GLIBS
17-09-2020
मुख्यमंत्री ने महानदी जल विवाद के संबंध में लीगल टीम से की चर्चा,कहा-प्रदेश का पक्ष मजबूती से रखें

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गुरुवार को अपने निवास कार्यालय में वीडियो कॉन्फ्रेंस से छत्तीसगढ़-ओडिशा के बीच महानदी जल विवाद को लेकर लीगल टीम के साथ चर्चा की। मुख्यमंत्री ने टीम के सदस्यों को महानदी के जल के उपयोग के संबंध में प्रदेश का पक्ष मजबूती से रखने कहा। उन्होंने कहा कि, महानदी छत्तीसगढ़ की जीवन रेखा है। प्रदेश में खेती, उद्योग और अर्थव्यस्था में इसकी महत्वपूर्ण भूमिका है। कृषि एवं जल संसाधन मंत्री रविन्द्र चौबे, अपर मुख्य सचिव अमिताभ जैन और सुब्रत साहू, जल संसाधन विभाग के सचिव अविनाश चंपावत और मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार रूचिर गर्ग भी इस दौरान उपस्थित थे। लीगल टीम के सदस्य एके गांगुली, किशोर लाहिड़ी और जगजीत सिंह वीडियो कॉन्फ्रेंस से चर्चा में शामिल हुए।

 

 

17-09-2020
मुख्यमंत्री की घोषणा के बाद भी नही हुई कार्रवाई,कांग्रेस के राज में माफिया है मस्तः कौशिक

रायपुर। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि प्रदेश मे रेत माफिया पर अंकुश नहीं होने से उनके हौसले बुलंद है। पूरे प्रदेश में माफिया मस्त है। यही कारण है कि किसी पर प्राणघातक हमला करके तस्कर दशहत फैलाकर तस्करी में जुटे हैं। उन्होंने कहा कि धमतरी में फिर से एक बार रेत माफियाओं ने जिला पंचायत सदस्य पर प्राणघातक हमला करके दहशत फैलाने की कोशिश की है। इससे पूर्व भी इसी तरह से एक जिला पंचायत सदस्य पर भी माफियाओं ने हमला किया था। रेत माफियाओं का आंतक पूरे प्रदेश में कायम है,लेकिन प्रदेश की सरकार कुछ भी ठोस कार्रवाई नहीं कर रही है।

कौशिक ने कहा कि रेत माफिया बस्तर से लेकर सरगुजा और रायपुर से बिलासपुर सहित पूरे प्रदेश में सक्रिय हैं। उन्होंने कहा कि आखिरकार उन्हें किसका मौन समर्थन प्राप्त है। इस मसले पर मुख्यमंत्री ने सदन में भी ठोस कार्रवाई की बात कही थी। इसके बाद भी कार्रवाई के नाम पर अब तक कुछ नहीं हुआ है। यही कारण है कि रेत माफियाओं के हौंसले बुलंद है। नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने धमतरी में जिला पंचायत सदस्य के साथ हुई घटना की निंदा करते हुए मामले की उच्चस्तरीय जांच की मांग की है।

 

17-09-2020
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मुख्यमंत्री बघेल के ट्वीट का दिया जवाब,अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा...

रायपुर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के ट्वीट का जवाब अपने ट्विटर हैंडल पर दिया है। प्रधानमंत्री ने सीएम बघेल का आभार माना है। उन्होंने ट्वीट किया है कि, आभार भूपेश बघेल जी। बता दें कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उनके जन्मदिन की बधाई और शुभकामनाएं दीं मुख्यमंत्री ने सुबह  ट्वीट कर प्रधानमंत्री मोदी को बधाई दी। सीएम बघेल ने प्रधानमंत्री मोदी के स्वस्थ और सुदीर्घ जीवन की कामना की।

17-09-2020
मुख्यमंत्री ने कहा-बैरिस्टर ठाकुर छेदीलाल बहुमुखी प्रतिभा के धनी थे

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बैरिस्टर ठाकुर छेदीलाल की 18 सितंबर को पुण्यतिथि पर नमन कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की है। मुख्यमंत्री बघेल ने कहा है कि बैरिस्टर ठाकुर छेदीलाल बहुमुखी प्रतिभा के धनी थे। वे सिद्धहस्त लेखक,पत्रकार,संगीतज्ञ,कर्मठ नेता और स्वाधीनता संग्राम के सच्चे सेनानी थे। छत्तीसगढ़ में स्वाधीनता आंदोलन के समय बैरिस्टर ठाकुर छेदीलाल ने सेवासमिति के माध्यम से युवकों को संगठित किया। युवाओं में राष्ट्रीयता की भावना जागृत कर स्वतंत्रता आंदोलनों से जोड़ने में बैरिस्टर ठाकुर छेदीलाल का महत्वपूर्ण योगदान रहा है। उन्होंने कानून की उच्च शिक्षा प्राप्त की लेकिन महात्मा गांधी के आह्वान पर वकालत छोड़कर असहयोग आंदोलन को मजबूत करने में लग गए थे। बैरिस्टर ठाकुर छेदीलाल ने सविनय अवज्ञा आंदोलन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई और संविधान सभा के सदस्य भी रहे।

 

 

14-09-2020
बस्तर विशेष बल का होगा गठन, स्थानीय युवाओं की होगी भर्ती, मुख्यमंत्री ने दिए निर्देश

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सोमवार को अपने निवास कार्यालय में आयोजित पुलिस विभाग की समीक्षा बैठक में बस्तर विशेष बल के गठन के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि इसके लिए त्वरित कार्रवाई की जाए। इस विशेष बल में बस्तर के संवेदनशील क्षेत्रों की ग्राम पंचायतों के स्थानीय युवाओं की भर्ती की जाए, इससे स्थानीय लोगों को राहत मिलेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि बस्तर अंचल की कठिन भौगोलिक परिस्थितियां और स्थानीय भाषा की जानकारी पुलिस के लिए बड़ी चुनौती है। यदि अंदरूनी गांवों के युवाओं की बल में भर्ती की जाएगी तो पुलिस का काम और ज्यादा आसान हो जाएगा। पुलिस मुख्यालय द्वारा विशेष बल के गठन का प्रस्ताव तैयार कर जल्द ही शासन को भेजा जाएगा। बैठक में गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू भी उपस्थित थे। मुख्यमंत्री ने समीक्षा बैठक में कहा कि कोविड संकट काल में पुलिस विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों ने सराहनीय कार्य किया है, जिसकी हर तरफ प्रशंसा की जा रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि पटनायक समिति के माध्यम से छोटे-छोटे प्रकरणों में जेल में बंद आदिवासियों की रिहाई के लिए तेजी से कार्रवाई की जाए। हर माह इन प्रकरणों की वापसी की समीक्षा की जाए।

बैठक में बताया गया कि पटनायक समिति के समक्ष 625 प्रकरण प्रस्तुत किए गए थे, जिनमें 404 प्रकरणों में समिति ने अनुशंसा की है। न्यायालय से 206 प्रकरण निराकृत किए गए हैं। इसी तरह मुख्यमंत्री ने चिटफण्ड कम्पनियों के प्रकरणों को तेजी से निराकृत कर संबंधित लोगों को राशि की वापसी की प्रक्रिया में तेजी लाने के निर्देश दिए। उन्होंने इन प्रकरणों की हर माह समीक्षा करने के निर्देश दिए। बैठक में जानकारी दी गई कि चिटफण्ड से संबंधित 17 प्रकरणों में नीलामी की कार्यवाही कर 9 करोड़ 4 लाख 40 हजार 220 रूपए शासन की खाते में जमा किया गया है। रायपुर और दुर्ग में दो प्रकरणों में नीलामी की कार्यवाही प्रक्रियाधीन है। दुर्ग जिले मेें संबंधित लोगों को कुल 16.04 लाख रूपए, राजनांदगांव जिले में 1.88 लाख रूपए, बिलासपुर जिले में 2.80 लाख रूपए और बेमेतरा जिले में 2.22 लाख रूपए की राशि वापस की गई है। सीएम बघेल ने कहा कि न्यायालय के निर्देशानुसार विभाग द्वारा आरक्षक भर्ती का टाईम टेबल घोषित किया जाए। उन्होंने कहा कि पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी संवेदनशीलता के साथ पुलिस कर्मियों की समस्याओं का त्वरित निराकरण करें और पुलिसकर्मियों के साथ सीधा संवाद स्थापित करें। उनके प्रमोशन, स्थानांतरण और छुट्टी के आदि मामलों पर त्वरित कार्यवाही करें।

भूपेश बघेल ने कहा कि पिछले 18 माह में और विशेष रूप से कोविड संकट काल में आम जनता के बीच पुलिस की अच्छी छवि बनी है। मुख्यमंत्री ने सीमावर्ती राज्यों से शराब की तस्करी और सट्टे पर कठोरता के साथ अंकुश लगाने के निर्देश पुलिस अधिकारियों को दिए। उन्होंने कहा कि नक्सल प्रभावित दुर्गम क्षेत्रों में प्री फेब्रिकेटेड पुल-पुलिया बनाए जाएं। गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू ने कहा कि पुलिस की कार्यप्रणाली से आम जनता में उनके प्रति सम्मान और अपराधियों में डर का भाव हो। उन्होंने सभी जिलों में पुलिस के पेट्रोल पंप प्रारंभ करने के लिए प्रयास करने के निर्देश देते हुए कहा कि इससे होने वाली आय की राशि पुलिस वेलफेयर में खर्च की जाए। उन्होंने सूचना तंत्र को और अधिक मजबूत बनाने की आवश्यकता बतायी। बैठक में मुख्य सचिव आरपी मंडल, अपर मुख्य सचिव गृह सुब्रत साहू, पुलिस महानिदेशक डीएम अवस्थी, पुलिस महानिदेशक जेल संजय पिल्ले, विशेष पुलिस महानिदेशक आरके विज और  अशोक जुनेजा, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक अरूण देव गौतम, पवन देव और हिमांशु गुप्ता सहित पुलिस विभाग के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

 

14-09-2020
मुख्यमंत्री ने किया सीजी-कॉप मोबाइल एप लॉंन्च, ऑनलाइन शिकायत करा सकेंगे दर्ज

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सोमवार को अपने निवास कार्यालय में छत्तीसगढ़ पुलिस के सीजी-कॉप (CG-COP) मोबाइल एप को लॉंन्च किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ पुलिस द्वारा विकसित मोबाईल एप आम नागिरकों को पुलिस के नजदीक लाने और पुलिस से सहायता प्राप्त करने के लिये परस्पर विश्वास को विकसित करने में मदद करेगा। अपराध नियंत्रण की दिशा में यह एप नागरिकों और पुलिस के बीच एक सेतु का काम करेगा।

सीजी-कॉप एप को डाउनलोड कर नागरिक अपराध की सूचनाएं देने या प्रकरणों संबंधित सभी सूचनाएं एक क्लिक पर ही पा सकेंगे। नागरिक इस एप के माध्यम से कुल 14 प्रकार की सेवाओं का लाभ बिना थाना जाये ही ले सकेंगे। सीजी-कॉप एप के माध्यम से नागरिक एफआईआर, ऑनलाइन शिकयात, चोरी, गुम, जब्त वाहन, अज्ञात शव, पुलिस से क्लू साझा करें, केस स्टेटस खोजें, पुलिस टेलीफोन निर्देशिका, चोरी, गुम, जब्त मोबाईल, गुमशुदा व्यक्ति, सहायता केंद्र, गिरफ्तार व्यक्ति का विवरण, नजदीकी पुलिस थाना, गुमशुदा व्यक्ति की खोज और हेल्पलाइन सेवा का लाभ उठा सकेंगे। इस अवसर पर गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू, मुख्य सचिव आर.पी. मण्डल, अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू, पुलिस महानिदेशक  डी.एम. अवस्थी, पुलिस महानिदेशक जेल संजय पिल्ले, विशेष पुलिस महानिदेशक आर.के. विज और अशोक जुनेजा सहित पुलिस विभाग के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

 

14-09-2020
महिला ने साक्षरता केन्द्र के माध्यम से खुद को बनाया डिजिटल साक्षर

कोरिया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की पहल पर संचालित मुख्यमंत्री शहरी कार्यात्मक साक्षरता कार्यक्रम से शिक्षार्थियों में नई आशा का संचार हुआ। पहले जिन्हें स्मार्ट फोन व कम्प्यूटर चलाने में परेशानी हो रही थी, अब वे कार्यक्रम से जुड़ कर डिजिटल उपकरणों से वाकिफ हो रहे हैं। ई-साक्षरता केन्द्र मनेन्द्रगढ़ से प्रशिक्षित शिक्षार्थी रतना गुप्ता ने बताया कि केन्द्र के द्वारा उसे सोशल मीड़िया और डिजिटल क्षेत्र की जानकारी के साथ साथ रोजमर्रा के जीवन की उपयोगी तमाम जानकारियां प्राप्त हो सकी है। रतना गुप्ता ने बताया कि वे अपने बच्चों औैर पड़ोस की महिलाओं को मोबाइल से फोटो भेजते हुए देखती थी तब उन्हें लगता था कि इसे वह भी सीख लेती तो अच्छा होता पर झिझक महसूस होती थी। केन्द्र के ई-एजूकेटर ने उन्हें प्रोत्साहित कर डिजिटल साक्षरता प्रदान किया। रतना गुप्ता ने बताया कि उन्होंने सबसे पहले गैस बुकिंग करना सीखा, इसमें उसे दो दिन लगे। घर से पहली बार जब गैस बुकिंग किया, तो मेरी बेटियों को भी बहुत आश्चर्य हुआ था। इसके बाद टेªन का स्टेटस देखना व आॅन लाईन जानकारी प्राप्त करना सीखा। इस प्रकार अब उन्होंने ई-साक्षरता केन्द्र के माध्यम से बनाया खुद को डिजिटल साक्षर बना लिया है।

 

14-09-2020
मुख्यमंत्री ने 15 पेट्रोलिंग वाहनों को किया रवाना,कहा-हाइवे में बढ़ेगी निगरानी और घायलों को मिलेगी तत्काल सहायता

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सोमवार को अपने निवास कार्यालय में हाईवे पेट्रोलिंग के लिए 15 वाहनों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। मुख्यमंत्री बघेल ने कहा है कि नागरिकों को इससे सुगम,सुरक्षित और निर्बाध आवागमन की सुविधा मिलेगी। साथ ही सड़क दुर्घटना पीड़ितों को भी तत्काल राहत और सहायता मिल सकेगी। उन्होंने कहा है कि शासन दुर्घटनाओं को नियंत्रित करने के लिए प्रतिबद्ध है। दुर्घटनाजन्य स्थलों की पहचान कर हाईवे पेट्रोलिंग वाहनों के माध्यम से घायलों को शीघ्र ही मदद मिल पाएगी। शीघ्र मदद मिलने से सड़क दुर्घटना में घायल लोगों की जान बच सकेगी और दुर्घटनाओं में भी कमी आएगी।मुख्यमंत्री बघेल ने दस जिलों बलौदाबाजार, धमतरी, बालोद, बेमेतरा, कोरिया,जशपुर, सूरजपुर,बलरामपुर,कांकेर और कोण्डागांव के लिए 15 हाईवे पेट्रोल वाहनों को रवाना किया है। इस दौरान गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू, पुलिस महानिदेशक डीएम अवस्थी, पुलिस महानिदेशक जेल संजय पिल्ले, विशेष पुलिस महानिदेशक आरके विज और अशोक जुनेजा सहित पुलिस विभाग के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

दस जिलों के राजमार्गों पर ब्लैक स्पॉट के आधार पर 15 सड़क खंड चिन्हित किए गए हैं, जिनकी लंबाई करीब 25 किलोमीटर है। इस मार्ग पर 24 घंटे तीन पालियों में एएसआई, हेड कॉन्सटेबल, कॉन्सटेबल और ड्राइवर उपलब्ध रहेंगे। हाईवे पेट्रोलिंग टीम सड़क दुर्घटना होने पर तत्काल घटना स्थल पर पहुंचेगी और दुर्घटना पीड़ित को 108 वाहन या हाईवे पेट्रोलिंग वाहन से तत्काल नजदीकी शासकीय अस्पताल के लिए रवाना करेगी। इसके साथ ही दुर्घटना पीड़ित व्यक्तियों के परिजनों को तुरंत सूचना दी जाएगी। टीम की ओर से हाईवे के किनारे खड़े खराब, दुर्घटनाग्रस्त, अवैध पार्किंग के वाहनों को हटवाया जाएगा। हाइवे पेट्रोलिंग के संचालन और नियंत्रण पर संबंधित पुलिस अधीक्षक का पूर्ण दायित्व होगा।उल्लेखनीय है कि वर्तमान में वाघनदी बॉर्डर से ओडिसा बॉर्डर तक 322 किमी तक 15 हाईवे पेट्रोलिंग गाड़ियां चल रही है। इससे सड़क दुर्घटनाओं और घायलों को समय पर उपचार मिलने में अत्यधिक सहायता मिली है। नई 15 हाइवे पेट्रोलिंग गाड़ियों के लिए यातायात पुलिस और अंतर्विभागीय समिति की ओर से नए 15 सड़क खंडों में उन दुर्घटनाजन्य स्थलों को चिह्नित किया गया है, जहां डायल 112 की गाड़ियां नहीं चल रही हैं। एआईजी यातायात संजय शर्मा ने कहा है कि हाइवे पेट्रोलिंग गाड़ियों की त्वरित प्रतिक्रिया की वजह से विगत वर्ष की तुलना में पिछले 8 माह में सड़क दुर्घटनाओं में 24 प्रतिशत और सड़क दुर्घटनाओं में मृत्यु में 20 प्रतिशत की कमी आई है।

14-09-2020
भूपेश ने कहा- चनेशराम राठिया को एक सच्चे जनसेवक के रूप में सदैव याद किया जाएगा

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पूर्व मंत्री चनेशराम राठिया के निधन पर शोक जताया है। मुख्यमंत्री बघेल ने राज्य के लिए अपूरणीय क्षति बताया है। इस दुख की घड़ी में उनके परिवारजनों के प्रति संवेदना प्रकट की है। मुख्यमंत्री ने जारी अपने शोक संदेश में कहा है कि, स्व.राठिया ने अपने लंबे राजनैतिक जीवन में प्रदेश की उन्नति और आदिवासी समाज सहित हर वर्ग के हित के लिए कार्य करते हुए अपना अभूतपूर्व योगदान दिया। धर्मजयगढ़ और प्रदेश में उन्हें एक सच्चे जनसेवक के रूप में सदैव याद किया जाएगा।

 

 

13-09-2020
उद्धव ठाकरे ने तोड़ी चुप्पी, कहा- मेरी खामोशी को कमजोरी न समझा जाए

मुंबई। कोरोना, कंगना रनौत के कारण सवालों में घिरे महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने रविवार को अपनी चुप्पी तोड़ी। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए लोगों को संबोधित करते हुए उद्धव ने कहा कि महाराष्ट्र को बदनाम करने का सिलसिला चल रहा है। लेकिन यह कामयाब नहीं होगा। उद्धव ने सुशांत, कंगना पर बात करने के बजाय मराठा आरक्षण और कोरोना पर ज्यादा देर तक बात की। महाराष्ट्र की बदनामी का जो सिलसिला चल रहा है उस बारे में बात करुंगा उद्धव ठाकरे ने कहा कि ये राज्य मेरा परिवार है। हम चाहे विदर्भ हो या राज्य के दूसरे हिस्से, सभी पर बारी-बारी से ध्यान दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि जितने भी राजनीतिक तूफान है, उनका मैं सामना करूँगा। कोई परवाह नहीं है। जनता से उनका यही कहना है कि वे सरकार से खबरदारी लें, जबकि जवाबदारी सरकार देगी। उन्होंने कंगना का नाम लिए बिना कहा कि उनकी खामोशी को कमजोरी न समझा जाए। उन्होंने कहा कि राजनीतिक साइक्लोन आते रहेंगे और वो उनका सामना करते रहेंगे। उद्धव ने कहा कि कोरोना महामारी आखिरी स्टेज पर है। लेकिन अभी पूरी तरह गई नहीं है।इसलिए घर से बाहर निकलते हुए मास्क पहने और सामाजिक दूरी का पालन करें। उन्होंने कहा कि मास्क नही लगाने पर दंड वसूला जाएगा। अगर दुकानदारों ने सावधानी नहीं बरती तो उन पर भी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि कोरोना से निपटने के लिए पिछले 4 महीने में 3 लाख 60 हजार बेड की संख्या बढ़ाई गई है। 

 

11-09-2020
सचिव आर.प्रसन्ना ने अधिकारियों से कहा, मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान पर प्रभावी रूप से करें काम

कांकेर। राज्य शासन द्वारा दिये गये निर्देशानुसार जिले में आंगनबाड़ी केन्द्रों का संचालन शुरू हो गया है तथा गर्भवती एवं एनिमिक महिलाओं और आंगनबाड़ी केन्द्रों के बच्चों को गरम भोजन का वितरण किया जा रहा है। महिला बाल विकास विभाग के सचिव आर. प्रसन्ना एवं कलेक्टर केएल चौहान ने उद्यान, पशुचिकित्सा और महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों की बैठक ली। बैठक में उन्होंने कुपोषण कम करने एवं मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान के प्रभावी क्रियान्वयन तथा ग्राम पंचायत के गौठानों में निर्मित मुर्गी सेट में एनआरएलएम के महिला स्व सहायता समूहों के माध्यम से मुर्गी पालन कर अण्डा उत्पादन को बढ़ावा देकर उसका उपयोग आंगनबाडी केन्द्रों में करने के लिए निर्देश दिये। सभी आंगनबाडी केन्द्रों, स्कूलों, आश्रम शालाओं तथा छात्रावासों में अधिक से अधिक मुनगा के पौधेरोपण करने के निर्देश भी दिए। बैठक में महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी किशनक्रांति टंडन, उप संचालक पशुचिकित्सा सेवाएं एलपी सिंह, सीडीओपी सीएस मिश्रा, सहायक संचालक उद्यानिकी व्हीके गौतम, आंकाक्षी जिला फेलो अंकित पिंगले और नेहा सिंह, परियोजना अधिकारी कांकेर त्रिभुवन ध्रुव, चारामा शकुंतला कोमरे, दुर्गूकोंदल सुमन नेताम, नरहरपुर निर्मला ध्रुव उपस्थित थीं।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804