GLIBS
13-01-2021
धमतरी पहुंची कोरोना वायरस से बचाव करने वाली कोविशिल्ड वैक्सीन

धमतरी। कोरोना से बचाव के लिए कोविशिल्ड वैक्सीन की 6400 डोज रायपुर से धमतरी पहुंच चुकी है। इसे सीएमएचओ ऑफिस के कोल्ड चेन पॉइंट में रखा जाएगा, वैक्सीनेशन 16 जनवरी से शुरू होगा। प्रथम चरण में 5200 लोगों को चिन्हांकित किया गया है। मुख्य चिकित्सक एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. डीके तुर्रे ने बताया कि प्रथम चरण में कोविड-19 के बचाव हेतु 6400 डोज धमतरी को मिले है, जिसको रायपुर से लेकर गाड़ी धमतरी पहुंच चुकी है। प्रथम चरण के लिए पंजीकृत 5200 लोगों में से 60% को दो चरण में वैक्सीन लगाया जाएगा। 16 जनवरी को जिला अस्पताल, भटगांव स्वास्थ्य केंद्र तथा नगरी में 300 लोगों को वैक्सीन लगाई जाएगी। इसके बाद राज्य के निर्देशानुसार बाकी 31 जगहों में 18 जनवरी से बाकी लोगों को वैक्सिन लगाई जाएगी।आज रायपुर एयरपोर्ट में दोपहर को वैक्सीन फ्लाइट के माध्यम से पहुंचाया गया था।

पहली खेप में वैक्सीन के 27 बॉक्स पहुंचे हैं। इधर वैक्सीनेशन को लेकर पूरी तैयारी कर ली गई है। पहले चरण में छत्तीसगढ़ में स्वास्थ्य क्षेत्र से जुड़े कार्मिकों और फ्रंटलाइन वर्कर्स को कोरोना वैक्सीन लगाई जाएगी। स्वास्थ्य विभाग ने प्रोटोकॉल के अनुसार इन टीकों के वितरण, परिवहन और भंडारण की पुख्ता व्यवस्था की है। सभी जिलों में टीकाकरण के लिए मॉकड्रिल और आपात स्थिति से निपटने का पूर्वाभ्यास भी किया जा चुका है। छत्तीसगढ़ को भारत सरकार की ओर से पहली खेप में सीरम इंस्टीट्यूट आफ इंडिया की निर्मित कोविशील्ड के 3 लाख 23 हजार टीके उपलब्ध कराए जा गए हैं। ये टीके आईसीएमआर की ओर से प्रमाणित हैं।

13-01-2021
कुछ देर में धमतरी पहुंचेगी कोरोना वायरस से बचाव करने वाली कोविशिल्ड वैक्सीन

धमतरी। कोरोना से बचाव के लिए कोविशिल्ड वैक्सीन की 6400 डोज रायपुर से धमतरी के लिए रवाना हो चुकी है, इसे सीएमएचओ ऑफिस के कोल्ड चेन पॉइंट में रखा जाएगा, वैक्सीनेशन 16 जनवरी से शुरू होगा। प्रथम चरण में 5200 लोगों को चिन्हांकित किया गया है। मुख्य चिकित्सक एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.डीके तुर्रे ने बताया कि प्रथम चरण में कोविड 19 के बचाव के लिए 6400 डोज धमतरी को मिले है, जिसको रायपुर से लेकर गाड़ी धमतरी के लिए रवाना हो चुकी है। प्रथम चरण के लिए पंजीकृत 5200 लोगों में से 60 को दो चरण में वैक्सीन लगाया जाएगा। 16 जनवरी को जिला अस्पतालए भटगांव स्वास्थ्य केंद्र तथा नगरी में 300 लोगों को वैक्सीन लगाई जाएगी। इसके बाद राज्य के निर्देशानुसार बाकी 31 जगहों में 18 जनवरी से बाकी लोगों को वैक्सिन लगाई जाएगी। आज रायपुर एयरपोर्ट में दोपहर को वैक्सीन फ्लाइट के माध्यम से पहुंचाया गया था।

पहली खेप में वैक्सीन के 27 बॉक्स पहुंचे हैं। इधर वैक्सीनेशन को लेकर पूरी तैयारी कर ली गई है। पहले चरण में छत्तीसगढ़ में स्वास्थ्य क्षेत्र से जुड़े कार्मिकों और फ्रंटलाइन वर्कर्स को कोरोना वैक्सीन लगाई जाएगी। स्वास्थ्य विभाग ने प्रोटोकॉल के अनुसार इन टीकों के वितरणए परिवहन और भंडारण की पुख्ता व्यवस्था की है। सभी जिलों में टीकाकरण के लिए मॉकड्रिल और आपात स्थिति से निपटने का पूर्वाभ्यास भी किया जा चुका है। छत्तीसगढ़ को भारत सरकार की ओर से पहली खेप में सीरम इंस्टीट्यूट आफ इंडिया की निर्मित कोविशील्ड के 3 लाख 23 हजार टीके उपलब्ध कराए जा गए हैं। ये टीके आईसीएमआर की ओर से प्रमाणित हैं।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804