GLIBS
05-11-2019
टूटी थी रेल पटरी, ड्राइवर ने लगाया इमरजेंसी ब्रेक,टला हादसा

कटनी। जबलपुर से रीवा जा रही शटल ट्रेन मंगलवार को बड़े हादसे की शिकार होते होते बच गई। ट्रेन में बैठे यात्रियों को अचानक तेज झटका लगा, जिससे बोगियों में हड़कंप मच गया, लोग ट्रेन के रुकते ही नीचे कूदने लगे। बताया जा रहा है कि शटल पैसेंजर निवार स्टेशन से माधवनगर स्टेशन की ओर जा रही थी। तभी अचानक लोको पायलट की नजर टूटी पटरी पर पड़ी। आनन-फानन में ड्राइवर ने इमरजेंसी ब्रेक लगाकर ट्रेन को रोक दिया। इससे यात्रियों को जोर का झटका लगा, जिससे लोग दहशत में आ गए। ड्राइवर द्वारा ट्रेन को इमरजेंसी ब्रेक लगाकर रोकने से बड़ा हादसा टल गया। ट्रेन के रूकते ही यात्रियों में अफरा-तफरी मच गई।

वरिष्ठ अधिकारियों को सूचना देने के बाद रेलवे अमले ने 1 घंटे में सुधार कार्य के बाद ट्रेन को गंतव्य के लिए रवाना किया है। घटना के समय ट्रेन की सभी बोगियों में बड़ी संख्या में यात्री मौजूद थे। रेलवे के अधिकारियों ने बताया कि गाड़ी क्रमांक 51701 रीवा-जबलपुर शटल निवार स्टेशन से रवाना होकर माधव नगर की ओर जा रही थी। जैसे ही शटल गाड़ी 1073/2/3 ट्रेन किलोमीटर के पास आईबीएच सिग्नल के समीप पहुंची वैसे ही लोको पायलट की नहर टूटी हुई पटरी पर पड़ी। आनन-फानन में लोको पायलट ने ट्रेन को बड़ी दुर्घटना से बचाने के लिए इमरजेंसी ब्रेक लगाया।

25-07-2019
अब ट्रेनों के इंजन में भी लगेगा विमानों की तरह ब्लैक बॉक्स

नई दिल्ली। यात्रियों के सुरक्षित सफर के लिए रेल मंत्रालय ने सभी ट्रेनों के इंजन में लोको कैब ऑडियो वीडियो (एलसीवीआर) उपकरण लगाने का फैसला किया है। पायलट प्रोजेक्ट की सफलता देखते हुए ऐसे 480 उपकरण खरीदने की स्वीकृति मंत्रालय ने दी है। यह उपकरण विमानों में लगने वाले ब्लैक बॉक्स की तरह है। ट्रेन इंजन में लगने वाले इस उपकरण में माइक्रोफोन व ऑडियो वीडियो रिकॉर्डर लगा होगा। इसके जरिए लोको पायलट (ट्रेन ड्राइवर) व सह लोको पायलटों की बातचीत ट्रेन संचालन के दौरान रिकॉर्ड की जाएगी। इंजन के बाहर लगा कैमरा लोको कैब से दिखाई देने वाले बाहरी दृश्यों को भी रिकॉर्ड करेगा।

अधिकारियों के अनुसार इस उपकरण की सूचना से दुर्घटना की स्थिति में जांच-पड़ताल में सुविधा होगी और दुर्घटना की वजह का पता चल सकेगा। ट्रैक पर घटना के बाद विश्लेषण करने में यह उपकरण काफी मददगार साबित होगा। इस उपकरण में एक कैमरा व माइक्रोफोन लगा है जो लोको कैब के भीतरी हिस्से में होगा। दूसरा कैमरा इंजन के बाहर लगा है, जो लोको कैब से दिखने वाले बाहरी दृश्यों को सुरक्षित रखेगा। एलसीवीआर रात में भी काम करने वाले कैमरे और माइक्रोफोन से लैस है। डाटा स्टोर करने के लिए डिजिटल मेमोरी उपकरण में लगा होगा। दुर्घटना के मामले में आवश्यकता पड़ने पर विश्लेषण के लिए विमान के ब्लैक बॉक्स की तरह ही काम करेगा। अधिकारियों के अनुसार, परीक्षण के लिए 32 लोकोमोटिव इंजन को एलसीवीआर से लैस कर दिया गया है। इनमें 25 डीजल व 7 इलेक्ट्रिक इंजन शामिल हैं।

15-01-2019
लोको पायलट के सूने घर में चोरों का धावा

दुर्ग। लोको पायलट के सूने घर में चोरों ने धावा बोलकर लाखों के जेवर और नगदी पर हाथ साफ कर दिया है। जानकारी के अनुसार रेलवे विभाग में लोको पायलट बम्लेश्वरी कॉलोनी पद्मनामपुर निवासी जय नारायण सोनी घर पर ताला लगाकर 11 जनवरी की दोपहर 2 बजे अपनी पत्नी और बच्चों को लेकर अपनी ससुराल गया और बच्चों को छोड़कर ड्यूटी पर बिलासपुर चला गया। सोमवार की सुबह 9:30 बजे जय नारायण की पत्नी घर लौटी तो घर का कुंदा टूटा हुआ था। अलमारी और भगवान मंदिर में रखी सोने की चूड़ी, गिलास, कटोरी, बांसुरी, सोने के टॉप्स, सोने का गोल दाना सहित नगदी लगभग 40 हजार रुपए गायब थे। रिपोर्ट पर पुलिस ने मंगलवार को धारा 380,457 के अपराध दर्ज कर विवेचना कर रही है। एक अन्य खबर में एलआईजी 33 दीनदयाल उपाध्याय भिलाई 3 निवासी नागराजू के माता-पिता 18 दिसंबर को घर में ताला लगाकर हैदराबाद गए थे। 13 जनवरी को वापस घर आने पर    पता चला कि चोरों ने अलमारी में रखे रुपए चोरी कर फरार हो गए हैं। इसी तरह छावनी थाना भिलाई अंतर्गत बैकुंठ धाम वार्ड 21 निवासी कृष्णा शर्मा की इलेक्ट्रॉनिक सामान की दुकान से अज्ञात चोर ने 4 नग लाइट चुरा ली।

01-09-2018
Robbery: जेवर लेकर दुल्हन हुई घर से रफूचक्कर

कोरबा| रेलवे के एक लोको पायलट की नई नवेली दुल्हन पूरे जेवरात अपने साथ ले गई। दोनों की शादी लगभग 6 महीने पहले ही हुई थी। 30 अगस्त को पति के ड्यूटी पर जाने के बाद पत्नी शादी में मिले हुए जेवरात लेकर बिना बताए कहीं चली गई। लेकिन घर के सभी जेवरात तो वह साथ ले गई लेकिन शादी के जोड़े और मंगलसूत्र व शादी से संबंधित सारे सामान छोड़ गई। पायलट ने इसकी रिपोर्ट मानिकपुर चौकी में दर्ज करा दी है| पुलिस जांच में जुटी हुई है।

मिली जानकारी के मुताबिक मानिकपुर क्षेत्र के रविशंकर शुक्ल नगर में निवासरत लोको पायलट शंभू कुमार 32 वर्ष की शादी 24 फरवरी को फरीदाबाद की मधुबाला 20 वर्ष से हुई थी | शंभू कुमार ने बताया कि उसकी पत्नी मधुबाला ने शादी के बाद कहा कि उसकी पढ़ाई अभी बाकी है इसलिए कुछ दिनों के लिए उसे मायके में छोड़ दे इसलिए शंभू ने अपनी पत्नी मधुबाला को मायके में ही रखा था | पुलिस ने बताया कि 28 अगस्त को शंभू अपनी पत्नी को फरीदाबाद से कोरबा लेकर आया था यहां आने के बाद शंभू और मधुबाला के बीच कहासुनी भी हो गई इसका कारण यह था कि पत्नी हमेशा मोबाइल में बात करती रहती थी और ज्यादा समय वाट्सएप पर बिजी रहती थी, लेकिन इस कहासुनी के बाद भी दोनों के बीच अनबन नहीं थी। 2 दिन पहले ही दोनों शॉपिंग मॉल गए थे और शॉपिंग करके लौटे थे|30 अगस्त की सुबह शंभू अपनी ड्यूटी पर चला गया जब देर शाम को लौटा तो मधुबाला गायब थी | उसने घर का दरवाजा भी खुला छोड़ दिया था। घर के सभी जेवरात तो वह साथ ले गई लेकिन शादी के जोड़े और मंगलसूत्र व शादी से संबंधित सारे सामान छोड़ गई शंभू ने इसकी रिपोर्ट मानिकपुर चौकी में दर्ज करा दी है|पुलिस जांच में जुटी है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804