GLIBS
20-05-2020
एनएसएस युवाओं में सेवा और नेतृत्व की भावना के बीज का रोपण करता है: राज्यपाल

रायपुर। राज्यपाल अनुसुइया उइके ने राष्ट्रीय सेवा योजना (एनएसएस) के स्वयंसेवकों की ओर से कोविड-19 सेे बचाव के लिए किये गए कार्यों की सराहना की है। राज्यपाल ने कहा है कि एनएसएस युवाओं में सेवा भावना और नेतृत्व की भावना के बीज का रोपण करता है। मैं खुद भी एनएसएस से जुड़ी रही और यह महसूस किया है। इसके कारण मुझे समाज सेवा करने की प्रेरणा मिली।राज्यपाल ने कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए स्वयंसेवकों की ओर से ग्रामीण क्षेत्रों में जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। साथ ही लॉकडाउन के दौरान पुलिस के साथ मिलकर लोगों को घर में रहने की अपील की जा रही है। कुछ स्थानों पर भोजन, मास्क और सेनिटाइजर वितरण में भागीदारी निभाई जा रही है। साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिए चिन्ह भी बनाए जा रहे हैं। ये समस्त कार्य सराहनीय हैं। इन स्वयंसेवकों से  किए जा रहे सहयोग से हम देश-प्रदेश को कोरोना से मुक्त करने में सफल होंगे।

08-02-2020
राष्ट्रीय सेवा योजना राष्ट्र निर्माण में सहायक : आलोक सिंह

कोरिया। प्राथमिक शाला नमना में कन्या उमा विद्यालय और बालक विद्यालय प्रेमनगर में राष्ट्रीय सेवा योजना का शिविर हुआ। इसमें 'राष्ट्र निर्माण में एनएसएस की भूमिका' पर बौद्धिक चर्चा हुई। शिविर में मुख्यअतिथि विकासखंड शिक्षा अधिकारी आलोक सिंह थे। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय सेवा योजना का ध्येय वाक्य है'मैं नहीं आप' जिसके माध्यम से स्वयंसेवक प्रजातांत्रिक ढंग से निःस्वार्थ सेवा की आवश्यकता का समर्थन करता है। उन्होंने कहा कि हमें सभी मनुष्यों के कल्याण के लिए कार्य करना चाहिए ताकि मानवता की सेवा की जा सके। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय सेवा योजना राष्ट्र निर्माण में सहायक है। बौद्धिक चर्चा में व्याख्याता विपिन पाण्डेय ने स्वयंसेवकों को जीवन कौशल प्रविधियों के माध्यम से समाज में सकारात्मक योगदान देने के तरीकों से बताया। बौद्धिक चर्चा को आगे व्याख्याता कृष्ण कुमार ध्रुव ने एनएसएस में अपना अनुभव को संबोधित करते हुए कहा की राष्ट्रीय सेवा योजना देश का एकमात्र ऐसा संगठन है, जो सामुदायिक सहभागिता के माध्यम से समाज कल्याण कार्यों को प्रोत्साहित करता है।

यह संगठन विद्यार्थियों के लिए महात्मा गाँधी व स्वामी विवेकानंद के विचारों से अनुप्रमाणित हो सामाजिक कल्याण की भावना को विकसित करता है। राष्ट्रीय सेवा योजना के प्रभारी आरबी सिंह और ललित रात्रे ने कहा की 24 सितम्बर 1969 को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जन्मशताब्दी से राष्ट्रीय सेवा योजना का कारवां प्रारंभ हुआ है। वर्तमान में पूरे देश में 40 लाख से ज्यादा स्वयंसेवक सामुदायिक विकास के कार्यों में लगे हैं। उन्होंने स्वयंसेवकों को एनएसएस के अखिल भारतीय स्वरुप,स्थापना के इतिहास, स्वयंसेवकों के लिए आयोजित होने वाले कार्यक्रमों,पुरस्कार सहित उनके दायित्वों और कर्तव्यों आदि के विषय में भी विस्तार से अवगत कराया साथ ही उनसे राष्ट्र निर्माण में अपना योगदान देने का आह्वान किया। बौद्धिक चर्चा की अध्यक्षता करते हुए आई.अंसारी ने स्वयंसेवकों ने आह्वान किया की समाज की भलाई के लिए उनके द्वारा उठाया गया एक भी सकारात्मक कदम देश का रचनात्मक निर्माण करेगा। प्रेमनगर विकास खण्ड परियोजना अधिकारी रमेश जायसवाल ने स्वच्छता के लिए युवाओं को संदेश दिया। इस कार्यक्रम में शिविर प्रभारी रामबरन सिंह, ललित रात्रे,रमेश प्रसाद साहू,कार्यक्रम सहायक विनोद कुमार रावत,धर्मेन्द्र सिंह सिंगरौल, कुंती सिंह,एनएसएस के सभी छात्र छात्राएं एवं नमना ग्रामवासी उपस्थित थे।

 

31-01-2020
Breaking: गुना पहुंचे संघ प्रमुख मोहन भागवत, शनिवार को स्वयंसेवकों को संबोधित करेंगे

गुना। तीन दिवसीय युवा संकल्प शिविर की शुरुआत शुक्रवार को हुई। पहले दिन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख अरुण कुमार ने शिक्षार्थियों को संबोधित किया एवं मध्य भारत प्रांत के सह संचालक अशोक पांडे ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की। 3 दिनों तक चलने वाले इस शिविर में भाग लेने के लिए मध्यप्रदेश के 16 जिलों से 1376 युवा शिक्षार्थी एवं 315 प्रबंधक गुना आए है। इस शिविर में भाग लेने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहनराव भागवत गुना पहुंच चुके हैं। वे शनिवार को शिविर में आए स्वयंसेवकों को संबोधित करेंगे। इसमें वे एनआरसी एवं सीएए पर चर्चा करेंगे। 

राकेश किरार की रिपोर्ट 

 

17-12-2019
सोच,समझ व सहानुभूति व्यक्तित्व विकास के आरंभिक तत्व: भोजराम पटेल

कांकेर। भानुप्रतापदेव शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय, कांकेर के राष्ट्रीय सेवा योजना की पुरुष व महिला दोनों इकाइयों की संयुक्त सात दिवसीय विशेष शिविर के तृतीय दिवस स्वयंसेवकों ने प्रभात फेरी के पश्चात् परियोजना कार्य के अंतर्गत शिविर स्थल बागोड़ ग्राम के सरार तालाब व विद्यालय के आस-पास विस्तृत सफाई अभियान चलाया। भोजन के पश्चात् बौद्धिक चर्चा में कांकेर जिले के एसपी भोजराम पटेल विशिष्ट वक्ता के रूप में उपस्थित हुए। उन्होंने व्यक्तित्व विकास व कैरियर निर्माण विषय पर अपना वक्तव्य देते हुए कहा कि मैंने पुलिस सेवा के पहले लगभग 6 वर्ष अध्यापन किया है। लेकिन मैं शिक्षक नहीं विद्यार्थी हूँ और जीवन भर विद्यार्थी रहूँगा। उन्होंने विद्यार्थियों को बताया कि यदि आप को पहले से अपने कार्य योजना के बारे में पता होगा तो कार्य आसानी से और तय समय में संपन्न होगा। साथ ही उन्होंने ‘मै’ के बजाय ‘हम’ को व्यक्तित्व विकास का मूल बताया,इसके लिए स्वामी विवेकानंद के कथन ‘वसुधैव कुटुम्बकम’ की अवधारणा को आत्मसात करने पर जोर दिया।

उन्होंने कैरियर निर्माण के लिए समय को सबसे महत्त्वपूर्ण व मूल्यवान पूंजी बताते हुए इसे संरक्षित करने के लिए प्रेरित किया और सोच,समझ व सहानुभूति को व्यक्तित्व विकास का आरंभिक तत्व बताया। कांकेर के सहायक उपनिरीक्षक केजूराम रावत भी इस सत्र के वक्ता रहे। उन्होंने यातायात जागरूकता पर विस्तृत व्याख्यान प्रस्तुत किया। रावत ने सड़क दुर्घटना के विभिन्न पहलुओं की चर्चा करते हुए आंकड़ों के साथ बताया कि हमारी लापरवाही वास्तव में बेहद खतरनाक है। अतः हमें सावधानी, संयम व समझ से गाड़ी चलाना चाहिए। बस्तर विवि के रा.से.यो. कार्यक्रम समन्वयक डॉ.डीएल पटेल ने सत्र का अध्यक्षीय उद्बोधन देते हुए विद्यार्थियों को ईमानदारी व मेहनत से शिविर में सीखने व कार्य करने हेतु प्रेरित किया। साथ ही उन्होंने सायंकाल खेल सत्र में विभिन्न खेलों में शामिल होकर विद्यार्थियों को प्रोत्साहित किया। धन्यवाद ज्ञापन कार्यक्रम अधिकारी डॉ.मनोज राव व संचालन कार्यक्रम अधिकारी डॉ.जय सिंह ने किया। शिविर संचालन में ग्राम सरपंच, उपसरपंच, वरिष्ठ ग्रामीणजनों के साथ प्रो.विजय साहू, महादलनायक गुरुदास बिस्वास, तिलेश्वर साहू, महादलनायिका, शिल्पा साहू, आदुरी मिस्त्री, तनूजा यादव व सभी स्वयंसेवक छात्र-छात्राएं महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं।

16-12-2019
बूढ़ातालाब की सफाई के लिए उतरी ग्रीन आर्मी और नगर निगम की टीम

रायपुर। शहर के ऐतिहासिक तालाब के रूप में प्रतिष्ठित बूढ़ातालाब को साफ करने का अभियान रायपुर की स्वयंसेवी संस्था ग्रीन आर्मी ने शुरू किया है। ग्रीन आर्मी की टीम, नगर निगम के साथ मिलकर पूरे दिन अपने कार्यकर्ताओं को साथ लेकर यह पहल की है। इस अभियान में एनएसएस के स्वयंसेवकों के साथ नगर निगम के मैदानी अमले की महत्वपूर्ण भूमिका रही। ग्रीन आर्मी के प्रमुख अमिताभ दुबे के अनुसार रायपुर को स्वच्छ व सुंदर बनाने नगर निगम और रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड के प्रयासों को ग्रीन आर्मी सहित सहयोगी संस्थाएं अपना स्वस्फूर्त सहयोग दे रही हैं। यह संस्था "स्वच्छ सर्वेक्षण 2020" में रायपुर को नंबर वन बनाने तालाबों के संरक्षण के साथ ही शहर को साफ  सुथरा रखने और प्लास्टिक मुक्त शहर बनाने में भी अपनी भूमिका का निर्वहन कर रही है। उन्होंने बताया कि बूढ़ातालाब की सफाई और गहरीकरण का कार्य ग्रीन आर्मी ने शुरू किया है और उसके लिए नेहरू नगर, मारवाड़ी श्मशान के समीप पोल नंबर 83,84 तक कार्यकर्ताओं ने सुबह 7 बजे से श्रमदान किया। तालाब मुख्य द्वार में "मैं बूढ़ा तालाब हूं" विषय पर गोष्ठी आयोजित की गई और जागरुकता रैली का आयोजन किया गया। दिनभर की सफाई के दौरान निकले अपशिष्ट को नगर निगम के विशेष दस्ते ने अपने वाहनों से हटाया। नगर की अनेक सामाजिक संस्थाएं शहर को स्वच्छ बनाने विभिन्न कार्यक्रमों के जरिए रायपुर को बनाएंगे नंबर-1 अभियान से जुड़ रही हैं।

 

14-12-2019
एनएसएस में से स्वयंसेवकों के चयन को लेकर अभाविप ने सौंपा ज्ञापन

कोरिया। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने आरोप लगाया गया है कि पं.ज्वाला प्रसाद उपाध्याय महाविद्यालय के एनएसएस कैम्प के स्वयंसेवकों के चयन में निष्पक्षता नहीं बरती गई। इस संबंध में जिला संगठन को ज्ञापन सौंपा गया। इसमें कहा गया है कि प.ज्वालाप्रसाद उपाध्याय महाविद्यालय में राष्ट्रीय सेवा योजना के पूर्व में रहे स्वयंसेवकों, नवीन छात्रों की अनदेखी कर मनमाने तरीके से सलेक्शन किया गया। इसका स्वयंसेवकों व अभाविप ने विरोध करते हुए ज्ञापन सौंपा है। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने मांग की है कि एनएसएस प्रभारी के स्थान पर संस्था में किसी अन्य व्यक्ति को प्रभार सौंपा जाए। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद एवं अन्य छात्रों ने निष्पक्ष तरीके से स्वयंसेवकों का चयन किए जाने की मांग की है।

 

29-07-2019
रासेयो के स्वयंसेवकों ने निकाली अनूठी कांवर यात्रा

रायगढ़। 31 जुलाई तक केंद्र सरकार द्वारा आयोजित स्वच्छ भारत ग्रीष्मकालीन इंटर्नशिप कार्यक्रम के तहत किरोड़ीमल शासकीय कला एवं विज्ञान महाविद्यालय रायगढ़ के राष्ट्रीय सेवा याजना  के स्वयंसेवकों द्वारा ग्राम पंचायत उच्च भिट्ठी से बाबा धाम तक अनोखी रैली निकाली गई। स्वयंसेवकों ने कांवर पकड़कर 8 किलोमीटर की पैदल यात्रा की और उन कावरों में प्लास्टिक प्रदूषण से संबंधित बैनर भी लगाए । 

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804