GLIBS
15-07-2020
2 आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को हुआ कोरोना, 80 से अधिक बच्चे आए संपर्क में

रायपुर/दुर्ग। दुर्ग के बोरिगारका गांव में 2 आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद हड़कंप मच गया। कारण यह कि दोनों के संपर्क में 80 से अधिक बच्चे आए हैं। बताया जा रहा है कि बच्चों की जांच के लिए स्वास्थ्य विभाग की टीम आज बुधवार को गांव पहुंच रही है। 13 जुलाई को गांव के 4 लोग कोरोना पॉजिटिव मिले थे। इसमें दो आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, एक रोजगार सहायक और एक बाहर से लौटा युवक है। रोजगार सहायक के संपर्क में आए पंचों का सैम्पल लिया जा चुका है, जिसकी रिपोर्ट अभी नहीं आई है।

08-07-2020
ग्रामीणों की शिकायत पर जांच में पहुँचे अधिकारी, फर्जी मस्टररोल भर राशि आहरण की हुई पुष्टि

कांकेर। विगत दिनों चारामा ब्लॉक के ग्राम पंचायत लखनपुरी में ग्रामीणों व पंचों द्वारा रोजगार सहायक पर मनमानी व भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए इसकी शिकायत जिला पंचायत सीईओ से की थी। इसके बाद जांच टीम गठित कर मामले की जांच के लिए 7 जुलाई को जनपद पंचायत चारामा से एसडीओ, पंचायत इंसपेक्टर एवं सीईओ पहुंचे। यहां मंडी प्रांगण में सभी ग्रामीणों व पंचो, सरपंच, ग्राम पटेल, ग्राम समिति के अध्यक्ष के समक्ष शिकायत के आधार पर जांच की गई। इसमें मनरेगा कार्यो में फर्जी हाजिरी भरकर राशि आहरण करने, शौचालय निर्माण की राशि आहरण में गड़बड़ी,गौठान के पीछे आऊट लेट पीचिंग निर्माण कार्य में भी अन्य गांव के मजदूरों से काम लिया जाना, मनरेगा के तहत हुए कार्यो में पांच वर्षो से मजदूरों की मजदूरी नहीं मिलने जैसे गंभीर मामले सामने आये है। इसमें जांच अधिकारियों से चर्चा करने पर चारामा जनपद पंचायत के कार्यक्रम अधिकारी मनरेगा राहुल तारक ने बताया कि जो आरोप लगाये गये है उनमें शौचालय का ही मात्र हितग्राहियों को भुगतान नहीं हुआ है व मनरेगा कार्यो का
भुगतान मजदूरों को कर दिया गया है। वहीं जब जांच  अधिकारियों द्वारा सरपंच मनरेगा सम्बंधित आउट लेट पीचिंग कार्य की जानकारी ली गई तो सरपंच द्वारा कार्य आदेश नही मिलने की बात स्वीकार की है जबकि कार्यक्रम अधिकारी कार्य आदेश जारी करने की बात कही गई है  यदि कार्य आदेश दिया ही नही गया है तो कार्य शुरू होनी ही नहीं चाहिए ऐसा ग्रामीणों ने आरोप लगाया है। फिलहाल इस सबंध में  ग्राम पटेल विनोद साहू, ग्राम समिति अध्यक्ष सुरेश यादव, ग्राम प्रमुख जनक साहू, परवीन साहू, तरुण चौहान, दिव्या मंडावी, शारदा मंडावी, रूखमणी सिन्हा, मंजू जुर्री, प्रताप राव कदम, खिलावन सहित ग्रामीणों ने उच्च स्तरीय जाँच की मांग की है।

 

29-06-2020
ग्रामीणों ने ज्ञापन सौंपकर की जांच की मांग,जनपद अध्यक्ष ने दिया आश्वासन

कांकेर। जनपद पंचायत कांकेर अंतर्गत ग्राम माटवाड़ा लाल में ग्रामीणों ने सरपंच, सचिव, रोजगार सहायक व मेट पर वर्ष 2019-2020 में निर्माण कार्य एवं निजी डबरी के तहत विभिन्न कार्यो में फर्जी हाजिरी भरकर राशि आहरण करने का आरोप लगाते हुए मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत एवं जिला पंचायत के नाम ज्ञापन सौंपने जनपद पंचायत पहुँचे थे। जनपद सीईओ के नहीं होने पर जनपद अध्यक्ष से उसकी जांच करवाने की मांग की गई है। ग्रामीणों ने ज्ञापन में उल्लेख किया है कि ग्राम पंचायत में ग्रामसभा में मस्टर रोल एवं हाजिरी रजिस्टर को दिखाने की मांग की जाती है तो कभी भी ग्रामीणों को नहीं दिखाया जाता है। ज्ञापन सौंपने वालों में मनोज पटेल, चुनेश्वर मंडावी, नमेश्वर साहू, हेमंत नेताम, लोकनाथ नेताम, रुपसिंह सोनकर, योगेश्वर साहू, रोशन सोनकर, रवि विश्वकर्मा, चंदन साहू, नरेश कवाची, संतु मंडावी, दुर्जन दुग्गा, नागेश कोर्राम, शिवदास नेताम, नेमसिंह ठाकुर, राजेन्द्र मंडावी, संदीप कुमार साहू, खुम्मन कोड़ोपी मौजूद थे। इस मामले में जनपद अध्यक्ष रामचरण कोर्राम ने कहा है कि इसकी जांच करवाई जायेगी व दोषियों पर कड़ी कार्यवाही की जायेगी।

23-05-2020
रोजगार सहायक पर फर्जी हाजरी डालने का ग्रामीणों ने लगाया आरोप, कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

धमतरी। लॉक डाउन में इन दिनों ग्रामीण क्षेत्र में मनरेगा कार्य जोरो पर है। सरकार द्वारा मजदूरों की व्यथा देख सोशल डिस्टेंस का पालन कराते हुए रोजगार मुहैया कराई जा रही है। वही कार्य पर नहीं जाने वालों की भी हाजरी डालने का आरोप ग्रामीणों ने रोजगार सहायक पर लगाया है। कलेक्ट्रेट में ज्ञापन देने से पूर्व ग्रामीणों द्वारा 8 मई को कुरूद जनपद पंचायत सीईओ को ज्ञापन सौंपा था, जिस पर अभी तक कोई कार्यवाही ना होने के कारण ग्रामीणों ने कलेक्टर को ज्ञापन सौंप कार्रवाई की मांग की है। दरअसल इन दिनों जिले के लगभग सभी पंचायतों में मनरेगा कार्य जारी है। इसके कारण ग्राम पंचायत सिर्वे में भी मनरेगा चल रहा लेकिन ग्रामीणों का आरोप है कि रोजगार सहायक मनरेगा में नहीं जाने वालों की भी हाजरी मस्टररोल में चढ़ाने पर मजदूरों में आक्रोश है।

ग्रामीणों का यह भी आरोप है कि 50 मजदूरों के समक्ष मैं अपने हिसाब से काम करवाऊंगा जिसको जो करना है कर लो कहते हुए मजदूरों को धमकाने का भी आरोप रोजगार सहायक पर लगाया है। मजदूरों ने ये भी बताया कि जो व्यक्ति रोजगार सहायक के लिए आवाज़ उठाता है। उसका नाम मांग पत्र से काट देते है। वही ग्रामीणों ने धमतरी कलेक्टर रजत बंसल से रोजगार सहायक के खिलाफ शिकायत की है और जांच कर कार्यवाही की मांग की है। इस मामले में जनपद पंचायत सीईओ का कहना है कि ग्रामीणों द्वारा 8 तारीख को ज्ञापन नहीं सौंपा गया था अभी 2-3 दिनों पहले ही ज्ञापन दिया गया है। वही इस मामले में पूछे जाने पर बताया कि इस संबंध में जांच अधिकारी नियुक्त कर दिया गया है जांच टीम के द्वारा रिपोर्ट दिए जाने के बाद आगे की कार्यवाही की जाएगी।

19-05-2020
ग्रामीणों ने लगाया रोजगार सहायक के उपर भ्रष्टाचार का आरोप,कुरूद जनपद सीईओ को निष्पक्ष जांच के लिए सौंपा ज्ञापन...

धमतरी। जिले के कुरूद विकास खण्ड में आने वाले ग्राम पंचायत सिर्वे के ग्रामीणों ने रोजगार सहायक के द्वारा फर्जी तरीके से हाजरी मस्टर रोल में भरने की शिकायत लेकर पहुंचे थे। ग्रामीणों ने कुरूद जनपद सीईओ से मिलकर ग्रामीणों ने रोजगार सहायक के खिलाफ शिकायत की। सीईओ से शिकायत की सूचना मिलने पर बौखलाए रोजगार सहायक द्वारा दबंगई करते हुए कहा मेरा कुछ नहीं हो सकता। इसके बाद ग्रामीण ने मामले की शिकायत करते हुए रोजगार सहायक के खिलाफ जांच कर कार्रवाई की मांग की है। बता दें की ग्राम पंचायत सिर्वे मे रोजगार सहायक हीरालाल सोनवानी विगत पंद्रह वर्षो से रोजगार गारंटी का काम सम्हाल रहा है। ग्रामीण ने रोजगार सहायक के ऊपर गांव के ही एक व्यक्ति का नाला बांधने और कुछ सीमेंट बोरी देने के एवज मे उनकी फर्जी हाजरी भरकर पैसो का हेराफेरी करने का गंभीर आरोप लगाया है।  ग्रामीणों ने कहा कि रोजगार गारंटी योजना के तहत काम किया जा रहा है, जिसमें कार्य करने एक भी दिन नहीं गया है उनका लगभग 14 से 15 दिन का नाम फर्जी तरीके से मस्टर रोल में डाल कर भ्रष्टाचार करने का गंभीर आरोप लगाया है।

इस मामले को लेकर ग्रामीणों में काफी आक्रोश देखा जा रहा है। इस फर्जी हाजरी की जानकारी सरपंच सचिव किसी को नहीं,इस मामले में सरपंच सीमा यदु से जानकारी लेने पर जानकारी ग्रामीणों के द्वारा होने की बात कही है। वहीं सचिव से इस मामले की जानकारी लिया गया तो मुझे इसकी जानकारी नहीं होने की बात कही। वहीं रोजगार सहायक पल्ला झाड़ते हुए कहां की ग्रामीणों ने फर्जी तरीके से मास्टर रोल में नाम डालने की बात कह रहे है वह बेबुनियाद हैं, मेरे ऊपर जबरन आरोप लगाया जा रहा है। आए दिन इस तरह रोजगार गारंटी के कामों में भ्रष्टाचार की शिकायत आ रही है पंच सरपंच सहित ग्रामीणों ने बड़े पैमाने पर फर्जी हाजरी भरे जाने की आशंका व्यक्त कर जनपद सीईओ को दस रुपय वाले नोटरी में लिखित जांच कर दोषी के खिलाफ कार्यवाही करने की मांग की है। ग्राम के शिव प्रसाद , पूरन, रूपचंद, चंद्र कुमार, दशरथ साहू, सरिता , उमेश्वरी पंच, चंद्र कुमार पंच, नीता पंच, इंदल राम, रुक्मणी साहू, हेमंत साहू, तारामती साहू, देवेश्वरी साहू, जितेशवरी, भारती ,मथुरा यदु ,परमेश्वरी, भारती यदु, लोकेश्वरी, पूर्णिमा ,लगनी, कंचन, हेमलता, भेनू, बलराम, बीसहत, महेंद्र, कुलेश्वरी, बिंदिया, लक्ष्मीनारायण , नारायण, गोपी पंच आदि ने नोटरी युक्त शिकायती पत्र में कार्यवाही की मांग की है, जिस पर जनपद पंचायत कुरूद के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने शिकायत को गंभीरता से लेते हुए जांच करा कर कार्यवाही का भरोसा दिलाया है।

29-03-2020
 ग्राम पंचायतों में दो क्विंटल चावल जरूरतमंदों के लिए रखा जाए: कलेक्टर

गरियाबंद। लाॅकडाउन के दौरान जिले में समुचित प्रबंध बनाये रखने के लिए अधिकारियों की रविवार को कलेक्टोरेट सभाकक्ष में बैठक आयोजित की गई। कलेक्टर श्याम धावड़े की अध्यक्षता में आयोजित इस बैठक में पंचायतवार नियुक्त नोडल अधिकारियों से संबंधित पंचायतों में अद्यतन स्थिति की समीक्षा की गई। बैठक में पुलिस अधीक्षक भोजराम पटेल,जिला पंचायत सीईओ विनय कुमार लंगेह,वनमण्डलाधिकारी मयंक अग्रवाल उपस्थित थे।
कलेक्टर धावड़े ने सभी जनपद सीईओ को संबंधित जनपद मुख्यालय में कोविड-19 से संबंधित कन्ट्रोल रूम स्थापित कर हेल्पलाईन नम्बर जारी करने के निर्देश दिए। उन्होंने उक्त कन्ट्रोल रूम में जनपद स्तर के विभिन्न विभागों के अधिकारी-कर्मचारियो की ड्यूटी लगाने व चौबीसों घंटे कार्य संचालित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायत स्तर पर पंचायत सचिव एवं रोजगार सहायक होम आइसोलेशन में रखे व्यक्तियों पर निगरानी रखे।

साथ ही गांव वालों का मनोबल ऊंचा रखने के लिए उन्हें आवश्यक समझाईश दी जाए। प्रत्येक ग्राम पंचायत में दो क्विंटल अतिरिक्त चावल जरूरतमंदों के लिए रखा जाए। इसके लिए पृथक से पंजी संधारित किया जाए। कलेक्टर ने कहा कि सभी ग्राम पंचायतों में आनाज बैंक स्थापित कर ग्रामीण दानदाताओं, सामाजिक संस्थाओं से आनाज व राशि दान स्वरूप प्राप्त किया जाए। उन्होंने कहा कि आनाज बैंक की व्यवस्था संबंधित जनपद सीईओ/ तहसीलदार द्वारा टीम बनाकर किया जाए। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि लाॅकडाउन के दौरान कोई भी व्यक्ति भूखा न रहे, इस पर विशेष ध्यान दिया जाए। गांवों में व्यवस्था के सुचारू संचालन के लिए वालिंटियर भी तैयार रखे।

साथ ही गांव के जिम्मेदार नागरिकों,स्वयंसेवी संस्थान,दानदाताओं की पृथक सूची बनाकर व्यवस्था हेतु इनसे संवाद स्थापित कायम रखे। कलेक्टर ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग से सेवानिवृत्त लोगों की भी सूची तैयार किया जाए, ताकि आवश्यकता पड़ने पर इनकी भी सेवाएं ली जा सके। कलेक्टर ने जिला एवं विकासखण्ड स्तर के अधिकारी-कर्मचारियों को निर्धारित मुख्यालय में रखने के कड़े निर्देश दिए। साथ ही सभी जिला प्रमुख अधिकारियों को इस बाबत् आगामी मंगलवार तक निर्धारित प्रपत्र में जानकारी जिला कार्यालय को उपलब्ध कराने कहा। उन्होंने जिले में निर्माण कार्य में लगे अन्य प्रांतों के मजदूरो के लिए पर्याप्त खाद्यान्न की व्यवस्था सुनिश्चित करने कार्यपालन अभियंता लोक निर्माण विभाग को निर्देशित किया। बैठक में अपर कलेक्टर केके बेहार,एसडीएम गरियाबंद जेआर चाैरसिया, एसडीएम राजिम जीडी वाहिले, एसडीएम देवभोग भूपेन्द्र साहू, एसडीएम मैनपुर अंकिता सोम, डिप्टी कलेक्टर निर्भय साहू व ऋषा ठाकुर, सीएमएचओ डाॅ.एनआर नवरत्न, सभी जनपद सीईओ और जिला प्रमुख अधिकारी उपस्थित थे।

27-03-2020
कोरोना वायरस के चलते दुर्ग जनपद पंचायतों में आपात सेल शुरू

दुर्ग। जिले में कोरोना वायरस संक्रमण के रोकथाम के लिए जिला और जनपद स्तर पर ‘कोविड-19 आपात सेल‘ का गठन किया गया है। जिले में विदेशों एवं अन्य प्रदेशों से ग्राम पंचायतों में आने वाले व्यक्तियों की जानकारी एकत्र की जा रही है। बाहर से आने वाले व्यक्तियों को होम आईसोलेशन में रखकर प्रतिदिन उनके स्वास्थ्य संबंधी अपडेपट जिला एवं जनपद स्तर पर कोविड -19 आपता सेल के अधिकारी/कर्मचारियों द्वारा लिये जा रहे। ग्राम पंचायत स्तर पर प्रतिदिन स्वास्थ्य कार्यकर्ता, मितानीन, आंगनबाड़ी कार्यकता, सहायिका, ग्राम पंचायत सरपंच, सचिव, रोजगार सहायक एवं ग्राम पंचायत क्षेत्र के समस्त पंचायत प्रतिनिधियों द्वारा कोरोना वायरस के लक्षण वाले व्यक्तियों का चिन्हांकन किया जा रहा है। लक्षण पाये जाने पर इसकी सूचना चिकित्सा विभाग को दी जावेगी है।‘कोविड-19 आपात सेल‘ में कार्यतर अधिकारी/कर्मचारियों को भी कोरोना वायरस से बचाव के लिए आवश्यक सावधानियां बरतने के लिए मुख्य कार्यपालन अधिकारी,जिला पंचायत दुर्ग द्वारा निर्देश दिये गये है। जिला स्तरीय ‘कोविड -19 आपात सेल‘ में अजय कुमार मिश्रा, जिला प्रभारी अधिकारी, स्व्प्निल ध्रुव,(हेल्प लाईन. नं. 96854-80085) एवं जनपद पंचायत स्तरीय ‘कोविड-19 आपात सेल‘ पर जनपद पंचायत दुर्ग में देवीसिंह ध्रुव (हेल्प लाईन.नं. 98279-92263), जनपद पंचायत धमधा में मुकेश तहकार (मो.नं. 91741-28659), एवं जनपद पंचायत पाटन में जस्सु वर्मा (हेल्प लाईन. नं. 88272-78009) को प्रभार दिया गया है। जो व्यक्ति बाहर नहीं गये हैं किन्तु बाहर से आने वाले व्यक्तियों के सम्पर्क में रहे हैं, उन सभी व्यक्तियों पर निगरानी रखी जाये। बीमारी से संबंधित कोई भी लक्षण दिखने पर तत्काल इसकी सूचना स्वास्थ्य केन्द्र एवं ‘कोविड -19 आपात सेल‘ को उपलब्ध कराया जायेगा।

 

19-03-2020
पूर्व सरपंच, सचिव व रोजगार सहायक के खिलाफ ग्रामीणों ने खोला मोर्चा, सीईओ से की जांच की मांग

कोरबा। पोड़ी उपरोड़ा विकासखंड के ग्राम पंचायत कोरबी का मामला सामने आया है। यहां के पूर्व सरपंच, सचिव,तथा रोजगार सहायक द्वारा 2015-19 के बाजार की वसूली की राशि तथा स्वच्छ भारत मिशन के तहत बने शौचालय निर्माण की राशि तथा 13वें व 14वें वित्त की राशि का हिसाब ग्रामीणों द्वारा मांगने पर नहीं दिया जाता जोकि गलत है। ग्रामीणों ने बताया कि ग्राम पंचायत में बने बाजार के पास शासकीय भूमि में चबूतरे को भी सरपंच के द्वारा निजी हाथों में सौंप दिया गया है। आज ग्रामीणों ने ज्ञापन देकर कोरबा कलेक्टर को सरपंच की शिकायत की। जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी से जांच की मांग की है।

24-01-2020
मतदान केन्द्रों में आवश्यक व्यवस्था उलपब्ध कराना सुनिश्चित करें : सीईओ

कांकेर। जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डाॅ. संजय कन्नौजे ने शुक्रवार को  कांकेर विकासखण्ड के जनपद पंचायत के समस्त ग्राम पंचायत सचिव, रोजगार सहायक एवं तकनीकी सहायकों से विकास कार्यो की विस्तृत समीक्षा करते हुए समय सीमा में गुणवत्ता पूर्णढंग से कार्य पूर्ण कराने के निर्देश दिये। उन्होंने त्रिस्तरीय पंचायत निर्वाचन के तहत सभी पंचायत सचिवों को मतदान केन्द्रों में दीवार लेखन, मतदान केन्द्रों में आवश्यक मूलभूत सुविधाये जैसे- पानी, लाईट, फर्नीचर तथा शौचालय की व्यवस्था कराने निर्देशित किए। इससे मतदाताओ को मतदान के दिन किसी भी प्रकार की असुविधा न हो एवं शांतिपूर्ण रूप से चुनाव संपन्न हो सके। जिला पंचायत सीईओ डाॅ.कन्नौजे ने कांकेर विकासखण्ड के पुराने तथा नये गौठानों की समीक्षा कर गौठानों को मल्टीएक्टीविटी सेंटर के रूप में विकसित कर स्व-सहायता समूहो की महिलाओं को रोजगार सृजन कराने तथा गौठानों में पैरा एकत्र कराने के निर्देश दिए। ग्राम गौठान समितियों का नियमित बैठक करायें ताकि गौठानों का सहीं संचालन हो सके। सभी पंचायतों में मनरेगा के तहत कार्य स्वीकृत कराये ताकि लोगों को रोजगार के अवसर मिल सके और समय सीमा में मजदूरी भुगतान भी कराना सुनिश्चित करे। बैठक में जनपद सीईओ यूके पामभोई व परियोजना अधिकारी मनरेगा ऋतु कोसरिया सहित  समस्त सचिव एवं तकनिकी सहायक उपस्थित थे।

 

12-12-2019
रात 7 बजे अधिकारी ले रहे पटवारी, राजस्व निरीक्षक, ऑपरेटर, सचिव व रोजगार सहायक की बैठक

कवर्धा। धान खरीदी को लेकर पूरे प्रदेश में घमासान मचा हुआ है। ऐसे में अधिकारी आनन फानन में रात को ही कर्मचारियों की बैठक बुला रहे हैं। जी हां कवर्धा तहसील के अंतर्गत आने वाले सभी राजस्व निरीक्षक, पटवारी, समिति प्रबंधक, समिति के ऑपरेटर, ग्राम पंचायत सचिव, रोजगार सहायक को धान खरीदी के संबंध में जनपद पंचायत कवर्धा के सभागार में बैठक बुलाई गई है। दिन भर काम करने के बाद रात को बैठक बुलाने से कर्मचारी परेशान है। वही महिला सचिव व अन्य महिला कर्मचारियों को अधिक परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। रात 7 बजे शुरू होने वाली बैठक कितने बजे तक चलेगी इसकी जानकारी कोई नही दे पा रहा है। 



 

19-09-2019
फर्जी मस्टररोल भरकर राशि आहरण, रोजगार सहायक पर मामला दर्ज

रामानुजगंज। रामचंद्रपुर विकासखंड के ग्राम पंचायत बलरामपुर गडग़ोंडी के रोजगार सहायक राम लखन यादव द्वारा फर्जी मस्टररोल भर पैसे आहरण करने के मामले में जनपद सीईओ के निर्देश पर त्रिकुंडा थाना में 420, 467, 468, 471 के तहत मामला पंजीबद्ध कराया गया है। जानकारी के अनुसार रामचंद्रपुर विकासखंड के ग्राम बलरामपुर गडग़ोंडी में कार्यरत रोजगार सहायक राम लखन यादव  ने फर्जी रूप से मस्टररोल भरकर एक लाख 64हजार 968 रुपए फर्जी तरीके से आहरण कर गबन कर लिया था। इसकी शिकायत ग्रामीणों ने  जिला पंचायत सीईओ ,जनपद सीईओ एवं कलेक्टर से की थी। जांच में पैसे गबन कर लिए जाने की पुष्टि हुई। इसके बाद जनपद सीईओ के निर्देश पर सहायक ग्रेड 3 राजकुमार सिंह ने त्रिकुंडा थाने में रामलखन यादव के विरुद्ध मामला पंजीबद्ध कराया।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804