GLIBS
30-08-2020
रमन सरकार के पास नवा रायपुर में बसाहट के लिए नहीं थी कोई योजना : सुशील आनंद शुक्ला

रायपुर। पूर्व मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह के विधानसभा भवन के शिलान्यास के औचित्य पर सवाल खड़ा करने को कांग्रेस ने उनकी खीझ बताया है। प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा है कि पूर्ववर्ती रमन सिंह सरकार की अदूरदर्शिता के कारण वीरान पड़ी नई राजधानी को आबाद करने नवा रायपुर में नए भवनों,मंत्रियों के निवास,मुख्यमंत्री निवास और विधानसभा भवन बनाने की जरूरत महसूस की जा रही है। नई राजधानी में 7 से 8 हजार करोड़ खर्च बिना किसी योजना के तत्कालीन भाजपा सरकार ने खर्च कर दिया था। बड़े बड़े भवन बनाए गए। चौड़ी चौड़ी सड़कें बनाई गई,सड़कों के किनारे लैंड स्केपिंग करवाया गया,गार्डन बनाया गया,हाउसिंग बोर्ड के माध्यम से कॉलोनियां बनवा दी गई। इतना सब करने के बाद नई राजधानी में आबादी बढ़ाने और लोगों की बसाहट बढ़ाने का कोई प्रयास नहीं किया गया। हजारों करोड़ खर्च करने के बाद भी नया रायपुर वीरान पड़ा हुआ है। वहां बने सरकारी भवन खंडहर में तब्दील होने की कगार पर हैं। सरकार को खाली भवन ,सड़कों और गार्डनों के रख रखाव पर लाखों रुपए खर्च करने पड़ रहे हैं। यदि रमन सरकार थोड़ी दूरदर्शिता दिखाती तो नई राजधानी को पूर्ण कैपिटल कॉम्प्लेक्स के रूप में विकसित करती।

 

29-08-2020
मुख्यमंत्री और विधानसभा अध्यक्ष ने नवा रायपुर में निर्माणाधीन आवासीय परिसरों का किया निरीक्षण

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और विधानसभा अध्यक्ष डॉ.चरणदास महंत ने शनिवार को नवा रायपुर में नए विधानसभा भवन के भूमिपूजन समारोह के बाद सेक्टर-24 का भ्रमण किया। यहां निर्माणाधीन राजभवन, मुख्यमंत्री निवास, मंत्री और वरिष्ठ अधिकारियों के आवासीय परिसरों की प्रगति की जानकारी ली। मुख्यमंत्री और विधानसभा अध्यक्ष ने इसके बाद विधायकों के आवास के लिए प्रस्तावित स्थल का निरीक्षण भी किया।

इस दौरान गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू, राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल, खाद्यमंत्री अमरजीत भगत अनेक विधायक छत्तीसगढ़ गृह निर्माण मंडल के अध्यक्ष कुलदीप जुनेजा, मुख्यमंत्री के अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू, सचिव सिद्धार्थ कोमल सिंह परदेशी, नवा रायपुर विकास प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालन अधिकारी अंकित आनंद भी उपस्थित थे।

 

29-08-2020
भूपेश बघेल ने कहा-नवा रायपुर को आबाद करने किए जा रहें चौतरफा उपाय,विधानसभा भवन का निर्माण जल्द पूरा होगा

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने नए विधानसभा भवन के शिलान्यास कार्यक्रम में अपने उद्बोधन की शुरुआत छत्तीसगढ़ महतारी और भारत माता के जयकारे से की। उन्होंने कहा कि, नवा रायपुर अटल नगर आबाद हो, इसके लिए छत्तीसगढ़ सरकार चौतरफा उपाय कर रही है। मंत्रिमंडल के सहयोगियों और अधिकारियों-कर्मचारियों के लिए आवास बनाने की शुरुआत बीते वर्ष की जा चुकी है। कोरोना संक्रमण की वजह से काम में थोड़ा विलंब हुआ। उन्होंने कहा कि, संसदीय सचिवों को नवा रायपुर में ही आवास आवंटित किए गए हैं। मुख्यसचिव नवा रायपुर में निवास करने लगे हैं। उन्होंने उम्मीद जताई कि,आगामी वर्षों में यहां राज्यपाल, मंत्री और शासन-प्रशासन से जुड़े सभी लोग रहने लगेंगे। सुविधाएं बढ़ेंगी। इस नए शहर को बसाने की सभी अड़चनें दूर हो जाएंगी। मुख्यमंत्री बघेल ने कहा हमारी यह कोशिश रहेगी कि, विधानसभा का नया भवन जल्दी बनकर तैयार हो जाए।

हम सब छत्तीसगढ़ की पौने तीन करोड़ जनता और छत्तीसगढ़ महतारी की सेवा के लिए यहां बैठेंगे। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने विधानसभा भवन के शिलान्यास कार्यक्रम में सांसद सोनिया गांधी और राहुल गांधी की वर्चुअल उपस्थिति के लिए धन्यवाद दिया। कार्यक्रम में विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत, विधानसभा उपाध्यक्ष मनोज सिंह मंडावी, ग्रामीण विकास एवं स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव, नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिव कुमार डहरिया, महिला एवं बाल विकास अनिला भेंड़िया, राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल, स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल, खाद्य मंत्री अमरजीत भगत सहित संसदीय सचिव, विधायक, अनेक जनप्रतिनिधि, निगम मंडलों के अध्यक्ष, मुख्य सचिव आरपी. मंडल, विधानसभा के प्रमुख सचिव चंद्रशेखर गंगराड़े, अपर मुख्य सचिव वित्त  अमिताभ जैन, अपर मुख्य सचिव गृह सुब्रत साहू, लोक निर्माण विभाग के सचिव सिद्धार्थ कोमल परदेशी सहित वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

 

19-08-2020
छत्तीसगढ़ सरकार बताए कितने विधायक नए विधानसभा भवन बनाने के पक्ष में हैं : आम आदमी पार्टी

रायपुर। नए छत्तीसगढ़ विधानसभा भवन का शिलान्यास कार्यक्रम स्थगित करने की मांग आम आदमी पार्टी ने प्रदेश सरकार से की है। आप के सचिव उत्तम जायसवाल ने मुख्यमंत्री के नाम पत्र लिखकर उन्हें नए विधानसभा भवन के निर्माण पर रोक लगाने की मांग और दो सवाल भी किए हैं।उत्तम जायसवाल ने कहा कि वर्तमान में कोरोना महामारी से पूरा विश्व प्रभावित है लेकिन उसके बावजूद सरकार में बैठे जनप्रतिनिधियों को मितव्ययता का ध्यान नहीं है। अभी हम सभी आपसे 14580 चयनित शिक्षक अभ्यर्थियों की नियुक्ति की मांग कर रहे हैं उसे सरकार ने अनदेखा कर दिया।

वित्तीय संकट का बहाना बना दिया और दूसरी ओर नए विधानसभा भवन का शिलान्यास करने जा रहे हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री से सवाल किया कि नए विधानसभा भवन बनाने की जरूरत क्यों है व इसकी लागत कितनी आ रही है। वर्तमान में प्रदेश के कितने विधायक इस नए विधानसभा भवन बनाने के पक्ष में है। आपसे विनम्रतापूर्वक निवेदन है कि नए विधानसभा भवन के निर्माण को रुकवा देवें अभी इसकी जरूरत नहीं है।

15-08-2020
भूपेश बघेल ने विधानसभा भवन के भूमिपूजन समारोह में शामिल होने सोनिया और राहुल गांधी से किया आग्रह 

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने नवा रायपुर में बनने वाले छत्तीसगढ़ विधानसभा के नए भवन के भूमिपूजन और शिलान्यास समारोह में शामिल होने के लिए सोनिया गांधी और राहुल गांधी को न्यौता भेजा है। मुख्यमंत्री बघेल ने पत्र लिख कर सोनिया गांधी से इस समारोह में मुख्य अतिथि के रुप में और राहुल गांधी को अतिविशिष्ट अतिथि के रुप में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए शामिल होने का आग्रह किया है। समारोह 28 अगस्त को दोपहर 12 बजे आयोजित किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सोनिया गांधी और राहुल गांधी को लिखे पत्र में कहा है कि, इस समारोह में आपकी उपस्थिति हमें आनंदित करने के साथ प्रोत्साहन भी देगी। उन्होंने पत्र में यह भी लिखा है कि, 1 नवंबर 2000 को राज्य निर्माण के साथ ही सर्व सुविधायुक्त नए विधानसभा भवन की लगातार आवश्यकता महसूस की जा रही है, जो राज्य की प्रगति और आकांक्षाओं के अनुरूप हो। इस आवश्यकता को पूरा करने के उद्देश्य से छत्तीसगढ़ सरकार ने नवा रायपुर में छत्तीसगढ़ विधानसभा के नए भवन के निर्माण का निर्णय लिया है। मुख्यमंत्री ने पत्र में लिखा है कि, इस नए भवन में छत्तीसगढ़ की समृद्ध संस्कृति और परंपरा की झलक दिखेगी। यह भवन स्टेट आफ दी आर्ट तकनीक से सुसज्जित होगा। इस भवन को विधानसभा और उसके सदस्यों की वर्तमान और भविष्य की प्रशासनिक आवश्यकता को देखते हुए डिजाइन किया गया है।

21-10-2019
बाल वैज्ञानिकों ने किया चम्पारण, मुक्तांगन और नवा रायपुर का भ्रमण

रायपुर। 46वीं जवाहर लाल नेहरू राष्ट्रीय विज्ञान गणित और पर्यावरण प्रदर्शनी का आयोजन राजधानी रायपुर के शंकर नगर स्थित बीटीआई मैदान में किया गया। प्रदर्शनी का समापन लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी और ग्रामोद्योग मंत्री गुरु रुद्रकुमार ने 19 अक्टूबर को किया। प्रदर्शनी में देशभर से आए 400 से अधिक बच्चों और शिक्षकों ने 20 अक्टूबर को छत्तीसगढ़ के धार्मिक और आध्यात्मिक स्थल चम्पारण, पुरखौती मुक्तांगन, अंतरराष्ट्रीय वीर नारायण सिंह क्रिकेट स्टेडियम और नवा रायपुर में मंत्रालय, संचालनालय (इन्द्रावती भवन) का अवलोकन किया। बाल वैज्ञानिक इन स्थलों को देखकर काफी प्रफुल्लित हुए और वे छत्तीसगढ़ से मीठी यादें लेकर लौट रहे हैं। रविवार को सभी बाल वैज्ञानिकों और उनके मार्गदर्शक शिक्षकों को शैक्षणिक भ्रमण कराया गया। 400 से अधिक बाल वैज्ञानिक और उनके मार्गदर्शक शिक्षकों को चम्पारण में हाई सेकेण्डरी स्कूल में देखकर गांव बच्चे वहां पहुंचे और सुआ नृत्य की प्रस्तुति देकर मन मोह लिया। चम्पारण में स्वतंत्रता संग्राम सेनानी स्व.श्री रूपधर दीवान शासकीय उच्चत्तर माध्यमिक विद्यालय में सभी बच्चों और शिक्षकों के लिए भोजन की व्यवस्था की गई थी। चम्पारण स्कूल पहुंचने पर शिक्षकों का स्वागत अभनपुर के बीईओ मोहम्मद इकबाल, बीआरसी चम्पारण और सीएसीसी ने किया। बाल विज्ञान प्रदर्शनी का पांच दिन में 30 हजार से अधिक नागरिकों ने अवलोकन किया। इनमें 24 हजार से अधिक स्कूली बच्चे और 6 हजार से अधिक कॉलेज के विद्यार्थी शामिल है। बाल विज्ञान प्रदर्शनी के अंतिम दिन सुकमा, बीजापुर एवं रायपुर जिले के छात्र-छात्राओं ने हिस्सा लिया। प्रदर्शनी में बस्तर संभाग से आए हुए सुकमा और बीजापुर के छात्रों में प्रदर्शनी को लेकर काफी उत्साह दिखाई दिया। छात्र-छात्राओं ने बताया कि वे इसके अलावा विज्ञान भवन विधानसभा भवन का भ्रमण करेंगे। इस अवसर पर स्कूल शिक्षा विभाग, एससीईआरटी के संयुक्त संचालक योगेश शिवहरे, राज्य साक्षरता मिशन प्राधिकरण के सहायक संचालक प्रशांत पाण्डेय, एससीईआरटी के सहायक प्राध्यापक दीपांकर भौमिक,  संजय गुहे,  ज्योति चक्रवर्ती भी उपस्थित थीं। 

15-02-2019
Vidhan Sabha: स्कूली छात्र-छात्राओं ने देखी विधानसभा की कार्यवाही 

भिलाई। शैक्षणिक भ्रमण के अंतर्गत शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय झीठ के छात्र-छात्राओं ने विधानसभा भवन में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से मुलाकात की। इस दौरान मुख्यमंत्री बघेल ने इन स्कूली बच्चों से उनकी पढ़ाई और अन्य रचनात्मक गतिविधियों के बारे में पूछा तथा लगन एवं मेहनत के साथ पढ़ाई कर उन्हें आगे बढ़ने की शुभकामनाएं दी। इस मौके पर इन छात्र- छात्राओं ने विधानसभा की कार्यवाही का अवलोकन कर संसदीय कार्यवाही को जानने-समझने का प्रयास किया। झीठ के स्कूली बच्चों ने मुख्यमंत्री को अपने बीच पाकर उनसे सवाल किए की मुख्यमंत्री बनने के बाद आप कैसे महसूस कर रहे है। इन स्कूली छात्र-छात्राओं को अपने अध्ययन भ्रमण के दौरान राजधानी रायपुर में ऊर्जा पार्क, नया रायपुर, पुरखोति मुक्तांगन, जंगल सफारी, मंत्रालय इत्यादि का अवलोकन कर करीब से देखने और जानने-समझने का अवसर मिला।

18-12-2018
CM Bhupesh Baghel  : सीएम भूपेश बघेल ने विधानसभा भवन पहुंचकर कर्मचारियों से की मुलाकात 

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मंगलवार को विधानसभा भवन पहुंचकर वहां के कर्मचारियों और अधिकारियों से मुलाकात की। आज विधानसभा की औपचारिकता पूरी करने के लिए उनके साथ मंत्री टीएस सिंहदेव, ताम्रध्वज साहू, चरणदास महंत सहित अन्य विधायक और कांग्रेस कार्यकर्ता पहुंचे थे। बता दें कि मुख्यमंत्री के रूप में भूपेश बघेल का आज पहला दिन है। कल मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद भूपेश बघेल ने सबसे पहले किसानों की कर्जमाफी का ऐलान किया था। आज वे दूधाधारी मठ भी गए थे। वे कुछ देर राज्य अतिथि गृह 'पहुना में रुकने के बाद विधानसभा के लिए रवाना हो गए।

01-12-2018
Assembly : अब मप्र. के विधायक करेंगे डिजिटल सिग्नेचर 
नए सत्र से शुरू होगी ये प्रक्रिया, सदन की चल रही पेंटिंग
Advertise, Call Now - +91 76111 07804