GLIBS
17-04-2021
उपचुनावः दमोह सहित 10 राज्य, 13 विधानसभा और दो लोकसभा सीट पर हो रहा मतदान

नई दिल्ली। देश के 10 राज्य में लोकसभा और विधानसभा उपचुनाव हो रहा है। दो लोकसभा सीटों और 13 विधानसभा पर वोट डाले जा रहे हैं। मतदान केंद्र पर भारी भीड़ है। आंध्र प्रदेश के तिरुपति और कर्नाटक के बेलगाम लोकसभा सीट पर मतदान जारी है। राजस्थान में तीन, कर्नाटक में दो और गुजरात, झारखंड, मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र, मिजोरम, ओडिशा, तेलंगाना और उत्तराखंड की एक-एक सीट के लिए मतदान हो रहा है। कर्नाटक में बेलगाम लोकसभा सीट तथा मास्की और बसवकल्याण विधानसभा सीटों पर उपचुनाव के लिए शनिवार मतदान शुरू हो गया। निर्वाचन अधिकारियों ने यह जानकारी दी। इन निर्वाचन क्षेत्रों में मतदान सुबह सात बजे शुरू हुआ जो शाम सात बजे तक चलेगा। कुल 22,68,038 मतदाता 3,197 मतदान केंद्रों पर मताधिकार का इस्तेमाल कर सकते हैं। इन तीन निर्वाचन क्षेत्रों में कुल मतदाताओं में 11.37 लाख पुरुष और 11.22 लाख महिलाएं हैं। बेलगाम में 10, बसवकल्याण में 12 और मास्की में आठ उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। मतगणना दो मई को होगी। राजस्थान की तीन विधानसभा सीटों के उपचुनाव के लिए मतदान आरंभ राजस्थान की तीन विधानसभा सीटों के उपचुनाव के लिए कड़े सुरक्षा प्रबंधों के बीच शनिवार सुबह सात बजे मतदान शुरू हो गया।

सहाडा (भीलवाड़ा), सुजानगढ़ (चूरू), और राजसमंद विधानसभा सीटों के उपचुनाव में कुल 7,43,802 मतदाता 27 उम्मीदवारों के भविष्य का फैसला करने के लिये 1,145 मतदान केन्द्रों पर मतदान करेंगे। मतदान शनिवार शाम छह बजे तक होगा और मतगणना दो मई को होगी। राज्य निर्वाचन आयोग के प्रवक्ता ने बताया कि तीनों विधानसभा क्षेत्रों में मतदान सुबह शुरू हो गया और सभी मतदान केंद्रों पर कोविड-19 संबंधी दिशा-निर्देशों का सख्ती से पालन किया जा रहा है। सुजानगढ़ से निवर्तमान विधायक मास्टर भंवरलाल मेघवाल, सहाड़ा से विधायक कैलाश त्रिवेदी और राजसमंद से विधायक किरण माहेश्वरी के निधन के बाद उपचुनाव कराए जा रहे हैं। मेघवाल और त्रिवेदी कांग्रेस के विधायक थे, जबकि माहेश्वरी भाजपा विधायक थीं। दोनों ही पार्टियों ने उनके परिवार के सदस्यों को टिकट दिया है। मध्यप्रदेश की दमोह विधानसभा सीट के लिए उपचुनाव के तहत शनिवार को सुबह मतदान शुरू हो गया। आधिकारिक जानकारी के अनुसार दमोह विधानसभा क्षेत्र में मतदान प्रात: सात बजे शुरू हुआ और यह शाम सात बजे तक चलेगा। चुनाव अधिकारियों के अनुसार निर्वाचन आयोग द्वारा जारी कोविड-19 संबंधी दिशानिर्देश का मतदान के दौरान पालन सुनि‍श्चित किया जा रहा है।

एक अधिकारी ने बताया कि इस सीट पर कुल 2.39 लाख मतदाता हैं, जिनमें 1.24 लाख पुरुष, 1.15 लाख महिलाएं एवं आठ ‘थर्ड जेंडर’ मतदाता शामिल हैं। मतदान के लिए कुल 359 केन्द्र बनाये गये हैं। इस सीट पर दो महिलाओं सहित कुल 22 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं, जिनमें से मुख्य मुकाबला भाजपा के राहुल सिंह लोधी एवं कांग्रेस के अजय टंडन के बीच माना जा रहा है। लोधी वर्ष 2018 में हुए चुनाव में इस सीट से कांग्रेस के टिकट पर विधायक चुने गये थे, लेकिन पिछले साल अक्टूबर में उन्होंने विधायक पद इस्तीफा दे दिया था और बाद में कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हो गये थे। इससे यह सीट खाली हो गई थी। मतगणना दो मई को दमोह जिला मुख्यालय पर होगी। उत्तराखंड में अल्मोड़ा की सल्ट विधानसभा सीट के उपचुनाव के लिए शनिवार सुबह मतदान आरंभ हो गया और लोगों को मतदान केंद्र के बाहर कतारों में खड़े देखा गया। अल्मोड़ा जिला मजिस्ट्रेट नितिन सिंह भदौरिया ने बताया कि विधानसभा क्षेत्र में शांतिपूर्ण मतदान सुनिश्चित करने के लिए व्यापक सुरक्षा प्रबंध किए गए हैं। उन्होंने बताया कि मतदान सुबह सात बजे आरंभ हुआ और शाम पांच बजे तक चला। भाजपा नेता सुरेंद्र सिंह जीना के पिछले साल नवंबर में कोविड-19 से निधन के कारण सल्ट विधानसभा सीट पर उपचुनाव हो रहा है। इस सीट पर भाजपा ने जीना के बड़े भाई महेश को टिकट दिया है, वहीं कांग्रेस ने गंगा पंचोली को चुनाव मैदान में उतारा है। सल्ट विधानसभा सीट के उपचुनाव के लिए 95,241 मतदाता मताधिकार का इस्तेमाल कर सकेंगे, जिनमें से 48,682 पुरुष और 46,559 महिलाएं हैं।

 

08-04-2021
दुर्ग ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र में 18 कार्यों के लिए एक करोड़ रुपए स्वीकृत

रायपुर। गृह और लोक निर्माण मंत्री ताम्रध्वज साहू की अनुशंसा पर दुर्ग ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र में लगातार विकास कार्य हो रहे हैं। इसी क्रम में गुरुवार को 18 कार्यों के लिए एक करोड़ रुपए की स्वीकृति प्रदान की गई है। 
गृहमंत्री की अनुसंशा पर छत्तीसगढ़ राज्य अन्य पिछड़ा वर्ग प्राधिकरण मद से ग्राम बोरीगारका में सामुदायिक भवन और दमोदा में समरसता भवन के लिए दस-दस लाख रुपए की स्वीकृति दी गई है। इसी तरह ग्राम तिरगा में सामुदायिक भवन (जय बजरंग मानस मंडली), डूमरडीह कुमारपारा में सामुदायिक भवन, ग्राम अछोटी में कुर्मी सामुदायिक भवन, चिंगरी में वार्ड 1व 2 में मंगल भवन, कोलिहापुरी साहू पारा में सामुदायिक भवन, महमरा में महिला मंडल भवन, जजगिरी धीवर पारा में सामुदायिक भवन, रिसामा साहू पारा में सामुदायिक भवन, थनोद साहू पारा में सामुदायिक भवन, भरदा में सामुदायिक भवन, कुथरेल में सामुदायिक भवन, मचांदुर आदिवासी पारा में सामुदायिक भवन, पीसेगांव में सामुदायिक भवन और ग्राम नगपुरा में आदिवासी ध्रुव पारा, निषाद पारा और कुर्मी पारा में सामुदायिक भवन के लिए पांच-पांच लाख रुपए की स्वीकृति प्रदान की गई है।

07-04-2021
प.बंगाल विधानसभा चुनाव प्रचार में अमित शाह ने किया रिक्‍शा चालक के घर भोजन

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में विधानसभा प्रचार के लिए पहुंचे केंद्रीय गृह मंत्री और भाजपा नेता अमित शाह ने बुधवार को एक रिक्‍शा चालक के घर पर भोजन किया। इस दौरान इस विधानसभा क्षेत्र के उम्‍मीदवार राजीब बनर्जी भी मौजूद रहे। अमित शाह जिस रिक्‍शा चालक के यहां खाना खाने पहुंचे, वह बीजेपी का समर्थक भी है। शाह ने यहां बंगाल के पारंपरिक भोजन और शुद्ध शाकाहारी खाना खाया है। इस बीच केंद्रीय मंत्री शाह ने कहा, मैंने केवल एक ग्राम पंचायत का दौरा किया, लेकिन जिस उत्साह के साथ मैंने देखा, मुझे विश्वास है कि राजीव बनर्जी बहुमत से जीतेंगे। 2 मई को, भाजपा 200 से अधिक सीटों के साथ सरकार बनाएगी. ममता बनर्जी की हताशा उनके भाषणों और व्यवहार में देखी जा सकती है।  हावड़ा में डोमजूर विधानसभा क्षेत्र में केंद्रीय गृह मंत्री और भाजपा नेता अमित शाह ने बीजेपी उम्‍मीदवार के समर्थन में रोड शो भी किया है। 

 

06-04-2021
Breaking : टीएमसी नेता के घर के बाहर मिला ईवीएम मशीन, चुनाव अधिकारी हरकत में आएं

कोलकाता/रायपुर। पश्चिम बंगाल में ईवीएम को लेकर बड़ा मामला सामने आया है। देर रात हावड़ा जिले की उलुबेरिया उत्तर विधानसभा सीट पर टीएमसी नेता के घर के बाहर ईवीएम मिली हैं। स्थानीय लोगों ने पुलिस को इसकी सूचना दी तो चुनाव अधिकारी हरकत में आए। बता दें कि असम के बाद ईवीएम मिलने का यह दूसरा मामला है।

02-04-2021
इस प्रदेश में लव जिहाद के खिलाफ कानून पास, 10 साल की होगी सजा

गांधीनगर/रायपुर। भाजपा ने विधानसभा में गुजरात धार्मिक स्वतंत्रता (संशोधन) विधेयक पास कर दिया है। इसी तरह का कानून पहले से उत्तर प्रदेश व मध्य प्रदेश में बनाया गया है। गुजरात में विवाह करके कपटपूर्ण तरीके से या जबरन धर्मांतरण कराने के मामले में दस साल तक की सजा का प्रावधान किया गया है। बता दें ​कि विधेयक के माध्यम से 2003 के एक कानून को संशोधित किया गया है, जिसमें बलपूर्वक या प्रलोभन देकर धर्मांतरण करने पर सजा मिलेगी। गुजरात धार्मिक स्वतंत्रता (संशोधन) विधेयक, 2021 में उस उभरते चलन को रोकने का प्रावधान है, जिसमें महिलाओं को धर्मांतरण कराने की मंशा से शादी करने के लिए बहलाया-फुसलाया जाता है।

30-03-2021
बंगाल और असम विधानसभा के दूसरे चरण के चुनाव के लिए मतदान कल

नई दिल्ली/रायपुर। बंगाल और असम में दूसरे दौरे के लिए चुनाव प्रचार मंगलवार को समाप्त हो जाएगा। बंगाल की 30 विधानसभा सीटों और असम में 39 सीटों के लिए एक अप्रैल को मतदान किए जाएंगे। आज दोनों राज्यों की विधानसभा सीटों पर भाजपा, कांग्रेस और टीएमसी तीनों पार्टियां अपनी ताकत झोकेंगी।

16-03-2021
भूपेश बघेल असम में आज दो विधानसभा की आमसभा को करेंगे संबोधित, शाम को लौटेंगे रायपुर

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल असम के चुनावी दौरे पर है, उनके दौरे का मंगलवार को अंतिम दिन है। सीएम बघेल कांग्रेस उम्मीदवारों के समर्थन में 2 विधानसभा में आमसभा को संबोधित करेंगे। नाहरकटिया और दुलियाजन में आज उनकी चुनावी सभा है। वे शाम साढ़े 6 बजे रायपुर लौटेंगे।

10-03-2021
हरियाणा में भाजपा सरकार का संकट टला, विधानसभा में कांग्रेस का अविश्वास प्रस्ताव खारिज

चंडीगढ़। सीएम मनोहरलाल खट्टर की सरकार पर कांग्रेस की ओर लाया गया अविश्वास प्रस्ताव विधानसभा में रद्द कर दिया गया। हरियाणा विधानसभा में बुधवार को कांग्रेस पार्टी ने हरियाणा की भाजपा सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया था। इस पर कांग्रेस का सदन में बहुमत नहीं होने के कारण अविश्वास प्रस्ताव गिर गया। अविश्वास प्रस्ताव पर कराई गई वोटिंग के दौरान 32 सदस्य इसके पक्ष में खड़े हुए। वहीं, प्रस्ताव के खिलाफ में मनोहर लाल खट्टर को 55 विधायकों का समर्थन मिला। इसके बाद विधानसभा अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता ने अविश्वास प्रस्ताव को खारिज कर दिया। बता दें कि हरियाणा विधानसभा में कांग्रेस की ओर से भाजपा-जजपा सरकार के विरुद्ध अविश्वास प्रस्ताव पेश किया गया था। इस दौरान नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि सत्ताधारी दल ने लोगों का विश्वास खो दिया है।

प्रश्नकाल समाप्त होने के बाद अध्यक्ष ने मंत्रिमंडल के विरुद्ध अविश्वास प्रस्ताव के नोटिस को स्वीकार किया और इस पर चर्चा के लिए दो घंटे का समय तय किया। चर्चा के बाद वोटिंग हुई, जिसमें कांग्रेस पार्टी को निराशा हाथ लगी। हरियाणा की 90 सदस्यीय विधानसभा में वर्तमान में सदस्यों की कुल संख्या 88 है, जिसमें सत्तारूढ़ भाजपा के 40 सदस्य, जजपा के दस और कांग्रेस के 30 सदस्य हैं। सात निर्दलीय विधायक हैं और एक सदस्य हरियाणा लोकहित पार्टी का है, जिसने सरकार को अपना समर्थन दिया हुआ है। निर्दलीय विधायक नयन पाल रावत ने सरकार का समर्थन करते हुए कांग्रेस की आलोचना की। 

 

09-03-2021
मड़वा ताप गले की फांस है,जिसे निगलते बन रहा और न उगलते : भूपेश बघेल

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने विधानसभा में मंगलवार को मंडवा ताप संयंत्र से जुड़े सवाल पर कहा कि मड़वा ताप विद्युत प्लांट गले की ऐसी फांस हैं, जिसे न ही निगलते बन रहा और न ही उगलते बन रहा है। प्रश्नकाल में भाजपा विधायक सौरभ सिंह ने राज्य में संचालित ताप विद्युत संयंत्र एवं उससे उत्पादित विद्युत का मामला उठाया। उन्होंने मड़वा प्लांट को लेकर कहा कि इसका उत्पादन बढ़ाने से सरकार को ज्यादा फायदा होगा। इस पर मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि तेलंगाना के साथ जो एग्रीमेंट हुआ है, इसलिए बिजली देना हमारी बाध्यता है लेकिन तेलंगाना सरकार बिजली का दो हजार करोड़ रुपये नहीं दे रही है, सिर्फ  ब्याज का पैसा देती है। उन्होंने यह भी कहा कि मड़वा ताप विद्युत संयंत्र देश का सबसे महंगा पावर प्लांट है। तेलंगाना से यदि बकाया दो हजार करोड़ रुपये मिल जाये तो उत्पादन बढ़ाया जा सकता है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इसके पहले प्रदेश के ताप विद्युत संयंत्रों से उत्पादन को लेकर किए गए सवाल के जवाब में कहा कि डॉ.श्यामाप्रसाद मुखर्जी ताप विद्युत गृह कोरबा पूर्व 500 मेगावाट, हसदेव ताप विद्युत गृह 840 मेगावाट, कोरबा पश्चिम विस्तार 500 मेगावाट और अटल बिहारी बाजपेयी ताप विद्युत गृह मड़वा से 1000 मेगावाट की बिजली का उत्पादन हो रहा है।

 

09-03-2021
बठेना मामले में आसंदी के स्थगन प्रस्ताव अग्राह्य करने पर गर्भगृह में जाकर की नारेबाजी, दो बार हुए निलंबित

रायपुर। विधानसभा के बजट सत्र की कार्यवाही के दौरान मंगलवार को पाटन थाना क्षेत्र के ग्राम बठेना में एक ही परिवार के पांच लोगों की मौत का मामले को लेकर जमकर हंगामा हुआ। भाजपा सदस्यों ने इस मामले में स्थगन प्रस्ताव लाकर सदन में चर्चा कराये जाने की मांग की, जिसे आसंदी द्वारा अग्राह्य करने पर भाजपा सदस्यों ने गर्भगृह में जाकर नारेबाजी करने लगे। इस बीच आसंदी की ओर से एक बार सदन की कार्यवाही 10 मिनट के लिए स्थगित करनी पड़ी, वहीं दो बार भाजपा विधायकों के निलंबन की घोषणा भी करनी पड़ी। दूसरी बार निलंबन होने के बाद भाजपा विधायकों ने महात्मा गांधी की प्रतिमा के समक्ष धरना देकर नारेबाजी भी की। शून्यकाल में भाजपा के सभी विधायकों ने एक-एक करके ग्राम बठेना में पांच लोगों की मौत का मामला उठाते हुए इस पर स्थगन प्रस्ताव लाया। भाजपा विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने घटना की हकीकत का पता लगाने के लिए भाजपा विधायकों का दल कल ग्राम बठेना गया था और वहां जाकर मृतकों के रिश्तेदारों से लेकर गांव वालों से बातचीत की। उन्होंने कहा कि इस घटना में दो लड़की, उसकी मां और पिता व पुत्र की मौत हुई है। बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि मृत लड़कियों व उसकी मां को तारों से बांधकर उसकी चिता तैयार कर जलाया गया है, वहीं पिता और पुत्र की लाशें फांसी पर लटकी हुई मिली है। उन्होंने कहा कि रिश्तेदारों और गांव वालों कोई भी ये नहीं मान रहे यह घटना आत्महत्या की है। उन्होंने आरोप लगाया कि सभी की हत्या की गई है और संदेह व्यक्त किया है कि मृत लड़कियों के साथ दुष्कर्म हुआ है। उन्होंने यह भी कहा कि इस तरह की घटना कभी छत्तीसगढ़ यहां तक की देश में कहीं नहीं हुई है। इस घटना में शवों का पोस्टमार्टम  नहीं होता और जांच के बिना ही पुलिस यह कह देती है कि पिता-पुत्र जुआरी और शराब थे। बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि मृतकों के रिश्तेदार जो यहां पहुंचे हुए है उन्हें रहने और खाने की व्यवस्था तक नहीं हो पा रही है क्योंकि घटना के बाद उनका घर सील कर दिया गया है। यह बहुत दुर्भाग्यजनक और हृदयजनक घटना है।

भाजपा विधायक शिवरतन शर्मा ने कहा कि 9 पेज का सुसाइड नोट जप्त करने की बात सामने आई है। विवेचना अधिकारी से हमने बात की उसने बताया कि फांसी पर चढऩे वाले बाप-बेटे के शरीर का भी कुछ हिस्सा जला हुआ था। हाथों में फफोले थे। यह संदेह पैदा करता है कि हत्या को आत्महत्या बताने का प्रयास किया जा रहा है। भाजपा विधायक नारायण चंदेल ने कहा कि इस तरह की घटना की खबरें पहले सुनते आ रहे थे लेकिन अब छत्तीसगढ़ में इस तरह की घटनाओं को खुलेआम अंजाम दिया जा रहा है। भाजपा विधायक अजय चंद्राकर ने कहा कि पाटन में ही सामूहिक आत्महत्या या हत्या क्यों हो रही है। घटनास्थल का निरीक्षण करने के बाद यह कहना मुश्किल है कि यह आत्महत्या है। 9 पेज का सुसाइड नोट मिला है जिसे परिवार के सदस्यों को पढऩे तक नहीं दिया गया है। उन्होंने कहा कि मृतक के परिजनों में एक सदस्य का कहना है कि अगर उसे सुसाइट नोट दिखाया जाएगा तो वो हैंड राइटिंग पहचान सकता है। उन्होंने कहा कि बिना जांच के सीधे निष्कर्ष पर पहुंचा दिया गया है, जबकि इस घटना में दुष्कर्म की भी आशंका है।

पूर्व मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह ने कहा कि मां-बेटी को ऐसा जलाया गया कि हड्डी भी जल गई। छत्तीसगढ़ में क्या कोई व्यक्ति अपनी बेटी को मारकर, पत्नी को मारकर तारों से बांधकर जलायेगा। छत्तीसगढ़ में कहीं ऐसी मानसिकता नहीं है। उन्होंने कहा कि इसकी फोरेंसिक जांच होगी तो स्थिति और सामने आएगी। बाप-बेटे जो फांसी पर चढ़ गए उनके शरीर के कई हिस्से जले हैं। इतने वीभत्स तरीके से कोई आत्महत्या कैसे कर सकता है। आज तक ऐसी घटना नहीं देखी। डॉ.रमन सिंह ने कहा कि ऐसी क्या परिस्थिति बन रही है कि किसान पूरे परिवार समेत आत्महत्या करने पर मजबूर हो रहा है। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि प्रदेश में आत्महत्या हो रही है, अनाचार, दुष्कर्म जैसी घटनाएं बढ़ी है। आज दलित पूरे प्रदेश में असुरक्षित है। उन्होंने कहा कि गढ़बो नया छत्तीसगढ़ की बात होती है, क्या यही छत्तीसगढ़ गढ़ा जा रहा है। आखिर ऐसी कौन सी परिस्थिति आई कि पूरे परिवार को आत्महत्या करने की नौबत आई। ये कैसी आत्महत्या है कि एक पति अपनी पत्नी को मारे, बेटी को मारे और फिर तार में बांधकर जला दे। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि परिवार के लोगों को सुसाइड नोट की जानकारी नहीं दी जा रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि षड्यंत्र रचने के बाद इस घटना को अंजाम दिया गया है इसमें बहुत सारे तथ्य है जिस पर चर्चा होनी चाहिए।

इस मामले में सौरभ सिंह, डॉ.कृष्णमूर्ति बांधी, पुन्नूलाल मोहिले, विधायक रजनीश सिंह, विधायक रंजना साहू, डमरूधर पुजारी ने भी अपनी बातें रखते हुए इस घटना को हत्या बताते हुए स्थगन प्रस्ताव पर चर्चा कराये जाने की मांग आसंदी से की। विधानसभा उपाध्यक्ष ने सभी विधायकों की बात सुनने के बाद उनके द्वारा लाये गये स्थगन प्रस्ताव को अग्राह्य कर दिया, जिसके बाद भाजपा विधायकों ने गर्भगृह में जाकर नारेबाजी करने लगे। विधानसभा उपाध्यक्ष ने इसके बाद भाजपा विधायकों के स्वयमेय निलंबन होने की घोषणा करते हुइ इस पर व्यवस्था बाद में देने की बात कहीं। इस बीच भाजपा विधायकों द्वारा सदन में नारेबाजी करते रहे, जिसके बाद उपाध्यक्ष ने सदन की कार्यवाही 10 मिनट के लिए स्थगित कर दी। पुन: कार्यवाही शुरू होने पर सभापति ने सभी निलंबित भाजपा विधायकों को निलंबन समाप्त करने की घोषणा की, लेकिन इसके बाद भी भाजपा विधायक गर्भगृह में नारेबाजी करते रहे, जिसके बाद सभापति ने दूसरी बार भाजपा विधायकों के निलंबन की घोषणा की। इसके बाद भाजपा विधायक सदन से बाहर निकलकर विधानसभा परिसर स्थित महात्मा गांधी की प्रतिमा के समक्ष धरना देकर नारेबाजी की।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804