GLIBS
31-01-2020
सामाजिक कार्यकर्ता का बेटा गिरफ्तार, जान से मारने की धमकी व पैसा उगाही जैसे गंभीर आरोप में दर्ज है अपराध

रायपुर। शहर के सिविल लाइन थाना पुलिस ने देर रात सामाजिक कार्यकर्ता के बेटे हर्षवर्धन शर्मा को गिरफ्तार कर लिया है। ज्ञातव्य है कि हर्षवर्धन व उसके साथियों पर कुछ माह पहले सिविल लाइन स्थित एक कैफ़े में शराब के नशे में धुत होकर बैंक कर्मचारी से मारपीट का मामला दर्ज किया गया था। बैंक कर्मचारी का आरोप था कि हर्षवर्धन शर्मा और साथियों ने शराब पीने के लिए पैसे की मांग कर पैसे नहीं देने पर पीड़ित के साथ मारपीट कर गाड़ी की चाबी और पर्स लूट लिया था। इसी मामले में हर्षवर्धन के साथी हिमांशु कटवानी व सौरभ सबलानी को पुलिस ने पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। बता दें कि मामला दर्ज होने के बाद लगातार हर्षवर्धन की खोजबनी की जा रही थी। हर्षवर्धन रायपुर से फरार हो गया था। बीते देर रात सूचना पर घेराबंदी कर आरोपी हर्षवर्धन को गिरफ्तार कर लिया गया है। दस्तावेजी कार्यवाही के बाद आरोपी को कोर्ट में पेश किया जाएगा। आरोपी पर मारपीट, अश्लील गाली-गलौच, जान से मारने की धमकी समेत पैसा उगाही करने जैसे गंभीर आरोपों में अपराध दर्ज है।

 

10-01-2020
संविधान बचाओ रैली निकालकर लोगों ने किया नागरिकता संशोधन का विरोध

रायगढ़। भारत सरकार द्वारा भारतीय संविधान के मूल भावना के विपरीत बनाये गए नागरिकता संशोधन अधिनियम सीएए तथा सरकार के राष्ट्रीय नागरिकता पंजी एनआरसी एवं राष्ट्रीय जनगणना पंजी एनपीआर के विरोध में संविधान बचाओ मंच रायगढ़ के रामलीला मैदान से संविधान बचाओ रैली निकाली निकाली गई। भारत सरकार के निर्णय के विरोध में संविधान बचाओ रैली में विभिन्न जन संगठनों, विभिन्न समाज वर्गों के लोग शामिल हुए। रैली रामलीला मैदान से प्रारम्भ होकर सत्ती गुड़ी चौक, स्टेशन चोक,गाँधी प्रतिमा पहुंची जहां महात्मा।गांधी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया गया। इसके बाद संविधान बचाओ रैली सुभाष चौक,गौरी शंकर मंदिर रोड गोपी टाकीज रोड , चक्रधनगर चौक होते हुए अम्बेडकर प्रतिमा चौक पहुंची। अंबेडकर प्रतिमा में माल्यार्पण के बाद रैली को संबोधित किया गया। जिसमें विभिन्न वर्गों के लोगों ने इस बिल और पंजी का तार्किक तरीके से विरोध किया।

एक सामाजिक कार्यकर्ता ने तो पीएम मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के कार्य प्रणाली पर सवाल उठाते हुए कहा कि भारत मे नागरिकता का प्रावधान पहले से है और समय समय पर संशोधन होते रहे हैं लेकिन जिस तरह से प्रधान मंत्री और गृह मंत्री द्वारा सीएए, एनपीआर, एनआरसी लाया गया है इससे आप किसे दोयम दर्जे पर लाकर खड़ा करना चाहते हैं। यहां बात मुसलमानों की ही नही हैं नागरिकता बिल और पंजी से भारत का रहने वाला नागरिक के नागरिकता पर ही सवाल खड़ा करने वाला है। रैली अम्बेडकर प्रतिमा चौक पर सभा में नागरिकता संशोधन कानून पर कई तरह से सवाल उठाए गए। सभा के बाद रैली कलेक्ट्रेट पहुंची जहां राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, चीफ जस्टिस सुप्रीम कोर्ट के नाम से कलेक्टर रायगढ़ के माध्यम से ज्ञापन सौंपा गया।ज्ञापन डिप्टी कलेक्टर एस के टण्डन ने लिया। संविधान बचाओ मंच रायगढ़ के तत्वाधान में निकाली विरोध रैली में हजारों की संख्या में विभिन्न जन संगठनों, सहित शहर के विभिन्न समाज और वर्गों के युवा, बुजुर्ग व शहर के नागरिकगण शामिल हुए और केंद्र सरकार के इस संविधान विरोधी, अविवेकपूर्ण निर्णय का विरोध किया।

14-12-2019
राजधानी के विभिन्न चौक-चौराहों में मतदाता जागरूकता अभियान आज

रायपुर। छत्तीसगढ़ मितवा संकल्प समिति, कोहेजन फाउंडेशन ट्रस्ट और क्यूरगढ़ द्वारा शनिवार को शहर के विभिन्न चौक-चौराहों पर मतदाता जागरूकता अभियान का आयोजन किया गया है। मतदान जागरूकता अभियान  शनिवार को दोपहर 1:00 बजे फूल चौक, 1:30 बजे शास्त्री चौक, 2:00 बजे अंबेडकर चौक, 2:30 भगत सिंह चौक, 3 बजे मरीन ड्राइव और दोपहर 3:30 बजे तेलीबांधा चौक में किया जाएगा। इस अभियान में मुख्य रूप से विभिन्न स्कूल के बच्चे, रायपुर के सामाजिक कार्यकर्ता और तृतीय लिंग समुदाय के व्यक्ति शामिल रहेंगे।

07-12-2019
हैदराबाद एनकाउंटर : मानवाधिकार आयोग की टीम पहुंची घटना स्थल, केंद्र ने मांगी रिपोर्ट

नई दिल्ली। हैदराबाद में महिला पशु चिकित्सक के साथ हैवानियत करने वाले चार आरोपियों को पुलिस ने मुठभेड़ में मार दिया। जहां कुछ लोगों ने पुलिस कार्रवाई की सराहना की वहीं कुछ ने इसपर सवाल खड़े किए हैं। इसी बीच राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग की टीम हैदराबाद पहुंच गई है। टीम पहले एनकाउंटर स्थल पर जाएगी और इसके बाद महबूबनगर के सरकारी अस्पताल, जहां आरोपियों के शवों को रखा गया है।
 
केंद्र ने मांगी रिपोर्ट


केंद्र सरकार ने हिरासत में हुई मुठभेड़ पर तेलंगाना सरकार से विस्तृत रिपोर्ट मांगी है। संसद के सत्र में जवाबदेही सुनिश्चित करने और मामले की संवेदनशीलता के चलते सरकार तथ्यों के साथ पूरी तैयारी रखने के लिए मामले पर पैनी निगाह बनाए हुए है।

पुलिस पर कैसे कर सकते हैं विश्वास

कुछ सामाजिक कार्यकर्ताओं ने तेलंगाना उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश को तेलंगाना मुठभेड़ को लेकर पत्र लिखा है। उनमें से एक संध्या रानी ने कहा, 'महिला के साथ दुष्कर्म के बाद निर्मम हत्या कर दी गई। हम असली अपराधियों के लिए कड़ी से कड़ी सजा की मांग करते हैं। लेकिन यह तय करना जल्दबाजी होगी कि वे ही अपराधी थे। हम पुलिस पर कैसे विश्वास कर सकते हैं?'

आरोपियों के खिलाफ पुलिस ने दर्ज किया मामला

पुलिस कर्मियों पर हमला करने के आरोप में चार आरोपियों के खिलाफ एक मामला दर्ज किया गया है, जिन्हें पिछले महीने एक महिला पशु चिकित्सक के साथ कथित बलात्कार और हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। इनके खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 307, 176 और भारतीय शस्त्र अधिनियम के संबंधित अनुभागों के तहत मामला दर्ज किया गया है। यह एफआईआर शुक्रवार को दर्ज की गई है।

06-12-2019
रमन सिंह समेत 7 लोगों के खिलाफ सारकेगुड़ा मामले में दर्ज हुई एफआईआर 

रायपुर। सामाजिक कार्यकर्ता हिमांशु कुमार, सोनी सोढ़ी समेत ग्रामीणों ने सारकेगुड़ा में हुई फर्जी मुठभेड़ के मामले में एफआईआर दर्ज करवाई है। इस मामले में प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह,  पूर्व डीजीपी विश्व रंजन, पूर्व बस्तर आईजी टी जे लांगकुमेर, सीआरपीएफ के पूर्व डीआईजी एस एलांगो, एसपी प्रशांत अग्रवाल, थाना प्रभारी इब्राहिम खान सहित 187 जवानों के ऊपर भी एफआईआर दर्ज कराई गई है। गौरतलब है कि करीब एक महीने पहले जमा की गई सारकेगुड़ा आयोग की रिपोर्ट में दर्ज तथ्य लीक हो गए। यह बातें सामने आईं कि छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले के सारकेगुड़ा में 28 जून 2012 को हुई मुठभेड़ में मारे गए लोग नक्सली नहीं थे। न ही गांववालों की तरफ से किसी तरह की गोलीबारी की गई थी। 28 जून, 2012 को बिजापुर जिले के सारकेगुड़ा में हुई कथित मुठभेड़ में सुरक्षा बलों ने 17 नक्सलियों को मार गिराया था। मामले में फर्जी एनकाउंटर के आरोप लगे थे। कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष रहे नंदकुमार पटेल भी सारकेगुड़ा पहुंचे थे।

03-12-2019
भोपाल गैस त्रासदी 35वीं बरसी: कमलनाथ,शिवराज,सिंधिया ने दी श्रद्धांजलि,दिग्विजय ने की ये मांग

भोपाल। भोपाल गैस त्रासदी को आज 3 दिसंबर को 35 साल पूरे हो गए हैं। बरसी पर सीएम कमलनाथ, पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान, कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य राजे सिंधिया और दिग्विजय सिंह ने श्रद्धांजलि दी है। दिग्विजय सिंह ने पीड़ितों को लेकर मुख्यमंत्री कमलनाथ से मांग की है। उन्होंने प्रभावित परिवारों की स्मृति में मेमोरियलल बनाए और पीड़ितों के इलाज के लिए अस्पताल को एक इंस्टीट्यूट बनाने के लिए केन्द्र से मांग करें। दिग्विजय सिंह ने ट्वीटर के माध्यम से इस त्रासदी में जान गँवाने वाले सभी नागरिकों को श्रद्धांजलि अर्पित की है। दिग्विजय ने लिखा है कि 3 दिसंबर 1984 को भोपाल गैस त्रासदी में हज़ारों लोग नहीं रहे थे। उन्हें हम हार्दिक श्रद्धांजली देते हैं। गैस त्रासदी पीड़ित परिवारों के लिए, जिसने जीवन भर निस्वार्थ भावना से लड़ाई लड़ी सेवा की, जब्बार भाई को भी अब हमारे बीच में नहीं है। हम उन्हें भी श्रद्धांजली देते हैं। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भोपाल गैस त्रासदी के शिकार निर्दोष नागरिकों को श्रद्धांजलि दी। मुख्यमंत्री ने लोगों से पर्यावरण प्रदूषण के प्रति हमेशा सतर्क, सजग रहने का आह्वान किया है। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज ने अपने ट्वीटर पर लिखा है कि भोपाल गैस त्रासदी की 35वीं बरसी पर मैं इस हादसे में जान गँवाने वाले सभी नागरिकों को विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करता हूँ। हज़ारों सामाजिक कार्यकर्ताओं को भी प्रणाम करता हूँ, जिन्होंने पीड़ितों के अधिकारों के लिए जीवनपर्यंत लड़ाई लड़ी और उन्हें न्याय दिलाया। वही सिंधिया ने लिखा है कि भोपाल गैस त्रासदी में दिवंगत हुए पीड़ितों के प्रति आत्मीय संवेदनाएं।

 

18-11-2019
बैंककर्मी के साथ कैफे में मारपीट, तीन युवकों के खिलाफ जुर्म दर्ज

रायपुर। एक बैंककर्मी के साथ स्थानीय सिविल लाइंस थाना क्षेत्र के ब्लू स्काई कैफे में तीन युवकों द्वारा शराब के नशे में मारपीट करने का मामला सामने आया है। घटना शनिवार रात की बताई जा रही है।  इस मामले में एक सामाजिक कार्यकर्ता के बेटे के अलावा  तीन युवकों के खिलाफ  जुर्म दर्ज कर लिया है। पीडि़त बैंककर्मी कविश पांडेय ने सिविल लाइन थाने में बताया कि हर्षवर्धन शर्मा नामक युवक ने अपने दो साथियों के साथ मिलकर ब्लू स्काई कैफे में उसके साथ गाली-गलौज करते हुए मारपीट की। उस समय प्रार्थी वहां खाना खा रहा था। पीडि़त की शिकायत पर पुलिस ने हर्षवर्धन शर्मा  और उसके दो  साथियों के खिलाफ धारा 294, 323, 327, 506 और 34 के तहत जुर्म दर्ज किया है।

 

14-11-2019
मुख्यमंत्री ने आचार्य विनोबा भावे की पुण्यतिथि पर उन्हें नमन किया

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने स्वतंत्रता संग्राम सेनानी, सामाजिक कार्यकर्ता, प्रसिद्ध गांधीवादी नेता तथा भूदान आन्दोलन के सूत्रधार आचार्य विनोबा भावे की पुण्यतिथि 15 नवम्बर पर उन्हें नमन किया है। बघेल ने आचार्य विनोबा भावे को याद करते हुए कहा कि भारतरत्न और मेगससे पुरस्कार से सम्मानित भावे रचनात्मक और आध्यात्मिक होने के साथ ही महान स्वतंत्रता संग्राम सेनानी भी थे। उन्हें भूदान आंदोलन की वजह से अधिक जाना जाता है। वे जमीन मालिकों से दान के तौर पर जमीन लेकर गरीब लोगों को खेती के लिए देते थे। बघेल ने कहा संत भावे ने अपना जीवन गरीब और पिछड़े वर्ग के लोगों के उत्थान में लगा दिया और उन्हें आध्यात्मिक रूप से जीवन में सही और गलत के मध्य का अंतर समझाया। ऐसे संत सेनानी के विचार मूल्य हमें सदा प्रेरित करते रहेंगे। 

 

01-11-2019
व्हाट्सएप जासूसी स्कैंडल पर सरकार के जवाब का इंतजार : प्रियंका गांधी

नई दिल्ली। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कई भारतीय पत्रकारों और सामाजिक कार्यकर्ताओं की कथित जासूसी के मामले को लेकर शुक्रवार को मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि अगर ऐसा किया गया है तो इसका राष्ट्रीय सुरक्षा पर गंभीर प्रभाव पड़ेगा। उन्होंने ट्वीट कर कहा, 'अगर भाजपा या सरकार ने पत्रकारों, वकीलों, सामाजिक कार्यकर्ताओं और नेताओं के फोन की जासूसी करने के लिए इजराइली एजेंसियों को लगाया है तो यह मानवाधिकार का घोर उल्लंघन और बड़ा स्कैंडल है जिसका राष्ट्रीय सुरक्षा पर गंभीर असर होगा।' साथ ही प्रियंका ने कहा कि सरकार के जवाब का इंतजार है। दरअसल, फेसबुक के स्वामित्व वाली कंपनी व्हाट्सएप ने कहा है कि इजराइल के स्पाईवेयर ‘पेगासस’ के जरिए कुछ अज्ञात इकाइयों की वैश्विक स्तर पर जासूसी की गई। भारतीय पत्रकार और मानवाधिकार कार्यकर्ता भी इस जासूसी का शिकार बने हैं। इस विवाद पर गृह मंत्रालय का कहना है कि सरकार नागरिकों के मौलिक अधिकारों की रक्षा करने के लिए प्रतिबद्ध है और नागरिकों की निजता के उल्लंघन की खबरें भारत की छवि को धूमिल करने की कोशिश है।

 

31-10-2019
आज तक अवैध कब्जे नहीं तोड़ पाया नगर निगम, जानिए क्या है पूरा मामला

रायपुर। शहर में रसूखदारों द्वारा वर्षों से अवैध कब्जे कर अपने कारोबार चलाए जा रहे है। जबकि नगर निगम में पदस्थ वरिष्ठ प्रशासनिक जिम्मेदार निचले स्तर के अधिकारियों को लिखित में आदेश न देकर मौखिक आदेश के आधार पर ही अतिक्रमण हटाओं दस्ते को फील्ड में भेज देते हैं। इसके कारण आए दिन अवैध कब्जाधारियों का निगम कर्मियों के साथ विवाद होता रहता है। कभी कभी अवैध कब्जाधारी और निगम कर्मियों के बीच मारपीट की स्थिति भी निर्मित हो जाती है। शहर में जागरूकता की स्थिति को देखते हुए हर तीसरे-चौथे जानकारों के अनुसार निगम दस्ते से लिखित आदेश की मांग करता है अधिकांश लोगों को पूर्व सूचना भी नहीं दी जाती अचानक निगम का दस्ता पहुंचकर छोटे व्याापारियों को परेशान करता है। अक्सर निगम के कर्मी फुटकर व्यापारियों को ही अपनी कार्रवाई निशाना बनाते हैं जो गलत है।

सामाजिक कार्यकर्ता शरद जाल ने नगरीय निकाय मंत्री एवं निगम विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों को खुली चुनौती दी है कि मालवीय रोड, गोलबाजार, सदर बाजार, सराफा, सिविल लाइन एवं पाश इलाकों में पार्किँग स्थल पर कब्जा कर वर्षों से काबिज लोगो का कब्जा हटाकर दिखाए। आए दिन नगर निगम का अतिक्रमण विरोधी दस्ता गरीबो को सताते है जबकि पहुंच वालो राजनीतिक संबंधों का इस्तेमाल कर अपने अवैध कब्जों को बचा लेते हैं। शरद जाल ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से अतिक्रमण हटाओ अभियान के तहत सम दृष्टि अवैध कब्जाधारियों के खिलाफ कायम रखने प्रशासनिक जिम्मेदारों को सख्त निर्देश तत्काल देने की मांग की है।

30-10-2019
इंदिरा गांधी की 35वीं पुण्यतिथि पर प्रदेश के सभी ब्‍लड बैंकों में लगेगा रक्‍तदान शिविर

रायपुर। प्रदेशभर में पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की पुण्‍यतिथि पर 31 अक्‍टूबर को विशेष रक्‍तदान शिविर का आयोजन किया जाएगा। स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के निर्देश पर देश की पहली महिला प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के शहादत दिवस पर सभी जिलों में संचालित शासकीय व निजी ब्‍लड बैंकों में रक्‍तदान शिविर लगेगा। छत्‍तीसगढ़ राज्‍य एडस कंट्रोल सोसायटी के अतिरिक्‍त परियोजना संचालक डॉ.एसके बिंझवार ने बताया, रक्‍तदान को लेकर सभी जिलों के सीएमएचओ और जिला अस्‍पतालों के सिविल सर्जन को निर्देशित कर दिया गया है। उन्‍होंने बताया, प्रदेश में एक अक्‍टूबर से 31 अक्‍टूबर तक पूरे माहभर राष्‍ट्रीय स्‍वैच्छिक रक्‍तदान दिवस के तहत जागरुकता अभियान चलाया जा रहा है। इसी कड़ी में महिने के आखरी दिन रक्‍तदान के प्रति जागरुकता लाने राज्‍य सरकार ने इंदिरागांधी के पुण्‍यतिथि के मौके पर शिविर लगाया जा रहा है। इस आयोजन को सफल बनाने सभी सामाजिक कार्यकर्ताओं और संस्‍थाओं को भी लोगों को जागरुक करने लिए कार्यक्रमों में शामिल किया जा रहा है। डॉ. बिझवार ने बताया, प्रदेश में 27 शासकीय और 58 निजी ब्‍लड बैंक संचालित किया जा रहे हैं। 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804