GLIBS
13-09-2020
अवैध रेत परिवहन के खिलाफ प्रशासन ने की कार्रवाई, 1 जेसीबी सहित 21 वाहन ज़ब्त

रायपुर /बलौदाबाजार। कलेक्टर सुनील कुमार जैन के निर्देश पर जिले में अवैध रेत परिवहन के मामलों में तेज़ी से कार्रवाई की जा रही है। अवैध रेत खनन और भंडारण के विरुद्ध प्रशासन द्वारा सख्त कार्रवाई की गई। बीते दिन और  आज रविवार को सुबह खनिज विभाग द्वारा जोक नदी किनारे बसे ग्राम हसुवा,बलौदा एवं रामपुर कोट अवैध रेत घाटों से रेत परिवहन के खिलाफ जब्ती और जुर्माने की कार्रवाई  की गई। इसमें 8 टैक्टर एवं 4 डालाबाड़ी हाइवा शामिल है। यहाँ पर जोक नदी से रेत खोदकर लगभग 85 घन मीटर अवैध रूप से भंडारित रेत जब्त की है। उसी तरह बलौदाबाजार विकासखण्ड के अंतर्गत ग्राम सोनपुरी में आज अवैध मुरम खदान से मुरम का परिवहन करते पाया गया। इस पर मौके से 6 हाईवा गाड़ी भंडारित मुरूम सहित एक जेसीबी गाड़ी को जब्त कर जुर्माने की कार्रवाई की गई है।

इसके साथ ही एक ट्रैक्टर चुना पत्थर एवं एक ट्रैक्टर ट्राली ईट सहित जब्त किया गया है। सहायक खनिज अधिकारी बबूल पांडेय एवं किशोर बंजारे के नेतृत्व में उक्त कार्रवाई की गई। पांडेय ने बताया कि सभी कार्रवाई छत्तीसगढ़ गौण खनिज नियम 2015 एवं एमएमडीआर एक्ट 1957 की धारा 21 से 23 के अंतर्गत किया गया है।  कलेक्टर जैन ने कहा है कि ऐसी कार्रवाईयां आगे भी जारी रहेंगी। अवैध रेत खनन व धंधा करने वालों पर प्रशासन की पैनी नजर है और ऐसे अवैध धंधे करते पकड़े जाने पर सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी।

 

12-09-2020
खनिज विभाग ने की छापामार कार्रवाई, पकड़ी गई अवैध रूप से भंडारित रेत

सुकमा। कलेक्टर चन्दन कुमार के निर्देश के बाद जिले में अवैध रेत के मामलों में तेज़ी से कार्रवाई की जा रही है। अवैध रेत खनन और भंडारण के विरुद्ध प्रशासन द्वारा सख्त कार्रवाई की गई। खनिज विभाग ने कोन्टा के ग्राम फंडीगुड़ा में दबिश देकर अवैध रेत भंडारण पर जब्ती और जुर्माने की कार्यवाही की। शबरी नदी से खोदकर लगभग 1500 घन मीटर अवैध रूप से भंडारित रेत जब्त की है। खनिज अधिकारी ने बताया कि 2 लाख 25 हजार रुपये का अर्थदण्ड लगाया गया है। खनिज विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार वित्तीय वर्ष 2020-21 में अवैध परिवहन के 12 प्रकरणों में अब तक 92 हजार रुपये का अर्थदण्ड वसूली गई है। वहीं अवैध भंडारण की इसके पहले दो प्रकरणों में 1 लाख 65 हजार राशि का अर्थदंड लगाया गया था।
कलेक्टर चन्दन कुमार ने जिले में रेत के अवैध कारोबार के मामले में अधिकारियों को कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश जारी किए हैं। अवैध रेत के भंडारण, अनुमति और उत्खनन, परिवहन के साथ-साथ रॉयल्टी पर्ची आदि सभी दस्तावेजों के परीक्षण करने के निर्देश भी दिए हैं। कलेक्टर ने कहा है कि कार्रवाई आगे भी जारी रहेंगी। अवैध रेत खनन व धंधा करने वालों पर प्रशासन की पैनी नजर है और ऐसे अवैध धंधे करते पकड़े जाने पर सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी।

11-09-2020
खनिजों का अवैध परिवहन करते 15 वाहन पकड़े गए, 1 लाख का लगाया जुर्माना

कोरिया। गौण खनिजों का अवैध परिवहन करते 15 वाहनों को खनिज विभाग ने जब्त किया है । इन पर एक लाख का जुर्माना भी लगाया है। खनिज अमले ने बैकुण्ठपुर तहसील क्षेत्र में बैकुण्ठपुर, पटना, डुमरिया मार्गों पर वाहनों का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान छत्तीसगढ़ गौण खनिज नियम 2015 के 71(5) के तहत खनिज मुरूम, गिट्टी, रेत का अवैध परिवहन करते पाए जाने पर 10 वाहनों को जब्त कर समीपस्थ थाना प्रभारी पटना की अभिरक्षा में रखा गया। वहीं खनिज अमले ने छिन्दडांड एवं महाराजपुर में निरीक्षण के दौरान रेत, मिट्टी, ईंट का अवैध परिवहन करते 5 वाहनों को पकड़ा। इन वाहनों को समीपस्थ थाना प्रभारी नागपुर एवं चरचा की अभिरक्षा में रखा गया। मामले में वाहन मालिकों पर लगभग 1 लाख रूपये का अर्थदण्ड आरोपित किया गया।

 

19-06-2020
जिला पंचायत सदस्य पर हमला चिंतनीय, प्रदेश में माफिया राज कायम है : भाजपा

रायपुर। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने धमतरी जिले में एक जिला पंचायत सदस्य और उनके साथियों पर हुए जानलेवा हमले को चिंतनीय बताया है। उन्होने कहा कि पूरे प्रदेश में माफिया राज कायम है। खनिज विभाग ने नियमों का हवाला देते हुए जून के महीने से ही रेत के उत्खनन पर प्रतिबंध लगा दिया है लेकिन उसके बाद भी इस तरह से माफियाओं का उत्खनन के काम में लगे रहना कई सवालों को जन्म देता है। कौशिक ने सवाल किया कि पूरे प्रदेश में रेत माफियाओं को किसका का समर्थन प्राप्त है, जिसके चलते उनका मनोबल इतना मजबूत है? इस तरह की घटनाएं लगातार हो रही हैं लेकिन प्रदेश सरकार मौन है। धमतरी जिले में हुई इस घटना के बाद पुलिस प्रशासन का रवैया सहयोगात्मक नहीं रहा है। इस मामले में स्थानीय भाजपा कार्यकर्ताओं ने जब थाने में जाकर इस बात का विरोध किया, तब पुलिस ने शिकायत दर्ज की। लेकिन अब तक आरोपी पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं। कौशिक ने कहा कि आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए और तत्काल उनकी गिरफ्तारी हो। इस घटना को लेकर काफी आक्रोश है और पीड़ित पक्ष को न्याय मिले इसकी चिंता प्रदेश सरकार को करनी चाहिए।

 

11-05-2020
बोदेली रेत खदान में खनिज विभाग की कार्यवाही, 4 हाईवा, 1 चैन माउण्टेन जब्त

कांकेर। कोरोना वैश्विक महामारी को लेकर जहाँ पूरा देश गम्भीर है वहीं कई गांवों में ग्रामीण भी इसे लेकर गम्भीर नजर आ रहा है। ग्राम पंचायत पिपरौद के आश्रित ग्राम बोदेली में रेत खदान को ले कर ग्रामीण चिंतित है कि कोई भी रेडजोन की गाड़ी य व्यक्ति गांव में प्रवेश न करें इसकी भी रोकथाम के लिए ग्रामीण शासन-प्रशासन को लिखित आवेदन दिया। इसके बाद भी ठेकेदार अपनी मनमानी कर रहा है व गांव के लोगों को डरा धमकाकर अपनी धौस दिखाते हुए यह कहते है कि हम सीएम के आदमी है हमारा कोई कुछ नहीं कर सकता यहाँ तक ग्रामीण स्तर पर यदि कोई बात कही जाती है तो उन्हें थाने में बैठाकर परेशान किया जाता है।

इसको लेकर ग्रामीणों में शासन-प्रशासन व सरकार के खिलाफ रोष व्याप्त है। रविवार की रात्रि ग्रामीणों ने 4 हाइवा, एक चैन माउण्टेन जोकि नियम विरुद्ध रेत रात के अंधेरे में निकाल रहे थे ग्रामीणों ने पकड़ कर उसे खनिज  विभाग को सौपा जिसके बाद चारामा थाना में वाहनों को कार्यवाही के लिए खड़ा किया गया है अब देखना यह है कि इस पर प्रशासन कितना गम्भीर है वह गांव वालों के साथ है या पहुँच का धौस दिखाने वालों के साथ ये कार्यवाही के बाद ही पता चलेगा।

04-03-2020
रेत उत्खनन के लिए खदान संचालक पर्यावरण नियमों का गंभीरता से करें पालन: अपर कलेक्टर

धमतरी। जिले में संचालित रेत खदानों के संचालकों व पट्टेदारों की बैठक लेकर अपर कलेक्टर दिलीप कुमार अग्रवाल ने रेत उत्खनन के लिए शासन के प्रावधानों एवं सुप्रीम कोर्ट द्वारा निर्धारित पर्यावरण नियमों का अक्षरशः गम्भीरता से पालन करने के निर्देश दिए। उन्होंने रेत खदानों के संचालन के पूर्व सभी आवश्यक व्यवस्थाएं एवं सुविधाएं समय-सीमा में सुनिश्चित करने की बात कही। कलेक्टोरेट सभाकक्ष में आज अपराह्न आयोजित बैठक में अपर कलेक्टर ने कहा कि आबंटित खदानों के संचालन से पहले निर्धारित क्षेत्र का सीमांकन कराकर निर्धारित खदान क्षेत्र के भीतर ही उत्खनन का कार्य करें। इसके साथ ही नियमानुसार खनन क्षेत्र में पौधे रोपना सुनिश्चित करें। डिप्टी कलेक्टर एवं खनिज विभाग के नोडल अधिकारी जितेन्द्र कुर्रे ने खदान पट्टेदारों व अधिमानी बोलीदारों की समस्याएं सुनीं तथा पंचायत निकाय व ग्रामीणों से परस्पर समन्वय स्थापित कर खदानें संचालित करने की बात कही। बैठक में सहायक खनिज अधिकारी सनत साहू ने कहा कि शासन के निर्देशानुसार ही सभी खदानों का नियमानुसार संचालन किया जाना है। जिन लोगों ने खदान एवं खनन स्वीकृति के लिए आवश्यक दस्तावेज जमा नहीं किया है, वे शीघ्रता से यह कार्य पूर्ण कर लें, जिससे लंबित खदानों का आबंटन समय पर सुनिश्चित हो सके। उन्होंने बताया कि जिले में कुल 33 रेत खदानों का आबंटन किया गया है। 

 

03-03-2020
रेत का अवैध परिवहन करते 17 गाड़ियों को खनिज विभाग ने किया जब्त

जांजगीर चाम्पा। जिले में एक बार फिर खनिज विभाग की ताबड़तोड कार्रवाई देखने को मिली है। यहां खनिज उड़नदस्ता की टीम ने अवैध परिवहन करते लगभग 17 गाड़ियों पर खनिज अधिनियम के तहत कार्रवाई की। दरसअल खनिज विभाग को लगातार अवैध रूप से बिना रायल्टी के रेत, चुना पत्थर ले जाने की सूचना मिल रही थी। इस कड़ी में खनिज विभाग ने पामगढ़, हथनेवरा और सुकली से लगभग रेत से भरी 8 गड़ियों पर कार्रवाई की। वहीं खनिज विभाग ने बनाहिल, बनारी अकलतरा, अर्जुनी और रसेड़ा से लगभग 9 गाड़ियों को अवैध रूप से बिना रायल्टी के रेत और चुना पत्थर लेजाते हुए जब्त किया गया। 

 

03-03-2020
अरपा नदी को बचाने के लिए हाइकोर्ट में दायर की जनहित याचिका

रायपुर। अरपा नदी के रेत को बचाने के लिए जनहित याचिका हाइकोर्ट में लगाई गई हैै। याचिका में कहा गया है कि भवन निर्माण व अन्य कार्य इसमें रेत की जरूरत होती है। इसकी जगह कृत्रिम रेत के उपयोग की अनुमति देने की बात कही है। इसके जरिए नदी के रेत को संरक्षित रखा जा सकता है। साथ ही अवैध उत्खनन पर भी प्रभावी तरीके से रोक लगाई जा सकती है। अरपा अर्पण महाभियान ने वकील अंकित पांडेय के जरिए हाई कोर्ट में जनहित याचिका दायर की है। याचिका में अरपा के अस्तित्व को खनिज विभाग और रेत माफियाओं से खतरा की ओर इशारा भी किया है। याचिका में खनिज विभाग के अधिकारियों पर गंभीर आरोप लगाया है। याचिका के अनुसार जिस विभाग के जिम्मे अरपा को सुरक्षित और संरक्षित रखने का जिम्मा है वही विभाग के अधिकारी रेत माफियाओं के साथ सौदेबाजी कर अरपा को मिटाने पर तुले हुए हैं। विभागीय सिस्टम पूरी तरह फेल हो गया है। अफसर सब कुछ जानते हुए भी कोई प्रभावी कार्रवाई नहीं कर रहा है। इसके चलते माफियाओं का दबदबा बढ़ता ही जा रहा है। अवैध उत्खनन के कारण तेजी के साथ अरपा नदी से रेत कम होते जा रही है। प्राकृतिक रेत का इस तरह बेहिसाब दोहन से नदी के लिए बड़ा खतरा उत्पन्न हो गया है। नदी का स्वरूप भी तेजी के साथ बदल रहा है।

23-02-2020
खनिज विभाग उड़नदस्ता की टीम ने रेत, पत्थर और ईंट का अवैध परिवहन करते 7 वाहन किए जब्त

जांजगीर चाम्पा। जिले के अंतरगत चंद्रपुर में खनिज विभाग के उड़नदस्ता टीम की ताबड़तोड़ कार्यवाही देखने को मिली है। जहां चन्द्रपुर में खनिज विभाग की उड़नदस्ता टीम ने कार्यवाही करते हुए रेत, पत्थर और ईंट का अवैध परिवहन करते 7 वाहनों को जप्त कर लिया है। वहीं पकड़े गए वाहनों में 2 ट्रेलर और 5 ट्रैक्टर शामिल है। कार्रवाई के बाद सभी गाड़ियों को चन्द्रपुर थाना परिसर में खड़ी की गई है। दरसअल खनिज विभाग को लगातार अवैध रूप से परिवहन की  शिकायत मिल रही थी जिसके बाद खनिज विभाग उड़नदस्ता टीम ने कार्यवाही की है।

 

12-02-2020
अवैध तरीके से बजरी खनन करने वालों को दबोचा

गुना। संजय स्टेडियम और मंडी गेट पर अवैध तरीके से लाए गए बजरी व्यापार करने वाले को बुधवार को हिरासत में ले लिया गया। गुना अंतर्गत आरोन क्षेत्र ग्राम बहादुर से 10 ट्रैक्टर ट्राली को हिरासत में लिया गया। यह कार्रवाई कलेक्टर भास्कर लक्षकार के निर्देश पर खनिज विभाग के अधिकारी और एसडीएम ने की।
 

राकेश किरार की रिपोर्ट

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804