GLIBS
03-09-2020
रायपुर जिले में अब तक 957.5 मिमी वर्षा हुई

रायपुर।  रायपुर जिले में एक 1 जून से अब तक कुल 957.5 मि.मी. औसत वर्षा दर्ज की गई है। कलेक्टर कार्यालय के भू-अभिलेख शाखा से प्राप्त जानकारी के अनुसार अब तक रायपुर तहसील में 1173.5 मि.मी. और आरंग में 650.5 मि.मी. वर्षा दर्ज की गई है। इसी प्रकार अभनपुर तहसील में 800.9 मि.मी. एवं तिल्दा में 1204.9 मि.मी. वर्षा दर्ज की गई है। कल रात रायपुर के कुछ हिस्सों में माध्यम बारिश हुई थी। रायपुर का मौसम अभी फिर सुहाना हो चला है। संभावना है बारिश की।

 

11-08-2020
रायपुर जिले में नए कंटेनमेंट जोनों की घोषणा, मेडिकल इमरजेंसी पर ही बाहर निकलने की छूट

रायपुर। राजधानी रायपुर में कोरोना का कहर जारी है। रोजाना बड़ी संख्या में जिले से कोरोना संक्रमित मरीजों की पहचान हो रही है। इसी के साथ कोरोना संक्रमितों के इलाकों को जिला प्रशासन की ओर से सील कर कंटेनमेंट जोनों की घोषणा की जा रही है। इसी कड़ी में अपर कलेक्टर ने घोषणा की है। जिले में सोमवार को 172 मरीजों की पहचान हुई थी। सोमवार तक के आंकड़ों पर गौर करें तो रायपुर जिले से अब तक कुल 4307 केस सामने आए हैं। इनमें 2676 मरीज स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं। 45 मरीजों की मौत हो चुकी हैं। इनमें 11 मरीजों की मौत कोराना से और 34 मरीजों की मौत अन्य बीमारियों से भी ग्रसित होने के कारण हुई है। रायपुर जिले में 1586 एक्टिव केस हैं।

जिला प्रशासन ने इन इलाकों को किया कंटेनमेंट जोन घोषित :

केस 1 : धनलक्ष्मी नगर,भनपुरी थाना खमतराई में 1 मरीज की पहचान होने पर पूर्व में ललिता साहू का मकान,मरीज के घर के ठीक पूर्व में खाली प्लाट ,पश्चिम में बृजकिशोर सेन का मकान और उत्तर में आवासीय मकान (रास्ता नहीं),दक्षिण में आवासीय पार्किंग (रास्ता नहीं)तक।

केस 2 : थाना अभनपुर अंतर्गत ग्राम भाटापारा मंदलोर में 1 मरीज की पहचान होने पर उत्तर में रास्ता, दक्षिण में पुनउ देवांगन का मकान,पूर्व में बाड़ी और पश्चिम में खाली मैदान तक।

केस 3 : शिक्षक नगर में 1 और मरीज की पहचान होने पर पश्चिम में राकेश साहू का मकान ,उत्तर में नहर नाली ,दक्षिण में डॉ. चंद्राकर का मकान और पूर्व में परमजीत सचदेवा का मकान तक।

केस 4 : थाना अभनपुर अंतर्गत ही ग्राम बंजारी में 1 और मरीज की पहचान होने पर पश्चिम में बनमाली का किराना दुकान,उत्तर में बाड़ी ,दक्षिण में मुख्य मार्ग,करमा धु्रव का मकान और पूर्व में दिनेश पिता लखन सिंह राजपूत का मकान तक।

केस 5 : अशोका मलेनियम प्लाजा,न्यू राजेन्द्र नगर में 1 मरीज मिलने पर  पश्चिम में महेश संतवानी का मकान,उत्तर में बंद जगह,पूर्व में मरीज का मकान और दक्षिण में रास्ता तक।

केस 6 : नगर पालिका परिषद आरंग अंतर्गत वार्ड क्रमांक-01,दुर्गा विहार आरंग में 1 मरीज मिलने पर पश्चिम में मेन रोड (खरोरा रोड),उत्तर में खाली प्लाट,पूर्व में गली और दक्षिण में गुलाब साहू का मकान तक।

केस 7 : नगर पालिक निगम,बीरगांव अंतर्गत,वार्ड क्रमांक-22,बीरगांव में 1 मरीज मिलने पर पश्चिम में शासकीय राशन दुकान,उत्तर में गोपाल निषाद का घर,पूर्व में महेन्द्र साहू का घर,दक्षिण में गोपि निषाद का घर तक।

केस 8 : बीरगांव के वार्ड क्रमांक-32,गांधी नगर में ही 1 और मरीज मिलने पर पूर्व में गजानन साहू का घर,उत्तर में राजेन्द्र कुमार वर्मा का घर,दक्षिण में परमेशवरी किराना स्टोर्स और पश्चिम में हेमीन साहू का घर तक।

केस 9 : नगर निगम रायपुर के शिव मंदिर के पीछे गली,मटकोडवापारा,सांस्कृतिक भवन के पास 1 मरीज मिलने पर पश्चिम में देवतेल परिवार ,उत्तर में सतनामी भवन,भगवती वर्मा का मकान ,पूर्व में मकान नंबर 1287 और दक्षिण में मरीज के घर तक।

कंटेनमेंट इलाकों में लागू रहेंगे ये नियम :

कंटेनमेंट जोन में प्रवेश या निकास के लिए  केवल एक द्वार होगा। इसमें तैनात पुलिस अधिकारी फिजिकल डिस्टेंसिग निर्धारित करते हुए मेडिकल इमरजेंसी और आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति के लिए आवागमन करने वाले सभी व्यक्तियों का विवरण एक रजिस्टर में दर्ज करेगा। कंटेनमेंट जोन अंतर्गत सभी दुकानें, आॅफिस और अन्य वाणिज्यिक प्रतिष्ठान आगामी  आदेश तक पूर्णत: बंद रहेंगें। प्रभारी अधिकारी कंटेनमेंट जोन में होम डिलीवरी के माध्यम से आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति उचित दरों पर निर्धारित करेंगे। आवश्यक वस्तुओं की होम डिलीवरी के लिए विधिवत परिवहन अनुमति इंसीडेंट कमांडर की ओर से दी जाएगी। कंटेनमेंट जोन अंतर्गत सभी प्रकार के वाहनों के आवागमन पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। मेडिकल इमरजेंसी को छोड़कर अन्य किन्हीं भी कारण से कंटेनमेंट जोन या मकान के बाहर निकलना प्रतिबंधित रहेगा। केवल मेडिकल इमरजेंसी की दशा में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी रायपुर से पास जारी कर इंसीडेंट कमांडर को सूचित करना होगा। आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति में संलग्न व्यक्ति फिजिकल डिस्टेंसिग और सैनिटाइजेशन तय करते हुए कंटेनमेंट जोन में प्रवेश कर सकेंगे।

 

 

20-07-2020
हरेली त्योहार में बेटियों के सशक्तिकरण की पहल,मुख्यमंत्री को भेंट की गई अनाज, धान, मौली से बनाई राखियां

रायपुर। हरेली पर आज रायपुर जिले के आरंग विकासखण्ड के आदर्श गौठान बैहार में समृद्ध और खुशहाल छत्तीसगढ़ की परिकल्पना के साथ शुरू किये गए गोधन न्याय योजना के शुभारंभ कार्यक्रम में बेटियों के सशक्तिकरण पहल भी की गई। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री सहित सभी अतिथियों को महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा राजधानी में संचालित शासकीय बालिका गृह की बच्चियों द्वारा तैयार गुलदस्ते से स्वागत किया गया। इसके साथ ही मुख्यमंत्री बघेल को रायपुर जिला पंचायत अध्यक्ष डोमेश्वरी वर्मा ने बालिका गृह की बच्चियों द्वारा तैयार राखियां भेंट की। मुख्यमंत्री ने बच्चियों द्वारा तैयार गुलदस्ते और राखियों की सराहना कर उनका हौसला बढ़ाया है। कार्यक्रमों में विशिष्ट अतिथियों के स्वागत के लिए कलेक्टर भारतीदासन द्वारा बालिका गृह की बच्चियों द्वारा तैयार गुलदस्ते ही लेने के निर्देश दिए गए हैं। असली फूलों के गुलदस्ते की तरह आकर्षक इन गुलदस्तों को बालिकाएं फोम से तैयार करती हैं। फूल मुरझााते नहीं इसलिए ये गुलदस्ते लम्बे समय तक घरों में भी सजाए जा सकते हैं। इनकी लागत और कीमत भी कम है। बालिकाओं द्वारा तैयार ये गुलदस्ते 250 रूपये में बेचे जा रहे हैं। इससे बालिकाओं को प्रति गुलदस्ता 50 से 100 रूपये की आमदनी होती है। प्रशासन द्वारा दो  र्यक्रमों के लिए बालिकाओं द्वारा बनाए गए 21 गुलदस्ते खरीदे गए हैं। बच्चियां पढ़ाई के साथ-साथ खाली समय में राखियां भी बना रही हैं। राखी बनाने से लेकर पैकिंग तक बच्चियां खुद करती हैं। बच्चियां केंडल स्टैंड,पूजा थाली, दिये, गुलदस्ते सहित और भी सामान बनाती हैं।

बालिका गृह की 40 बालिकाओं ने अनाज, धान, मौली से सुंदर फैंसी राखियां तैयार की हैं। बच्चियों के द्वारा बनायी गई राखियों को प्रशासन द्वारा भी विक्रय के लिए उपलब्ध कराया कराया जा रहा है। ये राखियां 10 रूपये से लेकर 200 रूपये तक मूल्य की हैं। राजधानी में शुरू हो रहे जवाहर बाजार के स्टॉल में भी बालिकाओं द्वारा तैयार राखियां रखी जाएंगी। इनके द्वारा बनाई गई राखियां बाजार में उपलब्ध राखियों से काफी आकर्षक व सस्ती हैं। अब तक लगभग 10 हजार रूपये की राखियों का विक्रय हो चुका है। महिला बाल विकास विभाग की संचालक दिव्या मिश्रा ने बच्चियों की मेहनत और प्रतिभा की तारीफ करते हुए इनसे 2 हजार रूपये की राखियां खरीदी हैं। कलेक्टर भारतीदासन ने भी इनसे राखियां ली हैं। विभाग की 70 महिला समूहों ने भी 5-5 सौ की राखियों का आर्डर दिया है। राखियों के विक्रय से होने वाली आय को बच्चियों की पढ़ाई के लिए खर्च किया जाएगा। इस आय से बालिकाएं ऑनलाइन पढ़ाई के लिए अच्छा स्मार्टफोन खरीदना चाहती हैं। आम नागरिक बच्चियों के द्वारा निर्मित राखियों को सीधे खम्हारडीह स्थित बालिका गृह से अथवा कलेक्टर परिसर स्थित कार्यालय जिला कार्यक्रम अधिकारी, महिला एवं बाल विकास विभाग रायपुर से खरीद सकते है। स्थानीय व्यापारियों भी इन राखियों का क्रय कर बाजार में विक्रय करके बालिकाओं की मदद कर सकते हैं।

 

20-07-2020
रायपुर जिले में इस बार 7 दिनों का एडवांस लॉक डाउन, बंद रहेगी किराना दुकानें,सख्त रहेगी पहरेदारी

रायपुर। राजधानी में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए जिला प्रशासन इस बार सख्त रवैय्या अपनाने जा रही है। 22 जुलाई से 28 जुलाई तक लागू होने वाले लॉक डाउन के संबंध में सोमवार को कलेक्टर डॉ.एस. भारतीदासन, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय यादव ने पत्रकारवार्ता ली। नगर निगम आयुक्त सौरभ कुमार भी मौजूद थे। कलेक्टर ने कहा कि इस बार अति आवश्यक सेवाओं से किराना दुकानों को दूर रखा गया है। आदेश में संशोधन करते हुए किराना दुकानों को 7 दिन बंद रखने का निर्णय लिया गया है। बाकी अनुमति प्राप्त आवश्यक सेवाओं में सब्जी, फल, दूध, मेडिकल सुबह 6 से 10 बजे तक केवल चार घंटे ही खुली रहेंगी। कलेक्टर ने कहा कि विशेषकर मंगलवार को किराना दुकानों पर सख्त नजर रखी जाएगी। स्पेशल टीमों को निगरानी रखने और आकस्मिक जांच करने कहा गया है। जिला प्रशासन और खाद्य विभाग की टीमें सोमवार शाम तक व मंगलवार को दिनभर नजर बनाए रखेगी। आगामी 7 दिनों तक बंद रखने की स्थिति में कहीं किराना व्यवसायी अधिक कीमत पर सामानों को ना बेचे, यह ध्यान दिया जाएगा। पेट्रोल पंपों को सुबह 9 बजे से दोपहर 3 बजे तक खोलने की अनुमति दी गई है।

उद्योगों के लिए नियम तय किए गए हैं। ग्रामीण क्षेत्रों व आउटर में स्थित फैक्ट्रियों, निर्माण और श्रम कार्य संचालित करने वाले संस्थान और ईकाइयों को छूट दी गई है। उद्योग व फैक्ट्रियों के संचालकों को ध्यान देना होगा कि श्रमिकों के रहने की व्यवस्था परिसर में ही करें। या फिर उनके आवागमन के लिए वाहनों का प्रबंध करें। शराब दुकानों को भी बंद रखने का निर्णय लिया गया है। न्यायालय के संबंध में अलग से आदेश जारी किए जाएंगे। कलेक्टर ने स्पष्ट किया है कि ये 7 दिन पिछले लॉक डाउन से एडवांस होंगे। उन्होंने जिले वासियों से अनुरोध किया है कि अति आवश्यक होने पर ही घर से बाहर निकले। जिले की दोनों नगर निगमों रायपुर और बिरगांव के सम्पर्ण क्षेत्रों को कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है। अब पूरे इलाकों में कंटेनमेंट जोन की तरह ही निगरानी रखी जाएगी। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय यादव ने कहा कि निगम क्षेत्रों के अंतर्गत 22 थाना इलाकों में सख्त निगरानी रहेगी। पेट्रोलिंग की पर्याप्त व्यवस्था की गई है। कुल 23 नाकेबंदी पॉइंट बनाए गए हैं। इनमें 25 अंदरुनी क्षेत्रों और 8 आउटर में बनाए गए हैं। इसके अतिरिक्त 30 अलग पेट्रोलिंग टीम गश्त करेगी। पुलिस की अतिरिक्त टीमें तैनात रहेगी। उन्होंने साफ कहा है कि इस बार हल्के में ना लें, सख्त कड़ाई रहेगी।

 

23-06-2020
रायपुर जिले के 5 विद्यार्थी टॉप टेन में शामिल, कलेक्टर ने थपथपाई पीठ

रायपुर। छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल की कक्षा दसवीं और बारहवीं की बोर्ड परीक्षा में रायपुर जिले के विद्यार्थियों ने उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है। मंगलवार को घोषित हुए परीक्षा परिणाम में प्रदेश के टॉप 10 स्थानों पर जिले के 5 विद्यार्थी सफल रहे। इन विद्यार्थियों में बारहवीं में दूसरे रैंक में श्रेया अग्रवाल 97 प्रतिशत, सातवां स्थान पर आएशा अंजुम 95.6 प्रतिशत और  देवेंद्र कुमार तारक ने 95 प्रतिशत अंक के साथ दसवें स्थान पर है। इसी तरह दसवीं में पांचवे स्थान में क्रमश: प्रतिभा सिखेरिया और वीरेंद्र ने 98.33 प्रतिशत अंक के साथ शीर्ष 10 में स्थान बनाया। कलेक्टर डॉ.एस.भारतीदासन ने जिले के समस्त सफल विद्यार्थियों को उज्जवल भविष्य की शुभकामना दी है। उन्होंने सफल विद्यार्थियों को भविष्य की योजना अनुरूप रूचि अनुसार विषय का चयन करने और गंभीरता से लक्ष्य प्राप्ति में अभी से लग जाने कहा है। कलेक्टर ने असफल विद्यार्थियों को निराश ना होने समझाइश दी है।  उन्होंने कहा कि ऐसे विद्यार्थी अपनी कमजोरियों को स्वयं पहचान करें और उसे दूर करें। जीवन में सफल होने के लिए धैर्य और लगन की आवश्यकता होती है। परीक्षा में सफलता और असफलता स्वयं के मेहनत पर निर्भर करती है,यह कोई अंतिम परीक्षा नहीं,जिसमे असफल होने पर हताश हुआ जाए। जीवन में सफल होने के लिए सभी को विभिन्न परीक्षाओं से गुजरना पड़ेगा। इन परीक्षाओं में सफल होने के लिए कड़ी मेहनत,लगन और धैर्य जरूरी है।

 

19-06-2020
दो बाइक में टक्कर, युवक की मौत, मामला दर्ज

रायपुर। रायपुर जिले के खरोरा थाना क्षेत्र में मोटरसायकल सवार एक युवक ने दूसरे मोटरसायकल सवार युवक को जोरदार टक्कर मार दी, जिससे दूसरे युवक की मौके पर ही मौत हो गई। पुलिस ने इस मामले में आरोपी मोटरसायकल चालक के खिलाफ अपराध पंजीबद्ध किया है।पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार मृतक नीलकंठ पटेल 31 वर्ष निवासी ग्राम पिरदा गुरूवार रात अपनी मोटरसायकल से किसी काम से घर से निकला था। बताया जाता है कि रास्ते में पाराभाठ मेन रोड खरोरा के पास आरोपी मोटरसायकल क्रमांक सीजी04एमडी6267 का चालक, जो तेज और लापरवाही पूर्वक मोटरसायकल चलाते हुए मृतक की मोटरसायकल को टक्कर मार दी। टक्कर जोरदार थी कि इस हादसे में नीलकंठ को गंभीर चोट लगने से उसकी मौके पर ही मौत हो गई। पुलिस ने आरोपी चालक के खिलाफ धारा 304ए के तहत अपराध पंजीबद्ध किया है।

 

13-06-2020
रायपुर जिले में 2 और कंटेनमेंट जोन की घोषणा, आदेश जारी

रायपुर। जिले के नगर निगम बिरगांव अंतर्गत वार्ड क्रमांक-35, दुर्गा नगर (थाना उरला) में 2  कोरोना पॉजिटिव केस मिलने के बाद संबंधित इलाकों को कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है। अपर कलेक्टर ने उत्तर-पूर्व में दुर्गा स्वीट्स वैभव किराना के पास वाली सड़क, उत्तर-पश्चिम में राम हेयर सैलून के पास दुर्गा नगर प्रवेश द्वार वाली सड़क, पूर्व-दक्षिण में मेश्राम पंडित के घर के पास वाली सड़क और दक्षिण-पश्चिम में हेमू फैंसी स्टोर के पास वाली सड़क को कंटेनमेंट जोन घोषित किया है। इसी तरह बिरगांव के दुर्गा नगर वार्ड क्रमांक- 35 में ही एक और कोरोना पॉजिटिव मिलने के कारण पूर्व में तिवारी किराना स्टोर के सामने से जाने वाली सड़क, पश्चिम में निगम कार्यालय के सामने से जाने वाली सड़क, उत्तर में लटयारीन मंदिर से तिवारी किराना स्टोर्स वाली सड़क और दक्षिण में राजेश वर्मा के मकान के सामने वाली सड़क को कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है। इन ​कंटेनमेंट जोन में प्रवेश या निकास के लिए केवल 1 द्वार होगा। कंटेनमेंट जोन अंतर्गत सभी दुकानें, ऑफिस और अन्य वाणिज्यिक प्रतिष्ठान आगामी आदेश तक पूर्णतः बंद रहेंगें। कंटेनमेंट जोन अंतर्गत सभी प्रकार के वाहनों के आवागमन पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। मेडिकल इमरजेंसी को छोड़कर अन्य किन्हीं भी कारण से कंटेनमेंट जोन या मकान के बाहर निकलना प्रतिबंधित रहेगा। केवल मेडिकल इमरजेंसी की दशा में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी रायपुर से पास जारी कर इंसीडेंट कमांडर को सूचित करना होगा। दुर्गा नगर वार्ड की आदेश कॉपी क्रमांक 1 , दुर्गा नगर वार्ड की आदेश कॉपी क्रमांक 2

 

 

05-06-2020
रायपुर जिले में 5 नए कंटेनमेंट जोन घोषित, पाबंदियां लागू

रायपुर। जिले में गुरुवार को कोरोना पॉजिटिव मरीजों की पहचान होने के बाद संबंधित इलाकों को कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है। इनमें पहला- हिमालयन हाइट्स, देवपुरी कंटेनमेंट जोन के पूर्व में हिमालयन हाइट्स फेस-2 मैन गेट-3 और मेन गेट,उत्तर-पूर्व में हिमालयन हाइट्स मेन गेट-2, दक्षिण-पूर्व में हिमालयन हाइट्स में गेट-1 शामिल हैं। आदेश की कॉपी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें...

दूसरा- रामसागरपारा कन्टेनमेंट जोन के उत्तर-पूर्व में राजेन्द्र शर्मा का मकान,पश्चिम में दिनेश खंडेलवाल का मकान और दक्षिण में गुरुकृपा टेंट सप्लायर के सामने शनि मंदिर(प्रवेश द्वार) शामिल हैं। आदेश की कॉपी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें...

तीसरा- बिरगांव,शहीद नगर कन्टेनमेंट जोन के पूर्व में प्रिंस किराना के सामने और सिन्हा के मकान के पास, पश्चिम में सुरेश भारती का मकान और नाला के पास,उत्तर में सूरज किराना स्टोर्स और दक्षिण में रामचरण साहू का इलाका शामिल हैं। आदेश की कॉपी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें...

चौथा- नगर पंचायत धरसींवा अंतर्गत ग्राम सुंगेरा, थाना धरसींवा के कन्टेनमेंट जोन में  पूर्व में खेत-खलिहान,पश्चिम में खेत-खलिहान और खारुन नदी,उत्तर में बस्ता ग्राम सुंगेरा और दक्षिण में खेत-खलिहान और धरसींवा पहुंच मार्ग शामिल हैं। आदेश की कॉपी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें...

पांचवा- कबीर नगर के कन्टेनमेंट जोन के पूर्व में जेपी (गोल)चौक से दशहरा मैदान तक, पश्चिम में सिद्धि विनायक चौक से तिरंगा चौक तक और उत्तर में कबीर नगर मुख्य मार्ग से बड़ा उद्यान तक शामिल हैं। आदेश की कॉपी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें...
 

 

02-06-2020
रायपुर में अन्य राज्यों के फंसे श्रमिकों को उनके राज्य भेजने अधिकारियों को मिली जिम्मेदारी

रायपुर। अन्य राज्यों के प्रवासी मजदूरों के रायपुर जिले में फंसे होने और संबंधित राज्य जाने के लिए इच्छुक मजदूरों की जानकारी प्रमाणित रूप से जुटाने के लिए अधिकारियों को जिम्मेदारी सौंपी गई है। ऐसे श्रमिकों के आवागमन के संबंध में राज्य नोडल अधिकारी और संबधित राज्यों, जिलों के नोडल अधिकारियों से समन्वय करने का कार्य नियुक्त अधिकारी करेंगे। वे प्रवासी मजदूरों को उनके राज्य भेजने सभी व्यवस्था तय करेंगे। इसके लिए यूके कच्छप, सहायक श्रमायुक्त को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। सियाराम पटेल श्रम निरीक्षक को सहायक नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। कार्य के पर्यवेक्षण के लिए संदीप कुमार अग्रवाल  संयुक्त कलेक्टर व अनुविभागीय दंडाधिकारी को नियुक्त किया गया है। नोडल अधिकारी जिले में फंसे हुए अन्य राज्यों के प्रवासी मजदूरों और संबंधित राज्य जाने के लिए वास्तविक रूप से इच्छुक मजदूरों की जानकारी संकलित और प्रमाणित कर संदीप कुमार अग्रवाल उपलब्ध कराने के लिए उत्तरदायी होंगे।

30-05-2020
रायपुर जिले में टिड्डियों के संभावित खतरे से निपटने 5 दल गठित, कार्यों का विभाजन  

रायपुर। टिड्डियों के दल के संभावित खतरे को देखते हुए रायपुर जिले में जिला और विकासखंड स्तर पर नियंत्रण कक्ष की स्थापना के साथ दल का गठन किया गया है। उल्लेखनीय है कि टिड्डी दल राजस्थान होते हुए मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र पहुंच गया है। इन दोनों राज्यों के सीमावर्ती होने के कारण टिड्डी दल के छत्तीसगढ़ में प्रवेश करने की संभावना अधिक है। इसके मद्देनजर ही प्रभारी कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी रायपुर सौरभ कुमार के अनुमोदन पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत रायपुर ने ग्राम, अनुविभाग/ विकासखंड और जिला स्तर पर दल का गठन कर उनके मध्य कार्यों का विभाजन किया है।

01-05-2020
1 से 28 अप्रैल तक रायपुर ज़िले में हुए 2001 संस्थागत प्रसव, ज़िले के 74266 लोगों को मिला ओपीडी सेवा का लाभ

रायपुर- कोविड-19 के चलते लगे लॉक डाउन में रायपुर जिले के शासकीय अस्पतालों में ओपीडी, जच्चा-बच्चा केंद्र और गर्भवती महिलाओं के टीकाकरण संबंधी सारे काम नियमित रूप से चल रहे हैं।
इस दौरान 2001 प्रसव भी ज़िले के शासकीय अस्पतालों में हुए और 74,266 लोगों को ओपीडी सेवा का लाभ मिला है। साथ ही ज़िले में कोई भी शिशु या मातृ मृत्यु नहीं हुई है।मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, रायपुर डॉ.मीरा बघेल ने बताया ज़िले में 1 अप्रैल से 28 अप्रैल तक 2001 किलकारियां गूंजी है। 1 से 7 अप्रैल तक 715 संस्थागत प्रसव हुए,जिसमें 122 सी-सेक्शन द्वारा प्रसव हुए जबकि 8 से  14 अप्रैल तक 633  संस्थागत प्रसव में 116 सी-सेक्शन प्रसव हुए और 21 अप्रैल तक हुए 324 संस्थागत प्रसव में 125 सी-सेक्शन प्रसव हुए। अप्रैल के आखरी सप्ताह में तक 329  संस्थागत प्रसव में 96 सी-सेक्शन द्वारा हुए।वहीं 1 से 28 अप्रैल तक ज़िले भर में 74,266 लोगों को ओपीडी सेवा का लाभ मिला है ।  अप्रैल के पहले सप्ताह में 22,057, दूसरे सप्ताह में 18,321 और तीसरे सप्ताह में 18,798 मरीजों ने ओपीडी सेवा का लाभ लिया। वहीं 21 से 28 अप्रैल तक 15,090 लोग ओपीडी में उपचार लिया ।सिविल सर्जन डॉ. रवि तिवारी ने कहा ज़िला अस्पताल में बीते चार सप्ताह में 359 प्रसव हुए। इसमें 204 सामान्य प्रसव व 155 सी-सेक्शन हुए है।

स्वास्थय विभाग की कोशिश यही है कि लोगों को किसी भी प्रकार की दिक्कत न उठानी पड़े। सिविल सर्जन ने कहा इस दौरान डॉक्टरों, नर्सों, और पेरामेडिकल स्टाफ की कोशिश है कि इस संकट की घड़ी में लोगों को बढ़िया स्वास्थ्य सुविधाएं मिलें। उन्होंने इसके लिए उनकी सेवाओं की प्रशंसा की और कहा यह लोग भी फ्रंट लाइन हीरो हैं।डॉ.तिवारी ने बताया मातृ एवं शिशु चिकित्साल्य में विशेष रुप से परिसर में सैनिटाइजेशन की व्यवस्था की गई है। साफ सफाई का ध्यान भी रखा गया है। कोविड 19 से सुरक्षा की गाइड लाइन का पालन किया जा रहा है। सब सेंटर स्तर पर शासकीय अस्पतालों में टीकाकरण का कार्य भी नियमित रुप से जारी है।मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.बघेल ने कहा स्वास्थ्य सेवाएं देते समय जरूरी दूरी हमेशा बनाये रखना ज़रूरी है। इसके साथ ही मास्क पहनने से लेकर बिल्डिंग के कमरों को रोगाणु मुक्त करने के नियमों का पूरी तरह से पालना कराया जा रहा है। विभाग के अधिकारियों को हिदायत दी है कि अस्पतालों में किसी भी जगह पर मरीजों और तीमारदारों को इकट्ठा न होने दिया जाए।

12-04-2020
रविवार और सोमवार को लॉकडॉउन का पालन करते हुए खुलेंगी दुकानें : कलेक्टर

रायपुर। कलेक्टर डॉ एस.भारतीदासन ने रायपुर जिले में प्रसारित इस खबर का खंडन किया है कि राजधानी में अगले 48 घंटे के दौरान सब्जी और किराना बंद रहेंगी। उन्होंने स्पष्ट किया है कि शासन की ओर से पूर्ववत जारी निर्देश के अनुसार अन्य दिनों की तरह 12 और 13 अप्रैल को भी सब्जी और किराना दुकान शासन की ओर से निर्धारित समय के अनुसार खुलेंगी। कलेक्टर ने कहा है कि कोरोना वायरस संक्रमण के रोकथाम और नियंत्रण के लिए लॉक डाउन किया गया है। उन्होंने इसके लिए आमजनों को निर्धारित निर्देश का कड़ाई से पालन करते हुए स्वच्छता और सामाजिक दूरी बनाए रखने के निर्देश दिए है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804