GLIBS
11-09-2020
महिला आयोग की दो दिवसीय सुनवाई में आए 33 प्रकरण, 6 प्रकरणों का ही हो सका निराकरण

रायपुर।  छत्तीसगढ़ राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष डॉ. किरणमयी नायक ने रायपुर जिले के पंजीकृत प्रकरणों की सुनवाई की। अध्यक्ष डॉ. नायक ने 10 और 11 सितंबर को प्रकरणों की सुनवाई करते हुए जरोदा निवासी आवेदिका को अनावेदक की ओर से डेढ़ लाख रुपए दिए जाने के निर्देश दिए थे। उक्त निर्देश पर शासकीय कार्यालय से पैसे निकालने के बावजूद अनावेदक ने आवेदिका को पैसे नहीं दिए। सुनवाई के दौरान तहसीलदार को अनावेदक के समस्त सर्विस रिकार्ड और उसके जमा समस्त राशियों को ब्यौरा लेकर उपस्थित होने के कहा गया।
सचिव, छत्तीसगढ़ राज्य महिला आयोग से मिली जानकारी के मुताबिक सुनवाई के दौरान कई ऐसे प्रकरण भी आए, जिसमें अनावेदक पुलिस विभाग सहित शासकीय विभागों से संबंधित थे। ऐसे प्रकरणों को पुलिस महानिदेशक और शासकीयकर्मी अनावेदकगण के विरुद्ध उनके नियोक्ता, उच्च अधिकारी को सूचित किया गया है। आयोग के समक्ष कुछ ऐसे प्रकरण भी आए, जिसमें आवेदिका को विभागीय अधिकारी की ओर से प्रताड़ित करने की शिकायत थी। सुनवाई के दौरान दोनों पक्षों को सुनवाई में बुलाया गया। आवेदिका आयोग की सुनवाई से संतुष्ट होकर अपने आवेदन में आगे कोई कार्यवाही नहीं चाहती। 
उक्त दो दिवसीय सुनवाई में कुल 33 प्रकरण रख गए थे, किन्तु 24 प्रकरणों में ही पक्षकार उपस्थित हुए, जिसमें 6 प्रकरणों की सुनवाई बाद निराकरण किया गया। अनेक प्रकरणों में पक्षकार के उपस्थिति नहीं होने पर अगली सुनवाई की तिथि निर्धारित की गई है। आयोग की ओर से  पति-पत्नी विवाद, दैहिक शोषण, मारपीट, प्रताड़ना, दहेज प्रताड़ना, कार्यस्थल पर प्रताड़ना, घरेलू हिंसा से संबंधित प्रकरणों की सुनवाई की गई।

04-09-2020
शादी का झांसा देकर नाबालिग को ले गया भगाकर, छह माह बाद पकड़ा गया

जांजगीर चांपा। नाबालिग का अपहरण कर दैहिक शोषण करने वाले युवक को पुलिस ने धरदबोचा। मामला जिले के डभरा थाना क्षेत्र के ग्राम भजपुर का है। यहां प्रार्थी हरिशंकर सिदार रिपोर्ट दर्ज कराई की उसकी नाबालिग भांजी 17 मार्च से घर से गायब है। थाना डभरा में  अज्ञात आरोपी के विरुद्ध अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया था। रिपोर्ट दर्ज होने के बाद पुलिस अपहृता व अज्ञात आरोपी की पतासाजी कर रही थी। साइबर सेल जांजगीर से प्राप्त काल डिटेल के आधार पर अपहृता का पता तलाश में 2 सितंबर को मनोहर चौहान उम्र 25 वर्ष निवासी संडा थाना बरमकेला के घर से नाबालिग लड़की को बरामद किया गया। नाबालिग लड़की को 6 माह बाद बरामद किया गया। आरोपी मनोहर चौहान द्वारा नाबालिग युवती से शादी का झांसा देकर 6 माह तक दैहिक शोषण करता रहा। आरोपी मनोहर चौहान विभिन्न धाराओं कक तहत गिरफ्तारी कर न्यायालय में पेश किया गया, जहाँ आरोपी को न्यायिक रिमांड पर जेल भेजा गया।

 

28-08-2020
आरक्षक के खिलाफ अनाचार का मामला दर्ज

कोरबा। शादी का झांसा देकर युवती से दैहिक शोषण करने और बाद में शादी करने से मुकर जाने वाले आरक्षक के विरुद्ध रामपुर चौकी में अपराध पंजीबद्ध हुआ है। मिली जानकारी के अनुसार रजगामार पुलिस चौकी क्षेत्र के ग्राम कोरकोमा का निवासी योगेश्वर पाल यादव 28 वर्ष जिला पुलिस बल में आरक्षक के पद पर पदस्थ हैं। खरमोरा की एक युवती के साथ फेसबुक में जान पहचान बढ़ी और प्रेम संबंध स्थापित हो गए। इस दौरान आरक्षक ने खुद के शादीशुदा और 2 बच्चों के पिता होने की बात को छिपाए रखा। युवती के साथ पिछले 4 साल से वह पति बतौर पेश आते हुए शारीरिक संबंध बना रहा था और जल्द ही शादी करने की बात भी कहता रहा। इधर समय बीतता गया लेकिन आरक्षक ने शादी के वादे को भुला दिया तब युवती ने रामपुर पुलिस चौकी पहुंचकर घटना की रिपोर्ट दर्ज कराई। आरोपी आरक्षक के खिलाफ धारा 376 भादवि के तहत अपराध पंजीबद्ध कर मामले को विवेचना में लिया गया है। रामपुर चौकी प्रभारी निरीक्षक राजेश जांगड़े ने बताया कि आरोपी की गिरफ्तारी अभी नहीं हो सकी है, जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

28-07-2020
शादी का झांसा देकर किशोरी के साथ दुष्कर्म

रायपुर। शादी का झांसा देकर 16 वर्षीय किशोरी के साथ दुष्कर्म करने की रिपोर्ट आजाद चौक थाने में दर्ज की गई है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार आजाद चौक थाने में 42 वर्षीय महिला ने रिपोर्ट दर्ज कराई है कि प्रार्थिया की 16 वर्षीय बेटी के साथ मोनू यादव नामक युवक ने शादी का झांसा देकर तीन वर्ष तक दैहिक शोषण किया। गर्भ ठहर जाने पर शादी से इंकार कर दिया। घटना की रिपोर्ट पर पुलिस ने धारा 4,6 पास्को एक्ट सहित 376 के तहत दुष्कर्म का मामला दर्ज कर लिया है। 

 

15-07-2020
महिला आयोग की जन सुनवाई में 7 प्रकरणों का हुआ निराकरण

रायपुर। छत्तीसगढ़ राज्य महिला आयोग रायपुर की सदस्य खिलेश्वरी किरण ने 14 जुलाई को रायपुर के पंजीकृत प्रकरणों की सुनवाई की। आयोग की सुनवाई में 16 प्रकरण रखे गये थे, जिसमें 12 प्रकरणों में ही पक्षकार उपस्थित हुए। 7 प्रकरणों की सुनवाई के बाद निराकरण किया गया। सुनवाई प्रकरणों में मुख्यतः दहेज प्रताड़ना, घरेलू हिंसा, सम्पत्ति विवाद, कार्यस्थल पर प्रताड़ना, पति-पत्नि विवाद, दैहिक शोषण, मारपीट और प्रताड़ना से संबंधित शामिल थे। सुनवाई में विधिक परामर्शक एलके मढ़रिया भी उपस्थित थे।

10-07-2020
शादी का प्रलोभन देकर दुष्कर्म करने वाला आरोपी गिरफ्तार

बीजापुर। शादी का प्रलोभन देकर दैहिक शोषण करने की रिपोर्ट पीड़िता ने थाने में दर्ज कराई है। पीड़ित युवती द्वारा घटना के सबंध में लिखित आवेदन थाना कोतवाली बीजापुर में प्रस्तुत करने पर धारा 376 भादवि पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। प्रकरण में आरोपी विजय बडडे की पतासाजी के लिए थाना प्रभारी बीजापुर के नेतृत्व में टीम द्वारा 9 जुलाई को दबिश देकर घर से अभियुक्त को पकड़ा। थाना बीजापुर में कार्यवाही बाद रिमाण्ड पर न्यायालय बीजापुरा में पेश किया गया ।

 

21-06-2020
दैहिक शोषण का आरोपी कर रहा था दूसरी शादी, पुलिस ने मंडप से उठाया

अंबिकापुर। थाना उदयपुर क्षेत्र की रहने वाली एक युवती ने ग्राम थोर निवासी युवक अजय राजवाड़े पर शादी का झांसा देकर दैहिक शोषण करने का आरोप लगाया था। युवती ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी की युवक 4 साल से युवक उसका दैहिक शोषण कर रहा था। आरोपी अजय राजवाड़े इसी बीच बलरामपुर जिले के रेवतपुर में किसी दूसरी लड़की से शादी करने के लिए बारात लेकर गया हुआ था। इसकी जानकारी मिलने पर उदयपुर पुलिस रेवतपुर पहुंची और शादी स्थल से युवक को थाना लेकर आई। उदयपुर थाना में धारा 376 का अपराध पंजीबद्ध है आगे की कार्यवाही पुलिस द्वारा जारी है।  

 

02-06-2020
नाबालिग को शादी का झांसा देकर दैहिक शोषण करने वाला युवक गिरफ्तार

धमतरी। सिहावा थाना पुुुलिस ने एक नाबालिग बालिका से दुष्कर्म के आरोपी को गिरफ्तार किया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार थाना सिहावा क्षेत्रांतर्गत एक नाबालिग बालिका के घर से बिना बताए कहीं चले जाने तथा उसके परिवार वालों द्वारा आस-पड़ोस, रिश्तेदारों एवं उसकी सहेलियों से पता करने पर भी कोई पता नहीं चलने तथा अपनी नाबालिग पुत्री को किसी अज्ञात व्यक्ति के द्वारा बहला-फुसलाकर अपहरण कर ले जाने की आशंका जताते हुए परिजनों ने 29 मई को थाना सिहावा रिपोर्ट दर्ज करवाई। इसपर पुलिस ने अज्ञात आरोपी के विरुद्ध धारा 363 भादवि के तहत् अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया। अपराध की सूचना मिलने पर पुलिस अधीक्षक धमतरी ने अपहृत नाबालिग बालिका एवं अज्ञात आरोपी की तत्काल पतासाजी कर वैधानिक कार्यवाही करने थाना प्रभारी सिहावा को निर्देशित किया गया। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मनीषा ठाकुर रावटे एवं पुलिस अनुविभागीय अधिकारी नगरी नितीश ठाकुर के मार्गदर्शन में अपहृत नाबालिग बालिका व अज्ञात आरोपी की पता तलाश किया जा रहा था। इस दौरान पता चला कि थाना नगरी अंतर्गत ग्राम मोदे निवासी छन्नुलाल कश्यप के द्वारा नाबालिग बालिका को बहला-फुसलाकर, शादी करने का प्रलोभन देकर अपने साथ भगाकर ले गया है। इसकी सूचना पर सिहावा पुलिस टीम के द्वारा उसके घर में दबिश देने पर अपहृत नाबालिग बालिका उसके घर पर मिली। इसे बरामद कर पूछताछ किया गया,जिसके द्वारा बताया गया कि छन्नुलाल कश्यप उसे बहला-फुसलाकर शादी करने का झांसा देकर अपने साथ भगाकर ले जाकर अपने घर में रखा और दैहिक शोषण किया। पीड़िता के कथन एवं उपलब्ध साक्ष्य के आधार पर मामले में धारा 376 भादवि एवं लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम की धारा 4 जोड़ते हुए आरोपी छन्नुलाल कश्यप उम्र 25 वर्ष को गिरफ्तार कर आगे की कार्यवाही में पुलिस जुट गई है। साथ ही नाबालिग बालिका को उसके परिजनों को सुपुर्द किया गया है। 

 

 

21-05-2020
नाबालिग का अपहरण कर दुष्कर्म करने वाले आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार

राजनांदगांव। नाबालिग को बहला-फुसलाकर अपहरण कर दुष्कर्म करने के आरोपी को लालबाग पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपी ने नाबालिग को विवाह का झांसा देकर अपहरण किया और उसका दैहिक शोषण किया। घटना की सूचना नाबालिग के पिता ने लालबाग थाने में दी। रिपोर्ट मिलने के चंद घंटे के भीतर ही लालबाग थाना की सक्रियता और प्रभारी प्रशिक्षु उप पुलिस अधीक्षक मयंक सिंह व स्टाफ ने तत्परता दिखाते हुए नाबालिग को बरामद किया और आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर जेल भेजा।

01-05-2020
शादी से किया इनकार,युवती ने की आत्महत्या, आरोपी युवक गया जेल

भानुप्रतापपुर। शादी का प्रलोभन देकर दैहिक शोषण के बाद युवक के मुकर जाने पर गर्भवती युवती ने की आत्महत्या कर ली। इस आरोप में पुलिस ने युवक को जेल भेज दिया गया।प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्राम बांसला में अगस्त 2016 को 20 वर्षीय युवती ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में लड़की गर्भवती थी। इसके आधार पर विस्तृत विवेचना की गई तो पता चला कि गांव के ही 25 वर्षीय युवक सुरेंद्र कुमार कोरेटी से युवती के प्रेम संबंध थे, जिसके चलते युवती गर्भवती हो गई। पुलिस ने काल डिटेल निकाला तो पता चला कि युवती ने आत्महत्या के पूर्व अपने मोबाइल से आखरी काल आरोपी युवक को ही किया था। पूछताछ में युवक ने भी युवती से अपने संबंधों को कबूल किया है,परंतु युवक ने यह भी कहा है कि वह युवती से विवाह करने को राजी था। पुलिस का कहना है कि युवती ने बिन ब्याहे गर्भवती हो जाने पर लोकलाज के भय से आत्महत्या की होगी। विवेचना पूर्ण होने के बाद पुलिस के द्वारा आरोपी युवक को 30 अप्रैल को गिरफ्तार कर धारा 306 व 376 के तहत मामला दर्ज कर न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया गया है।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804