GLIBS
23-08-2020
Video: चार वर्षीय बालिका हुई गुम, खोजबीन के बाद मिली लाश

राजनांदगांव। जिला मुख्यालय से महज 9 किलोमीटर दूर खैरागढ़ रोड पर स्थित ग्राम कांकेतरा में दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। यहां एक 4 वर्षीय बच्ची को मौत के घाट उतार दिया गया। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार राजनांदगांव से खैरागढ़ रोड पर स्थित ग्राम कांकेतरा में एक ग्रामीण ने चिखली थाना में रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि उसकी 4 वर्षीय बच्ची शाम 5 बजे से लापता है। इस पर पुलिस ने गुम इंसान कायम किया और बच्ची की खोजबीन शुरू की। खोजबीन में पुलिस को कुछ लोगों पर संदेह हुआ। पूछताछ में पता चला कि उक्त बच्ची की हत्या कर दी गई है। पुलिस ने बताया कि 4 वर्ष की बच्ची जिसकी शाम 5 बजे लापता की जानकारी मिली थी कि लाश मिली है। संदेह के आधार पर एक युवक को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। महापौर हेमा देशमुख भी सूचना मिलते ही पोस्टमार्टम स्थल पर पहुंची तथा परिवार को सांत्वना दी।

 

06-07-2020
Video : चिट फंड कंपनी के 4 डारेक्टर गिरफ्तार, खैरागढ़ भाजपा मंडल अध्यक्ष भी शामिल

राजनांदगांव/खैरागढ़। पुलिस महानिदेशक छत्तीसगढ़ ने पूरे प्रदेश में आदेश जारी कर चिटफंड कंपनियों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिये थे। जिसके तहत खैरागढ़ थाना प्रभारी लोमेश सोनवानी ने कार्रवाई करते हुए सर्वोदय चिटफंड कंपनी के 7 डायरेक्टर में से 4 को गिरफ्तार किया। थाना प्रभारी इसमें खैरागढ़ भाजपा मंडल अध्यक्ष कमलेश कोठले ,राजकुमार साहू, सत्यपाल वर्मा व छम्मन साहू शामिल हैं। जबकि 3 आरोपी तरुण साहू, रंजीत सोनेकर, आवेली माइंस बालाघाट व राजेश स्वासी रांची झारखण्ड फरार हैं। 3 फरार आरोपियों की भी पतासाजी की जा रही है।  इन सभी के खिलाफ आईपीसी की धारा 420, चिटफंड अधिनियम 1982 की धारा 3,4,5 के तहत अपराध कायम कर गिरफ्तार किया गया है। आरोपियों को विशेष न्यायाधीश राजनांदगांव के समक्ष पेश किया गया, जहां से इन्हें जेल भेज दिया गया।

27-06-2020
Video: पुलिस ने सुलझाई अंधे कत्ल की गुत्थी, चार आरोपी गिरफ्तार

राजनांदगांव। खैरागढ़ क्षेत्र अंतर्गत गातापार जंगल के भावे में एक लाश मिली थी,जिसकी धारदार हथियार से हत्या की गई थी। तब नक्सलियों द्वारा मुखबिरी के शक में हत्या होने का शक भी व्यक्त किया गया था। लेकिन जांच करने पर कुछ लोगों को पूछताछ की गई तो पता चला कि मृतक अपनी भाभी और भाई की हत्या के आरोप में जेल में था तथा नक्सलियों का नाम लेकर गांव वालों को धमकाता था। चारों व्यक्तियों ने एक मत होकर कीटनाशक दवा शराब में मिलाकर पिलाई तथा धारदार हथियार से हत्या कर लाश को घसीटते हुए खेत में फेक दिया था। इस तरह पुलिस ने 4 दिन के अंदर अंधे कत्ल की गुत्थी सुलझाने में सफलता हासिल की।

 

22-06-2020
जिले में मिले एक दर्जन से अधिक कोरोना पॉजिटिव, एक विधायक भी शामिल

राजनांदगांव। जिले में सोमवार को एक दर्जन से अधिक कोरोना से संक्रमित लोगों की पहचान हुई है। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार राजनांदगांव सहित आसपास के क्षेत्र में कोरोना संक्रमित मिले है। विभाग के अनुसार जिले में कोरोना 15 पॉजिटिव की पहचान हुई है। इसमें जिले के 1 विधायक भी कोरोना पाजिटिव पाए गए हैं। इसके अलावा चौकी, खैरागढ़, डोंगरगांव, बागनदी तथा मोहला से कोरोना पॉजिटिव के मिलने की खबर है। स्वास्थ्य विभाग की टीम सभी को मेडिकल कॉलेज अस्पताल पेंड्री में लाने की तैयारी में है। स्वास्थ्य विभाग ने इसकी पुष्टि की है।

 

14-06-2020
'बस्तर टॉक' में शामिल हुए युवा रंगकर्मी डॉ. योगेंद्र चौबे

रायपुर/जगदलपुर। युवा फिल्म निर्देशक, इंदिरा कला संगीत विश्वविद्यालय,खैरागढ़ के नाट्य विभाग के सहायक प्राध्यापक व एनएसडी के पूर्व छात्र डॉ.योगेंद्र चौबे ने सिनेमा व रंगमंच के बदलते प्रतिमान विषय पर बतौर वक्ता 'बस्तर टॉक' पहले सीजन में शामिल हुए। उन्होंने कहा कि जिंदगी में किसी चीज को देखने की नजरिया ही आपके भीतर की कला को विकसित करता है और उसी के माध्यम से आप प्रदर्शन कला के साथ जुड़कर अपनी अभिव्यक्ति को व्यक्त करते हैं। उन्होंने कहा कि सिनेमा और रंगमंच समाज का दर्पण है,जहां हम अपने प्रतिबिंब को खोजते हैं। राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय के पूर्व छात्र डॉ.चौबे ने कहा कि वर्तमान में सिनेमा और रंगमंच की विधा में काफी बदलाव आया है तो हम दूसरे शब्दों में कह सकते हैं कि इन विधाओं का आज अत्यधिक विकेंद्रीकरण हुआ है। जिससे हम अधिक से अधिक लोगों को इस माध्यम से जुड़ पा रहे हैं। इसे देखने का नजरिया काफी बदला है और यह माध्यम और भी सहज भी हुआ है। उन्होंने कहा कि आपके विचार और आपके सामने मौजूद बाजार में  संतुलित बिठाकर इस विधा से स्वरोजगार प्राप्त कर सकते हैं। यह एक स्वर्णिम युग है। इस समय सिनेमा बनाना बहुत सहज हुआ है। उन्होंने कहा कि बस्तर की लोक कलाओं की चर्चा पुरी दुनिया में है। इसकी वजह यहां की मौलिक नृत्य शैली और नाट्य शैली है। यहाँ की नाट्य शैली भतरा नाट ऐसी विधा है। जिस पर वहां के लोक कलाकार और रंगकर्मी बेहतर काम कर रहे हैं। इस विधा को आमजन तक पहुंचाने में जुटे हुए हैं। उन्होंने कहा कि जीवन के रण में सफल होने के लिए इस में प्रशिक्षण जरूरी है। सिनेमा व रंगमंच  की विधा में युवा पीढ़ी को प्रशिक्षित होकर आना चाहिए ताकि वे खुद को सिद्ध कर एक मुकाम प्राप्त कर सकें।

02-06-2020
एक ही दिन पुलिस ने दो जगह मारा छापा, जुआ खेलते 11 गिरफ्तार 

राजनांदगांव। खैरागढ़ में 1 लाख 15 हजार का जुआ पकड़ने के बाद पुलिस चौकी चिचोला को सूचना मिली कि चिचोला बंजारी के जंगल में कुछ लोग ताश पत्ती पैसा लगाकर खेल रहे हैं। पुलिस ने दबिश देकर जुआ खेल रहे 11 जुआरी पकड़े जिनसे 2 लाख 2 हजार 600 रुपए जब्त किया गया। 11 नग मोबाइल भी जब्त किए गए। एक ही दिन में पुलिस द्वारा दो जगह कार्यवाही करने से जुआरियों में हड़कंप मच गया है।

19-04-2020
अलग-अलग जगहों से 250 पेटी अवैध शराब जब्त, 7 लोग गिरफ्तार

राजनांदगांव। पुलिस अधीक्षक जितेंद्र शुक्ला ने कार्य भार संभालते ही जिले के समस्त थाना प्रभारियों को अवैध शराब के खिलाफ मुहिम चलाकर कार्यवाही करने के निर्देश दिये गए थे। इसी के तहत जिले के डोंगरगढ़, खैरागढ़, घुमका, चौकी मोहारा, चौकी तुमड़ीबोड क्षेत्र में ताबड़तोड़ कार्यवाही करते हुए 2 दिनों के अंदर लगभग 250 पेटी धार मध्य प्रदेश निर्मित गोआ शराब जब्त की गई जिसके बाजार मूल्य लगभग 10 लाख रुपये है। विभिन्न थाना क्षेत्रों मे कार्यवाही के दौरान 7 लोगो को हिरासत में लिया गया जिनके खिलाफ धारा 34/2 के तहत कार्यवाही कर जेल भेज दिया गया। वहीं फरार मुख्य आरोपी पर पुलिस अधीक्षक ने 5 हजार रुपए का इनाम भी घोषित किया है।

 

 

18-04-2020
धान से भरे ट्रक में लगी आग

राजनांदगांव। खैरागढ़ मार्ग पर चिखली पुलिस चौकी के पास खैरागढ़ की ओर से धान भरकर आ रहे ट्रक में अचानक आग लग गई। आस पास रहने वाले लोगों ने तत्काल फायर बिग्रेड को फोन किया। फायर बिग्रेड के पहुंचने के पहले स्थानीय निवसियों ने घरों से पानी लाकर आग बुझाने का प्रयास किया। इसी बीच फायर बिग्रेड पहुंची तब आग पर काबू पाया जा सका। शीघ्र ही आग पर काबू पा लेने से बड़ी घटना टल गई क्योंकि वहीं पास में पेट्रोल पंप भी है।

22-11-2019
Breaking : अज्ञात युवकों ने किया नवविवाहिता का अपहरण, पुलिस ने की नाकाबंदी

राजनांदगांव। खैरागढ़ छुईखदान मार्ग पर स्कॉर्पियों सवार अज्ञात युवकों ने दिनदहाड़े नवविवाहिता का अपहरण कर लिया। युवती का नाम उषा लहरे और उसके पति का नाम खिलेंद्र बताया जा रहा है। दोनों नागपुर में रहते है और खैरागढ़ युवती के ननिहाल आये थे। इस दौरान आरोपियों ने युवती के पति की आँखों में मिर्ची पाउडर डालकर इस घटना को अंजाम दिया। प्रार्थी पति की शिकायत की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर इलाके में नाकेबंदी कर जांच शुरू कर दी है।

 

16-10-2019
प्रशासन मस्त जनता पस्त, शहर में आवारा मवेशियों का आतंक

डोंगरगढ़। नगर में आए दिन हो रहे सड़क हादसों के मुख्य कारणों में से एक है आवारा मवेशी, जी हां विडंबना कुछ ऐसी है कि हाईकोर्ट के आदेश के बावजूद भी नगरपालिका के अधिकारी इस ओर ध्यान देना जरूरी नहीं समझ रहे है|  नगर के प्रमुख मार्ग जैसे खैरागढ़ रोड हो या ओवर ब्रिज, जो शहर को हाई वे से जोड़ता है उन पर खुले आम मवेशी घूमते या बीच रोड पर बैठे नजर आएंगे, जो हादसों को दावत देते है। छत्तीसगढ़ हाई कोर्ट द्वारा एक जनहित याचिका में आदेश पारित कर नगरीय निकायों में घूमते मवेशियों को पकड़ कर उनके मालिकों के खिलाफ कार्यवाही करने का आदेश दिया, जिसे दरकिनार कर स्थानीय प्रशासन अपनी ही मनमानी करने पर आमादा है।  शहर के इन मुख्य मार्गो पर कॉलेज और स्कूल भी है, जिनमें देश के भविष्य कहे जाने वाले बच्चे पढ़ते हैं। जब मीडिया ने उनसे बात की तो उन्होंने अपने व्यथा बताई और कहा कि उन्हें भी आए दिन रोड ऐक्सिडेंट का डर सताता रहता है। एक तो रोड पर दौड़ते तेज वाहन और उपर से बीच में घूमते मवेशी ऐसा लगता है जाए कहा ?  ऐसे में क्या प्रशासन की यह नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती की वह हाईकोर्ट के आदेश का सम्मान करे और मानवता का परिचय देते हुए लोगों के मन में व्याप्त रोड ऐक्सिडेंट के डर को दूर करे। 

वर्जन
शहर में आवारा मवेशियों को मुख्य मार्गो से पालिका कर्मचारियों द्वारा लगातार हटाया जा रहा है, जिससे आवागमन सुचारू हो सके। साथ ही शहर में तीन स्थानों पर गौठान निर्माण के लिए जमीन की मांग शासन से की गई है।
सुभाष दीक्षित, सीएमओ नगरपालिका परिषद डोंगरगढ़ 

22-09-2019
कैदी को बरी कराने फर्जी पुलिसकर्मी ने लिए 80 हजार, अपराध दर्ज

रायपुर। राजधानी के उरला थाने में एक अनोखा मामला सामने आया है। पेशी के दौरान कोर्ट आने वाले कैदी को फर्जी पुलिसकर्मी ने केस से बरी कराने का झांसा दिया। आरोपी ने इसके लिए 80 हजार रुपए भी ले लिए, लेकिन कैदी बरी न हो सका। शिकायत पर पुलिस ने अपराध कायम किया है। आगे कार्रवाई की जा रही है। जानकारी के अनुसार गांधी नगर निवासी जितेन्द्र देवांगन ने मामले में शिकायत की है। जितेन्द्र ने पुलिस को बताया कि फरवरी 2019 को उसके भाई के आपराधिक मामले में उसे भी जेल भेज दिया गया था। इस मामले में वह जेल से जब भी पेशी में जाता उसे संदीप वर्मा नामक व्यक्ति मिलता। संदीप ने खुद जितेन्द्र से संपर्क किया और बताया कि वह खैरागढ़ में सिविल लाइन थाना में पदस्थ है। केस से सभी को बरी कराने 5 लाख रुपए लगेंगे वहीं सिर्फ जितेन्द्र को बरी कराने 1 लाख रुपए की मांग की। आरोपी ने मामले में जितेन्द्र के परिजनों से भी संपर्क किया। बात 80 हजार रुपए में तय की गई। जितेन्द्र ने एक बार आरोपी के खाते में और दो बार नगद रुपए देकर 80 हजार रुपए दे दिए। इसके बाद न आरोपी मिला और न ही बरी कराने के संबंध में बात की। धोखाधड़ी का पता चलने पर जितेन्द्र ने उरला थाने में शिकायत की। पुलिस ने मामले में धारा 170, 419, 420 के तहत अपराध कायम किया है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804