GLIBS
05-03-2021
ध्यानाकर्षण के दौरान कृषि मंत्री ने बलौदाबाजार उप-संचालक को किया निलंबित

रायपुर। कृषि मंत्री रविंद्र चौबे ने बलौदाबजार के उप कृषि संचालक को निलंबित कर दिया है। बता दें कि निलंबन की घोषणा सदन में की गई है। ध्यानाकर्षण प्रश्न के जरिए भाजपा विधायक शिवरतन शर्मा, नारायण चंदेल, रजनीश कुमार ने बलौदा बाजार कृषि कार्यालय में उपसंचालक द्वारा राज्य सरकार की योजनाओं में अनियमितता किए जाने का प्रश्न लगाया था। ध्यानाकर्षण के दौरान कृषि मंत्री ने उप संचालक के तत्काल निलंबन की घोषणा कर दी। विधायक शिवरतन शर्मा ने आरोप लगाया है कि गलत हाइब्रिड बीज और चूना पर बगैर बिल के भुगतान ले लिया गया। उन्होंने भौतिक सत्यापन किए जाने के साथ उप कृषि संचालक को निलंबित किए जाने की मांग की। कृषि मंत्री ने कहा पूरे मामले की जांच की जाएगी। प्रथम दृष्टि में यदि गड़बड़ी पाई गई है तो उस पर सख्त कार्रवाई होगी। बीजेपी विधायकों की ओर से उठाए जा रहे सवालों के बीच कृषि मंत्री रविंद्र चौबे ने बलौदबजार के उप कृषि संचालक को निलंबित किए जाने की घोषणा सदन में की। वहीं कहा है कि मामले में कमिश्नर के माध्यम से जाँच कराई जाएगी।

 

24-02-2021
पाठ्य पुस्तक निगम ने किया डिपो प्रभारी को निलंबित, जांच दल गठित

राजनांदगांव। जिले के डोंगरगांव स्थित पेपर मिल में सरकारी पुस्तकों के कबाड़ में मिलने के मामले में पाठ्य पुस्तक निगम ने एक बड़ी कार्रवाई की है। इस मामले में  राजनादगांव डिपो प्रभारी को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। मामले की छानबीन के लिए जांच दल भी गठित किया गया है।

 

19-02-2021
महिला अधिकारी ने पहले लगाया लाखों का जुर्माना फिर मामले को दबाने के लिए मांगे  4 हजार रुपए, अब निलंबित

रायपुर। निरीक्षण के लिए शासकीय गाड़ी से खरोरा पहुंची एक महिला अधिकारी समेत दो लोगों की टीम पर रिश्वत मांगने के आरोप के बाद उन्हें निलंबित कर दिया है। दरअसल रायपुर से एक महिला अधिकारी समेत दो लोगों की टीम शासकीय गाड़ी से खरोरा पहुंची थी, जहां उन्होंने कांति देवी स्मृति अस्पताल का निरीक्षण किया और कुछ खामियां गिनाते हुए कहा कि लाखों रुपए का जुर्माना लगा दिया। फिर मामले को दबाने 4-4 हजार रुपए की रिश्वत मांगी और रायपुर वापस आ गए। इसके बाद वरिष्ठ डॉक्टर ने पूरे मामले की लिखित शिकायत इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के माध्यम से पर्यावरण मंत्री मोहम्मद अकबर से की। इसके बाद महिला साइंटिस्ट को निलंबित कर दिया गया। छत्तीसगढ़ पर्यावरण संरक्षण मंडल से रिश्वत मांगने वाले महिला साइंटिस्ट चंद्रिका कंवर पर कार्रवाई की है। महिला साइंटिस्ट को पर्यावरण मंडल से निलंबित करते हुए मुख्यालय अटैच कर दिया गया है। महिला साइंटिस्ट चंद्रिका कंवर पर आरोप था कि वे अपने एक साथी अधिकारी के साथ खरोरा के कांति देवी स्मृति अस्पताल के डा. महेंद्र देवांगन से 4-4 हजार रुपए की रिश्वत मांगी थी। मामले की शिकायत आईएमए के माध्यम से पर्यावरण मंत्री मोहम्मद अकबर से की गई।

17-02-2021
कलेक्टर ने कार्य के प्रति लापरवाह पटवारी को किया निलंबित 

रायपुर। कलेक्टर डॉ. एस.भारतीदासन ने कार्य के प्रति लापरवाही बरतने पर पटवारी को निलंबित किया है। जागेश्वर चंद्राकर पटवारी हल्का नंबर 59 ग्राम चंगोराभाठा, रायपुर कलेक्टर ने कार्रवाई की है। भुंईयां सॉफ्टवेयर में बी-1 ऑनलाइन नहीं किए जाने पर यह कार्रवाई की गई है। सुभ्रत गुप्ता ने शिकायत की थी कि पटवारी जागेश्वर चंद्राकर ने उनकी 0.0083 हेक्टेयर जमीन खसरा नंबर 143/3 को भुईया सॉफ्टवेयर में बी-1 ऑनलाइन नहीं कर रहे हैं। इस शिकायत पर पटवारी को कारण बताओ नोटिस दिया गया था। संतोषजनक जवाब नहीं दिए जाने पर कलेक्टर ने तत्काल प्रभाव से निलंबित किया है।

10-02-2021
जिपं सीईओ ने किया पंचायत सचिव को निलंबित

कवर्धा। पंडरिया जनपद पँचायत अंतर्गत ग्राम पंचायत प्राणखैरा के सचिव ने कूट रचित कर गांव के एक व्यक्ति को शिकायत प्रवत्तीय की घोषणा कर दी। इसके लिए फर्जी प्रस्ताव पारित किया गया। ग्राम पंचायत प्राणखैरा के तत्कालीन सचिव दिनेश कुमार साहू ने आवेदक अशोक सिंगरौल के विरुद्ध वर्ष 1 अप्रैल 2017 से 31 मार्च 2018 की बैठक, कार्यवाही विवरणध् प्रस्ताव कूट रचित कर शिकायत प्रवित्तीय घोषित करते हुए अपने दायित्वों में गम्भीर लापरवाही बरतने का आरोप है। उक्त आचरण छत्तीसगढ़ शासन पंचायत सेवा आचरण के विरुद्ध है। इसके कारण दिनेश कुमार साहू तत्कालीन सचिव ग्राम पंचायत प्राणखैरा व वर्तमान सचिव ग्राम पंचायत सेमरकोन को मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत कवर्धा ने प्रभाव से निलंबित कर दिया है। निलंबित अवधि में सचिव दिनेश कुमार साहू का मुख्यालय जनपद पंचायत बोड़ला रहेगा और जीवन निर्वह भत्ता की पात्रता रहेगी।

 

10-02-2021
भ्रष्टाचार के मामले में दो पटवारी निलंबित, एसडीएम रायपुर ने की कार्रवाई

रायपुर। अनुविभागीय अधिकारी रायपुर ने मंगलवार को दो पटवारियों को निलंबित किया है। पटवारी हल्का नम्बर 58 ग्राम डंगनिया विजय कुमार साहू और पटवारी हल्का नम्बर 60 ग्राम भाटागांव  भाई लाल अनंत पर अवैध रूप से लेन देन के मामले में कार्रवाई की गई है। एसडीएम ने दोनों पटवारियों के निलंबन का आदेश जारी कर दिया है। दोनों पटवारियों को जमीन नामांतरण के नाम पर पैसे मांगने और दस्तावेज ऑनलाइन करने हस्ताक्षर के पैसे वसूलने के मामले में प्रथम दृष्टया दोषी पाया गया है। दोनों पटवारियों पर यह कार्रवाई एक स्टिंग ऑपरेशन के आधार पर की गई है। एसडीएम ने दोनों पटवारियों को कारण बताओ नोटिस जारी कर जवाब मांगा था।

दोनों ने मामले में अपनी संलिप्तता से इनकार किया, लेकिन  स्टिंग वीडियो के अवलोकन से मामला प्रथम दृष्टया सत्य पाए जाने पर तत्काल दोनों को निलंबित किया गया। निलंबन की अवधि में विजय कुमार साहू पटवारी का कार्यालय धरसींवा तय किया गया है। एसडीएम ने ग्राम डंगनिया पटवारी हल्का नम्बर 58 का प्रभार सुरेश कुमार वर्मा ग्राम सरोना के पटवारी को सौंपा है। इसी तरह निलंबन अवधि में भाई लाल अनंत का मुख्यालय तहसील रायपुर तय किया गया है। एसडीएम ने ग्राम भाटागांव पटवारी हल्का नम्बर 60 तहसील रायपुर का प्रभार नरेश ठाकुर हल्का नम्बर 61ग्राम मठपुरैना को सौंपा है।

09-02-2021
पटवारी निलंबित,कार्य में लापरवाही और अवैध वसूली के मामले में एसडीएम ने की कार्रवाई

रायपुर/जशपुरनगर। एसडीएम में कार्य में लापरवाही बरतने और अवैध वसूली के मामले में पटवारी को निलंबित किया है। प्रभार  प्लासिदियुस टोप्पो, पटवारी को सौंपा गया है। निलंबन अवधि में  मुख्यालय तहसील कार्यालय कुनकुरी तय किया गया है। निलंबित अवधि में नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ता की पात्रता होगी।बता दें कि अनुविभागीय अधिकारी रवि राही के दिशानिर्देश में गत दिनों विकासखंड कुनकुरी में पंचायत सचिवों की बैठक में कार्य प्रगति की समीक्षा की गई थी। समीक्षा के दौरान पटवारी जितेन्द्र सिंह ठाकुर पटवारी हल्का नंबर1 की कई मामलों में लापरवाही उजागर हुई। गौठान निर्माण ग्राम पकरीकछार के सीमांकन कार्य में विलंब,नायब तहसीलदार कुनकुरी से प्राप्त पंचनामा के अनुसार के मुख्यालय में अनुपस्थित रहने,जाति प्रमाण-पत्र शिविर पर अनुपस्थित रहने, ग्रामवासियों से कार्य के लिए पैसे की मांग करने में आरोपी पाया गया।

 

09-02-2021
शासकीय कार्य में लापरवाही पड़ी भारी, उप अभियंता को कलेक्टर ने किया निलंबित

रायपुर/जशपुरनगर। जशपुर कलेक्टर महावेद कावरे ने विगत दिवस विकासखंड पत्थलगांव के जनपद पंचायत सभा कक्ष में पंचायत सचिवों की बैठक ली थी। बैठक में पीटर एक्का उप अभियंता, जनपद पंचायत पत्थलगांव के बैगर सूचना दिए अनुपस्थित रहने से निर्माण कार्यों की समीक्षा नहीं हो सकी। कलेक्टर ने इस तरह से शासकीय कार्य में लापरवाही बरतने के कारण उप अभियांता को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया है। निलंबन अवधि में उनका मुख्यालय कार्यपालन अभियंता, लोक निर्माण विभाग पत्थलगांव तय किया है। निलंबित अवधि में उनकोे नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ता की पात्रता होगी।

09-02-2021
कार्य में लापरवाही बरतने पर एसपी ने किया चौकी प्रभारी को निलंबित

कोरबा। एसपी ने कोरबी चौकी प्रभारी को कार्य में लापरवाही बरतने पर निलंबित कर दिया। पसान थाना के कोरबी चैकी में पदस्थ उप निरीक्षक प्रेमनाथ बघेल को पुलिस अधीक्षक अभिषेक मीणा ने निलंबित करने का आदेश जारी किया है। जारी आदेश के अनुसार थाना पसान चौकी कोरबी के उपनिरीक्षक को जांच में लापरवाही बरतने के आरोप में पुलिस अधीक्षक ने निलंबित कर दिया। 

08-02-2021
निदान 36: कलेक्टर पहुंची सलोरा, सुपरवाइजर और पंचायत सचिव को किया निलंबित

कोरबा। जिले में जनसमस्याओं के त्वरित निराकरण के लिए कलेक्टर किरण कौशल की निदान शिविर आयोजन की श्रृंखला सोमवार से शुरू हो गई। पहले दिन जिले के सभी विकासखण्डों में एक-एक क्लस्टर शिविर लगाये गये। कलेक्टर किरण कौशल स्वयं कटघोरा विकासखण्ड के सलोरा में आयोजित निदान शिविर में पहुंची और उपस्थित लोगों से उनकी समस्याओं तथा मांगो की जानकारी ली। किरण कौशल ने मौके पर ही कई मामलों का निराकरण कर दिया तो शासकीय कार्यों में लापरवाही की शिकायत पर निलंबन और जांच करने के भी निर्देश अधिकारियों को दिए। आज जिले में आयोजित पांचो क्लस्टर शिविरों में ग्रामीणों द्वारा 419 आवेदन दिए गए। जिनमें से 254 आवेदनों का मौके पर ही निराकरण हो गया। कलेक्टर ने संबंधित विभागों के अधिकारियों को एक सप्ताह के भीतर शेष 165 आवेदनों पर कार्रवाई कर सूचित करने के निर्देश दिए हैं। सलोरा के निदान शिविर में जिला पंचायत के अध्यक्ष शिवकला कंवर, जनपद पंचायत कटघोरा की अध्यक्ष लता कंवर, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी कुंदन कुमार, कटघोरा एसडीएम अभिषेक शर्मा, तहसीलदार रोहित सिंह सहित बड़ी संख्या में ग्रामीणजन और अधिकारी-कर्मचारी मौजूद रहे।
सलोरा के निदान शिविर में कलेक्टर ने उपस्थित ग्रामीणजनों से प्रायमरी और हाईस्कूल में पढ़ाई, मोहल्ला स्कूल के संचालन और पढ़ई तुंहर दुआर कार्यक्रम के संचालन के बारे में जानकारी ली। ग्रामीणों ने बताया कि स्कूलो में पदस्थ शिक्षकों ने पढ़ाने के लिए स्वयं ही दिन निर्धारित कर लिए हैं। आधे शिक्षक एक दिन तो आधे शिक्षक दूसरे दिन स्कूल आते हैं।
कलेक्टर इस पर गहरी नाराजगी व्यक्त करते हुए शासकीय निर्देशों की अवहेलना और नियम विरूद्ध स्कूलों से अनुपस्थित रहने वाले शिक्षकों के विरूद्ध उपस्थिति वैरिफिकेशन जांच करने के निर्देश जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी को दिए। उन्होंने सलोरा और छुरी के स्कूलों की उपस्थिति पंजी पंचनामा बनाकर जब्त कर पदस्थ सभी शिक्षकों की वास्तविक उपस्थिति के आधार पर ही वेतन आहरण के निर्देश दिए। महिला बाल विकास विभाग द्वारा संचालित योजनाओं की जमीनी हकीकत जानने के बाद कलेक्टर  किरण कौशल ने लापरवाह सेक्टर सुपरवाइजर जाटवार को निलंबित कर दिया है। कलेक्टर ने यह कार्रवाई निदान 36 शिविर में कटघोरा विकासखण्ड के सलोरा ग्राम पंचायत में की।
कलेक्टर किरण कौशल ने उपस्थित ग्रामीणों से सामाजिक सुरक्षा पेंशनों की भुगतान, स्वीकृति और प्रकरण तैयार करने के बारे में भी जानकारी ली। उन्होंने शिविर में मौजूद पंचायत सचिव से इस विषय में पूछा। पंचायत सचिव द्वारा समाधान कारक उत्तर नहीं दिया जा सका। ग्रामीणों ने भी पंचायत सचिव पूरन सिंह पर मुख्यालय से लगातार अनुपस्थित रहने, ग्रामीणों के काम में उदासीनता बरतने का आरोप लगाया और उन्हें अनयत्र ट्रांसफर करने की मांग की। कलेक्टर ने पंचायत सचिव को शासकीय कार्य में लापरवाही करने पर तत्काल निलंबित करने के निर्देश जिला पंचायत के सीईओ को दिए। 

 

07-02-2021
राज्य शासन ने सीएमओ को किया निलंबित, आदेश जारी

रायपुर। एकल निविदा प्राप्त होने पर एलम खरीदी के मामले में लापरवाही बरतने के कारण नगरीय प्रशासन मंत्री शिव डहरिया ने कार्रवाई की है। नगर पालिका परिषद सूरजपुर के मुख्य नगर पालिका अधिकारी दीपक एक्का को निलंबित किया है। दीपक एक्का ने भंडार क्रय नियम 2002 के नियम नियम 4.12 का पालन नहीं करते हुए एकल निविदा के आधार पर खरीदी कर भुगतान किया था। राज्य शासन ने छत्तीसगढ़ नगर पालिका सेवा (कार्यपालन) नियम 1973 के नियम 36 के अंतर्गत तत्काल प्रभाव से उन्हें निलंबित किया है। निलंबन अवधि में एक्का का मुख्यालय कार्यालय संयुक्त संचालक, नगरीय प्रशासन एवं विकास, क्षेत्रीय कार्यालय बिलासपुर तय किया गया है।

06-02-2021
Breaking :  हाउसिंग बोर्ड के जनसंपर्क अधिकारी निलंबित, आयुक्त ने जारी किया आदेश 

रायपुर। छत्तीसगढ़ गृह निर्माण मंडल के जनसंपर्क अधिकारी राजेश नायर को निलंबित किया गया है। यह कार्यवाही उनके सिविल लाइन पुलिस की ओर से गिरफ्तार किए जाने की सूचना के आधार पर की गई है। इस संबंध में छत्तीसगढ़ गृह निर्माण मंडल के आयुक्त ने आदेश जारी कर दिया है। जारी आदेश के मुताबिक निलंबन की अवधि में उनका मुख्यालय अंबिकापुर तय किया गया है। बता दें कि राजेश नायर के खिलाफ हाउसिंग बोर्ड के ही संपदा अधिकारी मोहम्मद सिराजुद्दीन ने एफआईआर दर्ज कराई थी। मो.सिराजुद्दीन ने राजेश नायर के खिलाफ 10 लाख रुपए अवैध रुप से मांगने और नहीं देने पर मारपीट करने और धमकी देने का आरोप लगाया था। संपदा अधिकारी मोहम्मद सिराजुद्दीन की रिपोर्ट पर सिविल लाइन पुलिस ने जनसंपर्क अधिकारी राजेश नायर पर कार्रवाई की।

 

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804