GLIBS
13-12-2019
14 दिसम्बर को जिले के सभी सेलून, गवई, अन्य व्यवसाय द्वारा मौन रैली...

धमतरी। बिलासपुर में सेन समाज की एक 9 साल की मासूम बच्ची के साथ हुई दुष्कर्म की घटना से सेन समाज में रोष व्याप्त है। इस संबंध में गुरुवार को सर्व सेन समाज एवं सेलून संघ के पदाधिकारियों की बैठक रत्नाबाँधा श्रीवास सेन भवन में रखी गई थी। इसमें सर्व सम्मति से यह निर्णय लिया गया कि इस घटना के विरोध एवं दुष्कर्म के आरोपी को फांसी की सजा दिलाये जाने तथा पीड़िता को शासन से मुआवजा देने की मांग को लेकर 14 दिसम्बर दिन शनिवार को धमतरी जिले के सभी सेलून, गवई, अन्य व्यवसाय बंद रखेंगे। साथ ही इस दिन सुबह 11 बजे आमातालाब स्थित चन्दा पारी सेन भवन में एकत्र होंगे।

जहाँ से मौन रैली निकाल कलेक्ट्रेट पहुंच कलेक्टर को राज्यपाल एवं मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा जाएगा। इसमें महिला पुरूष सहित बड़ी संख्या में उपस्थित होने की अपील सर्व सेन समाज जिलाध्यक्ष धनसिंह सेन और सेलून संघ अध्यक्ष देबू राम सांडिल्य ने समाजजनों से की है। बैठक में प्रमुख रूप से घनसिंह सेन, देबू राम, भुखन सेन, फिरोज सेन, त्रिभुवन कौशिक, मोहित सेन, खिलावन सेन, भूपेन्द्र सेन, नारायण सेन, ईश्वर सेन, प्रभात कौशिक, छोटू सेन, लिकेश सेन, हेम प्रकाश, पप्पू सेन, यादराम, राजू सेन, जितेंद्र सेन, पुनीत सेन, तेजराम सेन, अश्वनी सेन, देवी राम कौशिक, लीला राम सेन आदि उपस्थित थे।

 

12-12-2019
मंजू और मनीषा की अर्थी को ओपी चौधरी ने दिया कंधा, आरोपियों के लिए मांगी सजा-ए-मौत

 

रायपुर। राजधानी के टिकरापारा में बीते मंगलवार को रायगढ़ की दो युवतियों की हत्या कर दी गई। इस घटना के बाद से पुररे इलाके में सनसनी फ़ैल गयी है। वहीं घटना के दो दिनों बाद गुरूवार को दोनों मृतक युवतियों को अंतिम विदाई दी गई। इस दौरान पूर्व आईएएस ऑफिसर ओपी चौधरी युवतियों की अंतिम यात्रा में शामिल हुए और दोनों युवतियों की अर्थी को कंधा दिया। साथ ही उन्होंने आरोपियों को फांसी देने की मांग की हैं। ओपी चौधरी ने ट्वीट करते हुए लिखा कि रायपुर की निर्मम घटना के कारण दुनिया को अलविदा कहने वाली, दो बहनों को कांधा देना अत्यंत हृदय विदारक लगा।

मुख्यमंत्री से प्रार्थना है कि इस जघन्य कृत्य के गुनहगारों को फांसी के फंदे तक पहुँचायें। अगर इस परिवार को न्याय नहीं मिला, तो मैं हर स्तर तक लड़ाई लड़ूंगा। बता दें टिकरापारा इलाके के गोदावरी नगर में किराए के मकान में रहने वाली दो युवती की निर्ममता से हत्या कर दी गई। दोनों हत्यारे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गए हैं। युवतियों के सिर पर तवे से ताबड़तोड़ वार किया गया था। एक युवती रावतपुरा सरकार के नर्सिंग की छात्रा थी। दोनों रायगढ़ के रहने वाले थे।

12-12-2019
नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर असम के लोगों से कहा डरने की जरूरत नहीं, नागरिकता संशोधन बिल से भड़की हिंसा पर मरहम

रायपुर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर असम की जनता को भरोसा दिलाया है नागरिकता संशोधन बिल से किसी को डरने की जरूरत नहीं है। मोदी का ये ट्वीट अब आया है जब नागरिकता संशोधन बिल लोकसभा के बाद राज्यसभा से भी पास हो गया और अब इसका कानून बनना तय है। असम समेत पूर्वोत्तर में नागरिकता संशोधन बिल का विरोध हो रहा है और ये हिंसक हो गया है। मुख्यमंत्री के घर पर पथराव के बाद वँहा 10 जिलों में इंटरनेट सेवा बन्द कर दी गई है। कुछ स्थानों पर कर्फ्यू लगा दिया गया है और सेना को भी फ्लैग मार्च करना पड़ा है। स्थिति बिगड़ती देख प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ये ट्वीट असम के लोगों के गुस्से को शांत करने की दिशा में एक पहल माना जा सकता है।

11-12-2019
राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव: देश-विदेश के 1400 लोक कलाकार बिखेरेंगे लोक संस्कृति की छटा

रायपुर।  राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव का शुभारंभ भव्य और आकर्षक होगा। शुभारंभ अवसर पर देश-विदेश से आने वाले कलाकार अपने पारम्परिक परिधानों में मार्च पास्ट करेंगे। महोत्सव में लोक रंग में रंगे सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन साईंस कॉलेज मैदान में 27 से 29 दिसम्बर तक सवेरे 10 बजे से शाम 8.30 बजे तक प्रतिदिन होगा। इस महोत्सव में देश के 23 राज्यों के 151 दलों के लगभग 1400 कलाकार हिस्सा लेंगे। इसके अलावा महोत्सव में श्रीलंका, बेलारूस, युगांड़ा, बांग्लादेश सहित छह देशों के कलाकार भी शामिल होंगे। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बुधवार को अपने निवास कार्यालय में आयोजित बैठक में 27 दिसम्बर से शुरू हो रहे राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव की तैयारियों की समीक्षा की। बैठक में नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया भी मौजूद थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव में देश के अन्य राज्यों के साथ ही देश के बाहर से भी कलाकार आएंगे, उनके लिए आवश्यक सुरक्षा व्यवस्था, भोजन, आवास, साफ-सफाई, पीने का साफ पानी, स्वास्थ्य सुविधा, अग्निशमन और आवागमन के समुचित साधन मुहैया कराने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए। मुख्यमंत्री ने साईंस कॉलेज स्थित आयोजन स्थल का कम्प्यूटर आधारित प्रेजेंटेशन देखा और जरूरी निर्देश भी दिए।

उन्होंने कहा कि इस महोत्सव में आने वाले दर्शकों को कोई असुविधा नही होनी चाहिए। पार्किंग स्थल से उन्हे कम से कम दूरी चलना पड़े इसका विशेष ध्यान रखें। आयोजन में आवश्यक व्यवस्था के लिए एनसीसी, एनएसएस और स्काउट गाइड के कैडेटों का भी सहयोग लेने कहा। संस्कृति विभाग के सचिव सिद्धार्थ कोमल परदेशी ने बताया कि महोत्सव में कलाकारों द्वारा विवाह, फसल कटाई, पारंपरिक त्यौहार और अन्य अवसरों पर किए जाने वाले आदिवासी नृत्यों का प्रदर्शन किया जाएगा। महोत्सव में विजेता प्रतिभागियों को समापन अवसर पर पुरस्कार दिया जाएगा, जिसमें प्रथम पुरस्कार 5 लाख रूपए, द्वितीय पुरस्कार 3 लाख रूपए, तृतीय पुरस्कार 2 लाख रूपए और सांत्वना पुरस्कार के रूप में 25 हजार रूपए दिए जाएंगे। प्रत्येक दल में लगभग 50 कलाकार होंगे। परदेशी ने बताया कि महोत्सव में कलाकारों के ऑनलाइन पंजीयन की व्यवस्था की गई है और अब तक एक हजार 310 कलाकारों का पंजीयन हो चुका है। पंजीयन को ऑनलाइन देखा भी जा सकता है। आयोजन स्थल में लगभग 4000 लोगों की बैठक व्यवस्था की जा रही है। आयोजन स्थल पर शिल्प ग्राम, फूड जोन, पुस्तक प्रदर्शनी, वनोपज उत्पाद, औद्योगिक प्रोत्साहन, छत्तीसगढ़ का इतिहास, पर्यटन, संस्कृति, छत्तीसगढ़ी व्यंजन, गांधी यात्रा, जल, जंगल, जमीन आदि की प्रदर्शनी लगायी जाएगी। साथ ही मनोरंजन के लिए मीना बाजार लगाने पर भी विचार किया जा रहा है। बैठक में अतिरिक्त मुख्य सचिव अमिताभ जैन, पुलिस महानिदेशक डीएम अवस्थी मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव गौरव द्विवेदी, प्रमुख सचिव मनोज पिंगुआ, सुब्रत साहू, सचिव पी.अन्बलगन सहित वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

 

10-12-2019
किसानों ने फूंका मुख्यमंत्री का पुतला, सरकार पर लगाया वादाखिलाफी का आरोप

कवर्धा। प्रदेश भर में धान खरीदी शुरू होने के दूसरे हफ्ते में विवाद बढ़ता जा रहा है। मंगलवार की सुबह कवर्धा के किसानों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। किसानों का कहना है कि पूरा धान खरीदने का वादा करने के बाद तय सीमा में धान लिया जा रहा है। बचा हुआ धान सरकारी सख्ती की वजह से किसान, किसी और को भी नहीं बेच सकते। जिले के झिरौनी केंद्र में किसानों ने मुख्यमंत्री का पूतला फूंका।

06-12-2019
नगरीय निकाय चुनाव: कांग्रेस और भाजपा के प्रत्याशियों ने किया नामांकन दाखिल

कांकेर। नगर पालिका चुनाव को लेकर शुक्रवार को कांग्रेस व भाजपा के प्रत्याशियों ने नामांकन दाखिल किया। इसमें दोनों ही पार्टी ने अपने-अपने कार्यकर्ताओं के साथ शक्ति प्रदर्शन भी किए। कांग्रेस प्रत्याशियों के साथ कांकेर विधायक शिशुपाल शोरी, मुख्यमंत्री के संसदीय सलाहकार राजेश तिवारी सहित कांग्रेस के पदाधिकारी मौजूद रहे। वहीं भाजपा प्रत्याशी के साथ जिलाध्यक्ष हलधर साहू, पूर्व विधायक सुमित्रा मरकोले, भरत मटियारा सहित भाजपा के कार्यकर्ता मौजूद थे।

 

 

06-12-2019
आंगनबाड़ी केंद्र हुए कुपोषण मुक्त, मुख्यमंत्री ने किया सम्मानित

रायपुर।  प्रदेश को कुपोषण मुक्त करने के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा चलाये जा रहे मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान के जमीनी नतीजे मिलने लगे हैं। जहां अच्छा कार्य हो रहा है उसकी प्रशंसा स्वयं मुख्यमंत्री द्वारा की जा रही है। दुर्ग जिले के बटरेल आंगनबाड़ी केंद्र क्रमांक 1 और 4 के पूरी तरह कुपोषण मुक्ति के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए मुख्यमंत्री ने केन्द्र की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायिकाओं को सम्मानित किया है। बटरेल आंगनबाड़ी केंद्र क्रमांक 1 और 4 में सतत मेहनत और मानिटरिंग कर तीन बच्चों को कुपोषण के दायरे से बाहर निकाला गया है। इसके लिए मुख्यमंत्री ने बटरेल में आयोजित कार्यक्रम में बटरेल क्रमांक 1 की कार्यकर्ता कौशल्या शर्मा एवं सहायिका डोमेश्वरी साहू तथा बटरेल क्रमांक 4 की कार्यकर्ता शैलबाला कौशिक एवं सहायिका दीपिका साहू को सम्मानित किया। इन कार्यकर्ताओं और सहायिकाओं ने सुपोषण अभियान के अंतर्गत बहुत अच्छा काम किया। उन्होंने न केवल कुपोषित बच्चों के पोषण का ध्यान रखा बल्कि नियमित गृहभेंट आदि के माध्यम से अभिभावकों को भी जागरूक किया ताकि वे घर में भी बच्चों का उचित ख्याल रख सके।

जिला कार्यक्रम अधिकारी विपिन जैन ने बताया कि मुख्यमंत्री सुपोषण मिशन के अंतर्गत बच्चों को एक्सट्रा सप्लीमेंट दिये जा रहे हैं। कुपोषित बच्चों को गुड़ और मूंगफली से बनी चिक्की प्रदान किया जा रहा है। 0 से 3 साल तक के बच्चों को चिन्हांकित कर इन्हें विशेष रूप से भोजन कराया जा रहा है। इसके लिए व्यापक जनभागीदारी के साथ काम किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि व्हाटसएप के माध्यम से नियमित रूप से अधिकारियों द्वारा सुपोषण अभियान की मानिटरिंग की जा रही है। मुख्यमंत्री बाल संदर्भ योजना के माध्यम से भी स्वास्थ्य परीक्षण शिविरों का आयोजन किया जा रहा है। इससे जमीनी नतीजे बेहतर हो रहे हैं।

05-12-2019
टीएस सिंहदेव ने किया पुस्तक का विमोचन  

रायपुर। पंचायत एवं ग्रामीण विकास तथा स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने बुधवार को यहां नवीन विश्राम भवन में ‘सोशल डेवलपमेंट एंड द सस्टेनेबल गोल्स इन साउथ एशिया’ पुस्तक का विमोचन किया। नई दिल्ली के राजीव गांधी समकालीन अध्ययन संस्थान  द्वारा प्रकाशित इस पुस्तक के संपादक नित्य मोहन खेमका और डॉ. सूरज कुमार हैं। विमोचन कार्यक्रम को संबोधित करते हुए स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा कि पूरी दुनिया में टिकाऊ विकास के लक्ष्यों को हासिल करना बड़ी चुनौती है। कोई भी व्यवस्था स्थायी नहीं है। कोई भी सभ्यता हमेशा के लिए विद्यमान नहीं रही। उन्होंने कहा कि विकास के वर्तमान मॉडलों के चलते हमने ऐसी परिस्थिति निर्मित कर ली है कि अब हमें प्रयास करना पड़ रहा है कि आगामी पांच वर्षों में हम वैश्विक तापमान में तीन डिग्री सेल्सियस वृद्धि को डेढ़ डिग्री सेल्सियस पर रोक सकें।

सिंहदेव ने कहा कि संसाधनों का उपयोग इस प्रकार हो कि अधिक से अधिक लोगों तक उसका लाभ पहुंचे। उन्होंने उम्मीद जताई कि सरकार की महत्वाकांक्षी योजना नरवा, गरवा, घुरवा और बारी से ग्रामीण अर्थव्यवस्था के सशक्तितकण के साथ ही गांवों में रोजगार के अवसरों में बढ़ोतरी होगी। कार्यक्रम को राज्य योजना आयोग के उपाध्यक्ष अजय सिंह और मुख्यमंत्री के राजनीतिक सलाहकार विनोद वर्मा ने भी संबोधित किया। पुस्तक के सह-संपादक डॉ. सूरज कुमार ने इसकी भूमिका और विषयवस्तु के बारे में जानकारी दी। विमोचन कार्यक्रम में योजना, आर्थिक एवं सांख्यिकी विभाग के प्रमुख सचिव डॉ. आलोक शुक्ला, मुख्यमंत्री के कृषि सलाहकार प्रदीप शर्मा, छत्तीसगढ़ विद्युत विनियामक आयोग के अध्यक्ष डी.एस. मिश्रा, राजीव गांधी फाउंडेशन के मुख्य कार्यकारी अधिकारी विजय महाजन तथा सामाजिक कार्यकर्ता गौतम बंदोपाध्याय सहित अनेक समाज सेवी, सामाजिक कार्यकर्ता और बुद्धिजीवी मौजूद थे।  

01-12-2019
मैं अब भी हिंदुत्व की विचारधारा के साथ, इसे कभी नहीं छोडूंगा : उद्धव ठाकरे

मुंबई। महाराष्ट्र के नए सीएम उद्धव ठाकरे ने विधानसभा में कई मुद्दों पर अपना रुख साफ किया। सीएम ठाकरे ने देवेंद्र फडणवीस को लेकर बात की। हिंदुत्व को लेकर अपनी विचारधारा स्पष्ट की। पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस को विपक्ष के नेता चुने जाने के बाद सीएम ठाकरे ने कहा, 'मैं आपको विपक्ष का नेता नहीं कहूंगा, मैं आपको 'जिम्मेदार नेता' कहूंगा। ठाकरे ने कहा, अगर आप हमारे लिए अच्छे होते तो यह सब कुछ (बीजेपी-शिवसेना गठबंधन टूटना) नहीं होता। उद्धव ठाकरे ने कहा, मैंने देवेंद्र फडणवीस से बहुत कुछ सीखा है और उनका हमेशा दोस्त रहूंगा। बीते पांच साल मैंने कभी सरकार को धोखा नहीं दिया है। उद्धव ठाकरे ने कहा कि वह एक भाग्यशाली मुख्यमंत्री हैं क्योंकि जिन्होंने उनका विरोध किया वे आज उनके साथ हैं और जो हमारे साथ थे वे अब विरोध में हैं। ठाकरे ने आगे कहा, मैंने कभी किसी से नहीं कहा कि मैं यहां आ रहा हूं लेकिन मैं आ गया। उद्धव ठाकरे ने कहा, मैं आज भी 'हिंदुत्व' की विचारधारा के साथ और इसके कभी नहीं छोड़ूंगा। गौरतलब है कि, शनिवार को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने विधानसभा में बहुमत हासिल किया है।

29-11-2019
महाराष्ट्र के नए गठबंधन के खिलाफ दायर याचिका खारिज, सुको ने कहा-कोई आधार नहीं

नई दिल्ली। महाराष्ट्र में कांग्रेस-एनसीपी और शिवसेना गठबंधन के विरोध में दायर एक याचिका को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दिया है। अखिल भारतीय हिंदू महासभा की ओर से दायर इस याचिका में कहा गया था कि चुनाव प्रक्रिया के बाद महाराष्ट्र में कांग्रेस, एनसीपी और शिवसेना (महाविकास अघाडी) का गठबंधन हुआ, यह गलत है और इसे असंवैधानिक करार दिया जाए। शीर्ष अदालत ने याचिका का कोई आधार नहीं माना और इसे खारिज कर दिया। इस मामले की सुनवाई उसी बेंच ने की जिसने महाराष्ट्र में फ्लोर टेस्ट को लेकर सुनवाई की थी। इससे पहले 24 और 25 नवंबर को दलीलें सुनने के बाद सुप्रीम कोर्ट ने महाराष्ट्र में 24 घंटे के अंदर फ्लोर टेस्ट करवाने और विधायकों की शपथ ग्रहण का आदेश दिया था। इसके बाद देवेंद्र फडणवीस ने मुख्यमंत्री और अजित पवार ने डिप्टी सीएम के पद से इस्तीफा दे दिया था। इसके बाद महाराष्ट्र में शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस गठबंधन की सरकार का रास्ता साफ  हो गया था।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804