GLIBS
24-09-2018
BJP : कटनी में भाजपा को बड़ा झटका, समाज कल्याण बोर्ड की अध्यक्ष पदमा शुक्ला ने दिया पार्टी से इस्तीफा

भोपाल। कटनी जिले में भाजपा को बड़ा झटका लगा है। समाज कल्याण बोर्ड की अध्यक्ष व पार्टी की वरिष्ठ नेता पदमा शुक्ला ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। माना जा रहा है कि उन्होंने कटनी में संजय पाठक के विरोध की वजह से इस्तीफा दिया है। उन्होंने पिछली बार उस समय कांग्रेस के उम्मीदवार रहे पाठक के खिलाफ चुनाव लड़ा था। हालांकि वह केवल 935 वोटों से चुनाव हार गई थीं। उनके इस्तीफे से भाजपा में हड़कंप मच गया है। बता दें कि पाठक 2008 और 2013 विधानसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस के उम्मीदवार थे। 2013 चुनाव में मिली जीत के बाद उन्होंने भाजपा का दामन थाम लिया था। वर्तमान में वह सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय के राज्य मंत्री हैं। शिवराज सरकार में कैबिनेट मंत्री का दर्जा पाने वाली पदमा शुक्ला आज कांग्रेस में शामिल हो सकती हैं। पदमा शुक्ला अभी भी मप्र समाज कल्याण बोर्ड की अध्यक्ष हैं। वे आज छिंदवाड़ा में कमलनाथ से मिलकर कांग्रेस की सदस्यता लेंगी। पदमा शुक्ला राज्यमंत्री संजय पाठक के खिलाफ चुनाव लड़ना चाहती हैं। 

21-09-2018
Saroj Pandey : सरोज पांडे ने साधा राहुल पर निशाना, कहा- राष्ट्रीय अध्यक्ष के सीखने की उम्र निकल चुकी है

रायपुर। भाजपा की राष्ट्रीय महामंत्री सरोज पांडे ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधा है। उन्होंंने कहा कि एक नेता में सीखने की जिज्ञासा होनी चाहिए, लेकिन राहुल गांधी में सीखने की ललक नहीं है। सिर्फ किसी विशेष परिवार से आने के कारण उसे पार्टी की कमान नही सौंप देनी चाहिए। इसी कमजोर नेतृत्व के चलते आज कांग्रेस दिशाहीन हो गई है। उन्होंने कहा कि राहुल राजनीति में भेड़चाल चल रहे हैं और इसी का खामियाजा उनकी पार्टी को भुगतना पड़ रहा है।

सभा में राष्ट्रीय महासचिव और सांसद सुश्री सरोज पाण्डेय ने कहा कि हम यदि बूथ स्तर से कार्य करते हैं, तो ऐसा कोई कारण नहीं कि हमें चौथी बार जीत न मिले। उन्होंने कहा कि देश में विगत 4 वर्षों से केन्द्र के मुखिया ने व पन्द्रह वर्षों से प्रदेश के मुखिया ने देश व प्रदेश की सेवा से जनजीवन में बदलाव लाया है। हम अपने दायें और बायें दोनों ओर 10, 10 घर चुन लें और यह पता करें कि किस घर में कौन सी योजनायें आई हैं इसकी शुरूआत हम स्वयं करें और बूथ स्तर पर कार्य करें। चुनावी युद्ध में हमारी विजय सुनिश्चित है। 

उन्होंने कहा कि इस प्रदेश में विपक्ष चाहे जितना हल्ला करे पर विपक्ष कहीं दिखाई नहीं देता। उन्होंने कहा इस बार कांग्रेस भी बूथ स्तर की बात कर रही है, परन्तु मेरा स्पष्ट मत है कि बूथ स्तर के कार्य बूथ स्तर का प्रबंधन केवल और केवल भाजपा ही कर सकती है। भाजपा के कार्यकर्ता संघर्ष, अनुशासन व कर्मठता का प्रतीक हो होते हैं। उन्होंने कहा कि यही हमारी जीत का आधार है, यह दंभ नहीं परन्तु कर्म व तैयारी के आधार का विश्वास है। उन्होंने कांग्रेसपार्टी के अध्यक्ष गतिविधियों का उल्लेख करते हुए कहा कि उनके सीखने की उम्र निकल चुकी हैं।

 ये बार-बार विदेश चले जाते हैं इसके पीछे का हुजुम उन्हें भयभीत करता है। इसे समझ सकने में असमर्थ है। उन्होंने कार्यकर्ताओं से आह्वान करते हुए कहा कि मतदान के दिन आपको एलर्ट रहना है, हमें हर हाल में 10 बजे तक अधिक से अधिक मतदान की सुनिश्चित करना है, यह संभव हो सकता है सिर्फ और सिर्फ आप कार्यकर्ताओं के समर्थन से।

21-09-2018
Amit Shah : कई पूर्व IPS, IRS, IFS समेत एनटीपीसी के पूर्व अधिकारियों ने किया भाजपा प्रवेश, देंखे नाम

रायपुर। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के सामने आज कई आईपीएस, आईआरएस और आईएफएस अफसरों ने भाजपा प्रवेश किया। भाजपा प्रवेश करने वाले 23 लोगों में पूर्व आईपीएस राजीव श्रीवास्तव के अलावा पूर्व डीआईडी एनकेएस ठाकुर, पूर्व आईआरएस अशोक सिंह, आईएफएस कृष्णकुमार पूर्व आईएफएस राकेश तिवारी, पूर्व सूचना प्रसारण सेवा अधिकारी विमल चंद्र, पूर्व डीएसपी मोहन दुबे, एनटीपीसी के पूर्व प्रबंधक हेमंत धागमवार के नाम शामिल हैं।

भाजपा में प्रवेश करने वाले लोगों में समाजसेवी शुभांगी आप्टे भी शामिल हैं। अमित शाह के सामने भाजपा प्रवेश लेने वालों में पूर्व आईआरएस अरविंद श्रीवास्तव, पूर्व एडिशनल एपी आरके शर्मा, पूर्व एडिशनल एसपी बंशीलाल कुर्रे, भोजेंद्र उइके, कर्नल सुनील मिश्रा, पूर्व डीएसपी अजीत चौबे, पूर्व डीएसपी प्रदीप मिश्रा, पूर्व डीएसपी शमशीर खान, पुरातत्वविद् इतिहासकार हेमु यदु, मो. सिराज, संगीत थैरेपी विशेषज्ञ घनश्याम शर्मा, मनौवैज्ञानिक डॉ नीता, पूर्व जेल प्रशिक्षक सुभाष वर्मा, पूर्व पत्रकार किशोर त्रिवेदी, पूर्व आईएएस आरसी सिन्हा के नाम भी शामिल हैं। कुल 24 लोगों ने भाजपा प्रवेश किया। 

21-09-2018
Amit Shah: अमित शाह ने कांग्रेस पर किया प्रहार, बताया भाजपा ने क्या-क्या काम किया

रायपुर।  शक्ति केंद्र संयोजक सम्मेलन को संबोधित करते हुए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष  अमित शाह ने कांग्रेस पर तीखा हमला किया। इसके साथ ही उन्होंने केंद्र व राज्य की योजनाओं का हिसाब भी दिया। उन्होंने कहा कि दुनिया का सबसे लोकप्रिय नेता नरेंद्र मोदी भाजपा के पास है। हमारा प्रधानमंत्री दिन रात काम करता है। अब कोई अपने पिता  को बगैर ईलाज मरते नहीं देखेंगे। आयुष्मान भारत के तहत 5 लाख तक उपचार की सुविधा  ह म दे रहे हैं।  भाजपा के शासन में सर्जिकल स्ट्राइक कर पाकिस्तान में घुसकर जवान को मारकर आ रहे हैं। 

देश में  जितने चुनाव हुए भाजपा की जीत हुई, जहां नहीं हुई वहां 2019 में भाजपा की सरकार आएगी।  मोदी जब भी विदेश जाते हैं, वहां मोदी-मोदी के नारे लगते हैं। यह स्वागत मोदी जी का नहीं, बल्कि सवा करोड़ भारतवासी  का सम्मान हो रहा है। हम अपने कामों का जनता को हिसाब दे रहे हैं। राहुल गांधी खुले आंखों से सपने देख रहे हैं।

देश में घुसपैठिए को निकालन चाहिए या नहीं चाहिए। 40 लाख घुसपैठिए आ गए हैं। हम एक भी घुसपैठिए को देश में नहीं रहने देंगे। 12 करोड़ युवाओं को काम दिया। किसानों को उनकी मांग के अनुरुप बोनस दिया। श्री शाह ने कहा कि  जो प्रधानमंत्री की हत्या करने का षडयंत्र करें, उसे पकड़ना चाहिए या नहीं चाहिए। जो जाति हिंसा फैलाए उसे पकड़ना चाहिए कि नहीं चाहिए। राहुल बताए कि आप माओवादियों के साथ है कि या नहीं है,  हमारा स्टैंड जनसंघ के जमाने से ही क्लियर है। 

21-09-2018
Exclusive: कई पूर्व IPS, IRS, IFS समेत एनटीपीसी के पूर्व अधिकारी भी भाजपा में करेंगे प्रवेश,देंखे नाम

रायपुर। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के सामने भाजपा प्रवेश करने वाले 24 लोगों में पूर्व आईपीएस राजीव श्रीवास्तव के अलावा पूर्व डीआईडी एनकेएस ठाकुर, पूर्व आईआरएस अशोक सिंह, आईएफएस कृष्णकुमार पूर्व आईएफएस राकेश तिवारी, पूर्व सूचना प्रसारण सेवा अधिकारी विमल चंद्र, पूर्व डीएसपी मोहन दुबे, एनटीपीसी के पूर्व प्रबंधक हेमंत धागमवार के नाम शामिल हैं।

 ये सब अफसर अमित शाह के कार्यक्रम स्थल लॉजिस्टिक पार्क पहुंच गए हैं। भाजपा में प्रवेश करने वाले लोगों में समाजसेवी शुभांगी आप्टे भी शामिल हैं। अमित शाह के सामने भाजपा प्रवेश लेने वालों में पूर्व आईआरएस अरविंद श्रीवास्तव, पूर्व एडिशनल एपी आरके शर्मा, पूर्व एडिशनल एसपी बंशीलाल कुर्रे, भोजेंद्र उइके, कर्नल सुनील मिश्रा, पूर्व डीएसपी अजीत चौबे, पूर्व डीएसपी प्रदीप मिश्रा, पूर्व डीएसपी शमशीर खान, पुरातत्वविद् इतिहासकार हेमु यदु, मो. सिराज, संगीत थैरेपी विशेषज्ञ घनश्याम शर्मा, मनौवैज्ञानिक डॉ नीता, पूॆर्व जेल प्रशिक्षक सुभाष वर्मा, पूर्व पत्रकार किशोर त्रिवेदी, पूर्व आईएएस आरसी सिन्हा के नाम भी शामिल हैं। कुल 24 लोग भाजपा प्रवेश ले रहे हैं। 

21-09-2018
Road Accident : अमित शाह के कार्यक्रम में जा रहे पूर्व विधायक ओमप्रकाश राठिया सड़क हादसे में घायल 

रायगढ़। रायपुर में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के कार्यक्रम में शामिल होने रायपुर जा रहे पूर्व विधायक ओमप्रकाश राठिया की गाड़ी को ट्रक ने पीछे से ठोकर मार दी। यह ठोकर इतना जबर्दस्त था कि वाहन के परखच्चे उड़ गए। हालांकि श्री राठिया समेत 4 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। घटना के  धरमजयगढ़ क्षेत्र की है। हादसे में पूर्व विधायक ओम प्रकाश राठिया सहित 4 भाजपा नेता गंभीर रूप से घायल हो गए है। हादसे से घायल सभी 

लोगों को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं पूर्व विधायक राठिया को गंभीर चोट आई है, हालत को देखते हुए उन्हें रायपुर रेफर कर दिया गया है। अभी आईसीयू में उनका उपचार जारी है। 

20-09-2018
Amit Shah: छत्तीसगढ़ के कद्दावर नेताओं की धड़कने तेज, क्या कल अमित शाह करेंगे इनके भविष्य का फैसला

रायपुर। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह कल यानि शुक्रवार को रायपुर पहुंचेंगे। अमित शाह सुबह 11 रायपुर पहुंचने के बाद सबसे पहले भाजपा के नए कार्यालय कुशाभाऊ ठाकरे परिसर जाएंगे। उसके बाद लॉजिस्टिक पार्क में 14 हजार कार्यकर्ताओं को जीत का मंत्र देंगे। जिन कार्यकर्ताओं को अमित शाह दो घंटे संबोधित करने वाले हैं, ये कोई आम कार्यकर्ता नहीं हैं, बल्कि इनमें शक्ति केंद्र प्रभारी, बूथ पालक और बूथ प्रभारी ही शामिल हैं। 

800 विशेष कार्यकर्ताओं से लेंगे मंत्रियों-विधायकों का फीडबैक

अमित शाह का छत्तीसगढ़ दौरा इस लिहाज से भी महत्वपूर्ण है कि वे  800 विशेष कार्यकर्ताओं से वन टू वन बात करेंगे। इन कार्यकर्ताओं में समयदानी, जिलाध्यक्ष, जिला महामंत्री और कोर कमेटी सदस्य शामिल हैं। शाह इनसे इनके विधानसभा सीट वार मंत्रियों, भाजपा विधायकों और संभावित उम्मीदवारों का फीडबैक लेंगे। इसी बैठक में छत्तीसगढ़ के कई कद्दावर नेताओं का भविष्य तय होगा। मंत्रियों की टिकट कटने की जो सूचनाएं लगातार भाजपा खेमे से आ रही हैं, इस बैठक के बाद तय हो जाएगा कि किसकी टिकट कटनी है और कौन मंत्री-विधायक टिकट देने के लायक है। यही कारण है कि शाह के दौरे के पहले दिग्गज नेताओं की धड़कने तेज हो गई हैं। 

5 हजार बाइकर्स के साथ रैली की शक्ल में पहुंचेंगे कार्यालय

छत्तीसगढ़ भाजपा ने अमित शाह के जोरदार स्वागत की तैयारी की है। एयरपोर्ट से भाजपा कार्यालय तक शाह को रैली के रूप में लाया जाएगा। अमित शाह की रैली मेें 5 हजार बाइकर्स भी शामिल होंगे। इसके अलावा प्रदेश भर से कार्यकर्ता अमित शाह के स्वागत के लिए रायपुर पहुंचेंगे। 

सादा भोजन लेंगे अमित शाह

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष के दौरे की तैयारियों में लगे भाजपा के एक नेता ने नाम ना छापने की शर्त पर बताया कि शाह के लिए सादा भोजन तैयार करवाया जाएगा। उनके मैन्यू में कोई विशेष व्यंजन शामिल नहीं किया गया है। इसके पहले के दौरे में भी शाह ने केवल सादी सब्जी, रोटी, दाल और चावल भोजन में शामिल करवाया है। उसे देखते हुए इस बार भी सादा भोजन ही रखा गया है। 

मोदी के साथ लौटेंगे या पहले, इसे लेकर संशय

अमित शाह 21 सिंतबर को रायपुर पहुंचेंगे। उसके ठीक एक दिन बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रायपुर आकर जांजगीर चांपा जाएंगे। अमित शाह 20 सिंतबर को ही वापस लौंटेंगे या नरेंद्र मोदीद के कार्यक्रम में शामिल होने के लिए रुकेंगे, इसे लेकर अभी भाजपा में भी संशय है। 

20-09-2018
BJP: भाजपा 29 को मनाएगी सर्जिकल स्ट्राइक की दूसरी वर्षगांठ 
जोरदार तरीके से मनाने की कवायद जारी, राजनीतिक रोटियां सेंकने की कवायद
16-09-2018
Bhubaneswar Kalita : स्क्रीनिंग कमेटी को चुनाव कमेटी ने नहीं सौंपी सूची: कलिता 
16-09-2018
BJP: भाजपा की संभागिय बैठक जारी, पीएम मोदी के आगमन पर तैयार हो रही रूपरेखा

जांजगीर-चांपा। विधानसभा चुनाव के ठीक पहले पहली बार जांजगीर आ रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आगमन को लेकर भाजपा नेता व कार्यकर्ताओं में काफी उत्साह देखने मिल रहा है। यह पहली बार है जब किसी प्रधानमंत्री का जांजगीर में आगमन हो रहा है। उनके दौरे को लेकर आज रविवार को भाजपा की संभाग स्तरीय बैठक चल रही है जिसमें उनके आगमन की तैयारियों को लेकर अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिया जा रहा है। बैठक में भाजपा संगठन से सौदान सिंह और धरमलाल कौशिक, खाघ मंत्री पुन्नू लाल मोहले, पूर्व गृह मंत्री ननकी राम कंवर, पूर्व विधान सभा उपाध्यक्ष नारायण चंदेल समेत तमाम बड़े नेता शामिल हैं।

वहीं दूसरी ओर जिला और पुलिस प्रशासन ने सुरक्षा व्यवस्था, रूट चार्ट और पार्किंग सहित तमाम मामलों को लेकर पूरी तैयारी शुरू कर दी है। पीएम की सभा में भीड़ को देखते हुए जांजगीर की पुलिस लाइन में बड़ा डोम बनाया जा रहा है।

बता दें की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 22 सितंबर को जांजगीर आएंगे। उनके कार्यक्रम के लिए प्रशासनिक तैयारियां तेज गति से चल रही हैं। पुलिस लाइन और होम गार्ड्स ग्राउंड में उनकी सभा होगी। मोदी सेना के हेलिकॉप्टर से जांजगीर पहुंचेंगे। उनके साथ एसपीजी के दो और हेलिकॉप्टर रहेंगे। उनके उतरने के लिए तीन नए हेलीपैड पुलिस ग्राउंड में बनाए जा रहे हैं।

16-09-2018
Panchayat Election : त्रिपुरा की 96 फीसदी सीटों पर कमल खिलना तय 

त्रिपुरा। भारत के पूर्ववर्ती राज्य त्रिपुरा में होने वाले पंचायत उपचुनाव में भाजपा की 96 प्रतिशत सीटों पर निर्विरोध जीत तय है। दरअसल त्रिपुरा में आगामी 30 सितंबर को 3207 ग्राम पंचायत सीटों, 161 पंचायत समिति सीटों और 18 जिला परिषद की सीटों पर चुनाव होने हैं। इसमें से भाजपा 3075 ग्राम पंचायत सीटों, 154 पंचायत समिति और सभी 18 जिला परिषद की सीटों पर निर्विरोध जीत दर्ज करेगी। इस चुनावों के लिए नामांकन करने का आखिरी तारीख 11-12 सितंबर थी। साथ ही नामांकन वापस लेने की आखिरी तारीख 14 सितंबर थी। ऐसे में राज्य की इन 96 प्रतिशत पंचायत सीटों पर भाजपा का कब्जा तय है।

क्यों कराए जा रहे उप चुनाव:

बीते विधानसभा चुनाव में भाजपा की जीत के बाद बड़े पैमाने पर लेफ्ट पार्टी के नेताओं ने इस्तीफा दे दिया था। इसके बाद अब इन सभी सीटों पर उप-चुनाव कराए जा रहे हैं।

पंचायत उप-चुनावों में भाजपा की इस जोरदार जीत के बाद विपक्षी पार्टी सीपीआई ने भाजपा पर उसके कैडर को धमकाने का आरोप लगाया है, जिस कारण उनके नेता नामांकन नहीं कर सके और भाजपा को एकतरफा जीत हासिल हुई।

लेफ्ट नेताओं ने चुनावी प्रक्रिया पर उठाए सवाल:

लेफ्ट नेताओं का कहना है कि राज्य में निष्पक्ष चुनाव के हालात नहीं हैं और राज्य निर्वाचन आयोग ने भी इस दिशा में कोई ठोस कदम नहीं उठाया है। लेफ्ट का आरोप है कि 35 ब्लॉक में से 28 पर भाजपा ने उनके नेताओं को नामांकन ही नहीं करने दिया। हालांकि भाजपा ने लेफ्ट पार्टी के इन आरोपों को नकार दिया है।

भाजपा और आईपीएफटी कार्यकर्ताओं के बीच हुई झड़पें:

उल्लेखनीय है कि पंचायत उपचुनावों के दौरान विधानसभा में सहयोगी पार्टियों आईपीएफटी और भाजपा के बीच भी मतभेद देखने को मिले। इतना ही नहीं कई जगहों पर भाजपा और आईपीएफटी कार्यकर्ताओं के बीच हिंसक झड़पें भी हुईं, जिसमें 19 भाजपा, आईपीएफटी कार्यकर्ताओं समेत कुछ पुलिस कर्मी भी घायल हुए हैं। शनिवार को भाजपा और आईपीएफटी ने एक बैठक कर अपने मतभेद दूर करने का फैसला किया है।

सीपीआई पर मतभेद कराने का आरोप:

दोनों ही पार्टियों का आरोप है कि सीपीआई दोनों पार्टियों के बीच मतभेद कराना चाहती है, लेकिन अब दोनों ही पार्टियों ने आपसी मतभेद दूर करने के लिए एक 14 सदस्यीय कमेटी का गठन किया है, जो कि दोनों पार्टियों के बीच समन्वय कायम करने का काम करेगी।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804
Visitor No.