GLIBS
21-03-2020
कोरोना का बुरा असर पड़ रहा चूड़ी कारोबार पर, 500 करोड़ का कारोबार हुआ प्रभावित

नई दिल्ली। होली के बाद का समय चूड़ी के लिए लगन का सबसे बड़ा सीजन माना जाता है। लेकिन कोरोना के कारण चूड़ी उत्पादन से लेकर चूड़ी की बिक्री तक का चक्र टूट गया है। कोरोना के कोहराम में फिरोजाबाद की चूड़ियों की खनक गुम हो गई है। यहां कांच की चूड़ी का कारोबार पूरी तरह से ठप पड़ गया है। बाहर से व्यापारी न यहां आ रहे हैं और न ही यहां के व्यापारी बाहर जा रहे हैं। चूड़ी कारोबारियों के अनुसार लगन के सीजन पर करीब पांच सौ करोड़ का कारोबार हो जाता है। कोरोना वायरस के कारण इस बार चूड़ी कारोबार पर बुरा असर पड़ा है। सुहाग नगरी में बनने वाली कांच की चूड़ियां पूरे देश में पहनी जाती है। होली के बाद चैत्र नवरात्र से मई माह तक पूरे देश में चूड़ियों की बंपर सेल होती है। चूंकि होली के बाद सहालग के साथ बड़े-बड़े मेले आदि लगते है। इसलिए चूड़ी बाजार में इस सीजन को लगन का सीजन कहा जाता है। इस सीजन में चूड़ियों की सबसे अधिक मांग उत्तर प्रदेश के सभी शहरों के अलावा बिहार, मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र से होती है।

चूड़ी व्यापारी नीरज जैन ने कहा कि होली के बाद से ही पूरे देश से आर्डर मिलने शुरू हो जाते है। इस बार कोरोना के कारण व्यापार थम गया है। बाजार में सन्नाटा है। जबकि इस सीजन में फुरसत नहीं मिलती थी। चूड़ी व्यापारी उमेश उपाध्याय ने बताया कि चूड़ी व्यापार के लिए होली के बाद सबसे बड़ा सीजन शुरू होता है। बाहर के व्यापारी आर्डर नहीं दे रहे हैं। बाहर के व्यापारियों का कहना है कि कोरोना के कारण मेला आदि सब बंद हैं। चूड़ी बिकेगी कहां। तीन स्तर पर चूड़ी कारोबार प्रभावित है। उत्पादन, डेकोरेशन, चूड़ी गोदाम के साथ-साथ श्रमिक भी प्रभावित है। यहां से नेपाल और बांग्लादेश भी चूड़ी जाती है। 

19-03-2020
सर्व ब्राम्हण समाज ने आयोजित किया क्षेत्रीय होली मिलन समारोह

रायपुर। अमलेश्वर महादेव घाट परिक्षेत्र सर्व ब्राम्हण समाज का परिक्षेत्र स्तरीय सामाजिक सम्मेलन व होली मिलन का आयोजन तिवारी मैरिज पैलेस में दो सत्रों में संपन्न हुआ। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में जिला पंचायत सदस्य मोरध्वज साहू उपस्थित थे। प्रथम सत्र में भगवान परशुराम की पूजा अर्चना से प्रारंभ सम्मेलन की अध्यक्षता प्रांताध्यक्ष ललित मिश्रा ने कि। विशेष अतिथि के रूप में सरपंच नंदनी पठारी, सरपंच मिथिलेश चौबे, पंच हिमांशु शर्मा, धनेश यादव व धर्मेंद्र साहू थे। उक्त ज़न प्रतिनिधियों का ज़न सेवा सम्मान से सम्मानित किया गया। सम्मान पश्चात समाज हित में उपस्थित विप्रजनों के विचार पश्चात निष्कर्ष के रूप में पारित प्रस्ताव में अमलेश्वर में भवन के लिए जमीन की मांग को उपस्थित ज़न प्रतिनिधियों ने सहर्ष स्वीकर कर लिया व जल्द आबंटित करने की घोषणा की।

-महादेव घाट परिक्षेत्र अध्यक्ष मोहित शर्मा, महिला अध्यक्ष रत्ना शर्मा, कार्यक्रम संयोजन गणेश शर्मा, पी. आर. टी. कॉलोनी अध्यक्ष दीलीप तिवारी, कार्यकारी अध्यक्ष गोपाल शर्मा, भूपेंद्र मिश्रा, प्रदेश पदाधिकारी-संगठन सचिव पं. ऋषि तिवारी, गिरीश दुबे, राहुल राज शर्मा, नीतीश शुक्ला, रमेश ठाकुर, नारायण शर्मा, जवाहरलाल शर्मा, विकास ठाकुर, पं. कमलेश मिश्रा ने अपने विचार व्यक्त किए।

द्वितीय सत्र में मोहित शर्मा ग्रुप ने नगाड़ा की धुन पर फागगीत की रंगारंग प्रस्तुति दी। फाग की लय व नगाड़े की धुन में थिरकते विप्रज़न ने जमकर फूलो की होली खेली व एक दूसरे से गले मिलकर बधाई दी। कार्यक्रम में मुख्य रूप से नंदनी शर्मा, मनोज शर्मा, मिहिर शर्मा, यामिनी शर्मा, पूर्णिमा पांडेय, अंजनी शर्मा, दीपक मिश्रा, वैजयंती चतुर्वेदी, हेमंत शर्मा, विजय लक्ष्मी दीवान, संतोष शर्मा, आनंद तिवारी, शशिकांत द्विवेदी, परमानंद मिश्रा, अमय  तिवारी, शारदा मिश्रा, मनीषा मिश्रा, कल्पना शर्मा, मनोहर झा, इंदु मिश्रा, सरिता शर्मा, ममता तिवारी, माधुरी शर्मा, कुलेश्वर मिश्रा सहित काफी मात्रा में विप्र जन उपस्थित थे।

 

13-03-2020
VIDEO: 2 साल पहले किया था प्रेम विवाह, अब महिला ने खुद को आग लगाकर की आत्महत्या, पुलिस जुटी जाँच में

जांजगीर-चांपा। नवागढ़ ब्लॉक के ग्राम सलखन में एक महिला ने अपने ऊपर मिट्टी तेल डाल कर खुद को आग ली। इससे बुरी महिला बुरी तरह झुलस गई और इलाज के लिए ले जाते वक्त उसकी मौत हो गई। मामले की सूचना मिलने के बाद शिवरीनारायण पुलिस मौके पर पहुंची और जांच में जुट गई है। दरसअल ग्राम सलखन निवासी मनीष तिवारी ने मालती तिवारी से 2 साल पहले प्रेम विवाह किया था, जिनकी एक 6 माह की दुधमुहि बच्ची भी है। शुरुआत में सब ठीक था बाद में मनीष शराब का आदि हो गया, जिससे उनके बीच रोज लड़ाई झगड़े होते थे। मनीष ने बताया कि होली के दूसरे दिन दोपहर को वो शराब पी कर आया और अपने कमरे में सो गया। इसके बाद मालती ने मिट्टी का तेल अपने ऊपर डाला और बाथरूम में जा कर अपने आप को आग के हवाले कर दिया। उसके चिखने की आवाज को सुन कर घर के सभी लोग उसे बचाने दौड़े और बाथरूम का दरवाजा तोड़ कर आग को बुझाया, लेकिन तब-तक मालती बुरी तरह झुलस चुकी थी। इसके बाद मनीष के परिजन मालती को इलाज के लिए बिलासपुर लेकर जा रहे थे, लेकिन मालती ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। 

13-03-2020
Video : होली वाला दोस्त : दिल को छूती कहानीकार सुधांशु राय की एक कहानी

रायपुर। भारत में त्यौहारों के साथ ढेर सारे अनुष्ठान और पारंपरिक रस्मों-रिवाज जुड़े हैं लेकिन साथ ही साथ ये त्यौहार उल्लास, हंसी-खुशी और भाईचारे की भावना को अपने साथ लेकर आते हैं। रंगों के त्यौहार होली की तो बात ही कुछ और है। यह तरह-तरह के लजीज पकवानों, उल्लास-उत्साह और रस्मों के साथ-साथ अपने सभी प्रिय लोगों से गले मिलने के उत्साह का पर्व है। लेकिन इस उल्लास और उत्साह में हम अक्सर उन लोगों को भूल जाते हैं जो साधन-सुविधाओं से इस कदर वंचित हैं कि वे सही तरीके से होली के पर्व को भी नहीं मना पाते हैं। उनके लिए होली के व्यंजनों एवं उत्साह-उल्लास तो बहुत दूर की चीज है। कहानीकार सुधांशु राय की बिल्कुल नई कहानी - ‘‘होली वाला दोस्त” ऐसे ही मुद्दे को उठाती है। यह दो ऐसे ही दोस्तों गोलु और सोनू की कहानी है जो बुनियादी सुविधाओं से वंचित हैं और उनके पास रंगों के इस त्यौहार को मनाने का कोई साधन नहीं है। इस कहानी के नायक दो बच्चे हैं जो गरीब पृष्ठभूमि से आते हैं। उनके आस-पास के सभी लोग जब मौज और मस्ती में डूबे होते हैं वैसे समय में होली के त्यौहार के मौके पर वे भूखे पेट हैं और वे एक दूसरे को सूनी आंखों से निहारते रहते हैं। उनकी दयनीय स्थिति का अंदाजा केवल इस एक वाक्य से हो जाती है जिसे इनमें से एक बच्चा बोलता है - ‘‘भूखे तो हम रोज रहते हैं।’

लेकिन चीज़ें अचानक एक अलग मोड़ लेती हैं। वे अन्य लोगों को रंगों से खेलते देखते हुए आपस में बातें कर रहे होते हैं तभी उन्हें एक आवाज़ आती है, वो आवाज़ होली वाले दोस्त की है। कौन है ये होली वाला दोस्त? क्या सोनू और गोलू की होली मनाने की इच्छा पूरी हुई? क्या हुआ जब वे अपने तथाकथित ‘दोस्त’ की तलाश में उसके घर गए? इन सवालों के जवाब आपको मिल सकते हैं अगर आप फेसबुक या यूट्यूब चैनल पर सुधांशु राय द्वारा रचित और अपने आवाज़ में सुनाई गयी इस कहानी को सुनेंगे। इस कहानी के नायकों के माध्यम से कहानीकार हमें एक ऐसी दुनिया में ले जाता है जो हमारी चारदीवारी से हालांकि सटी हुई है लेकिन हममे से ज्यादातर लोग देख नहीं पाते। ‘‘होली वाला दोस्त” हमारी आंखों के पर्दे को हटाती है और यह हमें हमारे सामाजिक मूल्यों से निर्धारित दीवारों के परे देखने में मदद करती है।

 

12-03-2020
डीआरजी में पदस्थ जवान को नक्सलियों ने उतारा मौत के घाट, गांव के पास फेंका शव को

सुकमा। दोरनापाल थाना क्षेत्र में नक्सलियों द्वारा डीआरजी में पदस्थ एक जवान की हत्या कर उसका शव गांव के पास फेंकने का मामला सामने आया है। मिली जानकारी के अनुसार मृतक कडती कन्नी डीआरजी में पदस्थ था और होली के अगले दिन अपने गांव आरगट्टा गया था। इस बात की भनक लगते ही नक्सलियों ने जवान को उसके गांव से उठा ले गए और उसकी हत्या कर शव को गांव के पास फेंक दिया। इस घटना की पुष्टि सुकमा एसपी शलभ सिन्हा ने की है।

11-03-2020
7 लोगों ने खून देकर मनाई होली, डॉक्टर ने दी बधाई

रायपुर। देश और प्रदेश में जब सभी लोग होली खेल रहे थे तब छत्तीसगढ़ ब्लड डोनर फाउंडेशन के सदस्य रक्तदान कर रहे थे। पूरा शहर होली के माहौल में मग्न था, उस बीच छत्तीसगढ़ ब्लड डोनर फाउंडेशन के 7 सदस्यों ने रक्तदान किया। इनमें इंद्र प्रेमचंदानी, कीर्ति साहू, केवल साहू, संतोष साहू सहित अन्य लोग शामिल हैं। सभी ने रक्तदान के बाद जमकर होली खेली। रक्तदान के दौरान सिटी ब्लड बैंक के डॉ.मनोज लांजेवर उपस्थित थे। उन्होंने पूरे फाउंडेशन के सदस्यों को रक्तदान के लिए धन्यवाद देने के साथ ही होली की बधाई दी। उन्होंने कोरोना वायरस की अफवाह को भी खारिज करते हुए स्वस्थ रहें,जमकर होली खेलें, त्योहारों का मजा लें और बढ़चढ़ कर रक्तदान करने का संदेश दिया।

रक्तदान के बाद पूरे सदस्यों ने सिटी ब्लड बैंक में जमकर होली खेली। होली के कार्यक्रम में फाउंडेशन के विवेक साहू,प्रशांत साहू, श्रीकांत शारदा, चंद्रनारायण निर्मलकर,प्रेमप्रकाश साहू,नरेंद्रगिरी गोस्वामी,अनीता अग्रवाल,श्रद्धा साहू,इंदर प्रेमचंदानी,कीर्ति साहू,रितेश साहू,गौरव दुबे,राज रात्रे,विकास शुक्ला सहित सिटी ब्लड बैंक के सदस्य उपस्थित थे।

 

11-03-2020
डीजे नहीं बजाने पर दो गुटों में मारपीट, 22 घायल

बलौदाबाजार। जिला के अंतर्गत लवन चौकी इलाके के पैंजनी गांव में होली का रंग उस वक्त फीका पड़ गया,जब डीजे नहीं बजाने पर दो पक्षों के बीच जमकर मारपीट हुई। विवार इतना बढ़ गया कि लाठी और डंडे तक चलने लगे। इसमें किसी का सिर फूटा तो किसी का हाथ-पैर टूट गया। दो गुटों की मारपीट में लगभग 22 लोग लहूलुहान हो गए हैं, जबकि 7 लोग गंभीर रूप से घायल है।

11-03-2020
होली के दूसरे दिन कीमती धातुओं के दाम में गिरावट, 1200 रुपए सस्ती हुई चांदी

नई दिल्ली। सोने चांदी के दामों में होली के बाद गिरावट दर्ज की गई है। दिल्ली सर्राफा बाजार में दो दिन के अवकाश के बाद बुधवार को सोना 595 रुपये लुढ़ककर 44,815 रुपये प्रति 10 ग्राम रह गया। चांदी भी 1,200 रुपये की गिरावट के साथ 47,150 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गई। सोमवार और मंगलवार को विदेशी बाजारों में रही गिरावट का असर स्थानीय बाजार पर दिखा। लंदन और न्यूयॉर्क से मिली जानकारी के अनुसार हालांकि बुधवार को सोना हाजिर 10.35 डॉलर की बढ़त लेकर 1,662.45 डॉलर प्रति औंस पर पहुंच गया। अप्रैल का अमेरिकी सोना वायदा 3.40 डॉलर की मजबूती के साथ 1,663.70 डॉलर प्रति औंस बोला गया। बाजार विश्लेषकों ने बताया कि कोरोना वायरस से निपटने के लिए अमेरिकी सरकार द्वारा प्रस्तावित प्रोत्साहन राशि मिलने में देरी से पीली धातु में तेजी आई है। इस दौरान चाँदी हाजिर 0.06 डॉलर चढ़कर 16.99 डॉलर प्रति औंस पर रही। दिल्ली के सर्राफा बाजार में सोमवार को सोने का भाव 45,063 रुपये प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया था। वहीं कमजोर वैश्विक रुझानों के बीच सटोरियों के सतर्क रुख के चलते बुधवार को वायदा बाजार में सोना 73 रुपये की गिरावट के साथ 43,667 रुपये प्रति 10 ग्राम के भाव पर आ गया। विश्लेषकों के मुताबिक विदेशी संकेतों ने घरेलू बाजार की धारणा को प्रभावित किया। वैश्विक स्तर पर न्यूयॉर्क में सोना 0.08 प्रतिशत घटकर 1,658.90 डॉलर प्रति औंस रह गया।

 

11-03-2020
Video : होली पर छाया मौत का मातम, आपसी विवाद में परिवार में चला चाकू दो की मौत, दो घायल

डोंगरगांव। होली पर्व में देर रात शहर डोंगरगांव करियाटोला वार्ड में दो परिवारों के बीच आपसी विवाद हो गया। विवाद इतना बढ़ा कि आरोपी ने चाकू निकालकर दो लोगों पर ताबड़तोड़ हमला कर दिया, जिससे घटनास्थल पर एक व्यक्ति की मौके पर मौत हो गई। बता दें कि परिवार के 2 लोगों की मौत हो गई, जबकि 2 लोग गंभीर रूप से घायल है, वहीं एक ही परिवार में दो लोगों की मौत के बाद परिवार में मातम छाया हुआ है। मामले को लेकर डोंगरगांव थाना में रिपोर्ट दर्ज कराया गया है। घटना नगर पंचायत क्षेत्र के वार्ड करियाटोला की है। यहां होली पर्व में देर रात करियाटोला के गौरव चौक के पास दो परिवारों के बीच विवाद हो गया। विवाद इतना बढ़ गया कि आरोपी ने घटनास्थल पर ही चाकू निकालकर दो लोगों पर ताबड़तोड़ हमला कर दिया।

हमले में गणेशराम पटौदी की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि छोटे भाई कृपाराम ने अस्पताल जाते समय दम तोड़ दिया। घटना में गणेशराम की पत्नी दीना बाई पटौदी को इलाज के लिए रायपुर रिफर किया गया है। कोमल पटौदी को भी शरीर के अंदरूनी भाग में चोट आने के कारण भिलाई रेफर किया गया है। डोंगरगांव थाना पुलिस ने मामले में करियाटोला निवासी आरोपी पवन वैष्णव, शरद वैष्णव और शुभम वैष्णव के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज किया है। मिली जानकारी के अनुसार इन्ही तीनों ने मिलकर परिवार के ऊपर ताबड़तोड़ चाकू से वार किया है। तीनों आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

11-03-2020
विकास उपाध्याय ने मनाई जागरुकता वाली होली, कोरोना वायरस से बचने के बताए उपाय

रायपुर। विधायक विकास उपाध्याय ने मंगलवार को जनता के साथ जमकर जागरुकता वाली होली खेली। आज जिस कोरोना वायरस का डर आम जनता के मन में समाया हुआ है, विधायक उपाध्याय ने इससे बचाव की जानकारी लोगों को देकर हर्बल गुलाल के साथ होली खेली। रायपुर पश्चिम के विधायक विकास उपाध्याय ने सुबह 7 बजे कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के साथ होली मिलन की शुरुआत शारदा चौक से की। विधायक उपाध्याय बड़े खुले ट्रक में सवार होकर पश्चिम विधानसभा के विभिन्न वार्डों में जनता के बीच में पहुंचे और सुरक्षित होली की जानकारी दी। उन्होंने कोरोना वायरस से बचाव के  टिप्स दिए।

विधायक ने प्रत्येक वार्ड में होली मिलन के पूर्व अपने से बड़े-बुजुर्गों का आशीर्वाद लिया और युवाओं के साथ नाच-गाकर होली खेली।विधायक विकास उपाध्याय ने पश्चिम विधानसभा क्षेत्र की जनता को रंगों के पर्व की बधाई देते हुए कहा कि होली का त्योहार भाईचारे का त्योहार है।होली खुशियों ओर जश्न का दिन है। सुरक्षित और बचाव युक्त होली खेलें जिससे किसी को किसी प्रकार की परेशानी न हो। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस से किसी भी तरह से भयभीत होने की जरूरत नहीं है। सर्दी,खासी,बुखार होने पर नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र या अपने नजदीकी अस्पताल में जांच कराएं। 36 से 37 डिग्री सेल्सियस होने से कोरोना के वायरस मर जाते हैं, जिसका इमिनियूटी पवार कमजोर है, वो भीड़ वाली जगह से बचें। विधायक उपाध्याय ने पश्चिम विधानसभा के रामसागरपारा वार्ड,आजाद चौक, विवेकानंद आश्रम, रामकुंड, डगनिया, दीनदयाल उपाध्याय नगर, रायपुरा, मोहाबा बाजार, कोटा, रामनगर, भारत माता चौक, गुढ़ियारी, खमतराई सहित विभिन्न वार्डों में घूमकर हीरापुर में कार्यक्रम का समापन किया।

09-03-2020
होली के उपलक्ष्य पर हुआ हास्य व्यंग, कविता और फाग गीतों का आयोजन

रायपुर। होली पर क्रिएटिव आईस प्रमोशन्स द्वारा आयोजित कार्यक्रम ‘फूलों के रंग अपनों के संग’ में हास्य व्यग्य, कविता एवं फाग गीतों से सर्वधर्म समाज के लोगों ने प्रदेश की जनता को एकता का संदेश दिया। कार्यक्रम रविवार को आनन्द समाज वाचनालय में आयोजित किया गया था । कार्यक्रम के संरक्षक उद्योगपति डाॅ.एसके शर्मा, मुख्य अतिथि सम्पत अग्रवाल, कार्यक्रम अध्यक्ष महेश दरयानी एवं नीना यूसुफ,विशिष्ट अतिथि कुलदीप जुनेजा,गजराज पगारिया,प्रमोद दुबे,महेन्द्र छाबड़ा,डाॅ.सलाम रिज़वी,अमर बंसल,सतनाम सिंह पनाग,डाॅ.सलीम राज, अशोक मालू, राजकुमार राठी, जितेन्द्र गोलछा,रिम्मी बेदी,रिचा ठाकुर,मृदुला सिंह,डाॅ. नीता शर्मा आदि बड़ी संख्या में सभी धर्मों एवं समाज के बुद्धिजीवी उपस्थित हुए।मंच संचालन अरविन्द मिश्र एवं राम खटवानी के द्वारा किया गया। वरिष्ठ साहित्यकार राजकुमार मसन्द ने ‘बेचैन मेरा मन होली मनाऊं कैसे, देश में नहीं अमन होली मनाऊं कैसे’ अन्तर्राष्ट्रीय कवि संजीव ठाकुर ने ‘हवा में जो हम दीपक जलाना सीख लेते हैं गमों की भीड़ में मुस्कुराना सीख लेते हैं’,उर्मिला देवी उर्मि ने ‘फागुन लाया साथिया रंग रंगीली बहार’ दिलीप वर्मा ने रंग बरसे, अनिल कृष्णानी ‘मच गया शोर सारी नगरी’ आदि गानों पर श्रोताओं की खूब तालियाँ बटोरी। आयोजक सतीश कटियारा,प्रियांशी गुप्ता,दीक्षा,रिता आदि ने समस्त अतिथियों को पलाश के फूल एवं प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया।

 

08-03-2020
समन्वय, सद्भाव और सौहार्द्र का त्यौहार है होली : भूपेश बघेल

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रदेशवासियों को होली की शुभकामनाएं दी है। उन्होंने कहा कि यह त्यौहार बुराई पर अच्छाई की जीत का त्यौहार है। साथ ही रंगों में रंग मिलाने का अर्थात हर इंसान के बीच समन्वय, सद्भाव और सौहार्द्र का त्यौहार है।  भूपेश बघेल ने प्रदेश के सुख, समृद्धि और खुशहाली की कामना की है। उन्होंने कहा कि होली उत्साह और उमंग का त्यौहार हैं। होली का त्यौहार हमारे जीवन को खुशी के रंगों से सराबोर कर जाता है। यह हमें आपसी भाईचारा और सौहार्द बढ़ाने का अवसर देता है। यह पावन पर्व हमें सिखाता है कि हम अपने अहंकार, बुराईयों और समस्त नकारात्मताओं को होलिका की अग्नि में भस्म कर सबके सुख और आपसी समरसता की दिशा में आगे बढ़ें। मुख्यमंत्री ने लोगों से सुरक्षित, सौहार्दपूर्ण और पर्यावरण के अनुकूल होली मनाने की अपील की है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804