GLIBS
27-01-2021
मुख्यमंत्री ने गौठान में संचालित गतिविधियों और उत्पादों का किया अवलोकन

कोंडागाँव। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल बस्तर संभाग प्रवास के दौरान आज जिले के बड़े राजपुर विकासखण्ड के ग्राम कोंगेरा पहुंचे, जहां पर ग्रामीणों ने उनका अभूतपूर्व स्वागत किया। इस दौरान उन्होंने आदर्श गौठान कोंगेरा सहित विभिन्न स्वसहायता समूहों द्वारा संचालित गतिविधियों का अवलोकन किया। मुख्यमंत्री ने गौठान परिसर में संचालित बकरीपालन, कुक्कुट पालन, दोना-पत्तल निर्माण केन्द्र, दाल प्रोसेसिंग-पैकेजिंग इकाई, गोधन दुग्ध उत्पादन केंद्र सहित समूहों द्वारा तैयार किए गए विभिन्न उत्पादों व गतिविधियों का निरीक्षण किया। इस अवसर पर लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री गुरु रूद्र कुमार, प्रदेश के आबकारी एवं वाणिज्य मंत्री कवासी लखमा, कोंडागांव विधायक मोहन मरकाम, केशकाल विधायक  संतराम नेताम सहित क्षेत्र के जनप्रतिनिधिगण मौजूद थे। मुख्यमंत्री बघेल जिला मुख्यालय से 70 किलोमीटर दूर ग्राम कोंगेरा (बड़ेराजपुर) में आज अपराह्न एक बजे हेलीकॉप्टर से पहुंचे, जहां पर आदर्श गौठान परिसर में बिहान समूह की महिलाओं ने पुष्पवर्षा कर तथा लोकनर्तकों ने बस्तर के पारम्परिक आदिवासी नृत्य के साथ स्वागत किया। इसके बाद उन्होंने गोठान परिसर में लगाए गए विभिन्न स्टाल का अवलोकन किया। मुख्यमंत्री द्वारा समूह की गतिविधियों के बारे में पूछे जाने पर अमृता स्वसहायता समूह विश्रामपुरी की अध्यक्ष अनिता साहू ने बताया कि उनके समूह में 12 सदस्य हैं जो मिर्च, मसाला, हल्दी, धनिया का पाउडर तैयार तथा पैकेजिंग करके बेचा जाता है। इससे उनके समूह को एक साल के भीतर 50 हजार रुपए की शुद्ध आय हुई है। मुख्यमंत्री ने उन्हें बेहतर कार्य के लिए बधाई दी।
इसके बाद मशरूम उत्पादन यूनिट का उन्होंने अवलोकन किया, जिसमें प्रगति स्वसहायता समूह की जनतो मंडावी और शीतला स्वसहायता समूह की प्रेमलता नेताम ने एस्ट्रॉएड मशरूम उत्पादन एवं उनसे होने वाली आय की जानकारी दी। इसके बाद मुख्यमंत्री ने बकरीपालन शेड, कुक्कुट पालन शेड, गोधन दुग्ध उत्पादन केन्द्र, दाल प्रोसेसिंग- पैकेजिंग कक्ष का अवलोकन कर उनकी गतिविधियों की जानकारी ली।
अवलोकन के दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को तराजू में बिठाकर धान की बोरियों से तौला गया। स्थानीय विधायक  संतराम नेताम ने उन्हें किसानपुत्र निरूपित करते हुए फूलों से सुसज्जित तराजू के एक पलड़े में मुख्यमंत्री को तथा दूसरे पलड़े में धान की बोरियों को रखा गया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने गौठान परिसर में नारियल का पौधा रोपकर उसे सींचा।
 इस अवसर पर मुख्यमंत्री के सलाहकार राजेश तिवारी, बस्तर संभाग के कमिश्नर  जी.आर. चुरेन्द्र, कलेक्टर पुष्पेन्द्र मीणा, एसपी सिद्धार्थ तिवारी सहित अधिकारी-कर्मचारी एवं स्थानीय जनप्रतिनिधि मौजूद रहे।

27-01-2021
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने किया उड़ाव आजीविका केन्द्र का अवलोकन 

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बुधवार को कोण्डागांव में उड़ाव आजीविका केन्द्र का अवलोकन किया। उन्होंने वहां विभिन्न रोजगार मूलक गतिविधियों में काम कर रही महिला स्वसहायता समूहों की महिलाओं से चर्चा कर उनके काम के बारे में जानकारी ली और उनका उत्साह बढ़ाया। ग्रामोद्योग मंत्री गुरू रूद्र कुमार, उद्योग मंत्री कवासी लखमा, लोकसभा सांसद दीपक बैज और विधायक मोहन मरकाम भी इस अवसर पर उपस्थित थे। कोण्डागांव के इस उड़ान बिहान आजीविका केन्द्र में लगभग 200 महिला समूहों ने 12 प्रकार की आजीविका गतिविधियां संचालित की जा रही है। महिला समूहों को प्रशिक्षण के साथ रोजगार के अवसर भी यहां प्रदान किए जा रहे हैं। महिला समूह खाद्य प्रसंस्करण, मसाला निर्माण, कुकीज, फुट वियर निर्माण, अगरबत्ती, चॉक, साबुन, सेनेटरी पेड, लौहशिल्प निर्माण, एलईडी बल्ब, चुड़ी और सीमेंट के पोल बना रही है।

25-01-2021
मुख्यमंत्री ने कहा- चुनौतियों के इस समय में संविधान की भावना को बनाए रखने छत्तीसगढ़ हमेशा प्रतिबद्ध

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रदेशवासियों को देश के 72वें गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं दी है। उन्होंने अपने संदेश में कहा है कि गणतंत्र दिवस लोकतंत्र का महापर्व है। आज ही के दिन देश का संविधान लागू हुआ। हमारे महान नेताओं के त्याग और बलिदान से देश को जो आजादी मिली, हमें जो संविधान मिला और जो लोकतंत्र का वरदान मिला है, वह लगातार मजबूत हो। मुख्यमंत्री ने कहा है कि हमारे संविधान के प्रस्तावना के पहले वाक्य हम भारत के लोग ने 26 जनवरी 1950 से लेकर आज तक भारत के जनमन में लोकतांत्रिक मूल्यों के प्रति भरोसे को बनाए रखा है। विविध रंगों से सजे भारत के लिए हमारे पुरखों ने एक ऐसी बुनियाद रखी, इसमें देश की एकता और अखंडता, हर एक व्यक्ति की स्वतंत्रता, भाईचारा, समानता और न्याय समाहित है। संविधान की यही मूल भावना है। चुनौतियों से भरे इस समय में संविधान की भावना को बनाए रखने के लिए छत्तीसगढ़ हमेशा प्रतिबद्व है। मुख्यमंत्री ने कहा है कि कोरोना संकट काल में छत्तीसगढ़ में आर्थिक विकास का पहिया लगातार गतिमान रहा।

राज्य में कृषि, उद्योग, रियल इस्टेट सहित सभी सेक्टरों में उल्लेखनीय उपलब्धियां हासिल हुई। प्रदेश में ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने के लिए सुराजी गांव योजना, गोधन न्याय योजना और राजीव गांधी किसान न्याय योजना की शुरुआत हुई। इन योजनाओं के क्रियान्वयन के फलस्वरूप छत्तीसगढ़ में आर्थिक बदलाव का नया युग प्रारंभ हुआ है। कोरोना संकट के दौरान गरीबों, मजदूरों, मध्यम वर्ग और किसानों को राहत देने के लिए कई नए फैसले लिए गए। कोरोना महामारी से निपटने में कोरोना वॉरियर्स सहित समाज के सभी वर्गों, सामाजिक संगठनों की भूमिका महत्वपूर्ण रही। मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों से पुरखों की परिकल्पना के अनुरूप गढ़बो नवा छत्तीसगढ़ में सक्रिय भागीदारी का आव्हान किया है।

25-01-2021
हरिद्वार की सृष्टि गोस्वामी उत्तराखंड की एक दिन की सीएम बनी

रायपुर। राष्ट्रीय बालिका दिवस पर हरिद्वार की सृष्टि गोस्वामी को उत्तराखंड की एक दिन की मुख्यमंत्री बनाया गया। एक दिन की मुख्यमंत्री बनकर सृष्टि ने अलग-अलग विभागों की समीक्षा बैठक ली और उनका प्रस्तुतिकरण देखा। गोस्वामी ने बैठकों के दौरान बालिकाओं को सुरक्षा प्रदान किए जाने, कॉलेजों के नजदीक मादक पदार्थों की बिक्री पर पूरी तरह रोक लगाने जैसे अपने महत्वपूर्ण सुझाव भी दिए। प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की प्रेरणा तथा मुख्य सचिव ओमप्रकाश और राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष ऊषा नेगी के समन्वित प्रयासों से हुए इस कार्यक्रम के तहत सृष्टि की अध्यक्षता में उत्तराखंड विधानसभा में बाल विधायक सदन का आयोजन किया गया।

इसमें न केवल बाल नेता प्रतिपक्ष आसिफ हसन ने सदन में सरकार के समक्ष प्रश्न उठाया बल्कि बाल मुख्यमंत्री सृष्टि तथा उनके बाल मंत्रियों ने उनका क्रमवार उत्तर भी दिया। मुख्यमंत्री रावत ने बाल सदन की कार्यवाही को प्रदेश की बालिकाओं का सम्मान बताया। उन्होंने कहा कि ऐसे आयोजनों से बालिकाओं को अपनी पहचान नाने में मदद मिलेगी। रावत ने कहा, बालक कल के नागरिक हैं। हमारे ये भावी कर्णधार देश को बेहतर दिशा की ओर ले जाएं, इसके लिए आवश्यक है कि इन्हें समसामायिक विषयों के साथ ही विधायिका के स्तर पर होने वाले कार्यों की जानकारी भी रहे। कार्यक्रम में बाल विकास विभाग ने जहां महिलाओं और बच्चों से संबंधित अपराध और उनके उन्मूलन के लिए उठाए जा रहे कदमों के बारे में बताया वहीं पुलिस विभाग ने बाल अपराध, साइबर अपराध, नशा मुक्ति अभियान के लिए ‘ऑपरेशन सत्य’ तथा बाल तस्करी मुक्ति के लिए ऑपरेशन स्माइल के उदाहरण प्रस्तुत किए। इसके अतिरिक्त उद्योग, स्मार्ट सिटी, शिक्षा, आदि विभागों ने भी प्रस्तुतिकरण दिया।

24-01-2021
मुख्यमंत्री ने 18 वर्ष पूर्ण कर चुके युवाओं से मतदाता सूची में नाम जुड़वाने किया आह्वान

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राष्ट्रीय मतदाता दिवस 25 जनवरी की प्रदेशवासियों को बधाई और शुभकामनाएं दी है। मुख्यमंत्री ने अपने बधाई संदेश में कहा है कि भारत दुनिया के सबसे बड़े लोकतांत्रिक व्यवस्थाओं में से एक है। हम सबकी प्राथमिक जिम्मेदारी है कि हम अपने लोकतंत्र की मजबूती में भागीदारी निभाएं। राष्ट्रीय मतदाता दिवस हमें प्रजातांत्रिक मल्यों और परंपरा को आगे बढ़ाने के लिए अपने अधिकारों और कर्तव्यों का बोध कराता है। हमें इसका प्रयोग पूरी जिम्मेदारी और भेदभाव के बिना निर्भीक होकर करना चाहिए। संविधान ने सभी वयस्क नागरिकों को मताधिकार का अधिकार दिया है। मुख्यमंत्री ने 18 वर्ष की आयु पूर्ण कर चुके सभी युवाओं से मतदाता सूची में अपना नाम जुड़वाने और और मतदान प्रकिया में शामिल होकर गौरवशाली परंपरा का हिस्सा बनने का आव्हान किया है।  

 

24-01-2021
मुख्यमंत्री के बयान पर नेता प्रतिपक्ष ने किया पलटवार, बोले- रमन सिंह को...

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह पर किए गए तीखे हमले पर नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने पलटवार किया है। कौशिक ने कहा कि जो भी पंजीयन हुए हैं वे सभी किसान हैं। सरकार को अपने वादे पर खरा उतरना चाहिए। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि कांग्रेस ना बताए कौन किसान है और कौन नहीं, किसान को मालूम है कब सिर में और कमर में गमछा बांधा जाता है। यह बात रमन सिंह को भी अच्छे से मालूम है। न्याय योजना की पूरी राशि आज तक नहीं दी है। रमन सरकार में भी सभी को बोनस मिला था, लेकिन हमने किसी को नहीं कहा कि बोनस ना लें, धान बेचने वाले भाजपा नेताओं की सूची जारी करना ओछी राजनीति है।

23-01-2021
मुख्यमंत्री ने किया ऐलान,अधिसूचित क्षेत्र में भूमिहीन आदिवासी परिवार को मिलेगी जमीन

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रदेश के अधिसूचित क्षेत्र में भूमिहीन आदिवासी परिवार को जमीन उपलब्ध कराने की घोषणा की है। उन्होंने कहा है कि अधिसूचित क्षेत्र का कोई भी आदिवासी परिवार भूमिहीन नहीं रहेगा। मुख्यमंत्री बघेल शनिवार को पंडित दीनदयाल उपाध्याय आडिटोरियम में छत्तीसगढ़ अनुसूचित जनजाति शासकीय विकास सेवा संघ के नवनिर्वाचित पदाधिकारियों के शपथ ग्रहण समारोह को संबोधित कर रहे थे।
मुख्यमंत्री ने महान स्वतंत्रता संग्राम सेनानी नेताजी सुभाषचंद्र बोस की जयंती पर उनका स्मरण किया। उन्होंने कहा कि आदिवासी समाज का भी स्वतंत्रता आंदोलन में महत्वपूर्ण योगदान रहा है। आदिवासी समाज के गैंदसिंह नायक, शहीद वीरनारायण सिंह, गुण्डाधुर जैसे अनेक नायकों ने देश की आजादी में अमूल्य योगदान दिया है। छत्तीसगढ़ के उत्तर व दक्षिण आदिवासी बहुल क्षेत्र हैं। यहां जंगल क्षेत्र होने के बावजूद भी सिंचाई के लिए पानी की कमी है। किसानों के खेतो तक पानी पहुंचाने के लिए सरकार की ओर से नरवा योजना शुरू की गई। इस योजना के तहत नदी-नालों को पुनर्जीवित किया जा रहा है। यह काम अब वन विभाग के माध्यम से हो रहा है। इस योजना से यह भी लाभ मिला है कि अब जंगली जानवरों को जंगल में आसानी से पेयजल उपलब्ध हो रहा है, इससे रिहायसी क्षेत्रों में जंगली-जानवरों का आना रूका है। सिंचाई से पानी उपलब्ध होने से जंगलों की हरियाली बढ़ रही है, इससे मधुमक्खी पालन भी बढ़ रहा है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि जंगल में निवास करने वाले वनवासियों को रोजगार के लिए हमारी सरकार ने वन अधिकार मान्यता पत्र की समीक्षा कर वास्तविक हकदारों को उनके पट्टे उपलब्ध कराए हैं। सामुदायिक दावा पट्टा पर अधिक जोर दिया गया। प्रदेश में अब तक साढ़े 5 लाख हेक्टेयर से अधिक भूमि के सामुदायिक पट्टों का वितरण किया जा चुका है। इस वर्ष जंगल में फलदार वृक्ष लगाए जाएंगे। सरकार की सोच है कि जंगल पर निर्भर रहने वाले वनवासियों की आर्थिक स्थिति मजबूत हो। उन्होंने कहा कि फलदार वृक्षों के नीचे तिखुर, हल्दी सहित अंतरवर्तीय फसलें लगाई जा सकती है। उन्होंने कहा कि कोदो-कुटकी का भी समर्थन मूल्य दिया जाएगा।
मुख्यमंत्री  ने का कि बहुउद्देशीय बोधघाट परियोजना पहली परियोजना होगी, जिससे आदिवासियों को सीधा फायदा होगा। बोधघाट परियोजना के लिए देश की सबसे आदर्श पुनर्वास नीति बनाई जाएगी। आदिवासी की पहचान उनकी संस्कृति से है। आदिवासी संस्कृति के संरक्षण और संवर्धन के लिए सरकार देवगुड़ी विकास और घोटुल निर्माण के लिए राशि उपलब्ध कराएगी। उन्होंने कहा कि जिला मुख्यालयों में रियायती दर पर समाज को जमीन और सामाजिक भवन निर्माण के लिए सरकार आर्थिक मदद दे रही है। शहीद वीर नारायण सिंह के नाम से जनजातीय संग्रहालय और शोध कार्य के लिए 10 एकड़ भूमि उपलब्ध कराई गई है।

23-01-2021
मुख्यमंत्री ने योजना आयोग कार्यालय में किया सुभाषचंद्र बोस ब्रेनस्टार्म सेंटर का वर्चुअल लोकार्पण

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शनिवार को देश के महान स्वतंत्रता संग्राम सेनानी नेताजी सुभाषचंद्र बोस की 125वीं जयंती पर उन्हें नमन किया। मुख्यमंत्री बघेल ने अपने निवास कार्यालय में हुए एक समारोह में राज्य योजना आयोग में युवा प्रोफेशनल्स के लिए विशेष रूप से विकसित सुविधाओं का वर्चुअल लोकार्पण किया। उन्होंने योजना भवन में नवनिर्मित सुविधाओं युवा प्रोफेशनल्स एवं विषय विशेषज्ञों के विचार मंथन के लिए आइडिया कैफे, गहन चिंतन के लिए सुभाष चंद्र बोस ब्रेनस्टार्म सेंटर और अंबेडकर लाइब्रेरी का लोकार्पण करने के साथ ही सभाकक्षों का नामकरण नेहरू हॉल और गांधी हॉल के रूप में किया। इस दौरान मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि योजना आयोग ने पुनर्गठन के एक वर्ष की अवधि में ही उल्लेखनीय उपलब्धियों हासिल की है। राज्य योजना आयोग की ओर से थिंक टैक के रूप में कार्य करते हुए राज्य विकास के लिए प्रभावी पॉलिसी, रणनीति व सुझाव सतत रूप से दिए जा रहे हैं। शासन की महत्वकांक्षी योजना-नरवा, गरूवा, घुरूवा, बाड़ी, गोधन न्याय योजना, इथेनॉल निर्माण इकाई, फार्मास्यिटकल पार्क की अवधारणा और स्वरूप निर्धारण में राज्य योजना आयोग की अग्रणी भूमिका रही है। सतत विकास लक्ष्यों की प्राप्ति के लिए फ्रेमवर्क निर्धारण का कार्य राज्य योजना आयोग की ओर से किया जा रहा है। विश्वविद्यालयों की ओर से किए गए शोध निष्कर्षों के विभाग हित में प्रभावी उपयोग के लिए विश्वविद्यालय से एमओयू संपादित कर लैब टू लैण्ड के सिद्धांत पर कार्यवाही की जा रही है। इससे राज्य के युवा, नवाचार और नवीन प्रोटोटाइप विकास के लिए प्रोत्साहित होंगे। राज्य में उद्यमशीलता विकास की संभावना बढ़ेगी।

 

23-01-2021
Breaking : राज्य पुलिस अकादमी का नाम बदला, मुख्यमंत्री ने की घोषणा 

रायपुर। राज्य पुलिस अकादमी का नाम अब नेताजी सुभाष चंद्र बोस पुलिस अकादमी होगा। यह घोषणा मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने की है। मुख्यमंत्री बघेल ने ट्वीट कर यह जानकारी दी है। बता दें कि शनिवार को नेताजी सुभाषचंद्र बोस की 125वीं जयंती पर यह घोषणा की गई है।

 

22-01-2021
मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर किसानों को दी बधाई, कहा-धान खरीदी का रिकॉर्ड बन गया

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शुक्रवार को एक ट्वीट किया है। उन्होंने छत्तीसगढ़ के किसानों को बधाई दी है। उन्होंने कहा है कि राज्य के 20 वर्षों के इतिहास में सर्वाधिक धान ख़रीदी का रिकॉर्ड बन गया है। 21 जनवरी तक 84.44 लाख टन धान की ख़रीदी हो चुकी है। ख़रीदी अभी जारी है।

21-01-2021
मुख्यमंत्री ने कबड्डी खिलाड़ी नरेंद्र साहू की मौत पर दुख व्यक्त किया,ट्वीट कर की अपील

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने धमतरी जिले के गोजी गांव में कबड्डी प्रतियोगिता के दौरान खिलाड़ी नरेन्द्र साहू की मौत पर दुख व्यक्त किया है। उन्होंने दुख की इस घड़ी में परिवार के प्रति संवेदनाएं व्यक्त कर आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की है। मुख्यमंत्री बघेल ने ट्वीट कर राज्य के सभी खिलाड़ियों से खेल के दौरान सुरक्षा का विशेष ध्यान रखने की अपील की है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804