GLIBS
16-02-2020
धान खरीदी का दावा कर किसानों को भरमा रही प्रदेश सरकार : संदीप शर्मा

रायपुर। छत्तीसगढ़ में धान खरीदी की सरकारी व्यवस्था को लेकर भाजपा ने प्रदेश सरकार पर निशाना साधा है। भाजपा नेता संदीप शर्मा ने कहा कि अभी सरकार के निर्धारित लक्ष्य में से ही लाखों क्विंटल धान की खरीदी होनी बाकी है, और दूसरी तरफ प्रदेश सरकार तथा अधिकारी धान खरीदी को लेकर झूठे दावे कर रहे हैं। महासमुंद जिले के एक किसान मोईनुद्दीन द्वारा अपना धान नहीं बिकने पर कल 17 फरवरी से आमरण अनशन के एलान से सरकार के झूठे दावों और किसानों के साथ किए जा रहे छल की पोल खुल रही है। भाजपा किसान मोर्चा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष संदीप शर्मा ने कहा कि अब प्रदेश सरकार धान खरीदी का लक्ष्य हासिल करने का दावा कर किसानों को फिर भरमा रही है। धान खरीदी को अब महज चार दिन ही बचे हैं। इतनी कम अवधि में आखिर सरकार कैसे लाखों क्विंटल धान खरीद लेगी जबकि आज भी टोकन को लेकर किसान धान खरीदी केन्द्रों तक पहुंचकर भी अपना धान नहीं बेच पा रहे हैं। महासमुंद जिले के एक किसान मोईनुद्दीन ने तो अपना 96 क्विंटल धान नहीं बिकने पर 17 फरवरी से बाकायदा आमरण अनशन पर बैठने का एलान तक कर दिया है वहीं ग्राम मालिडीह आरंग के किसान मनसा कन्नौजे, कृष्ण कुमार चंद्राकर जैसे राज्य के हजारों किसान चौथे टोकन के झांसे में आकर आज धान बेचने से वंचित हो गए हैं। यदि धान खरीदी की मियाद 15 मार्च तक बढ़ाकर किसानों का पूरा धान खरीदने का एलान प्रदेश सरकार ने समय रहते नहीं किया तो हम सब मिलकर किसानों के साथ संघर्ष करेंगे।

14-02-2020
धान खरीदी की तिथि बढ़ाने को लेकर किसानों ने किया चक्का जाम

बीजापुर। जिला मुख्यालय में शुक्रवार को किसानों ने एक बार फिर अपनी मांगों को लेकर नेशनल हाइवे जाम कर दिया है। वही किसानों के इस आंदोलन को भाजपा ने समर्थन देते हुए किसानों की मांग को जायज बताया है। जिले भर के किसानों ने बारदाना की कमी को पूरा करने और धान खरीदी की समय सीमा को बढ़ाने की मांग को लेकर बीजापुर जिला मुख्यालय के धनोरा चौक में एनएच जाम किया। इससे सड़क के दोनों ओर सैकड़ों गाड़ियों की कतार लग गई। किसानों के इस धरने को पूर्व वन मंत्री महेश गागड़ा सहित भाजपा जिला इकाई ने अपना समर्थन दिया है। किसानों ने राज्यपाल के नाम से बीजापुर तहसीलदार टीपी साहू को ज्ञापन सौंपा। पूर्व मंत्री महेश गागड़ा ने कहा कि प्रदेश की भूपेश सरकार ने किसानों से जो वादा किया था वो उसे भूल गई है। आज किसान अपने धान को बेचने के लिए दर दर की ठोकर खाने के लिए मजबूर हो गए है। हमारी पार्टी किसानों के साथ है। भाजपा जिलाध्यक्ष श्रीनिवास राव ने कहा कि कांग्रेस ने किसानों से झूठे वादे कर सत्ता पर कब्जा किया है,आज प्रदेश का किसान पूरी तरह से परेशान हो चुका है। इस धरना प्रदर्शन के दौरान जिले के सैकड़ों किसान के साथ भाजपा के कार्यकर्ता भी उपस्थित रहे।

 

13-02-2020
भाजपा किसानों को लेकर घड़ियाली आंसू बहाना बंद करे : त्रिवेदी

रायपुर। प्रदेश में हो रही धान खरीदी में भाजपा पर कांग्रेस ने झूठ फैलाए जाने का आरोप लगाया है। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा कि भाजपा का चरित्र ही किसान विरोधी है। भाजपा किसानों को लेकर घड़ियाली आंसू बहाना बंद करें। कांग्रेस पर झूठे आरोप मढ़ने के पहले भारतीय जनता पार्टी अपने गिरेबान में झांक कर देखें। भाजपा अपनी सरकार में 15 साल के किसान विरोधी कार्यकाल का स्मरण करें, जब लगातार किसान कर्ज को लेकर आत्महत्या करने को मजबूर थे। कांग्रेस ने तो किसानों की 11000 करोड़ की कर्ज माफी की है। विगत वर्ष 15 लाख 71 हजार किसानों का धान खरीदा गया। छत्तीसगढ़ की कांग्रेस की सरकार इस वर्ष 19 लाख 52 हजार किसानों का धान खरीद रही है। भारतीय जनता पार्टी ने कुल 80 लाख टन धान खरीदा। हमारी सरकार अब तक 78 लाख धान खरीदी है। जिस भारतीय जनता पार्टी ने ढाई हजार रुपए दाम देने में बाधायें डाली वो किस मुंह से कांग्रेस पर धान खरीदी को लेकर आरोप लगाती है। राज्य में पंजीकृत 19 लाख 52 हजार 736 किसानों से प्रति एकड़ 15 क्विंटल धान खरीदने राज्य सरकार प्रतिबद्ध है। अभी तक 16 लाख से अधिक किसानों के द्वारा धान बेचा जा चुका है,78 लाख से अधिक मीट्रिक टन धान की खरीदी हो चुकी है। बीते वर्ष 2018-2019 में 15 लाख 71 हजार किसानों से धान खरीदी किया गया था। आज की स्थिति में 16 लाख किसानों का धान खरीद कर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार 78 लाख मीट्रिक टन से अधिक धान खरीद चुकी है।

12-02-2020
प्रशासनिक दबाव में भरवाया जा रहा है किसानों से सहमति पत्र: कौशिक

रायपुर। प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि पूरे प्रदेश में प्रशासनिक दबाव के बीच किसानों को मजबूरन शपथ पत्र भरवा कर उनके धान के रकबा को घटाया जा रहा है। इससे पूरे प्रदेश में दो लाख एकड़ धान की खरीदी नहीं हो पाई है और बड़ी संख्या में किसान धान बेचने से वंचित हैं। नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने कहा कि धान खरीदी को लेकर प्रदेश की कांग्रेस सरकार की नीति स्पष्ट नहीं है, जिसकी वजह से प्रदेश के किसानों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। दो लाख एकड़ में करीब 30 लाख क्विंटल धान की खरीदी नहीं हो पायी है। कौशिक ने कहा कि इस पूरे मसले पर सरकार को स्पष्ट तौर पर जवाब देते हुए किसानों के हित में ठोस कदम उठाने चाहिए। कांग्रेस की सरकार के इस नीति से किसान पिस रहे है। इससे पूर्व हमारी सरकार में किसान अंतिम दिनों तक धान बेच सकता था लेकिन जिस तरह की उलझनें कांग्रेस की सरकार के समय में हैं इससे किसान आक्रोशित हैं। 

नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने कहा कि पूरे प्रदेश में किसान आंदोलनरत हैं। उनके आंदोलनों को सरकार दबाने में जुटी हुई है। जिस तरह से पूरे प्रदेश में किसानों के प्रति प्रदेश सरकार भय का वातावरण बना रही है, इससे स्पष्ट है कि धान खरीदी को लेकर कांग्रेस सरकार पर्दा डाल कर केवल बचने की कोशिश कर रही है। अपने साथ हो रहे इस छलावे का माक़ूल जवाब किसान एकजुट होकर जरूर देंगे। जिन वादों के साथ प्रदेश की कांग्रेस सरकार धान खरीदी को लेकर सत्ता में आई थी अब सत्ता में आते ही किसान विरोधी नीति अपना रही है। कौशिक ने कहा कि किसानों का धान पूरा खरीदने के बजाय अब शपथ पत्र लेकर रकबा सरेंडर करवा रही है। किसानों के हित को ध्यान में रखते हुए प्रदेश की कांग्रेस सरकार को प्रदेश के सभी किसानों का पूरा धान खरीदना चाहिए। 
 

 

11-02-2020
धान खरीदी को लेकर किसानों ने कलेक्टर के नाम सौंपा ज्ञापन

बीजापुर।  जिले के गंगालूर क्षेत्र के सैकड़ों किसानों ने धान खरीदी में हो रही समस्या और बारदाना की अभाव को लेकर जिला कार्यालय पहुंचे। किसान धान खरीदी केंद्र गंगालूर में बारदाना का अभाव न हो और किसानों की पूरी धान की खरीदी हो इन दो मांगो को लेकर कलेक्टर से मिलने पहुंचे। कलेक्टर की अनुपस्थिति पर एसडीएम को ज्ञापन सौंपा गया। किसानों ने कहा है कई सप्ताह से खरीदी बंद है और बारदाना उपलब्ध नही है। लोनधारी किसान चिंतित और परेशान हैं। जल्द व्यवस्था पूर्ण न होने की स्थिति में राष्ट्रीय राजमार्ग बाधित करने की बात कही है। किसानों की समस्या को लेकर भाजपा जिलाध्यक्ष श्रीनिवास मुदलियार ने अधिकारियों को जल्द व्यवस्था पूर्ण करने की बात कही है। 

 

10-02-2020
कलेक्टर ने दिए कोचियों और बिचैलियों पर सख्ती बरतने के निर्देश

कोरिया। कलेक्टर की अध्यक्षता में सोमवार को जिला कार्यालय स्थित उनके चेंबर में कृषि, खाद्य, वेटनरी, मार्कफेड, मत्स्य, लीड बैंक, सहकारिता एवं कृषि विज्ञान केंद्र की विभागीय समीक्षा बैठक हुई। बैठक में कलेक्टर ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा किसानों के हित को देखते हुए 20 फरवरी तक धान खरीदी की तिथि बढ़ा दी गई है। इस के लिए उन्होंने कोचियों एवं बिचैलियों पर सख्ती बरतने के निर्देश दिए। इससे कि किसानों को सुगमता से धान विक्रय के अवसर मिले। उन्होंने बताया कि प्रत्येक उपार्जन केंद्र में निर्धारित समय तक संबंधित क्षेत्र के पटवारियों को उपस्थित रहने के निर्देश दिए गए हैं,जिससे उचित व्यवस्था बनी रहे। उन्होंने कहा कि जिन जिला स्तर के अधिकारियों की ड्यूटी निरीक्षण के लिए लगाई गई है, वे अपनी विशेष  नजर बनाये रखें। सीमा से लगे धान उपार्जन केंद्रों में विशेष चौकसी करने के लिए राजस्व, खाद्य एवं पुलिस अधिकारियों को कड़ी निगरानी के निर्देश दिए गए हैं।

कलेक्टर ने कहा कि शासन की महत्वाकांक्षी योजना नरवा, गरूवा, घुरूवा एवं बारी के अंतर्गत पैरादान की अपील पर किसानों की सकारात्मक प्रतिक्रिया मिली है, जिसका नतीजा है कि जिले में अब तक 542 ट्राली पैरा का कलेक्शन किया गया है, जिसे गौठानों में सुरक्षित रखा गया है। कलेक्टर ने आगामी ग्रीष्म ऋृतु को देखते हुए मवेशियों के चारे के लिए किसानों से अधिक से अधिक पैरादान करने का आग्रह किया है। बैठक में कलेक्टर ने कहा कि जिले में मक्के की पैदावार को प्रोत्साहित करने के लिए इस वर्ष कृषि भाग द्वारा 3000 हेक्टेयर में पैदावार की तैयारी की जा रही है। इसके लिए पर्याप्त मात्रा में किसानों को बीज भी उपलब्ध कराए जा रहे हैं। विगत वर्ष 1850 हेक्टेयर में मक्के की पैदावार की गई थी। कृषि विभाग के मैदानी अधिकारी इस कार्य में निरंतर जुटे हुए हैं। इसी तरह उन्होंने कहा कि जिले में पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से झुमका डेम का सौंदर्यीकरण किया जा रहा है,जिसके अंतर्गत मत्स्य विभाग द्वारा मछली आकार का एक्वेरियम बनाया गया है। विभाग को एक्वेरियम को जल्द शुरू करने के निर्देश दिए गए हैं। झुमका डेम में आने वाले पर्यटकों की निरंतर मांग के अनुरूप स्वच्छ भारत मिशन के तहत शौचालय का निर्माण कराने के भी निर्देश दिए गए हैं। इसके साथ ही कलेक्टर ने समस्त अधिकारियों को लोक सेवा गारंटी के अंतर्गत प्रकरणों के जल्द निराकरण और प्रगति की रिपोर्ट को अद्यतन रखने के निर्देश दिए। इस अवसर पर संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

 

09-02-2020
धान खरीदी की अंतिम तिथि 5 दिन बढ़ाने का कांग्रेस ने किया स्वागत

रायपुर। कांग्रेस सरकार द्वारा धान खरीदी की अंतिम तिथि 5 दिन बढ़ाकर 15 फरवरी से 20 फरवरी किए जाने का स्वागत किया है। प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री और कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि भाजपा द्वारा फैलाई जा रही अफवाहों का भंडा फूट गया है। किसान आत्महत्या में राष्ट्रीय परिदृश्य में छत्तीसगढ़ को ला खड़ा करने के लिए जिम्मेदार भाजपा की कलई खुल गई है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार ने बारिश के कारण किसानों की तकलीफ को और जरूरत को समझा। शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि भाजपा ने पूरी धान खरीदी में लगातार अफवाहें फैलाई और झूठ पर झूठ बोलती रही। पहले भाजपा की केंद्र सरकार ने किसानों को धान का दाम 2500 प्रति क्विंटल देने के रास्ते में बाधा डालते हुए छत्तीसगढ़ के किसानों के धान से बना चावल सेंट्रल पूल में लेने से इनकार किया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार लगातार किसान हित में फैसले ले रही है और किसान हित में काम कर रही है।

शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि भाजपा ने राज्य की कांग्रेस सरकार की आर्थिक स्थिति खराब होने को लेकर भी अफवाहें फैलाई और झूठी हाय तौबा मचाने का काम किया लेकिन भूपेश बघेल की सरकार मजबूती से किसानों के साथ खड़ी रही। भाजपा सरकार में तो सिर्फ 15 लाख 71 हजार किसानों का धान खरीदा गया था। लेकिन इस साल अभी अंतिम तिथि में 12 दिन का समय बचा हुआ है और 16 लाख किसानों का धान खरीदा जा चुका है। प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री और कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि असमय बारिश से। किसानों को धान बेचने में हुई असुविधा और अभी तक खरीदे गए धान की सुरक्षा को लेकर राज्य सरकार और कांग्रेस पार्टी दोनों ने गंभीरता से और संवेदनशीलता के साथ काम किया है। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक और अन्य भाजपा नेताओं के बयान पर तीखा जवाब देते हुए  शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की किसानों के प्रति संवेदनशील सरकार ने बेमौसम बारिश के कारण किसानों को हुई कठिनाई को देखते हुए धान खरीदी की अंतिम तारीख 15 फरवरी से बढ़ाकर 20 फरवरी कर दी। भाजपा किसानों के धान खरीदी के विषय में घड़ियाली आंसू बहाते रह गई। 

 

09-02-2020
एक दिवसीय दौरे पर अपने विधानसभा क्षेत्र पहुंचे रमन सिंह, परमेशवरी महोत्सव में हुए शामिल

राजनादगांव। पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह रविवार को अपने एक दिवसीय प्रवास पर राजनादगांव पहुंचे, पूर्व सीएम डॉ रमन सिंह गोविंदराम निर्मलकर आडोटोरियम में देवांगन समाज के द्वारा आयोजित माँ परमेशवरी महोत्सव कार्यक्रम में शामिल हुए। डॉ रमन सिंह ने कहा कि प्रदेश सरकार से हमने आग्रह किया है कि प्रदेश मे धान खरीदी की तारिख और बढाई जाए ताकि किसान अपना धान बेच सके, प्रदेश मे तीन लाख से अधिक किसानोें ने अभी तक धान नही बेचा है, प्रदेश सरकार द्वारा धान खरीदी समय सीमा जो तय की है जिसमे 15 फरवरी तक धान की खरीदी करनी है। लगातार प्रदेश मे रूक रूक के बारिश हो रही है और मौसम साथ नही दे रहा है ऐसे में किसान कहा से धान बेच पाएंगे। रमन सिंह ने प्रदेश सरकार के खिलाफ निशाना साधते हुए कहा कि प्रदेश मे 40 हजार से अधिक बुनकरो को हमारी भाजपा सरकार ने काम दिया था जब मै मुख्यमंत्री था और आज स्थिती यह है कि प्रदेश मे बुनकरों की स्थिती अच्छी नही है, व्यवसाय भी ठप पड गया है।

 

08-02-2020
कांग्रेस का फैसला केवल नौटंकी: कौशिक

रायपुर। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कैबिनेट में धान खरीदी को लेकर लिए फैसले पर  अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। उन्होंने कहा कि धान खरीदी को लेकर कांग्रेस की केवल नयी नौटंकी है। पिछले कुछ दिनों से धान की खरीदी अघोषित रूप से बंद है। इसकी वजह से किसानों को काफी नुकसान का सामना करना पड़ा है। वैसे ही कांग्रेस की सरकार ने धान खरीदी देरी शुरू की है तो इस तिथि को तब तक के बढ़ाया जाना चाहिए जब तक कि किसानों का धान पूरा नहीं खरीदा जाता। उन्होंने कहा कि कांग्रेस केवल धान खरीदी और किसानों को लेकर दिखावा कर रही है। जिन वादों के साथ कांग्रेस सत्ता में आई थी उन वादों को पूरा करने में कांग्रेसी सरकार इन 15 महीनों में असफल है।

 

 

08-02-2020
भूपेश कैबिनेट ने लिए कई महत्वपूर्ण फैसले, पढ़े पूरी खबर....

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में शनिवार को उनके निवास कार्यालय में मंत्रिपरिषद की बैठक आयोजित हुई। बैठक में कई अहम फैसले लिए गए। इसमें समर्थन मूल्य पर धान खरीदी की अवधि को 15 फरवरी से बढ़ाकर 20 फरवरी तक करने का निर्णय लिया गया। वर्ष 2019-20 का तृतीय अनुपूरक अनुमान का विधानसभा में उपस्थापन बावत् छत्तीसगढ़ विनियोग विधेयक, 2020 का अनुमोदन किया गया। बजट अनुमान वर्ष 2020-21 का विधानसभा में उपस्थापन बावत् छत्तीसगढ़ विनियोग विधेयक, 2020 का अनुमोदन किया गया। राज्य के गन्ना किसानों के हित में सार्वजनिक वितरण प्रणाली में आवश्यक शक्कर का क्रय सहकारी शक्कर कारखानों से 3200 रूपए प्रति क्विंटल करने का निर्णय आगामी एक वर्ष के लिए लिया गया।  छत्तीसगढ़ आबकारी नीति वित्तीय वर्ष 2020-21 का अनुमोदन किया गया।

 प्रस्तावित छत्तीसगढ़ प्लास्टिक और अन्य जीव अनाशित सामग्री (उपयोग और निस्तारण का विनियमन) विधेयक, 2020 का अनुमोदन किया गया। खदान/खदान समूहों के खनन से संबंधित संक्रियाओं से समीपस्थ जिले के समस्त क्षेत्र को ‘प्रभावित क्षेत्र‘ घोषित करने के लिए जिला खनिज संस्थान न्यास नियम, 2015 में संशोधन का अनुमोदन किया गया। जिला खनिज संस्थान न्यास नियम 2015 में संशोधन का अनुमोदन किया गया। इसके तहत अब उच्च एवं अन्य प्राथमिकता क्षेत्रांतर्गत शिक्षा, स्वास्थ्य एवं पेयजल आपूर्ति के क्षेत्रों में अधोसंरचना निर्माण कार्यो को छोड़कर शेष सभी प्रकार के अधोसंरचना निर्माण कार्यो पर न्याय निधि में प्राप्त राशि के 20 प्रतिशत तक ही व्यय किया जा सकेगा।

प्रदेश के बस्तर और दुर्ग जिले में स्वीकृत मुख्य खनिज चूना पत्थर के खनिपट्टा क्षेत्र से उत्पादित खनिजों का बाजार उपलब्ध नही होने और आसपास सीमेंट प्लांट स्थापित नही होने के कारण मुख्य खनिज चूना पत्थर को गौण खनिज के रूप में विक्रय करने की अनुमति प्रदान की गई। राज्य की विशिष्टिताओं एवं विविधताओं को समाहित कर पूर्व से उपयोग किए जा रहे राज्य पुलिस के लिए गठन संकेत/प्रतीक का अनुमोदन किया गया। महाधिवक्ता कार्यालय बिलासपुर में विधि अधिकारियों के 15 पद सजृन का कार्योत्तर अनुमोदन प्रदान किया गया। नागरिक सेवाओं को घर तक पहुंचाने के लिए मुख्यमंत्री मितान योजना प्रारंभ किए जाने के संबंध में निर्णय लिया गया। समस्त औपचारिकता पूरी करने के बाद आगामी अगस्त माह से योजना लागू की जाएगी। प्रथम चरण में प्रदेश के सभी नगर निगमों में शासकीय सेवाओं की घर पहुंच सेवा आरंभ की जाएगी।

 

08-02-2020
Breaking: भूपेश कैबिनेट का बड़ा फैसला, अब 20 फरवरी तक होगी धान खरीदी

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में शनिवार शाम यहां उनके निवास कार्यालय में आयोजित कैबिनेट की बैठक में धान खरीदी पर बड़ा फैसला लिया गया है। बैठक खत्म होने के बाद मंत्री मो.अकबर ने मीडिया से चर्चा के दौरान कहा कि प्रदेश में धान खरीदी की तिथि को 5 दिन बढ़ाई गई है, अब 20 फरवरी तक धान खरीदी की जाएगी। इसी तरह प्रदेश में 49 अंग्रेजी शराब दुकान बंद करने  का निर्णय लिया गया है।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804