GLIBS
07-08-2019
दिल्ली की पहली महिला सीएम सुषमा स्वराज के निधन पर 2 दिन का राजकीय शोक 

नई दिल्ली। दिल्ली सरकार ने राज्य की पहली महिला मुख्यमंत्री सुषमा स्वराज के निधन पर  दो दिन का राजकीय शोक घोषित किया। इसकी घोषणा करते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट किया है। उन्होंने कहा कि "सुषमाजी दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री थीं। दिल्ली दो दिनों के लिए राजकीय शोक मनाकर उनके प्रति सम्मान प्रकट करेगी। केजरीवाल ने यह भी कहा कि भारत ने एक महान नेता खो दिया है और सुषमा गर्मजोशी से भरपूर और असाधारण महिला थीं। उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भी कहा कि सरकार उनकी याद व सम्मान में दो दिवसीय राजकीय शोक मनाएगी। सुषमा स्वराज दिल्ली की पहली महिला मुख्यमंत्री थीं। उन्होंने 13 अक्टूबर, 1998 से लेकर 3 दिसंबर, 1998 तक 52 दिनों की छोटी अवधि के लिए मुख्यमंत्री पद संभाला था। 

25 वर्ष की आयु में बनीं थी मंत्री
सुषमा स्वराज ने सबसे पहला चुनाव 1977 में लड़ा। तब वे 25 साल की थीं। वे हरियाणा की अंबाला सीट से चुनाव जीतकर देश की सबसे युवा विधायक बनीं। उन्हें हरियाणा की देवीलाल सरकार में मंत्री भी बनाया गया। इस तरह वे किसी राज्य की सबसे युवा मंत्री रहीं।

07-08-2019
सुषमा स्वराज का निधन, भारतीय राजनीति के एक युग का अंत : बृजमोहन

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता, राष्ट्र की ओजस्वी वक्ता सुषमा स्वराज के निधन पर भाजपा विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने गहरा दुख व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि यह क्षण उनके लिए बेहद कष्टदायक है। मेरे लिए सुषमा स्वराज सिर्फ एक नेता नहीं अपितु प्रेरणा की स्रोत थी। वात्सल्य और करुणा की प्रतिमूर्ति थी वो, उनके रहने भर से एक मातृत्व का एहसास हृदय में होता था। मुझे एक अनुज की भाती उनका स्नेह मिलता रहा है। उनकी राजनीति की शुरूआत की अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से हुई थी। संगठन में वे हमारी वरिष्ठ रही। लगभग 40 वर्षों से उनके साथ हमारा सतत संपर्क बना रहा। छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण के वक्त वो अटल जी की सरकार में मंत्री थी।

इस वजह से भी वह छत्तीसगढ़ के हितों का ध्यान रखा करती थी जब भी उनसे भेट होती वह छत्तीसगढ़ का हालचाल पूछती। बृजमोहन ने कहा कि सुषमा स्वराज का जाना सिर्फ भारतीय जनता पार्टी की क्षति नहीं है अपितु सम्पूर्ण राष्ट्र के लिए अपूरणीय क्षति है। महिलाओं के लिए वो एक रोल मॉडल थी। भारतीय संस्कृति और परंपराओं की झलक उनमें हमेशा दिखती थी। वो ऐसी प्रखर वक्ता थी कि जब बोलना शुरू करती सब कुछ थम सा जाता था। मोदी सरकार के प्रथम कार्यकाल में हमने उन्हें विदेश मंत्री के रूप में उन्हें यूनाइटेड नेशन में बोलते सुना। पाकिस्तान के खिलाफ भारत का पक्ष वो जिस ढंग से, जिस प्रखरता से रख रही थी मानों स्वयं भारत माता उनमें समाहित हों।

07-08-2019
शायद धारा 370 हटने का इंतजार था सुषमा को

नई दिल्ली। पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज नही रही।उन्होंने एम्स में आखिरी सांस ली।रात 9 बजे उन्हें हार्ट अटैक आया और उसके बाद एम्स में डॉक्टरों के अथक प्रयास के बावजूद उन्हें बचाया नही जा सका।आज ही उन्होंने जम्मू कश्मीर पुनर्गठन बिल पास होने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ट्वीट कर बधाई दी थी और कहा था कि मैं अपने जीवन मे इसी दिन को देखने का इंतज़ार कर रही थी। ये सुषमा स्वराज के पार्टी के लिए समर्पण का जीता जागता प्रमाण है कि उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी को 8 बजे ट्वीट कर बधाई दी।उनके निधन पर स्वयं पीएम नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा कि एक स्वर्णिम युग समाप्त हो गया । सुषमा स्वराज दिल्ली की पहली महिला मुख्यमंत्री थी।विदेश मंत्री के रूप में भी वे सफल रही।उन्होंने खाड़ी से बंधकों को छुड़ाने में सराहनीय  भूमिका अदा की।वे सोनिया गांधी के खिलाफ बेल्लारी से चुनाव लड़ चुकी थी।

07-08-2019
कोविंद, वेंकैया, मोदी, राहुल समेत विभिन्न नेताओं ने सुषमा के निधन पर शोक जताया

नई दिल्ली। राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी , कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी समेत केंद्रीय मंत्रियों एवं प्रमुख राजनीतिक दलों के नेताओं ने पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के मंगलवार को निधन पर शोक जताया है। कोविंद ने अपने शोक संदेश में कहा, ‘‘ सुषमा स्वराज के निधन से बहुत दु:ख हुआ है। देश ने अपनी एक अत्यंत प्रिय बेटी खोई है। सुषमा जी सार्वजनिक जीवन में गरिमा, साहस और निष्ठा की प्रतिमूर्ति थीं। लोगों की सहायता के लिए वे हमेशा तत्पर रहती थीं। उनकी सेवाओं के लिए सभी भारतीय उन्हें सदैव याद रखेंगे।’’ नायडू ने कहा, ‘‘ पूर्व केंद्रीय मंत्री,वरिष्ठ नेता, प्रखर सांसद सुषमा स्वराज जी के असामयिक निधन से स्तब्ध हूं। देश ने आज एक ओजस्वी नेता और मैने एक निकट सहयोगी खो दिया है। नि: शब्द हूं। ईश्वर पुण्य गतात्मा को आशीर्वाद दें। उनके शोकाकुल परिजनों और सहयोगियों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं। मेरी विनम्र श्रद्धांजलि।’’

मोदी ने स्वराज के निधन पर गहरा शोक व्यक्त करते हुए कहा कि उनके निधन से भारतीय राजनीति के एक गौरवशाली अध्याय का अंत हो गया। उन्होंने कहा, ‘‘ स्वराज का निधन उनके लिए व्यक्तिगत क्षति है। उन्हें देश के लिए किए गए प्रत्येक कार्य के लिए हमेशा याद किया जाएगा। वह एक प्रखर वक्ता एवं उच्चकोटि की सांसद थीं जिन्हें दल गत राजनीति से उठकर सराहना मिली। उन्होंने भाजपा की विचारधारा और हितों के साथ कोई समझौता नहीं किया और पार्टी के विकास के लिए महत्वपूर्ण योगदान दिया। ’’
केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, ‘‘ सुषमा स्वराज जी के आकस्मिक निधन के समाचार से स्तब्ध हूं। एक ओजस्वी वक्ता और उत्कृष्ट नेता के रूप में वे हम सब के लिए प्रेरणा स्रोत थीं। उन्होंने विदेश मंत्रालय को आम आदमी से जोड़कर नई मिसाल कायम की। वे अंतिम सांस तक देश और देशवासियों की सेवा में समर्पित रहीं। मैं उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि देता हूं और इस कठिन समय में उनके परिवार को ईश्वर शक्ति दें इसकी प्रार्थना करता हूं। दिवंगत आत्मा को मेरा नमन। ओम शांति।’’
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा, ‘‘ पूर्व विदेश मंत्री और भाजपा की वरिष्ठ नेता व संसदीय बोर्ड की सदस्य सुषमा स्वराज जी के आकस्मिक निधन से मन अत्यंत दुखी है। उन्होंने एक प्रखर वक्ता, एक आदर्श कार्यकर्ता, लोकप्रिय जनप्रतिनिधि व एक कर्मठ मंत्री जैसे विभिन्न रूपों में भारतीय राजनीति में अपनी अमिट छाप छोड़ी है।’’

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने कहा, ‘‘ भारतीय राजनीतिक क्षितिज का चमकता हुआ सूर्य आज सुषमा स्वराज के रूप में अस्त हो गया है। वह एक कुशल प्रशासक और संवेदनशील राजनेता थी। वह एक ओजपूर्ण वक्ता के साथ ही शालीन एवं  सजग व्यक्तित्व थी। आज देश ने एक बहुमूल्य राजनेता को खो दिया है। एक सांसद के तौर पर सुषमा जी ने देश में नए प्रतिमान स्थापित किऐ पक्ष-विपक्ष दोनों में ही उन्होंने सदैव देशहित को आगे रखा और उसे प्रखर अभिव्यक्ति दीे सुषमा जी की पुण्य स्मृति को नमन।’’
भारतीय जनता पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने कहा, ‘‘ पूर्व विदेश मंत्री, वरिष्ठ नेत्री, दीदी सुषमा स्वराज जी के आकस्मिक निधन से मन अत्यंत पीड़ति है। उनका निधन भाजपा एवं देश की राजनीति के लिए एक अपूर्णीय क्षति है। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें एवं शोकाकुल परिवार को दु:ख सहने की शक्ति दे। ओम शांति।’’

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने स्वराज के निधन पर गहरा दुख जताते हुए कहा कि वह एक असाधारण राजनेता तथा विशिष्ट संसदविद के निधन की खबर सुनकर क्षुब्ध हैं।  उन्होंने अपने ट्वीट में कहा, ‘‘ मैं एक असाधारण राजनेता, महान वक्ता तथा एक विशिष्ट संसदविद के निधन की खबर सुनकर क्षुब्ध हूं। वह सभी दलों के नेताओं की मित्र थीं। दुख की इस घड़ी में पीड़ति परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं। भगवान उनकी आत्मा को शांति दे। ओम शांति।’’

15-04-2019
रामपुर में हो रहा द्रौपदी का चीर हरण, भीष्म की तरह मौन न साधें मुलायम : सुषमा स्वराज

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के नेता आजम खां और बीजेपी नेता जया प्रदा के बीच चल रही जुबानी जंग में अब विदेश मंत्री सुषमा स्वराज भी कूद गई हैं। सुषमा ने सोमवार सुबह ट्वीट कर आजम खां के बयान पर आपत्ति जताई। समाजवादी पार्टी के दिग्गज और रामपुर से उम्मीदवार आजम खां के बयान पर विवाद बढ़ता जा रहा है। पहले महिला आयोग ने आजम खां से जवाब तलब किया और अब विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने उन्हें खरी-खरी सुनाई है। सुषमा ने ट्वीट कर लिखा कि रामपुर में द्रौपदी का चीर हरण हो रहा है, मुलायम सिंह मौन साधने की गलती ना करें।

सुषमा स्वराज ने सोमवार सुबह ट्वीट किया कि मुलायम भाई, आप समाजवादी पार्टी के पितामह हैं। आपके सामने रामपुर में द्रौपदी का चीर हरण हो रहा है, आप भीष्म की तरह मौन साधने की गलती ना करें।
सुषमा ने अपने ट्वीट में समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव, उनकी पत्नी डिंपल यादव और जया बच्चन को भी टैग किया है।

23-02-2019
यूएई के इस्लामिक सहयोग संगठन की बैठक में गेस्ट ऑफ़ ऑनर होंगी सुषमा स्वराज 
10-11-2018
Video: छत्तीसगढ़ में चौथी बार बनेगी भाजपा की सरकार : सुषमा स्वराज

रायपुर। केंद्रीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज शनिवार को रायपुर उत्तर विधानसभा क्षेत्र के कार्यकर्ता सम्मेलन में संबोधन देने पंडरी स्थित खालसा स्कूल पहुंचीं। उन्होंने सरकार की योजनाओं का बखान करते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने 15 साल में जनता को काफी लाभ  पहुंचाया है। भारतीय जनता पार्टी चौथी बार सरकार बनाने के लिए लगातार कार्यकर्ता सम्मेलन कर रही है। अवश्य ही भारतीय जनता पार्टी छत्तीसगढ़ में चौथी बार सरकार बनाएगी  क्योंकि सरकार ने प्रधानमंत्री आवास योजना, उज्ज्वला योजना, मुख्यमंत्री स्वास्थ्य योजना, आयुष्मान भारत  योजना समेत अनेक योजनाएं जनता को दी हैं।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804