GLIBS
27-05-2020
महाराष्ट्र में नहीं थम रहा कोरोना का कहर, पिछले 24 घंटे में 75 पुलिसकर्मी पाए गए पॉजिटिव

मुंबई। लॉक डाउन के 64वें दिन तक देश में कोविड-19 पॉजिटिव मरीजों की संख्या 1 लाख 50 हजार से अधिक हो गई है, जबकि इस वायरस से अब तक 4337 लोगों की मौत हो गई है। देश में कोरोना वायरस से संक्रमण की रफ्तार बढ़ती जा रही है। कोरोना वायरस का सबसे ज्यादा कहर महाराष्ट्र में देखने को मिल रहा है। महाराष्ट्र राज्य कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित है। महाराष्ट्र पुलिस की ओर से जारी कोरोना बुलेटिन के मुताबिक, राज्य में पिछले 24 घंटे में 75 पुलिसकर्मी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इसके बाद राज्य में संक्रमित पुलिसकर्मियों की संख्या 1964 हो गई है, जिसमें से 1095 सक्रिय हैं, 849 लोग स्वस्थ्य हो चुके हैं और 20 लोगों की मौत हो चुकी है।

महाराष्ट्र में 2091 नए केस :
महाराष्ट्र में मंगलवार को कोविड-19 के 2091 नए मामले सामने आने के साथ प्रदेश में कुल संक्रमितों की संख्या 54,758 हो गई है। राज्य स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि राज्य में कोरोना वायरस से 97 और लोगों की मौत के साथ महामारी में जान गंवाने वालों की संख्या अब 1,792 तक पहुंच गई है।

03-05-2020
कोरोना योद्धाओं और सीमा पर तैनात पुलिसकर्मियों का लगातार सम्मान कर रहे विधायक 

कोरिया। भरतपुर-सोनहत विधानसभा क्षेत्र में लॉक डाउन के दौरान पुलिस प्रशासन के सराहनीय कार्य को देखते हुए विधायक गुलाब कमरो ने पुलिस कर्मचारियों को एक बार फिर सम्मानित किया गया। विधायक ने भरतपुर-सोनहत विधानसभा क्षेत्र अंर्तगत छत्तीसगढ़ मध्यप्रदेश सीमा क्षेत्र पर कार्यरत पुलिस के जवान व कोटवारों को पुष्पगुच्छ गुलदस्ता देकर सम्मानित किया और उनकी हौसला अफजाई की।

इस दौरान गुलाब कमरो ने कहा कि 22 मार्च से लेकर अभी तक पूरे लॉक डाउन अवधि में सभी पुलिस कर्मचारी व अधिकारी ने अपनी डयूटी को कर्तव्य, निष्ठा, लगन व इमानदारी से निभाया है। 24 घंटे दिन-रात, धूप छांव में खड़े होकर कोरोना लॉक डाउन को सफल बनाया है। उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि हमें भी फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन करना चाहिए। उन्होंने सभी जनप्रतिनिधियों से पुलिस का सहयोग एवं आदर के साथ हमेशा सम्मान करने की बात कही। उल्लेखनीय है कि पहले भी विधायक ने मनेन्द्रगढ़ में स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारीयों पुलिस कर्मचारीयों नर्सिंग स्टाफ व कोरोना डयूटी में लगे अन्य कर्मचारीयों को भी सम्मानित किया गया था।

03-05-2020
जम्मू-कश्मीर में आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ में पांच शहीद, दो आंतकवादी ढेर

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा जिले के हंदवारा में आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ में सेना के दो अधिकारी और दो जवान तथा राज्य पुलिस का एक उप निरीक्षक शहीद हो गए। सेना ने कहा है कि एक गुप्त सूचना के अनुसार शनिवार को पता चला था कि कुछ आतंकवादियों ने कुपवाड़ा जिले में हंदवारा के चंगीमुला गांव के एक घर में कुछ लोगों को बंधक बना लिया है। सेना और राज्य पुलिस ने इन्हें छुडाने के लिए एक संयुक्त अभियान चलाया। अभियान के तहत पांच सैन्यकर्मी और एक पुलिसकर्मी ने इस घर में जाकर सभी बंधकों को छुड़ा कर सुरक्षित निकाल लिया लेकिन इस दौरान आतंकवादियों ने अंधाधुंध फायरिंग की। मुठभेड़ में दो आतंकवादियों को ढेर कर दिया गया। मुठभेड़ में सेना के दो अधिकारी, दो जवान और पुलिस का एक उप निरीक्षक शहीद हो गये। अभी शहीदों के नामों की जानकारी नहीं दी गई है।

30-04-2020
सूरजपुर में कोरोना संक्रमित मरीज होने के कारण कोरिया जिला किया गया सील

कोरिया। कोरिया जिले से लगे हुए जिले सूरजपुर राहत शिविर 9 मजदूर सहित एक पुलिसकर्मी के कोरोना पॉजिटिव आने के खबर के बाद कोरिया पुलिस कप्तान चंद्र मोहन सिंह के बड़े निर्देश के बाद कोरिया सूरजपुर मार्ग सहित सभी गांव जंगल यहां तक की पहाड़ियों तक के चौकसी बढ़ा दी गई है। गांव में बैरियर के अलावा पगडंडी में जेसीबी से मुरूम डालकर रास्ते को ब्लॉक कर दिया गया है। कोरिया पुलिस कप्तान ने आम जनता से अपील किए हैं कि कोरिया जिले के  अंतर्गत कोई व्यक्ति या मजदूर अन्य किसी राज्य से जिले में प्रवेश करते हैं तो तत्काल चेक पोस्ट को सूचना दें यदि कोई उसका उल्लंघन करता है तो उनके खिलाफ अपराधिक प्रकरण दर्ज कर सख्त कार्रवाई की जाएगी जिसके द्वारा बॉर्डर पर सूचित किया जाएगा। उनका मेडिकल कराने के साथ रहने की व्यवस्था की जाएगी। दूसरी ओर मध्य प्रदेश बॉर्डर लगे शहडोल जिले में 2 को रोना पॉजिटिव आने के बाद पूरी तरह बॉर्डर को किया गया सील।

28-04-2020
अजीत जोगी का जन्मदिन

रायपुर। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के कारण देशभर में लॉक डाउन है। इस बीच जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) की आनलाइन बैठक मंगलवार को हुई। बैठक की अध्यक्षता पार्टी अध्यक्ष अमित जोगी ने की। बैठक में राज्य के प्रथम मुख्यमंत्री व जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के सुप्रीमो अजीत जोगी के जन्मदिन 29 अप्रैल को प्रतिवषार्नुसार "मितान दिवस" के रूप में मनाने का निर्णय लिया गया है। बैठक को सम्बोधित करते हुए अमित जोगी ने कहा कि अजीत जोगी के जन्म दिन पर हमें संकल्प लेना है, छत्तीसगढ़ को कोरोना और शराब दोनों से मुक्त करना है, दोनों ही छत्तीसगढ़ के भविष्य के लिए खतरनाक है।
अमित जोगी ने कहा कि लॉक डाउन के कारण विपरीत परिस्थितियों का सामना करने वाले वैश्विक महामारी के खिलाफ लड़ाई में मितान की भूमिका निभा रहे कोरोना योद्धा डॉक्टर, नर्स, पुलिसकर्मी, किसान, दुकानदार- का सम्मान करके हर साल की तरह अजीत जोगी का जन्मदिन मितान दिवस के रूप में मनाया जाएगा।

 

रायपुर जिला अध्यक्ष ओम प्रकाश देवांगन ने बैठक में कहा कि लॉक डाउन के कारण सभी वर्ग के लोग बेहाल है, परन्तु इस दौरान प्रदेश भर में शराबबंदी के कारण लाखों घर परिवार का कायाकल्प हो गया है, लोगों के घर में कलह के बदले अब खुशहाली और शराबियों के चेहरे चमक लौट आई है। इसको ध्यान में रखते हुए छत्तीसगढ़ को कोरोना के साथ ही शराब मुक्त करने के लिए भी अजीत जोगी के जन्मदिन पर प्रदेश भर की महिलाएं मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को पत्र लिखकर शराब बंदी का शंखनाद करेंगी। बैठक में प्रमुख रूप से पार्टी के अध्यक्ष अमित जोगी, महामंत्री महेश देवांगन, रायपुर जिला अध्यक्ष ओमप्रकाश देवांगन, पार्टी के वरिष्ठ नेता ज्ञानेंद्र उपाध्याय, प्रदेश प्रवक्ता भगवानू नायक, जनता कांग्रेस महिला विभाग अध्यक्ष अनामिका पाल, जनता युवा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष दानिश रफीक, जोगी छात्र कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष टिकेश प्रताप सिंह, कार्यकारी अध्यक्ष प्रदीप साहू, रायपुर जिला ग्रामीण अध्यक्ष अमीन खान, प्रवक्ता विक्रांत तिवारी, गजेंद्र देवांगन,  निलेश चौहान, निखिल अग्रवाल,  संतोष गुप्ता, उदय चरण बंजारे,  सनी होरा आदि पार्टी के पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता उपस्थित थे।

28-04-2020
महाराष्ट: 55 साल से अधिक उम्र वाले पुलिसकर्मी नहीं करेंगे ड्यूटी

मुंबई। देश में महाराष्ट्र कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित है। राजधानी मुंबई में कोरोना वायरस के सबसे ज्यादा मरीज हैं। प्रदेश में कोरोना वायरस की चपेट में पुलिस कर्मी भी आये हैं। पुलिसवालों को कोरोना से बचाने के लिए अब मुंबई पुलिस ने 55 साल से ज्यादा उम्र के पुलिसवालों से ड्यूटी न कराने का निर्णय लिया है। मुंबई पुलिस के कमिश्नर परमबीर सिंह ने बताया है कि प्रशासन ने ये फैसला अपने तीन पुलिसवाले साथियों को मौत के बाद किया है। राज्य में अब तक करीब 96 पुलिसकर्मी कोरोना वायरस के शिकार हुए हैं। इनमें से करीब 40 सिर्फ मुंबई से हैं। मुंबई में कोरोना वायरस के चपेट में आने से 25 अप्रैल को 57 साल के पुलिस कांस्टेबल की मौत हो गई थी।. कोरोना संक्रमित होने के बाद उनका कस्तूरबा हॉस्पिटल में इलाज चल रहा था।गौरतलब है कि देश में कोरोना वायरस के सबसे ज्यादा मामले महाराष्ट्र में हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के 8 हजार 590 मामले हैं। वहीं अब तक 369 लोगों की मौत हो चुकी हैं हालांकि 1282 लोग ठीक भी हुए हैं।

20-04-2020
जन्मदिन के दिन उदास बैठा था लड्डू, पुलिस ने किया कुछ ऐसा की हो गया खुश

रायगढ़। कोरोना वायरस के कारण बंदी के दौरान पूरे देश सहित हमारे रायगढ़ शहर ने इन दिनों खाकी के एक अलग ही रूप को देखा है कि कैसे आमतौर पर सख्ती बरतने वाली पुलिस जनसेवा व कर्तव्यनिष्ठा को ही अपना धर्म मानकर 24 घण्टे लगातार ड्यूटी कर रही हैं। इस दौरान कभी पुलिसकर्मी मरीजों को अस्पताल ले जा रही हैं तो कहीं भूखों व जरूरतमंदों को भोजन व रहने की व्यवस्था मुहैया करा रही हैं। इसका एक नजारा आज फिर देखने को मिली जब रोजमर्रा की तरह आज लॉक डाउन पेट्रोलिंग के दौरान कोतरारोड टीआई युवराज तिवारी दोपहर अपने पूरे क्षेत्र की परिक्रमा कर जब कृष्णा विहार कॉलोनी पहुंचे तो देखा कि एक घर के बरामदे में एक मासूम सा लड़का गुमसुम व उदास सा बैठा है।

उत्सुकतावश टीआई तिवारी बच्चे के पास गए तो पहले लड़का पुलिस को पास देख थोड़ा सहम गया पर जब टीआई ने लड़के से प्रेमपूर्वक उसकी उदासी का सबब पूछा तो लड़के (लड्डू) ने बताया कि आज उसका जन्मदिन हैं पर कोरोना लॉक डाउन की वजह से न तो वह अपने मित्रों के साथ पार्टी कर सकता है और न ही उसको किसी तरह का गिफ्ट मिलेगा। इसके बाद टीआई युवराज तिवारी ने लड़के के पिता अनूप अग्रवाल से बातचीत कर वहीं कृष्णा विहार में झटपट एक छोटी सी पार्टी का आयोजन करवाया। इस पार्टी में बच्चे ने घर में बना हुआ केक काटा और सभी ने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन भी किया। इस दौरान टीआई युवराज तिवारी के साथ उनकी पूरी पेट्रोलिंग टीम, भाजयुमो जिलाध्यक्ष विकास केड़िया व लड्डू के पड़ोसी भी मौजूद रहें। पार्टी के बाद लड़के के परिजन व मौजूद सभी पड़ोसियों ने टीआई युवराज तिवारी व उनकी पूरी टीम को साधुवाद देकर विदा किया गया।

20-04-2020
एडिशनल एसपी अनन्त कुमार साहू ने किया सभी राहत केंद्रों का निरीक्षण     

कोंडागांव। देश भर में फैले कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए जिले भर में राहत केंद्र बनाए गए हैं, जहाँ पर अन्य राज्यों व जिलों से आये लोगों को क्वारंटाइन किया जा रहा है साथ ही उन सभी को राशन भी दिया जा रहा है। जैसा कि आप जानते है कि देश भर में कोरोना वायरस के कारण लॉक डाउन घोषित कर दिया गया है तथा स्वास्थ्य विभाग के निर्देशानुसार अन्य राज्यों व जिलों से आने वाले सभी लोगों की जांच कर एहतियात के तौर पर 14 दिन के आइसोलेशन में रखा जा रहा है। इसी को ध्यान में रखते हुए कोंडागांव एडिशनल एसपी अनन्त कुमार साहू ने जिले के सभी राहत केंद्रों का प्रतिदिन निरीक्षण कर रहे है। शुक्रवार को केशकाल नगर राहत शिविर केंद्र पहुंच उन सभी लोगों से मिलकर खाने एवं रहने के लिए उपलब्ध करवाए गए संसाधनों का निरीक्षण किया। शनिवार को भी विश्रामपुरी पहुंच मजदूरों से चर्चा कर भोजन सामग्री की व्यवस्था भी करवा रहे हैं।

निरीक्षण के पश्चात एडिशनल एसपी ने राहत केंद्रों के नोडल अधिकारियों व ड्यूटी में लगे सभी कर्मचारियों को सतर्कता व सावधानी के साथ-साथ आइसोलेशन में रह रहे लोगों को किसी प्रकार की असुविधा व परेशानी न हो इसका ध्यान रखने का निर्देश दिया। सुरक्षा की दृष्टि से रहे सावधान, उड़ीसा सीमा बॉर्डर में तैनात पुलिसकर्मी से मिले। विश्रामपुरी और बाँसकोट थाना अंतर्गत आने वाले सभी उड़ीसा बॉर्डर को सील किया गया है और पुलिस कर्मियों के द्वारा सघनता से वाहनों की चेकिंग किया जा रहा है। निरीक्षण के दौरान एडिशनल एसपी ने बॉर्डर में तैनात सभी पुलिसकर्मियों से मिल सावधानी बरतने व लोगों को कोरोना वायरस से बचने मास्क लगाने व सोशल डिस्टेंस बनाने के लिए लोगों को समझाइश देने की बात कही।

17-04-2020
  पुलिसकर्मी इंद्रधनुष सम्मान के लिए सीधे डीजीपी को भेज सकेंगे आवेदन

रायपुर। आरक्षक से लेकर डीएसपी रैंक तक के पुलिस जवान अब किये गए उल्लेखनीय कार्यों के लिए इंद्रधनुष सम्मान के लिए सीधे डीजीपी को जानकारी भेज पाएंगे। डीजीपी डीएम अवस्थी ने इस संबंध में आदेश जारी किया है। अभी तक पुलिकर्मियों को इंद्रधनुष सम्मान के लिए उल्लेखनीय कार्यों की जानकारी एसपी की अनुशंसा से भेजनी होती थी। पुलिसकर्मी जानकारी को ईमेल पर या फैक्स पर भेज सकते हैं। जो पुलिसकर्मी पुरस्कार के योग्य होंगे उन्हें प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया जाएगा। पुलिसकर्मी,  ब्लाइंड मर्डर की विवेचना और सफलता, डकैती, लूट  (50 हजार से अधिक संपत्ति), नकबजनी (50 हजार से अधिक संपत्ति), महिला संबंधी अपराध, गुंडागर्दी और अवैध कारोबार करने वालों पर कार्रवाई और अन्य कोई असाधारण कार्य जिससे जनमानस में पुलिस के प्रति सकारात्मक छवि बनी हो के उल्लेखनीय कार्यों की जानकारी इंद्रधनुष सम्मान के लिए भेज सकते हैं।

 

17-04-2020
सरगुजा संभाग आईजी ने कहा, अगर शराब, जुआं अपराधों में संलिप्त पाए गए पुलिसकर्मी तो होगी कार्रवाई

कोरिया। सरगुजा संभाग आईजी रतनलाल डांगी ने कहा कि पुलिस कर्मचारियों के जुआ खेलते पकड़े जाने की खबरें मीडिया में आ रही है। उन्होंने कहा कि शराब,जुआं जैसे अपराधों में पुलिसकर्मियों की संलिप्तता को बिना जांचे उन्हें बर्खास्त कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि कोरोना के खिलाफ जंग में पुलिसकर्मी कर्तव्यनिष्ठ के साथ दिन रात ड्यूटी पर डटे हैं। गरीब असहाय लोगों की मदद करके,जो छवि हमारे जाबांज कर्मचारियों व अधिकारियों ने विभाग की बनाई है उसको कुछ पुलिसकर्मी के कारण नुकसान पहुंचा रहा है। उन्होंने सभी जिले के पुलिस अधीक्षक को निर्देश दिए हैं कि अपने अधीनस्थ स्टॉफ को सचेत करें कि आपराधिक गतिविधियों में शामिल पाए जाने पर संविधान के अनुच्छेद 311 के तहत सीधा बर्खास्त करने की कार्यवाही की जाएगी।

14-04-2020
लॉक डाउन: अकेले जा रहा था बच्चा, पुलिसकर्मी ने रोका, पूछा कारण और हुआ भावुक

 बेंगलुरु। लॉक डाउन के दौरान ड्यूटी कर रहे पुलिसकर्मी लोगों की हरसंभव मदद कर रहे हैं। पुलिस का एक मानवीय चेहरा कर्नाटक में देखने को मिला। रविवार को कर्नाटक पुलिस में एसआई महंतेश बानप्पागौदर ने सड़क पर अकेले जा रहे एक बच्चे से घूमने की वजह पूछी तो लड़के का जवाब सुनकर महंतेश भावुक हो गए। उन्होंने किस्से को फेसबुक पर शेयर किया है। कर्नाटक पुलिस के ऑफ़िसर महंतेश बानप्पागौदर को दोपहर में पुलिस स्टेशन के सामने वाली सड़क पर एक मुस्लिम लड़का अकेला जाता दिखा। एसआई महंतेश ने बच्चे को बुलाया और पूछा कि कहाँ जा रहे हो? पुलिस को देखकर बच्चा डर गया। इसे महंतेश तुरंत समझ गए और उन्होंने प्यार से बच्चे से घूमने का कारण पूछा। बच्चे ने बताया कि 'उसके पिता नही हैं मां घरों में काम करती है। मां ने मुझे दोस्त के घर जाकर पढ़ने के लिए भेजा है। ये कहते हुए वो पाँचवीं की किताब पुलिस अधिकारी को दिखाता है। ये देखकर ऑफिसर भावुक हो जाते हैं और पूछते हैं आप क्या बनना चाहते हैं तो बच्चा कहता है की मैं पुलिस बनना चाहता हूं। ये सुन कर ऑफिसर को अपने बचपन की याद आ जाती है जब वो ये सपने देखा करते थे और बच्चे को प्यार से गले लगा लेते हैं। महंतेश अपनी टोपी निकालते हैं उसे बच्चे के सिर पर रख देते हैं। इसकी तस्वीरें उनके विभाग के ही पुलिसकर्मी क्लिक कर लेते हैं। ये तस्वीरें महंतेश बानप्पागौदर ने अपने सोशल मीडिया पेज पर शेयर की हैं। महंतेश ने अपील की है कि घर में रहें और लॉक डाउन का पालन करें।

 

14-04-2020
प्रधानमंत्री ने बताई विजय प्राप्त करने की सप्तपदी, 7 बातों में मांगा सबका साथ

रायपुर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लॉक डाउन को अगले 19 दिन, 3 मई तक बढ़ाने की घोषणा की। उन्होंने इस दौरान सप्तपदी दी। 7 महत्वपूर्ण बातों पर सबका साथ मांगा है। प्रधानमंत्री ने कहा कि उनकी सर्वोच्च प्राथमिकता में से एक जो रोज कमाने खाने वाले हैं, इनके जीवन में आई मुश्किलों को कम करना है। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के माध्यम से सरकार उनकी जरुरतों को पूरा करने का ध्यान रख रही है। इनके हितों को ध्यान में रखा है। इस समय रबी फसल की कटाई का काम भी जारी है। केंद्र सरकार और राज्य सरकार मिलकर प्रयास कर रही हैं कि किसानों को कम से कम दिक्कत हो। देश में दवा से लेकर राशन तक पर्याप्त मात्रा में है। सप्लाई चैन की बाधाएं लगातार दूर की जा रही है। प्रधानमंत्री ने भारत के युवा वैज्ञानिकों से विशेष अनुरोध किया है कि विश्व कल्याण के लिए, मानव कल्याण के लिए कोरोना की वैक्सीन बनाने का बीड़ा उठाएं। 

जानिए विजय प्राप्त करने की सप्तपदी :

प्रधानमंत्री ने कहा कि धैर्य बनाकर रखेंगे, नियमों का पालन करेंगे तो कोरोना जैसी महामारी को भी परास्त कर देंगे। उन्होंने कहा कि सप्तपदी विजय प्राप्त करने का मार्ग हैं। इसमें सबका साथ चाहिए। 

पहली बात : अपने घर के बुजुर्गों का विशेष ध्यान रखें। विशेषकर ऐसे व्यक्ति जिन्हें पुरानी बीमारी हो, उनकी हमें एक्स्ट्रा केयर करनी है। उन्हें कोरोना से बहुत बचा कर रखना है।

दूसरी बात : लॉक डाउन और सोशल डिस्टेंसिंग की लक्ष्मण रेखा का पूरी तरीके से पालन करना है। घर में बने फेस कवर या मास्क का अनिवार्य उपयोग करें।

तीसरी बात : अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए आयुष मंत्रालय के निर्देश का पालन करें। गरम पानी, काढा का निरंतर सेवन करें।

चौथी बात : कोरोना संक्रमण का फैलाव रोकने के लिए आरोग्य सेतु मोबाइल एप जरूर डाउनलोड करें। दूसरों को भी इसे डाउनलोड करने के लिए प्रेरित करें ।

पांचवी बात : जितना हो सके उतने गरीब परिवार की देखरेख करें। उनके भोजन की आवश्यकता पूरी करें।

छठवीं बात : अपने व्यवसाय, अपने उद्योग में, अपने साथ काम कर रहे लोगों के प्रति संवेदना रखें। किसी को नौकरी से ना निकाले।

सातवीं बात : देश के कोरोना वॉरियर्स हमारे डॉक्टर,नर्स, सफाई कर्मी, पुलिसकर्मी ऐसे सभी लोगों का सम्मान करें। आदर पूर्वक उनका गौरव करें।

विजय प्राप्त करने निष्ठापूर्वक पालन करना होगा

प्रधानमंत्री ने कहा कि इन 7 बातों में सबका साथ ये सप्तपदी विजय प्राप्त करने का मार्ग है। विजय प्राप्त करने के लिए निष्ठा पूर्वक करने वाला यह काम है। 3 मई तक लॉक डाउन के नियमों का पालन करें। जहां है वहां रहें, सुरक्षित रहें।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804