GLIBS
01-06-2018
सेलिब्रिटी क्रिकेट लीग का प्रमोशन करने पहुंचे राजपाल यादव, लेडी राइडर के साथ निकली बाईक रैली 

रायपुर। छत्तीसगढ़ में पहली बार सेलिब्रिटी क्रिकेट लीग का मुकाबला होने वाला है। यह मुकाबला श्याम एंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड एवं इंडम ग्लोबल एंटरटेनमेंट के संयुक्त तत्वाधान में 3 जून को खेला जाएगा। जिसकी तैयारी जोर शोर से चल रहा है। इसका प्रमोशन करने के लिए शुक्रवार को फिल्म स्टार और काॅमेडियन राजपाल यादव रायपुर पहुंचे।  इस मौके पर एयरपोर्ट में कार्यकर्ताओं ने राजपाल का स्वागत किया। इसके बाद एयरपोर्ट से लेडी राइडर के साथ बाइक रैली निकली।इसमें 40 बाउंसर शामिल थे। यह रोड शो शहर के प्रमुख मार्गों से गुजरकर मरीन ड्राइव में समाप्त हुई। इस दौरान उनके साथ आयोजन कार्यकर्ता के सदस्य भी मौजूद थे।   इवेंट कोऑर्डिनेटर गुरुचरण सिंह होरा ने बताया कि आज पूरी आयोजन समिति एडिशनल एसपी विजय अग्रवाल एवं यातायात एसपी हिरवानी के साथ बैठक की। जिसमें स्टेडियम की सुरक्षा व्यवस्था एवं पार्किंग व्यवस्था का जायजा लिया गया।

आपको बता दें कि नया रायपुर स्थित शहीद वीर नारायण सिंह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में यह मुकाबला खेला जाएगा।  सुनील शेट्टी की कप्तानी में टीम का मुकाबला छत्तीसगढ़ के गौरीशंकर अग्रवाल, रामसेवक पैकरा, अमर अग्रवाल, भइया लाल राजवाड़े समेत मंत्रियों और अधिकारियों के बीच खेला जाएगा।

23-04-2018
6 माह की सजा सुनाने के बाद, राजपाल को तुरंत मिली जमानत

नई दिल्ली। बॉलीवुड अभिनेता राजपाल यादव को कड़कड़डूमा कोर्ट ने चेक बाउंस के मामले में दोषी करार देते हुए छह महीने की सजा सुनाई थी।  हालांकि इस मामले में राजपाल यादव को जमानत भी मिल गई है।  इस फैसले के बाद राजपाल यादव ने कहा है, ' 'मैं कोर्ट के फैसले की इज्जत करता हूं. मैं उच्च न्यायलय में अपील करुंगा। कोर्ट ने यादव और उनकी पत्नी को चेक बाउंस से जुड़े सात मामलों में 1 करोड़ 60 हजार रुपये का जुर्माना लगाया है।  कोर्ट ने कहा कि अगर 6 महीने के अंदर जुर्माना नहीं भरा गया तो सजा और बढ़ा दी जाएगी. लक्ष्मी नगर स्थित कंपनी मुरली प्रोजेक्ट्स प्राइवेट लिमिटेड की शिकायत पर यह फैसला सुनाया गया है। शिकायतकर्ता का कहना था कि राजपाल यादव ने अप्रैल 2010 में ‘अता पता लापता’ नाम से अपनी एक फिल्म पूरी करने के लिए मदद मांगी थी।  इसके बाद 30 मई 2010 में दोनों के बीच एक एग्रीमेंट हुआ और उन्होंने राजपाल यादव को 5 करोड़ का लोन दे दिया। एग्रीमेंट के मुताबिक यादव को ब्याज सहित 8 करोड़ रुपये लौटाने थे।  लेकिन पहली बार में वह ऐसा करने में नाकाम रहे।  इसके बाद एग्रीमेंट तीन बार रिन्यू हुआ और 9 अगस्त 2012 में हुए आखिरी एग्रीमेंट के मुताबिक आरोपी ने शिकायतकर्ता को 11, 10,60,350 रुपये लौटाने की सहमति दी, लेकिन वह यह रकम लौटाने में भी नाकाम रहे। 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804
Visitor No.