GLIBS
25-03-2021
पेट्रोल-डीजल हुआ सस्ता, जानिए आज के दाम

रायपुर। पेट्रोल-डीजल के बढ़ते कीमतों के बीच राहत भरी खबर सामने आई है। ईंधन के दामों में गिरावट दर्ज की गई है। इनके दामों में लगातार दूसरे दिन कमी आई है। कल यानी बुधवार को पहले पेट्रोल में 28 पैसे तो वहीं डीजल में 29 पैसे की कमी आई थी। इसके बाद शाम को पेट्रोल में 11 पैसे और डीजल में 11 पैसे की बढ़ोतरी दर्ज की गई थी। गुरुवार को पेट्रोल में 20 पैसे तो वहीं डीजल में 22 पैसे की कमी आई है। इसी के साथ राजधानी रायपुर में पेट्रोल 89.25 रुपए और डीजल 87.84 रुपए प्रति लीटर हो गया है।

16-03-2021
कांग्रेस ने पेट्रोल-डीजल और एलपीजी के बढ़ते दामों के खिलाफ किया विरोध प्रदर्शन, लगाया लोन मेला 

रायपुर। प्रदेश कांग्रेस विधि विभाग ने पेट्रोल-डीजल और गैस की बढ़ती कीमतों के खिलाफ लोन मेला लगाकर विरोध प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के बाद कांग्रेस विधि विभाग के कार्यकर्ताओं ने प्रधानमंत्री के नाम कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा। इस दौरान कांग्रेस विधि विभाग के अध्यक्ष संदीप दुबे ने कहा कि मोदी सरकार की गलत आर्थिक नीतियों की वजह से ईंधन की कीमत में बेतरतीब इजाफा हो रहा है। जीडीपी गोता लगा रही है लेकिन केंद्र की मोदी सरकार ठीकरा पिछली सरकारों पर फोडऩे में लगी है। उन्होंने कहा कि हाल ही में हमारी राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी अपने खत में लिखा है, 'जिस तरह जीडीपी' गोता खा रही है और ईंधन के दाम बेतरतीब बढ़ रहे हैं, सरकार अपने आर्थिक ’कुप्रबंधन’ का ठीकरा पिछली सरकारों पर फोड़ने में लगी है। सरकार ईंधन के बढ़े दाम वापस ले और इसका लाभ हमारे मध्यम एवं वेतनभोगी वर्ग, किसानों, गरीबों तक पहुंचाएं। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता सुरेंद्र वर्मा ने कहा कि केंद्र की जनविरोधी मोदी सरकार ने पेट्रोल पर टैक्स में तीन गुना वृद्धि की है।

कैग की एक अन्य रिपोर्ट के मुताबिक, वित्त वर्ष 2019-20 (अप्रैल 2019 से मार्च 2020) के बीच टोटल एक्साइज कलेक्शन 2.39 लाख करोड़ रुपए रहा था। मोदी सरकार जब 2014 में सत्ता में आई थी, उस समय पेट्रोल और डीजल पर एक्साइज ड्यूटी काफी कम हुआ करती थी। 2014 में पेट्रोल पर एक्साइज ड्यूटी 9.48 रुपए और डीजल पर 3.56 रुपए प्रति लीटर थी। इस समय पेट्रोल पर एक्साइज ड्यूटी 32.90 रुपए और डीजल पर 31.80 रुपए है। मोदी सरकार केवल डीजल, पेट्रोल पर मुनाफाखोरी करके विगत 7 वर्ष में ही 21 लाख़ करोड़ से अधिक की राशि देश की जनता से वसूली है। रसोई गैस की सब्सिडी अघोषित रूप से पिछले दरवाजे से खत्म की जा रही है। 350 रूपए में मिलने वाली रसोई 800 से ऊपर पहुंचा दी गई है। गैस सब्सिडी की राशि जो बैंक खातों में 300 से 350/- प्रति सिलेंडर वापस आते थे, अब 18, 20, 22 रूपए पर समेट दिया गया है। मुनाफाजिवी, कमीशनखोर केंद्र की मोदी सरकार के खिलाफ़ प्रदेश के कोने-कोने से आए अधिवक्तागणों और विधि प्रकोष्ठ के पदाधिकारियों ने सभा को संबोधित किया। धरना प्रदर्शन के पश्चात विधि प्रकोष्ठ के पदाधिकारियों, कार्यकर्ताओं और अधिवक्ताओं ने अध्यक्ष संदीप दुबे के नेतृत्व में प्रधानमंत्री के नाम जिलाधीश को ज्ञापन सौंपा गया। कार्यक्रम में प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला, विधि प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष संदीप दुबे, देवा देवांगन, प्रदेश उपाध्यक्ष, मनोज ठाकुर उपाध्यक्ष, मोहन निषाद महामंत्री, नंदकुमार पटेल प्रदेश सचिव, अरमान खान प्रदेश सचिव, विजय राठौड़ जि़ला अध्यक्ष, कहकशा दानी जि़ला अध्यक्ष, महेन्द्र देवांगन, दाऊ लाल साहु, आदित्य झा, आलोक झा, आवादनारायन द्विवेदी, शरद पांडेय, अजय हंसा, हिमांशु शर्मा, कृष्णा देवांगन, सोनल गुप्ता, विजय चौधरी, रेवा शंकर पटेल, सादिक अली, रागनी पांडेय, समीम रहमान, दीपक साहु, सुरेश साहु, अजय जोशी, राजु कड़ोले सहित बड़ी संख्या में अधिवक्तगण उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन सोनल कुमार गुप्ता ने किया।

26-02-2021
पेट्रोल-डीजल और रसोई गैस के बढ़ते दामों के खिलाफ महिला शिवसेना ने गाड़ी ढकेल कर किया विरोध प्रदर्शन

रायपुर। पेट्रोल-डीजल और रसोई गैस के बढ़ते दामों के खिलाफ महिला शिवसेना ने मोर्चा खोल दिया है। शुक्रवार को मूल्यवृद्धि पर ज़ोरदार विरोध किया गया। महिला शिवसेना रायपुर इकाई ने बढ़ती महंगाई,जिसमें मुख्य रूप से पेट्रोल-डीजल और रसोई गैस के बढ़ते दामों के खिलाफ प्रदर्शन किया। महिला शिवसैनिकों ने फाफाडीह पीली बिल्डिंग से फाफाडीह चौक तक गाड़ियों को हाथ से ढकेल कर और रसोई गैस को हाथ से उठा कर प्रदर्शन किया।
महिला शिवसैनिक ज्योति द्विवेदी ने बताया कि बढ़ती महंगाई ने आम जनता की कमर तोड़ कर रख दी है। एक आम नागरिक जो मजदूरी करता है उसे 200 से 300 रूपए रोजी मिलती है। इसमें उन्हें घर चलाना पड़ता है। ऐसे में अगर रसोई गैस और पेट्रोल के दाम बढ़ते हैं तो उन्हें बहुत सी तकलीफों का सामना करना पड़ता है। आगे उन्होंने कहा कि मैं इस प्रदर्शन के माध्यम से प्रधानमंत्री से कहना चाहती हूँ की कृपया गरीब जनता के बारे में सोचे और इनके बढ़ते दामों पर लगाम लगाते हुए इनको कम करें। प्रदर्शन में नेहा तिवारी, कोमल तिवारी, सोना साहू, अहिल्या यादव, अंबिका यादव, भारती पाल, ममता, एचएन सिंह पालीवाल, समीर पाल, शशांक देशमुख, राहुल सोनवानी, संतोष मार्कंडेय, बल्लू जांगड़े, गिरीश सोनी, आकिब खान, प्रफुल्ल साहू सहित अन्य शिवसैनिक उपस्थित थे।

 

26-02-2021
पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के विरोध में एनएसयूआई ने किया प्रधानमंत्री और पेट्रोलिय मंत्री का पुतला दहन

कवर्धा। पेट्रोल डीजल की बढ़े हुए दाम के विरोध में एनएसयूआई ने शुक्रवार को प्रदर्शन किया। जिला उपाध्यक्ष शितेष चंन्द्रवंशी के नेतृत्व में प्रधानमंत्री,वित्त मंत्री और पेट्रोलियम मंत्री का पुतला दहन किया गया। शितेष चंन्द्रवंशी ने बताया कि बढ़ती महंगाई ने आम आदमी की कमर तोड़ दी है। यह सब प्रधानमंत्री की गलत नीतियों के कारण हुआ है। कार्यक्रम में मुख्य रूप से शहर कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष मोहित माहेश्वरी, सूरज वर्मा जनपद सदस्य, युवा कांग्रेस शहर अध्यक्ष निशु खुराना, अंकित चौबे, जिला सचिव सोनू कौशिक, जिला संयोजक प्रकाश योगी, जिला संयोजक यमन चंद्रवंशी,जिला संयोजक बृजेश चंद्रवंशी, जतिन पटेल संभाग सयोजक, विधानसभा अध्यक्ष वाल्मीकि वर्मा गणेश यादव,अरुण साहू, यूनेश कौशिक, योगेश साहू, अमित चंद्रवंशी, रमन कौशिक,थानसिंह,दिनेश जोशी, अभय सूर्यकांत ,जितेंद्र चंद्रवंशी, विनोद ,नेमु धुर्वे,रोशन कौशिक, संजय मेरावी,पिंटू झारिया, मिथुन पटेल , मंजू पटेल, मिथुन झारिया,पवीण वैष्णव सहित बड़ी संख्या में एनएसयूआई कार्यकर्ता उपस्थित थे।

 

26-02-2021
8 करोड़ व्यापारियों का भारत बंद का आह्वान, ट्रांसपोर्टर्स संगठनों का चक्का जाम का ऐलान

नई दिल्ली/रायपुर। भारत के 8 करोड़ व्यापारियों और परिवहन व श्रमिक संघों ने पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों, गुड्स एंड सर्विस टैक्स में सुधार और ई-बिल को लेकर शुक्रवार को भारत बंद का आह्वान किया है। इस बीच दिल्ली की सीमाओं पर नए कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन की अगुवाई कर रहे संयुक्त किसान मोर्चा ने किसानों से भारत बंद में शांतिपूर्ण तरीके से भाग लेने की अपील की है। इस फैसले का समर्थन करते हुए ट्रांसपोर्टर्स संगठनों ने सुबह से लेकर शाम तक चक्का जाम करने का ऐलान किया है।

25-02-2021
Breaking : पेट्रोल-डीजल की बढ़ी दामों के विरोध में इलेक्ट्रिक बाइक से सचिवालय पहुंची ममता बनर्जी

कोलकाता/रायपुर। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और टीएमसी अध्यक्ष ममता बनर्जी ने इलेक्ट्रिक बाइक से सचिवालय पहुंचकर पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों का विरोध किया है। बता दें कि बीती रात टीएमसी ने यह निर्णय लिया कि पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों को लेकर विरोध-प्रदर्शन किया जाएगा। ममता बनर्जी इलेक्ट्रिक स्कूटर से सचिवालय पहुंचेगी।

25-02-2021
पेट्रोल-डीजल के दाम स्थिर, कहीं विरोध का असर तो नहीं?

रायपुर। राजधानी में पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों ने आम जनता की नाक में दम कर दिया है। विगत दिनों की अगर रिपोर्ट देखी जाए तो लगातार 12 दिन इनके दामों में बढ़त दर्ज की गई थी। उसके बाद एक दिन रुक कर फिर 2 दिन बढ़त हुई। लेकिन ये क्या? अभी 2 दिनों से इनके दामों में किसी भी प्रकार का बदलाव नहीं हुआ है। ना ही दाम बढ़े हैं ना घटे हैं। कहीं ये पूरे देश में हो रहे विरोध का असर तो नहीं? हो भी सकता है। अगर बात छत्तीसगढ़ की आती है तो यहां लगभग सभी जिलों में विरोध प्रदर्शन देखा जा रहा है। यह विरोध प्रदर्शन किसी एक राजनितिक पार्टी द्वारा नहीं बल्कि सभी पार्टियों और संगठनों द्वारा किया जा रहा है। इसका यह मतलब भी निकाला जा सकता है कि 2 दिन की स्थिरता कहीं इसी कारण तो नहीं है।

25-02-2021
पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों के खिलाफ शिवसेना ने निकाली पेट्रोलियम मंत्री की शव यात्रा

रायपुर। बढ़ती महंगाई जिसमें मुख्यतः पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों के खिलाफ शिवसेना ने मोर्चा खोल दिया है। लगभग सभी जिलों में शिवसेना ने प्रदर्शन तेज कर दिया है। इसी कड़ी में जिलाध्यक्ष शशांक देशमुख के नेतृत्व में पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमत को लेकर शिवसेना 4 दिवसीय प्रदर्शन कर रही है। ये चार दिवसीय प्रदर्शन 23 फरवरी से लेकर 26 फरवरी तक हो रहा है। जिला अध्यक्ष शशांक देशमुख ने बताया कि केंद्र सरकार पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर असंवेदनशील रवैया अपना रही है। आम जनता मंहगाई की वजह से परेशान है। जनता के इस तकलीफ को देखते हुए शिवसेना की रायपुर जिला इकाई चार दिवसीय प्रदर्शन कर रही है। इसी कड़ी में दूसरे दिन बुधवार 24 फरवरी को गुढ़ियारी पहाड़ी चौक में ठेले में गाड़ी को रखकर पहाड़ी चौक से प्रदर्शन प्रारंभ किया गया जो भारत माता चौक में खत्म हुआ। मीनू पेट्रोल पम्प से बुधवारी बाजार बिरगांव तक पेट्रोलियम मंत्री का शव यात्रा निकालकर शव को जलाकर प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शन के जरिए शिवसेना पेट्रोल डीजल पर लगने वाले टैक्स को कम करने की मांग कर रही है। कार्यक्रम में मुख्य रूप से जिला अध्यक्ष शशांक देशमुख, संजय नाग, सुरज साहू, समीर पाल, राहुल सोनवानी, प्रफुल्ल साहू, आयुष दास, संतोष मारकंडे, बल्लू जांगड़े, आकीब खान, चंद्रकांत वर्मा, कैलाश साहू, विक्की निर्मलकर, कोमल तिवारी, नेहा तिवारी , ज्योति द्विवेदी, सोना साहू, निधी सिंह, विजय नाग, विजय श्रीवास, महावीर यादव के साथ सैकड़ों शिवसैनिक उपस्थित थे।

23-02-2021
Video: पेट्रोल-डीजल और रसोई गैस के बढ़ते दामों के विरुद्ध वार्ड कांग्रेस ने दर्ज कराया विरोध

रायपुर। बढ़ती महँगाई के खिलाफ वार्ड कांग्रेस कमेटी ने मंगलवार को विरोध प्रदर्शन किया।  प्रदर्शन में वार्ड के लोगों ने भी अपना समर्थन दिया। संसदीय सचिव विकास उपाध्याय के निर्देशानुसार पेट्रोल-डीजल और रसोई गैस के बढ़ते दामों के खिलाफ शहीद चूड़ामणि नायक वार्ड क्र. 38 में विरोध प्रदर्शन किया गया। वार्ड में गली-गली घूमकर प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शन में सांकेतिक रूप से बाइक और गैस को हाथ ठेले में रखकर घुमाया गया और जनता को बढ़ती महंगाई से रूबरू कराया गया। पश्चिम विधानसभा यूथ कांग्रेस से योगेश तिवारी ने बताया कि मोदी सरकार सिर्फ महंगाई बढ़ने का काम कर रही है। इन्हें जनता की तकलीफों से कोई मतलब नहीं है। आम जनता महंगाई के मार से जूझ रही है और मोदी सरकार चुनाव प्रचार में मस्त है। आज पूरे विश्व में पेट्रोल और डीजल के दाम बहुत कम है सिर्फ भारत में इसे चरम पर ले जाया जा रहा है। आज यहां पेट्रोल और डीजल 100 रूपए प्रति लीटर हो गया है। तिवारी ने कहा कि वे इसके लिए राज्यपाल को भी ज्ञापन सौंपेंगे और उन्हें बताएंगे की आम जनता को किन परेशानियों से जूझना पड़ रहा है ताकि ये सन्देश देश के प्रधानमंत्री तक भी पहुँच जाए।  

 

23-02-2021
आरबीआई गर्वनर ने कहा- इनडायरेक्ट टैक्स में कटौती करें ताकि पेट्रोल-डीजल की कीमतें घटाई जा सके

नई दिल्ली/रायपुर। देशभर में पेट्रोल-डीजल की कीमतों पर सियासत जारी है। बढ़ती कीमतों से एक तरफ जनता की जेब कटी है तो वहीं अब सरकार के अंदर से भी आवाजें आनी शुरू हो गई है। बता दें कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान के बाद अब रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के गवर्नर शक्तिकांता दास ने भी टैक्स घटाकर कीमतों को काबू करने का सुझाव दिया है। आरबीआई मॉनिटरी पॉलिसी के मिनट्स में शक्तिकांता दास ने केंद्र और राज्य सरकार से अपील की है कि वो इनडायरेक्ट टैक्स में कटौती करें ताकि पेट्रोल-डीजल की कीमतें घटाईं जा सकें। उन्होंने कहा कि टैक्स की 'कैलिब्रेटेड अनइंडिंग' करना जरूरी है। इससे इकोनॉमी के ऊपर से कीमतों का दबाव हटाया जा सके, यानी धीरे-धीरे टैक्स को घटाना होगा।

22-02-2021
Video: पेट्रोल-डीजल मूल्यवृद्धि के खिलाफ कांग्रेसियों ने खोला मोर्चा,रैली निकालकर किया विरोध प्रदर्शन

जांजगीर चाम्पा। पेट्रोल-डीजल और रसोई गैस के दामों में वृद्धि के खिलाफ जांजगीर में युवा कांग्रेस के आह्वान पर महिला कांग्रेस और कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने गैस सिलेंडर और बाइक को ठेले पर रखकर प्रतीकात्मक रैली निकाली। रैली के दौरान कांग्रेसियों ने केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर पेट्रोल डीजल और रसोई गैस के दामों में वृद्धि के लिए जमकर भड़ास निकाली। महिला कांग्रेस की कार्यकर्ताओं ने बताया कि लगातार हो रही मूल्यवृद्धि से घरों का बजट बिगड़ गया है। केंद्र की मोदी सरकार को बढ़े हुए दामों को वापस लेना चाहिए।

 

22-02-2021
पेट्रोल-डीजल और रसोई गैस के दामों में वृद्धि के खिलाफ युवा कांग्रेस ने ठेले में बाइक व गैस सिलेंडर रखकर निकाली रैली

 

धमतरी। पेट्रोलियम पदार्थ के दामों में लगातार हो रही वृद्धि को लेकर में शहर के मुख्य मार्गों से बाइक व गैस सिलेंडर को ठेले में रखकर युवा कांग्रेस ने केंद्र सरकार का विरोध करते रैली निकाली। प्रदेश युकां अध्यक्ष पूर्णचंद पाढी निर्देश में तथा कृष्णा मरकाम मार्गदर्शन एवं युकां के विधानसभा अध्यक्ष उदितनारायण साहू के नेतृत्व में पेट्रोल-डीजल के दामों में लगातार वृद्धि के विरोध में ठेले में बाइक एवं गैस को रखकर शहर के मुख्य स्थल मकई चौक में रैली निकालकर विरोध प्रदर्शन किया। इस मौके पर छत्तीसगढ़ युवा कांग्रेस के प्रदेश सचिव व जिला प्रभारी मो. अजहर ने कहा कि लगातार देश में पेट्रोल- डीजल की कीमतें बढ़ रही हैं। एक मई 2019 के बाद अभी तक पेट्रोल की कीमतों में 15.21 रुपए प्रति लीटर और डीजल की कीमतों में 15.33 रुपए प्रति लीटर का इजाफा हो चुका है। एक तरफ चौतरफा महंगाई की मार है तथा दूसरी तरफ डीजल-पेट्रोल-गैस के दामों की भरमार है। देश के कई हिस्सों में पेट्रोल 100 रुपए पार और डीजल 90 रुपए, गैस 800 रुपए से पार हो गया है। बता देें पेट्रोल-डीजल के दामों में लगातार 11वें दिन बढ़ोतरी हुई है। कोको पाढ़ी ने कहा कि मोदी सरकार अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कम कीमतों का लाभ आम आदमी को क्यों नहीं दे रही है? एक तो देश में पेट्रोल-डीजल की कीमतें पड़ोसी देशों के मुकाबले काफी ज्यादा है, वहीं दूसरी तरफ बढ़ी हुई कीमतों ने पेट्रोल-डीजल की तस्करी भी शुरू करवा दी है। उन्होंने कहा कि नेपाल में भारत के मुकाबले सस्ता पेट्रोल-डीजल मिल रहा है। इसकी जिम्मेदार मोदी सरकार है। उन्होंने कहा कि भाजपा का जनविरोधी और देश विरोधी चेहरा सामने आ गया है।

उन्होंने कहा कि देश के लोगों ने पीएम मोदी को अच्छे दिन के वायदे पर चुना था, अब पीएम मोदी लोगों का विश्वास तोड़ चुके हैं। मोदी सरकार के जनविरोधी रवैये के खिलाफ युवा कांग्रेस देशभर में आंदोलन कर रही है और आमजन की आवाज उठा रही है। युवा कांग्रेस के कार्यकर्ता राज्य के प्रत्येक जिला और विधानसभा स्तर पर भाजपा के खिलाफ संघर्ष कर रहे हैं। प्रदेशाध्यक्ष कोको पाढ़ी ने पेट्रोलियम मंत्री से इस्तीफे की मांग की और केंद्र सरकार से यह भी मांग की कि पेट्रोल-डीजल और गैस के दाम तत्काल प्रभाव से कम करें। युवा कांग्रेस के पदाधिकारियों ने गुस्से के साथ केंद्र सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। देशभर की अर्थव्यवस्था पेट्रोलियम पदार्थों में हुए मूल्य वृद्धि के कारण जनता की कमर टूट सी गई है, जबकी कच्चे तेल के दामों की कीमत बहुत ही ज्यादा कम है। आज देश में सारे टैक्स लगाकर भी 60 रुपए लीटर पेट्रोल बेचा जाए तो भी रोज अरबों का फायदा सरकार को होगा, लेकिन सरकार ने अंबानी के रिलायंस पेट्रोल पंप को फायदा पहुंचाने इस तरह का हथकंडा अपना रही है। भारत की अर्थव्यवस्था में पेट्रोलियम पदार्थों में वृद्धि के कारण चरमरा गई है। तत्काल मोदी सरकार को इस ओर ध्यान देकर बढ़ी हुई पेट्रोल डीजल की कीमतों को कम किया जाना चाहिए।

रैली में योगेश लाल, विशाल शर्मा, विक्रांत शर्मा, पीयूष पांडेय, गुरुगोपाल गोस्वामी, गौतम वाधवानी ,संघजोत सिंह, कुणाल गायकवाड़, साहिल अहमद, राजू साहू, तनवीर कुरैशी, तोषण साहू, माहिम शुक्ला, राकेश मौर्या, भागी निषाद, राहुल बख्तानी, तनवीर कुरैशी, कुलेश्वर देवांगन, पुष्पेंद्र साहू, टोगेेश साहू, टोमेश साहू, शुभम साहू, सर्वेश बाफना, ऋषभ ठाकुर, पंकज साहू, श्रीकांत तिवारी, तरुण रॉय, मुकेश अग्रवाल, सुनील बंदे, बंटी सोनी, पराष्मणि साहू, इंदल यादव, नमन बंजारे, विजेंद्र रामटेके, चुनेकेश्वर प्रसाद नागेंद्र, तेजप्रताप नागेंद्र, गोकुल साहू, अनिल कुर्रे, गेंदलाल साहू, अजय सिन्हा, उमेश साहू, शुभम साहू, शानू यादव, धनेंद्र मरकाम, छमेंद्र यादव, नीलू साहू, वैभव साहू, टिकेंद्र सिन्हा, पंकज साहू, दीपक विश्वकर्मा, टोमेश सिन्हा, मुकेश अग्रवाल, चूड़ामणि पटेल, कुणाल साहू, राहुल साहू, भुनेश्वर पटेल, गेवेंद्र साहू, धनेंद्र साहू, मनीष सिन्हा, किरण साहू, प्रवीण साहू, सुरेंद मरकाम, गिरधर नेताम, धनराज साहू, पुष्पेंद्र साहू, डेकेश्वर साहू, सितेंद्र साहू, नीलकंठ साहू, साकेत सिन्हा सहित भारी संख्या में युकांई मौजूद रहे।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804