GLIBS
15-06-2021
कार में लगी आग, पेट्रोल फीलिंग के समय हुआ हादसा

गीदम। एक पेट्रोल पंप पर कार में पेट्रोल फीलिंग के समय अचानक आग लग गई। गीदम बस स्टैंड के पास पेट्रोल पंप पर पेट्रोल फीलिंग के लिए गई मारुति वैन में अचानक आग लग गई। इससे पेट्रोल पंप पर हड़कंप मच गया। मशक्कत के बाद वाहन को खींचकर पेट्रोल पम्प से बाहर किया गया, जिससे एक बड़ा हादसा होने से टल गया। मारुति वैन किसी सब्जी व्यवसायी की बताई जा रही है। 

 

10-06-2021
Breaking : मानसून की पहली बारिश में गिरा आवासीय मकान, 11 की मौत, 8 घायल

महाराष्ट्र/रायपुर। मानसून की बारिश से देर रात एक बड़ा हादसा हो गया। दरअसल इमारत ढहने से 11 लोगों की मौत हो गई। बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) ने सूचना दी कि बुधवार देर रात मुंबई के मलाड पश्चिम के न्यू कलेक्टर परिसर में एक आवासीय इमारत गिरने से कम से कम 11 लोगों की मौत हो गई और आठ अन्य घायल हो गए। बीएमसी के अनुसार इस क्षतिग्रस्त बिल्डिंग ने पास की एक और आवासीय घर को भी अपनी चपेट में ले लिया। नगर निगम ने कहा कि इसने क्षेत्र में एक और आवासीय संरचना को भी प्रभावित किया जो अब खतरनाक स्थिति में है। प्रभावित इमारतों में रहने वाले लोगों को सुरक्षित निकाला जा रहा है। बताया जा रहा है कि दुर्घटनाग्रस्त इमारत में फंसे लोगों को बचाने के लिए सर्च एंड रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। घायलों को बीडीबीए अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उनका इलाज चल रहा है। मुंबई में जोन 11 के पुलिस उपायुक्त (डीसीपी) विशाल ठाकुर ने कहा कि महिलाओं और बच्चों सहित 15 लोगों को बचा लिया गया है और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

13-05-2021
पार्षद की सक्रियता से बड़ा हादसा टला, कचरा साफ करने दिए निर्देश 

रायपुर। पंडित रविशंकर शुक्ला वार्ड में पार्षद आकाश तिवारी की सक्रियता से बड़ा हादसा होते टल गया। वार्ड के एक बंगले में इतना वेस्टेज पाया गया कि अगर आग लग जाती तो बड़ी दुर्घटना हो सकती थी। दरअसल पंडित रविशंकर शुक्ला वार्ड के रवि नगर स्थित एक बंगले में लगभग चार ट्रक स्पंज और वेस्टेज छत के ऊपर पाया गया। पार्षद आकाश तिवारी ने बताया कि जैसे ही उन्हें सूचना मिली उन्होंने नगर निगम की टीम को बुलाया। पार्षद और निगम की टीम ने मौके पर पहुंचकर निरीक्षण किया, जिसमें सूचना सही निकली। इसके बाद मकान मालिक को 24 घंटे से 48 घंटे की मोहलत देकर छत को साफ करने को कहा और चालान भी काटा गया। साथ ही तत्काल प्रभाव से कचरे को साफ करने का निर्देश दिए।

08-05-2021
चूना पत्थर खदान में ब्लास्ट से 10 मजदूरों की मौत,कई की मलबे में फंसे होने की आंशका

हैदराबाद। आंध्रप्रदेश के कडपा जिले में शनिवार को चूना पत्थर खदान में तेज विस्फोट के चलते बड़ा हादसा हो गया। खदान में काम कर रहे 10 मजदूरों की मौत हो गई जबकि कई लोगों के मलबे में फंसे होने की आशंका है। घटना कडपा के कलासापडू ब्लॉक के मामिलपल्ली गांव की है। बताया जा रहा है कि विस्फोटक सामग्री रखने के लिए ग्रेनाइट में ड्रिल करते वक्त हादसा हुआ। आरोप है कि मामिलपल्ली गांव के नजदीक यह खदान बिना लाइंसेस के चलाई जा रही थी। खदान के अंदर एक ग्रेनाइट में ड्रिलिंग करते वक्त ब्लास्ट हुआ और साइट पर बड़ी मात्रा में विस्फोटक सामग्री रखी होने के चलते काफी तेज विस्फोट हुआ और 10 मजदूरों की मौत हो गई। मामिलपल्ली गांव के ग्रामीण विस्फोट की आवाज सुनकर बाहर आए और खदान के पास धुएं का गुबार देखकर पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस और राहत बल ने घायलों को मलबे से निकालकर अस्पताल में इलाज के लिए भेजा। जिला प्रशासन के अधिकारियों ने बताया कि खदान में ब्लास्ट की वजह की जांच कर रहे हैं।

 

30-04-2021
स्लैग गिरने से जेसीबी चालक की मौत, जांच में जूटी पुलिस

भिलाई/रायपुर। भिलाई स्टील प्लांट में हादसा हो गया है। इसमें जेसीबी चालक की मौके पर ही मौत हो गई है। हादसा प्लांट के स्लैग डंप यार्ड में हुआ। यहां जेसीबी चालक के ऊपर भारी स्लैग गिरा,जिससे 24 वर्षीय चालक की मौके पर ही मौत हो गई। हादसा दोपहर करीब पौने एक बजे का है। भिलाई पुलिस ने जानकारी दी है कि जय इंटरप्राइजेस का जेसीबी चालक विनय कुमार स्लैग डंप यार्ड में जेसीबी चला रहा था। इस दौरान उसके ऊपर गरम स्लैग गिर गया। जेसीबी चालक विनय कुमार (24 वर्ष) कैंप-2 भिलाई का रहने वाला है। वह ठेका श्रमिक था। इस घटना के बाद मौके पर अफरा-तफरी मच गई। वहां मौजूद सभी कर्मचारी भाग गए। पूरे घटनाक्रम के बाद भट्टी थाने की पुलिस के द्वारा शव का पंचनामा कार्रवाई के बाद मर्ग कायम कर विवेचना में लिया गया है।

 

19-03-2021
रिएक्टर फटने से पेट्रो-केमिकल कंपनी में लगी आग, 8 कर्मी झुलसे

वडोदरा। पेट्रो-केमिकल कंपनी का रिएक्टर फटने से भीषण आग लग गई। इससे आठ कामगार झुलस गए। हादसा शनिवार तड़के गुजरात के वडोदरा जिले के गोठड़ा गांव के पास स्थित शिवम पेट्रोकेम इंडस्ट्रीज का है। बताया जा रहा है कि वडोदरा से करीब 25 किमी दूर सावली तालुका के गोठड़ा गांव के पास स्थित शिवम पेट्रोकेम इंडस्ट्रीज का एक रिएक्टर आज तड़के फट गया। धमाका इतना जोरदार था कि इसकी आवाज आसपास के आठ से दस किमी तक सुनी गई। इसके बाद लगी आग में कम से कम आठ कर्मी झुलस गए। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

08-03-2021
हादसा: सरकारी स्कूल की दीवार ढहने से 6 की मौत, 10 से ज्यादा लोग दबे

पटना। बिहार के खगड़िया जिले में बड़ा हादसा होने की खबर है। यहां एक सरकारी स्कूल की दीवार ढह गई, जिसमें 10 से ज्यादा लोगों के दबने की जानकारी मिली है। मामले का पता लगते ही स्थानीय लोग बचाव कार्य में जुट गए। इस हादसे में अब तक छह लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं, वरिष्ठ अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए हैं। जांच में सामने आया है कि नाले की खुदाई के दौरान लापरवाही बरतने से यह हादसा हुआ। जानकारी के मुताबिक, यह हादसा गोगरी के चैधा बन्नी चंडी टोला में हुआ।

यहां चंडी टोला प्राथमिक विद्यालय के पास नाले बनवाया जा रहा है, जिसके लिए जेसीबी से खुदाई की जा रही थी। इस दौरान स्कूल की दीवार ढह गई। बताया जा रहा है कि दीवार के पास कुछ लोग बैठे हुए थे, जो इसकी चपेट में आ गए। हादसे के बाद इलाके में हड़कंप मच गया। स्थानीय लोगों के मुताबिक, इस दर्दनाक हादसे में जिन लोगों ने अपनी जान गंवाई है, वे सभी मजदूर हैं। ये सभी लोग नाले के निर्माण का काम कर रहे थे। बताया जा रहा है कि तीन लोग अब भी मलबे में फंसे हुए हैं। लोगों का कहना है कि लापरवाही के कारण यह हादसा हुआ। खगड़िया के जिलाधिकारी (डीएम) शत्रुंजय मिश्रा ने बताया कि नाले की खुदाई के दौरान दीवार ढहने की बात सामने आ रही है। यह घटना खगड़िया मुख्यालय से कुछ ही दूरी पर हुई। खगड़िया के डीएसपी भी मौके पर पहुंच गए हैं। घटनास्थल पर अफरातफरी का माहौल बना हुआ है।

 

04-03-2021
एसईसीएल दीपका खदान में हुआ हादसा, कर्मी की मौत

कोरबा। एसईसीएल दीपका प्रबंधन की लापरवाही फिर सामने आई है। इसके परिणाम स्वरूप एक एसईसीएल कर्मी की मौत हो गई है। उत्पादन लक्ष्य पूरा करने के फेर में एसईसीएल की खदानों में काम जोरों पर है। अधिकारियों पर लक्ष्य को पूरा करने का दबाव है। ऐसे में अधिकारी भी अपने कर्मचारियों को लक्ष्य पूरा करने के लिए दबाव बनाए हुए है। ऐसे में दुर्घटना होने की संभावना बढ़ जाती है। दीपका खदान में मिट्टी खुदाई के दौरान हादसा हो गया। बताया जा रहा है कि केबल मेन गजपाल सिंह सुबह 5:30 बजे सावेल के समीप कार्य कर रहा था। इसी दौरान सावेल के बकेट में फंसे पत्थर गजपाल के सिर में गिर जाने से उसकी घटनास्थल पर ही मौत हो गई। आनन-फानन में सहकर्मियों ने गजपाल को नेहरू शताब्दी चिकित्सालय लाया जहां चिकित्सकों ने जांच के उपरांत उन्हें मृत घोषित कर दिया। घटना के समय एसईसीएल कर्मी हेलमेट नहीं पहना हुआ था। शायद कर्मी हेलमेट पहना होता तो इस हादसे से बचा जा सकता था।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804