GLIBS
18-09-2020
Video: 18 लाख की लागत से लगेंगे दिशा सूचक बोर्ड, अरुण वोरा ने किया भूमिपूजन

दुर्ग। शहर में लंबे समय से दिशा सूचक बोर्ड लगाने की मांग की जा रही थी। इस मांग को ध्यान में रखते हुए शुक्रवार को शहर विधायक अरुण वोरा ने 18 लाख की लागत से लगने वाले सूचना बोर्डो के लिए भूमि पूजन किया। इसकी जानकारी देते हुए वोरा ने बताया कि शहर के सौंदर्यीकरण की दिशा में कई कार्य किए जाने हैं। इसकी शुरुआत आज दिशा सूचक बोर्ड लगाने के लिए विधायक निधि से आठ लाख की लागत से कार्य का भूमिपूजन किया गया। वोरा ने यह भी कहा कि इन बोर्डों के लग जाने से शहर के बाहर से आने वाले लोगों को ज्यादा लाभ मिलेगा। वहीं और दूसरे भी निर्माण कार्य जो सौंदर्यीकरण से जुड़े हैं। उनको तत्काल करवाया जाएगा। इस दौरान उनके साथ दुर्ग महापौर धीरज बाकलीवाल उपस्थित थे।

 

12-09-2020
पानी सप्लाई के लिए नया पेनलबोर्ड लगाकर नगर निगम ने किया स्थायी समाधान, अब नियमित होगी जलापूर्ति

दुर्ग। नगर पालिक निगम दुर्ग द्वारा शहर में निरंतर पानी सप्लाई के लिए नया पेनलबोर्ड लगाकर स्थायी समाधान किया गया। 10 सितंबर से शड डाउन लेकर पेनलबोर्ड लगाने का कार्य प्रारंभ किया गया था। परन्तु लगातार बारिश होने के कारण विद्युत लाइन का पेनल बोर्ड लगाने का कार्य बाधित हो रहा था। इस दौरान विधायक अरुण वोरा, महापौर धीरज बाकलीवाल एवं आयुक्त इंद्रजीत बर्मन, जल कार्य प्रभारी संजय कोहले, स्वास्थ्य प्रभारी इमीद खोखर ने भी फिल्टर प्लांट पहुॅचकर मौके का निरीक्षण किया गया। कार्य पर देरी के लिए नाराजगी व्यक्त की गई। उन्होने जल्द से जल्द कार्य पूरा कर पानी सप्लाई सामान्य करने निर्देश दिये। अंततः कल 11 सितंबर की रात्रि 11.00 बजे के करीब एक पेनलबोर्ड का कार्य पूरा कर शहर की टंकियों को भरने का कार्य प्रारंभ कर आज प्रातः से विभिन्न वार्डो में पानी की सप्लाई किया जा सका। दूसरा पेनलबोर्ड को लगाने का कार्य अभी जारी है। विभाग अधिकारी ने बताया दोनों पेनलबोर्ड के लग जाने से शहर में पानी की समस्या का स्थायी समाधान हो गया है।  

01-08-2020
व्यापारियों की समस्याओं पर वोरा ने कलेक्टर से की चर्चा, सार्थक परिणाम आने के संकेत

दुर्ग। जिले  कुछ व्यापारियों ने शनिवार को शहर विधायक अरुण वोरा से मिलकर अपनी समस्याओं से अवगत कराया। इसमें व्यापारियों ने कहा कि लॉक डाउन की वजह से पिछले साढ़े 4 महीने से व्यापार-धंधा के बंद होने से थोक कपड़ा, रेडिमेड गारमेंट, मिठाई दुकान व अन्य व्यवसाय से जुड़े व्यवसाइयों के सब्र का बांध अब टूटने लगा है। इस माह भाई-बहन के प्रेम का प्रतीक पर्व राखी के अलावा छत्तीसगढ़ का प्रमुख त्यौहार तीजा-पोला भी मनाया जाएगा। इन त्योहारों में व्यापार-धंधे की हालत चौपट रहने की आशंका से व्यवसायी चिंतित हैं। व्यापार-धंधा शुरू करने की अनुमति की मांग को लेकर व्यवसायी अब लामबंद होने लगे हैं। लॉकडाउन से प्रभावित ऐसे व्यवसायिक संगठनों के प्रतिनिधिमंडल ने शनिवार को छत्तीसगढ़ स्टेट वेयरहाउस कार्पोरेशन के अध्यक्ष व विधायक अरुण वोरा से उनके पद्मनाभपुर स्थित आवास में मुलाकात की और समस्याओं से अवगत कराया। व्यापारियों के हित में व्यापार-धंधा प्रारंभ कराने की दिशा में उचित पहल करने की गुहार लगाई। व्यवसाइयों ने नगर निगम के महापौर धीरज बाकलीवाल से भी अपनी समस्या बताई। व्यवसायिक संगठनों के प्रतिनिधियों में दुर्ग थोक कपड़ा बाजार पुलगांव, रेडिमेड कपड़ा संघ, सिंधी कालोनी, इंदिरा मार्केट व अन्य व्यवसाय से जुड़े व्यापार के पदाधिकारी व सदस्य शामिल थे। व्यवसायिक संगठनों की समस्याओं को वोरा ने गंभीरता से लेते हुए तत्काल छत्तीसगढ़ शासन के मुख्य सचिव आरपी मंडल से दूरभाष पर चर्चा की और व्यापारियों की समस्याओं की ओर ध्यान आकृष्ट किया। वोरा ने व्यापारियों को व्यवसाय प्रारंभ करने की अनुमति देने पर जोर दिया। वोरा ने दुर्ग के कलेक्टर डॉ.सर्वेश्वर भूरे से भी चर्चा की और व्यवसाइयों को कारोबार की अनुमति देने की मांग की। मुख्य सचिव आरपी मंडल व जिला कलेक्टर सर्वेश्वर नरेंद्र भूरे ने विधायक अरूण वोरा को व्यापारी हित में आवश्यक कदम उठाने का आश्वासन दिया है। वोरा ने उम्मीद जताते हुए कहा कि जल्द ही व्यापारी हित में अच्छे फैसले आने की संभावना है। इस पर व्यापारियों ने वोरा के प्रति आभार जताया। प्रतिनिधिमंडल में जिला चेम्बर ऑफ कामर्स के कार्यवाहक अध्यक्ष किशोर जैन, राजेश नाहटा, थोक कपड़ा व्यापारी संघ अध्यक्ष महेन्द्र संचेती, सतीश श्रीश्रीमाल, राकेश संचेती, एवंता छाजेड़़, स्वरुप चोपड़ा, मोहन पारख, नवीन जैन, किशोर सखलेचा, प्रकाश श्रीश्रीमाल, आसनदास मोहनानी, दर्शन किंगरानी, अनूप मंगनानी, सुखदेव पंजवानी, कैलाश खत्री, भगत पंजवानी, संजय अंदानी, विक्की बजाज, सन्नी चोईथानी सहित अन्य व्यापारी शामिल थे।

17-07-2020
Video: अरुण वोरा के स्टेट वेयरहाउसिंग कॉरपोरेशन अध्यक्ष बनने के बाद प्रथम नगर आगमन पर समर्थकों ने किया स्वागत

दुर्ग। शहर विधायक अरुण वोरा के स्टेट वेयरहाउसिंग कॉरपोरेशन अध्यक्ष बनने के बाद पहली बार अपने गृह नगर पहुंचने पर उनके समर्थकों ने उनका जोरदार स्वागत किया। इसमें उनके समर्थकों द्वारा आतिशबाजी की गई। अरुण वोरा ने आज कहा कि पार्टी हाईकमान और मुख्यमंत्री ने उनके ऊपर उत्तरदायित्व देकर विश्वास जताया है उसे पूरा करने का भरसक प्रयास करुंगा। उन्होंने कहा कि किसानों को लेकर हो रही सभी परेशानियों को दूर की जाएंगी। वहीं वेयरहाउसिंग द्वारा भंडारण व रखरखाव को सही किया जाए इस बात का ध्यान रखेंगे।

25-06-2020
डीज़ल की बढ़ी कीमतें केंद्र की बड़ी विफलता, मंदी और महंगाई की दोहरी मार से जनता है परेशान : वोरा

दुर्ग। देश में बढ़ती डीज़ल और पेट्रोल की कीमतों में लगातार 20 दिनों से हो रही वृद्धि को विधायक अरुण वोरा ने केंद्र सरकार की बड़ी विफलता बताया है और कहा है कि केंद्र की भाजपा सरकार अर्थव्यवस्था को संभालने में पूरी तरह से नाकाम साबित हुई है। देश के इतिहास में पहली बार डीज़ल की कीमतें पेट्रोल से ज्यादा हो गई है। इसके कारण ट्रांसपोर्ट चार्ज बढ़ेगा। इसका भार सीधे आम जनता पर पड़ेगा। जरूरी वस्तुओं की कीमतें बढ़ेंगी। कोरोना महामारी और लॉकडाउन से आई मंदी के बीच जनता की जेब काटना उचित नहीं है।वोरा ने कहा कि 2 माह के लॉक डाउन के बाद निम्न आय वर्ग सहित गरीब मजदूर और रोज कमाने खाने वालों के सामने दो वक्त की रोजी रोटी का संकट हो गया है। केंद्र सरकार को ऐसे समय में संवेदनशीलता से काम लेते हुए आम जनता को ज्यादा से ज्यादा राहत देने का प्रयास करना चाहिए। वरिष्ठ विधायक ने कहा कि आम जनता ने बड़े-बड़े वादों और भाषणों पर भरोसा कर केंद्र में भारतीय जनता पार्टी को प्रचंड बहुमत के साथ जनसेवा का अवसर दिया था। सरकार अपने जनादेश के साथ न्याय नहीं कर पा रही है। पेट्रोल व डीजल पर टैक्स घटा कर जनता को तत्काल राहत देना जरूरी है।

 

22-06-2020
मुख्यमंत्री की बढ़ती लोकप्रियता केंद्र सरकार को रास नहीं आ रही : वोरा

दुर्ग। दुर्ग शहर विधायक अरुण वोरा ने गरीब कल्याण रोजगार अभियान में छत्तीसगढ़ राज्य से एक भी जिले को शामिल न करने पर केंद्र सरकार पर कांग्रेस शासित राज्यों की जनता के साथ अन्याय करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कोरोना संकट से निबटने के लिए ऐतिहासिक निर्णय लेकर कुशल प्रबंधन से सर्वहारा वर्ग के लिए काम किया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की जनता के बीच बढ़ती लोकप्रियता और सरकार के जनहितैषी काम केंद्र को रास नहीं आ रहे हैं। इसी कारण राज्य की जनता के साथ सौतेला व्यवहार किया जा रहा है। वोरा ने यह भी कहा कि केंद्र सरकार छत्तीसगढ़ के निम्न आय वर्ग के लोगों के प्रति पूरी तरह से संवेदनहीन हो चुकी है।

केंद्र सरकार ने छत्तीसगढ़ राज्य को किसी तरह का आर्थिक पैकेज नहीं दिया। जीएसटी से राज्य का हिस्सा समय पर जारी हो रहा है। बीपीएल परिवार पक्के मकानों की आस में अपना मकान तोड़ बैठे हैं। प्रधानमंत्री आवास की राशि भी केंद्र सरकार ने रोक दी है। छत्तीसगढ़  राज्य में कोरोना संकट के दौरान 5 लाख से अधिक प्रवासी मजदूरों की वापसी हुई है,जिनके सामने रोजगार का संकट है। राज्य सरकार अपने स्तर पर मनरेगा व खेती के लिए उत्साह का माहौल पैदा करते हुए लोगों को इस कठिन समय में भी रोजगार उपलब्ध करा रही है। अरुण वोरा ने कहा कि रोज कमाने रोज खाने वालों के लिए पर्याप्त मात्रा में रोजगार उपलब्ध कराना तात्कालिक आवश्यकता है। उन्होंने राज्य के भाजपा नेताओं को नसीहत देते हुए कहा कि यह समय दलीय राजनीति करने का समय नहीं है। पूरे प्रदेश के भाजपा नेताओं को प्रधानमंत्री से राज्य के सभी जिलों को गरीब कल्याण योजना में शामिल करने व राज्य को आर्थिक पैकेज देने की मांग करना चाहिए।

 

10-06-2020
पहली बार तलाचा के साथ बड़े नाला और नालियों की हो रही सफाई

दुर्ग। महापौर धीरज बाकलीवाल एवं आयुक्त इंद्रजत बर्मन के मार्गदर्शन में शहर की सभी बड़े नाला और नालियों की सफाई तलाचा के साथ किया जा रहा है। इसमें नाला और नालियों के नीचे तल से मलमा निकाल कर पूरी गहराई के साथ सफाई हो रहा है। ताकि बारिश के दिनों में पानी का जमाव ना हो पानी का निकासी सुगमता से हो सके। इस संबंध में आयुक्त इंद्रजत बर्मन ने बताया कि अवरोधों को हटाकर नाला की सफाई करायी जा रही है। उरला रेल्वे क्रासिंग के उस पार 5 से 6 किलोमीटर नाला में बाड़ी वालों द्वारा अवरोधक बनाया गया था। इसे हटाते हुये चौड़ीकरण करते हुये नाला को गहरीकरण भी किया जा रहा है। उन्होनें बताया शहर में शंकर नाला, कसारीडीह नाला, केलाबाड़ी नाला, सिकोला नाला, शक्ति नगर नाला के माध्यम से बारिश का पानी बरसात के समय निकासी होता है। इस बात को ध्यान में रखते हुये कसारीडीह नाला, केलाबाड़ी नाला से जलकुंभी व जंगली झाड़ियाॅ हटाकर सफाई करायी जा रही है। महापौर धीरज बाकलीवाल ने बताया गत दिनों विधायक अरुण वोरा  के साथ नाला सफाई कार्य का निरीक्षण के दौरान रहवासियों ने सफाई पर संतोष व्यक्त करते हुये कहा कि शंकर नाला में इस तरह की सफाई लगभग 20-25 वर्षो बाद हो रहा है। जहाॅ पोकलैण्ड मशीन और मैनुअली गैंग नाला में उतर कर नाला की सफाई की जा रही हैं।  
उन्होंने आम नागरिकों से अपील कर कहा कि वे अपने घरों के आस-पास के नालियों में घरों का कचरा ना डालें, वही कचरा बड़े नाला में आकर फंसता है और बरसात के समय अनेक बस्तियों में जलभराव की स्थिति बनती हैं। उन्होंने यह भी बताया कि नालियों के माध्यम से बड़े नालों में कचरा आकर फंसता है,जिसे देखते हुए नाला में बनी पुलियों में स्टील की जाली लगायी गयी है ताकि कचरा को वहाॅ पर एकत्र कर बाहर निकाला जा सके। उन्होंने बताया सभी नाला क्षेत्रों को राजस्व पटवारी, एवं निगम राजस्व निरीक्षक द्वारा सीमांकन भी कराया गया है। ताकि नाला क्षेत्र में कोई अतिक्रमण ना हो और नाला निर्माण तीव्रगति से कराया जा सके।

10-06-2020
75 लाख की लागत से पोटिया में बन रहा है स्वास्थ्य केंद्र, जनता को मिलेगी घर के पास इलाज की सुविधा 

दुर्ग। शहर में बढ़ती आबादी और जिला अस्पताल में मरीजों के दबाव को देखते हुए नए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का निर्माण तेजी से किया रहा है। स्वास्थ्य विभाग से नए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के निर्माण के लिए 75 लाख रुपए मंजूर होने के बाद विधायक अरुण वोरा ने एक साल पहले भवन निर्माण कार्य का भूमिपूजन किया और अब लगातार मॉनिटरिंग करते हुए भवन निर्माण कार्य तेजी से पूरा कराया जा रहा है। लॉक डाउन के बाद दोबारा निर्माण कार्य शुरू होने पर विधायक अरूण वोरा और महापौर धीरज बाकलीवाल ने स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण किया। छत की ढलाई का काम शुरू हो चुका है। विभागीय अफसरों ने बताया कि तीन माह में भवन का निर्माण कार्य पूरा कर लिया जाएगा। वोरा ने बताया कि 10 बिस्तरों के नए अस्पताल में बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएगी। नया प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र शुरू होने पर आसपास के 14 वार्डों की लगभग 60 हजार आबादी को जिला अस्पताल जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। घर के पास ही उन्हें इलाज की सुविधा मिल जाएगी। वोरा ने बताया कि मोहल्ला क्लीनिक मॉडल की तर्ज पर यहां पर इलाज की सुविधा मरीजों के लिए उपलब्ध रहेगी जिससे यहां के आम जनता को सुविधा उपलब्ध हो सकेगी।

31-05-2020
ग्रीन सिटी बनाने उद्यानों का होगा कायाकल्प : वोरा

दुर्ग। अमृत मिशन योजना के अंतर्गत पर्यावरण सुधार के लिए 3 करोड़ 18 लाख रुपए की राशि से शहर के 8 स्थानों पर उद्यान विकास कार्य प्रस्तावित है। इसमें से वार्ड 60 कातुलबोड में 29.54 लाख से, वार्ड 45 पद्मनाभपुर में 82.59 लाख का उद्यान निर्माण शत प्रतिशत पूर्ण हो चुका है साथ ही वार्ड 13 आर्य नगर में 59.99 लाख से, वार्ड 59 नरसिंह विहार में 32.04 लाख का, वार्ड 54 पोटियाकला में 19.99 लाख से, वार्ड 38 महावीर कालोनी में 20 लाख से, वार्ड 46 पद्मनाभपुर में 18.50 लाख से व वार्ड क्रमांक 17 जवाहर नगर में 55.99 लाख से बन रहे उद्यानों का कार्य प्रगति पर है। निर्माणाधीन उद्यानों के निरीक्षण में पहुंचने पर विधायक अरुण वोरा ने कहा कि उद्यान निर्माण की श्रृंखला में गार्डन को अच्छी तरह से विकसित करने के लिए पर्याप्त राशि उपलब्ध है,जिससे ग्रीन सिटी की दिशा में आगे बढ़ा जा सकेगा। निगम क्षेत्र की जनता को स्वास्थ्य लाभ के लिए मॉर्निंग एवं इवनिंग वाक के लिए सड़कों पर घूमने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी,जिससे दुर्घटना एवं प्रदूषण से भी मुक्ति मिलेगी। महापौर धीरज बाकलीवाल ने कहा कि जनस्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए शहर में 8 नए उद्यानों को विकसित करने के साथ ही पुराने गार्डनों का भी रख रखाव किया जाएगा यह सिलसिला लगातार जारी रहेगा। उद्यान निरीक्षण में पार्षद सतीश देवांगन,पूर्व पार्षद राजेश शर्मा,नगर निगम कार्यपालन सुशील बाबर,उपअभियंता भीमराव,अंशुल पांडेय,नरेश सोमानी, मनोज डे, ललित ओसवाल, अनीता शुक्ला, नवीन जैन, रितेश जैन, कमलेश जैन मौजूद थे।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804