GLIBS
20-12-2019
जासूसी के आरोपी नौसैनिक और हवाला कारोबारी गिरफ्तार

नई दिल्ली। खुफिया एजेंसियों और नौसेना की खुफिया इकाई ने पाकिस्तान के लिए जासूसी करने वाले एक बड़े रैकेट का भंडाफोड़ किया है। देश के अलग-अलग हिस्सों में की गई संयुक्त कार्रवाई में 7 नौसैनिक और हवाला कारोबारी को गिरफ्तार किया गया है। पाकिस्तान के लिए जासूसी करने वाले नौसैनिक मुंबई, विशाखापट्टनम और करवड़ नौसैनिक अड्डे पर तैनात थे। इस संयुक्त कार्रवाई को आंध्र प्रदेश की राज्य खुफिया इकाई के सहयोग से अंजाम दिया गया। आगे की जांच जारी है। आंध्र प्रदेश राज्य खुफिया संस्था ने केंद्रीय खुफिया एजेंसियों और नौसैनिक खुफिया की मदद से देश के विभिन्न हिस्सों में शुक्रवार को इस कार्रवाई को अंजाम दिया। इस पूरे ऑपरेशन का नाम 'डॉल्फिन नोज' रखा गया था। कुछ संदिग्धों से और पूछताछ की जा रही है। शुक्रवार को सभी आरोपियों को विजयवाड़ा में एनआईए कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उन्हें 3 जनवरी तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। गौरतलब है कि पूर्वी नौसैनिक कमांड का मुख्यालय विशाखापट्टनम है।

 

29-08-2019
दिल्ली में आईएसआई के दो आतंकियों के घुसने की जानकारी, खुफिया एजेंसियों ने जारी किए स्केच

नई दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली में आतंकी साजिश को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के विरोध में दिल्ली समेत भारत के अन्य हिस्सों में किसी भी सूरत में आतंकी हमला करवाना चाहती है। खुफिया एजेंसियों को जानकारी मिली है कि आईएसआई के दो आंतकी दिल्ली में घुस गए हैं। सुरक्षा एजेंसियों ने दोनों आंतकियों की तस्वीरें जारी की है और उनकी तलाश कर रही है। जानकारी मिलने के बाद दिल्ली में आईजीआई एयरपोर्ट समेत भीड़भाड़ वाली जगहों व बाजारों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। दिल्ली में जिला डीसीपी खुद बाजारों समेत अन्य जगहों पर पेट्रोलिंग कर रहे हैं। इसके अलावा सुरक्षा एजेंसियों को यह भी जानकारी मिली है कि गुजरात के कांडला पोर्ट पर एक आतंकी को कमांडो ट्रेनिंग के लिए भेजा गया है। जानकारी मिलते ही कोंडला पोर्ट पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है। पोर्ट की का जायजा लिया जा रहा है।
बता दें कि जम्मू-कश्मीर पर केंद्र सरकार द्वारा आर्टिकल 370 पर लिए गए फैसले के बाद से ही देश में आतंकी साजिश की संभावना के मद्देनज़र सुरक्षा एजेंसिया पूरी तरह तैयार हैं। ऐसा माना जा रहा है कि कश्मीर के मुद्दे से ध्यान भटकाने के लिए पाकिस्तान की तरफ से भारत में आतंकी हमले को अंजाम दिया जा सकता है।

25-08-2019
श्रीलंका के रास्ते भारत में घुसे लश्कर-ए-तैयबा के संदिग्ध पकड़े गए 

नई दिल्ली। पुलिस ने केरल और तमिलनाडु में लश्कर-ए-तैयबा के ऐसे कई आतंकियों को हिरासत में लिया है, जो श्रीलंका से भारत में घुसे थे और देश भर में बड़ी आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने की फिराक में थे। तमिलनाडु में पुलिस ने छह ऐसे व्यक्तियों को हिरासत में लिया है, जो लश्कर से ताल्लुक रखते थे और श्रीलंका के रास्ते देश की सीमा में दाखिल हुए थे। कोयंबटूर में भी तीन संदिग्ध लोगों को हिरासत में लिया गया है। इनके भी रिश्ते लश्कर-ए-तैयबा से थे। केरल और तमिलनाडु की पुलिस को हाई अलर्ट पर रखा गया है। केरल पुलिस ने इसी कड़ी में एक ऐसे व्यक्ति को भी पकड़ा है जो 2 दिन पहले ही बहरीन से लौटा है। इस धरपकड़ के बाद भारत और श्रीलंका से सटे समुद्र तटीय इलाकों में चौकसी बढ़ा दी गई है। नौसेना हाई अलर्ट पर है।

हर संदिग्ध व्यक्ति की पूछताछ की जा रही है। खासतौर पर मन्नार की खाड़ी और पाल्क स्ट्रेट पर नौसेना और कोस्ट गार्ड दोनों ही चौकन्ना निगाहें रखे हुए हैं। इससे पहले श्रीलंका में हुए आतंकी हमलों का संबंध तमिलनाडु और केरल में बैठे आतंकियों के सिंडिकेट से पाया गया था। खुफिया एजेंसियों को शक है कि श्रीलंका के बाद यही सिंडिकेट भारत में आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने की फिराक में है और इसके पीछे पाकिस्तान की बदनाम खुफिया एजेंसी आईएसआई का दिमाग है। खुफिया जानकारी के मुताबिक ये आतंकी तमिलनाडु और केरल के जरिए देश के दूसरे हिस्सों में घुसपैठ करने की फिराक में थे। दिल्ली भी इनके निशाने पर थी। अब इस बात की छानबीन की जा रही है कि क्या इस सिंडिकेट के दूसरे आतंकी पहले ही अपने मिशन पर निकल चुके हैं? इस बीच केरल और तमिलनाडु में मंदिर मस्जिद और गिरजा घरों की सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है।

25-05-2019
नतीजों से बौखालाया दाऊद, आईएसआई से जान बचाने मदद की लगाई गुहार 

नई दिल्ली। खुफिया एजेंसियों के सूत्रों की मानें तो लोकसभा चुनाव 2019 के नतीजे देखकर पाकिस्तान में छिपे अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम कासकर के पैरों तले जमीन खिसक गई है। पिछले 5 सालों में दाऊद और उसके कई साथियों के पर काट देने के बाद छटपटा रहे दाऊद को उम्मीद थी कि लोकसभा चुनाव में पीएम मोदी की दोबारा ताजपोशी ना होकर डी कंपनी के अच्छे दिन आएंगे, लेकिन लोकसभा चुनाव में बीजेपी की ऐतिहासिक जीत देखने के बाद अंडरवर्ल्ड डॉन बेहद खौफजदा है।

सूत्रों ने यह दावा किया है। सूत्रों का यह भी दावा है कि नतीजे आने के बाद बौखलाए दाऊद ने गुरुवार देर रात आनन-फानन में पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के एक वरिष्ठ अधिकारी और दो रिटायर्ड अधिकारियों को फोन लगाकर अपनी चिंता जाहिर की। सूत्रों के मुताबिक, इस बातचीत के दौरान उसने मोदी की बढ़ती लोकप्रियता के अलावा अमेरिका और इजरायल जैसे देशों के साथ पीएम मोदी के बेहतर रिश्तों का जिक्र किया और आईएसआई से उसकी जान बचाने के लिए मदद की गुहार लगाई।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804