GLIBS
सोना-चांदी सफाई करने के बहाने ठगी करने वाले 6 आरोपी गिरफ्तार

सरायपाली। सोना-चांदी सफाई करने की आड़ में  ठगी करने वाले पुलिस ने  बिहार के  6 सदस्यी गैंग को गिरफ्तार किया है। पुलिस पकड़े गए आरोपियो के कब्जे से  सोना व चादी के जेवरात एवं मोटर सायकल  सहित छह लाख रुपए के समान जब्त किया है। पुलिस ने ठगी के आरोप में  बिहार, भागलपुर निवासी सुमन कुमार शाह, नीरज कुमार शाह प्रवेश कुमार शाह, ललन शाह, अमित कुमार गुप्ता और रोशन कुमार शाह को ठगी के आरोप में गिरफ्तार किया है। पकड़े गए ठगों ने पूछताछ में  पुलिस को बताया है कि वो छत्तीसगढ़ के अलावा देश के कई और राज्यों में ठगी की घटना को अंजाम दिया है। 

पुलिस के मुताबिक सरायपाली निवासी मुकेश अग्रवाल थाने में पांच जून को रिपोर्ट दर्ज कराया था कि उसके घर में  दो युवक टाईल्स सोना, चॉदी के जेवर और बर्तन सॉफ करने का झांसा देकर ठगी किया है।  ठग अपने आपको उजाला कंपनी का कर्मचारी होना बताया। मुकेश की मां कांता अग्रवाल ठगों के झांसे में आ गई और घर में रखे जेवर उन्हें साफ करने के लिए दे दी। ठगों ने महिला की आंखों में धूल झोंककर असल की जगह नकली जेवर थमा के वहां से फरार हो गए। 

क्राईम ब्रॉच की टीम मुखबिर की सूचना पर पहले  दो संदिग्ध युवक को सरायपाली में ही दबोच लिया। उनके पकड़े जाने के बाद ठगों ने पूछताछ में अपने अन्य साथियों के बारे में जानकारी दी।  पुलिस गिरफ्त में आए गिरोह के बदमाश टाईल्स, सोने, चॉदी के जेवर व बर्तन सॉफ करने के बहाना कर लोगों को ठगी का शिकार बनाते हैं। पकड़े गे बदमाशों ने पुलिस को जानकारी दी है कि उसके गिरोह के लोगों ने राज्य के अन्य शहरों में इस तरह से ठगी के कई घटनाओं को अंजाम दे चुके हैं। 

पार्किंग विवाद पर युवक की हत्या करने वाले 6 आरोपी गिरफ्तार, नशे की हालत में दिया घटना को अंजाम

 

दुर्ग। पार्किंग विवाद पर युवक की हत्या करने वाले 6 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. एक आरोपी अब भी फरार बताया जा रहा है. आरोपियों ने प्राथमिक पूछताछ में हत्या करने जुर्म कबूल कर लिया है. आरोपियों का कहना है कि वे सभी वारदात के समय नशे की हालत में थे.

बता दें कि शहर के मोहन नगर थाना क्षेत्र अंतर्गत 6 जून की रात आरोपियों ने मिलकर धारदार हथियार, पत्थर और डंडे से दो युवकों पर हमला बोल दिया था. इस वारदात में युवक नितीश शर्मा की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई थी. वही एक अन्य युवक गंभीर रूप से घयल हो गया था. जिसका अब तक इलाज जारी है.

साथ ही यह भी बता दें कि 6 जून की रात मोहन नगर थाने के आदित्य नगर में कुशाभाऊ ठाकरे भवन के पीछे कुछ युवकों के बीच कार पार्किंग को लेकर विवाद हो गया था. इस मामूली विवाद में आरोपियों ने नशे के चलते दो युवकों पर ताबड़तोड़ हमला बोल दिया था. मोहन नगर थाना पुलिस अज्ञात आरोपियों के खिलाफ मामला पंजीबद्ध कर तलाश में जुटी हुई थी.

आबकारी विभाग की बड़ी कार्रवाई : 2000 किलो महुआ के साथ पकड़ी कच्ची शराब,6 आरोपी गिरफ़्तार

भोपाल। लंबे समय से आबकारी विभाग को मिल रही शिकायत के बाद,भोपाल आबकारी विभाग ने आज एक बड़ी कार्रवाई को अंजाम देते हुए कच्ची शराब माफियाओं के ऊपर शिकंजा कसते हुए 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। मिली जानकारी के मुताबिक भोपाल आबकारी विभाग को मुखबिर द्वारा सूचना मिली थी कि जिले के कजलीखेड़ा गांव में कई दिनों से कच्ची शराब बनाने का अवैध धंधा चल रहा है।

मुखबिर की सूचना पर अमल करते हुए जब आबकारी विभाग में कजली खेड़ा गांव में अवैध कच्ची शराब माफियाओं पर दबिश तो हो वहां से पुलिस ने 6 आरोपियों को गिरफ़्तार कर लिया। पकड़े गए आरोपियों के पास से आबकारी विभाग ने कच्ची शराब और 2000 किलो महुआ लहान भी जप्त किया है।

फरसवानी में जुआ खेलते 6 आरोपी गिरफ्तार

कोरबा। उरगा पुलिस ने जुआ खेलते 6 आरोपी को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर ग्राम फरसवानी में रेड किया। जिसमें सभी आरोपियों को जुआ खेलते दबोच लिया। पुलिस ने आरोपी फुलेश्वर राठौर,देवनारायण राठौर,नवनीत कुम्हार,राजेश राठौर,अयोद्धया राठौर,उमेश राठौर को जुआ खेलते पकड़ा। उरगा पुलिस द्वारा  6850 रुपए की जब्त कर अपराध क्रमांक 24/18 धारा 13 जुआ एक्ट की कार्यवाही की गई। 

चरोदा में हुए अंधे कत्ल का खुलासा, 6 आरोपी गिरफ्तार एक फरार

भिलाई। 15 दिनो पूर्व चरोदा जीआरपी चौकी पास हुई हत्या की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है। युवक की शिनाख्ती के बाद जांच में जुटी पुलिस को सफलता मिली और मामले में 6 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया। वहीं एक आरोपी फरार बताया जा रहा है। हत्या की वजह सवारी गाड़ी में हुआ मामूली विवाद है। मामले का खुलासा करते हुए एएसपी शशिमोहन सिंह ने बताया कि आरोपियों की पतासाजी के दौरान सूत्रों से पता चला कि कोसा नाला निवासी रियाज खान, दयाल सोनी, रामलाल व रॉकी उर्फ लक्की गुर्दे कोसानाला में ही शराब पीकर किसी को चाकू मारने की बात कर रहे थे। वे आपस में कह रहे थे कि हमने एक को चाकू मार कर निपटा दिया और पुलिस को पता भी नहीं चला। यह बात पुलिस तक पहुंची और गुप्त रूप से चारों की निगरानी की गई। इस दौरान इनके मोबाइल नंबर पता कर ट्रेस किया गया तो घटना दिनांक को इनके मोबाइल का लोकेशन वहीं पाया गया। इसके बाद संदिग्ध दयाल सोनी को पकड़कर पूछताछ की गई जिसमें उसने हत्या की बात बताई। दयाल सोनी के बताए अनुसार हत्या के आरोपी रियाज खान, रामलाल, लक्की गुर्दे सभी भिलाई व रायपुर निवासी कैलाश बाग व नवीन दास को गिरफ्तार किया गया। मामले में एक आरोपी कैंप 2 निवासी मनोज टंडन उर्फ चाटी फरार है।

एएसपी शशिमोहन सिंह ने बताया कि हत्या की वजह बेहद मामूली है। एक बाइक का सौदा कर 9 जनवरी की रात को शराब पीने के बाद दयाल सोनी, रियाज खान, रामलाल, लक्की गुर्दे, मनोज टंडन उर्फ चाटी, रायपुर निवासी कैलाश बाग व नवीन दास दो बाइक से रायपुर जा रहे थे। युको बैंक भिलाई तीन के पास एक बाइक का किक टूट गया और दूसरे बाइक का पेट्रोल खत्म हो गया। तब सभी सातों ने दोनों बाइक यूको बैंक के पास ही खड़ी कर दिया। इस दौरान वहां से गुजर रही सफेद रंग की सवारी गाड़ी को रुकवाया। सवारी गाड़ी में पहले से राजकुमार सेन व एक महिला बैठे थे। सातों गाड़ी में बैठ गए। रियाज खान सामने की सीट पर बैठ गया। राजकुमार सेन के बगल में रामलाल बैठा था जो की आदतन पॉकिटमार है। इसने राजकुमार की पॉकिट में हाथ डाला जिसे उसने देख लिया। राजकुमार ने पॉकिट मारने की बात पर रामलाल को घूंसा मार दिया और कुछ दूरी पर जीआरपी चौकी के पास ड्रायवर को बोलकर गाड़ी रुकवाई। इसके बाद गाड़ी से उतरकर राजकुमार रामलाल को पीटने लगा। यह देख सामने बैठा रियाज ने अपने पास रखी चाकू निकाली और राजकुमार के पीठ औ पेट में मार दिया। इसके बाद वही चाकू रामलाल पकड़ा और राजकुमार को मारने लगा। यह देख आटो चालक वहां से भाग गया। इधर बुरी चाकू मारने से राजकुमार की मौत हो गई। सातों ने शव को झाड़ियों के पीछे फेंक दिया और वहां से फरार हो गए। बता दें कि 10 जनवरी की सुबह जीआरपी चौकी चरोदा के पीछे झाडियों में एक युवक की रक्त रंजित लाश मिली थी। युवक के शरीर को चाकू से कई जगह गोदा गया था। सूचना के बाद पुरानी भिलाई पुलिस ने मामले में अज्ञात के खिलाफ अपराध दर्ज कर विवेचना शुरू की। शाम तक शव की शिनाख्त हो गई। मृतक की शिनाख्त राजकुमार सेन पिता रोहित सेन प्रोफेसर कॉलोनी पुरानी बस्ती रायपुर निवासी के रूप में हुई थी। उसके भाई ललित सोनी ने शिनाख्त की थी। इसके बाद मामले में आरोपियों की तलाश शुरू कर दी गई।

16 चोरी के मामलों में 2 अपचारी बालकों समेत 6 आरोपी गिरफ्तार

भिलाई। दुकानों और मंदिरों का ताला तोड़कर चोरी करने वाले गिरोह को पुलिस ने धरदबोचा है। छावनी थाना क्षेत्र के ये आदतन बदमाश पहले भी चोरी के मामलों में पकड़े जा चुके हैं। पकड़े गए आरोपियों में दो नाबालिग भी शामिल हैं। पुलिस ने चोरों के पास से नगदी रकम सहित 8 नग मोबाईल, इलेक्ट्रानिक सामान, बैटरी एवं आटो चक्का आदि बरामद किया है। अलग अलग 16 चोरी के मामलों में आरोपियों के खिलाफ धारा 457, 380, 379 के तहत कार्रवाई की जा रही है। छावनी पुलिस के अनुसार मुखबिर से सूचना मिली की कुछ युवक थाना छावनी पावर हाउस क्षेत्र मे संदिग्ध अवस्था में एलसीडी, बैैटरी, मोबाईल बेचने के फिराक में है। सूचना पर छावनी टीम तत्काल मौके पर जाकर घेराबंदी कर 4 आरोपी सहित 2 नाबालिक लड़को को पकड़कर पूछताछ की। पूछताछ करने पर सभी आरोपियो ने अपने पास मौके पर रखे इलेक्ट्रानिक सामान एवं मोबाईल तथा आटो चक्का, बैटरी को छावनी पावर हाउस भिलाई क्षेत्र के बस स्टैण्ड, टी मार्केट, फल मार्केट आदि जगहों से चोरी करना स्वीकार किया। आरोपियों के कब्जे से ढ़ाई लाख रुपए का सामान बरामद किया गया। आरोपियों में विक्रम सिह उर्फ विक्की (35) निवासी न्यु खुसीर्पार जागीर चौक, सूरजदीप उर्फ काडो(19) निवासी उडिया बस्ती पावर हाउस, बादल बैरागी (18) निवासी बैरागी मोहल्ला पावर हाउस, सनी दास(25) निवासी पुराना बस स्टैण्ड पावर हाउस भिलाई व दो अपचारी बालक शामिल हैं।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804
Visitor No.