GLIBS
24-03-2020
कवासी लखमा ने 1 माह का,विभाग के अधिकारी-कर्मचारी ने दिया वेतन का कुछ  हिस्सा दिया

रायपुर। कोरोना वायरस के रोकथाम के लिए आबकारी एवं उद्योग मंत्री कवासी लखमा ने मुख्यमंत्री सहायता कोष के लिए अपना एक माह का वेतन दिया। आबकारी एवं उद्योग विभाग के प्रथम श्रेणी द्वितीय अधिकारियों का दस दिवसीय एंव तृतीय श्रेणी तीन दिवस का वेतन मुख्यमंत्री कोष को देने का निर्णय लिया गया। कोरोना जैसे राष्ट्रीय आपदा से निपटने मुख्यमंत्री द्वारा किए जा रहे प्रयासों के लिए मंत्री लखमा ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को धन्यवाद ज्ञापित किया।

18-03-2020
Breaking : फूलोदेवी नेताम और केटीएस तुलसी राज्यसभा के लिए निर्विरोध निर्वाचित

रायपुर। राज्यसभा निर्वाचन के लिए बुधवार को नाम वापसी की अन्तिम तिथि के बाद विधानसभा में रिटर्निग अधिकारी ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की उपस्थिति में फूलोदेवी नेताम और केटीएस तुलसी के निर्वाचन प्रमाण पत्र प्रदान किए। फूलोदेवी नेताम ने स्वयं और   केटीएस तुलसी का प्रमाण पत्र उनकी अनुपस्थिति में नगरीय विकास मंत्री डॉ शिव डहरिया ने ग्रहण किया।

इस अवसर पर संसदीय कार्यमंत्री रविन्द्र चौबे, उद्योग मंत्री कवासी लखमा, विधायक मोहन मरकाम सहित अनेक जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

 

05-03-2020
विपक्ष ने नहीं सत्तापक्ष के विधायक ने घेरा आबकारी मंत्री को, जानिए क्या है मामला...

रायपुर। कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष और विधायक मोहन मरकाम ने एक सवाल के साथ अपनी ही पार्टी के आबकारी मंत्री कवासी लखमा को घेर लिया है। बता दें कि छत्तीसगढ़ विधानसभा बजट सत्र के आठवें दिन सदन में मरकाम ने शराब दुकानों में अनियमितता से जुड़े सवाल उठाया, जिसे मंत्री ने खारिज कर दिया। मरकाम ने सदन में सवाल किया कि शराब दुकानों में काम करने वाले कर्मचारियों से अमानत राशि क्यूं ली जा रही है। कवासी ने जवाब में सीधे सवाल को खारिज करते हुए कहा कि इस तरह का कोई भी नियम ही नहीं है। कर्मचारियों से किसी भी प्रकार की अमानत राशि नहीं ली जाती। इस संबंध में अगर कोई शिकायत है तो उस पर कार्रवाई की जाएगी।

19-02-2020
कवासी लखमा ने कुपोषित बच्चों के लिए ‘सुपोषण टोकरी‘ में मांगा दान

धमतरी। उद्योग मंत्री तथा जिले के प्रभारी मंत्री कवासी लखमा ने  बुधवार को धमतरी विकासखण्ड की ग्राम पंचायत संबलपुर में आयोजित सुपोषण जागरूकता शिविर में शिरकत की। शिविर में प्रभारी मंत्री लखमा ने अपने हाथों में सुपोषण टोकरी लेकर कुपोषित बच्चों को सुपोषित करने यथासंभव सहयोग मांगा, जिस पर मौजूद जनप्रतिनिधियों, ग्रामीणों ने खुलकर दान दिया। सुपोषण टोकरी में दान स्वरूप कुल 13 हजार 30 रूपए की राशि एकत्र हुई। ग्राम पंचायत सम्बलपुर में आयोजित सुपोषण शिविर में कवासी लखमा ने कहा कि गांधी और नेहरू के सपनों के भारत को साकार करने का काम मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार कर रही है, जिसके तहत बच्चों को कुपोषण के अभिशाप से मुक्त करने मुख्यमंत्री ने गांधी जयंती के अवसर पर 2 अक्टूबर 2019 को सुपोषण अभियान का आगाज किया।

उन्होंने आगे कहा कि धमतरी एक समृद्ध और सम्पन्न जिला है, जहां पर कुपोषित बच्चों को नया जीवन प्रदान करने में प्रत्येक व्यक्ति अपनी सहभागिता एवं सहयोग दे सकता है। इस दौरान मंत्री लखमा ने ’सुपोषण टोकरी’ में उपस्थितजनों से यथासंभव सहयोग मांगा,जिसमें लोगों ने मुक्त हस्त से दान दिया। टोकरी में कुल 13 हजार 30 रूपए की सहयोग राशि जमा हुई,जिसे नौनिहालों को स्वस्थ व सुपोषित बनाने के लिए विभाग को भेंट की। साथ ही छह शिशुवती माताओं को विभिन्न पौष्टिक आहार वाले व्यंजनों से युक्त टोकरी को प्रभारी मंत्री ने भेंट किया। इसके पहले, मंत्री एवं अन्य जनप्रतिनिधियों ने मुख्य मार्ग से शिविर स्थल तक साइकिल चलाकर सुपोषण एवं जनजागरूकता का संदेश दिया। मंत्री कवासी लखमा ने शिविर में सुपोषण पर लगाई प्रदर्शनी का अवलोकन भी किया। इस अवसर पर महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा सुपोषण प्रदर्शनी लगाई गई तथा ग्रामीणों को सुपोषण के संबंध में जानकारी दी गई। इस अवसर पर महापौर विजय देवांगन, जिला पंचायत अध्यक्ष कांतिबाई सोनवानी, उपाध्यक्ष नीशु चन्द्राकर, वरिष्ठ नागरिक मोहन लालवानी,शरद लोहाना सहित जनप्रतिनिधि एवं काफी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।

 

14-02-2020
कवासी लखमा के बेटे निर्विरोध चुने गए सुकमा जिला पंचायत अध्यक्ष  

सुकमा। प्रदेश के उद्योग मंत्री कवासी लखमा के बेटे ने सुकमा जिला पंचायत अध्यक्ष का चुनाव जीत लिया है। हरीश कवासी निर्विरोध अध्यक्ष चुने गए हैं। सुकमा के दो जनपद और जिला पंचायत पर कांग्रेस का कब्जा हो चुका है। इस तरह विधानसभा चुनाव में बस्तर में कांग्रेस के परचम लहराने के बाद पंचायत चुनाव में भी कांग्रेस ने अपना कब्जा बरकरार रखा है।

09-02-2020
भूपेश बघेल ने साधु संतों की उपस्थिति में किया राजिम माघी पुन्नी मेला का शुभारंभ

गरियाबंद(राजिम)। राजिम माघी पुन्नी मेला का 9 फरवरी को विधिवत शुभारंभ हुआ। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने महोत्सव स्थल से भगवान राजीवलोचन के चलचित्र पर दीप प्रज्वलित कर मंत्रियों और साधु संतों की उपस्थिति में शुभारंभ किया। इस अवसर पर मंत्री ताम्रध्वज साहू, कवासी लखमा, अनिला भेड़िया, विधायक अमितेष शुक्ल, धनेंद्र साहू मौजूद थे। अमरकंटक अग्निपीठाधीश्वर रामकृष्णानंद महाराज भी मौजूदगी में राजिम माघी पुन्नी मेले की आज 9 फरवरी से विधिवत शुरुवात हो गई है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने महोत्सव स्थल से भगवान राजीवलोचन के छायाचित्र पर दीप प्रज्वलित कर इसका शुभारंभ किया। माघ पूर्णिमा से महाशिवरात्रि तक चलने वाले इस मेले की प्रदेश में एक अलग ही पहचान है। तीन नदियों के संगम स्थल पर आयोजित होने वाले इस मेले में छत्तीसगढ़ के अलावा देश विदेश से भी बड़ी संख्या में श्रद्धालु शामिल होते है। आज हजारों श्रद्धालुओं ने त्रिवेणी संगम में डुबकी लगाकर पुन्नी स्नान किया। राजीवलोचन और कुलेश्वर मंदिर दर्शन के लिए भी श्रद्धालुओं की भारी भीड़ देखने को मिली। अमरकंटक अग्निपीठाधीश्वर रामकृष्णानंद महाराज, राजीवलोचन मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष रामसुंदरजी महाराज, वेदरत्न सेवा प्रकल्प की सरंक्षक साध्वी प्रज्ञा भारती, सिरकट्टी आश्रम के गोवर्धनशरण महाराज, कबीर आश्रम के श्रीविचार साहेब और ब्रह्माकुमारी आश्रम की पुष्पा बहन विशेष रुप से उपस्थित रहीं।

 

06-02-2020
रायपुर की कमान मंत्री डहरिया को तो सरगुजा संभालेंगे सिंहदेव, देखिए और किन्हें, क्यों मिली जिम्मेदारी

रायपुर। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया के निर्देशानुसार छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने जिला पंचायत क्षेत्रों में अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के निर्वाचन के लिए जिलेवार पर्यवेक्षकों की नियुक्ति की है। गिरीश देवांगन, प्रभारी महामंत्री, छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने बताया कि कोरिया जिला की जिम्मेदारी बृहस्पति सिंह, सरगुजा टीएस सिंहदेव, सूरजपुर खेलसाय सिंह, बलरामपुर गुलाब कमरो, जशपुर डॉ. प्रीतम राम, रायगढ़ मोतीलाल देवांगन, कोरबा गुरूमुख सिंह होरा, मुंगेली अटल श्रीवास्तव, बिलासपुर करूणा शुक्ला, जांजगीर चांपा सुभाष शर्मा, गरियाबंद रमेश वल्यार्नी, महासमुंद अमितेष शुक्ल, धमतरी सत्यनारायण शर्मा, बलौदाबाजार बैजनाथ चंद्राकर, रायपुर डॉ. शिवकुमार डहरिया, बालोद दलेश्वर साहू, दुर्ग धनेन्द्र साहू, बेमेतरा अरूण वोरा, कवर्धा आशीष छाबड़ा, राजनांदगांव रविन्द्र चौबे, कांकेर दीपक बैज, बस्तर शिशुपाल सोरी, कोण्डागांव लखेश्वर बघेल, दंतेवाड़ा विक्रम शाह मंडावी, सुकमा रेखचंद जैन, बीजापुर कवासी लखमा, नारायणपुर संतराम नेताम को जिम्मेदारी दी गई है।

05-01-2020
कवासी लखमा ने सादगी के साथ श्री प्रयास स्कूल के बच्चों के बीच मनाया अपना जन्मदिन

 

रायपुर। छत्तीसगढ़ के आबकारी मंत्री कवासी लखमा का 66वां जन्मदिन बड़ी सादगी के साथ संतोषीनगर स्थित प्रयास संस्था के बच्चों के बीच मनाया। मंत्री लखमा को देखकर कोई भी ये नहीं कहेगा कि वो इतने उम्र के हो गए होंगे, क्योंकि उनके चेहरे में अभी चमक बरकरार है। मंत्री कवासी लखमा रविवार सुबह प्रयास संस्था के निर्धन बच्चों के बीच पहुंचे। अपने जन्मदिन को खास बनाने बच्चों के बीच बैठकर केक काटा और उन्हें खिलाई भी। मंत्री को अपने पास पाकर बच्चे काफी खुश नजर आए। तालियों की गड़गड़ाहट के साथ बच्चों ने उनका स्वागत किया। बच्चों ने लखमा को जन्मदिन की बधाई भी दी। साथ ही एक पौधा भी गिफ्ट किया। बता दें कि कवासी लखमा का जन्म साल 1953 में सुकमा जिले के नागारास गांव में हुआ था। उन्होंने कभी स्कूल का मुंह तक नहीं देखा। लेकिन मूल रूप से किसानी का काम करने वाले लखमा राज्य के गठन के बाद से ही लगातार चुनाव जीतते रहे हैं। वो बस्तर की कोंटा सीट से विधायक और राज्य के आबकारी मंत्री भी है।

31-12-2019
Breaking : समस्याओं का पूर्ण समाधान नहीं, आवेदन में आई कमी : लखमा

रायपुर। मंत्री कवासी लखमा ने कहा कि अब पहले जैसे आवेदन प्राप्त नहीं होते हैं, ऐसा नहीं है कि लोगों की समस्याओं का समाधान पूर्ण रूप से हो चुका है। हमारी सरकार के पास 5 साल हैं, लोगों की समस्याओं का निराकरण अच्छे से करने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि राजीव भवन के अलावा सभी मंत्री बंगले में और दौरे के दौरान भी लोगों से मिलते हैं, इस दौरान भी लोग आवेदन देते हैं। उक्त बातें मिलिये मंत्री से कार्यक्रम में आज वाणिज्यिक कर (आबकारी) एवं उद्योग मंत्री कवासी लखमा ने कही। मंत्री लखमा ने अपने विभाग से संबंधित आमजनों की समस्या सुनकर अधिकारियों से चर्चा की। उन्होंने जल्द समस्याओं का निराकरण करने के निर्देश दिए।

30-12-2019
Breaking : कांग्रेस ने पर्यवेक्षकों की सूची में किया बदलाव

रायपुर। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम के निर्देशानुसार नगरीय निकाय चुनाव 2019 के लिए नियुक्त पर्यवेक्षकों की सूची में संशोधन किया गया है। जगदलपुर नगर पालिक निगम में मंत्री कवासी लखमा के स्थान पर मंत्री ताम्रध्वज साहू को पर्यवेक्षक बनाया गया है। धमतरी नगर पालिक निगम में अग्नि चंद्राकर के स्थान पर मंत्री कवासी लखमा को पर्यवेक्षक बनाया गया है। गरियाबंद नगर पालिका परिषद के लिये इंदरचंद धाड़ीवाल के स्थान पर मदन तालेड़ा को पर्यवेक्षक बनाया गया है।

29-12-2019
आदिवासियों के अधिकारों के लिए एकजुट होना होगा : कवासी लखमा

रायपुर। राष्ट्रीय शोध-संगोष्ठी आदिवासी अस्मिता : कल, आज और कल, के तीसरे दिन प्रदेश के आबकारी मंत्री कवासी लखमा ने कहा कि आदिवासियों के और अधिकारों के लिए एकजुट होना होगा। प्रदेश प्राकृतिक संसाधनों और खनिज संपदा सम्पन्न हैं, जो प्रदेश के विकास में महत्वपूर्ण कड़ी है। आदिवासी प्राकृतिक संसाधनों को सहजने का कार्य करते हैं, लेकिन अधिकांश जगहों पर आदिवासियों को अपनी जमीन का पट्टा नहीं बन पाया है। शासन ने सभी को जमीन का पट्टा देने का निर्णय लिया है। माननीय सुप्रीम कोर्ट के एक फैसले से 10 लाख 80 हजार आदिवासियों को जंगल से बेदखल करने का आदेश से आदिवासी व्यथित है। मंत्री लखमा ने कहा कि इस आदेश से छत्तीेसगढ में 2 लाख 80 हजार आदिवासी भी प्रभावित हो रहे हैं। इस आदेश के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में छत्तीसगढ़ सरकार ने स्टे लिया है। मंत्री लखमा ने कहा कि आदिवासी प्रकृति पर आधारित फसल बोने से लेकर काटने और शादी जैसे रस्मों को उत्सव के रुप में मनाते हैं। इस तरह की शोध संगोष्ठी् का आयोजन बस्तर और सरगुजा संभाग में भी आयोजित किया जाएं। कार्यक्रम में विधानसभा उपाध्यक्ष मनोज मंडावी भी उपस्थित रहें। मासिक पत्रिका ‘गोडवाना स्वदेश’ के तत्वधान में 27 से 29 दिसंबर तक आयोजित तीन दिवसीय राष्ट्रीय शोध-संगोष्ठी गढ़बों नवा छत्तीसगढ़ के थीम पर आधारित “आदिवासी अस्मिता: कल, आज और कल” विषय पर देश भर के विश्वविद्यालयों से आए प्रोफेसर, शोधार्थी एवं बुद्धजीवीगण अपने शोध-आलेख एवं आदिवासी समस्याओं के चिंतन पर मंथन करने शामिल हुये हैं। आज संगोष्ठी का तीसरा और समापन का  दिन रहा है ।

कार्यक्रम के आयोजन में छत्तीसगढ़ शासन के ‘संस्कृति विभाग’ एवं ‘आदिमजाति विकास विभाग’ का विशेष सहयोग रहा। गढ़बों नवा छत्तीसगढ़ के नवसृजन के लिए प्रतिबद्ध प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और संस्कृति एवं खाद्य मंत्री  अमरजीत भगत के मार्गदर्शन में “आदिवासी अस्मिता: कल, आज और कल” पर आधारित राष्ट्रीय स्तर पर पहली बार रायपुर में शोध-संगोष्ठी का आयोजन किया गया है। इस संगोष्ठी में देश के प्रख्यात केंद्रीय विश्वविद्यालय जामिया मिलिया इस्लामिया, दिल्ली विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय दिल्ली, इंदिरा गांधी राष्ट्रीय आदिवासी विश्वविद्यालय अमरकंटक, टाटा इन्स्टीट्यूट ऑफ सोसल साइंस मुंबई, महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय विश्वविद्यालय, शांति निकेतन विश्वविद्यालय कोलकाता, गुजरात विश्वविद्यालय, केंद्रीय विश्वविद्यालय ओडिशा, गुरुघासीदास विश्वविद्यालय बिलासपुर, पं. रविशंकर विश्वविद्यालय, बस्तर विश्वविद्यालय जगदलपुर एवं मानवविज्ञान सर्वेक्षण संस्थान जगदलपुर के विषय विशेषज्ञ, प्रोफेसर एवं सैकड़ों शोधार्थियों ने अपना शोध-पत्र एवं आलेख वाचन किया। प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र का वितरण किया गया।

बस्तर के आदिवासी सामाजिक कार्यकर्ता माखनलाल शौरी ने कहा कि आदिवासी समुदाय को समझने के लिए उनके रहन-सहन बोली परम्परा और संस्कृति को समझना जरूरी है। वे हजारों वर्षों से प्रकृति की नजदीक, नदी, पहाड़ और जंगलों से जुड़े हुए हैं। शासकीय गुंडाधुर महाविद्यालय कोंडागांव के प्राचार्या डॉ. किरण नुरेटी ने आदिवासियों के जीवन पर आधारित ध्यान पद्वतियों, मनोवैज्ञानिक चिकित्सा्, प्राकृतिक चिकित्सा पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि प्रकृति शक्ति ही सर्वशक्ति मान है। इसलिए प्रकृति का बचाव करना जरुरी है। झारखंड के मानव वैज्ञानिक डॉ. शब्बीर हुसैन ने छत्तीसगढ़ के आदिवासियों की कुपोषण समस्या पर चिंता व्यक्त किया। यहां 52 प्रतिशत से अधिक आदिवासी बच्चे कुपोषण और ज्यादातर महिलाएं एनिमिया के शिकार हैं।


 

26-12-2019
Breaking : कांग्रेस ने नगर पालिका निगमवार पर्यवेक्षकों की जारी की सूची

रायपुर। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस ने नगरीय निकाय चुनाव 2019 नगर पलिका निगमवार पर्यवेक्षकों की सूची जारी की है। जिला-कोरिया नगर निगम चिरमिरी मोतीलाल देवांगन, जिला-सरगुजा, नगर निगम अंबिकापुर खेलसाय सिंह, जिला-रायगढ़, नगर निगम रायगढ़ सत्यनारायण शर्मा, जिला-कोरबा, नगर निगम कोरबा सुभाष धुप्पड़, जिला-बिलासपुर, नगर निगम बिलासपुर रविन्द्र चौबे, जिला-धमतरी, नगर निगम धमतरी अग्नि चंद्राकर, जिला-रायपुर, नगर निगम रायपुर बैजनाथ चंद्रकार, जिला-दुर्ग, नगर निगम दुर्ग धनेन्द्र साहू, जिला-राजनांदगांव, नगर निगम राजनांदगांव मोहम्मद अकबर, जिला-बस्तर, नगर निगम जगदलपुर कवासी लखमा।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804