GLIBS
02-10-2020
पुस्तक, गणवेश और साइकिल नहीं मिलने पर करें शिकायत, संभागवार नंबर जारी

रायपुर। राज्य के स्कूलों में जिस किसी भी पात्र विद्यार्थी को निःशुल्क पाठ्य पुस्तकें, सायकल प्राप्त नहीं हुई हो, वे विद्यार्थी सीधे संभाग स्तर पर संभागीय संयुक्त संचालक या राज्य स्तर पर स्कूल शिक्षा विभाग की ओर से जारी निर्धारित मोबाइल नंबर पर अपनी शिकायत-सूचना दे सकते हैं। इसके लिए विद्यार्थी को निर्धारित मोबाइल या वाट्सअप नंबर पर अपनी जानकारी नाम, कक्षा, स्कूल का नाम, प्राचार्य या प्रधान पाठक का नाम और मोबाइल नंबर, संकुल प्रभारी का नाम और मोबाइल नंबर आदि का उल्लेख करते हुए कार्यालयीन दिवस में सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक सीधे शिकायत के संबंध में सूचना दी जा सकती हैं। इसी तरह यदि छत्तीसगढ़ राज्य हाथकरघा विकास एवं विपणन सहकारी संघ के माध्यम से जिन पात्र विद्यार्थियों को 15 अक्टूबर तक निःशुल्क गणवेश प्राप्त नहीं होता है तो वे भी इस सुविधा का लाभ उठाते हुए सीधे अपनी शिकायत-सूचना दे सकते हैं।

संचालक लोक शिक्षण जितेन्द्र शुक्ला ने यह जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि ऐसे पात्र विद्यार्थियों को निःशुल्क पाठ्य पुस्तकें, गणवेश और साइकिल उपलब्ध कराने के लिए शीघ्र समाधान किया जाएगा। स्कूल शिक्षा विभाग ने इस संबंध में पारदर्शी व्यवस्था करते हुए संभाग और राज्य स्तर पर शिकायती सूचना देने के लिए मोबाइल नंबर जारी किए हैं। रायपुर संभाग के जिलों के लिए मोबाइल नंबर 94252-43013, बिलासपुर संभाग के जिलों के लिए 94255-25605, सरगुजा संभाग के जिला के लिए 94252-54035, दुर्ग संभाग के जिलों के लिए 79749-52383, बस्तर संभाग के जिलों के लिए 79995-77458 और राज्य स्तरीय मोबाइल नंबर 94241-82664 या 98279-72577 पर संपर्क किया जा सकता है। प्रदेश में संचालित सभी शासकीय और अनुदान प्राप्त स्कूलों में कक्षा पहली से दसवी तक सभी पंजीकृत विद्यार्थियों को हिन्दी और अंग्रेजी माध्यम (छत्तीसगढ़ बोर्ड) की निःशुल्क पाठ्य पुस्तकें छत्तीसगढ़ पाठ्य पुस्तक निगम के माध्यम से और वर्ष 2019-20 के लिए शासकीय और अनुदान प्राप्त शालाओं के कक्षा नवमीं में अध्ययनरत बालिकाओं को निःशुल्क सरस्वती सायकल 30 सितंबर  तक प्रदान की जा चुकी है।

25-07-2020
दीपक बैज और राजमन बेंजाम ने बांटी छात्राओं को साइकिल

जगदलपुर। बस्तर साँसद दीपक बैज व चित्रकूट विधायक राजमन बेंजाम ने बड़े किलेपाल,बास्तानार,मुतनपाल,कापानार,बागमुंडी,काकलुर, कुमापारा की 68 छात्राओं को  साइकिल का वितरण किया। साइकिल सरस्वती साइकिल योजना के तहत छात्राओं को निशुल्क बांटी गई। इस दौरान जनपद पंचायत अध्यक्ष श्यामबती ठाकुर,उपाध्यक्ष बंको भास्कर,जनपद सदस्य दुला कवासी, बुधराम कवासी, रोजवीन दास,अनुराग महतो, उपसरपंच जगबन्धु ठाकुर, दिनेश ठाकुर, मेहतर नाग, ब्रिज नारायण, रामसाय बघेल, मासोराम, देवेन्द्र ठाकुर, बुधराम ठाकुर,लक्ष्मण कर्मा सहित कार्यकर्ता उपस्थित थे।

09-07-2020
सोरम के जंगल में मिली फंदे से लटकी हुई युवक की लाश

धमतरी। ग्राम सोरम के जंगल में युवक संदीप नेताम का शव फाँसी के फंदे पर लटकता हुआ मिला। मिली जानकारी के अनुसार वह 6 तारीख से घर से निकला था, उसके बाद आज उसका शव मिला है। पास ही उसकी साइकिल और चप्पल भी पड़ी है। रुद्री थाना प्रभारी युगल किशोर नाग ने बताया कि पुलिस मर्ग कायम कर मामले की जांच कर रही है। मामला आत्महत्या का प्रतीत हो रहा है।

07-07-2020
कांग्रेस ने मोदी बीजेपी योजना लागू कर किया प्रदर्शन, बाइक के बदले दी साइकिल

रायपुर। प्रदेश और शहर कांग्रेस कमेटी के निर्देशानुसार ब्लॉक कांग्रेस कमेटी की ओर से बढ़ते पेट्रोल,डीजल के दामों को लेकर केन्द्र सरकार के खिलाफ लगातार धरना प्रदर्शन जारी है। प्रदर्शन के क्रम में 6वें दिन मंगलवार को गुरू घासीदास प्लाजा के सामने धरना दिया गया। शहर प्रवक्ता बंशी कन्नौजे ने बताया कि धरना स्थल पर विरोध स्वरूप मोदी बीजेपी नामक एक योजना लागू की गई,जिसमें मोटर साइकिल के बदले साइकिल दी गई। धरना स्थल में एक तरफ बाइक तो दूसरी तरफ साइकिल रखकर प्रदर्शन किया गया। साथ ही बैनर पोस्टर से कच्चे तेल और भारत में पेट्रोल,डीजल की कीमतों का अंतर आम जनता को बताया गया।

धरना प्रदर्शन को संबोधित करते हुए राज्यसभा सांसद छाया वर्मा, विधायक विकास उपाध्याय,शहर अध्यक्ष गिरीश दुबे ने केन्द्र सरकार पर निशाना साधा। आरोप लगाया है कि केन्द्र में बैठी मोदी सरकार पेट्रोल डीजल के दाम बढ़ाकर आम जनता से वसूली कर विधायक खरीदने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ के भाजपा नेता पेट्रोल,डीजल के बढ़े दामों को लेकर प्रदर्शन करते थे,लेकिन आज वो गायब हैं। गिरीश दुबे ने भाजपा के नेताओं पर आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा नेता मोदी से डरते हैं, इसलिए बढ़ते हुए पेट्रोल डीजल के दामों पर चुप्पी साधे हुए हैं। इस कोरोना काल में भी आम जनता के बीच नजर नही आ रहे हैं।

कार्यक्रम में ज्ञानेश शर्मा, प्रमोद चौबे, धनंजय ठाकुर, सुरेश चन्नावर, सुन्दर जोगी, रितेश त्रिपाठी, मणीराम साहू, घनश्याम छत्री, प्रकाश जगत, अन्नु राम साहू, प्रदीप उपाध्याय, बबलू गुप्ता, दरबार सिंह ठाकुर, दिलीप अग्रवाल, हनुमंत साहू, सुनीता शर्मा, दाउलाल साहू, भागवत साहू, योगेश तिवारी, कामत साहू, रामू हरपाल, तरूण श्रीवास, विकास अग्रवाल, दया सागर सोना, नितिश शर्मा, संगीता दुबे, भीम यादव, यश साहू, शीत श्रीवास, शेखर साहू, मो. जाफर, हितेश गायकवाड़, सरिता शर्मा, संदीप सिरमौर, रोहित साहू, हसन डहरिया, हेमलाल सेन सहित कार्यकर्ता उपस्थित थे।

 

01-07-2020
विधायक और जिला कांग्रेस अध्यक्ष साइकिल चलाते हुए पहुंचे तहसील कार्यालय,तहसीलदार को सौंपा राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन

 

बिलासपुर। प्रदेश कांग्रेस कमेटी एवं जिला कांग्रेस कमेटी (ग्रामीण) बिलासपुर के निर्देश पर तखतपुर ब्लाक कांग्रेस एवं नगर कांग्रेस कमेटी के आह्वान पर तखतपुर में केन्द्र सरकार की जनविरोधी नीतियों और पेट्रोल, डीजल व रसोई गैस के दामों में लगातार की जा रही मूल्य वृद्धि के विरोध में धरना-प्रदर्शन पुराना बस स्टैंड तखतपुर में आयोजित किया गया। उसके पश्चात विधायक रश्मि सिंह एवं जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष विजय केशरवानी ने साइकिल से जाकर राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन तहसीलदार को सौंपा। धरना प्रदर्शन को संबोधित करते हुए रश्मि सिंह ने कहा कि जब देश कोरोना वायरस से जूझ रहा है तब ऐसे विपरीत समय में केन्द्र की मोदी सरकार लगातार कीमतें बढ़ा रही है। जबकि क्रूड ऑयल का रेट सस्ता है। अभी किसानी का समय भी है। डीजल और पेट्रोल की कीमतों में वृद्धि का सीधा बोझ किसानों को झेलना पड़ रहा है। मध्यम वर्ग के लोगों को केन्द्र की सरकार चैन से ज़ीने नहीं दे रही है। इस अवसर पर पुष्पा श्रीवास, मुन्ना श्रीवास, शारदा साहू, परमजीत कौर हूरा, टेकचंद कारडा, मुकीम अंसारी, कैलाश देवागन, हेमंत कश्यप, उमेद सिंह ठाकुर,नारायण सिंह, जलेश साहू, अजय लूथर, नटटू जायसी, घनश्याम जागडे, संदीप खाणडे  नरेश पात्रे, संजीव बघेल, पवन पाण्डेय, अभिषेक पाण्डेय,हरविंदर सिंह,  मोहित सिंह, जितेन्द्र सूर्यवंशी, संजय गुप्ता, दशरथ सेमर, अमृत सिगरौल सहित सैकड़ो कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

29-06-2020
साइकिल चलाकर और ट्रक खींचकर कांग्रेस ने केन्द्र सरकार के खिलाफ किया प्रदर्शन

रायपुर। पेट्रोलियम पदार्थों के मूल्य वृद्धि के खिलाफ प्रदेशभर के जिला मुख्यालयों में कांग्रेस ने हल्ला बोला। राजधानी के बूढ़ातालाब धरना स्थल पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम के नेतृत्व में बड़ी संख्या में कांग्रेसियों ने विरोध प्रदर्शन किया। मंत्री, विधायक से लेकर कार्यकर्ता बड़ी संख्या में जुटे। प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम के साथ कांग्रेसी साइकिल पर निकले तो विधायक विकास उपाध्याय ने ट्रांसपोर्टरों के साथ ट्रक खींचकर विरोध जताया। कांग्रेस नेता ने केन्द्र सरकार के खिलाफ जमकर भड़ास निकाली। कांग्रेसी साइकिल से पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह को साइकिल भेंट करने निकले। पुलिस प्रशासन ने सप्रै शाला के समीप रोकन के लिए पूरी व्यवस्था कर रखी थी। यहां पर एसडीएम को ज्ञापन सौंपा गया। उल्लेखनीय है कि सोमवार को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम के कार्यकाल का भी 1 साल पूरा हुआ है।

25-06-2020
सरस्वती साइकिल योजना के तहत 41 छात्राओं को किया गया साइकिल वितरण

गरियाबंद। बालिका शिक्षा को विशेष में ध्यान में रखते हुए छत्तीसगढ़ सरकार ने छात्राओं को पढ़ाई में असुविधा ना हो उसके लिए सरस्वती साइकिल योजना के तहत छात्राओं को साइकिल वितरण किया गया जा रहा है। गरियाबंद जिले के शासकीय हाई स्कूल मालगांव के 41 छात्राओं को सरपंच पार्वती ध्रुव के हाथों साइकिल वितरण किया गया। सरस्वती साइकिल वितरण कार्यक्रम का शुरुआत सरस्वती माता की पूजा अर्चना के बाद सरपंच ने अपना उद्बोधन दिया और बच्चों को अच्छी पढ़ाई करने के लिए प्रेरित भी किया गया। साथ ही प्रधानाचार्य सतीश तिवारी ने भी बच्चों को साइकिल नहीं होने के कारण आने वाली परेशानियों के बारे में भी अवगत कराया गया। छात्रा हिना यादव, मीरा निषाद ने बताया कि साइकल मिलने से हम बहुत खुश है और अब हमें  पढ़ाई करने के लिए स्कूल आने जाने में असुविधा नहीं होगी और हम अच्छे से पढ़ाई कर सकेंगे।

17-06-2020
Video: बांट रहे थे घटिया साइकिल, बालिकाओं ने लेने से किया मना, पालकों में रोष

कवर्धा। पूरे जिले में प्रदेश सरकार द्वारा सरस्वती साइकिल योजना के तहत साइकिल का वितरण किया जा रहा है। लेकिन इस साइकिल की क्वालिटी ठीक नहीं है। पंडरिया विकासखंड के ग्राम परसवार के शासकीय हाईस्कूल में 16 जून को स्कूल प्रबंधन द्वारा छात्रों को साइकिल वितरण करने के लिए स्कूल बुलाया गया था। साथ में क्षेत्रिय जनप्रतिनिधियों व पालकों को भी बुलाया गया था।परंतु साइकिल वितरण के पूर्व ही छात्रों व पालकों के द्वारा साइकिल के जर्जर स्थिति को देखेते हुए लेने से मना कर दिया गया। इसके बाद सभी बालिकाओं ने ज्ञापन सौंपकर अच्छी क्वालिटी देने की मांग की गई ताकि उनका उपयोग किया जा सके। वही उपस्थित जनपद पंचायत प्रतिनिधि रवि चंद्रवंशी के द्वारा भी साइकिल की स्थिति का जायजा लिया गया,जहाँ वास्तविक रूप से साइकिल जर्जर स्थिति में मिली। सभी साइकिलों के टायर पंचर मिले व रिंग बैंड था। वहा उपस्थित जनप्रतिनिधियों,पालको व छात्रों ने सरकार से मांग की है कि छात्रों को दी जाने वाली साइकिल को बदलकर नई साइकिल दी जाए।

वर्जन :

जिले में सरस्वती साइकिल योजना के तहत साइकिल वितरण किया गया है। अधिक दिनों से साइकिल रखे होने के कारण कुछ पंचर हुई होगी। खराब साइकिल वितरण करने से मना कर दिया गया है।
( केएल महिलांगे, जिला शिक्षा अधिकारी कबीरधाम )

10-06-2020
कोविड-19 की वजह से जापान ने साइकिल चलाने वालों के लिए बनाए ‘अजीब से नियम’

नई दिल्ली। पूरी दुनिया में कोरोना वायरस से हाहाकार मचा है। कोरोना के कारण लोगों के दैनिक जीवन में परिवर्तन आ गया है। लोग सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने के लिए बस और ट्रेन का इस्तेमाल कम कर रहे है और साइकिल चलाना ज्यादा पंसद कर रहे हैं। कई अन्य देशों की तरह जापान में भी महामारी के दौरान साइकिल इस्तेमाल करने वालों की संख्या में वृद्धि हुई है। क्योंकि दफ़्तर आने-जाने के लिए लोग भीड़भाड़ वाली बसों या मेट्रो ट्रेनों के इस्तेमाल से बच रहे हैं। नौबत ये है कि जापान प्रशासन को साइकिलिंग से संबंधित कुछ दिशा-निर्देश जारी करने पड़े हैं। इनके अनुसार सड़क पर चलते समय साइकिल की घंटी बजाने पर प्रतिबंध है, बेवजह ब्रेक लगाने पर प्रतिबंध है, पैदल चलने वालों का रास्ता जाम करने पर रोक है। प्रशासन ने ये दिशा-निर्देश यह कहते हुए जारी किए हैं कि इससे लोगों की सेफ़्टी सुनिश्चित की जा सकेगी। 30 जून से ये नियम लागू होंगे। इनके अनुसार 14 साल से अधिक उम्र वाले किसी साइकिल चालक को बेवजह घंटी बजाने पर 500 अमरीकी डॉलर का चालान भरना पड़ सकता है। साथ ही प्रशासन द्वारा तैयार किया गया एक ट्रैफ़िक सेफ़्टी कोर्स भी करना पड़ सकता है। जापान में सोशल मीडिया पर इन नियमों का मज़ाक बनाया जा रहा है। काफ़ी लोग इन नियमों को अजीब मान रहे हैं।

31-05-2020
साइकिल से घर जा रहे मजदूर पर गिरा लोहे की पाइप, इलाज के दौरान मौत

रायपुर। शहर के खमतराई क्षेत्र के रावांभाठा में तीन दिन पहले एक मजदूर पर ट्रक में लदी लोहे की पाइप गिर जाने से वह गंभीर रूप से घायल हो गया था, जिसका आंबेडकर अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हो गई। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक मजदूर कैलाश राजभर निवासी बिरगांव 28 मई को रात 8 बजे काम खत्म कर साइकिल से घर जा रहा था। बंजारी रावांभाठा स्थित इंजन इस्पात के सामने से तेज रफ्तार में गुजर रही लोहे के पाइप से लदी ट्रक क्रमांक सीजी 04 एमयू 2255 से उछलकर कई पाइप कैलाश के ऊपर गिर गई। इसमें दबकर वह गंभीर रूप से घायल हो गया। घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने लोगों की मदद से घायल मजदूर को अस्पताल पहुंचाया, जहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। पुलिस ने मामले में आरोपी ट्रक चालक के खिलाफ धारा 304 (ए) के तहत अपराध पंजीबद्ध कर लिया है।

24-05-2020
यूपी से ओडिसा के लिए साइकिल पर निकले श्रमिक,700 किमी का सफर किया तय,मंजिल अभी 250 किमी दूर

रायगढ़। मजदूरों की घर वापसी के लिए अलग से ट्रेन एवं बस चलाई जा रही हैं तो वहीं दूसरी तरफ हजारों मजदूर ऐसे भी हैं जो कि पैदल और साइकिल से सैकड़ों किलोमीटर की यात्रा कर अपने घर पहुंच रहे हैं। ऐसा ही साइकिल से सैकड़ों किलोमीटर यात्रा कर ओडिसा जाने वाले दर्जनभर मजदूर रविवार को रायगढ़ शहर में दिखे।  यह सभी ओडिसा के रहने वाले हैं,जो कि उत्तर प्रदेश के भदोही जिले में काम करते थे। लॉक डाउन होने के कारण काम धंधा बंद होने से और कोई साधन नहीं मिलने से यह सभी अपनी अपनी साइकिल से ही उत्तर प्रदेश से ओडिसा के लिए रवाना हो गए। बातचीत में श्रमिकों ने बताया उत्तर प्रदेश पर आ रहे हैं करीब 700 किलोमीटर साइकिल चला चुके हैं और 250 किमी साइकिल चलाना है। सभी ओडिसा के बलांगीर जिले के रहने वाले हैं। यह लगभग 7 दिन साइकिल चलाने के पश्चात रविवार को रायगढ़ पहुंचे हैं। साइकिल सवारों ने बताया कि बीच-बीच में कई जगह पुलिस के कर्मचारियों ने भोजन एवं बिस्कुट पैकेट और पानी दिया। स्वास्थ्य जांच के बारे में श्रमिकों ने बताया कि उनकी कई जगह पर मेडिकल जांच की गई है।

 

23-05-2020
साइकिल पर पिता को बिहार ले जाने वाली ज्योति कुमारी को मिला बड़ा मौका, अब बन सकती है 'सुपरस्टार', पढ़ें पूरी खबर...

नई दिल्ली। बिहार की 15 वर्षीय बेटी ज्योति कुमारी की हिम्मत को देश में ही नहीं बल्कि विदेश में भी सराहा जा रहा है। बीते दिन पहले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की बेटी और सलाहकार इवांका ट्रंप ने ज्योति कुम्हारी की हिम्मत को सराहा। अब ज्योति को एक बड़ा मौका मिला है। दरअसल बिहार की रहने वाली ज्योति अपने बीमार पिता को साइकिल पर बैठाकर दिल्ली से बिहार के बीच की दूरी तय की थी। अब उसी खबर से संबन्धित एक अच्छी खबर आई है।
भारतीय साइकिलिंग महासंघ के निदेशक वीएन सिंह ने लॉक डाउन में अपने पिता को साइकिल पर बैठाकर ग्रुरुग्राम से बिहार के दरभंगा पहुंची। ज्योति को क्षमतावान करार देते हुए कहा है कि भारतीय साइकिलिंग महासंघ उसे एक ट्रायल का मौका देगा और अगर वह सीएफआइ के पैमाना पर थोड़ी भी खरी उतरती हैं तो उसे विशेष ट्रेनिंग और कोचिंग मुहैया कराई जाएगी।

बताया जा रहा है कि बिहार की रहने वाली ज्योति लॉक डाउन में अपने पिता मोहसन पासवान को साइकिल पर बैठकर 1000 किमी से ज्यादा की दूरी महज 8 दिन में तय करके ग्रुरुग्राम से बिहार के दरभंगा पहुंची थी। ज्योति रोजाना 100 से 150 किमी साइकिल चलाई थी। दरअसल भारतीय साइकिलिंग महासंघ के निदेशक वीएन सिंह ने कहा कि महासंघ हमेशा प्रतिभावान खिलाड़ियों की तलाश में रहता है और अगर ज्योति में क्षमता है तो उसकी पूरी मदद की जाएगी। आगे उसे ट्रेनिंग और कोचिंग शिविर में डाल सकते हैं। हालांकि उससे पहले हम ज्योति की प्रतिभा को परखेंगे। अगर वह हमारे मानकों पर खरी उतरती है तो उसकी पूरी सहायता करेंगे।

विदेशों से मंगाई गई साइकिल पर उसे ट्रेनिंग दी जाएगी। गौरतलब है कि वीएन सिंह ने स्वीकार किया है कि 15 साल की बच्ची के लिए रोजाना 100 किमी से अधिक साइकिल चलाना आसान काम नहीं है। हालांकि यह बात मैं मीडिया में आई खबरों के आधार पर ही बोल रहा हूं लेकिन अगर उसने सचमुच ऐसा कुछ किया है तो वह काफी सक्षम है। बता दें कि ज्योति के पिता गुरुग्राम में रिक्शा चलाते थे और उनके दुर्घटना का शिकार होने के बाद वह अपनी मां और जीजा के साथ गुरुग्राम आई थी और फिर पिता की देखभाल करने के लिए वहीं रुक गई। इसी बीच देश में राष्ट्रव्यापी लॉक डाउन की घोषणा हो गई और ज्योति के पिता का काम रुक गया। ऐसे में ज्योति ने अपने पिता के साथ साइकिल पर अपने मूल राज्य जाने का निर्णय लिया। मिली जानकारी के अनुसार अपने घर में ही पृथकवास का समय काट रही ज्योति ने कहा है कि अगर उन्हें मौका मिलता है तो वह ट्रायल के लिए तैयार है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804