GLIBS
23-01-2020
हाईकोर्ट का आदेश, जीएम पाठ्य पुस्तक निगम के खिलाफ एसीबी की कार्रवाई पर रोक

रायपुर। बिलासपुर हाईकोर्ट ने पाठ्य पुस्तक निगम के महाप्रबंधक अशोक चतुर्वेदी के खिलाफ आगामी आदेश तक एसीबी की कार्रवाई पर रोक लगा दी है। इसके साथ ही राज्य शासन को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है। पाठ्य पुस्तक निगम के जीएम अशोक चतुर्वेदी के खिलाफ आर्थिक अनियमितता और करोड़ों रुपए के नुकसान की शिकायत शासन से की गई थी। शिकायत के बाद शासन ने जांच की जिम्मेदारी एंटी करप्शन ब्यूरो को दी। अपराध पंजीबद्ध करने के पश्चात एसीबी द्वारा जांच की कार्यवाही शुरू की गई। इसी जांच के खिलाफ जीएम ने हाईकोर्ट में याचिका दायर की। याचिका में बताया कि जांच के नाम पर शासन द्वारा दुराग्रहपूर्वक व विधि विरुद्ध कार्रवाई की जा रही है। इसलिए इस पर रोक लगाई जाए। जस्टिस संजय के अग्रवाल की सिंगल बेंच ने बुधवार को प्रकरण की सुनवाई के बाद एसीबी की जांच और कार्यवाही पर आगामी आदेश तक रोक लगाते हुए शासन से जवाब तलब किया है।

16-01-2020
हाईकोर्ट का निर्देश अब सीधे नहीं हो पाएगी भ्रूण परीक्षण की शिकायत

रायपुर। जस्टिस संजय के अग्रवाल की एकल पीठ में लिंग परीक्षण की शिकायत पर डॉक्टर दंपत्ति के खिलाफ सीधे दर्ज की गई एफआईआर पर रोग लगा दी है। इसके साथ ही मामले में पुलिस को पीएनडीटी अधिनियम के तहत कोर्ट में परिवाद दायर करने के दिशा निर्देश भी जारी किए है। उल्लेखनीय महासमुंद जिले के सरायपाली बसना के ब्लॉक चिकित्सा अधिकारी डॉ.रोजेदार ने अपने खिलाफ दर्ज एफआईआर को रद्द करने की मांग हाईकोर्ट में याचिका के माध्यम से लगाई थी। याचिकाकर्ता ने कहा है कि उसके खिलाफ एक महिला ने कलेक्टर से  फर्जी शिकायत की थी। शिकायतकर्ता ने कहा है कि डॉ. रोजेदार और उनकी पत्नी भ्रूण परीक्षण करते हैं। महिला की शिकायत के आधार पर कलेक्टर ने तहसीलदार को एफआईआर दर्ज करने के आदेश दिए थे ।कलेक्टर के निर्देश पर तहसीलदार ने थाने में उसके खिलाफ मामला दर्ज कर लिया| मामले की सुनवाई के बाद जस्टिस संजय के अग्रवाल ने चिकित्सक के खिलाफ सीधे दर्ज रोक लगा दी।

 

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804