GLIBS
28-07-2020
Video : होटल संचालक के खिलाफ हुई एफआईआर,पकड़ाया था 6.50 लाख का जुआ

राजनांदगांव। शहर के रेवाडीह के पास स्थित एक होटल में गत दिनों लालबाग पुलिस ने जुआरियों को गिरफ्तार किया था। यहां से 13 जुआरियों को गिरफ्तार कर उनके पास से लगभग 6.50 लाख की रकम और मोबाइल बरामद किए गए थे। लॉक डाउन का उल्लंघन करने तथा एक कमरे में 13 लोगों के होने पर उक्त होटल संचालक के खिलाफ धारा 188, 269, 270 के तहत एफआईआर दर्ज की गई है। बता दें कि इस होटल कांग्रेस नेता राहुल गांधी चुनाव के समय अपने दो दिवसीय छत्तीसगढ़ प्रवास के दौरान यहीं रुके थे। इस संबंध में प्रशिक्षु डीएसपी मयंक रणसिंह ने बताया कि होटल संचालक को नोटिस जारी किया गया था और स्पष्टीकरण मांगा गया था। लेकिन गोलमोल जवाब आने के बाद लालबाग थाना में होटल संचालक ने खिलाफ अपराध पंजीबद्ध किया गया है।

07-06-2020
75 डिग्री होगा खाने का तापमान तभी होटल में परोस सकेंगे उपभोक्ता को खाना 

रायपुर। अनलॉक-1.0 में कल से होटल शुरू होने वाले हैं। लगभग होटलों में इसकी तैयारी भी पूरी हो चुकी है। कोरोना के कारण होटल संचालकों ने शासन के नियमों के साथ ही सुरक्षा को देखते हुए नियम बनाएं है। होटलों में खाना-खाने के पहले खाने का तापमान मापा जाएगा। उसके बाद ही लोगों को गरम व ताजा खाना ही खिलाया जाएगा। खाने का तापमान 75 डिग्री सेल्सियस होना चाहिए। इसके अलावा ज्यादा स्टार्च वाली सामग्री को मैन्यू में शामिल नहीं किया जाएगा। होटलों में कोई बफे नहीं होगा और दो टेबलों के बीच में छह फीट की दूरी रहेगी। होटल के स्टाफ मास्क और ग्लब्स पहने रहेंगे। खाना बनाने वाले शेफ के लिए तो यह भी नियम रहेगा कि हर 20 मिनट के बाद उन्हें हाथ धोना होगा। किचन को भी हर दो घंटे में सैनिटाइज करना होगा। उपभोक्ताओं की मांग के अनुसार उन्हें डिस्पोजेबल में सामग्री उपलब्ध कराई जाएगी।

02-04-2020
विदेशी नागरिक के ठहरने की जानकारी छुपाने वाले होटल संचालक के खिलाफ जुर्म दर्ज

रायपुर/अंबिकारपुर। ऑस्ट्रेलिया के एक व्यक्ति के होटल में लगभग एक माह तक रूकने और चेक आउट कर जाने के मामले में जिला प्रशासन एवं पुलिस विभाग ने होटल संचालक के खिलाफ अपराध दर्ज किया है। गौरतलब है कि संक्रामक रोग कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए केंद्र व राज्य शासन के निर्देशानुसार जिला दंडाधिकारी सरगुजा की ओर से नगरीय निकाय अंबिकापुर में धारा 144 लागू किया गया है। सुरक्षात्मक दृष्टिकोण से जिला दंडाधिकारी की ओर से नगर में सभी अति आवश्यक वस्तुओं एवं संस्थाओं को छोड़कर अन्य सभी निजी, शासकीय संस्थाओं को अनिवार्य रूप से बंद रखने का आदेश जारी किया गया है।

22 मार्च को जनता कर्फ्यू के बाद लॉकडाउन का आदेश जारी किया गया है। इसके बाद स्थानीय होटलों में बाहर से आकर रुके व्यक्तियों पर निगरानी रखी जा रही है। कोतवाली थाना पुलिस ने होटल के संचालक जगदीप सिंह की ओर से अपने होटल में मोहम्मद रेजा जहापना नामक ऑस्ट्रेलियाई व्यक्ति को 25 फरवरी से 23 मार्च तक बतौर ग्राहक ठहराने की सूचना नहीं देने के मामले में एफआईआर दर्ज किया है। संचालक ने चेक इन तथा चेक आउट की सूचना जिला प्रशासन एवं पुलिस विभाग को नहीं दी थी। पुलिस ने होटल संचालक के खिलाफ धारा 188, 269, 270, 202, 203 भारतीय दंड संहिता का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया है।

14-11-2019
होटल संचालक ने कचरा सड़क पर फेंका, नगर निगम ने ठोका 2 हजार का जुर्माना

रायपुर। चंगोराभाठा में एक होटल संचालक कचरे को सड़क पर फेंकते पाया गया। उस पर 2 हजार रुपए जुर्माने के साथ ही कड़ी फटकार भी लगाई गई। नगर निगम के जोन क्रमांक 5 के सेनेटरी इंस्पेक्टर दिलीप साहू ने बताया कि होटल संचालक का नाम चन्दू देवांगन है। वह चाय नाश्ता के होटल के साथ बच्चों के चिप्स, नड्डा, मुरकु आदि चीजें बनाकर बेचता हैं। गुरुवार को होटल से निकले खराब सामानों के साथ पॉलीथीन आदि चीजों को सड़क पर फेंकते पाया गया। इस पर दुकानदार के खिलाफ 2 हजार रुपए के जुर्माने की कार्यवाही की गई।

11-09-2019
होटल में ऑनलाइन बुक कमरों को समय पूर्व खाली कराया, फोरम ने हर्जाना भरने का दिया आदेश

दुर्ग। बेवसाइट से ऑनलाइन बुक कराए गए होटल के कमरे को समय से पूर्व खाली कराए जाने के मामले में जिला उपभोक्ता फोरम द्वारा फैसला पारित किया गया है। फोरम में होटल संचालक सहित बेवसाइट को एक माह की अवधि में प्रभावित पक्ष को ब्याज के साथ बुकिंग राशि वापस करने तथा मानसिक क्षतिपूर्ति का भुगतान करने का आदेश दिया है। मामला रामेश्वर के होटल रामा पैलेस से संबंधित है। जिला उपभोक्ता फोरम में यह प्रकरण नगपुरा निवासी उपेन्द्र सिंह चौहान ने दाखिल किया था। प्रकरण में बताया गया था उन्होंने अपने परिवार के सदस्यों के साथ अप्रैल 2016 में बैंगलुरु, कन्याकुमारी व रामेश्वरम घूमने का प्रोग्राम बनाया था। रामेश्वर में ठहरने के लिए 21 अप्रैल 2016 को गो-आईबीबो डॉटकॉम की साइट के माध्यम से होटल रामा पैलेस में बुकिंग कराई गई थी। होटल में दो कमरों की बुकिंग 27 अप्रैल से 28 अप्रैल 2016 तक के लिए होने की जानकारी साइट के माध्यम से मिली थी। जिसके आधार पर उपेन्द्र अपने परिजनों के साथ 27 अप्रैल की सुबह होटल रामा पैलेस पहुंच गए थे। शाम को होटल संचालक ने रात्रि में ठहरने के लिए अतिरिक्त किराए की मांग करते हुए कमरों को खाली करा लिया। इस संबंध में बेवसाइट से शिकायत किए जाने पर समस्या का किसी प्रकार से निराकरण नहीं किया गया। यात्रा से वापस आने पर बेवसाइट व होटल संचालक को अधिवक्ता के माध्यम से नोटिस भेजा गया, लेकिन किसी प्रकार का जवाब नहीं मिला। जिस पर प्रकरण को उपभोक्ता फोरम के समक्ष प्रस्तुत किया गया था। प्रकरण पर विचारण पश्चात उपभोक्ता फोरम अध्यक्ष लवकेश प्रताप सिंह बघेल ने इसे सेवा में कमी मानते हुए, वेबसाइट तथा होटल के संचालकों को संयुक्त रुप से दोषी माना है। फोरम ने उन्हें एक माह की अवधि में बुकिंग के लिए गए किराए की राशि 6 प्रतिशत ब्याज के साथ लौटाने तथा इससे हुई मानसिक क्षति की पूर्ति के लिए 10 हजार रु. व वाद व्यय की राशि 1000 रु. का वादी को भुगतान करने का निर्देश दिया। 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804