GLIBS
24-11-2019
ओलंपिक के कांस्य को गोल्ड पदक में बदलना मेरा सपना : मैरीकॉम

सोनीपत। हरियाणा के सोनीपत में एक निजी स्कूल में वार्षिक खेल उत्सव के मौके पर अंतरराष्ट्रीय बॉक्सर मैरीकॉम पहुंची। अंतरराष्ट्रीय बॉक्सर मैरीकॉम ने इस अवसर पर बच्चों को संबोधित करते हुए कहा कि ओलंपिक में गोल्ड मेडल जीतना मेरा सपना है। उन्होंने कहा कि इस उम्र में भी बहुत कुछ अचीव करके ओलंपिक में कांस्य पदक को गोल्ड में बदलना मेरा सपना है। सोनीपत के एक निजी स्कूल के वार्षिक खेल उत्सव पर बॉक्सर मैरीकॉम ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि हमारे देश में खिलाडिय़ों के लिए एक बेहतर इंफ्रास्ट्रक्चर और अच्छे उच्च स्तरीय कोच होने की बहुत आवश्यकता है। मैरीकॉम ने कहा कि शादी के बाद और बच्चे होने के बाद वापसी करना बहुत बड़ी बात है। उन्होंने कहा कि मैं सभी महिला खिलाडिय़ों से कहना चाहती हूं कि सभी महिलाएं शादी के बाद वापसी करें और देश का नाम रोशन करें। बॉक्सिंग चैंपियन ने कहा कि मैंने सभी प्रतियोगिताओं में गोल्ड मेडल जीते हैं। मेरे पास छह-छह खिताब है, जो किसी के पास नही है, उसके बावजूद भी मेरे सपने अभी पूरे नहीं हुए हैं क्योंकि ओलंपिक में गोल्ड जितना मेरा सबसे बड़ा सपना है और इसके लिए मैं तैयारियों में जुटी हुई हूं। विजेंदर सिंह के प्रोफेशनल बॉक्सिंग में लगातार 12वीं जीत पर मैरीकॉम ने कहा कि जब भी भारत में बॉक्सिंग की बात होती है तो विजेंदर सिंह और मैरीकॉम का ही नाम आता है और मैं उनकी जीत से बहुत खुश हूं।

22-11-2019
छत्तीसगढ़ की स्कूल गर्ल्स बास्केटबॉल टीम ने जीता रजत पदक

रायपुर। छत्तीसगढ़ स्कूल गर्ल्स बास्केटबॉल टीम ने दिल्ली में आयोजित सीनियर स्कूल नेशनल बास्केटबॉल चैम्पियनशिप में रजत पदक जीता। टीम ने सेमीफाइनल मैच में नेल बाइटिंग में दिल्ली को 68-64 अंकों से हराया था। इसी तरह छत्तीसगढ़ स्कूल के लड़कों की बास्केटबॉल टीम ने दिल्ली में आयोजित जूनियर स्कूल नेशनल बास्केटबॉल चैम्पियनशिप में कांस्य पदक जीता। उन्होंने नेल बिटिंग फाइनल मैच में 72-70 अंकों से पंजाब को हराया। छत्तीसगढ़ की बास्केटबॉल टीम की इस उपलब्धि पर प्रदेश बास्केटबॉल संघ के उपाध्यक्ष अनिल पुसदकर ने समस्त खिलाडिय़ों को बधाई देते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की है। 

 

10-11-2019
ऐश्वर्य, अंगद और मेराज ने पदक जीतकर हासिल किया ओलंपिक कोटा

नई दिल्ली। अगंद वीर सिंह बाजवा ने 14वीं एशियाई चैंपियनशिप में पुरुषों की स्कीट स्पर्धा में स्वर्ण और मेराज खान अहमद ने रजत पदक जीता। वहीं ऐश्वर्य प्रताप सिंह तोमर ने 50 मीटर राइफल थ्री पोजीशन में कांस्य पदक जीता। इन तीनों निशानेबाजों ने पदक के साथ ओलंपिक कोटे भी हासिल किए। इससे भारत अब तक निशानेबाजी में रिकॉर्ड 15 कोटा स्थान हासिल कर चुका है। लंदन ओलंपिक 2012 में 11, जबकि रियो ओलंपिक 2016 में 12 भारतीय निशानेबाजों ने भाग लिया था। अंगद और मेराज का फाइनल में एक समान 56 स्कोर रहा। इसके बाद शूटॉफ  में अंगद ने मेराज को 6-5 से मात देकर पीला तमगा जीता। ऐश्वर्य ने आठ निशानेबाजों के फाइनल में 449.1 अंक बनाकर तीसरा स्थान हासिल किया। कोरिया के किम जोंगयुन (459.9) ने स्वर्ण ओर चीन के झोंगहाओ झाओ (459.1) ने रजत पदक जीता। ऐश्वर्य ने इसके बाद चैन सिंह और पारुल कुमार के साथ मिलकर टीम स्पर्धा में भी कांस्य पदक जीता। इस 18 वर्षीय भारतीय निशानेबाज ने क्वालिफाइंग में 1168 अंक बनाकर फाइनल में जगह बनाई थी। इस स्पर्धा में भाग ले रहे अन्य भारतीयों में चैन सिंह क्वालिफिकेशन में 17वें और पारुल कुमार 20वें स्थान पर रहे। मध्यप्रदेश के खरगौन निवासी तोमर ने जर्मनी के सुहल में आईएसएसएफ जूनियर विश्व कप में राइफल थ्री पोजीशन में जूनियर वर्ग में विश्व रिकॉर्ड बनाया था। तोमर थ्री पोजीशन में संजीव राजपूत के बाद कोटा हासिल करने वाले दूसरे भारतीय निशानेबाज हैं।

05-11-2019
एशियाई निशानेबाजी चैम्पियनशिप : मनु ने साधा गोल्डन निशाना

नई दिल्ली। राष्ट्रमंडल खेल और युवा ओलंपिक की स्वर्ण पदक विजेता निशानेबाज मनु भाकर ने मंगलवार को कतर में चल रहे एशियाई निशानेबाजी चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक जीता है। मनु ने 10 मीटर एयर पिस्टल इवेंट में गोल्ड मेडल पर निशाना साधा। इससे पहले भारतीय निशानेबाज दीपक कुमार ने कांस्य पदक हासिल किया था। दीपक ने 8.9 प्वाइंट्स के साथ फाइनल शुरू किया। इसके बाद वह लगातार 10 से ज्यादा अंक हासिल किए।

 

02-11-2019
अंडर-23 विश्व कुश्ती प्रतियोगिता: पूजा गहलोत ने जीता सिल्वर मैडल, भारत को मिला दूसरा पदक

नई दिल्ली। पूजा गहलोत ने हंगरी के बुडापेस्ट में चल रही अंडर-23 विश्व कुश्ती प्रतियोगिता में महिलाओं के 53 किग्रा वर्ग में शुक्रवार रात रजत पदक जीतकर भारत को प्रतियोगिता में दूसरा पदक दिला दिया जबकि ज्योति को 50 किग्रा के कांस्य पदक मुकाबले और नैना को 72 किग्रा के रेपेचेज में हार का सामना करना पड़ा। पूजा ने 53 किग्रा में क्वालिफिकेशन में रूस की एकातेरिना वेरबीना को 8-3 से तथा क्वार्टरफाइनल में ताइपे की मेंग सुआन सीह को 8-0 से हराकर सेमीफाइनल में जगह बनाई, जहां उन्होंने तुर्की की जेनैप येतगिल को 8-4 से शिकस्त देकर फाइनल में प्रवेश किया। पूजा का स्वर्ण पदक के लिए 2017 की विश्व चैंपियन जापान की हारुना ओकुनो से मुकाबला हुआ, जिसमें उन्हें नजदीकी संघर्ष में 0-2 से हार का सामना करना पड़ा और रजत से संतोष करना पड़ा। भारत का इस प्रतियोगिता में यह दूसरा रजत पदक है। इससे पहले पुरुष फ्रीस्टाइल में रविंदर 61 किग्रा के फाइनल में पहुंचे थे और उन्हें रजत से संतोष करना पड़ा था। भारत ने इस तरह अपने पिछले प्रदर्शन में सुधार कर लिया है। भारत ने पिछली चैंपियनशिप में एक रजत पदक जीता था।

26-10-2019
ओपन टेबल टेनिस स्पर्धा में भारतीय  खिलाड़ियों ने जीते 7 पदक

नई दिल्ली। भारत के युवा टेबल टेनिस खिलाडिय़ों ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपना शानदार प्रदर्शन जारी रखते हुए मस्कट में आयोजित ओमान जूनियर एवं कैडेट ओपन टूर्नामेंट में एक स्वर्ण सहित कुल सात पदक जीते। इस आईटीटीएफ प्रीमियम जूनियर सर्किट प्रतियोगिता में लड़कियों के कैडेट वर्ग में भारत की बी टीम ने चीनी ताइपे-एक को हराकर स्वर्ण पदक जीता। भारतीय टीम में काव्या श्री भास्कर और निश्चिमा सरकार शामिल थी। काव्या ने अपने दोनों एकल मैच जीते। तनीशा एस. कोटेचा और सुहाना सैनी की इंडिया ए टीम को सेमीफाइनल में इसी वर्ग में इंडिया बी टीम से हार मिली। लड़कों के कैडेट वर्ग में दोनों भारतीय टीमों को सेमीफाइनल में हार मिली। इन दोनों टीमों को कांस्य पदक मिला। लड़कियों के जूनियर वर्ग के मुकाबले राउंड रोबिन आधार पर खेले गए और इसमें इंडिया-ए टीम में शामिल स्वस्तिका घोष और अनाग्र्या मंजूनाथ ने सात अंक जुटाते हुए दूसरा स्थान हासिल किया। इस तरह इन दोनों को रजत पदक मिला। श्रेयांस गोयल और एच. जेहो की इंडिया बी टीम को ईरान के हाथों 1-3 से हार मिली और इस तरह यह टीम कांस्य पदक जीतने में सफल रही।

09-10-2019
सीएम बघेल ने तलवारबाजी के खिलाड़ी को दी 50 हजार की आर्थिक सहायता

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज यहां अपने निवास में आयोजित जन चौपाल भेंट मुलाकात में प्रदेश के प्रतिभावान फेंसिंग (तलवारबाजी) खिलाड़ी मोनिका साहू को स्वेच्छानुदान से 50 हजार रूपए राशि स्वीकृत की। जन चौपाल में खिलाड़ी की माता राजेश्वरी साहू ने खिलाड़ी बेटी को आर्थिक सहायता की मांग की थी। मोनिका ने राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर रजत, कास्य पदक प्राप्त की है। परिवार की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं होने के बावजूद परिचितों से उधार लेकर थाईलैण्ड में आयोजित प्रतियोगिता में शामिल हुई थी और प्रतियोगिता में कांस्य पदक प्राप्त की। साथ ही अन्य देशों में भाग लेने के लिए आवश्यक संसाधनों के लिए मुख्यमंत्री से सहायता राशि के लिए आवेदन किया था।

 

18-09-2019
बैडमिंटन: चीन ओपन में थाईलैंड की खिलाड़ी से हारी सायना नेहवाल, स्पर्धा से हुईं बाहर

नई दिल्ली। महिला बैडमिंटन खिलाड़ी सायना नेहवाल बुधवार को यहां जारी चीन ओपन विश्व टूर सुपर 1000 टूर्नामेंट से बाहर हो गई हैं। सायना को महिला युगल वर्ग के पहले दौर में थाईलैंड की बुसानन ओंगबाम्रुंगफान के खिलाफ हार झेलनी पड़ी। आठवीं सीड सायना को वर्ल्ड नंबर-8 बुसानन ने सीधे सेटों में 21-10, 21-17 से शिकस्त दी। दोनों खिलाड़ियों के बीच ओलम्पिक खेल केंद्र शिनचेंग जिमनेजियम में खेला गया यह मुकाबला केवल 44 मिनट तक चला।
सायना मुकाबले में शुरुआत से ही थाईलैंड के खिलाड़ी के सामने मुश्किल में नजर आईं और अपनी लय पाने में कामयाब नहीं हो पाई। इससे पहले, चीन ओपन में सायना का प्रदर्शन सराहनीय रहा है। 2014 में उन्होंने इस टूर्नामेंट का खिताब जीता था और उसके अगले साल फाइनल में भी प्रवेश किया था। हालांकि, लंदन ओलम्पिक में कांस्य पदक का खिताब जीतने वाली सायना बुसानन के सामने कुछ खास नहीं कर पाई। वह लय में नजर नहीं आई और 69 में से केवल 27 अंक की जीत पाई जबकि बाकी के 42 अंक थाईलैंड के खिलाड़ी ने हासिल किए।  

 

11-09-2019
बास्केटबॉल में रूस में अपना लोहा मनवाने के बाद रवीना पहुंचीं सरगुजा

अंबिकापुर। सरगुजा जिले को गौरवान्वित करने वाली कमलेश्वरपुर (मैनपाट) ब्लॉक के ग्राम काराबेल की इंटरनेशनल बास्केटबॉल खिलाड़ी रवीना पैकरा व्लादिवंस्टोक रूस में 10 वीं एशियन पेसिफिक यूथ स्पोट्र्स गेम्स में कांस्य पदक जीत कर वापस आ गई हैं।  इस मौके पर इन्टरनेशनल कोच के.राजेश्वर राव ने रवीना पैकरा को उनके उज्ज्वल भविष्य की बधाई और शुभकामनाएं देते हुए प्रोत्साहित किया। बता दें कि यह प्रतियोगिता 3 से 10 सितम्बर तक आयोजित थी। व्लादिवंस्टोक रूस में आयोजित इस प्रतियोगिता के दौरान भारतीय बास्केटबाल टीम में सरगुजा की रवीना पैकरा शामिल होकर भारतीय टीम के लिए कांस्य पदक जीतने का गौरव हासिल की। वह भारतीय खेल प्राधिकरण के तहत राजनांदगांव जिले में रहकर इन्टरनेशनल बास्केटबाल कोच के.राजेश्वर राव की देखरेख में बास्केटबाल सीख रही थीं। रवीना की इस जीत पर सरगुजा बास्केटबाल संघ में हर्ष का माहौल है। इस बीच सरगुजा बास्केटबाल संघ के अध्यक्ष आदितेश्वर शरण सिंह देव ने भारतीय टीम को शानदार प्रदर्शन के करते हुए कांस्य पदक जीतने पर बधाई दी। साथ ही सरगुजा जिला बास्केटबाल संघ के राष्ट्रीय बास्केटबाल कोच राजेश प्रताप सिंह को बधाई देते हुए कहा कि आपका टेलेंट सर्च प्रोग्राम सराहनीय है। इस प्रोग्राम को और बेहतरीन तरीके से चलाने के लिए हमारे द्वारा हरसंभव सहयोग किया जाएगा।

 

04-02-2019
Veteran Badminton : राष्ट्रीय वेटरन बैडमिंटन में जयंत ने जीता कांस्य 
विश्व वेटरन बैडमिंटन स्पर्धा के लिए चौथी बार चयनित
Advertise, Call Now - +91 76111 07804