GLIBS
16-11-2019
मुख्यमार्ग में अचानक आया भालू, लोगों में मची अफरा तरफी

कांकेर। नरहरपुर नगर पंचायत में शनिवार की रात करीब 7 बजे अचानक आ धमके भालू ने लोगों को दहशत में डाल दिया और इससे अफरा तरफी मच गई। लोग भालू के आगे पीछे दौड़ते नजर आए। मिली जानकारी के अनुसार नरहरपुर मुख्य मार्ग जहाँ लोगों की आवाजाही रहती है 16 नवम्बर की देर शाम करीब 7 बजे एक भालू के अचानक एंट्री ने लोगों को दहशत में डाल दिया, जो कि एक दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गया। हालांकि कोई अप्रिय घटना नहीं हुई। बाद में लोगों की भीड़ को देखते हुए व शोर शराबा को सुनकर भालू वहाँ से भाग निकला।

 

05-11-2019
टूटी थी रेल पटरी, ड्राइवर ने लगाया इमरजेंसी ब्रेक,टला हादसा

कटनी। जबलपुर से रीवा जा रही शटल ट्रेन मंगलवार को बड़े हादसे की शिकार होते होते बच गई। ट्रेन में बैठे यात्रियों को अचानक तेज झटका लगा, जिससे बोगियों में हड़कंप मच गया, लोग ट्रेन के रुकते ही नीचे कूदने लगे। बताया जा रहा है कि शटल पैसेंजर निवार स्टेशन से माधवनगर स्टेशन की ओर जा रही थी। तभी अचानक लोको पायलट की नजर टूटी पटरी पर पड़ी। आनन-फानन में ड्राइवर ने इमरजेंसी ब्रेक लगाकर ट्रेन को रोक दिया। इससे यात्रियों को जोर का झटका लगा, जिससे लोग दहशत में आ गए। ड्राइवर द्वारा ट्रेन को इमरजेंसी ब्रेक लगाकर रोकने से बड़ा हादसा टल गया। ट्रेन के रूकते ही यात्रियों में अफरा-तफरी मच गई।

वरिष्ठ अधिकारियों को सूचना देने के बाद रेलवे अमले ने 1 घंटे में सुधार कार्य के बाद ट्रेन को गंतव्य के लिए रवाना किया है। घटना के समय ट्रेन की सभी बोगियों में बड़ी संख्या में यात्री मौजूद थे। रेलवे के अधिकारियों ने बताया कि गाड़ी क्रमांक 51701 रीवा-जबलपुर शटल निवार स्टेशन से रवाना होकर माधव नगर की ओर जा रही थी। जैसे ही शटल गाड़ी 1073/2/3 ट्रेन किलोमीटर के पास आईबीएच सिग्नल के समीप पहुंची वैसे ही लोको पायलट की नहर टूटी हुई पटरी पर पड़ी। आनन-फानन में लोको पायलट ने ट्रेन को बड़ी दुर्घटना से बचाने के लिए इमरजेंसी ब्रेक लगाया।

04-11-2019
 सिहावा में दो बच्चों के साथ मादा तेंदुआ दिखने से क्षेत्र में दहशत

धमतरी। नगरी-सिहावा मुख्य मार्ग पर श्रृंगी ऋषि पहाड़ी के नीचे बीते कुछ दिनों से दो बच्चों के साथ मादा तेंदुआ लगातार दिखाई दे रहा है। इससे इलाके में दहशत का माहौल है। पहाड़ी के ठीक नीचे महानदी जलाशय पड़ता है। लोगों का मानना है की तेंदुआ अपना प्यास बुझाने के लिए नदी में पहुंचता है।  मुख्य मार्ग होने के वजह से इस रास्ते से रोजाना सैकड़ों लोग गुजरते है। उनपर कभी भी तेंदुआ हमला कर सकता है।

 

25-09-2019
Breaking : बहुचर्चित हाथी गणेश पहुंचा करमागढ़, लोग दहशत में

रायगढ़। बहुचर्चित हाथी गणेश करमागढ़ मेन रोड तक पहुंच गया है। बनगुरसिया में कल रात से स्थानीय लोगों का काफी नुकसान कर चुका है। गांव वालों में दहशत का माहौल है। वन विभाग को कल रात से खबर देने के बाद भी गांव की सुरक्षा के कोई इंतेजाम नहीं होने से ग्रामीण आक्रोशित हैं।

10-09-2019
क्षेत्र में उत्पात मचा रहा तेंदुआ को मशक्कत के बाद वन विभाग ने पकड़ा

कांकेर। शहर से सटे ग्राम पंचायत ठेलकबोड़ में पिछले एक सप्ताह से उत्पाद मचा रहा तेंदुआ आखिरकार पकड़ में आ गया। पिछले सप्ताह भर से तेन्दुआ के आतंक से क्षेत्र में दहशत बना हुआ था साथ ही वन विभाग निरंतर तेंदुआ को पकड़ने प्रयासरत था। बीती रात वन विभाग ने एक बार फिर पिंजरे में तेंदुआ को सुरक्षित पकड़ने के पिंजरे में मुर्गी डालकर रखा गया था, जिसके बाद तेंदुआ शिकार के दौरान पिंजरे में फंस गया। यहां बताना लाजमी होगा कि कांकेर क्षेत्र के आस-पास के गांव में इन दिनों तेंदुआ,भालू जैसे जानवरों का उत्पाद थमने का नाम नहीं ले रहा है जिससे लोग दहशत में हैं। यहां तेंदुआ पिछले 1 हफ्ते से ठेलकबोड़ के एक कड़कनाथ मुर्गी फॉर्म में उत्पात मचा रहा था एवं  मुर्गियों को अपना शिकार बनाता था, जिससे मुर्गी फार्म के संचालक व उनका परिवार दहशत में था। इसको लेकर वन विभाग द्वारा गंभीरता दिखाते हुए तेंदुआ को पकड़ने भरसक प्रयास किया जा रहा था। तीन-चार दिनों से तेंदुआ को पकड़ने रखे पिंजरे में आखिरकार तेंदुआ रात करीब 12 बजे के आस-पास फंस गया। इसे वन विभाग की टीम सिंगारभाट स्थित विश्रामगृह में रखा गया। इसे उच्चाधिकारियों के निर्देश के बाद जंगल मे छोड़ा जाएगा।

 

नरेश भीमगज की रिपोर्ट 

06-09-2019
ठेलकाबोड़ में तेंदुए ने बनाया 20 कड़कनाथ मुर्गों को अपना शिकार

कांकेर। शहर से सटे ठेलकाबोड़ में बीते चार दिनों से एक तेंदुए ने आतंक मचा रखा है। बीती रात भी तेंदुआ गांव में घुस आया और एक बार फिर कड़कनाथ मुर्गा फार्म में घुसकर 15 से 20 मुर्गों को मार डाला। फार्म के मालिक ने तेंदुए को अपने मोबाइल के कैमरे में कैद किया तब कहीं जाकर वन विभाग की टीम ने मौके पर तेंदुए को पकडऩे पिंजरा लगाया है। बते दें कि इलाके के पास वाली पहाड़ी से रोजाना रात में तेंदुआ नीचे उतरकर बस्ती की ओर रुख कर रहा है, जिससे यहां के लोगों में काफी दहशत है। तेंदुआ यासिम खान के कड़कनाथ मुर्गे के फार्म में रोज घुस रहा है। भोजन की तलाश में तेंदुए के रोज बस्ती की ओर आने से लोग काफी डरे हुए हैं और रात में घरों से निकलने से घबरा रहे हैं। 

नरेश भीमगज की रिपोर्ट 

11-08-2019
नक्सलियों ने कहा-15 अगस्त को न फहराएं तिरंगा, गांव में दहशत

राजनांदगांव। राजनांदगांव जिले के लालबाग थाना अंतर्गत ग्राम बुद्धू भरदा के आश्रित ग्राम कबीराज टोला में नक्सली बैनर लगाए गए हैं। इन बैनरों पर साफ  लिखा है कि कोई भी 15 अगस्त को तिरंगा झंडा नहीं फहराएगा। इससे गांव में दहशत का माहौल है। बता दें कि ये पहली बार हुआ है जब नक्सलियों ने स्वतंत्रता दिवस  का विरोध किया हो या राष्ट्रीय ध्वज नहीं फहराने का ऐलान किया हो। वैसे नक्सली बस्तर के इलाकों में तो अक्सर बैनर लगाते रहे हैं पर राजनांदगांव को शहरी इलाका माना जाता है, जहां अभी तक नक्सलियों की पहुंच नहीं थी। लेकिन अब अगर शहरों में भी इस तरह के नक्सली बैनर लगने लगे तो आने वाले समय में सरकार को बड़ी चुनौती मिलने वाली है। हालांकि  राजनांदगांव जिले में कुछ दिनों पहले ही सुरक्षा बल के जवान और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई थी। इस मुठभेड़ में 7 नक्सली मारे गए थे। 

 

 

04-06-2019
16 हाथियों का दल पहुंचा आरंग,गांववालों में दहशत 

आरंग। रायपुर जिले के आरंग क्षेत्र में हाथियों का दल फिर पहुंचा है। महासमुंद से 16 हाथियों का दल मंगलवार की सुबह आरंग के ग्राम गुल्लू पहुंचा हुआ है। ये वहीं दल है, जो लगातार महासमुंद से महानदी पार कर आरंग सीमा में दाखिल होते रहते हैं। हाथियों के आरंग सीमा क्षेत्र में आने की सूचना मिलते ही वन विभाग और स्थानीय पुलिस अपने दल बल के साथ पहुँच चुकी है। हाथियों पर नज़र बनाये हुए है। प्रशासन ने सुरक्षा के मद्देनजर आसपास के गांवो में कोटवार के माध्यम से मुनादी करवा दी है तथा ग्रामीणों को सतर्क रहने की हिदायत दी है। हाथियों के दल पहुंचने से गांववालों में दहशत का माहौल है। 

14-05-2019
शहर में प्रवेश कर गए दो जंगली हाथी, लोगों में दहशत, ​वन विभाग का अमला मुस्तैद

महासमुंद। जंगली हाथी के शहर में प्रवेश से लोगों में भय व्याप्त है। जानकारी के अनुसार दो जंगली हाथी शहर में घुस गए है और कलेक्टर ऑफिस से कुछ दूर डेरा जमा लिया। बताया जा रहा है कि हाथी प्रभावित सिरपुर क्षेत्र से दो जंगली हाथी सोमवार की सुबह से लचकेरा फिंगेश्वर की ओर विचरण कर रहे थे। मंगलवार की सुबह दोनों महासमुंद शहर आ धमके और कलेक्टोरेट से 400 मीटर की दूरी पर डेरा जमा लिया। सुबह-सुबह लोगों ने हाथियों को देखा तो दहशत में आ गए। इसकी सूचना तत्काल वन विभाग को दी गई। डीएफओ आलोक तिवारी, रेंजर मनोज चंद्राकर सहित वन विभाग का अमला मौके पर पहुंचा। गजराज वाहन का सायरन बजाकर हाथियों को खदेड़ने का प्रयास किया, लेकिन गर्मी तेज होने के कारण हाथी पेड़ की छांव में बैठे रहे।
इधर वन विभाग का अमला हाथियों की निगरानी में लगा हुआ है। डीएफओ आलोक तिवारी ने कहा कि वन अमला पूरी मुस्तैदी के साथ हाथियों की निगरानी में जुटा हुआ है। आसपास के गांव में मुनादी कराई गई है। ग्रामीणों को सतर्क रहने कहा गया है।

15-04-2019
युवक की हत्या, क्षेत्र में दहशत, पुलिस जुटी जांच 

भिलाई । भिलाई के जामुल थाना क्षेत्र में एक युवक की हत्या करने का मामला समाने आया है।

युवक की हत्या से इलाके में दहशत का माहौल है। मिली जानकारी के अनुसार जामुल थाना क्षेत्र के नालंदा स्कूल की पीछे यह घटना हुई। मृतक की शिनाख्त नवल कुमार के रूप में हुई है और उम्र लगभग 40 वर्ष है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार मृतक स्कूल के पीछे एक निर्माणाधीन मकान की चौकीदारी करता था। देर रात अज्ञात लोगों ने उसकी हत्या कर दी। मृतक के सिर को कुचला गया है। पुलिस मामला दर्ज कर जांच में जुटी है।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804