GLIBS
15-01-2020
छिन्दवाड़ा में 'जन सरोकार और मीडिया' विषय पर हुई संगोष्ठी

छिन्दवाड़ा। प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के नेतृत्व में मध्यप्रदेश सरकार के कार्यकाल का एक वर्ष पूर्ण होने पर कलेक्टर डॉ. श्रीनिवास शर्मा के मार्गनिर्देशन में बुधवार को फारेस्ट रेस्ट हाउस, खजरी चौक छिन्दवाड़ा के संवाद भवन में 'जन सरोकार और मीडिया' विषय पर एक संगोष्ठी हुई। जनसंपर्क विभाग द्वारा आयोजित इस संगोष्ठी में जबलपुर से पधारे वरिष्ठ पत्रकार डॉ.राजीव विश्वकर्मा मुख्य अतिथि और वरिष्ठ पत्रकार आभाष सुरजन प्रमुख वक्ता के रूप में उपस्थित थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता अतिरिक्त कलेक्टर राजेश शाही ने की। इस अवसर पर जनसंपर्क विभाग के उप संचालक व सहायक संचालक, संभागीय कार्यालय के लेखाधिकारी विनोद विश्वकर्मा तथा प्रिंट और इलेक्ट्रानिक मीडिया के सभी पत्रकार उपस्थित थे। मुख्य अतिथि विश्वकर्मा ने कहा कि मध्यप्रदेश सरकार द्वारा पिछले एक वर्ष में प्रदेश के साथ ही छिन्दवाड़ा जिले में जन सरोकार से संबंधित जिन योजनाओं का क्रियान्वयन किया गया है, उसे आप सभी धरातल पर भी महसूस कर रहे होंगे और प्रदेश सरकार की कल्याणकारी योजनाओं से अवगत भी होंगे। इन योजनाओं में जय किसान फसल ऋण माफी योजना प्रमुख है,जिसमें किसानों के 2 लाख रूपये तक के ऋण माफ किये गये है। उन्होंने पर्यावरण संरक्षण व विकास के क्षेत्र में जनजागरण करने,अस्पृश्यता निवारण के क्षेत्र में कार्य करने, जनसंपर्क विभाग द्वारा पत्रकारों को उपलब्ध कराये जाने वाली जानकारी, सुविधा, सुरक्षा व पेंशन, ग्राम पंचायतों में पंचायत पदाधिकारियों के संवैधानिक अधिकार आदि के संबंध में विस्तार से चर्चा करते हुये पत्रकारों से कहा कि अपनी झिझक दूर करें और भयमुक्त वातावरण में जन सरोकार की पत्रकारिता करते हुए केन्द्र और राज्य सरकार की योजनाओं से आमजन को अवगत कराये एवं छिन्दवाड़ा जिले के माध्यम से प्रदेश के पूरे 52 जिलों के विकास के लिये काम करें।

संगोष्ठी में प्रमुख वक्ता सुरजन ने कहा कि पत्रकारों का कार्य नि:स्वार्थ सेवा का है और एक पत्रकार के रूप में हम आमजनता और सरकार के बीच सेतु का कार्य करें। सरकार की बहुत सी योजनायें है,जिनका लाभ पात्र व्यक्तियों को मिलना चाहिये। इसके लिये हमें भयमुक्त वातावरण में निर्भय होकर ऐसी खबरों को सामने लाना चाहिये,जो जन सरोकार से संबंधित है। उन्होंने कहा कि जन सरोकार के लिये यह जरूरी है कि हम ऐसी खबरों को निष्पक्ष रूप से सामने लाये,जिससे आम जन लाभान्वित हो। कार्यक्रम अध्यक्ष एवं अतिरिक्त कलेक्टर शाही ने संगोष्ठी में कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा जिले में विगत एक वर्ष में अपने कार्यो से आमजन के लिये कार्य करे जो प्रतिमान स्थापित किये गये है वे छिन्दवाड़ा मॉडल के रूप में हमारे सामने है।उन्होंने प्रदेश के मुख्यमंत्री द्वारा अनुसूचित जाति,जनजाति और आमजन के लिए लागू की गई विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत जिले में हुई प्रगति के संबंध में भी विस्तार से जानकारी दी।
संगोष्ठी में वरिष्ठ पत्रकार गोविंद चौरसिया व अन्य पत्रकारों ने भी अपने विचार व्यक्त किये। कार्यक्रम का संचालन व आभार प्रदर्शन उप संचालक जनसंपर्क द्वारा किया गया।

अरविंद वर्मा की रिपोर्ट 

29-12-2019
आदिवासी नृत्य महोत्सव : सोशल मीडिया के जरिए लाखों लोग घर बैठे ले रहे आनंद 

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में आयोजित राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव का लाखों लोग सोशल मीडिया के जरिए घर बैठे ही आनंद उठा रहे है। कड़ी ठंड के बावजूद साईंस कॉलेज मैदान में देर रात तक बड़ी संख्या में लोग देश और विदेश से आए जनजातीय कलाकारों के मनमोहक नृत्यों का लुत्फ उठा रहे है वहीं लाखों की संख्या में लोग अपने घरों में ही बैठकर सोशल मीडिया के जरिए इसे लाइव देख रहे है। मुख्यमंत्री और जनसंपर्क विभाग के साथ ही ट्राइवलफेस्ट-2019 के ऑफिशियल फेसबुक पेज पर आदिवासी नृत्य महोत्सव का लाइव प्रसारण होने से इस कार्यक्रम ने प्रदेश के साथ ही देश-विदेश में बैठे लोगों तक अपनी आसान पहुंच सुनिश्चित की है। महोत्सव के दूसरे दिन के कार्यक्रमों के टीजर वीडियो को मात्र 6 घण्टें में ही 13 हजार लोगों ने देख लिया है। इस वीडियों को प्रतिघण्टा 2 हजार से अधिक लोग देख रहे है। इसी तरह प्रथम दिन राहुल गांधी के मुख्य आतिथ्य में आयोजित महोत्सव के शुभारंभ समारोह के वीडियों को अब तक 90 हजार से अधिक लोगों ने देख लिया है और यह संख्या लगातार तेजी से बढ़ रही है।

छत्तीसगढ़ में पहली बार आयोजित राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव को लेकर लोगों के कमेन्टस्ट भी जबरदस्त आ रहे है। सूर्यकांत सिन्हा ने इस अनोखी पहल के लिए मुख्यमंत्री को धन्यवाद देते हुए कहा है कि इस आयोजन से निश्चित ही आदिवासी कलाकारों का खोया हुआ सम्मान उन्हें वापस मिलेगा। जीवन लाल चन्द्राकर ने लिखा कि हमर कला व संस्कृति के सुघ्घर पहचान, सबला देवत हे बराबर सम्मान। हितेश देशमुख ने लिखा कि इस आयोजन ने छत्तीसगढ़ और यहां के आदिवासियों का मान विश्व में बढ़ाया। हरीश कौशिक ने लिखा कि इससे छत्तीसगढ़ को एक नई पहचान मिली है। सुधा सरोज ने लिखा कि ऐसे मंच को बारम्बार नमन जिसमें पूरे देश को एक होने का संदेश दे रहा है। सुमीत तिवारी ने लिखा कि राज्य बनने के बाद पहली बार ऐसा आयोजन हुआ।

27-12-2019
उमेश पटेल ने किया विभागीय स्टालों का अवलोकन

रायपुर। राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव के अवसर पर उच्च शिक्षा, खेल एवं युवा कल्याण मंत्री उमेश पटेल ने विभागीय स्टालों का अवलोकन किया। जनसंपर्क विभाग के स्टाल में मंत्री पटेल ने डॉ. आरती सिंह के किताब ‘’बिरहोर महिलाएं और बदलता परिवेश’’ का विमोचन भी किया। मंत्री पटेल ने जनसंपर्क विभाग की प्रदर्शनी की सराहना की। इस अवसर पर उच्च शिक्षा सचिव अलरमगाई डी सहित अन्य गणमान्य अतिथि मौजूद रहे। 

12-12-2019
ईओडब्ल्यू ने कंसोल ग्रुप के खिलाफ किया मामला दर्ज

रायपुर। छत्तीसगढ़ की जानी मानी पीआर कंपनी कंसोल ग्रुप के खिलाफ ईओडब्ल्यू में शिकायत दर्ज की गई है। सूत्रों की माने तो पीआर कंपनी कंसोल और जनसंपर्क विभाग के अधिकारियों के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया है। आर्थिक अपराध अन्वेषण विंग में दर्ज शिकायत के अनुसार जनसंपर्क अधिकारियों ने 2016-2018 के बीच सरकारी योजनाओं के प्रचार के लिए टेंडर जारी किया था। लेकिन ठेके की शर्तों में बदलाव कर कंसोल ग्रुप को करोड़ों का लाभ पहुंचाने का आरोप है। एफआईआर में कंसोल ग्रुप का नाम उल्लेखित किया गया है।

03-12-2019
अधिमान्यता परिचय पत्र नवीनीकरण शुरू, नए आवेदन पत्र अब लिए जाएंगे आनलाइन

रायपुर। प्रदेश के अधिमान्य पत्रकारों के अधिमान्यता परिचय पत्र का नवीनीकरण प्रारंभ कर दिया गया है। परिचय पत्र नवीनीकरण का आवेदन पत्र आनलाइन जनसंपर्क संचालनालय की वेबसाइट https://cg.nic.in/dpr  पर लॉगइन कर भरा जा सकता है। नवीनीकरण आवेदन पत्र 31 दिसम्बर तक भरे जा सकेंगे।अधिमान्यता नवीनीकरण के साथ नई अधिमान्यता के लिए भी आवेदन पत्र अब आनलाइन भरने होंगे। आवेदन पत्र को आनलाइन भर कर आवेदन पत्र का प्रिंट आवश्यक अभिलेखों के साथ राज्य अथवा संबंधित संभागीय अधिमान्यता समिति को भेजना होगा। शासन द्वारा गत माह अगस्त में राजपत्र में अधिसूचना प्रकाशन के साथ ही नए अधिमान्यता नियम प्रभावशील हो गये है। नए अधिमान्यता नियमों में व्यापक बदलाव किया गया है। इसके साथ-साथ अब वरिष्ठ पत्रकारों और विकासखण्ड स्तर के पत्रकारों को भी अधिमान्यता दिये जाने का प्रावधान किया गया है।


जनसंपर्क विभाग द्वारा पत्रकारों के लिये लागू विभिन्न योजनाओं के लिए एकीकृत आवेदन पत्र बनाये जाने का कार्य भी किया जा रहा है। भविष्य में सभी योजनाओं के आवेदन आनलाइन ही लिए जाएंगे। इसके लिये पत्रकारों का डाटाबेस इकट्ठा किया जा रहा है। एक बार डाटाबेस एकत्र होने पर आवेदनकर्ता पत्रकार को एक ही जानकारी बार-बार नहीं भरनी पड़ेगी। वे अपने यूजर आर्डडी पासवर्ड से लॉगइन कर केवल संबंधित योजना के लिये वांछित जानकारी देकर आनलाइन आवेदन कर सकेंगे। इसी उद्देश्य से अधिमान्यता नवीनीकरण के लिए आवेदन करने वाले अधिमान्य पत्रकारों से आधारभूत जानकारी भरवाई जा रही है। आयुक्त जनसंपर्क ने आग्रह किया है कि जनसंपर्क संचालनालय की वेबसाईट में उपलब्ध नये अधिमान्यता नियमों का सभी अधिमान्य पत्रकार और नवीन अधिमान्यता के इच्छुक पत्रकार अवश्य अध्ययन कर लें ताकि आवेदन करने में किसी प्रकार की कठिनाई न हो। उन्होंने नये अधिमान्यता नियमों की जानकारी अपने साथी पत्रकारों को भी देने का आग्रह किया है।

 

30-11-2019
जनसंपर्क संचालनालय में दो कर्मचारियों को सेवानिवृत्त पर दी गई विदाई

रायपुर। जनसंपर्क संचालनालय से सम्बद्ध संयुक्त संचालक वित्त आरके क्षत्रे और विभाग के चौकीदार बदन सिंह को शासकीय सेवा से अर्धवार्षिकी पूरा करने पर जनसंपर्क विभाग द्वारा भावभीनी विदाई दी गई और उनके उज्जवल भविष्य की कामना की गई। इस अवसर पर अपर संचालक जेएल दरियो एवं जमुना सांडिया, संयुक्त संचालक चमन सिंह ठाकुर एवं संतोष मौर्य सहित अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।

18-10-2019
मुख्यमंत्री के ओएसडी बने सूरज कश्यप

रायपुर। छत्तीसगढ़ संवाद नवा रायपुर में पदस्थ महाप्रबंधक के समकक्ष राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारी सूरज कुमार कश्यप को आगामी आदेश तक मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का विशेष कर्तव्यस्थ अधिकारी बनाया गया है। इसी तरह छत्तीसगढ़ शासन के जनसंपर्क विभाग में पदस्थ अवर सचिव राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारी विभोर अग्रवाल को छत्तीसगढ़ संवाद में महाप्रबंधक के समकक्ष अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है। छत्तीसगढ़ के राज्यपाल के नाम से यह आदेश जारी किया गया है और सभी प्रमुख कार्यालयों को प्रेषित किया गया है। 

 

15-10-2019
20 अक्टूबर से चार दिवसीय राज्य स्तरीय शालेय क्रीड़ा प्रतियोगिता

मुंगेली। राज्य शासन के निर्देशानुसार जिले में खेलकूद की गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए जिले में चार दिवसीय राज्य स्तरीय शालेय क्रीड़ा प्रतियोगिता का आयोजन 20 अक्टूबर से किया जा रहा है। यह प्रतियोगिता 23 अक्टूबर तक चलेगी। इस प्रतियोगिता में आर्म रेसलिंग, बेसबाल, कराते, सिलम्बम खेल का आयोजन किया जाएगा। खेल में 14 से 19 वर्ष आयु वर्ग के प्रतियोगी खिलाड़ी भाग ले सकेंगे। जिले में आयोजित राज्य स्तरीय शालेय क्रीड़ा प्रतियोगिता में प्रदेश के 12 जोन के 1 हजार 884 बालक-बालिकाएं भाग लेंगे। कलेक्टर डाॅ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने राज्य स्तरीय शालेय क्रीड़ा प्रतियोगिता को सफल बनाने के लिए विभिन्न विभागों के अधिकारियों को दायित्व सौंपे है। उन्होंने जिले के पुलिस अधीक्षक को आवास एवं खेल मैदानों पर सुरक्षा व्यवस्था, मुंगेली अनुभाग के अनुविभागीय अधिकारी को आवास एवं खेल मैदान, विश्राम गृह कक्ष की व्यवस्था, लोक निर्माण विभाग के कार्यपालन अभियंता को खेल मैदान का समतलीकरण, जिला खाद्य अधिकारी को खाद्य व्यवस्था, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को आवास स्थलों एवं खेल मैदानों पर चिकित्सा व्यवस्था और नगर पालिका मुंगेली के मुख्य नगर पालिका अधिकारी को आवास एवं खेल मैदानों की साफ-सफाई, पेयजल और लाइट व्यवस्था, जिला परिवहन अधिकारी को वाहन व्यवस्था, जनसंपर्क विभाग के सहायक संचालक को प्रचार-प्रसार और लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के कार्यपालन अभियंता को फ्लेगपोल की व्यवस्था करने की जिम्मेदारी दी है। इसके अलावा उन्होने राजीव गांधी शिक्षा मिशन मुंगेली, जेसीज पब्लिक स्कूल मुंगेली, सेंट जेवियर्स स्कूल मुंगेली, बीआरसाव शासकीय बहु.उ.मा. विद्यालय मुंगेली, रेम्बो मेमोरियल स्कूल मुंगेली, एसएलएस एकेडमिक मुंगेली और विवेकानंद विद्यापीठ स्कूल मुंगेली को भी आवास व्यवस्था, खेल मैदान एवं वाहन की व्यवस्था की जिम्मेदारी दी है। उन्होने संबंधित अधिकारियों को दी गई जिम्मेदारियों को सर्वोच्च प्राथमिकता देते हुए समय सीमा में पूर्ण करने के निर्देश दिए हैं।

12-10-2019
मुख्यमंत्री ने नए कलेवर में प्रकाशित मासिक पत्रिका ‘जनमन‘ का किया विमोचन’

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शनिवार को अपने निवास कार्यालय में जनसंपर्क विभाग द्वारा नए कलेवर में प्रकाशित मासिक पत्रिका ’जनमन’ का विमोचन किया। जनसंपर्क विभाग द्वारा मासिक पत्रिका जनमन का प्रकाशन फिर से प्रारम्भ किया गया है। माह अक्टूबर 2019 के अंक  में छत्तीसगढ़ अस्मिता की छलांग को आवरण कथा के रूप में आकर्षक ढंग से प्रस्तुत किया गया है। पत्रिका में महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर छत्तीसगढ़ राज्य में आयोजित गांधी विचार पदयात्रा सहित अन्य कार्यक्रमों और महात्मा गांधी के छत्तीसगढ़ प्रवास पर विशेष सामग्री प्रकाशित की गई है साथ ही पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी के छत्तीसगढ़ के कुल्हाड़ीघाट और दुगली प्रवास को सचित्र बड़े ही आकर्षक ढंग से प्रस्तुत किया गया है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ में महात्मा गांधी के आदर्शों और विचारों पर चलते हुए किए जा रहे विकास कार्यों, संस्कृति के संरक्षण और संवर्धन के तहत तीज त्योहारों के आयोजन पर विशेष सामग्री दी गई है। इस अवसर पर मुख्य सचिव सुनील कुजूर, संस्कृति विभाग के सचिव सिद्धार्थ कोमल परदेशी,आयुक्त जनसंपर्क तारण प्रकाश सिन्हा, संचालक संस्कृति अनिल साहू तथा संवाद के अतिरिक्त मुख्य पालन अधिकारी उमेश मिश्रा उपस्थित थे।

15-08-2019
सीएम भूपेश आज शाम करेंगे गढ़बो नवा छत्तीसगढ़ छायाचित्र प्रदर्शनी का शुभारंभ 

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर गढ़बो नवा छत्तीसगढ़ छायाचित्र प्रदर्शनी का शुभारंभ करेंगे। आज शाम साढ़े 4 बजे मुख्यमंत्री बघेल राजधानी रायपुर के कलेक्टोरेट गार्डन के पास टाऊन हॉल में गढ़बो नवा छत्तीसगढ़ छायाचित्र प्रदर्शनी का शुभारंभ आम जनता के लिए करेंगे। जनसंपर्क विभाग द्वारा यह छायाचित्र प्रदर्शनी 15 अगस्त से 21 अगस्त तक सुबह 10 बजे से रात्रि 8 बजे तक आयोजित की जाएगी।

03-07-2019
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने किया जन चौपाल के वेबसाइट का शुभारंभ

 

रायपुर। जन चौपाल के आयोजन के लिए विशेष रूप से इस सॉफ्टवेयर को बनाया गया है। मुख्यमंत्री के उप सचिव और जनसंपर्क विभाग के आयुक्त सह संचालक तारण सिन्हा ने बताया कि आवेदकों को उनके मोबाइल के माध्यम से आवेदन के पंजीयन की तथा निराकरण की जानकारी दी जाएगी। वहीं जन चौपाल में मुख्यमंत्री ने एक एक आवेदकों से की मुलाकात की। हर एक की समस्याओं और कठिनाइयों को सुना और कहा कि उनके आवेदनों पर समुचित कार्यवाही की जाएगी।

30-06-2019
तृतीय लिंग समुदाय के प्रति अधिकारियों और कर्मचारियों को किया गया जागरूक

रायपुर। जनसंपर्क विभाग और छत्तीसगढ़ संवाद के अधिकारियों व कर्मचारियों को तृतीय लिंग समुदाय के बारे में जागरूक करने नवा रायपुर में संवाद कार्यालय के ऑडिटोरियम में संवेदीकरण कार्यशाला का आयोजन किया गया। तृतीय लिंग समुदाय के संगठन ‘मितवा’ की विद्या राजपूत और रवीना बरिहा ने कार्यशाला में इस समुदाय के जीवन के विभिन्न पहलुओं के बारे में विस्तार से जानकारी दी। इस दौरान उन्होंने तृतीय लिंग समुदाय से संबंधित कानूनों और समय-समय पर उच्चतम न्यायालय द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के बारे में भी बताया। कार्यशाला में जनसंपर्क विभाग के संयुक्त सचिव और छत्तीसगढ़ संवाद के अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी उमेश मिश्र, अपर संचालक जेएल दरियो और जमुना सांडिया, संयुक्त संचालक संतोष सिंह, वीके तिग्गा और चमन सिंह ठाकुर सहित विभाग के अनेक अधिकारियों-कर्मचारियों ने हिस्सा लिया।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804