GLIBS
04-03-2021
धान खरीदी मामले में घिरे खाद्य मंत्री, बृजमोहन अग्रवाल ने कहा- मंत्री गलत जवाब दे रहे हैं

रायपुर। विधानसभा में हंगामे का दौर जारी है। गुरुवार को खाद्य मंत्री धान खरीदी मामले में घिर गए। उनको भाजपा के तीखे सवालों का सामना करना पड़ा। धान खरीदी समितियों और मिलर्स को शासन के भुगतान किए जाने के मामले में बीजेपी विधायक शिवरतन शर्मा ने सवाल पूछा। शिवरतन शर्मा ने कहा क्या केंद्र सरकार के निर्देश पर यह कमेटी बनाई गई है? इसके जवाब में खाद्य मंत्री अमरजीत भगत ने अपने जवाब में कहा कि- शासन स्तर पर मंत्रिमंडल की एक सब कमेटी बनाई गई है। फिर शिवरतन शर्मा ने पूछा- इसी विधानसभा में मंत्री ने स्वीकार किया है कि 2019-20 में 44 हज़ार टन लॉस हुआ है। कितने मिलर्स को प्रोत्साहन राशि का भुगतान किया गया है? इस पर जवाब देते हुए मंत्री भगत ने कहा कि मिलर्स को 630 करोड़ का भुगतान होना है। 430 करोड़ का भुगतान हो चुका है। जैसे-जैसे बिल आ रहे हैं उनका मिलान कर भुगतान किया जा रहा है। बीजेपी विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने पूछा कि- एक क्विंटल चावल के पीछे प्रासंगिक व्यय कितना होता है? मिलर्स को भुगतान के पीछे देरी होने की वजह यही है? अमरजीत भगत ने कहा- 9 रुपए प्रासंगिक व्यय है। बृजमोहन अग्रवाल ने कहा- मंत्री गलत जवाब दे रहे हैं। मैंने पूछा है कि प्रति क्विंटल प्रासंगिक व्यय कितना आता है।

27-02-2021
Video: कर्णेश्वर मेला में भूपेश बघेल ने की शिकरत, कहा-पर्यटन स्थल बनाने हरसंभव होगी कोशिश

धमतरी। माघ पूर्णिमा के मौके पर धमतरी के सिहावा में आयोजित कर्णेश्वर मेला महोत्सव में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल शामिल हुए। उनके साथ कैबिनेट मंत्री कवासी लखमा और खाद्य एवं आपूर्ति निगम के अध्यक्ष रामगोपाल अग्रवाल भी मौजूद रहे। मुख्यमंत्री ने सिहावा क्षेत्र को राम वन गमन पथ से जोड़कर पर्यटन के रूप में विकसित करने की बात कही। वही मेला स्थल का दायरा बढ़ाने के लिए वन भूमि पट्टा सहित तलाब सुंदरीकरण और राष्ट्रीय कृत बैंक शुरुआत करने की घोषणा की। शनिवार को दोपहर 3 बजे मुख्यमंत्री हेलीकॉप्टर से सिहावा पहुंचे। इसके बाद मुख्यमंत्री का काफिला ग्राम सिरसिदा पहुंचा,जहां अविभाजित मध्यप्रदेश में तीन बार मंत्री रह चुके स्व.माधवसिंह ध्रुव के निवास पर पहुंचकर उन्हें श्रद्धांजलि दी। स्व.माधव सिंह के परिजनों से मुलाकात की। इस दौरान परिजनों ने इलाके के सोंढूर बांध का नाम माधव सिंह के नाम पर रखने की मांग की। इस पर मुख्यमंत्री ने अपनी सहमति जताई है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सिहावा के देउरपारा स्थित कर्णेश्वर महादेव मंदिर पहुंचे और पूजा अर्चना की। मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार सभी वर्ग के लोगों के हितों को ध्यान में रखते हुए योजना बनाकर काम कर रही है। कर्जमाफी,नरवा,घुरवा बारी,धान खरीदी,गोबर खरीदी का उन्होंने जिक्र किया। उन्होंने सिहावा क्षेत्र को विश्व पटल के मानचित्र में कैसे आए इसकी चिंता कर रही विधायक डॉ.लक्ष्मी ध्रुव की तारीफ की। मुख्यमंत्री ने मंच से नगरी स्थित कन्या हाईस्कूल को झीरम घाटी में हमले में शहीद हुए स्व.अभिषेक गोलछा के नाम पर रखने की घोषणा की। साथ ही कर्णेश्वर महादेव मंदिर के पास मौजूद तालाब के सौन्दर्यकरण के लिए 10 लाख रुपए देने की बात कही। वहीं मेला स्थल के विकास के लिए मेला समिति को वन भूमि पट्टा वितरण सहित पक्की सड़क बनाने का आश्वासन दिया मुख्यमंत्री ने सिहावा को पर्यटन क्षेत्र से जोड़ने हरसंभव प्रयास करने का आश्वासन दिया है।

 

25-02-2021
धान खरीदी कर पैसे के लिए कर रहा था गुमराह, मामला दर्ज

रायपुर। आरंग थाना पुलिस ने धान खरीदी के मामले में दो लोगों के खिलाफ गबन का अपराध पंजीबद्ध किया है। दरअसल 309.20 क्विंटल धान खरीदी कर धान की रकम 4 लाख 2100 रुपये नहीं देने के मामले में आत्माराम साहू और हरकराम साहू ने शिकायत दर्ज कराई है।
बता दें कि 28 मई 2020 को खोमनलाल सोनकर ने प्रार्थी के ब्यारा में आकर 13 सौ रुपये प्रति क्विंटल की दर से 131.80 क्विंटल धान कीमत 1 लाख 71 हजार 340 रुपए में किया था। साथ ही पैसा नहीं दे पाने पर धान वापस करने का भरोसा दिया था। हरकराम साहू की रिपोर्ट के मुताबिक 28 मई 2020 को खोमनलाल सोनकर ने 177.60 क्विंटल धान की खरीदी की और धान की कीमत 2 लाख 30 हजार 880 रुपये नहीं दिए। पैसे वापस मांगने पर आरोपी ने प्रार्थी को गुमराह किया। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धारा 406 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर लिया है।

 

25-02-2021
हंगामेदार रहा प्रश्नकाल, मंत्री शिव डहरिया के जवाब से असंतुष्ट विपक्ष ने किया वॉकआउट

रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा के बजट सत्र के चौथे दिन की शुरुआत हंगामेदार रही। गुरुवार को प्रश्नकाल 5 प्रश्नों में ही सिमट गया। विपक्ष ने सत्ता पक्ष को घेरने की पूरी तैयारी की थी। पहले धान खरीदी और चावल के उठाव के मामले पर सत्ता पक्ष और विपक्ष के बीच जमकर बहस हुई। इसके बाद एक सावल के जवाब से असंतुष्ट भाजपा के विधायकों ने सदन से बहिर्गमन (वॉकआउट) किया। दरअसल प्रश्नकाल के दौरान धमतरी विधायक रंजना साहू ने नगर निगम धमतरी के संबंध में सवाल उठाया। रंजना साहू ने कहा कि एक सवाल का दो-दो जवाब देकर गुमराह किया जा रहा है। इस पर मंत्री डॉ.शिव कुमार डहरिया ने सदन में जवाब दिया। विपक्ष ने जवाब से असंतुष्ट होकर नारेबाजी की और बहिर्गमन किया।

24-02-2021
Breaking : धान खरीदी के मामले में जवाब से असंतुष्ट भाजपा विधायकों ने किया वाकआउट 

रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा के बजट सत्र के तीसरे दिन बुधवार को भाजपा विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने ध्यानाकर्षण के माध्यम से धान खरीदी में अनियमितता का मामला उठाया। खाद्य मंत्री अमरजीत भगत ने सरकार की ओर से पक्ष रखा। जवाब से असंतुष्ट भाजपा विधायकों ने सदन से वाकआउट किया।

24-02-2021
विधानसभा बजट सत्र का तीसरा दिन आज, धान खरीदी में अनियमितता के मामले में बीजेपी सरकार को घेरेगी

रायपुर। विधानसभा के बजट सत्र का बुधवार को तीसरा दिन है। धान खरीदी के मुद्दे पर सत्र हंगामा हो सकता हैं। समर्थन मूल्य पर धान खरीदी में अनियमितता के मामले को लेकर प्रतिपक्ष यानी बीजेपी सरकार को घेरेगी। बृजमोहन अग्रवाल ध्यानाकर्षण सूचना के माध्यम से यह मामला उठाएंगे। स्वास्थ्य एवं पंचायत मंत्री टीएस सिंहदेव और उद्योग मंत्री कवासी लखमा के विभाग से संबंधित ज्यादातर सवाल लगाए गए हैं। वित्तीय वर्ष 2020- 2021 के तृतीय अनुपूरक अनुमान की अनुदान मांगों पर मतदान होगा।

22-02-2021
भूपेश बघेल ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना,कहा-केंद्र ने धान खरीदी को लेकर अड़ंगेबाजी की

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने केंद्र सरकार पर धान खरीदी को लेकर निशाना साधा है। उन्होंने व्यवहारिक कठिनाइयां लाकर अड़ंगेबाजी का आरोप लगाया है। मुख्यमंत्री ने कहा है कि केंद्र ने धान खरीदी को लेकर अड़ंगेबाजी की है। सीएम बघेल ने कहा है कि अगर अड़ंगेबाजी की तो धान खरीदी कैसे होगी? पहले पुराने बारदाने में खरीदी की अनुमति दी। अब नए बारदाने में चावल जमा करने कह रहे हैं। पहले 60 लाख मीट्रिक टन चावल की अनुमति दी, लेकिन अब 24 लाख मीट्रिक टन की अनुमति मिली है। सीएम बघेल ने बयान दिया है कि अब एक बार फिर केंद्र सरकार से चर्चा की जाएगी। केंद्रीय खाद्य मंत्री से 26 फरवरी को मुलाकात करेंगे।

22-02-2021
छग विस बजट सत्र : राज्यपाल ने कहा- धान खरीदी का बना कीर्तिमान, रिकॉर्ड किसी चमत्कार से कम नहीं 

रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा के बजट सत्र की शुरुआत हो चुकी है। राज्यपाल अनुसुईया सदन में अभिभाषण दे रही हैं। उन्होंने नव वर्ष 2021 के पहले सत्र में सभी का अभिनंदन किया। राज्यपाल ने कहा कि किसानों के हित में मेरी सरकार अच्छा काम कर रही है। 92 लाख मीट्रिक टन से अधिक धान खरीदी की गई है। प्रदेश में धान खरीदी का कीर्तिमान बना है। ये रिकॉर्ड किसी चमत्कार से कम नहीं है। उन्होंने कहा कि कोरोना काम में सरकार ने बेहतर काम किया है। लॉक डाउन के दौरान मेरी सरकार खरी उतरी है। कुपोषण और एनीमिया से मुक्ति के लिए बेहतर काम किए गए। महिलाओं से संबंधित योजनाओं को सुचारू रूप से लागू किया गया।

22-02-2021
विधानसभा का बजट सत्र रहेगा हंगामेदार, सत्ता पक्ष को घेरने भाजपा बना रही रणनीति

रायपुर। बजट सत्र से पहले भाजपा विधायक दल की बैठक होनी है। छत्तीसगढ़ विधानसभा के बजट सत्र में जनहित के मुद्दों पर सरकार को घेरेंगी। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने बताया कि मुख्य विपक्षी पार्टी होने के नाते सदन में हत्या, लूट, डकैती, अपहरण, लचर कानून व्यवस्था, किसानों की धान खरीदी, प्रधानमंत्री आवास योजना के किश्तों की राशि जारी नहीं होने और 15वें वित्त की राशि जारी नहीं होने जैसे कई अहम मुद्दे पर भाजपा सरकार को घेरेंगी। नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने आरोप लगाया कि प्रदेश की कानून व्यवस्था बदत्तर हो चुकी है। रोज चोरी, हत्या, लूट, डकैती और अपहरण जैसे खबरें सुर्खियों में है। पुलिस का खौफ पूरी तरह खत्म हो चुका है, इससे अपराधियों के हौसलें बुलंद है। इसी तरह अनाचार की घटनाओं में लगातार वृद्धि हो रही है, छत्तीसगढ़ में आज बेटियां सुरक्षित नहीं है। नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने कहा कि प्रदेश में धान खरीदी बंद हो चुकी है, लेकिन सोसाइटियों में रखे धान रखा है, इसी तरह कैपिंग की कोई व्यवस्था नहीं है, जिससे किसानों का धान खराब हो रहा है।

पिछले साल खरीदे गए धान के चौथे किश्त की राशि किसानों को अब तक नहीं मिली है। सदन में चर्चा के जरिए चौथे किश्त की राशि के भुगतान और तारीख की जानकारी ली जाएगी। इसी तरह पिछले साल का 1200 करोड़ रुपए धान सड़ गया है, लेकिन आज तक सुनिश्चित नहीं हुआ कि इसके लिए कौन जिम्मेदार है? उन्होंने कहा कि इन सभी मुद्दों पर सत्र के दौरान अलग-अलग चर्चा कर सरकार से जवाब मांगा जाएगा। नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने यह भी आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री आवास योजना की किश्त अब तक जारी नहीं हुई है। योजना के नाम पर ठगी का गिरोह काम कर रहा है। 15वें वित्त की राशि भी जारी नहीं किए है, ऐसे तमाम छत्तीसगढ़ की जनता से जुड़े हितों को बजट सत्र के दौरान उठाकर सवाल से जवाब मांगने विपक्ष के सदस्य पूरी तरह तैयार है।

22-02-2021
छत्तीसगढ़ विधानसभा का बजट सत्र आज से शुरू, 1 मार्च को सीएम बघेल वित्त मंत्री के रूप में बजट पेश करेंगे

रयपुर। विधानसभा का बजट सत्र सोमवार से शुरू होगा। इस दौरान 24 बैठकें होनी है। आज पहले दिन राज्यपाल अनुसुइया उइके का अभिभाषण होगा, 25 और 26 फरवरी को राज्यपाल के अभिभाषण पर चर्चा होगी। 1 मार्च को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल वित्त मंत्री के रूप में बजट पेश करेंगे। 2 और 3 मार्च को बजट पर सामान्य चर्चा होगी। 4 मार्च से 23 मार्च तक बजट अनुदान मांगों पर चर्चा होगी। बता दें कि बजट सत्र में 2 हजार 3 सौ 50 प्रश्न लगाए गए हैं, इसमें 1 हजार 262 तारांकित और 1 हजार 88 अतारांकित प्रश्न लगाए गए हैं। दूसरी ओर विपक्ष ने धान खरीदी, धान का उठाव, किसानों की खुदकुशी, प्रदेश में लॉ एंड ऑर्डर की स्थिति, महिलाओं और युवतियों के खिलाफ बढ़ते अपराध समेत कई मुद्दों पर सरकार को घेरने की तैयारी की है। विधानसभा का बजट सत्र हंगामेदार होने की पूरी संभावना है।

13-02-2021
Breaking : भूपेश कैबिनेट की अहम बैठक आज, कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर होगी चर्चा

रायपुर। भूपेश कैबिनेट की अहम बैठक शनिवार को होनी है। इस बजट में कई अहम मुद्दों पर चर्चा हो सकती है। कोरोना काल के वित्तीय संकट से गुजर रही सरकार इस बार एक लाख करोड़ रुपए का बजट लाने की तैयारी में है। इस बैठक में बजट को मंजूरी मिलेगी और राज्यपाल के अभिभाषण पर भी मुहर लगेगी। इसके अलावा स्कूल खोलने, धान खरीदी, धान का उठाव, कोरोना वैक्सीनेशन समेत सम समायिक विषयों पर भी बैठक में चर्चा होगी। कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे ने बताया कि बैठक में बजट सत्र को लेकर अहम रणनीति तैयार की जाएगी।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804