GLIBS
23-02-2021
साक्षरता कक्षा में असाक्षरों को पढ़ाएंगे स्वयंसेवी शिक्षक, उन्मुखीकरण कार्यक्रम में समझाया गया कार्य

रायपुर। पढ़ना-लिखना अभियान के अंतर्गत प्रदेश के चिन्हांकित स्वयंसेवी शिक्षकों का दो दिवसीय ऑनलाइन उन्मुखीकरण कार्यक्रम मंगलवार से शुरू हुआ। साक्षरता कक्षा में असाक्षरों को स्वयंसेवी शिक्षक पढ़ाएंगे। उन्मुखीकरण कार्यक्रम में यू-ट्यूब लाइव से अभियान का परिचय दिया गया। स्वयंसेवक शिक्षकों की भूमिका और कार्यों पर समझ विकसित की गई। इसके पूर्व भेजी गई लिंक से गूगल पंजीयन प्रपत्र से प्रदेश स्तर पर स्वयंसेवी शिक्षकों ने उन्मुखीकरण के लिए पंजीयन कराया। ऑनलाइन उन्मुखीकरण कार्यक्रम में पांच हजार से अधिक स्वयंसेवी शिक्षक शामिल हुए। पढ़ना लिखना अभियान के नोडल अधिकारी प्रशांत कुमार पांडेय ने शिक्षित परिवार, शिक्षित समाज, शिक्षित देश बनाने के लिए अमूल्य योगदान देने का आह्वान स्वयंसेवी शिक्षकों से किया। सहायक संचालक दिनेश कुमार टांक ने स्वयंसेवी शिक्षकों को प्रेरित किया। उन्मुखीकरण के पहले दिन स्वयंसेवी शिक्षकों को पढ़ना-लिखना अभियान का परिचय, स्वयंसेवी शिक्षकों की भूमिका, कक्षा संचालन विषयों की जानकारी विषय विशेषज्ञों ने दी। उन्मुखीकरण के बाद प्रदेश स्तर पर स्वयंसेवी शिक्षकों को 3 दिनों का पूर्णकालिक प्रशिक्षण भी दिया जाएगा।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804