GLIBS
06-03-2021
प्रोस्थेसिस और अर्थोसिस पर कार्यशाला 9 मार्च को

रायपुर। प्रोस्थेसिस एवं आर्थ्रोसिस पर कार्यशाला का आयोजन 9 मार्च को शाम 4 बजे एम्स में होगा। कार्यशाला के मुख्य अतिथि एम्स के डायरेक्टर डॉ नितिन एम नागरकर होंगे। विशेष अतिथि के रूप में समाज कल्याण विभाग के सचिव एवं राज्य विकलांगता आयुक्त शहला निगार उपस्थित रहेंगी। डॉ जयदीप नंगी ने बताया कि एम्स में गठिया एवं पुराने दर्द से जुड़ी बीमारियों का उपचार किया जाता है। इस माह से प्रोस्थेसिस एवं आर्थ्रोसिस की सेवाएं भी शुरू होने जा रही है। साथ ही नए अनुसंधान भी किए जाएंगे। कार्यशाला के दौरान मरीजों को कृत्रिम अंग अथवा कैलिपर फ्री में लगाएंगे।

01-03-2021
केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने कोरोना वैक्सीन को बताया संजीवनी बूटी

नई दिल्ली/रायपुर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार सुबह कोरोना वैक्सीनेशन अभियान के दूसरे चरण के तहत एम्स पहुंचकर कोरोना वैक्सीन लगवाई। पीएम द्वारा टीका लगवाने के बाद केंद्रीय मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने वैक्सीन को संजीवनी बूटी बताया। केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने कहा ​कि प्रधानमंत्री ने वैक्सीन लगवाकर देश और दुनिया को भरोसा दिलाया है। यह हनुमान जी की संजीवनी बूटी है और प्रधानमंत्री हनुमान के रूप में संजीवनी बूटी जनता को दिला रहे हैं।

01-03-2021
प्रधानमंत्री नरेन्द्र माेदी ने आज एम्स में लगवाई कोरोना वैक्सीन की पहली डोज

नई दिल्ली। देश में कोरोना टीकाकरण का दूसरा चरण शुरू होने पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र माेदी ने सोमवार को कोविड-19 से सुरक्षा के लिए कोरोना वैक्सीन लगवाई। पीएम मोदी  ने आज सुबह अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) पहुंचे, जहां उन्हें भारत बायोटेक की ओर से विकसित वैक्सीन, कोवैक्सीन की पहली डोज दी गई। प्रधानमंत्री ने खुद ट्वीट कर इसकी जानकारी दी और कोरोना के खिलाफ अभियान में सहयोग की अपील करते हुए लोगों से वैक्सीन लगवाने की अपील की। उन्होंने कहा कि “आज एम्स जाकर वैक्सीन का पहला डोल लिया। कोरोना के खिलाफ वैश्विक लड़ाई को मजबूत करने में हमारे डॉक्टर और वैज्ञानिकों ने जिस तेजी से काम किया वह असाधारण है। मैं सभी योग्य लोगों से अपील करता हूं कि वे वैक्सीन लगवाएं। हमें साथ मिलकर देश को कोरोना मुक्त बनाना है।

प्रधानमंत्री को सिस्टर पी निवेदिता और सिस्टर रोसम्मा अनिल ने वैक्सीन लगाई। वह इस मौके पर असमी गमछा पहने हुए थे। यह गमछा असम की महिलाओं के आशीर्वाद का प्रतीक है। उन्होंने इससे पहले भी कई मौकों पर यह गमछा पहना है। प्रधानमंत्री सुबह ही एम्स पहुंच गए थे, जिससे उनके लिए अलग से कोई विशेष व्यवस्था नहीं की गई थी और यह ध्यान में रखा गया था कि इस दौरान आम लोगों को किसी तरह की तकलीफ न हो। उल्लेखनीय है कि आज से कोरोना की रोकथाम के लिए देश में टीकाकरण का दूसरा चरण शुरू हो रहा है। इस चरण में 60 वर्ष से अधिक आयु के तथा सहरोगों से पीड़ित 45 वर्ष से अधिक आयु के लोगों का टीकाकरण किया जाएगा। पहले चरण में स्वास्थ्यकर्मियों तथा अग्रिम पंक्ति के कोराेना यौद्धाओं को टीका लगाया था।

26-02-2021
अस्पताल पहुंचने में अब नहीं होगी देर,सांसद सुनील सोनी ने एम्स-सरोना स्टेशन के बीच सड़क का किया लोकार्पण

रायपुर। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान और सरोना स्टेशन के बीच सड़क और एम्स के गेट नंबर छह का लोकार्पण रायपुर के सांसद सुनील सोनी ने गुरुवार को किया। सड़क और गेट के बन जाने से अब रोगियों और परिजनों को एम्स पहुंचने के लिए टाटीबंध से घूमकर तीन किलोमीटर की दूरी तय नहीं करनी पड़ेगी। लगभग 250 मीटर की दूरी तय कर वे एम्स पहुंच सकेंगे। सांसद सोनी ने ई-रिक्शा के माध्यम से रोगियों को राहत प्रदान करने और 1.5 करोड़ रुपए से स्टेशन का पुनरुद्धार करने की भी घोषणा की। स्टेशन का नाम एम्स-सरोना करने का प्रस्ताव भी है।

सांसद सोनी ने एम्स के गेट नंबर छह का लोकार्पण करने के बाद कहा कि अभी तक रोगियों को टाटीबंध से आने में अधिक दूरी, समय और खर्चा करना पड़ रहा था। अब लगभग 22 लोकल ट्रेन के माध्यम से रोगी और उनके परिजन सरोना स्टेशन पर उतरकर मात्र 250 मीटर की दूरी तय कर एम्स पहुंच सकेंगे। एम्स के गेट नंबर छह के बन जाने से भी सभी को राहत मिलेगी।

उन्होंने कहा कि स्टेशन के पुनरुद्धार के लिए लगभग 1.5 करोड़ रुपए की योजना है। इसके लिए उन्होंने रेलवे अधिकारियों से बात कर ली है। सामाजिक संस्थाओं के माध्यम से स्टेशन से एम्स के बीच ई-रिक्शा चलाने का भी प्रस्ताव दिया गया है। इससे रोगियों और उनके परिजनों को आने में दिक्कत न हो। उन्होंने राज्य सरकार को स्टेशन का नाम एम्स-सरोना स्टेशन करने के लिए भी प्रस्ताव दिया है। इससे बाहर के रोगियों को स्टेशन के बारे में जानकारी मिल सके। सांसद सोनी ने सड़क और गेट के निर्माण के लिए एम्स, रायपुर नगर पालिक निगम और रेलवे को सहयोग के लिए धन्यवाद दिया।

उन्होंने कोविड के उपचार में एम्स के योगदान की सराहना की। उन्होंने कहा कि वह निरंतर केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्ष वर्धन के संपर्क में हैं। शीघ्र ही एम्स को अत्याधुनिक तकनीक की और अधिक मशीनें मिल सकती हैं। एम्स के निदेशक प्रो. (डॉ.) नितिन एम. नागरकर ने सांसद सोनी को गेट नंबर छह का निर्माण करने का सुझाव देने और इसे मूर्त रूप देने के लिए धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि ओपीडी और आईपीडी के लिए प्रतिदिन औसतन 1500 रोगी एम्स पहुंचते हैं जिनमें बड़ी संख्या बाहर के रोगियों की होती है। स्टेशन से लिंक रोड खुल जाने के बाद अब इन रोगियों को कम खर्च और कम समय में एम्स पहुंचने में आसानी हो जाएगी। सभा को विधायक विकास उपाध्याय ने मोबाइल के माध्यम से संबोधित करते हुए इस सुविधा को रोगियों और उनके परिजनों के लिए लाभदायक बताया।

26-01-2021
राज्यपाल ने गणतंत्र दिवस मुख्य समारोह में 25 कोरोना वॉरियर्स का किया सम्मान

रायपुर। राज्यपाल अनुसुईया उइके ने राजधानी के पुलिस परेड ग्राउंड में आयोजित गणतंत्र दिवस के मुख्य समारोह में जिले के 25 कोरोना वॉरियर्स का सम्मान किया। राज्यपाल ने कहा कि कोरोना संक्रमण काल में कोरोना वॉरियर्स ने जिस समर्पण भाव से उत्कृष्ट कार्य किया, वह सराहनीय है। राज्यपाल ने एम्स के डायरेक्टर डॉ. नितिन नागरकर, संयुक्त कलेक्टर द्वय  संदीप कुमार अग्रवाल,राजीव कुमार पाण्डेय, क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी शैलाभ साहू, नगर निगम के अपर आयुक्त पुलक भट्टाचार्य, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी मीरा बघेल, मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल के अधीक्षक डॉ. विनीत जैन, जिला कार्यक्रम प्रबंधक राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन मनीष कुमार मैजरवार,मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल के एनेस्थेशिया विशेषज्ञ डॉ. ओपी सुंदरानी, मेडिकल आॅफिसर डॉ. प्रशांत साहू, ग्रामीण चिकित्सा सहायक डोगेंद्र सिंह परिहार,नायब तहसीलदार अंजलि शर्मा, नायब तहसीलदार सृजन सोनकर, रक्षित केंद्र के सूबेदार द्वय अभिजीत सिंह भदौरिया व सूबेदार गोविंद राम वर्मा, रोजगार अधिकारी केदार पटेल, जिला कार्यक्रम अधिकारी आईसीडीएस अशोक पाण्डेय, समाज कल्याण विभाग के संयुक्त संचालक भूपेन्द्र पाण्डेय, यूआरसीसी राजीव गांधी शिक्षा मिशन शिरीष तिवारी, जोन क्रमांक 5 आयुक्त  चंदन शर्मा, महानिदेशक जनसंपर्क नगर पालिका निगम आशीष मिश्रा, आमानाका थाना के एएसआई वीर सिंह राज, सिविल लाइन थाना के प्रधानआरक्षक 332 भोला चंद्राकर,यातायात रायपुर आरक्षक 634 उत्तम सिंह ठाकुर, सिविल लाइन थाना के आरक्षक 1470 पूर्णेन्द्र वर्मा को सम्मानित किया।

18-01-2021
वैक्सीन लगवाने के बाद एम्स के डायरेक्टर ने लोगों से की अपील, बोले- बिना डरे लगवाए टीका

रायपुर/नई दिल्‍ली। कोरोना वायरस को मात देने के लिए दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान देश में 16 जनवरी से शुरू हो चुका है। पहले दिन 2.24 लाख लोगों को कोरोना की वैक्‍सीन लगाई गई है। दिल्‍ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्‍थान (एम्स) के डायरेक्‍टर डॉ. रणदीप गुलेरिया ने भी कोविड-19 की वैक्‍सीन लगवाई थी। डॉ. रणदीप गुलेरिया ने कहा है कि टीकाकरण के बाद मुझे कोई साइड इफेक्ट नहीं है। मैं सुबह से काम कर रहा हूं और एकदम ठीक हूं। डॉ. गुलेरिया ने लोगों से अपील भी की है कि उन्‍हें बिना डरे वैक्‍सीन लगवानी चाहिए। ऐसा करके हम कोविड महामारी से बाहर निकल सकते हैं। साथ ही मौत की दर को भी कम किया जा सकता है।

26-11-2020
Breaking: कोरोना मरीज ने एम्स से छलांग लगाकर की आत्महत्या, कारण अज्ञात  

रायपुर। राजधानी रायुपर स्थित एम्स अस्पताल में कोरोना मरीज ने छलांग लगाकर आत्महत्या कर ली। कोरोना मरीज जांजगीर निवासी बताया जा रहा है। मिली जानकारी के अनुसार कोरोना मरीज एम्स की दूसरी मंजिल से छलांग लगाई है। घटना की जानकारी मिलते ही आमानाका पुलिस मौके पर पहुंची है। कोरोना पीड़ित को लेकर पूरी जानकारी सामने नहीं आई है, साथ ही इस बात का भी पता नहीं चल पाया है कि उसने आत्मघाती कदम क्यों उठाया है। पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है।

 

11-11-2020
दो नवजातों ने दी कोरोना को मात, एम्स के डॉक्टरों के प्रयास से हुए स्वस्थ

रायपुर। नवजात शिशुओं ने कोरोने को मात दी है। दोनों शिशु पैदा होने के तुरंत बाद पॉजिटिव पाए गए थे। एम्स के डॉक्टरों के अथक प्रयास से दोनों शिशु संक्रमण से मुक्त हुए। एम्स ने उन्हें डिस्चार्ज कर दिया। अस्पताल प्रबंधन से मिली जानकारी के अुनसार ने दोनों कोरोना पॉजिटिव गर्भवतियों को एम्स में भर्ती किया गया था। स्त्री रोग विभाग के चिकित्सकों ने डॉ.सरिता अग्रवाल के निर्देशन में इनका प्रसव कराया। राजधानी निवासी 23 वर्षीय महिला का सामान्य प्रसव हुआ। जन्म के दूसरे दिन शिशु कोरोना पॉजिटिव आया,जिसके बाद उसे आईसीयू में शिफ्ट किया गया था।डॉ.फाल्गुनी पाढ़ी और बाल रोग विभागाध्यक्ष डॉ.एके गोयल के निर्देशन में शिशु का उपचार किया गया।

शिशु को शुरुआत में बुखार था और सामान्य रूप से दूध नहीं पी पा रहा था। शिशु को आक्सीजन सपोर्ट की आवश्यकता पड़ी। लगातार 10 दिनों तक चिकित्सकों की निगरानी में उपचार पाने के बाद शिशु को कोरोना से मुक्त हुआ। 14 दिन बाद शिशु को डिस्चार्ज कर दिया गया है।एक अन्य केस में गरियाबंद निवासी 29 वर्षीय महिला का प्रसव हुआ। शिशु कोरोना पॉजिटिव पाया गया। इसे भी तीन दिन तक आक्सीजन सपोर्ट पर रखा गया। चिकित्सकों की टीम ने  उपचार किया और सात दिन बाद डिस्चार्ज कर दिया गया।

 

06-10-2020
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मोतीलाल वोरा कोरोना पॉजिटिव, एम्स में कराए गए भर्ती

नई दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मोतीलाल वोरा कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं।  उन्हें यहां अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भर्ती कराया गया है। वोरा से जुड़े सूत्रों का कहना है कि उनकी हालत स्थिर बनी हुई है। वोरा केंद्र सरकार में कई विभागों के मंत्री, मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री, उत्तर प्रदेश के राज्यपाल और कांग्रेस के कोषाध्यक्ष रह चुके हैं। बता दें कि अहमद पटेल, अभिषेक मनु सिंघवी, तरुण गोगोई, आरपीएन सिंह तथा पार्टी के कुछ अन्य नेता पिछले कुछ महीनों में कोरोना वायरस से संक्रमित हुए हैं। हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला कोरोना पॉजिटिव पाए गए। उन्होंने मंगलवार को कहा कि वह कोरोना वायरस से संक्रमित पाये गये है। उन्होंने कहा कि उनमें बीमारी के लक्षण नहीं हैं और वह ठीक महसूस कर रहे हैं। जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) के नेता चौटाला ने उन लोगों से अपनी जांच कराने का आग्रह किया है जो उनसे पिछले सप्ताह के दौरान मिले थे।

 

15-09-2020
विधानसभा चुनाव से पहले मोदी सरकार ने दी बिहार को एक और सौगात, स्वास्थ्य सेवाओं का किया विस्तार

नई दिल्ली। विधानसभा चुनाव से पहले बिहार के लोगों के लिए खुशखबरी है। दरअसल, मोदी कैबिनेट से मंगलवार को दरभंगा में एम्स बनाने को मंजूरी मिल गई है। दरभंगा में यह एम्स 48 महीने में बनकर पूरा होगा। इससे पहले खबर आई थी कि वित्त मंत्रालय ने एम्स निर्माण में आने वाली लागत को हरी झंडी दे दी है। बता दें कि इसे लेकर सालों से मांग की जा रही थी।रिपोर्ट्स के अनुसार बिहार के दरभंगा में यह एम्स 1264 करोड़ रुपए की लागत से चार साल के अंदर बनकर तैयार होगा। बिहार के अंदर ये दूसरा एम्स खुलने जा रहे हैं। जबकि राज्य में पहला एम्स पटना में मौजूद है।

हालांकि दरभंगा में एम्स बनने से न सिर्फ बिहार बल्कि यूपी की जनता को भी काफी लाभ मिलेगा। इतना ही नहीं प्राइमरी प्रोजेक्ट रिपोर्ट के अनुसार बिहार का दरभंगा एम्स 750 बेड का होगा। बता दें कि केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने कहा था कि बिहार का दूसरा एम्स दरभंगा में बनने से उत्तर बिहार की जनता को काफी लाभ मिलेगा। उन्होंने आगे यह भी बताया था कि पीएम मोदी के नेतृत्व में देश में बेहतर, आधुनिक व सस्ती स्वास्थ्य सुविधाएं देने के लिए केंद्र सरकार कटिबद्ध है। इसे ध्यान में रखते हुए बिहार में  पांच सुपर स्पेशलिटी अस्पताल का निर्माण हो रहा है।

 

13-09-2020
पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह का निधन, कोरोना वायरस से संक्रमित थे

नई दिल्ली। पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह का रविवार को निधन हो गया है। उन्होंने एम्स में अंतिम सांस ली। फेफड़े में संक्रमण को लेकर दिल्ली एम्स में भर्ती थे लेकिन हालत खराब होने के बाद रघुवंश प्रसाद सिंह को वेंटिलेटर पर रखा गया था। तीन दिन पहले ही उन्होंने लालू यादव को पत्र लिखकर राष्‍ट्रीय जनता दल (राजद) से इस्‍तीफा दे दिया था। उनके निधन पर जेडीयू नेता केसी त्‍यागी ने शोक प्रकट करते हुए कहा कि यह राजनीति की सबसे बड़ी क्षति है। दो दिन पहले एम्स में उनकी हालत बिगड़ गई थी। संक्रमण बढ़ गया था और सांस लेने में परेशानी होने के बाद उन्हें वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया था। कोरोना पॉजिटिव होने के बाद उनका पटना के एम्स में इलाज किया गया था। कुछ ठीक होने के बाद उन्हें पोस्ट कोविड मर्ज के इलाज के लिए दिल्ली एम्स ले जाया गया था। रघुवंश प्रसाद सिंह साल 1977 से लगातार सियासत में रहे। वे लालू प्रसाद यादव के करीबी व उनके संकटमोचक माने जाते रहे। पार्टी में उन्‍हें दूसरा लालू भी माना जाता था।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804