GLIBS
23-06-2020
Video: निर्माणाधीन मंदिर से मूर्ति गायब, थाने में दर्ज की गई शिकायत

रायगढ़। स्थानीय केलो नदी खर्राघाट से लगे न्यू मरीन ड्राइव में मंगलवार को उस वक्त तनाव की स्थिति हो गई, जब निर्माणाधीन दक्षिणमुखी पंचमुखी हनुमान मंदिर की मूर्ति गायब थी। ख़बर लगते ही बजरंग दल और विश्व हिंदू परिषद के साथ भाजयुमो के कार्यकर्ता मौके पर पहुंचे। युवकों ने इसे धार्मिक आस्था पर चोट बताते हुए गायब हुई मूर्ति की आसपास काफी खोजबीन की, लेकिन कामयाबी हाथ नहीं लगी। फिर सिटी कोतवाली जाकर लिखित शिकायत दर्ज कराई और आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी की मांग की। पुलिस ने आस्था से जुड़े इस मसले को संजीदगी से लेते हुए निष्पक्ष जांच का भरोसा दिया है।

29-02-2020
Breaking : सुधांशु त्रिवेदी आज रायपुर में, विश्व हिंदू परिषद के कार्यक्रम में शामिल होंगे

रायपुर। राज्यसभा सांसद और प्रख्यात वक्ता सुंधाशु त्रिवेदी शनिवार शाम विश्व हिंदू परिषद के कार्यक्रम में शामिल होंगे। वे शनिवार शाम साढ़े 4 बजे गुजराती समाज सभागृह, गुजराती स्कूल देवेन्द्र नगर में होने वाली संगोष्ठी में अपनी बात रखेंगे। संगोष्ठी का विषय सांस्कृतिक राष्ट्रवाद एवं बदलता हुआ सामाजिक, राजनैतिक परिदृश्य है। सुधांशु त्रिवेदी के इस दौरे पर देश और प्रदेश के हालात को देखते हुए सभी की निगाहें टिकी हुई है। चाहे देश में इस वक्त सीएए, एनआरसी या एनपीआर का मुद्दा हो या प्रदेश में आईटी का छापा, इस मुद्दों पर भी वे अपनी बात रख सकते हैं या उनसे चर्चा हो सकती है। भाजपा नेता सुंधाशु त्रिवेदी एक अच्छे राजनीतिक विश्लेषक भी हैं, वे तमाम मुद्दों पर बेबाकी से अपनी बात रख सकते हैं।

19-12-2019
नागरिकता संशोधन अधिनियम किसी का विरोधी नहीं तो विरोध क्यों- अमित श्रीवास्तव
 

कोरिया। सरगुजा संभागीय (विभाग) विश्व हिंदू परिषद मंत्री समूह की बैठक अंबिकापुर संपन्न हुई। विश्व हिंदू परिषद ने नागरिकता संशोधन अधिनियम 2019 के विरूद्ध भड़के हिंसक प्रदर्शनों को छद्रा धर्मनिरपेक्षता वादियों के द्वारा निहित स्वार्थों से पीड़ित एक देश विरोधी नियंत्रित बताया है। विहिप के मंत्री अमित श्रीवास्तव ने कहा कि विदेशी घुसपैठियों को देश से बाहर निकालने तथा पाकिस्तान, बांग्लादेश तथा अफगानिस्तान के धार्मिक के उत्पीड़न को शिकार शरणार्थियों को भारत में शरण देने से किसी भी भारतीय को कोई हानि नहीं है। इसके बावजूद कुछ धर्म निरपेक्षता वादियों तथा निहित स्वार्थी राजनीतिक दलों द्वारा अल्पसंख्यक तुष्टीकरण की नीति के अंतर्गत जनता को भड़का कर जो हिंसक प्रदर्शन कराए जा रहे हैं। राहुल गांधी जी द्वारा पाक-बांग्लादेशी क्रूर समाज समुदाय के प्रति हमदर्दी किंतु वहां के प्रताड़ित हिंदू समुदाय का विरोध करते हुए स्वातंत्रय वीर सावरकर का अपमान किया गया। यह सर्वथा निंदनीय व  खतरनाक है। उन्होंने राज सरकारों से अपील की है कि वह सभी अराजक तत्वों के विरुद्ध कठोरतम करवा ही कर जान-माल और राष्ट्रीय संपत्ति के नुकसान के साथ किसी भी प्रकार की हिंसा को अभिलंब रोके।

उन्होंने कहा कि विरोध प्रदर्शन के नाम पर किसी को भी रेलवे स्टेशन बसों सरकारी संपत्ति मीडिया या सुरक्षाबलों पर हमला करने की छूट नहीं दी जा सकती यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है कि कुछ राज्यों की सरकारें देश की संसद व राष्ट्रपति द्वारा अधिकृत नागरिकता संशोधन अधिनियम का विरोध कर इन हिंसक प्रदर्शनों के केवल मूक दर्शक बनी हुई है। जबकि संवैधानिक रूप से सभी को इस अधिनियम का पालन करने हेतु आगे आना चाहिए। श्रीवास्तव ने यह भी कहा कि घुसपैठियों तथा शरणार्थियों के अंतर की रक्षा करना हमारा राष्ट्रीय कर्तव्य है वहीं दूसरी ओर बांग्लादेशी और रोहिणी या घुसपैठियों देश की सुरक्षा के लिए खतरा बन कर भारतीय मुसलमान की भी छवि खराब करते हैं। अतः राजनीतिक दलो शहीद सभी भारतीयों को इन्हें बाहर  का रास्ता दिखाने में सरकार की मदद करनी चाहिए। श्रीवास्तव ने यह भी कहा कि राहुल गांधी जी द्वारा पार्क बांग्लादेशी क्रूर समुदाय के प्रति हमदर्दी किंतु यहां के प्रताड़ित हिंदू समुदाय का विरोध करते हुए स्वातंत्रय वीर सावरकर का जो अपमान किया है वह निंदनीय व अक्षम्य कृत है सावकर के परिवार के त्याग बलिदान व देश भक्ति का कण भर भी यदि उनके या उनके परिजनों में होता तो आज उनकी यह हालत ना होती देश की जागरूक जनता समय आने पर उनको भारतीय महापुरुष के इस घोर अपमान का प्रतिफल अवश्य देगी। विश्व हिंदू परिषद ने राज्यों तथा पुलिस प्रशासन से राष्ट्रीय संपत्ति के साथ जान-माल का कठोरता से रक्षा करने तथा देशभर में शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील दिखी है।

05-12-2019
विश्व हिंदू परिषद ने एकल विद्यालय में किया स्वेटर वितरण

कोरिया। एकल विद्यालय कोरिया जिला मनेंद्रगढ़ अंचल के मासिक समीक्षा बैठक हुई। उस बैठक में विगत एक माह की कार्य की समीक्षा हुई एवं आगामी एक माह की कार्य करने की रूपरेखा बनी इसमें जिले के समस्त कार्यकर्ता उपस्थित थे। कोरिया जिला में 11 संच हैं। इसमें एक संच में 30 विद्यालय होते हैं। बैठक में यह निर्णय लिया गया कि नशा मुक्ति के तहत ग्राम अस्तर में कार्य की जाएगी। कोरिया जिला के कलेक्टर डोमन सिंह भी नशा मुक्त जिला बनाने के लिए कमर कसे हुए हैं एवं हम समाजिक संगठन भी उनके साथ कमरकस कोरिया जिला को नशा मुक्त जिला बनाने में अग्रसर उनके साथ आगे बढ़ रहे हैं। कोरिया जिले के एकल विद्यालय समस्त पदाधिकारी के लिए विश्व हिंदू परिषद के पदाधिकारी सेविंग से कार्यकर्ता के लिए स्वेटर वितरण किए। नरेश सोनी, संदीप सोनी के द्वारा सभी कार्यकर्ता के लिए ठंडी को देखते हुए एक एक स्वेटर प्रदान किए गए। उस बैठक में उपस्थित कोरिया जिला के विश्व हिंदू परिषद कार्यकारी अध्यक्ष नरेश सोनी , बजरंग दल विभाग संयोजक रतन केसरवानी, प्रवीण सिंह, सीमा सिंह, शकुंतला सिंह, जया जिला टीम के महिलाएं पदाधिकारी भी उपस्थित थे ।

10-11-2019
राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार डोभाल ने की धर्मगुरुओं के साथ बैठक, रामदेव, स्वामी परमात्मानंद, कल्बे जव्वाद रहे मौजूद

नई दिल्ली। अयोध्या मसले पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद रविवार को राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल ने धार्मिक नेताओं के साथ बैठक की। डोभाल के आवास पर हुई इस बैठक में योग गुरु बाबा रामदेव, स्वामी परमात्मानंद, शिया धर्मगुरु मौलाना कल्बे जव्वाद और महमूद मदनी समेत कई अन्य मौजूद थे। विश्व हिंदू परिषद के नेता आलोक कुमार ने बैठक के बाद कहा कि आज का मुख्य मुद्दा यही था कि कैसे देश में अमन और शांति बनी रहे। सभी धर्मगुरुओं ने इसी बात पर जोर दिया कि वह देश में अमन और शांति चाहते हैं। बैठक में मौजूद रहे अन्य संतों ने बताया कि मुख्य मुद्दा देश में कैसे अमन शांति कायम रहे यही थी। हम सब इसके लिए प्रयास करेंगे।  बता दें कि अयोध्या विवाद पर फैसले के बाद गृहमंत्री अमित शाह ने अजीत डोभाल के साथ बैठक की थी। अयोध्या पर फैसले के मद्देनजर देशभर में खासकर उत्तर प्रदेश में अलर्ट है। अयोध्या के आसपास भारी संख्या में सुरक्षाबलों को तैनात किया गया है।

 

07-11-2019
अयोध्या मामले पर अनावश्यक बयानबाजी से बचे मंत्री : प्रधानमंत्री

नई दिल्ली। अयोध्या मामले पर उच्चतम न्यायालय का फैसला आने से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने मंत्रियों से इस मुद्दे पर अनावश्यक बयान देने से बचने और देश में सौहार्द बनाए रखने को कहा है। सरकार के सूत्रों ने बताया कि यहां मंत्रिपरिषद की एक बैठक में प्रधानमंत्री ने कहा कि उच्चतम न्यायालय का फैसला आने की उम्मीद है इसलिए देश में सौहार्द बनाए रखना हर किसी की जिम्मेदारी है। मोदी ने इस मुद्दे पर अनावश्यक बयानबाजी से बचने को कहा। गौरतलब है कि प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई 17 नवंबर को सेवानिवृत्त हो रहे हैं। ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि उच्चतम न्यायालय अयोध्या मामले में इससे पहले अपना फैसला सुना सकता है।

मुकदमा जीते तो उन्माद नहीं, हारे तो विषाद नहीं : विहिप

विश्व हिंदू परिषद के एक शीर्ष पदाधिकारी ने कहा कि अयोध्या विवाद के मुकदमे में उच्चतम न्यायालय के संभावित फैसले के मद्देनजर लोगों से हर स्थिति में संयम बरतने की अपील की जा रही है। विहिप के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष विष्णु सदाशिव कोकजे ने कहा, अयोध्या मामले में उच्चतम न्यायालय के फैसले से पहले देश में अमन-चैन का माहौल है।

कांग्रेस ने बुलाई सीडब्लूसी की बैठक

वहीं, अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले से ठीक पहले कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कांग्रेस कार्यसमिति (सीडब्लूसी) की बैठक बुलाई है। यह बैठक दस नवंबर को होने की संभावना है। पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि बैठक में अयोघ्या मामले पर अदालत के फैसले को लेकर विचार किया जाएगा। 

22-10-2019
एकल विद्यालय सरईगहना में सात दिवसीय वर्ग का समापन

कोरिया। एकल विद्यालय सात दिवसीय प्रशिक्षण वर्ग मंगलवार को सरईगहना में समापन हुआ। वर्ग मे संच बैकुंठपुर आचार्य एवं मनेंद्रगढ़ संच आचार्य सम्मिलित हुए। इस वर्ग में आचार्य को संस्कार एवं जैविक खाद, स्वच्छता,आरोग अनेक प्रकार का प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण के समापन सत्र में भारत माता की प्रतिमा पर दीप प्रज्वलित एवं  भारत माता की आरती कर एकल विद्यालय का सात दिवसीय अभ्यास वर्ग समापन किया गया। समापन सत्र में एकल विद्यालय संच बैकुंठपुर के अध्यक्ष शैलेश शिवहरे व विश्व हिंदू परिषद के कार्यकारी अध्यक्ष नरेश सोनी एवं रामसागर सिंह, कमलेश गुप्ता सरपंच एवं ग्रामवासी उपस्थित थे।

19-10-2019
विश्व हिंदू परिषद ने सौंपा राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन

बैकुंठपुर। लखनऊ में हिन्दू महासमाज के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष कमलेश तिवारी के निर्मम हत्या के संबंध में शनिवार को विश्व हिन्दू परिषद ने ज्ञापन सौंपा। परिषद के मंत्री दिलीप यादव के नेतृत्व में एवं सर्व हिन्दू संगठन की ओर से सोनहत एसडीएम के माध्यम से राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा गया। इसमें दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई कर फांसी की सजा की माँग की। ज्ञापन सौंपने वालों में हिन्दू संगठन के शेखर सिंह, संदीप सोनी, राजेश सिंह, सचिन प्रसाद साहू, उमाशंकर शुक्ल उपस्थित थे।

 

16-10-2019
एकल विद्यालय में 7 दिवसीय प्रशिक्षण शुरू

बैकुंठपुर। एकल विद्यालय में 7 दिवसीय प्रशिक्षण सरईगहना में शुरू हुआ। इसमें बैकुंठपुर संच 30 आचार्य एवं मनेंद्रगढ़ संच 30 आचार्य सम्मिलित होंगे। इस वर्ग में संस्कार,जैविक खाद, स्वच्छता सहित अनेक प्रकार का प्रशिक्षण दिया जाएगा। प्रशिक्षण के उद्घाटन सत्र में भारत माता की प्रतिमा पर दीप प्रज्ज्वलित कर एकल विद्यालय का सात दिवसीय अभ्यास वर्ग का प्रारंभ किया गया। उद्घाटन सत्र में विश्व हिंदू परिषद के सरगुजा विभाग मंत्री अमित श्रीवास्तव, विश्व हिंदू परिषद के कोरिया जिला अध्यक्ष संदीप सोनी,विश्व हिंदू परिषद के कार्यकारी अध्यक्ष नरेश सोनी एवं सरपंच उपसरपंच एवं ग्रामवासी उपस्थित थे।

 

15-10-2019
17 अक्टूबर से आचार्यों का सात दिवसीय प्रशिक्षण

कोरबा। ब्लॉक कोरबा में आचार्यों का सात दिवसीय 17 से 23 अक्टूबर तक देवपहरी के सभागार भवन में प्रशिक्षण होगा। बता दें कि बालको और देवपहरी में एकल अभियान (विश्व हिंदू परिषद) के 60 विद्यालय संचालित है। इसमें आचार्य पंचमुखी व प्राथमिक शिक्षा, आरोग्य शिक्षा, ग्राम विकास शिक्षा, जागरण शिक्षा, संस्कार शिक्षा को सप्ताह में एक बार गांव वालों को पढ़ाते है। इससे गांव में सर्वागीण विकास हो सके। इसके लिए निश्चित समय सारणी के अनुसार आचार्यों  को प्रशिक्षण दिया जाएगा। 

10-08-2019
राम मंदिर को लेकर दिल्ली में विश्व हिन्दू परिषद की बैठक आज

नई दिल्ली। राम मंदिर बनाने की मांग को विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) ने एक बार फिर से तेज कर दिया है। राम मंदिर आंदोलन को लेकर वीएचपी की अखिल भारतीय संत समिति शनिवार को राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में बैठक करने जा रही है। इस बैठक में वीएचपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष चम्पत राय, महंत ज्ञानदेव, युगपुरुष स्वामी परमानंद, स्वामी जितेंद्रानंद और डॉ रामविलास दास वेदान्ती समेत 100 संत मौजूद रहेंगे।

सूत्रों के मुताबिक वीएचपी की अखिल भारतीय संत समिति शनिवार को राम मंदिर निर्माण करने के लिए मोदी से सरकार से संसद में कानून बनाने की मांग करेगी। वीएचपी के अखिल भारतीय संत समिति का मानना है कि जिस तरह मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के लिए संसद में कानून बनाया, उसी तरह राम मंदिर के निर्माण के लिए भी संसद से कानून बनाया जाना चाहिए। आपको बता दें कि राम मंदिर मामले की सुनवाई सुप्रीम कोर्ट में चल रही है। शीर्ष अदालत ने मामले में सप्ताह में पांच दिन सुनवाई करने का फैसला लिया है। इससे पहले मामले को सुलझाने के लिए सुप्रीम कोर्ट ने मध्यस्थता पैनल का गठन किया था, जो विवाद को सुलझाने में विफल रहा। इसके बाद ही कोर्ट ने मामले की रोजाना सुनवाई का फैसला किया है।

वहीं, शुक्रवार को मामले में पक्षकार और अखिल भारतीय श्री पंच रामानंदीय निवार्णी अखाड़ा के महंत धर्मदास ने कहा कि मुसलमानों और विपक्षी दलों के पास कोई कागजात नहीं है। वो सिर्फ मामले की सुनवाई में देरी करने की कोशिश कर रहे हैं। धर्मदास ने यह भी भरोसा जताया कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण जल्द ही शुरू हो जाएगा। हालांकि, सुन्नी वक्फ बोर्ड के वकील राजीव धवन ने रोजाना सुनवाई के सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर असमर्थता जाहिर की। उन्होंने कहा कि ये सिर्फ एक हफ्ते का मामला नहीं है, बल्कि लंबे समय तक चलने वाला है। उन्होंने कहा, 'हमें दिन-रात अनुवाद के कागज पढ़ने होते हैं और कई तैयारियां करनी होती हैं। इस पर चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा कि हमने आपकी बात सुन ली है, हम आपको बताएंगे।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804