GLIBS
08-01-2020
महापौर ने मोतीबाग सौंदर्यीकरण कार्य के धीमी गति पर जताई नाराजगी  

रायपुर। नगर निगम के नवनिर्वाचित महापौर एजाज ढेबर ने आज बुधवार को मोतीबाग में रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड के माध्यम से लगभग 3 करोड़ की लागत से जारी मोतीबाग सौंदर्यीकरण व पुनर्निर्माण के कार्य की प्रगति को देखकर कार्य की धीमी गति पर नाराजगी जताई। उन्होंने संबंधित अनुबंधित को स्वीकृत कार्यों को तत्काल गतिमान करके सभी कार्य फरवरी के पूर्व गुणवत्तायुक्त तरीके से करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने स्मार्ट सिटी के कार्यपालन अभियंता संजय शर्मा को कार्य तेजी से करवाने और सतत मॉनिटरिंग करने निर्देश दिए। बता दें कि स्मार्ट सिटी लिमिटेड के माध्यम से ऐतिहासिक मोतीबाग में सौंदर्यीकरण करके पानी भरने की समस्या का स्थायी निदान करने, लेबल बढाने का कार्य, वृक्षारोपण लॉन निर्माण, फाउंटेन का कार्य, मनोरंजन के तौर पर खेलकूद उपकरणों के कार्यों सहित विविध सौंदर्यीकरण का कार्य किया जा रहा है।

इसी तरह नगर निगम के कलेक्टोरेट के सामने पंडित रविशंकर शुक्ल उद्यान का महापौर ने निरीक्षण किया। वहां की वस्तुस्थिति से अवगत होकर संबंधित निगम अधिकारी को गार्डन का बंद फौव्वारा सुधारकर प्रारंभ करवाने, दो-तीन स्थानों पर पाइप लाइन के लीकेज को दुरूस्त करवाकर पानी का अपव्यय रोकने और गार्डन परिसर में सफाई व्यवस्था सुधारकर स्वच्छता का ध्यान रखने के निर्देश दिए। उन्होंने निगम मुख्यालय के सामने निगम गार्डन में जोन 7 कमिश्नर विनोद पांडे को गार्डन स्थित यूरिनल की सफाई करवाकर व्यवस्था स्वच्छता को लेकर गार्डन परिसर में दुरूस्त करने के निर्देश दिऐ। उन्होंने योजना विभाग के अधिकारी को गार्डन में ओपन जिम के उपकरणों की शीघ्र आवश्यक मरम्मत करवाने निर्देश दिए।

 

16-11-2019
भाजपा पार्षद ने लगाया सभापति पर आरोप, कहा- कमाई करने के लिए हो रही है सामान्य सभा की बैठक

रायगढ़। सामान्य सभा की बैठक में भाजपा के पार्षद दीपेश सोलंकी ने पूरे सदन के सामने सभापति पर यह आरोप लगाया कि इस बैठक को कमाई के लिए किया जा रहा है। उन्होंने अपने इस आरोप में यह तर्क दिया कि सामान्य सभा की इस विशेष बैठक में विशेष मुद्दों को शामिल किया जाना था, लेकिन अधिकांश मुद्दे दुकान नामांतरण, दुकान आवंटन के ही प्रस्ताव है, जिसमें निगम के द्वारा कमाई ही की जाएगी। वहीं उन्होंने पांच करोड़ के स्वीकृत हुए विकास कार्यों पर सवाल जवाब किया। पांच करोड़ के इस्तेमाल को लेकर पार्षद लंबे समय तक खड़े रहे उनका कहना था कि पांच करोड़ का हिसाब दे दिया जाए। 21 वार्डों में कितने-कितने के विकास कार्य स्वीकृत हुए। यदि वे जवाब नहीं देते हैं तो उन्हें स्पष्ट कह दिया जाए कि वह बाहर चले जाएं वे सहर्ष स्वीकार करते हुए सदन से बाहर चले जाएंगे। पांच करोड रुपए के विकास कार्यों का हिसाब नहीं आने तक सभा को आगे नहीं बढऩे की मांग भी की। इसके अलावा भाजपा पार्षद लक्ष्मण ने भी आरोप लगाया कि उनके वार्ड में एक लाख तक का विकास कार्य नहीं कराया गया। जबकि उनके द्वारा पूर्व में कई आवेदन भी निगम अधिकारियों को सौंपा जा चुका था इसके बाद भी भेदभाव किया।

 

11-09-2019
गाजर घास उन्मूलन जागरूकता कार्यक्रम का हुआ समापन

दुर्ग। हेमचंद यादव विश्व विद्यालय एवं नगर पालिक निगम दुर्ग के संयुक्त तत्वाधान में राष्ट्रीय सेवा योजना द्वारा एक सप्ताह का आयोजित गाजर घास उन्मूलन जागरुकता कार्यक्रम का बधुवार को मुख्यअतिथि दुर्ग विधायक अरुण वोरा के आतिथ्य में समापन किया गया। समापन कार्यक्रम में संभाग आयुक्त दिलीप वासनीकर, आयुक्त इंद्रजीत बर्मन, पार्षद राजेश शर्मा, कुल सचिव डाॅ. सीएस देवांगन, उपकुलसचिव भूपेन्द्र कुलदीप, निगम अधिकारी कर्मचारी तथा अधिक संख्या में कालेजों के एनएसएस छात्र-छात्राए उपस्थित थे। समापन कार्यक्रम में मुख्य अतिथि सहित विशेष अतिथियों का सम्मान एक-एक पौधा और साल श्रीफल भेंट कर किया गया। उल्लेखनीय है कि आयुक्त बर्मन के मार्गदर्शन में निगम सीमा क्षेत्र में एक सप्ताह का गाजर घास उन्मूलन जागरुकता अभियान चालू किया गया था, जिसका समापन आज खालसा उ.मा. शाला में किया गया। समापन कार्यक्रम के पूर्व कालेज के एनएसएस छात्र-छात्राओं ने पुलगांव मिनी माता चैक से महाराजा चौक तक सड़क किनारे उग आये गाजर घास को निकालकर मार्ग किनारे की साफ-सफाई किया गया। गाजर घास उन्मूलन जागरुकता कार्यक्रम का समापन के अवसर पर मुख्य अतिथि विधायक अरुण वोरा ने कहा कि कालेजों के एनएसएस छात्र-छात्राओं का आभारी हूॅ और बधाई देता हूॅ। उन्होंने अपने सामाजिक दायित्व को नगर निगम दुर्ग में गाजर घास उन्मूलन अभियान चलाकर किया। निश्चित रूप से शहर के नागरिकों को गाजर घास के लिए जागरुक होना पड़ेगा। बारिश के समय से अन्य दिनों में विभिन्न जगहों पर गाजर घास उग आते हैं, जो व्यक्ति के स्वास्थ्य के साथ ही पर्यावरण को भी प्रभावित करता है। शहर के लोगों से मैं अपील करता हूॅ कि वे भी अपने क्षेत्रों में अभियान चलाकर गाजर घास निकालने का कार्य कर शहर की सफाई अभियान में अपना योगदान अवश्य देवें। इस अवसर पर संभाग आयुक्त दिलीप वासनीकर एवं निगम आयुक्त इंद्रजीत बर्मन ने गाजर घास उन्मूलन कार्यक्रम चलाकर शहर की स्वच्छता अभियान को सफल बनायें। सभी को अपने वार्ड और शहर की स्वच्छता के प्रति अपनी जिम्मेदारी निभानी चाहिए। कार्यक्रम को कुलसचिव डाॅ. सीएस देवांगन ने भी संबोधित किया। उन्होंने कहा राष्ट्रीय सेवा योजना के माध्यम से हम अपना सामाजिक सेवा कार्य को पूरा करते हैं इससे कालेज के छात्र-छात्राओं के साथ आम लोगों में उस कार्य के प्रति प्रेरणा मिलती है और वे उस कार्य को करने प्रोत्साहित होते हैं। कार्यक्रम उपकुलसचिव भूपेन्द्र कुलदीप, डा.आरपी अग्रवाल, डाॅ.विनय अग्रवाल, स्वास्थ्य अधिकारी उमेश कुमार मिश्रा, अनिता जैन, छाॅ. शिवपाल कुलकर्णी, दीपक सिंह, योगिता नशीने, विकास शर्मा, महेन्द्र ईखार, कुमुद साहू, तथा अधिक संख्या में विभिन्न कालेजों के छात्र छात्राएँ अधिक संख्या में उपस्थित थे।

26-06-2019
निगम अधिकारी से मारपीट मामले में विधायक आकाश विजयवर्गीय गिरफ्तार

इंदौर। विधायक आकाश विजयवर्गी को नगर निगम अधिकारी से मारपीट मामले में एमजी रोड पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। बता दें कि भाजपा के विधायक आकाश विजयवर्गीय के साथ ही 10 अन्य लोगों के एफआईआर दर्ज हुई है। इस मामले में विधायक आकाश विजयवर्गीय ने हम इस तरह भ्रष्टाचार और गुंडई को खत्म करेंगे। 
बता दें कि इंदौर के निगम अधिकारियों की टीम जर्जर मकानों को तोड़ने के लिए आई थी। लेकिन आकाश विजयवर्गीय उनपर ही बरस पड़े। आकाश क्रिकेट बैट लेकर अधिकारियों पर हमला करने पहुंच गए और उनके साथ बदसलूकी करने लगे। इतना ही नहीं समर्थकों ने भी निगम अधिकारियों के साथ मारपीट की।

 

26-06-2019
निगम अधिकारी से मारपीट मामले में विधायक आकाश विजयवर्गीय सहित 10 पर एफआईआर दर्ज

इंदौर। निगम अधिकारी से मारपीट मामले बुधवार को इंदौर तीन के विधायक आकाश विजयवर्गीय पर एमजी रोड थाने में एफआईआर दर्ज की गई। उनके साथ अन्य दस लोगों पर भी अपराध दर्ज किया गया है। इंदौर नगर निगम के निरीक्षक धीरेंद्र बायस की रिपोर्ट पर गंजी कम्पाउंड जेलरोड पर मारपीट मामले में भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के विधायक पुत्र आकाश विजयवर्गीय सहित 10 अन्य पर एमजी रोड़ पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर ली है। बायस की रिपोर्ट पर धारा 353, 294, 506, 323, 147, 148 आईपीसी में कायमी की गई है। बता दें कि जर्जर मकान तोड़ने गए निगम अधिकारी को विधायक आकाश विजयवर्गीय ने क्रिकेट बैट से पीटा। भवन निरीक्षण धीरेंद्र बायस का कहना है कि खाली मकान जो जर्जर था उसे तोड़ने गए थे, विधायक आकाश और उनके 8 साथियों ने की मारपीट की। जानकारी के मुताबिक गंजी कंपाउंड क्षेत्र में एक जर्जर मकान को तोड़ने के लिए निगम की टीम पहुंची थी। इस दौरान तीन नंबर क्षेत्र से विधायक आकाश विजयवर्गीय भी वहां पहुंच गए। उन्होंने निगम अधिकारियों को धमकी देते हुए कहा कि आप 5 मिनट में यहां से नहीं गए तो आगे जो होगा इसकी जिम्मेदारी आपकी होगी, उनके साथ मौजूद लोगों ने पोकलेन की चाबी भी निकाल ली। इसके बाद निगम के अधिकारियों और विधायक के बीच जमकर विवाद हो गया और मारपीट भी हुई। 
इधर विधायक आकाश विजयवर्गीय ने निगम कर्मियों पर पैसे लेकर मकान तोड़ने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि मंत्री सज्जन सिंह वर्मा और उनका भाग इस मकान पर कब्जा करना चाहते हैं। घटना के विरोध में नगर निगम इंदौर के कर्मचारी नेता उमाकांत काले ने मोर्चा संभाला है। उन्होंने निगम में सभी विभागों का काम बंद करवाया दिया है। उमाकांत काले ने इस घटना को लेकर विधायक का विरोध किया है। 

 

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804