GLIBS
13-03-2021
नंदीग्राम में टिकैत ने भरी हुंकार, कहा-दिल्ली में फिर दाखिल होंगे ट्रैक्टर, हमारा नया टारगेट संसद में फसल बेचना

कोलकाता। प.बंगाल विधानसभा चुनाव में किसान आंदोलन के नेता राकेश टिकैत भाजपा के खिलाफ प्रचार कर रहे हैं। राकेश टिकैत ने कहा कि बंगाल के लोगों को संदेश है कि केंद्र सरकार ने देश को लूट लिया है, उन्हें वोट नहीं करना। अपने बंगाल को बचाना। अगर कोई वोट मांगने आए तो उनसे पूछना कि हमारा एमएसपी कब मिलेगा, धान की कीमत 1850 हो गई है वो कब मिलेगी। नंदीग्राम में पत्रकारों से बात करते हुए राकेश टिकैत ने जिक्र किया कि जिस दिन संयुक्त मोर्चा चाह लेगी, किसान संसद में नई मंडी खोल देंगे। एक बार फिर ट्रैक्टर दिल्ली में दाखिल होगी। हमारे पास 3.5 लाख ट्रैक्टर्स और 25 लाख किसान हैं। हमारा नया टारगेट संसद में फसल बेचना है। 

 

21-02-2021
विकास उपाध्याय ने विरोध का अपनाया नया तरीका, पेट्रोल पंप में फुल टैंक कराने वालों के साथ किया ऐसा कि देखते रहे लोग

रायपुर। विधायक विकास उपाध्याय ने रविवार को अपने साथियों के साथ पेट्रोल पंप में नायब तरीका से बढ़े तेल की कीमतों का घंटों विरोध किया। वे उन लोगों की आरती उतार कर स्वागत कर रहे थे, जो पंप से अपनी गाड़ियों में फुल टैंक करा कर निकल रहे थे। विकास उपाध्याय ने देश में बढ़ती महंगाई और किसान आंदोलन पर मोदी सरकार को चौतरफा घेरा। उन्होंने आरोप लगाया कि नरेन्द्र मोदी चुनाव जीतने के लिए भी झूठ बोलते हैं और सत्ता में रहते हुए भी झूठ बोल कर देश की जनता को गुमराह कर रहे हैं। आज केन्द्र सरकार के खिलाफ बड़े जन आंदोलन की जरुरत है। भाजपा के 7 साल के शासन काल में जिस तरह से पेट्रोल-डीजल सहित रसोई गैस सिलेंडर के दामों में बढ़ोतरी हुई है, वह आजादी के बाद का पहला उदाहरण है। 

विकास उपाध्याय ने असम दौरे से लौटने के बाद रविवार को अपने निवास में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस भी ली। उन्होंने मोदी सरकार की कथनी व करनी पर सवाल उठाते हुए कई गंभीर आरोप लगाए। विकास उपाध्याय ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी सहित भाजपा, यूपीए सरकार पर महंगाई व भ्रष्टाचार में लिप्त होने का ढिंढोरा पीटकर सत्ता में आई,आज वही मोदी सरकार पूरे देश को महंगाई के आग में झोंक दी है। 

विकास उपाध्याय ने कहा कि किसानों के लिए लाए गए तीन कृषि कानूनों का किसान 85 दिन से विरोध कर रहे हैं। नया कृषि कानून जिन किसानों के लाभ के लिए बनाया गया है, वही किसानों की राय ये है कि इससे कॉरपोरेट जगत वाले किसानों पर हावी हो जाएंगे। किसानों का इससे बहुत नुकसान होगा। किसान ही नहीं इस कानून को निष्पक्ष रूप से समझने वाले अन्य सभी की राय (सिर्फ बीजेपी को छोड़) जो लोकतंत्र के हिस्सा हैं, उनकी भी यही है और जब किसी भी राय को दबाने की कोशिश की जाती है, तो उससे यह संदेह पैदा होता है कि कहीं वही मत तो सही नहीं है। इसी बात पर मोदी सरकार का इगो हर्ट हो रहा है। सही साबित करने मोदी सरकार इसके प्रचार प्रसार में करोड़ों खर्च कर रही है। विकास ने संसद में सूचना और प्रसारण मंत्रालय की ओर से प्रस्तुत आंकड़े का जिक्र कर कहा, वह इस पर अभी तक करीबन 7 करोड़ 25 लाख रुपए तो कृषि मंत्रालय ने 8 करोड़ खर्च कर चुकी है।

उन्होंने कहा कि देश की सीमाओं पर किसान पिछले 85 दिनों से धरना प्रदर्शन पर हैं। इस बीच जहां 150 करोड़ का नुकसान तो सिर्फ टोल प्लाजा से ही हो चुका है। इसी तरह किसान आंदोलन शुरू होने के पूर्व ही पंजाब में रेलवे स्टेशनों व पटरियों पर धरना प्रदर्शन के कारण यातायात बाधित रही। इसकेकारण मालगाड़ियां प्रभावित रहीं। जिसका नवम्बर तक का ही अनुमान है कि भारतीय रेल को 2400 करोड़ रुपए का नुकसान पूर्व में ही हो चुका है।

विकास उपाध्याय ने कहा कि आज भाजपा के हाथों देश पूरी तरह से दिशाहीन हो चुका है। 2014 में जब नरेंद्र दामोदर दास मोदी भारत के प्रधानमंत्री बने, उनके शपथ ग्रहण समारोह में भारत के सभी पड़ोसी देशों के प्रतिनिधियों को आमंत्रित किया गया। संदेश स्पष्ट था भारत अच्छा पड़ोसी बनना चाहता है। परन्तु आज 7 साल बाद सार्क के आठ देशों अफगानिस्तान, बांग्लादेश, भूटान,  मालदीव, नेपाल, पाकिस्तान और श्रीलंका के साथ ही चीन से भारत के संबंध सकारात्मक नहीं है। आज देश को सिर्फ राहुल गांधी की जरूरत है,जो इस देश को एक नई दिशा दे सकते हैं।

विकास उपाध्याय ने कहा कि आज जिस तरह से मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के सफल नेतृत्व में पूरा छत्तीसगढ़ चहुंमुखी विकास की ओर अग्रसर है। भूपेश सरकार की योजनाएं कारगर साबित हो रही हैं। किसान से लेकर हर वर्ग अपने आप को संतुष्ट महसूस कर रहा है। ऐसे में केन्द्र सरकार को जरूरत है कि वह खुद भी और भाजपा शासित प्रदेशों में छत्तीसगढ़ सरकार के मॉडल को लागू करने रूचि दिखाएं।  देश की जनता आज नेता को देखकर नहीं बल्कि उसके काम को देखकर पसंद करती है। यही वजह है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की छवि देश के अन्य राज्यों में एक स्टार के रूप में देखी जा रही है। उन्होंने असम सहित अन्य राज्यों में होने वाले चुनाव में कांग्रेस के जीत का दावा किया।

20-02-2021
किसानों के समर्थन में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने निकाली पदयात्रा, हेमा देशमुख और अरूण सिसोदिया हुए शामिल

राजनांदगांव। किसान आंदोलन को समर्थन देने के लिए प्रदेश में किसान सम्मान पदयात्रा का आयोजन किया जा रहा है। इसी परिप्रेक्ष्य में शनिवार को शहर जिला कांग्रेस कमेटी ने जयस्तंभ चौक कांग्रेस भवन से शहर के सीमावर्ती वार्ड कन्हारपुरी तक पदयात्रा की। इसमें शहर जिला कांग्रेस के प्रभारी अरुण सिसोदिया शामिल हुए। उनके साथ महापौर हेमा देशमुख, अल्पसंख्यक आयोग के सदस्य हफीज खान, शहर जिला अध्यक्ष कुलबीर छाबड़ा, पूर्व महापौर सुदेश देशमुख, बृजेश श्यामकर,उत्तर ब्लॉक अध्यक्ष आसिफ अली, दक्षिण ब्लॉक अध्यक्ष सूर्यकांत जैन, वरिष्ठ कांग्रेसी शशिकांत अवस्थी,अभिमन्यु मिश्रा,पार्षद, शहर व जिले के पदाधिकारीयों सहित ग्रामीण व किसान बड़ी संख्या में उपस्थित रहे। अरुण सिसोदिया ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार अपने कॉरपोरेट जगत के मित्रों को फायदा पहुंचाने के लिए इन कानूनों को लागू कर रहे हैं। इससे किसान अपनी ही जमीन का मालिक न होकर रखवाला मात्र रह जाएगा। कांग्रेस हमेशा किसानों और आमजनता के साथ रही है और आगे भी रहेगी। सभा को महापौर हेमा देशमुख, हफीज खान सहित अनेक वक्ताओं ने संबोधित किया।

 

17-02-2021
टूलकिट कांड में सातवां नाम सामने आया, धालीवाल की सहयोगी अनिता लाल भी पुलिस के रडार पर

नई दिल्ली/रायपुर। किसान आंदोलन से जुड़ेे टूलकिट कांड में अब सातवां नाम सामने आया है। धालीवाल की सहयोगी अनिता लाल भी पुलिस के रडार पर है। दिशा रवि की गिरफ्तारी के बाद अब निकिता जैकब पर गिरफ्तारी की तलवार लटकी हुई है। वहीं शांतनु मुलुक को ट्रांजिट अग्रिम जमानत मिल गई है। इनके अलावा पुनीत, फ्रेडरिक भी पुलिस की रडार पर हैं। इन सबके अलावा खालिस्तान आतंकी भजन सिंह भिंडर से भी साजिश के तार जुड़ते दिखाई दे रहे हैं। कनाडा के वैंकूवर में रहने वाली अनिता लाल पोएटिक जस्टिस वाले मो धालीवाल की साथी है। वे उसके कारोबार से लेकर खालिस्तानी एजेंडे तक, सबमें भागीदार मानी जाती है। अनिता लाल खालिस्तानी समर्थक पोएटिक जस्टिस संस्था की सह-संस्थापक है। साथ ही वो इस संस्था की कार्यकारी निदेशक भी है।

17-02-2021
भाजपा के किसान नेता किसानों के बीच जाकर केंद्रीय कृषि कानून के खिलाफ भ्रम को दूर करने की कोशिश करेंगे

दिल्ली/रायपुर। किसान आंदोलन को लगातार चलता देख अब भाजपा ने उसके खिलाफ अपनी नई रणनीति तय कर ली है। कल पार्टी कार्यालय में राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने किसान नेताओं की बैठक ली। बैठक में गृह मंत्री अमित शाह, कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर व संदीप बालियान भी उपस्थित रहे। भाजपा ने तय किया है कि भाजपा के किसान नेता किसानों के बीच जाएंगे। जनता के बीच जाएंगे और केंद्रीय कानून के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान के बारे में पार्टी का रुख स्पष्ट करेंगे। केंद्रीय कानून के खिलाफ फैलाये जा रहे भ्रमजाल को तोड़ने की कोशिश करेंगे। पार्टी के के अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने सभी किसान नेताओं से जनता और किसानों के बीच जाकर भ्रम दूर करने के लिए अभियान चलाने की बात कही है। केंद्रीय कृषि कानून के खिलाफ जारी आंदोलन को कांग्रेस आप पार्टी सहित विपक्ष के लगातार मिलते समर्थन के बाद भाजपा ने भी अब इस मामले में मैदान में आकर अपनी स्थिति स्पष्ट करने का फैसला ले लिया है।

16-02-2021
किसान आंदोलन की आड़ में भारत में दंगा कराने के पीछे अंतराष्ट्रीय साजिश का खुलासा

नई दिल्ली/रायपुर। गणतंत्र दिवस पर किसानों की ट्रैक्टर परेड में हुई हिंसा को लेकर पाकिस्तान का नाम सामने आ रहा है। सूत्रों की माने तो किसान आंदोलन की आड़ में भारत में दंगा कराने के पीछे अंतराष्ट्रीय साजिश का खुलासा हुआ है और इसमें पड़ोसी देश पाकिस्तान का हाथ था। सुरक्षा एजेंसियों के सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई ने किसानों के प्रदर्शन को हिंसक रूप देने के लिए खालिस्तानी आतंकियों के साथ बैठक की थी। इसके लिए आईएसआई ने कनाडा, ब्रिटेन, जर्मनी और अमेरिका में स्थित पाकिस्तानी दुतावास के जरिए खालिस्तानी आतंकियों के साथ कई राउंड की बैठक की थी।

15-02-2021
16 फरवरी को कोरबा से रवाना होने वाली पूजा स्पेशल ट्रेन अमृतसर नहीं जाएगी 

रायपुर। पंजाब में जारी किसान आंदोलन के कारण 16 फरवरी को कोरबा से रवाना होने वाली पूजा स्पेशल ट्रेन अमृतसर नहीं जाएगी। गाड़ी संख्या 08237 कोरबा-अमृतसर त्रि-साप्ताहिक पूजा स्पेशल ट्रेन अंबाला रेलवे स्टेशन में समाप्त होगी। इसी तरह 18 फरवरी को अमृतसर से छूटने वाली 08238 अमृतसर-बिलासपुर त्रि-साप्ताहिक पूजा स्पेशल ट्रेन अमृतसर के स्थान पर अंबाला रेलवे स्टेशन से ही बिलासपुर के लिए रवाना की जाएगी । यह गाड़ी अंबाला-अमृतसर- अंबाला स्टेशनों  के मध्य  रद्द रहेगी।

15-02-2021
कांग्रेस ने निकाली पदयात्रा, किसान आंदोलन का किया समर्थन

रायपुर। जिला कांग्रेस कमेटी ने किसान के सम्मान में पदयात्रा निकाली है। सोमनाथ मंदिर में पूजा अर्चना कर यह पदयात्रा प्रारंभ की गई। खैरखुट से ब्लॉक मुख्यालय धरसींवा तक यह पदयात्रा निकाली गई। बता दें कि इस कार्यक्रम का धरसींवा ब्लॉक के सभी ग्रामों में किसानों ने हाथ उठाकर इस आंदोलन का समर्थन किया। इसके साथ आगे आंदोलन में सहयोग करने का वादा भी किया।

पदयात्रा में मुख्य रूप से कांग्रेस नेता धनेंद्र साहू, राज्यसभा सांसद छाया वर्मा, पूर्व विधायक जनक राम वर्मा, प्रदेश कांग्रेस कमेटी महामंत्री पंकज शर्मा, विधायक अनीता शर्मा, जिला पंचायत अध्यक्ष डोमेश्वरी वर्मा, ग्रामीण जिलाध्यक्ष उध्दव राम वर्मा, तिल्दा पालिका अध्यक्ष लेमिक्षा, प्रदेश महामंत्री राम गिलानी, जिला पंचायत सभापति राजू शर्मा, सुनील सोनी, ब्लॉक अध्यक्ष दुर्गेश वर्मा, तिल्दा अध्यक्ष देवा टंडन, बलदाऊ साहू, आरंग अध्यक्ष कोमल साहू, खरोरा अध्यक्ष सौरभ मिश्रा, बिरगांव अध्यक्ष नंद लाल देवांगन, पूर्व अध्यक्ष देवेंद्र वर्मा, जनपद अध्यक्ष उत्तरा भारती, जनपद उपाध्यक्ष चंद्रकांत वर्मा, अरंग जनपद अध्यक्ष खिलेश देवांगन, जिला पंचायत सदस्य हरिशंकर निषाद, महिला कांग्रेस अध्यक्ष मंजू वर्मा, युवा कांग्रेस अध्यक्ष अंकित वर्मा, सेवादल मनहरण वर्मा, नगर पंचायत अध्यक्ष डालेन्द्र वर्मा, उपाध्यक्ष अनिल बघेल, पार्षद डालचंद पाल, गोलू भदोरिया, बसंत रजक, सुरेश साहू, राजू कोसले, प्रदेश सचिव पप्पू राजेंद्र बंजारे, बुधराम धीवर, सरपंच संघ अध्यक्ष अरुण शुक्ला, अध्यक्ष प्रतिनिधि कमल भारती, जिला पूर्व अध्यक्ष लोकेश्वरी वर्मा, जनपद सदस्य उषा जांगड़ा, नीतू साहू, दुष्यंत वर्मा, इंदर साहू, ईश्वर निषाद, जोन प्रभारी जयंत साहू, रूपेश बघेल, मदन गोयल, सेक्टर प्रभारी तुका राम साहू, आशीष वर्मा, शेखर यादव, पवन निषाद, इजराफिल खान, भीखू वर्मा, गोपी साहू, रामकुमार वर्मा, सुरेश पांडे, सुनील साहू, रंजीत गायकवाड, भागवत लहरी, युवा कांग्रेस महासचिव अमित जांगड़े, रामचंद्र साहू, राजू साएतोड़े, नीलू परगनिया, नासिर खान, सरपंच वहीदा, अंजलि श्रीवास, गिरिजा बंजारी, लक्ष्मी साहू, मीना चौहान, पार्वती साएतोड़े, कौशल कनौजे, पूर्व सरपंच इकबाल कुरैशी, उपसरपंच साहिल खान, मनोज सायतोड़े, राजेश साहू, रोशन पुरी गोस्वामी, सरपंच भूषण साहू, धनु गोस्वामी, भगवानी डहरिया, आसाराम साहू, एल्डरमैन प्रदीप शर्मा, अश्वनी बंजारे, संजू वर्मा, राजू वर्मा, विक्की वर्मा, रवि लहरी, अमजद खान, अरविंद्र गजेंद्र, गोविंद ध्रुव, मधु वर्मा, राम साहू, नारायण वर्मा, हृदय साहू, सखाराम ध्रुव, पुनीत धीवर, संदीप नेताम, मनीष धीवर, सुरेंद्र कटारिया, खेम देवांगन, रुपेश सकरी, हृदय साहू, देवरी नरेंद्र वर्मा, कलीम कुरैशी, ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के सभी प्रकोष्ठ के पदाधिकारी कार्यकर्ता इस पदयात्रा में शामिल हुए।

13-02-2021
राहुल गांधी राजस्थान में किसानों की ट्रैक्टर रैली में शामिल होंगे तो योगी आदित्यनाथ बंगाल की परिवर्तन यात्रा में

दिल्ली/रायपुर। देश की राजनीतिक सरगर्मियां में आज दो रैलियों की चर्चा खास है। पहली राजस्थान में किसान आंदोलन के तहत होने वाली ट्रैक्टर रैली जिसमें आज कांग्रेस नेता राहुल गांधी शामिल होंगे। दूसरी बंगाल की परिवर्तन यात्रा है जहां जगत प्रकाश नड्डा अमित शाह के बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शामिल होकर बंगाल की राजनीति को और गरमा सकते हैं। कांग्रेस नेता राहुल गांधी के राजस्थान प्रवास का आज दूसरा दिन है। ट्रैक्टर रैली में शामिल होने के अलावा राहुल गांधी मंदिर भी जाएंगे।

12-02-2021
सोनाक्षी सिन्हा ने किया किसान आंदोलन का समर्थन, कविता शेयर कर कही दिल की बात

रायपुर/मुंबई। सोनाक्षी सिन्हा किसान आंदोलन के समर्थन में आगे आई है। उन्होंने वीडियो जारी कर एक कविता शेयर की है। सोनाक्षी का यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। उनके फैंस और किसान इसे पसंद कर रहे हैं। यह कविता वरद भटनागर ने लिखी है। इसका शीर्षक 'क्यों' हैं। सोनाक्षी ने इस कविता के वीडियो को शेयर करते हुए लिखा,"नजरें मिला के खुद से पूछो- क्यों? यह कविता उन हाथों को समर्पित है, जिनकी वजह से हम रोज भोजन करते हैं। इसके साथ उन्होंने हैशटैग किसान आंदोलन लिखा है।

12-02-2021
Breaking :  किसान आंदोलन 2 अक्टूबर तक चलता रहेगा : राकेश टिकैत 

नई दिल्ली/रायपुर। भारतीय किसान यूनियन संगठन के नेता राकेश टिकैत ने कहा कि किसान आंदोलन 2 अक्टूबर तक चलता रहेगा। इसे किसान संगठनों की ओर से सरकार को वक्त देने के रूप में देखा जा रहा है।

12-02-2021
राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री से तीखे सवाल पूछा हमारी पवित्र भूमि चीन को क्यों दी? इस मामले में जवाब क्यों नहीं देते?

दिल्ली/रायपुर। राहुल गांधी ने किसान आंदोलन के बाद अब केंद्र सरकार पर चीन के मामले में जमकर हल्ला बोला है। उन्होंने सीधे नरेंद्र मोदी को निशाने पर लिया और तीखे सवाल दागे। आज उन्होंने पूछा कि प्रधानमंत्री ने हमारी पवित्र भूमि चीन को क्यों दी? उन्होंने यह भी सवाल दागा कि इस मामले में कोई जवाब क्यों नहीं देता? राहुल गांधी ने कहा हमारी सेना फिंगर 3 पर क्यों वापस लौटी? जबकि हमारी सेना हमेशा फिंगर 4 पर रहा करती थी। राहुल गांधी के हमले दिन-ब-दिन तेज होते जा रहे हैं और केंद्र को किसान आंदोलन के बाद अब चीन के मुद्दे पर निशाने पर ले रहे हैं।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804