GLIBS
19-02-2020
स्टेट जीएसटी के लिए बनी कमेटी में अमर पारवानी शामिल

रायपुर। सेंट्रल जीएसटी ने जोनल-स्टेट स्तर पर मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ सर्कल के लिए विभाग ने State level Grievance Redressal committee का गठन किया है। इसमें छत्तीसगढ़ से कैट के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व प्रदेश के अध्यक्ष अमर पारवानी को भी शामिल किया गया है। यह जानकारी देते हुए कैट के प्रदेश महामंत्री जितेन्द्र दोशी ने कहा कि अमर पारवानी व्यापारिक संगठनों का प्रतिनिधित्व करेंगे। विभाग और कारोबारियों के बीच में किसी भी प्रकार की परेशानियों पर नामित सदस्य सहयोग प्रदान करेंगे। अमर पारवानी की नियुक्ति पर कैट छत्तीसगढ़ चैप्टर के पदाधिकारियों ने बधाई देते हुए विभाग के प्रति आभार जताया है। जितेन्द्र दोशी ने कहा कि कैट छत्तीसगढ़ चैप्टर व्यापारिक हित में पूरी सक्रियता से कार्य कर रही है। समय-समय पर संबंधित विभागों में व्यापारियों का पक्ष रखा जा रहा है।

 

19-02-2020
नक्सलियों की मांद में सुरक्षाबलों ने शुरु किया ऑपरेशन प्रहार, छत्तीसगढ़-तेलंगाना-महराष्ट्र की सीमा पर कार्रवाई

रायपुर। छत्तीसगढ़ के बस्तर इलाके में सुरक्षाबलों ने इस वर्ष-2020 का पहला ऑपरेशन प्रहार प्रारंभ किया है। 18 फरवरी की शाम से यह अभियान प्रारंभ किया गया है। पुलिस महानिदेशक डीएम अवस्थी ने बताया कि यह अभियान तेलंगाना की सीमा से लगकर महाराष्ट्र की सीमा तक एक साथ चलाया जा रहा है। इसमें छत्तीसगढ़ की एसटीएफ एवं डीआरजी के लगभग 1400 जवान तथा सीआरपीएफ के कोबरा के 450 जवान शामिल हैं। यह अभियान माओवादियों के अत्यंत कोर एरिया जो किस्टाराम और पामेड़ के बीच का क्षेत्र है उसमें तथा अबुझमाड़ इलाके में एक साथ चलाया जा रहा है। अब तक प्राप्त जानकारी के अनुसार सुकमा जिले के टोण्डामरका इलाके में एसटीएफ एवं डीआरजी के साथ हुई मुठभेड़ में 1 माओवादी का शव हथियार सहित बरामद हुआ है तथा 4 माओवादियों के गंभीर रूप से घायल होने की सूचना है। इस घटना में एसटीएफ का 1 जवान भी घायल हुआ है। नारायणपुर जिले के पुसपाल इलाके में इकुल ग्राम के पास एसटीएफ एवं डीआरजी के साथ अन्य मुठभेड़ में 1 माओवादी का शव बरामद हुआ है एवं कुछ माओवादियों के घायल होने की सूचना है। पुलिस महानिदेशक ने बताया कि सुरक्षाबलों द्वारा माओवादियों के अत्यंत सुदृढ़ इलाके में जबरदस्त अभियान चलाया जा रहा है, जो अभी जारी है। 

 

19-02-2020
स्वास्थ्य विभाग ने की अपील : अफवाहों पर ध्यान न दें, छत्तीसगढ़ में कोई भी कोरोना वायरस से प्रभावित नहीं

रायपुर। छत्तीसगढ़ में अभी तक कोरोना वायरस से प्रभावित कोई भी मरीज नहीं मिला है। चीन से लौटे लोगों और कोरोना वायरस पीड़ित से मिलते-जुलते लक्षणों वाले कुछ मरीजों के सैंपल जांच के बाद किसी के भी इससे प्रभावित होने की पुष्टि नहीं हुई है। स्वास्थ्य विभाग ने लोगों से अपील की है कि वे किसी भी तरह की अफवाहों और बेबुनियाद खबरों पर ध्यान न दें। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने कोरोना वायरस के लक्षणों के बारे में जानकारी देते हुए लोगों को इससे जागरूक रहने को कहा है। उन्होंने बताया कि इसके वायरस से प्रभावितों में तेज बुखार, खांसी और सांस लेने में दिक्कत जैसे लक्षण होते हैं। कई मरीजों को निमोनिया या किडनी फेलियर भी होता है जिससे उनकी जान भी जा सकती है। अभी तक कोरोना वायरस से बचाव का कोई टीका उपलब्ध नहीं है। इससे बचाव का सबसे अच्छा तरीका इसके संक्रमण से बचना है।

डॉक्टरों ने प्रभावित देशों जहां यह रोग पाया गया है, वहां नहीं जाने की सलाह दी है। उन्होंने व्यक्तिगत स्वच्छता पर ध्यान देने, साबुन से बार-बार हाथ धोने और खांसते एवं छींकते समय मुंह को ढंक कर रखने कहा है। जिन देशों में यह वायरस फैला है उसकी जानकारी विश्व स्वास्थ्य संगठन की वेबसाइट www.who.int पर उपलब्ध है। कोरोना वायरस या COVID-19 एक नया वायरस (विषाणु) है जो पहली बार चीन के हुबेई प्रांत के वुहान शहर में पाया गया है। कोरोना वायरस विषाणुओं का एक बड़ा समूह है जिनमें से कुछ लोगों को रोगग्रस्त करते हैं और कुछ पशुओं में घर करते हैं। शुरुआत में चीन के वुहान शहर में संक्रमित रोगियों का सम्बन्ध वहां के बड़े सी-फूड और पशु बाजार से पाया गया। इससे यह संकेत मिले कि इस वायरस का स्रोत पशु हो सकता है।

 

19-02-2020
राज्य कर्मचारी संघ के जिलाध्यक्ष बने ओपी पाल

रायपुर। राज्य कर्मचारी संघ जिला शाखा छत्तीसगढ़ का चुनाव 16 फरवरी को हुआ। इसमें सर्वसम्मति से ओपी पाल अध्यक्ष, संतोष कुमार धु्रव सचिव, केके कुर्रे कोषाध्यक्ष निर्वाचित हुए। चुनाव से पूर्व राज्य सूचना आयुक्त मोहन पवार ने भारत माता के समक्ष दीप प्रज्जवलित कर चुनाव कार्यक्रम शुरू होने की घोषणा की। इस अवसर पर देवनारायण पेंशनर्स महासंघ के राष्ट्रीय महामंत्री वीरेंद्र नामदेव, उपाध्यक्ष पूरन सिंह पटेल, प्रदेश महामंत्री अश्वनी चेलक सहित जिले के सदस्य मौजूद थे।

 

19-02-2020
बारदाना का बहाना बनाकर छत्तीसगढ़ के किसानों से छल कर रही है सरकार : कोमल हुपेण्डी

रायपुर। किसानों की धान खरीदी को लेकर छत्तीसगढ़ कांग्रेस सरकार ने 20 फरवरी की अवधि तय की है। इसे लेकर प्रदेश भर के किसानों में आक्रोश है। आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष कोमल हुपेण्डी ने कांग्रेस सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि सरकार की विफलता के कारण धान खरीदी केंद्रों में बारदाना नही हैं। बारदाना उपलब्धता की सम्पूर्ण जिम्मेदारी सरकार की है अब इसके बहाने वो धान नहीं खरीदना चाहती ऐसा प्रतीत हो रहा है। हुपेण्डी ने किसानों के तीन सूत्रीय मुख्य मांगों को लेकर एक दिवसीय धरना देने के लिए अपने प्रदेश के समस्त पदाधिकारीयों को आदेशित किया है। उत्तम जायसवाल ने कहा है कृषि भूमि की रकबा के आधार पर पंजीकृत किसानों की धान खरीदी एवं खरीदी की तिथि आगे बढ़ाई जाए व बारदाना की पर्याप्त उपलब्धता करवाई जाए प्रदेश भर में कृषि भूमि के बोए हुए रकबा के अनुसार पंजीकृत लाखों किसान बारदाना की कमी, लिमिट एवं टोकन नही कटने के कारण अभी तक धान नहीं बेच पाए है और सरकार दूसरी तरफ 20 तारीख को धान खरीदी बंद करने जा रही हैं यह एक तरह से किसानों के साथ अन्याय हैं।

आम आदमी पार्टी किसानों के तीन मुख्य मांगो को लेकर कल एक दिवसीय प्रदेश स्तरीय धरना देगी। प्रदेश के सभी जिलों में किसानों की ओर से बोए गए रकबा के आधार पर पंजीकृत सभी किसानों का धान खरीदी किया जाय। धान खरीदी केंद्रों में बारदानों की कमी है, जिसे जल्द उपलब्ध करवाया जाए। धान खरीदी का कार्य 20 फरवरी को समाप्त किया जा रहा है। इसकी तिथि तब तक बढ़ाई जाय जब तक सभी पंजीकृत किसानों का धान खरीदी प्रदेश भर में पूरा न हो जाए।

19-02-2020
पुलिस-नक्सली मुठभेड़ जारी, एक नक्सली ढेर

सुकमा। छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले के तोंडामरका के जंगल में नक्सलियों और डीआरजी के जवानों के बीच दो घंटे से लगातार फायरिंग जारी है। सूत्रों की माने तो फायरिंग में एक नक्सली ढ़ेर हो गया है। सुरक्षाबलों ने मौके से एक बंदूक भी बरामद की है। फिलहाल दोनों तरफ से रूक-रूक कर फायरिंग जारी है। 

18-02-2020
गुणवत्ता विहीन चावल बांटने पर तीन अधिकारियों पर गिरी गाज, सरकार ने की यह कार्रवाई.. 

रायपुर। खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग द्वारा सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत गुणवत्ता विहीन चावल वितरित करने की शिकायत सही पाए जाने पर शाखा प्रबंधक छत्तीसगढ़ स्टेट वेयर हाऊसिंग कार्पोरेशन शाखा वाड्रफनगर को निलंबित कर दिया गया है। इसके साथ ही जिला प्रबंधक नागरिक आपूर्ति निगम बलरामपुर को स्थानांतरित कर दिया गया है और क्वालिटी इंस्पेक्टर नागरिक आपूर्ति निगम को कारण बताओं नोटिस जारी किया गया है। विभागीय अधिकारियों ने बताया कि शिकायत प्राप्त हुई कि नागरिक आपूर्ति निगम द्वारा भण्डारित चावल में शाखा प्रबंधक एसडब्ल्यूसी वाड्रफनगर की लापरवाही बरतने के कारण कीटग्रस्तता से लगभग 16 हजार बोरे चावल खाने योग्य नहीं रहा है, फिर भी गुणवत्ता विहीन चावल को जिला प्रबंधक नान के द्वारा पीडीएस में वितरित किया जा रहा है। अधिकारियों ने बताया कि चावल में भण्डारण के दौरान नमी एवं आर्द्रता के कारण गुणवत्ता में आंशिक क्षीणता प्राकृतिक प्रक्रिया है, कीटप्रकोप भी खाद्यान्नों में भण्डारण के दौरान एक स्वाभाविक प्रक्रिया है। जिसे समयानुसार निर्धारित दिशा-निर्देशों के अनुरूप कीटोपचार किया जाता है एवं गुणवत्तायुक्त चावल ही पीडीएस के लिए वितरित किया जाता है। जांच के दौरान सारा स्कंध खराब नहीं पाया गया लगभग एक प्रतिशत से भी कम गुणवत्ता क्षीणता के कारण स्कंध खराब होने की आशंका है। जिसकी क्षतिपूर्ति-वसूली दोषियों से किया जाना अपेक्षित है।
  
 
 
 

18-02-2020
 32 एकड़ में लगेगा राष्ट्रीय कृषि मेला, कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक ने किया निरीक्षण

रायपुर। राजधानी के तुलसी बाराडेरा थोक फल मण्डी में राष्ट्रीय कृषि मेले की तैयारियां युद्ध स्तर पर की जा रही है। यह मेला 32 एकड़ में फैले विशाल परिसर में आयोजित किया जा रहा है। मेले की तैयारियों का जायजा मंगलवार को कलेक्टर भारती दासन और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आरिफ शेख ने लिया। यह मेला 23 फरवरी से 25 फरवरी तक आयोजित किया जाएगा। इस मेले में छत्तीसगढ़ के विभिन्न जिलों के अलावा देश भर के राज्यों से आने वाले प्रगतिशील किसान शामिल होंगे। राष्ट्रीय कृषि मेले में कृषि उद्यानिकी, पशुपालन, मछलीपालन, ग्रामोद्योग विभाग से संबंधित प्रदर्शनी भी लगाई जाएगी। मेले में किसानों को कृषि और उनसे जुड़े विभिन्न गतिविधियों के उन्नत तकनीकों की जानकारी दी जाएगी। इस आयोजन में देश भर के 15 हजार से अधिक किसानों के भाग लेने के मद्देनजर सभी आवश्यक तैयारियां की जा रही है। आज अधिकारियों ने मेेला स्थल पर पेयजल, पार्किंग, प्रदर्शनी स्थल का मुआयना किया। इसके अलावा ट्रैफिक व्यवस्था की भी समीक्षा की।

अधिकारियों ने मेले के आयोजन से जुड़े विभागों को आवश्यक निर्देश भी दिए। अधिकारियों ने बताया कि मेला स्थल पर अग्निशमन वाहन और आवश्यक चिकित्सा व्यवस्था के लिए एम्बुलेंश सहित चिकित्सकों की टीम निरंतर उपस्थित रहेगी। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि मेला स्थल पर सुरक्षा, कानून व्यवस्था तथा यातायात व्यवस्था सुचारू ढंग से बनाये जाने के लिए रायपुर जिला पुलिस से पर्याप्त संख्या में बल उपलब्ध कराया जायेगा। राष्ट्रीय कृषि मेला में शामिल होने वाले किसानों के लिए स्वसहायता समूहों के माध्यम से भोजन की व्यवस्था की जाएगी। इस दौरान मंडी बोर्ड के प्रबंध संचालक  अभिनव अग्रवाल, अतिरिक्त प्रबंध संचालक महेन्द्र सिंह सवन्नी कृषि विभाग के अपर संचालक पिड़ीहा सहित अन्य संबधित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

18-02-2020
भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ में बेहतर निवेश के लिए औद्योगिक संभावनाओं की दी जानकारी

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, छत्तीसगढ़ विधानसभा के अध्यक्ष डॉ. चरण दास महंत और उनके साथ गए प्रतिनिधिमंडल ने यूनाइटेड नेशन के हेड क्वाटर का भ्रमण किया। एडमिनिस्ट्रेटिव ऑफिसर यूनाइटेड नेशन न्यूयॉर्क आनंद पांडेय ने इस अवसर पर उनका स्वागत करते हुए यूनाइटेड नेशन हेड क्वार्टर का भ्रमण करते हुए पूरी प्रकिया के संबंध में जानकारी प्रदान की। इसके तत्पश्चात मुख्यमंत्री भूपेश बघेल परमानेंट मिशन ऑफ इंडिया टू द यूनाइटेड नेशन न्यूयॉर्क के कार्यक्रम में शामिल हुए। इस अवसर पर भारत के राजदूत और संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि सैयद अकबरुद्दीन ने उनका स्वागत किया तथा उनके साथ छत्तीसगढ़ में वर्तमान में चल रहे आर्थिक आद्योगिक गतिविधियों पर विस्तार से चर्चा की।


 मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने उद्बोधन में छत्तीसगढ़ और राज्य सरकार के नवाचारों और विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं के बारे में जानकारी दी । उन्होंने छत्तीसगढ़ में औद्योगिक निवेश की संभावनाओं पर विस्तार से जानकारी देते हुए इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी, डिजिटल टेक्नोलॉजी और नॉन कोर सेक्टर में निवेश के लिए उपस्थित निवेशकों को आमंत्रित किया। उपस्थित निवेशकों ने छत्तीसगढ़ के बारे में जानकर और यहां निवेश के लिए उचित वातावरण होने का स्वागत किया तथा निवेश के लिए अपनी रुचि भी व्यक्त की। मुख्यमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ का निर्माण वर्ष 2000 में हुआ। उस समय छत्तीसगढ़ का बजट 6000 करोड़ का हुआ करता था। आज यह एक लाख करोड़ को पार कर गया है। लेकिन प्रति व्यक्ति आय को देखें तो बड़ा अंतर दिखता है। लगभग 40 प्रतिशत लोग गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू ने 1955 में भिलाई स्टील प्लांट का निर्माण कराया। उसके बाद रायपुर, रायगढ़ सहित कई स्थानों में निजी क्षेत्र के स्टील प्लांट खुले। बालकों में सबसे पहले एल्युमिनीयम का प्लांट स्थापित हुआ। छत्तीसगढ़, उड़ीसा और झारखंड तीन ऐसे राज्य हैं जहां लोहा, कोयला और बाक्साइट है। हमारे छत्तीसगढ़ में हीरा भी है लेकिन उसकी खुदाई अभी शुरू नहीं हुई है।
    
भूपेश बघेल बघेल ने कहा कि छत्तीसगढ़ में खनिज संसाधन पर्याप्त मात्रा में है। हमारे यहां कोर सेक्टर में बहुत से उद्योग हैं। यहां पहले साढ़े 4 हजार मेगावाट विद्युत का उत्पादन होता था जो बढ़कर 22 हजार मेगावाट हो चुका है। यहां से गोवा, तेलंगाना, दिल्ली, गुजरात, महाराष्ट सहित अनेक राज्यों को बिजली की आपूर्ति की जाती है। उन्होंनेे कहा कि हमारे यहां सीमेंट प्लांट बहुत हैं। कोर सेक्टर में हमारे यहां बड़े बड़े प्लांट लगे लेकिन इसके बाद भी यहां लोगों के जीवन स्तर में बड़ा अंतर दिखाई देता है। कोरबा जहां कोल ब्लाक भी है। यह जिला अकेले दस हजार मेगावाट विद्युत का उत्पादन करता है। यहां एल्युमिनियम प्लांट भी है।
     
 मुख्यमंत्री ने कहा कि भारत सरकार ने 110 आकांक्षी जिले घोषित किए हैं उनमें दस जिले छत्तीसगढ़ में हैं। उनमें कोरबा भी शामिल है। वहां उद्योग भी है खनिज भी है उसके बाद भी आकांक्षी जिला है। यह हमारे लिए सोचनीय है और इसलिए हमने हमारी सरकार बनने के बाद व्यक्ति को इकाई माना और एक व्यक्ति का विकास कैसे हो सकता है। यह मान कर काम करना शुरू किया। सीएम बघेल ने राज्य की भौगोलिक, प्राकृतिक संसाधनों, सामाजिक-आर्थिक और सांस्कृतिक विशेषताओं की विस्तार से जानकारी देते हुए सरकार द्वारा उठाए गए कदमों की जानकारी दी।

18-02-2020
भूपेश बघेल न्यूयॉर्क में शिवाजी जयंती कार्यक्रम में हुए शामिल

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अपने अमेरिका प्रवास के दौरान न्यूयार्क स्थित कॉन्सूलेट जनरल ऑफ इंडिया के कार्यालय में आयोजित छत्रपति शिवाजी महाराज  की जयंती कार्यक्रम में शामिल हुए। कार्यक्रम में सीएम बघेल ने छत्रपति शिवाजी को नमन करते हुए कहा कि शिवाजी महाराज को स्मरण करने में एक आत्मविश्वास से भरा व्यक्तित्व और शौर्य के प्रतीक की तस्वीर उभरती है। शिवाजी ने कम संख्या की सेना के बावजूद आत्मविश्वास के बल पर कई लड़ाई जीती है। उसी प्रकार हमें भी आज की परिस्थिति में अपनी चुनौतियों का सामना आत्मविश्वास से करना चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि शिवाजी के नारी सम्मान के कार्यों, गुरू और माता के आदेशों का पालन, देश के लिए त्याग और समर्पण भाव से हमें सीखना चाहिए। उन्होंने कहा कि  बड़ी प्रसन्नता की बात है कि भारत देश से बाहर हजारों मिल दूर यहां न्यूयॉर्क में हम लोग शिवाजी महाराज की जयंती मना रहे हैं। छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र  पड़ोसी राज्य है। एक समय विदर्भ और छत्तीसगढ़ बरार प्रांत का हिस्सा रहे हैं। अभी भी छत्तीसगढ़ के कई जिलों में हमारे मराठी भाई निवास करते है और छत्तीसगढ़ में भी शिवाजी जयंती बड़े धूमधाम से मनाते है । इस अवसर पर छत्तीसगढ़ शासन के मुख्य सचिव आरपी मण्डल, अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू, मुख्यमंत्री के सचिव गौरव द्विवेदी, मुख्यमंत्री के सलाहकार प्रदीप शर्मा सहित कॉन्सूलेट जनरल ऑफ इंडिया के अधिकारी गण मौजूद थे।

18-02-2020
दिल्ली में भाजपा विधायक दल के नेता का चुनाव, सरोज पाण्डे पर्यवेक्षक नियुक्त

रायपुर। दिल्ली विधानसभा चुनाव में भाजपा विधायक दल के नेता का चुनाव होना है। छत्तीसगढ़ से राज्यसभा सांसद और भारतीय जनता पार्टी की राष्ट्रीय महामंत्री सरोज पांडे को नेता चुनने के लिए केंद्रीय पर्यवेक्षक नियुक्त किया गया। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने सरोज पाण्डे को पर्यवेक्षक नियुक्त किया है।

17-02-2020
राजधानी को नशा मुक्‍त बनाने के लिए मितानिनों ने लिया संकल्‍प

रायपुर। राज्‍य स्‍वास्‍थ्‍य संसाधन केंद्र के निर्देश में नशा मुक्‍त शहर बनाने के लिए 9 वें चरण के तहत मितानिनों को प्रशिक्षण दिया गया। आज राजधानी में शहरी मितानिनों ने समुदाय को तंबाकू व गुड़ाखू के सेवन से होने वाली बीमारियों को जन-जन तक पहुंचाने के लिए नशा मुक्ति का संकल्‍प लिया| एरिया कॉडिनेटर डीगेश्‍वरी पटेल ने बताया कि गैर संचारी रोग के रुप में नशा चाहे कोई भी हो शरीर के लिए घातक होता है। भारत में तंबाकू के सेवन से प्रतिवर्ष 8 से 9 लाख लोग जान गवांते हैं। तंबाकू खाने से लोगों में मुंह का कैंसर होने का खतरा बढ़ रहा है। तंबाकू, बीपी, हार्ट अटैक और लकवा जैसी गंभीर बीमारी को बढा़वा देता है।
ग्लोबल एडल्ट टोबाको सर्वे – 2016-17 के अनुसार,छत्तीसगढ़ में 39.1 प्रतिशत लोग किसी प्रकार के तम्बाकू का सेवन करते हैं। यह देश की औसत 28.4 % से अधिक है| इन में से 7.3% तम्बाकू का सेवन करने वालों ने 15 वर्ष की उम्र से पहले सेवन शुरू किया था,29%  ने 15-17 वर्ष की उम्र से और 35.4% ने 18-19 वर्ष में सेवन शुरू किया था यानि औसतन 18.5 वर्ष की आयु में तम्बाकू का सेवन शुरू किया गया था। नशा करने से मनुष्य आर्थिक तंगी का शिकार भी हो जाता है। नशे की वजह से ज्‍यादातर महिलाएं घरेलू हिंसा और मानसिक तनाव के शिकार हो रही हैं। उन्होंने बताया आज कल बच्चों में भी नशे की आदत लग रही है। इस लिए सभ्य समाज के निर्माण के लिए नशा मुक्ति संकल्प अभियान चलाकर लोगों को जागरुक करने की जिम्‍मेदारी मितानिनों की होगी।  मितानिन ट्रेनर सरिता साहू ने बताया मितानिन बहने इसके लिए अपने  मोहल्ले में तंबाकू का सेवन रोकने के लिए मुहल्‍ले की बैठक लें और तंबाकू से होने वाले नुकसान की जानकारी दें। प्रशिक्षण में मितानिन हेमिन कश्‍यप, ऋतु पटेल, ज्‍योति पॉल, मोहनी साहू, रामेश्‍वरी महिलांगे, लक्ष्‍मी साहू, कांति व चमेली घृतलहरे सहित अन्‍य भी उपस्थित रहीं।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804