GLIBS
01-08-2020
गोधन न्याय योजना के तहत पशुपालकों को 5 अगस्त तक भुगतान की तैयारियों का जायजा लिया कलेक्टर भीम सिंह ने

रायपुर/रायगढ़। खरसिया क्षेत्र के प्रवास के दौरान ग्राम-जोबी में आदर्श गोठान और बाड़ी का कलेक्टर भीम सिंह ने निरीक्षण किया। गोधन न्याय योजना के तहत 20 जुलाई से 1 अगस्त  तक किसानों और पशुपालकों से क्रय किए गए गोबर का भुगतान 5 अगस्त को किये जाने वाली तैयारियों का जायजा लिया।कलेक्टर सिंह ने बाड़ी में आम का पौधा लगाया और बाड़ी में लगाये गये जीमी कांदा के पौधों का निरीक्षण किया। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया कि ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले ऐसे व्यक्ति और किसान जिनके पास बाड़ी विकसित किये जाने की जगह है उन्हें बाड़ी में लगाये जाने वाले फल व सब्जी के बीज उपलब्ध करावे। शासन की ओर से प्रदान की जाने वाली सभी सुविधाओं का लाभ दिलावे।
कलेक्टर सिंह ने ग्राम जोबी में निवास करने वाले कुल परिवारों की संख्या तथा कुल पशुओं की संख्या के बारे में जानकारी प्राप्त किया और गौठान में आने वाले पशुओं की भी जानकारी प्राप्त की। उन्होंने कुल पशुओं की संख्या की तुलना प्रतिदिन गोबर खरीदी की मात्रा को बहुत कम बताया, गोबर खरीदी की मात्रा बढ़ाने के लिए पशुपालकों को प्रेरित करने और गोठान से पशुपालकों के घरों की दूरी ज्यादा होने की स्थिति में बैलगाड़ी, रिक्शा या अन्य वैकल्पिक व्यवस्थाओं से गोबर गौठान में प्रतिदिन मंगाने के निर्देश दिये।

इस व्यवस्था से कम से कम एक स्थानीय व्यक्ति को रोजगार उपलब्ध होगा और उसे 25 पैसे प्रति किलो गोबर की दर से भुगतान प्राप्त होगा। कलेक्टर सिंह ने गोठान के चरवाहा अतुल सिंह और उसके सहयोगी को गौठान में आने वाले पशुओं का गोबर एकत्र करने और उसकी तौल कराकर अपने नाम से दर्ज करवाने की समझाइश देकर बताया कि उसे प्रतिमाह 6 से 8 हजार रुपए तक की अतिरिक्त आमदनी हो सकती है। कलेक्टर सिंह ने गोठान में गोबर को व्यवस्थित ढंग से रखने और अतिरिक्त पिट का तत्काल निर्माण प्रारंभ करने के निर्देश दिये।कलेक्टर सिंह ने ग्राम सरपंच, गोठान समिति के अध्यक्ष और सदस्यों से उनकी समस्याओं के बारे में पूछताछ की और स्थानीय युवाओं और युवतियों को गोठान समिति में जोडऩे के निर्देश दिये। उन्होंने ग्राम वासियों की मांग पर स्वच्छ पेयजल उपलब्ध कराने एसडीएम को निर्देशित किया और गांव के स्थानीय निवासी विकलांग व्यक्ति को शासन की ओर से प्राप्त होने वाली सहायता राशि व पेंशन तत्काल स्वीकृत करने और भुगतान करने के निर्देश दिये।

कलेक्टर सिंह ने अपने प्रवास के दौरान खरसिया क्षेत्र के ग्राम-चोढ़ा में 14 करोड़ 34 लाख रूपये की लागत से निर्माणाधीन आदर्श आदिवासी छात्रावास (500 बालक/बालिकाओं ) भवन का निरीक्षण किया और निर्माण एजेंसी को भवन में फिनिशिंग का कार्य शीघ्र पूरा करने। और भवन हेण्डओव्हर करने के निर्देश दिये। उन्होंने आदिवासी विभाग के अधिकारियों को आदिवासी छात्रों का प्रवेश पूर्ण करने के भी निर्देश दिये। कलेक्टर सिंह ने ग्राम चोढ़ा में निर्माणाधीन धान चबूतरा के निर्माण की प्रगति का भी जायजा लिया और संबंधित अधिकारियों को शासकीय अभिलेख में समिति का नाम सुधारने के भी निर्देश दिये। इस अवसर पर जिला पंचायत रायगढ़ के अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी बी.तिग्गा, एसडीएम, जनपद पंचायत सीईओ सहित कृषि, पशुपालन और राजस्व विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।

27-07-2020
Video: जिला चिकित्सालय पहुंचे कलेक्टर, वार्डों का किया निरीक्षण, मरीजों, परिजनों से की बातचीत

रायगढ़। जिला चिकित्सालय रायगढ़ का सोमवार को कलेक्टर भीम सिंह ने निरीक्षण किया। कलेक्टर के जिला चिकित्सालय पहुंचते ही चिकित्सालय के अधिकारियों में हड़कंप मच गया। कलेक्टर ने चिकित्सालय के हर वार्ड में जाकर निरीक्षण किया। मरीजों से चर्चा की, उन्हें किस प्रकार की सुविधा मिल रही है और क्या तकलीफ हो रही है इसका जायजा लिया। साथ ही मरीजों के परिजनों से भी चर्चा की। मेडिकल स्टाफ से बातचीत की। इलाज कराने के लिए आए मरीजों को धूप में लाइन लगाकर खड़े होना पड़ता है। इस पर तत्काल उन्होंने पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों को मौके पर बुलाकर स्टीमेट बनाकर जल्द से जल्द शेड बनवाने के निर्देश दिए ताकि जिला चिकित्सालय आने वालों को किसी प्रकार की कोई तकलीफ ना हो।  अन्य खामियों को भी जल्द से जल्द दुरुस्त करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए।

25-07-2020
Video : कलेक्टर और एसपी ने किया नगर का निरीक्षण, कहा निर्धारित समय में बंद कर दें दुकानें 

रायगढ़। जिले में लगातार कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए लॉक डाउन नहीं की गई है, लेकिन सुबह 10 बजे से शाम 6 बजे तक ही दुकानों को खोलने की छूट दी गई है। शाम 6 बजे के बाद की स्थिति का जायजा लेने के लिए कलेक्टर भीम सिंह और एसपी संतोष कुमार सिंह अपने मातहत कर्मचारियों के साथ निरीक्षण किया। अधिकांश दुकानों के साढ़े 6 बजे तक खुले रहने पर  कलेक्टर ने जुर्माना के साथ न मानने वाले दुकानदारों पर एफआईआर दर्ज करने की बात कही है। कलेक्टर ने लोगों से अपील की है कि सभी मास्क लगाकर निकले और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करें साथ ही निर्धारित समय-सारिणी पर दुकान बंद कर दें।

22-07-2020
रविन्द्र चौबे ने कहा, डीएमएफ राशि का उपयोग जन कल्याणकारी कार्यो के लिए करें

रायपुर। कृषि एवं जल संसाधन मंत्री तथा रायगढ़ जिले के प्रभारी मंत्री रविन्द्र चौबे ने बुधवार को अपने निवास कार्यालय से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से रायगढ़ जिला खनिज संस्थान न्यास निधि (डीएमएफ) के शासी परिषद की बैठक ली। कलेक्टोरेट रायगढ़ के सभाकक्ष में आयोजित शासी परिषद की बैठक में उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल तथा जिले के सभी विधायक की उपस्थिति में (डीएमएफ) मद से लगभग 60 करोड़ की राशि के कार्यो की स्वीकृति प्रदान की गई। प्रभारी मंत्री चौबे ने कहा कि डीएमएफ राशि का उपयोग स्वास्थ्य, शिक्षा, पेयजल, जैसे जन कल्याणकारी कार्यो में किया जाय। उन्होंने रायगढ़ जिले में कोरोना महामारी की रोकथाम और उससे बचाव के लिए किए गये उपायों पर प्रसन्नता जताई। उन्होंने रायगढ़ जिले में कोविड मरीजों के इलाज और सैंपल जांच की क्षमता और उपलब्ध बेड की संख्या की भी जानकारी प्राप्त की। बैठक में प्रभारी मंत्री चौबे ने प्रदेश के किसानों और ग्रामीणों के हित में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा लागू की गई योजना नरवा, गरवा, घुरवा बाडी योजना के अन्तर्गत रायगढ़ जिले में निर्मित गौठानों का निर्माण तथा नालों के उपचार कार्य के बारे में जानकारी ली। उन्होंने हरेली शुरू गोधन न्याय योजना में जिले में गोठानों में स्थापित गोबर क्रय केन्द्रों की व्यवस्था के बारे में भी जानकारी ली। मंत्री चौबे ने जिले में बाहर से आने वाले प्रवासी श्रमिकों को स्थानीय उद्योगों में रोजगार उपलब्ध कराने और उनके जॉबकार्ड बनवाकर रोजगार गारंटी योजना में कार्य दिलाने तथा उनका राशनकार्ड बनाये जाने और खाद्यान्न वितरण के विषय में भी जानकारी ली।    

बैठक में कलेक्टर भीम सिंह ने डीएमएफ के तहत जिला पंचायत रायगढ़ द्वारा नरवा, गरवा, घुरवा, बाड़ी के विकास के लिये, ग्रामीण आजीविका मिशन योजना के अन्तर्गत गौठानों में कराये जाने वाले कार्यो, जिले में शुरू किए जा रहे अंग्रेजी माध्यम स्कूल की व्यवस्थाओं, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग, पशु चिकित्सा सेवायें, कृषि विभाग, नगर निगम रायगढ़, मतस्य पालन, उद्यान, क्रेड़ा आदिवासी विकास, वन विभाग तथा अन्य विभागों के माध्यम से कराये जाने वाले कार्यो के लिए कार्ययोजना में प्रस्तावित राशि की जानकारी दी। जिस पर प्रभारी मंत्री चौबे ने सहमति जताते हुए कहा कि जिले के विकास कार्यो के लिए राशि की कमी नहीं आयेगी। उन्होंने जिले के प्रत्येक विधान सभा क्षेत्र में विधायकों की अनुशंसा पर विकास के और कार्यो का प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिये। बैठक में विधायक लालजीत सिंह राठिया, प्रकाश नायक, चक्रधर सिंह सिदार और उत्तरा जांगडे सहित ग्रामसभा के सदस्य और पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह, सीईओ जिला पंचायत ऋचा चौधरी, वन मंडलाधिकारी रायगढ़ मनोज पाण्डेय, शासी परिषद के सदस्य तथा संबंधित विभागों के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

 

06-07-2020
खाद वितरण और भंडारण व्यवस्था पर भड़के कलेक्टर भीम सिंह,फ़टी बोरिया और नमी पर जताई नाराज़गी

रायपुर/रायगढ़। कलेक्टर भीम सिंह ने सोमवार को अपने प्रवास के दौरान ग्राम-चपले में खाद-बीज वितरण केन्द्र पहुंचकर भंडारण और वितरण व्यवस्था का जायजा लिया। उन्होंने वहां पर अव्यवस्थित रूप से खाद और बीज के रख-रखाव पर अप्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि यह सामग्री किसान अपने घरों तक कैसे ले जायेंगे। खाद की बोरिया फटी हुई है व बरसात की नमी में खाद प्रभावित हो रही है। उन्होंने उपस्थित समिति के कर्मचारियों को भविष्य में इसका भंडार उचित ढंग से करने के निर्देश दिए।

 

03-07-2020
Video: विधायक और महापौर ने हरी झंडी दिखाकर किया मास्क मार्शल अभियान का शुभारंभ

रायगढ़। कलेक्टर के आदेशानुसार एवं नगर निगम आयुक्त के निर्देशानुसार मास्क मार्शल टीम तैयार की गई है,जो कोरोना के संक्रमण से बचाव के लिए शहरवासियों को जागरूक करेगी। इसका शुभारंभ शुक्रवार को कलेक्टर परिसर से विधायक,महापौर,सभापति एवं प्रशासन के द्वारा किया गया।कलेक्टर भीम सिंह के आदेशानुसार उनके परिसर से ही मास्क मार्शल अभियान का शुभारम्भ विधायक प्रकाश नायक के मार्गदर्शन से महापौर जानकी काटजू ,सभापति जयंत ठेठवार एवम प्रशासन से डिप्टी कलेक्टर कुरुवंशी, नगर निगम आयुक्त आशुतोष पांडेय ,उपायुक्त पंकज मित्तल,एमआईसी सदस्य कमल पटेल,विकास ठेठवार,राजेश भारद्वाज,एनएसयूआई के प्रदेश उपाध्यक्ष राकेश पांडेय,जिला कांग्रेस से अजय प्रताप सिंग,मनीष देवांगन,समाजसेवी मुकेश कलानोरिया,अमृत काटजू एवम नागरिकों के उपस्थिति में किया गया।

जो नगर निगम क्षेत्र के समस्त वार्ड  में मास्क मार्शल टीम कोरोना संक्रमण के जागरुकता के लिये कार्य करेगी। इसमें निगम के मोहर्रिर,एनएसएस एवम नेहरू युवा केन्द्र के स्वयंसेवक संघ अपनी सेवा देंगे। जिनका प्रमुख उद्देश्य होगा बगैर मास्क वाले व्यक्ति को मास्क की उपयोगिता बताना साथ ही मास्क उपलब्ध कराकर मास्क की उचित राशि मोहर्रिर द्वारा लेकर उसके रसीद भी दी जाएगी।

28-06-2020
Video: कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए प्रशासन ने ली होटल,मैरिज हाउस संचालकों की बैठक

रायगढ़। कलेक्टर भीम सिंह के निर्देश पर कोरोना संक्रमण की रोकथाम और बचाव के संबंध में किए जाने वाले उपायों के बारे में रायगढ़ एसडीएम युगल किशोर उर्वशा और नगर पुलिस अधीक्षक अविनाश ठाकुर के साथ स्थानीय होटल तथा विवाह स्थल (मैरिज हाउस)के संचालकों की बैठक कलेक्टोरेट के सभागृह में हुई। एसडीएम उर्वशा ने कोरोना महामारी के संक्रमण में हो रही लगातार वृद्धि को ध्यान में रखते हुये होटल और मैरिज हाऊस संचालकों से प्रशासन को सहयोग की अपेक्षा व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि किसी भी हालत में विवाह समारोह में सम्मिलित व्यक्तियों की कुल संख्या प्रशासन द्वारा जारी गाइड लाइन के अनुसार 50 से अधिक नहीं हो होनी चाहिये तथा प्रत्येक होटल और मैरिज हाउस संचालक उनके यहां आयोजित होने वाले कार्यक्रमों में सम्मिलित व्यक्तियों की सूची, उनकी टे्रवल हिस्ट्री और इन कार्यक्रमों की विडियोग्राफी कराकर तथा सीसीटीवी के फुटेज प्रतिदिन प्रशासन को उपलब्ध करायेंगे। साथ ही भोजन व्यवस्था अथवा कार्यक्रम संचालन के दौरान अनिवार्य रूप से मॉस्क पहनने तथा सोशल डिस्टेंस का पालन करने के लिये प्रेरित करें। बैठक के दौरान नगर पुलिस अधीक्षक अविनाश ठाकुर ने होटल और मैरिज हाऊस संचालकों को सचेत करते हुये कहा कि कोरोना महामारी के संक्रमण को देखते हुये विशेष सावधानी बरतते हुये शासन द्वारा जारी गाइड लाइन का पालन करते हुये सहयोग करने की अपील की साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि लापरवाही बरतने या उल्लंघन करने पर संबंधितों के लिये प्राथमिकी दर्ज कर वैधानिक कार्यवाही की जावेगी।

 

24-06-2020
Video: एक ऐसा गांव भी, जहां 45 साल बाद पड़े कलेक्टर के कदम

रायगढ़। जिला मुख्यालय से महज कुछ किलोमीटर की दूरी पर एक ऐसा गांव है, जहां 45 साल तक किसी कलेक्टर के कदम ही नहीं पड़े। रायगढ़ ब्लॉक के ग्राम जुनवानी, जो हाथी प्रभावित क्षेत्र है और यहां ग्रामीणों ने चुनाव बहिष्कार का ऐलान करके बड़ी हलचल मचाई थी। बताया जा रहा है कि जुनवानी से कोई भी व्यक्ति वोट डालने नही गया था। जब कलेक्टर भीम सिंह  रायगढ़ वनमण्डल के गांव जुनवानी पहुंचे तो पता चला कि पिछले 45 सालों से कोई कलेक्टर इस गांव में नहीं पहुंचे थे। इसकी पूरी पड़ताल के लिए मीडिया की टीम बंगुरसिया के पास हाथी प्रभावित क्षेत्र ग्राम जुनवानी पहुंची। यहां ग्रामीणों से बातचीत के दौरान बताया किरायगढ़ कलेक्टर भीम सिंह अभी कुछ दिन पहले जब वन भूमि अधिकार पट्टा वितरण की जानकारी एकत्रित करने ग्राम जुनवानी पहुंचे तो वहां के बुजुर्गों की आंख में आँसू आ गए। गांव के बुजुर्गों ने 45 साल बाद जब किसी कलेक्टर को अपने गांव में देखा तो उन्हें ऐसा लग मानो उनकी सारी तकलीफे अब खत्म हो जाएंगी। नम आंखों से मसीहा के रूप में खड़े रायगढ़  कलेक्टर की ओर देखते हुए गांव के बुजुर्गों ने वन अधिकार पट्टा,निराश्रित पेंशन,गांव में स्कूल की दशा व अन्य मूलभूत समस्याओं से उन्हें अवगत कराया। वही सब समस्याओं के बारे में मीडिया की टीम को भी गांव वालों ने बताया। किस प्रकार हाई स्कूल न होने की वजह से जुनवानी के छात्र जंगल के रास्ते दूसरे गांव जाते है

और हर पल उन्हें इस बात का डर सताता रहता है कि कभी भी हाथियों का दल उनपर हमला कर देगा। ग्रामीणों ने बताया कि जुनवानी में कई ग्रामीण हाथियों के हमले से अपनी जान गंवा चुके है,जिनको अबतक कोई मुआवजा भी नहीं मिल पाया है। गांव की सड़कों की हालत जर्जर है और गांव का सांस्कृतिक मंच भी पूरी तरह से जर्जर है। गांव के बुजुर्गों के अनुसार जुनवानी में कोई कलेक्टर 45 साल बाद आया है, इससे पहले 1975 में जब लकड़बग्गे का आतंक हुआ था तब तत्कालीन कलेक्टर जुनवानी गांव पहुंचे थे गए थे। 45 साल बाद जब गांव के लोगों के बीच कलेक्टर भीम सिंह पहुंचे तो ग्रामीणों की खुशी का ठिकाना ही नहीं रहा। गांव वालों ने बताया कि यदि जिले कोरोना का संक्रमण का दौर नही होता तो जुनवानी के ग्रामीण जिला कलेक्टर का स्वागत ढ़ोल-नगाड़ों के साथ करते। बहरहाल कलेक्टर के दौरे के बाद ग्रामवासियों में इस बात की उम्मीद जगी है कि अब उनकी सारी समस्याओं का समाधान जल्द ही होगा। वहीं कलेक्टर भीम सिंह ने गांव वालों की समस्याओं को गम्भीरता से सुना और उन्हें सभी समस्याओं के निराकरण शीघ्र करने का आश्वासन भी दिया।

 

15-06-2020
छत्तीसगढ़ के दो जिलों में 21 जून तक बंद रहेंगे रेस्टोरेंट और बार,अन्य दो में समय निर्धारित

रायपुर। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के मद्देनजर छत्तीसगढ़ शासन, वाणिज्यिक कर (आबकारी) विभाग के निर्देशानुसार रायगढ़ कलेक्टर ने आदेश जारी किया है। कलेक्टर भीम सिंह ने 15 से 21 जून तक जिले के समस्त रेस्टोरेन्ट और होटल बार को पूर्ण रूप से बंद रखने शुष्क अवधि की घोषणा की है। इसी तरह कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी कबीरधाम रमेश कुमार शर्मा ने भी छत्तीसगढ़ शासन वाणिज्यिक कर (आबकारी) विभाग के पत्र के निर्देशानुसार आदेश जारी किया है। कलेक्टर ने जिले में संचालित मून सिटी क्लब, एफएल 4(क) क्लब के बार रूम और स्टॉफ रूम और क्लब के संग्रहण स्थल को 15 से 21 जून तक पूर्णत: बंद रखने आदेश दिया है।

कांकेर में सुबह 8 बजे से रात 9 बजे तक खोलने की अनुमति
 इधर कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी कांकेर केएल चौहान ने शराब दुकानों को खोलने और बंद करने के संबंध में पूर्व में जारी आदेश में संशोधन किया है। अब जिले की समस्त देशी शराब, दुकान सीएस 2 (घघ) और विदेशी शराब दुकान एफएल 1 (घघ) को सुबह 8 बजे से रात 9 बजे तक संचालित करने की अनुमति प्रदान की गई है। पूर्व में जारी आदेशानुसार जिले में शराब दुकानें सुबह 8 बजे से शाम 7 बजे तक खोली जाती थी। कलेक्टर चौहान ने सोशल डिस्टेंसिंग, पर्सनल डिस्टेंसिंग और अन्य सभी उपायों को करने के निर्देश भी दिए हैं।

कोंडागांव में सुबह 8 बजे से रात 9 बजे तक खोलने की अनुमति
कार्यालय कलेक्टर (आबकारी) विभाग की ओर से मिली जानकारी के मुताबिक छत्तीसगढ़ वाणिज्यि कर (आबकारी) विभाग की ओर से जारी नए निर्देश के अनुरूप जिले में शराब दुकानों को खोलने और बंद करने का समय निर्धारित किया गया है। दुकानों के संचालन का समय भीड़ को नियंत्रण करने के उद्देश्य से सुबह 8 बजे से रात 9 बजे तक निर्धारित किया गया है। इसके मद्देनजर अब कोण्डागांव जिले में छत्तीसगढ़ स्टेट मार्केटिंग कापोर्रेशन लिमिटेड की ओर से संचालित समस्त देशी/विदेशी मदिरा दुकान निर्धारित समय के अनुसार ही खुलेगी और बंद होगी।

09-06-2020
Video: शासकीय नटवर बहुउद्देशीय उ.मा. विद्यालय बनेगा अंग्रेजी मीडियम स्कूल

रायगढ़। कलेक्टर भीम सिंह ने जिला मुख्यालय में अंग्रेजी माध्यम स्कूल प्रारंभ किये जाने के संबंध में शहर के बीचो-बीच स्थित शासकीय नटवर बहुउद्देशीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय भवन का निरीक्षण किया। उन्होंने लोक निर्माण विभाग के कार्यपालन यंत्री को निर्देशित किया कि आगामी 3 माह में इस स्कूल के भवन का आवश्यक मरम्मत कार्य कर साज-सज्जा के साथ पूर्ण किया जाये और यह कार्य कराये जाने के लिए निविदा प्रक्रिया सहित आवश्यक औपचारिकताओं को पूर्ण कर गुणवत्ता के साथ कार्य किया जाये। यह अंग्रेजी माध्यम स्कूल जिले का आदर्श स्कूल साबित होगा। उन्होंने यह भी कहा कि स्कूल में फर्नीचर लैब तो अच्छा होना चाहिये परंतु स्कूल की कामयाबी वहां के अध्यापकों की गुणवत्ता और परीक्षा परिणाम पर निर्भर करता है। स्कूल भवन निरीक्षण के दौरान जिला पंचायत सीईओ ऋचा प्रकाश चौधरी, जिला शिक्षा अधिकारी तथा स्कूल के प्राचार्य सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

30-05-2020
Video: रेलवे स्टेशन का जिला प्रशासन ने लिया जायजा

रायगढ़। रेलवे स्टेशन रायगढ़ में एक जून से हावड़ा अहमदाबाद सुपर फास्ट,हावड़ा मेल और जनशताब्दी ट्रेन शुरू होने वाली है। इसको देखते हुए कलेक्टर भीम सिंह ने जिला पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह ,जिला पंचायत सीईओ ऋचा चौधरी, अतिरिक्त कलेक्टर राजेन्द्र कटारा, एसडीएम युगल किशोर उर्वशा ,सीएसपी अविनाश ठाकुर,सीएमएचओ केशरी सहित जिले के प्रशासनिक अधिकारियों के साथ रेलवे स्टेशन का जायजा लिया। ट्रेन से आने जाने एवं चढ़ने उतरने वाले यात्रियों के सबंध में चर्चा करते हुए आवश्यक दिशा निर्देश दिए। इस दौरान आरपीएफ टीआई एमएल यादव,जीआरपी टीआई भगत ,कोतवाली टीआई एसएन सिंह सहित पुलिस बल उपस्थित रहा। 1 जून से ट्रेनों का परिचालन शुरू होने के बाद रायगढ़ में 3 ट्रेनों का स्टॉपेज है,जो अलग-अलग समय मे रायगढ़ रेलवे स्टेशन पहुंचेंगी।यहां ऑन लाइन के साथ ही काउंटर बुकिंग भी शुरू कर दी गई है। इसको देखते हुए रेल विभाग के साथ ही जिला प्रशासन भी अलर्ट हो गया है। रायगढ़ रेलवे स्टेशन में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। कलेक्टर व पुलिस अधीक्षक ने प्रशासनिक अमले के साथ स्टेशन का निरीक्षण कर आवश्यक दिशा निर्देश दिया।ट्रेनों की आवाजाही शुरू होने को लेकर रेलवे के साथ ही प्रशासन ने भी बाहर से आने बाले यात्रियों की जांच इत्यादि के इंतजाम किए हैं। स्टेशन में जाने वाले यात्रियों को डेढ़ घण्टा पहले आना होगा ताकि उनका स्क्रीनिंग टेस्ट किया जा सके। जांच के साथ ही उनकी ट्रेवल हिस्ट्री लेते हुए उन्हें होम आइसोलेट किया जाएगा।

 

29-05-2020
कलेक्टर ने किया तीन क्वारेंटीन सेंटरों का निरीक्षण

रायगढ़। कलेक्टर भीम सिंह ने शुक्रवार को रायगढ़ शहर तथा आसपास के तीन क्वारेंटीन सेटरों का निरीक्षण किया और वहां की व्यवस्थाओं के संबंध में जानकारी ली। कोरोना वायरस (कोविड-19)के संक्रमण की रोकथाम एवं नियंत्रण के लिए राज्य शासन द्वारा जारी दिशा-निर्देश के तहत राज्य के बाहर से आने वाले ग्रामीण श्रमिकों तथा अन्य प्रवासी व्यक्तियों के लिए क्वारेंटीन सेंटर बनाए गए है। कलेक्टर सिंह सर्वप्रथम रायगढ़ शहर के केवड़ाबाड़ी स्थित शासकीय प्री.मैट्रिक छात्रावास पहुंचे, वहां कुल 20 व्यक्ति वर्तमान में रूके हुए है। जिनमें सभी के सेंपल जांच के लिए लिए जा चुके है। कलेक्टर ने क्वारेंटीन किए गए व्यक्तियों, महिलाअें से सीधे बातचीत कर वहां सही समय पर भोजन व्यवस्था, साफ-सफाई, पीने का पानी तथा अन्य आवश्यक सुविधाओं की जानकारी ली। क्वारेंटीन किए गए व्यक्तियों के द्वारा राज्य के बाहर जाकर कौन-कौन से कार्य किये जा रहे थे इसकी भी जानकारी ली। उन्होंने क्वारेंटीन सेंटरों में रहने वाले प्रवासी श्रमिकों का सिक्ल मेपिंग कर सभी की जानकारी एकत्र करने के निर्देश संबंधित नोडल अधिकारियों को दिये ताकि इन्हें स्थानीय स्तर पर रोजगार उपलब्ध कराया जा सके।कलेक्टर सिंह ने शासकीय प्राथमिक शाला खैरपुर और शासकीय प्राथमिक शाला चिराईपाली में बनाये गये क्वारेंटीन सेंटरों का भी निरीक्षण कर वहां की व्यवस्थाओं का जायजा लिया।इन क्वारेंटीन सेंटरों में दिल्ली, मुम्बई, उड़ीसा, नेपानगर (म.प्र.), दरभंगा (बिहार) तथा झारखंड राज्यों से आये व्यक्तियों को रखा गया है।क्वारेंटीन सेटरों के निरीक्षण के दौरान जिला पंचायत सीईओ ऋचा प्रकाश चौधरी, एसडीएम युगल किशोर उर्वशा एवं संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804