GLIBS
30-08-2020
महापौर ने गणेश प्रतिमाओं के विसर्जन के लिए जारी प्रशासनिक तैयारियों को देखा, जोन कमिश्नर को दिए आवश्यक निर्देश 

रायपुर। नगर निगम ने महादेवघाट स्थित गणेश विसर्जन कुंड में प्रशासनिक तैयारियां शुरू कर दी है। जारी तैयारियों का निरीक्षण करने महापौर एजाज ढेबर ने रविवार को महादेवघाट पहुंचे। उन्होंने निगम जोन 8 कमिश्नर अरुण ध्रुव की उपस्थिति में जारी कार्य, व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया। निगम की ओर से यहां प्रकाश व्यवस्था, बेरीकेटिंग व्यवस्था, सैनेटाइजेशन स्प्रे व्यवस्था, विसर्जन के लिए पर्याप्त पानी की व्यवस्था, क्रेन, गोताखोर व्यवस्था, सफाई व्यवस्था, मंच व्यवस्था सहित विसर्जन के लिए तमाम आवश्यक व्यवस्था की गई है। 

 

जोन 8 कमिश्नर ध्रुव ने महापौर को बताया है कि, 31 अगस्त को निगम जोन 8 का अमला विसर्जन कुंड में तैनात रहेगा। नगर निगम के निर्देशानुसार 1 सितंबर को सुबह 6 बजे से 4 सितंबर को दोपहर 2 बजे तक समस्त व्यवस्थाएं निरंतर 24 घंटे चक्रीय आधार पर उपलब्ध रहेंगी। महापौर ने आज ही समस्त प्रशासनिक तैयारियों को पूर्ण करने के निर्देश दिए। महापौर ने जोन कनिश्नर को कोविड 19 वायरस के संक्रमण के प्रसार को देखते हुए कारगर रोकथाम करने के नियमों का कड़ाई से पालन कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा है कि, सभी लोगों के लिए मास्क पहनने के अनिवार्य नियम सहित सामाजिक दूरी का शत-प्रतिशत पालन करवाया जाए। महापौर ने ध्यान रखने कहा है कि, जब एक गणेश मूर्ति का विसर्जन किया जाए, तो दूसरी मूर्ति के विसर्जन के लोग सामाजिक दूरी बनाए रखें। यह व्यवस्था सम्पूर्ण विसर्जन के दौरान पूरी तरह से तय की जाए। महापौर ने प्रतिदिन विशेष सैनेटाइजेशन गणेश विसर्जन स्थल पर करवाने निर्देश दिए हैं।

28-06-2020
इंग्लिश मीडियम स्कूलों की तैयारियों का कलेक्टर, महापौर ने लिया जायजा

भिलाई। भिलाई में बन रहे दो नए इंग्लिश मीडियम स्कूल का निरीक्षण महापौर एवं भिलाई नगर विधायक देवेंद्र यादव, कलेक्टर डॉ.सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे एवं आयुक्त ऋतुराज रघुवंशी ने किया। सेक्टर 6 एवं अंडा चौक के समीप बालाजी नगर में स्थित दोनों ही इंग्लिश मीडियम स्कूल के लिए किए जा रहे निर्माण एवं संधारण कार्य की तैयारियों का जायजा इस दौरान लिया गया! संयुक्त निरीक्षण में उन्होंने प्रथमतल पर चल रहे निर्माण कार्य की पेंटिंग, शौचालय, खिड़की दरवाजे आदि का जायजा लेकर अधिकारियों को उचित निर्देश दिए! अंडा चौक में चल रहे विकास कार्य का जायजा भी लिया गया और चबूतरा की पेंटिंग सहित चैन लिंक फेंसिंग, मिट्टी डालने के कार्य के बारे में जानकारी लेते हुए उपस्थित अधिकारियों को निर्देश दिए। 

 

25-06-2020
वर्चुअल रैली की तैयारियों को लेकर जिला भाजपा की हुई बैठक, कार्यकर्ताओं को दी गई जिम्मेदारी  

कोरबा। भारतीय जनता पार्टी जिला कोरबा की अहम बैठक जिला पाली कार्यालय में संपन्न हुई। इसमें 28 जून को दोपहर 12:30 बजे भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवराज सिंह चौहान वर्चुअल रैली को डिजिटल प्लेटफॉर्म से संबोधित करेंगे। इसके लिए संगठनात्मक कार्य योजना बनी जिसमें जिला स्तर वर्चुअल रैली के प्रभारियों का कार्य विभाजन हुआ। दीपका मंडल के लिए प्रभारी के रूप में दीपक जायसवाल को जिम्मेदारी सौंपी गई है। बैठक में कोरबा जिला के जिला अध्यक्ष अशोक चावला, पूर्व संसदीय सचिव लखन लाल देवांगन, पूर्व महापौर जोगेश लांबा सहित जनप्रतिनिधी उपस्थित थे।

20-05-2020
भूपेश बघेल ने राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तैयारियों की ली जानकारी, दिल्ली से जुड़ेंगे सोनिया और राहुल गांधी

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल बुधवार को अपने निवास कार्यालय में राजीव गांधी किसान न्याय योजना के शुभारंभ के लिए की जा रही तैयारियों के संबंध में वरिष्ठ अधिकारियों के साथ समीक्षा की। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल देश के पूर्व प्रधानमंत्री स्व.राजीव गांधी की पुण्यतिथि 21 मई के दिन वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए प्रदेश में इस योजना का विधिवत शुभारंभ करेंगे। दिल्ली से सोनिया गांधी और राहुल गांधी भी वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए इस योजना के शुभारंभ कार्यक्रम में शामिल होंगे। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और मंत्रिमंडल के सदस्य मुख्यमंत्री निवास कार्यालय में आयोजित कार्यक्रम में दोपहर 12 बजे स्व.राजीव गांधी के तैल चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित करेंगे। इसके बाद किसानों को दी जाने वाली 5700 करोड़ रुपए की राशि में से प्रथम किश्त के रूप में 1500 करोड़ रुपए की राशि के कृषकों के खातों में ऑनलाइन अंतरण की जाएगी। कार्यक्रम में जिलों से सांसद,विधायक,अन्य जनप्रतिनिधि, किसान और विभिन्न योजनाओं के हितग्राही भी वीडियो कांफ्रेसिंग से जुड़ेंगे। इस योजना के तहत प्रदेश के 19 लाख किसानों को 5700 करोड़ रुपए की राशि चार किश्तों में सीधे उनके खातों में हस्तांतरित की जाएगी। राजीव गांधी किसान न्याय योजना किसानों को खेती-किसानी के लिए प्रोत्साहित करने की देश में अपने तरह की एक बड़ी योजना है। मुख्यमंत्री बघेल कार्यक्रम के शुरुआत में राजीव गांधी किसान न्याय योजना के संबंध में संक्षिप्त उद्बोधन देंगे। कृषकों के खातों में राशि अंतरित करने के बाद जिला मुख्यालयों में उपस्थित योजना के हितग्राहियों के साथ ही महिला स्व-सहायता समूहों के सदस्यों,महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना और लघु वनोपज के हितग्राही और गन्ना और मक्का उत्पादक किसानों से वीडियो कांफ्रेसिंग से जरिए चर्चा भी की जाएगी।

 

08-05-2020
कोरोना से बचाव की तैयारियों का जायजा लेने अवनीश शरण ने किया वनांचल का दौरा

रायपुर /कवर्धा। कलेक्टर अवनीश कुमार शरण ने नोवेल कोरोना वायरस की रोकथाम नियंत्रण और उनके संक्रमण के बचाव के उपायों की तैयारियों के संबंध में पंडरिया विकासखण्ड के वनांचल क्षेत्रों का सघन निरीक्षण किया। कलेक्टर शरण के साथ जिला पंचायत सीईओ विजय दयाराम के. ने भी निरीक्षण किया। कलेक्टर ने पंडरिया विकासखंड के सुदूर और दुर्गम वनांचल क्षेत्र कुकदूर, कामठी, तेलियापानी, भाकूर, पोलमी बैगा ग्रामों का भी निरीक्षण किया। यहां बताया गया कि पंडरिया अनुविभाग के 144 ग्राम पंचायतों के सभी शासकीय भवनों,स्कूल, आश्रम, छात्रावास और सामुदायिक भवनों और निजी स्कूल भवनों को क्वारेन्टीन सेंटर सह राहत बनाए गए है।कलेक्टर ने वनांचल क्षेत्रों का भ्रमण के दौरान पंडरिया से पोलमी में संचालित चेकपोस्ट का निरीक्षण किया। पोलमी मार्ग कबीरधाम जिले का प्रमुख वनांचल ग्राम है। यह मार्ग मध्यप्रदेश की प्रमुख पर्यटन स्थल अमरकंटक को जोड़ने वाली मार्ग है। यह अंतर्राज्यीय सीमा होने के कारण पोलमी में कोरोना संक्रमण के बचाव के उपायों के लिए बैरियर संचालित की जा रही है। कलेक्टर शरण ने इस पोलमी बैरियर के अन्य राज्यों से आने वाले श्रमिकों और अन्य नागरिकों के स्वास्थ्य परीक्षण के लिए स्वास्थ्य टीम यहां तैनात करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि ग्रीष्मकालीन को ध्यान में रखते हुए लू से बचने के लिए पीने के साफ पानी और ओआरएस घोल का पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध कराने के निर्देश भी दिए।

पंडरिया के 144 ग्रामों में क्वारेंटाइन सह-राहत शिविर
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के विशेष प्रयासों से जिले के अन्य राज्यों में फंसे श्रमिकों की सकुशल वापसी तथा कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाने के लिए पंडरिया विकासखंड के 144 ग्रामों में सभी शासकीय भवन, स्कूल, आश्रम-छात्रावास को क्वारेंटाइन सेंटर सह राहत शिविर के रूप में बनाया गया है। इन सभी क्वारेंटाईन सेंटरों में भोजन आदि की व्यवस्था के लिए अधिकारी-कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है। साथ ही ग्राम सरपंच और ग्राम पटेल को भी जिम्मेदारी दी गई है।

  कलेक्टर ने बैगा बच्चों की जागरूकता की तारीफ की
कलेक्टर अवनीश कुमार शरण ने अपने वनांचल ग्रामों के भ्रमण के दौरान बैगा बाहूल ग्राम डालामौहा के बैगा बच्चों और ग्रामीणों ने कोरोना वायरस के रोकथाम और उनके बचाव के उपायों की तारीफ की। कलेक्टर ने अपनी गाड़ी रूकवाकर बैगा बच्चे अमन मेरावी, प्रताप, युवराज से चर्चा की। बच्चों ने कलेक्टर को बताया कि कोरोना वायरस के रोकथाम के लिए ग्रामीणों की मदद से गांव के बाहर स्वयं से बैरियर लगाया है। यह मार्ग मध्यप्रदेश को जोड़ती है, इसलिए अन्य राज्यों से आने वाले लोगों का गांव की सीमा में प्रवेश नहीं करने दिया जाता है।

 

17-04-2020
गृहमंत्री ने आईजी-एसपी से लॉक डाउन की तैयारियों की जानकारी ली, दिए निर्देश...

रायपुर। गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने प्रदेश के सभी रेंज के आईजी और एसपी से फोन पर लॉक डाउन के दौरान चल रही गतिविधियों के संबंध में जानकारी ली। गृहमंत्री ने लॉक डाउन का कड़ाई से पालन करने के निर्देश दिए हैं। गृहमंत्री ने आला अधिकारियों से कहा कि आवश्यक वस्तुओं जैसे दूध, सब्जी, राशन, दवाईयां आदि की आपूर्ति पर नजर रखी जाए। इन आवश्यक वस्तुओं के विक्रम मूल्यों को भी नियंत्रित रखने आकस्मिक जांच भी की जाए। कोई मजदूर भूखा ना रहे इसके लिए शासन की गाइडलाइन का पालन किया जाए। गृहमंत्री ने इस ओर ध्यान आकर्षित किया कि लॉक डाउन बढ़ने पर लोगों की समस्या उत्पन्न हो रही होगी, परन्तु इसी दौरान राहगीरों और सुनसान गलियों में चोरों की संख्या, लूट की वारदात बढ़ने लगी है इस ओर भी पुलिस को ध्यान देना है। प्रदेश में अवैध शराब बिक्री और अन्य शराब दुकनों में चोरी सहित अन्य नशे पर प्रकरण बनाएं और आरोपियों पर कार्रवाई करें।

गृहमंत्री ने कहा कि शहरों के स्लम एरिया और मोहल्लों में अनावश्यक भीड़ होने की सूचना समाचार के माध्यम से प्रकाशित हो रही है और लोग लॉक डाउन का खुले आम उल्लंघन कर रहे हैं, इसे देखते हुए लगातार मॉनिटरिंग की जरूरत है। लॉक डाउन 2.0 लागू होने के बाद मजदूरों को राशन की समस्या ना हो इसका भी ध्यान रखना होगा। वहीं कृषि कार्य और ग्रामीण क्षेत्र के उद्योगों को प्रारम्भ करने के आदेश दिए गए हैं, निगरानी करें और फिजिकल डिस्टेंस का पालन करें। राज्य सरकार की ओर से जिस क्षेत्र में छूट दी गई है वहां फिजिकल डिस्टेंस का पालन कराया जाए। डॉक्टर, नर्स सहित कोविड-19 के इलाज में लगे कर्मचारियों को पर्याप्त सुरक्षा पुलिस की ओर से दी जाए।

13-04-2020
अस्पताल में कोविड-19 की तैयारियों का कलेक्टर ने किया औचक निरीक्षण, स्वास्थ्य विभाग की टीम मौके पर रही मौजूद

रायपुर/अंबिकापुर। सरगुजा संभाग के मुख्यालय अंबिकापुर में भी अब कोविड-19 अस्पताल तैयारियां शुरू हो गई है। कलेक्टर ने आज मेडिकल कॉलेज अस्पताल का औचक निरीक्षण किया। कोविड-19 अस्पताल की तैयारियों का जायजा लिया। अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल में ही कोविड अस्पताल का निर्माण किया जा रहा है, यहां आइसोलेशन वार्ड सहित आईसीयू की व्यवस्था तैयार की जा रही है। निरीक्षण के दौरान स्वास्थ्य विभाग का अमला सहित मेडिकल कॉलेज अस्पताल की टीम भी मौजूद रही। गौरतलब है कि प्रदेश का हॉटस्पाट बन चुका कोरबा जिला भी अंबिकापुर संभाग के तहत ही आता है। कटघोरा में लगातार कोरोना के मरीजों की बढ़ती संख्या के बाद से ही प्रशासन अलर्ट हो चुका है।

10-04-2020
प्रभारी मंत्री कवासी लखमा ने स्लम बस्तियों में जाकर बांटे राशन व सब्जी पैकेट

धमतरी। कोरोना वायरस कोविद-19 के प्रभाव की जिले में रोकथाम तथा प्रशासन द्वारा की गई तैयारियों का जायजा लेने प्रदेश के उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री तथा जिले के प्रभारी मंत्री कवासी लखमा ने शुक्रवार को धमतरी नगर के विभिन्न क्षेत्रों का दौरा किया।  उन्होंने निर्धन परिवारों के जरूरतमंद नागरिकों को राशन एवं सब्जियों के पैकेट निःशुल्क वितरित किए। इस दौरान प्रभारी मंत्री ने किसान बाजार, गुजराती काॅलोनी, स्टेशनपारा में जाकर राशन व सब्जीयुक्त पैकेट बांटे, साथ ही लाॅक डाउन के दौरान लोगों से घरों में ही रहने व शासन के निर्देशों का पालन करने की अपील भी की। इसके अलावा जिला अस्पताल, सामुदायिक भवन में बनाए गए राशन संग्रहण एवं वितरण केन्द्र तथा ग्राम पथर्रीडीह (कुकरेल, नगरी ब्लाॅक) में बनाए गए क्वाॅरंटाइन सेंटर का भी निरीक्षण किया।

केबिनेट मंत्री लखमा बस स्टैण्ड के समीप स्थित किसान बाजार पहुंचे, जहां पर निगम के कर्मचारियों द्वारा डाले जा रहे सोडियम हाइपोक्लोराइट नामक लिक्विड के छिड़काव को देखा, साथ ही उन्होंने स्वयं छिड़काव भी किया। फायर ब्रिगेड के छोटे वाहन से किए जा रहे दवा छिड़काव का भी उन्होंने अवलोकन किया तथा निगम प्रशासन द्वारा की गई व्यवस्था के प्रति संतुष्टि जाहिर की। इसके वे राशन एवं वितरण रथ पर सवार होकर रायपुर रोड स्थित गुजराती काॅलोनी पहुंचे,जहां पर नागरिक ललित माणिक, कमलेश सोनी, नीलेश पटेल को दैनिक उपयोग की आवश्यक किराना सामग्री तथा लोचन साह, रूपू राठी और गौरस साह को सब्जी पैकेट बांटे। इसके बाद रेलवे स्टेशन से सिहावा चौक स्टेशनपारा में जाकर 10 निर्धन परिवारों व दिव्यांगों को राशन और सब्जी के पैकेट वितरित किए।

जिले के प्रभारी मंत्री लखमा ने जिला अस्पताल का भी आकस्मिक निरीक्षण किया, जहां पर उन्होंने चिकित्सकों से भेंट कर प्रदेश शासन की ओर से 20 नगर पीपीई (पर्सनल प्रोटेक्शन इक्विपमेंट) किट भेंट किए, साथ ही आइसोलेशन सेंटर में सेवारत वरिष्ठ चिकित्सकों के लिए एन-95 मास्क 50 नग प्रदान किए तथा अन्य चिकित्सीय एवं गैरचिकित्सीय स्टाफ के लिए ट्रिपल लेयर्ड मास्क का एक हजार नग युक्त पैकेट भी भेंट किया। इसके अलावा मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी सहित कोरोना वायरस के उपचार में संलग्न सभी चिकित्सक, नर्स, वार्ड बाॅय मितानिनों व अन्य स्टाफ को मंत्री ने प्रशस्ति-पत्र भेंट कर उनके द्वारा मानव सेवा के लिए किए जा रहे सेवाओं व कार्यों की काफी सराहना की।
मंत्री ने स्थानीय विंध्यवासिनी वार्ड स्थित वीरनारायण सिंह सामुदायिक भवन में बनाए गए सामग्री संग्रहण एवं वितरण केन्द्र में जाकर राशन पैकेट तैयार किए जाने व राहत प्रदान करने संबंधी प्रक्रिया का अवलोकन किया। इस दौरान कलेक्टर रजत बंसल ने उन्हें बताया कि धमतरी नगर के दानदाताओं के द्वारा लगातार निर्धन, गरीब, निराश्रित तथा जरूरतमंद लोगों का खुलकर सहयोग किया जा रहा है।

यहां से प्रतिदिन राशन सामग्री युक्त लगभग एक हजार राशन पैकेट नगर के विभिन्न वार्डों में भेजे जाते हैं, जिसमें दैनिक उपभोग की राशन सामग्री जैसे तेल, आलू प्याज, साबुन, मिर्च-मसाले सहित विभिन्न सामग्रियां उपलब्ध रहती हैं। उन्होंने बताया कि यह सभी वस्तुएं दानदाताओं से प्राप्त होती हैं। इसके अलावा सब्जी विक्रेताओं तथा स्वयंसेवी संगठनों के द्वारा प्रतिदिन कई क्विंटल सब्जियां भी दान के तौर पर प्रदान की जाती हैं, जिन्हें उसी दिन राशन के साथ वितरण सुनिश्चित कराया जाता है।प्रभारी मंत्री ने नगरी विकासखण्ड के कुकरेल के समीप ग्राम पथर्रीडीह में एकलव्य आवासीय विद्यालय में बनाए गए क्वाॅरंटाइन सेंटर का भी अवलोकन किया तथा वहां उपस्थित चिकित्सकों से मिलकर चर्चा करते हुए उनकी हौसला अफजाई की। इस अवसर पर नगर निगम के महापौर विजय देवांगन, सभापति अनुराग मसीह, शरद लोहाणा सहित एसपी बीपी राजभानू, डीएफओ अमिताभ बाजपेयी, जिला पंचायत की सीईओ नम्रता गांधी, एडिशनल एसपी मनीषा ठाकुर, नगरपालिक निगम के आयुक्त आशीष टिकरिहा, उपायुक्त पंकज शर्मा, एसडीएम धमतरी मनीष मिश्रा के अलावा संबंधित विभाग के अधिकारीगण उपस्थित थे।

 

11-12-2019
राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव: देश-विदेश के 1400 लोक कलाकार बिखेरेंगे लोक संस्कृति की छटा

रायपुर।  राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव का शुभारंभ भव्य और आकर्षक होगा। शुभारंभ अवसर पर देश-विदेश से आने वाले कलाकार अपने पारम्परिक परिधानों में मार्च पास्ट करेंगे। महोत्सव में लोक रंग में रंगे सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन साईंस कॉलेज मैदान में 27 से 29 दिसम्बर तक सवेरे 10 बजे से शाम 8.30 बजे तक प्रतिदिन होगा। इस महोत्सव में देश के 23 राज्यों के 151 दलों के लगभग 1400 कलाकार हिस्सा लेंगे। इसके अलावा महोत्सव में श्रीलंका, बेलारूस, युगांड़ा, बांग्लादेश सहित छह देशों के कलाकार भी शामिल होंगे। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बुधवार को अपने निवास कार्यालय में आयोजित बैठक में 27 दिसम्बर से शुरू हो रहे राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव की तैयारियों की समीक्षा की। बैठक में नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया भी मौजूद थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव में देश के अन्य राज्यों के साथ ही देश के बाहर से भी कलाकार आएंगे, उनके लिए आवश्यक सुरक्षा व्यवस्था, भोजन, आवास, साफ-सफाई, पीने का साफ पानी, स्वास्थ्य सुविधा, अग्निशमन और आवागमन के समुचित साधन मुहैया कराने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए। मुख्यमंत्री ने साईंस कॉलेज स्थित आयोजन स्थल का कम्प्यूटर आधारित प्रेजेंटेशन देखा और जरूरी निर्देश भी दिए।

उन्होंने कहा कि इस महोत्सव में आने वाले दर्शकों को कोई असुविधा नही होनी चाहिए। पार्किंग स्थल से उन्हे कम से कम दूरी चलना पड़े इसका विशेष ध्यान रखें। आयोजन में आवश्यक व्यवस्था के लिए एनसीसी, एनएसएस और स्काउट गाइड के कैडेटों का भी सहयोग लेने कहा। संस्कृति विभाग के सचिव सिद्धार्थ कोमल परदेशी ने बताया कि महोत्सव में कलाकारों द्वारा विवाह, फसल कटाई, पारंपरिक त्यौहार और अन्य अवसरों पर किए जाने वाले आदिवासी नृत्यों का प्रदर्शन किया जाएगा। महोत्सव में विजेता प्रतिभागियों को समापन अवसर पर पुरस्कार दिया जाएगा, जिसमें प्रथम पुरस्कार 5 लाख रूपए, द्वितीय पुरस्कार 3 लाख रूपए, तृतीय पुरस्कार 2 लाख रूपए और सांत्वना पुरस्कार के रूप में 25 हजार रूपए दिए जाएंगे। प्रत्येक दल में लगभग 50 कलाकार होंगे। परदेशी ने बताया कि महोत्सव में कलाकारों के ऑनलाइन पंजीयन की व्यवस्था की गई है और अब तक एक हजार 310 कलाकारों का पंजीयन हो चुका है। पंजीयन को ऑनलाइन देखा भी जा सकता है। आयोजन स्थल में लगभग 4000 लोगों की बैठक व्यवस्था की जा रही है। आयोजन स्थल पर शिल्प ग्राम, फूड जोन, पुस्तक प्रदर्शनी, वनोपज उत्पाद, औद्योगिक प्रोत्साहन, छत्तीसगढ़ का इतिहास, पर्यटन, संस्कृति, छत्तीसगढ़ी व्यंजन, गांधी यात्रा, जल, जंगल, जमीन आदि की प्रदर्शनी लगायी जाएगी। साथ ही मनोरंजन के लिए मीना बाजार लगाने पर भी विचार किया जा रहा है। बैठक में अतिरिक्त मुख्य सचिव अमिताभ जैन, पुलिस महानिदेशक डीएम अवस्थी मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव गौरव द्विवेदी, प्रमुख सचिव मनोज पिंगुआ, सुब्रत साहू, सचिव पी.अन्बलगन सहित वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

 

25-08-2019
मुख्यमंत्री बघेल का संभावित दौरा 31 अगस्त को, कलेक्टर ने की तैयारियों की समीक्षा

जांजगीर-चाम्पा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का जांजगीर-चांपा  जिले का दौरा 31 अगस्त को संभावित है । इसे देखते हुए कलेक्टर जनक प्रसाद पाठक ने आज  कलेक्टोरेट सभाकक्ष में विभिन्न विभागों के अधिकारियों की बैठक लेकर की जा रही तैयारियों की समीक्षा की और संबंधित अधिकारियों को आवश्यक निर्देंश दिए। इस अवसर पर अपर कलेक्टर लीना कोसम और जिला  पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी तीर्थराज अग्रवाल, डीएफओ रंगनाथन रामकृष्णा भी उपस्थित थे।

 

13-08-2019
कलेक्टर कौशल ने स्वतंत्रता दिवस की तैयारियों का लिया जायजा  

कोरबा। कलेक्टर किरण कौशल एवं पुलिस अधीक्षक जितेन्द्र मीणा ने आज इंदिरा प्रियर्शिनी स्टेडियम में आयोजित अंतिम रिहर्सल के दौरान 15 अगस्त को आयोजित होने वाले स्वतंत्रता दिवस समारोह के मुख्य कार्यक्रम की तैयारियों का जायजा लिया। कलेक्टर ने कार्यक्रम स्थल पर सभी तैयारियां बारिश की संभावना को ध्यान में रखते हुए पूरे करने के निर्देश दिए। कौशल ने पार्किंग स्थल सहित परेड गुजरने के ट्रैक और स्टेडियम के मैदान पर पानी भर जाने के संभावित स्थानों पर जल निकासी तथा रेत-मिट्टी डालकर उसे व्यवस्थित करने के निर्देश दिए। इस दौरान जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एस.जयवर्धन, नगर निगम आयुक्त राहुल देव, अपर कलेक्टर प्रियंका महोबिया सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे। स्वतंत्रता दिवस के मुख्य समारोह का आयोजन जिले के प्रभारी मंत्री डा. पे्रमसाय सिंह के मुख्य आतिथ्य में किया जाएगा। कलेक्टर ने आज सुबह स्टेडियम पहुंच कर मुख्य समारोह हेतु बैठक व्यवस्था, मंच निर्माण, बेरीकेट्स तथा सुरक्षा आदि की व्यवस्था का जायजा लेते हुए अंतिम रिहर्सल का निरीक्षण किया और उपस्थित सभी अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। कौशल ने समारोह के दौरान होने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रमों में शामिल स्कूली बच्चों को बारिश की स्थिति में भीगने से बचाने के लिए भी वाटरपु्रफ टेंट की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। उन्होंने सांस्कृतिक कार्यक्रमों के प्रभारी जिला शिक्षा अधिकारी सतीश पाण्डेय को कहा कि कार्यक्रम के दौरान बारिश होने पर सांस्कृतिक कार्यक्रम को बीच में रोक दिया जाये ताकि बच्चे बारिश में भीग न जायें और उनका स्वास्थ्य खराब न हो जाये। कलेक्टर ने मुख्य कार्यक्रम स्थल पर आयोजित होने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रम, पीटी प्रदर्शन एवं अन्य तैयारियों का निरीक्षण किया। कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक ने सलामी परेड का निरीक्षण किया। कलेक्टर ने सांस्कृतिक कार्यक्रमों के आयोजन में स्वतंत्रता दिवस समारोह की गरिमा का ध्यान रखने के निर्देश सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रभारी को दिए। 

 

05-08-2019
राष्ट्रीय प्रदर्शनी की तैयारियों को लेकर स्कूल शिक्षा प्रमुख सचिव ने ली बैठक

रायपुर।  बच्चों के लिए 46वीं जवाहर लाल नेहरू राष्ट्रीय विज्ञान, गणित एवं पर्यावरण प्रदर्शनी का आयोजन छत्तीसगढ़ में किया जाएगा। स्कूल शिक्षा विभाग और राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद के सहयोग से राजधानी रायपुर के शंकर नगर स्थित बीटीआई ग्राउंड में 15 से 20 अक्टूबर तक राष्ट्रीय प्रदर्शनी का आयोजन किया जाएगा। प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा गौरव द्विवेदी की अध्यक्षता में आज सिविल लाइन स्थित छत्तीसगढ़ इंफोटेक प्रमोशन सोसायटी (चिप्स) के स्टेट डाटा सेंटर में आयोजन की तैयारियों के संबंध में बैठक आयोजित की गई। बैठक में बताया गया कि प्रदर्शनी में देशभर के लगभग 200 मॉडल प्रदर्शन के लिए आएंगे। प्रदर्शनी के मॉडल का विषय 'जीवन की चुनौतियों के लिए वैज्ञानिक समाधन' पर आधारित होगा। उप विषयों में कृषि एवं जैविक खेती, स्वास्थ्य एवं स्वच्छता, संसाधन प्रबंधन, अपशिष्ट प्रबंधन, परिवहन और संचार और गणितीय प्रतिरूपण को भी सूचीबद्ध किया गया है। प्रदर्शनी में देशभर से लगभग 400 विद्यार्थी और 200 शिक्षकों की प्रतिभागिता होगी। प्रदर्शनी के अतिरिक्त प्रतिदिन समसामायिक और अन्य विषयों पर ख्यातिलब्ध वैज्ञानिकों का व्याख्यान भी होगा।  प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा गौरव द्विवेदी ने बैठक में कहा कि राष्ट्रीय प्रदर्शनी में सभी जिलों से चयनित बच्चों को बुलाया जाए। संस्कृति एवं पुरातत्व विभाग के अधिकारी को छत्तीसगढ़ी संस्कृति पर आधारित सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुति के लिए निर्देश दिए। कलेक्टर रायपुर डॉ. एस. भारतीदासन ने कहा कि जिला स्तर पर बैठक लेकर आयोजन के संबंध में सभी आवश्यक व्यवस्थाओं की जिम्मेदारी तय करके अवगत करायेंगे। बैठक में संचालक लोक शिक्षण एस. प्रकाश, संचालक राज्य शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद पी.दयानंद, संयुक्त सचिव स्कूल शिक्षा सौरव कुमार, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक रायपुर शेख आरिफ हुसैन, अतिरिक्त संचालक राज्य शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद डॉ. सुनीता जैन, राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद में विज्ञान एवं गणित शिक्षा विभाग के अध्यक्ष प्रोफेसर दिनेश कुमार, डॉ. आशीष कुमार श्रीवास्तव सहित स्कूल शिक्षा विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804