरमी अनुविभाग अधिकारी कार्यालय पहुँचे और अपने एक-दो रुपए के सिक्कों के साथ कुल मिलाकर 2267 रुपए मुख्यमंत्री सहायता कोष में दान किये। बच्चों को ढेर सारा प्यार और आशीर्वाद।

18-04-2020
छत्तीसगढ़ से बाहर फंसे दुर्ग जिले के श्रमिकों के खाते में जमा किए गए पैसे

 दुर्ग। छत्तीसगढ़ से बाहर फंसे दुर्ग जिले के श्रमिकों को छत्तीसगढ़ शासन ने बड़ी राहत दी है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल तथा श्रम मंत्री डॉ.शिव डहरिया ने श्रमिकों की स्थिति को देखते हुए लॉक डाउन के दौरान उनकी चिंता करते हुए यह निर्णय लिया। इसके पश्चात श्रम सचिव सोनमणि बोरा के निर्देश पर कलेक्टर अंकित आनंद की अध्यक्षता में बनी समिति ने जिसमें जिला पंचायत सीईओ कुंदन कुमार एवं अपर कलेक्टर तथा सहायक श्रम आयुक्त सदस्य थे ने त्वरित रूप से श्रमिकों के खाते में आरटीजीएस की कार्रवाई की। दुर्ग जिले के 746 श्रमिक जो लॉक डाउन की वजह से दूसरे राज्यों में फंसे हुए हैं। उनके खाते में एक हजार रुपये आरटीजीएस के माध्यम से जमा किए गए। कलेक्टर अंकित आनंद के निर्देश पर आज ही सहायक श्रम आयुक्त रमेश प्रधान ने छत्तीसगढ़ के बाहर फंसे 746 श्रमिकों के खाते में एक हजार रुपये आरटीजीएस करने की कार्रवाई की। छत्तीसगढ़ के बाहर आज की तिथि में महाराष्ट्र में 442, उत्तर प्रदेश में 25, गुजरात में 57, तेलंगाना में 100, मध्य प्रदेश में 24, कर्नाटक में 24, तमिलनाडु में 17,उड़ीसा में 37, आंध्र प्रदेश हरियाणा में एक, राजस्थान में तीन, झारखंड में दो बिहार में एक, हिमाचल प्रदेश में एक,दिल्ली में पांच और चंडीगढ़ में एक श्रमिक के फंसे होने की जानकारी है। इन सभी के खाते में धनराशि जमा कर दी गई है। उल्लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ शासन ने श्रमिकों की सहायता के लिए हेल्पलाइन नंबर भी बनाया है। हेल्पलाइन नंबर में जहां भी जानकारी मिल रही है वहां श्रमिकों को सहायता पहुंचाई जा रही है तथा संबंधित जिला प्रशासन से संपर्क स्थापित किया जा रहा है। दुर्ग जिले में कलेक्टर अंकित आनंद के मार्गदर्शन में श्रम विभाग द्वारा लगातार बाहर में फंसे श्रमिकों को चिन्हित करने की कार्रवाई की जा रही है तथा उन्हें राहत पहुंचाई जा रही है।

 

11-04-2020
होम डिलीवरी में ले रहे थे ज्यादा पैसे,गैस एजेंसी के 56 सिलेंडर सहित वाहन जब्त

बलौदाबाजार। भाटापारा स्थित एचपी गैस कम्पनी द्वारा सिलेण्डर की होम डिलीवरी की आपूर्ति में ज्यादा कीमत वसूलने पर कार्रवाई की गई है। खाद्य विभाग की टीम ने खम्हरिया गांव के नज़दीक होम डिलीवरी वाहन की आकस्मिक जांच की। निरीक्षण में होम डिलीवरी के नाम पर ज्यादा दाम पर गैस सिलेंडर बेचे जाने की पुष्टि हुई। एजेंसी की डिलीवरी वाहन सहित 56  गैस सिलेण्डर जब्त कर ली गई है। गौरतलब है कि लॉक डाउन के दौरान कलेक्टर कार्तिकेया गोयल के निर्देश पर गैस सिलेण्डर की केवल होम डिलीवरी सेवा चल रही है। उन्होंने निर्धारित से अधिक दर पर बेचने वालों को कड़ी चेतावनी दी है। खाद्य विभाग को सूचना-शिकायत मिलने पर तत्काल जांच कर कार्रवाई कर उपभोक्ताओं को राहत पहुँचाने के निर्देश दिए हैं।
उल्लेखनीय है कि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए लॉकडाउन की अवधि में एलपीजी गैस एजेंसियों के काउंटरों भीड़ को नियंत्रित करने के उद्देश्य से जिले की सभी गैस एजेंसियों को अपने उपभोक्ताओं को शत प्रतिशत एलपीजी सिलेंडरों की आपूर्ति होम डिलीवरी के माध्यम से करने का निर्देश कलेक्टर कार्तिकेया गोयल ने दिये है।

जिले के खाद्य विभाग की टीम ने जिले में होम डिलीवरी की व्यवस्था का जायजा लिया। सहायक खाद्य अधिकारी अनिल जोशी के नेतृत्व में खाद्य निरीक्षक संजय ठाकुर और खाद्य निरीक्षक अमित शुक्ला के द्वारा बलौदाबाजार से भाटापारा मार्ग पर ग्राम खम्हरिया के पास एलपीजी सिलेंडर की होम डिलीवरी करने वाले  बजरंग एचपी गैस एजेंसी भाटापारा के वाहन की जांच की गई। मौके पर वाहन चालक और डिलीवरी ब्वाय के द्वारा होम डिलीवरी हेतु निर्धारित राशि से अधिक राशि पर डिलीवरी किए जाने की जानकारी दी गई। खाद्य विभाग के द्वारा मौके पर ही 56 एलपीजी सिलेंडर और वाहन की जब्ती बनाई गई। कोरोना वायरस से संक्रमण के बचाव हेतु शासन प्रशासन द्वारा निरंतर निर्देश दिए जा रहे है। जिला प्रशासन के द्वारा सभी एलपीजी गैस एजेंसियों को अपने उपभोक्ताओं को सुचारू ढंग से होम डिलीवरी कि सुविधा प्रदान करने के निर्देश दिए गए हैं। गैस एजेंसी के द्वारा तय कीमत से अधिक दर पर होम डिलीवरी करना पाया गया है। खाद्य विभाग की टीम के द्वारा प्रकरण तैयार कर एजेंसी पर कार्यवाही की जा रही है। कलेक्टर कार्तिकेय गोयल के द्वारा इस संवेदनशील समय में आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति में लापरवाही और अनियमितता बरतने वालों के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही के निर्देश सभी विभागों को दिए गए है।

28-03-2020
Breaking: 21 मार्च से 14 अप्रैल तक की रद्द टिकट पर मिलेंगे पूरे पैसे,आरक्षित टिकटों पर कटे चार्ज वापस होंगे

रायपुर। रेल प्रशासन ने कोरोना वायरस (कोविड-19) के मद्देनजर बड़ा निर्णय लिया है। 21 मार्च से 14 अप्रैल तक की यात्रा अवधि के लिए रद्द किए गए टिकट के पूरे पैसे यात्रियों को वापस होंगे। साथ ही इस यात्रा अवधि के लिए आरक्षित टिकटों को रद्द करने पर कोई शुल्क लगाया गया हो तो, उसकी भी पूरी वापसी होगी। यह जानकारी रायपुर रेल मंडल प्रबंधक कार्यालय से मिली है।

यात्री आरक्षण कार्यालय के काउंटर टिकट
21 मार्च से 14 अप्रैल  तक यात्रा अवधि के लिए पहले से ही टिकट रद्द करने वाले टिकटों पर शेष राशि रिफंड के लिए संबंधित जोनल रेलवे मुख्यालय के यात्री मुख्य दावा अधिकारी या मुख्य वाणिज्यिक प्रबंधक रिफंड कार्यालय में निर्धारित प्रारूप में आवेदन के माध्यम से, टिकट रद्द करने से 6 महीने के भीतर किया जा सकता है। इस अवधि के लिए वर्तमान में रद्द किए गए टिकटों को रद्द करने पर पूर्ण धनवापसी दी जाएगी। यात्रा की तारीख से 3 महीने के भीतर इसका लाभ ले सकते हैं ।

ई-टिकट के लिए भी निर्णय
उक्त अवधि के लिए जिन यात्रियों ने ई-टिकट बुक किया था, आरक्षित टिकटों को रद्द करने पर कोई शुल्क लगाया गया हो तो उसकी भी शेष धनराशि वापसी की जाएगी। उक्त अवधि के लिए वर्तमान में रद्द किए जा रहे टिकटों के संबंध में पूर्ण धनराशि दी जाएगी। कोई चार्ज नहीं काटा जाएगा।

 

25-03-2020
पेन्ड्रा नगर पंचायत के पार्षदों ने दिया एक माह का मानदेय मुख्यमंत्री सहायता कोष में

 पेन्ड्रा। सभी नव निर्वाचित पार्षदों ने मिलकर अपना मानदेय मुख्यमंत्री सहायता कोष में देने की घोषणा कही है। इसपर सरदार इकबाल सिंह पार्षद एवं उपाध्यक्ष पंकज तिवारी वरिष्ठ पार्षद, रामेश साहू वरिष्ठ पार्षद,जयदत्त तिवारी वरिष्ठ पार्षद,शाहिद राइन पार्षद, मैकू भरिया पार्षद और कपिल करेलिया पार्षद ने कोरोना से लड़ने और लोगों को राहत देने अपने एक माह का मानदेय मुख्यमंत्री सहायता कोष में देने की घोषणा की है। पार्षदों ने लोगों से अपील की है कि यथासंभव सभी लोग मुख्यमंत्री सहायता कोष में पैसे जमा कर इस विपदा में लड़ने शासन की मदद करें।

08-03-2020
चाकू की नोक पर देर रात मोबाईल और नगदी की लूट, मामला दर्ज

रायपुर। शहर के कबीरनगर थानाक्षेत्र में युवक से चाकू की नोक पर पैसे और मोबाइल की लूट का मामला सामने आया है। बता दें कि एचडीडी- 33 देशी ठाठ रेस्टोरेंट के मालिक विपीन कुमार शर्मा को दो बाइक सवार बदमाशों ने चाकू की नोक पर धमकी देते हुए 1300 सौ रुपए नगद और मोबाइल की लूट को अंजाम दिया। मामला देर रात साढ़े 11 बजे की है। मिली जानकारी के अनुसार हाउसिंग बोर्ड कालोनी कबीरनगर निवासी विपिन की दो ट्रके है जो इस्पात लाजिस्टीक के नाम से चलती है। शुक्रवार रात एक ट्रक रिंग रोड नंबर दो लोहा बाजार के पास डीजल और रोड खर्च लेने के लिए रुकी थी। चालक को पैसा देने के लिए जाते वक्त ओबेराय पेट्रोल पंप के आगे बाइक क्रमांक सीजी 04 डीआर 8250 में सवार होकर दो युवकों ने आकर विपिन का रास्ता रोक लिया। एक बदमाश ने चाकू निकालकर पर्स निकालने की धमकी दी तो वहीं दूसरे ने जेब चेक कर पर्स को निकाल लिया। पर्स से 1300 रुपए और मोबाइल छिनकर दोनों भाग निकले। वहीं भय के कारण विपिन थाने नही गया। 

 

17-02-2020
जेल प्रहरी ने पेश की इमानदारी की मिसाल,एटीएम में मिले पैसे को पुलिस थाने में किए सुपुर्द

रायपुर। दिनेश कुमार सिदार सेंट्रल जेल दुर्ग में प्रहरी पद पर पदस्थ है,जो सोमवार को स्टेट बैंक कचहरी शाखा के एटीएम में पैसा निकालने गया था। इसे एटीएम मशीन में 10 हजार रुपए मिले। एटीएम बूथ में कोई व्यक्ति नहीं होने से और किसी व्यक्ति द्वारा पैसे लेने में भूल होने की संभावना होने पर उक्त पैसे को लेकर तत्काल वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कार्यालय रायपुर पंहुचकर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक तारकेश्वर पटेल को सौंपा। थाना प्रभारी मौदहापारा को उक्त पैसे जिस किसी व्यक्ति का हो बैंक से जानकारी एकत्र कर तस्दीक कर संबंधित को वापसी करने के निर्देश दिए। तत्काल  सेंट्रल जेल दुर्ग के वरिष्ठ जेल अधीक्षक को जेल प्रहरी के इस उदार दिल और मानवीय भावना सराहनीय कार्य के लिए जेल प्रहरी को पुरस्कृत करने सिफारिश किये हैं। वरिष्ठ जेल अधीक्षक दुर्ग ने जेल प्रहरी को नगद पुरस्कार से सम्मानित करने की घोषणा की।  रायपुर पुलिस ने भी दिनेश सिदार को धन्यवाद करते हुए उसके उज्जवल भविष्य की कामना की। उक्त पैसे किस व्यक्ति के है उसकी जानकारी बैंक से ली जा रही है। 

 

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804