GLIBS
07-11-2020
दुर्ग पुलिस अब यूट्यूब चैनल पर दिखेगी, मुख्यमंत्री ने किया शुभारंभ

दुर्ग। पुलिस के साइबर संगी कार्यक्रम के अंतर्गत शनिवार को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने दुर्ग पुलिस के यूट्यूब चैनल का लॉन्च किया। इसमें अंचल में होने वाले साइबर अपराधों के जागरूकता संबंधी वीडियो, कोरोना वायरस के संबंध में जागरूकता भरे वीडियो एवं अन्य वीडियो के माध्यम से प्रचार प्रसार किया जाएगा। दुर्ग पुलिस सोशल मीडिया में फेसबुक, ट्विटर और इंस्टाग्राम के माध्यम से नागरिकों से जुड़ी हुई है एवं यूट्यूब के लॉन्च होने के बाद समस्त नागरिकों को और भी जागरूकता भरे वीडियोस सरल रूप में प्राप्त हो पाएंगे।

दुर्ग पुलिस के द्वारा इकोनामिक अनलॉक पर शॉर्ट मूवी भी बनाई गई, जिसका शुभारंभ  मुख्यमंत्री  के हाथों से दुर्ग पुलिस के यूट्यूब पर वीडियो को अपलोड करके की गई। कार्यक्रम में पुलिस महानिरीक्षक दुर्ग रेंज विवेकानंद, पुलिस अधीक्षक दुर्ग प्रशांत ठाकुर, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर रोहित झा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण प्रज्ञा मेश्राम सहित दुर्ग जिले के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे। इकोनामिक अनलॉक वीडियो में महत्वपूर्ण किरदार निभाने वाले अजय रात्रे एवं टीम भी मौजूद थी।

 

01-11-2020
फेसबुक पर दोस्ती करके महिला डॉक्टर से ठगे 6 लाख, एसटीएफ ने जालसाज युवक और युवती को दबोचा

लखनऊ। पीजीआई इलाके में रहने वाली एक महिला डॉक्टर को फेसबुक पर एक विदेशी युवक बनकर दोस्ती कर 6 लाख से अधिक रकम हड़पने वाले नाइजीरियन युवक और एक युवती को यूपी एसटीएफ ने गिरफ्तार किया है। पीजीआई इलाके से पकड़े गए इन लोगों के पास से लैपटॉप, भारतीय और नाइजीरियन सिमकार्ड, इंटरनेट डिवाइस और कुछ रुपये मिले हैं। आरोपित वीजा के वैधता खत्म होने के बाद भी चोरी छुपे भारत में रह रहे थे।पीजीआई इलाके में रहने वाली महिला डॉक्टर से विदेशी नागरिक अलेक्स बनकर दोस्ती और विदेश से गिफ्ट भेजने के बाद जालसाजों के गैंग ने 6 लाख से अधिक की रकम ठगी थी।

पीड़िता ने पीजीआई कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। मामले की जांच के लिए पुलिस ने यूपी एसटीएफ से मदद मांगी थी। जांच कर रही यूपी एसटीएफ ने सर्विलांस की मदद से ठगी करने वाले नाइजीरिया निवासी थीयाम ब्लाड और अशातू नाम की युवती को पीजीआई सैनिक विहार कॉलोनी के पास से गिरफ्तार किया। एसटीएफ ने दोनों के पास से दो लैपटॉप, दो पासपोर्ट, 8 मोबाइल फोन, 1 वाईफाई हॉटस्पॉट डिवाइस, 2 नाइजीरियन सिमकार्ड, 1 राउटर और 1700 रुपये बरामद किए।गिरफ्तार थीयाम ब्लाड ने बताया कि वह 2018 में नाइजीरिया से आकर दिल्ली में रह रहा है। उसका भारत में रहने वाला वीजा फरवरी 2020 में समाप्त हो गया था। आरोपी अपनी प्रेमिका अशातू के साथ मिलकर यूएसए, यूएई के नागरिकों की फर्जी 6 फेसबुक और 3 इंस्टाग्राम आईडी बनाकर युवक और युवतियों को प्रेमजाल में फंसा कर धोखाधड़ी कर रहे थे। 

 

27-10-2020
फेसबुक इंडिया की नीतिगत प्रमुख अंखी दास ने छोड़ा पद

नई दिल्ली। फेसबुक इंडिया की पब्लिक पॉलिसी की हेड (नीतिगत प्रमुख) अंखी दास ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। फेसबुक ने यह जानकारी दी है। बता दें कि हाल ही में अंखी दास को डाटा सुरक्षा विधेयक 2019 को लेकर संसद की संयुक्त समिति के सामने पेश होना पड़ा था। इस समिति की अध्यक्षता सांसद मिनाक्षी लेखी कर रही हैं।बता दें कि सोशल मीडिया साइट के कथित दुरुपयोग को लेकर बीते माह फेसबुक इंडिया के प्रमुख अजित मोहन भी सूचना और प्रौद्योगिकी पर संसद की स्थायी समिति के सामने पेश हुए थे। कांग्रेस नेता शशि थरूर इसके अध्यक्ष हैं। वहीं दूसरी ओर हाल ही में फेसबुक पर हेट स्पीच को बढ़ावा देने और राजनीतिक झुकाव के आरोप लगे थे।
कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने एक अमेरिकी अखबार की रिपोर्ट का हवाला देते हुए ट्वीट किया था कि किस तरह से भारत में फेसबुक हेट स्पीच के खिलाफ कार्रवाई नहीं कर रहा है। राहुल गांधी के आरोपों के बाद इस मुद्दे पर भाजपा और कांग्रेस पार्टी आमने सामने आ गई थीं।हालांकि इस मामले में फेसबुक ने सफाई दी थी। फेसबुक इंडिया ने कहा था कि वह हेट स्पीच के मामले में कार्रवाई को लेकर सजग है। साथ ही अपनी नीति के तहत किसी भी पार्टी या धर्म को नहीं देखता है और निष्पक्षता के साथ काम करता है।

21-10-2020
सोशल मीडिया पर महिला को अश्लील सामग्री भेजने वाले शख्स को मध्यप्रदेश से किया गिरफ्तार

सूरजपुर। सोशल मीडिया में महिला से अश्लील सामग्री भेजने वाले को पुलिस ने मध्यप्रदेश से पकड़ा है। मिली जानकारी के मुताबिक झिलमिली थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम केवरा निवासी एक महिला ने थाना झिलमिली में 8 सितम्बर को रिपोर्ट दर्ज कराई कि उसके फेसबुक पर कोई अज्ञात व्यक्ति गाली-गलौज व अश्लील टिप्पणी लिखकर पोस्ट कर रहा है। पीड़िता की रिपोर्ट पर अज्ञात व्यक्ति के विरूद्ध धारा 509(ख) व धारा 67 आईटी एक्ट के तहत मामला दर्ज करते हुए जांच शुरू की गई। जांच के दौरान फेसबुक प्रोफाइल को लेकर सबूत हाथ लगे। सुराग मिलने के बाद पुलिस अधीक्षक ने एक पुलिस टीम को शहडोल मध्यप्रदेश भेजा। टीम वहां पहुंचकर आरोपी आशुतोष साहू उम्र 21 वर्ष को हिरासत में लिया। आरोपी ने पूछताछ में अपना गुनाह कबूल किया। उसे बुधवार 20 अक्टूबर को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया।

 

15-10-2020
पत्नी से परेशान पति ने खाया जहर, सोशल मीडिया में पोस्ट किया सुसाइड नोट, पत्नी के बारे में कही यह बात 

लखनउ। सोशल मीडिया में एक शख्स ने सुसाइड नोट शेयर कर दिया। खबर के मुताबिक ये शख्स उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर का रहने वाला था। 30 साल का सामाजिक कार्यकर्ता था। जहर खाने से पहले फेसबुक पर एक सुसाइड नोट साझा किया। पोस्ट में चंदन सिंह वर्मा ने लिखा कि उसकी पत्नी उसे परेशान करती है और तलाक देने के लिए 20 लाख रुपये की मांग कर रही थी। दोनों की साल 2014 में शादी हुई थी। जब चंदन के दोस्तों और रिश्तेदारों ने वह पोस्ट देखी, तो उन्होंने तुरंत उसे फोन करना शुरू कर दिया। लेकिन उसने कॉल का जवाब नहीं दिया।

उनमें से कुछ उसके घर पहुंचे और वहां ताला लगा पाया। पुलिस को सूचना दी गई, जिसके बाद चंदन अपने बिस्तर पर बेहोशी की हालत में पड़ा मिला। उसे तुरंत जिला अस्पताल ले जाया गया और बाद में बरेली के एक हाईयर सेंटर में रेफर कर दिया गया, लेकिन रास्ते में ही उसकी मौत हो गई। स्टेशन हाउस ऑफिसर (एसएचओ) कोतवाली पुलिस स्टेशन प्रवेश सिंह ने कहा, “हमने शव को ओटोप्सी के लिए भेज दिया है और उसकी पत्नी के खिलाफ आईपीसी की धारा 306 (आत्महत्या के लिए उकसाना) के तहत प्राथमिकी दर्ज की है। सुसाइड नोट सबूत है और हम इसे हमारी जांच में शामिल करेंगे।”

 

12-09-2020
सोशल मीडिया में अच्छी फॉलोविंग वाले युवाओं से मिले कलेक्टर, कहा-जागरूकता फैलाने में करें सहयोग

दुर्ग। सामाजिक संगठनों की बैठक के बाद कलेक्टर डॉ.सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने उन युवाओं के साथ चर्चा की और खासे टैकसेवी हैं और जिनके फेसबुक, ट्विटर और इंस्टाग्राम में हजारों फालोवर हैं। कोविड जागरूकता फैलाने में इनसे अब प्रशासन को मदद मिलेगी। कलेक्टर ने कहा कि आप लोगों के मैसेज युवा बड़ी गंभीरता और रुचि से देखते हैं, आप कोविड की लड़ाई में बड़ी मदद कर सकते हैं। युवाओं ने कहा कि हमें बहुत खुशी होगी कि हम इस अभियान का हिस्सा बनेंगे। बैठक में डिप्टी कलेक्टर दिव्या वैष्णव एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

 इस तरह से सहयोग करेंगे- व्हाटसएप ग्रुप के माध्यम से कोविड संबंधित जानकारी देने के लिए युवाओं को जोड़ा जाएगा। यहां पर क्रिएटिव्ज आदि शेयर किये जाएंगे। इन क्रिएटिव्ज का उपयोग युवा अपने सोशल मीडिया एकाउंट में करेंगे। साथ ही वे प्रशासन द्वारा दिये जा रहे कोविड से जुड़े हुए उपयोगी डिटेल्स भी देंगे। युवाओं ने बताया कि हम लोग अपने साइट में फीवर क्लिनिक के लोकेशन, टेस्ट वैन आदि के अपडेट्स आदि की जानकारी देते रहेंगे। साथ ही जो वालंटियर्स इस ओर काम करना चाहेंगे, उन्हें भी प्रेरित करेंगे। इन लोगों ने बताया कि सोशल मीडिया में कई बार फेक न्यूज भी वायरल होते हैं। प्रशासनिक अधिकारियों से संपर्क कर वे इस तरह के फेक न्यूज की सच्चाई से भी लोगों को अवगत कराएंगे ताकि अफवाहों की वजह से किसी को किसी तरह का नुकसान न हो।

किस तरह से करेंगे मदद

कलेक्टर ने कहा कि कोरोना का संक्रमण थामने के लिए टेस्टिंग बेहद जरूरी है। इसमें कुछ समय जरूर लग सकता है लेकिन इसके लिए दिया गया थोड़ा सा समय पूरी जिंदगी बचा सकता है क्योंकि जितनी जल्दी उपचार शुरू हो जाएगा, उतना ही लक्षण घटने लगेंगे। कलेक्टर ने यह भी कहा कि जिन लोग होम बेस केयर में रह रहे हैं उनके पूरे परिवार को घर में ही रहना है। आप लोग अपने सोशल मीडिया से लोगों को इस बारे में प्रेरित कीजिए कि वे इस तरह के पड़ोसियों को ग्रासरी आदि जुटाने में मदद करें। उन्होंने कहा कि लोगों की मदद के लिए काल सेंटर बनाए गए हैं, जिसमें व्यस्तता न हो, इसे ध्यान में रखते हुए पांच नंबर दिये गए हैं। निजी अस्पतालों में इलाज की दरें शासन द्वारा निर्धारित की गई हैं। शासकीय कोविड केयर सेंटर में इलाज निःशुल्क है। अस्पतालों में बेड की स्थिति के लिए भी लिंक दिया गया है इसे भी शेयर कीजिए। कलेक्टर ने कहा कि आप लोगों की ओर से जिस तरह से भी फीडबैक आएगा, आप लोगों की परेशानियों को साझा करेंगे तो इस पर त्वरित कार्रवाई की जाएगी।

कोई ट्रैवल पर शेयर करता है कोई छत्तीसगढ़ी मीम्स

सोशल मीडिया पर सक्रिय इन युवाओं के हजारों फालोवर हैं। इन लोगों ने बताया कि कोई फूड पर पोस्ट शेयर करता है और कोई ट्रैवल पर। किसी ने छत्तीसगढ़ी संस्कृति को ध्यान में रखकर अपना एकाउंट तैयार किया है। सभी ने कहा कि हम अपने फालोवर्स तक इस संदेश को जरूर लेकर जाएंगे।

 

10-09-2020
कोरोना संक्रमित के संपर्क में आने से विधायक कुलदीप जुनेजा हुए क्वारेंटाइन,फेसबुक पर की अपील

रायपुर। राजधानी में बढ़ते कोविड-19 संक्रमण के बीच प्रदेश कांग्रेस से लगातार मंत्रियों, विधायकों और नेताओं के कोरोना की जद में आने की खबर सामने आ रही है। जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने से वे अस्पताल में या होम आइसोलेशन में रहकर उपचार करा रहे हैं। साथ ही पॉजिटिव के संपर्क में आने पर एहतियातन होम क्वारेंटाइन हो रहे हैं। गुरुवार को रायपुर उत्तर विधायक कुलदीप जुनेजा के होम क्वारेंटाइन होने की जानकारी मिली है। उन्होंने अपने फेसबुक एकाउंट पर पोस्ट कर यह जानकारी देने के साथ ही लोगों से अपील भी की है। उन्होंने बीते दिनों कोरोना संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने की वजह से अगले 10 दिनों तक क्वारेंटाइन में रहने का फैसला किया है। विधायक जुनेजा ने प्रदेशवासियों से अपील की है कि, पूरी सतर्कता बनाए रखें और छत्तीसगढ़ सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन करें। चर्चा के दौरान विधायक जुनेजा ने कहा कि, उन्होंने जो जानकारी साझा की है वह सही है और वे अगले 10 दिनों तक सावधानी बरतेंगे।


बता दें कि, विगत दिनों सुरक्षा अमले, स्टॉफ और विधानसभा सत्र में शामिल कुछ विधायकों की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर विधानसभा अध्यक्ष सहित प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और मंत्रियों ने एहतियातन होम क्वारेंटाइन पर रहने का फैसला लिया था। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने तो एहतियातन जांच भी कराई थी, उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई थी। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम की मंगलवार को रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर वे बालाजी हॉस्पिटल में भर्ती हुए। इससे पहले एनएसयूआई के प्रदेश अध्यक्ष आकाश शर्मा की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई थी। उन्होंने एम्स में अपना इलाज कराया। बुधवार को एनएसयूआई के प्रदेश उपाध्यक्ष भावेश शुक्ला कोरोना पॉजिटिव मिले। भावेश ने होम आइसोलेशन पर रहकर उपचार कराने की बात कही थी। बुधवार देर रात प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता विकास तिवारी ने भी जानकारी दी थी कि, उनकी जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। कोई गंभीर लक्षण नहीं है, इसलिए वे भी होम आइसोलेशन पर रहकर उपचार करा रहे हैं।

05-09-2020
फेसबुक ने किया बदलाव, मैसेंजर में की मैसेज फारवर्ड की लिमिट तय..

नई दिल्ली। फेसबुक द्वारा मैसेंजर पर व्हाट्सऐप की तरह ही एक नया फ़ीचर लाया गया है। इस फ़ीचर के तहत अब एक बार में सिर्फ़ पांच कॉन्टेक्ट को ही मैसेज फ़ॉरवर्ड किए जा सकते हैं। गौरतलब है कि 2018 में व्हाटसऐप में फ़ॉरवर्ड लिमिट का फ़ीचर आया था। अब कंपनी ने इसी तरह का फ़ीचर मैसेंजर में लाने का ऐलान किया है। दरअसल ये फ़ीचर मिस इन्फ़ॉर्मेशन और फेक न्यूज़ को वायरल होने से रोकने के लिए किया गया है। कंपनी को लगता है कि ऐसा करते वायरल मिस इन्फ़ॉर्मेशन और हार्मफुल कॉन्टेंट को स्लो डाउन करने का अच्छा तरीक़ा है। फेसबुक मैसेंजर में मैसेज फॉरवर्डिंग लिमिट का फीचर फिलहाल बीटा टेस्टिंग में है और टेस्ट सफल होने के बाद इसे सभी के लिए जारी किया जाएगा। नए अपडेट में एक ही मैसेज को पांच से अधिक लोगों को फॉरवर्ड करने पर “forwarding limit reached” का नोटिफिकेशन मिलेगा।

फेसबुक मैसेंजर के इस फीचर को पहली बार इसी साल मार्च में टेस्टिंग के दौरान देखा गया था और अब कंपनी इसे कुछ चुनिंदा यूजर्स के लिए जारी कर रही है। फेसबुक की तरफ से जारी एक स्टेटमेंट में कहा गया कि फॉरवर्डिंग लिमिट वायरल गलत जानकारियों व हानिकारक कॉन्टेंट के प्रसार को कम करने का एक प्रभावी तरीका है, इस तरह की जानकारियां वास्तविक दुनिया को नुकसान पहुंचाने की क्षमता रखती हैं। बता दें कि व्हाटसऐप में फ़ॉरवर्ड लिमिट सेट करने के बाद इस तरह के मैसेज में 70 प्रतिशत तक की कमी दर्ज की गई है। फॉरवर्ड मैसेज लिमिट के अलावा, व्हाट्सऐप टीम भी अपने प्लेटफॉर्म पर फ्रिक्वेंट फारवर्ड मैसेज पर सीमा लगाने की कोशिश कर रही है। पिछले साल व्हाट्सऐप ने अपने एंड्रॉयड और आईओएस ऐप के लिए Frequently Forwarded मैसेज का लेबल रोलआउट किया था। वहीं, इस साल अप्रैल में व्हाट्सऐप ने फ्रिक्वेंटली फॉरवर्डेड मैसेज पर सीमा लगा दी थी।

 

04-09-2020
फेसबुक पर आश्रम और डायरेक्टर के खिलाफ अनर्गल पोस्ट करने वाला युवक गिरफ्तार

रायपुर। राजधानी के संत कबीर आश्रम और उसके डायरेक्टर के खिलाफ फेसबुक पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने के मामले में पुलिस ने गुजरात से आरोपी चिरंजीव दास को गिरफ्तार किेया है। आरोपी के खिलाफ मुजगहन पुलिस ने आईटी एक्ट के तहत अपराध दर्ज किया था। बताया जा रहा है कि आरोपी पहले आश्रम में ही कार्य करता था लेकिन उसके द्वारा वित्तीय गड़बड़ी करने के पश्चात उसे आश्रम से निकाल दिया गया था। जानकारी के अनुसार मुजगहन इलाके में कबीर पंथ सतगुरु मानव सेवा असंग नाम से एक आश्रम है। वहां के डायरेक्टर ने शिकायत दर्ज कराई थी कि उनके आश्रम और उनके बारे में कोई व्यक्ति फेसबुक में आपत्तिजनक टिप्पणियां कर रहा है और उनके फ़ोटो मॉफ करके पबिल्श कर रहा है। जिस पर थाना मुजगहन में आईटी एक्ट के तहत अपराध दर्ज किया गया था। मामले में पुलिस ने जांच के बाद गुजरात के वडोदरा से आरोपी चिरंजीव दास की गिरफ्तारी की है जिसे गुरूवार को कोर्ट में पेश किया जाएगा। बताया जाता है कि आरोपी पहले आश्रम में ही काम करता था इस दौरान उसने कुछ वित्तीय गड़बड़िया की थी जिसके बाद उसे आश्रम से निकाल दिया गया था। इससे चिढ़कर आरोपी द्वारा आश्रम के खिलाफ फेसबुक में अनर्गल टिप्पणियां कर रहा था।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804