GLIBS
07-12-2017
पशु क्रूरता पर अब होगी कार्रवाई-बृजमोहन

रायपुर। प्रदेश के पशुपालन मंत्री बृजमोहन अग्रवाल की अध्यक्षता में छत्तीसगढ़ राज्य जीव-जंतु कल्याण बोर्ड के सामान्य सभा की पहली बैठक मंत्रालय स्थित उनके कक्ष में सम्पन्न हुई। जिसमें आगामी कार्ययोजनाओं के संबंध में रूप रेखा तय की गई। बैठक में तय हुआ कि अशासकीय सदस्यों को लेकर कमेटी बनाई जाए जो राज्य में  हो रहे पशु क्रूरता पर निगरानी रखते हुए कार्यवाही के लिए अनुशंसा कर सके। बैठक में यह जानकारी दी गई की प्रदेश के सभी जिलों में जीव-जंतु कल्याण बोर्ड का गठन किया जा चुका है।

बैठक की अध्यक्षता कर रहे पशुपालन मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि जिलों के सभी सदस्यों को उनके दायित्वों की जानकारी मिले इसके लिए  प्रशिक्षण वर्ग आयोजित किया जाए। पशु क्रूरता निवारण अधिनियम की जानकारी समस्त नगरीय निकायों के महापौर, अध्यक्ष, जनपत,जिला पंचयतों के प्रतिनिधियों सहित पुलिस अधिकारियों को उपलब्ध कराया जाए ताकि प्रदेश में पशु क्रूरता निवारण के लिए जागरूकता लाई जा सके। इस दौरान उन्होंने गौशालाओं,पोल्ट्री फार्म के निरीक्षण के लिए सदस्यों और अधिकारियों की कमेटी बनाने का फैसला लिया गया। 

बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि स्कूलों में सेमीनार का आयोजन किया जाए जहां बच्चों को पशु क्रूरता एक अपराध और उसके निवारण के संबंध में जानकारी मिल सके। बैठक में विषय आया कि खुले में मांस का विक्रय अपंजीकृत लोगों द्वारा किया जाता है। इसकी शिकायते मिलती है। ऐसे में स्थानीय निकायों को नियमों के पालन सुनिश्चित हो इस हेतु निर्देशित किए जाए। अधिनियम के तहत समस्त जिलों में पशुक्रूरता निवारण समिति के अन्तर्गत पशु गृह  पशु रुग्णावास की स्थापना की जानी है। इसके तहत प्रथम चरण में दतरेंगा जिला रायपुर यह निर्माण किया जाना प्रस्तावित है। बैठक में एसीएस अजय सिंह,गौसेवा आयोग के अध्यक्ष बिशेशर पटेल,सदस्य केके अवधिया,राजेन्द्र शर्मा,खेमराज बैद,महेंद्र पंडित,प्रेमशंकर गौटियां सहित विभागीय अधिकारी मौजूद थे। 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804
Visitor No.