GLIBS
20-08-2020
शास्त्री चौक स्काई वॉक के लिए बनी सर्व सहमति,रोटरी के साथ और रोटरी के बिना स्काई वॉक तैयार करने बनेंगे दो प्रस्ताव

रायपुर। रायपुर ग्रामीण के विधायक सत्यनारायण शर्मा की अध्यक्षता में रायपुर शहर के शास्त्री चौक में स्काई वॉक ब्रिज निर्माण के लिए राज्य शासन द्वारा गठित सामान्य सुझाव समिति की तृतीय बैठक में सर्वसम्मति से स्काई वॉक बनाने पर निर्णय लिया गया। बैठक में तकनीकी परीक्षण के लिए एक उप समिति गठन करने का भी निर्णय लिया गया, ताकि तकनीकी पहलुओं को बारिकी से अध्ययन किया जा सके। बैठक में स्काई वॉक निर्माण के लिए दो प्रस्ताव पर सहमति बनी, जिसमें एक रोटरी के साथ और दूसरा रोटरी के बिना कार्ययोजना तैयार की जाएगी। ताकि जनभावनाओं एवं सुविधाओं के साथ-साथ निर्माण हो और खर्च में भी कटौती की जा सके। इसे तकनीकी सब कमेटी द्वारा परीक्षण कराया जाएगा फिर मुख्य सचिव की अध्यक्षता में गठित समिति के साथ चर्चा कर उस पर अंतिम निर्णय लिया जाएगा। बैठक में रायपुर उत्तर के विधायक गृह निर्माण मंडल के चेयरमैन कुलदीप जुनेजा, संसदीय सचिव विकास उपाध्याय, रायपुर नगर निगम के महापौर एजाज ढेबर, राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष किरणमयी नायक, निगम के सभापति प्रमोद दुबे, रायपुर कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय यादव, मुख्य अभियंता व्हीके भतपहरी, कार्यपालन अभियंता एसवी पड़ेगांवकर सहित वास्तुविद, आर्किटेक्ट, विषय विशेषज्ञ एवं सामान्य सुझाव समिति के सदस्य, संबंधित वरिष्ठ अधिकारी और इंजीनियर उपस्थित थे।

विधायक सत्यनारायण शर्मा की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में रायपुर शहर के शास्त्री चौक में निर्माणाधीन फुट ओव्हर ब्रिज (स्काई वॉक ब्रिज) की उपयोगिता अथवा वैकल्पिक उपयोग के संबंध में विषय विशेषज्ञों ने विचार-विमर्श कर सुझावों पर गहन चर्चा  की। कुछ विशेषज्ञों ने स्काई वॉक की उपयोगिता अथवा वैकल्पिक उपयोग के संबंध में पॉवर पांइट प्रस्तुतिकरण किया। बैठक में जनप्रतिनिधियांे और उपस्थित सदस्यों ने अपने विचार और सुझाव समिति के समक्ष रखे, जिनमें स्काई वॉक के स्ट्रक्चर पर संभावित विभिन्न विकल्पों पर भी आवश्यक सुझाव भी दिए गए। बैठक में अधिकारियों ने बताया कि स्काई वॉक की परियोजना लागत 75 करोड़ रूपए है। अब तक लगभग 50 करोड़ रूपए खर्च किए जा चुके है। उल्लेखनीय है कि राजधानी रायपुर में निर्माणाधीन स्काई वॉक की उपयोगिता अथवा अन्य वैकल्पिक उपयोग के संबंध चर्चा के लिए राज्य शासन द्वारा वरिष्ठ विधायक सत्यनारायण शर्मा की अध्यक्षता में 22 सदस्यीय सामान्य सुझाव समिति गठित की गई है। इसी प्रकार मुख्य सचिव की अध्यक्षता में 25 सदस्यीय तकनीकी सुझाव समिति का भी गठन किया गया है।

 

06-07-2020
मास्क नहीं पहनने पर चौराहों पर वसूला गया जुर्माना, निगम-पुलिस टीम की संयुक्त कार्यवाही

रायपुर। नगर निगम आयुक्त सौरभ कुमार के आदेश व जिला प्रशासन के निर्देश पर पुलिस टीम की उपस्थिति में सोमवार को जोनों के नगर निवेश अभियंताओं ने शहर के 6 प्रमुख चौक पर अभियान चलाया। जयस्तंभ चौक, शास्त्री चौक, अनुपम नगर चौक, धमतरी गेट चौक, फाफाडीह चौक, लोधीपारा चौक में सामाजिक दूरी का नियम तोड़ने और मास्क नहीं लगाने पर चेतावनी देकर जुर्माना वसूला। जोन 2 ने 101 लोगों से12250 रुपए वसूल किया। जोन 3 ने 87 लोगों से 7900 रुपए जुर्माना वसूला। पचपेड़ी नाका चौक में 52 लोगों से 5000 रुपए जुर्माना मास्क नहीं पहनने पर वसूल किया गया। जोन 5 ने 103 लोगों से मास्क नहीं पहनने पर 4450 रुपए जुर्माना वसूला। अधिकारियों ने कहा कि यह अभियान निरंतर जारी रहेगा। सभी लोगों को अनिवार्य रूप से मास्क लगाने की समझाइश दी गई। जिनके पास मास्क नहीं थे, उन्हें निशुल्क मास्क दिए गए।

17-02-2020
विशेष अभियान के 7वें दिन नियम तोड़ने वाले 1400 से अधिक फंसे, पुलिस का दावा- जागरुकता बढ़ी

रायपुर। यातायात पुलिस रायपुर की ओर से शहर की यातायात व्यवस्था को दुरुस्त करने चलाये जा रहे विशेष अभियान के 7वें दिन आज शाम 6 बजे तक 1400 से अधिक वाहन चालकों पर मोटर यान अधिनियम के तहत चलानी कार्रवाई की गई। अभियान रात 8 बजे तक जारी रहा। यातायात पुलिस ने कहा कि यह अभियान तब तक जारी रहेगा, जब तक चौक-चौराहों पर यातायात व्यवस्था सुगम सुरक्षित नहीं हो जाता। साथ ही वाहन चालकों द्वारा स्वयं से यातायात नियमों का पालन नहीं किया जाएगा। बता दें कि शहर के 10 प्रमुख चौक रेलवे स्टेशन चौक, फाफाडीह चौक, देवेंद्र नगर चौक, मरहीमाता चौक, शास्त्री चौक, खजाना चौक, भगत सिंह चौक, अनुपम नगर चौक, महासमुंद बैरियर और वीआईपी टर्निंग पर लगातार सातवें दिन भी विशेष अभियान जारी रहा। यह विशेष अभियान पुलिस उपमहानिरीक्षक एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जिला रायपुर आरिफ एच. शेख के निर्देशन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक यातायात रायपुर एमआर मंडावी के नेतृत्व में चलाया जा रहा है। अभियान में उप पुलिस अधीक्षक यातायात सतानंद सिंह विंध्यराज, कामता सिंह दीवान, सतीश कुमार ठाकुर सहित 7 निरीक्षक, 1 उपनिरीक्षक, 9 सहायक उप निरीक्षक और 80 प्रधान आरक्षक /आरक्षक स्तर के अधिकारी कर्मचारी शामिल है। यातायात पुलिस ने दावा किया है कि विशेष अभियान कार्यवाही से 90 प्रतिशत दोपहिया वाहन चालकों के सिर में हेलमेट दिखने लगा है। साथ ही चौक चौराहों पर रेड सिग्नल होने पर वाहन चालक स्टॉपलाइट का पालन करने लगे हैं।

10-02-2020
शहरवासी हो जाइए खबरदार, बगैर हेलमेट निकलने वालों की खैर नहीं, पुलिस हो गई है मुस्तैद

रायपुर। बगैर हेलमेट अब घर से निकलने वालों की खैर नहीं है। राजधानी पुलिस सोमवार सुबह से खाना-पीना छोड़कर चालानी कार्रवाई के लिए मुस्तैद हो गई है। बगैर हेलमेट वाहन चलाने वालों पर 24 घंटे पुलिस की नजर रहेगी। इसका नजारा आज सुबह से ही शहर के चौक-चौराहों पर देखने को भी मिला। दोपहिया वाहन चालक एप्रोच के साथ मिन्नते करते नजर आए, लेकिन पुलिस ने एक ना सुनी। चाहे महिला हो या पुरुष सभी से मौके पर ई-चालान वसूल किया गया। मौके पर पैसे नहीं रखने वालों से दस्तावेज रखकर वाहन तक जब्त किया गया। तो वहीं ऐसे लोगों को मुख्यालय आकर चालान पटाने की हिदायत दी गई।  

यातायात पुलिस लगातार जागरूकता अभियान चला रही है। हर हैड हेलमेट के तहत 25000 हेलमेट भी बांटे गए। इसके साथ ही सड़क सुरक्षा सप्ताह के दौरान भी हेलमेट लगाने के लिए लोगों को जागरूक किया गया। तीन सवारी वाहन ना चलाने और रॉन्ग साइड पर वाहन ना चलाने की समझाइश भी दी गई। विडंबना तो यह है कि सब जान कर भी लोग यातायात नियमों का पालन नहीं कर रहे हैं। लोगों को फिर से जागरूक करने और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के मार्गदर्शन में शहर के 10 चौक को चिन्हांकित कर आदर्श चौक बनाने के लिए यातायात पुलिस जूट गई है। इस दौरान पुलिस की सख्ती भी शहरवासियों को देखने को मिलेगी।यातायात डीएसपी सतीश ठाकुर ने कहा कि वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के निर्देशानुसार 10 चौक चिन्हित किए  गए हैं, जिन्हें आदर्श चौक बनाना है। इसकी शुरुआत आज से की गई है। यह 10 चौक आदर्श चौक तभी बनेंगे जब शहरवासी नियमों का पालन करेंगे।

इनमें एसआरपी चौक,अनुपम नगर चौक, खजाना चौक, शास्त्री चौक,मरही माता चौक, देवेंद्र नगर चौक, फाफाडीह चौक,वीआईपी टर्निंग और रेलवे स्टेशन 10 चौक शामिल है। इन सभी जगहों पर अलग-अलग टीम बनाई गई है। थाना प्रभारी के साथ थाने के बल को जवाबदारी सौंपी गई है। इनके साथ लोगों को जागरूक करने और नियम का पालन कराने के लिए ट्रैफिक की टीम में पैट्रोलिंग,क्रेन और पूरा अमला लगा हुआ है। उन्होंने कहा कि हेलमेटनहीं पहनने और नियम तोड़ने वालों पर नजर रखने गठित टीम के लिए प्रभारी अधिकारी नियुक्त किया गया है। सभी प्रभारी अधिकारी अपने-अपने चौक में नियम तोड़ने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करेंगे। वाहनों की जब्ती भी बनाई जा रही है। जो चालान नहीं पटाएगा उसे न्यायालय में भी पेश किया जाएगा। लगातार यह अभियान जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि जागरुकता अभियान से भी लोग सुधरे नहीं है।

लोग बगैर किसी डर के हेलमेट भी नहीं पहनेंगे। इसी को ध्यान में रखते हुए आज से एम्फोर्समेंट से चलानी कार्रवाई की जा रही है। लोग आग्रह भी बहुत कर रहे हैं लेकिन नरमी नहीं बरती जा रही है। जब तक एम्फोर्समेंट नहीं होगा तब तक लोग सुधरेंगे नहीं। बगैर हेलमेट पहनने वालों के खिलाफ आने वाले समय में भी अभियान जारी रहेगा। इस डर से ही सही लोग निश्चित ही हैलमेट जरूर पहनेंगे। उन्होंने कहा कि अभियान का पहला फोकस हेलमेट ही है। अधिकांश जो दुर्घटना होती है वह बगैर हेलमेट के कारण होती है। पिछले वर्ष 452 लोगों की सड़क दुर्घटना में मृत्यु हुई थी, उनमें अधिकतर दोपहिया वाहन चालक थे। इनमें भी अधिकांश ऐसे थे जो बगैर हेलमेट के थे।  यातायात डीएसपी सतीश ठाकुर ने कहा कि ई चालान किया जा रहा है। स्वाइप मशीन से चालान वसूल किया जा रहा है। मौके पर जिनके पास पैसे नहीं है उनसे डॉक्यूमेंट लेकर मुख्यालय में आकर चालान पटाने कहा जा रहा है। उन्होंने कहा कि पहली प्राथमिकता डिजिटल फॉर्म में ही चालान लेने की है,क्योंकि आमतौर पर देखा जाता है कि पुलिस पर आरोप लगते हैं। इससे बचने के लिए कैशलेस ट्रांजेक्शन प्राथमिकता में है।

 

 

21-09-2019
स्काई वॉक ब्रिज: सामान्य सुझाव समिति के सदस्यों की हुई बैठक, विशेषज्ञों ने दिया पॉवर पांइट से प्रस्तुतीकरण

रायपुर। रायपुर ग्रामीण के विधायक सत्यनारायण शर्मा की अध्यक्षता में रायपुर शहर के शास्त्री चौक में स्काई वॉक ब्रिज निर्माण के लिए राज्य शासन द्वारा गठित सामान्य सुझाव समिति के सदस्यों ने आज स्थल निरीक्षण किया।  स्थल निरीक्षण के बाद विधायक सत्यनारायण शर्मा की अध्यक्षता में सिविल लाइन स्थित नवीन विश्राम भवन में सामान्य सुझाव समिति की बैठक आयोजित की गई। बैठक में रायपुर शहर के शास्त्री चौक में निर्माणाधीन फुट ओव्हर ब्रिज (स्काई वॉक ब्रिज) की उपयोगिता अथवा वैकल्पिक उपयोग के संबंध में विषय विशेषज्ञों ने विचार-विमर्श कर सुझावों पर चर्चा की। कुछ विशेषज्ञों ने स्काई वॉक के उपयोगिता अथवा वैकल्पिक उपयोग के संबंध में पॉवर पांइट प्रस्तुतीकरण किया। यह समिति की दूसरी बैठक थी।
 बैठक में जनप्रतिनिधियो और उपस्थित सदस्यों ने अपने विचार और सुझाव समिति के समक्ष रखे, जिनमें स्काई वॉक के स्ट्रक्चर पर संभावित विभिन्न विकल्पों पर भी आवश्यक सुझाव भी दिए गए। समिति के अध्यक्ष सत्यनारायण शर्मा ने कहा कि स्काई वॉक निर्माण संबंधी तकनीकी डॉटा सभी सदस्यों को उपलब्ध कराया जाय, जिससे और अधिक गहन अध्ययन कर जनभावना को ध्यान रखते हुए इसका हल निकाला जा सके। बैठक में अधिकारियों ने बताया कि स्काई वॉक की परियोजना लागत 75 करोड़ रूपए है। अब तक लगभग 50 करोड़ रूपए खर्च किए जा चुके है। उल्लेखनीय है कि राजधानी रायपुर में निर्माणाधीन स्काई वॉक की उपयोगिता अथवा अन्य वैकल्पिक उपयोग के संबंध चर्चा के लिए राज्य शासन द्वारा वरिष्ठ विधायक सत्यनारायण शर्मा की अध्यक्षता में 22 सदस्यीय सामान्य सुझाव समिति गठित की गई है। इसी प्रकार मुख्य सचिव सुनील कुजुर की अध्यक्षता में 25 सदस्यीय तकनीकी सुझाव समिति का भी गठन किया गया है।

13-09-2019
राजधानी में 14 को निकलेगी गणेश प्रतिमाओं की आकर्षक झांकियां, ये मार्ग होंगे प्रतिबंधित

रायपुर। राजधानी रायपुर में स्थापित गणेश प्रतिमाओ की आकर्षक व भव्य झांकियां 14 सितंबर शनिवार को निकाली जाएंगी। झांकियां निकालने के साथ प्रतिमाओं का महादेव घाट में विसर्जन कार्यक्रम भी होगा। जिसके लिए जिला प्रशासन और नगर निगम प्रशासन ने सारी तैयारियां पूरी कर ली है। गणेश प्रतिमाओं की झांकियां देखने के लिए लाखों की संख्या में लोग यहां आते है जिनमें रायपुर के अलावा प्रदेश के अन्य कई शहरों से भी लोग यहां पहुंचेंगे। गणेश प्रतिमा झांकी के लिए मार्ग भी तय कर लिए गए है। इसके अनुसार गणेश विसर्जन चल समारोह मार्ग जो कि शहर के राठौड़ चौक से प्रारंभ होकर एमजी रोड, शारदा चौक, जय स्तंभ चौक, मालवीय रोड, चिकनी मंदिर, कोतवाली चौक, सदर बाजार, सद्दानी चौक, शत्ति बाजार, कंकाली पारा, पुरानी बस्ती थाना के सामने होकर लाखे नगर चौक से सुंदर नगर रायपुर चौक होकर महादेव घाट विसर्जन स्थल में प्रतिमाओ का विसर्जन किया जाएगा।

सुगम यातायात के लिए कई मार्ग डायवर्ड किए होंगे :

1. जिन वाहन चालको को बलौदा बाजार मार्ग से बिलासपुर की ओर या महासमुंद की और आवागमन करना है वे रिंग रोड नंबर 3 होकर आवागमन कर सकते हैं
2. दुर्ग भिलाई की ओर से आने वाले सभी छोटी वाहन कार, जीप आश्रम तिराहा तक ही आ सकेंगे किंतु जिन वाहन चालक को शास्त्री चौक की ओर आना है वे रिंग रोड नंबर 1 से रायपुरा चौक पचपेड़ी नाका चौक होकर शास्त्री चौक आ सकते हैं।
इसी प्रकार धमतरी मार्ग की ओर से आने वाली कार जीप छोटे वाहन कालीबाड़ी चौक, महिला थाना चौक शास्त्री चौक से रेलवे स्टेशन या बिलासपुर मार्ग पर आवागमन कर सकेंगे ।
3. शास्त्री चौक से जय स्तंभ चौक की ओर तात्यापारा चौक से शारदा चौक मोदहापारा से जयस्तंभ चौक एवं मालवीय रोड तथा कालीबाड़ी चौक से कोतवाली चौंक से फायरब्रिगेड चौक तरफ सभी प्रकार के वाहनों का आवागमन रात्रि 8:00 बजे से पूर्णत: प्रतिबंधित रहेगा ।
4. सदर बाजार, शक्ति बाजार चौक से अमीन पारा चौक, पुरानी बस्ती थाना आश्रम तिराहा मार्ग से लाखे नगर चौक, आमापारा चौक से लाखे नगर चौक की ओर रात्रि 10:00 बजे से सभी प्रकार के वाहनो का आवागमन पूर्णत: प्रतिबंधित रहेगा ।

वाहनों की पार्किंग के लिए स्थान तय:

गणेश विसर्जन चल समारोह देखने आने वाले श्रद्धालुओं के वाहनों के पार्किंग हेतु निम्नानुसार व्यवस्था की गई है।
1. सिविल लाइन बैरन बाजार की कटोरा तलाब शांति नगर की ओर से आने वाली श्रध्दालु अपना वाहन युुनियन क्लब चौंक से शास्त्री बाजार मार्ग में मोतीबाग के सामने पार्क कर सकते है।
2. चौबे कॉलोनी आमापारा, लाखे नगर, साइंस कॉलेज की ओर से आने वाले वाहनों के लिए आजाद चौक के पास तात्या पारा लाठी नगर चौक पास हिंद स्पोर्ट्स मैदान मैं अपना वाहन पार्क करेंगे।
3.टिकरा पारा की ओर से आने वाले वाहनों के लिए बुढेश्वर चौक के पास, गांधी मैदान एवं स्पोर्ट्स मैदान, श्याम टॉकीज के बाजू पार्क कर सकते हैं।
4. रेलवे स्टेशन, फाफाडीह देवेन्द्रनगर की ओर से आने वाले वाहनों की लिए द्वद्द रोड की गली नंबर 1, 2, 3, 4, ग्रास मेमोरियल हॉल के पास सिंधी बाजार के पास अपना वाहन पार्क कर सकते हैं।
5. पंडरी, राजा तालाब, मोवा की ओर से आने वाले वाहन मल्टी लेवल पार्किंग पुराना बस स्टैंड एवं शहीद स्मारक के पास अपना वाहन पार्क कर सकते हैं।

भारी माल वाहक वाहनों के प्रवेश पर प्रतिबंध:- गणेश विसर्जन समारोह कार्यक्रम के दौरान रायपुरा चौक से महादेव घाट अम्लेश्वर, नदी पुल तक सभी प्रकार के मालवाहक वाहनों का आवागमन पूर्णत: प्रतिबंधित रहेगा जीन्हे अम्लेश्वर से रायपुर की ओर आवागमन करना है वे अम्लेश्वर से कुम्हारी टाटीबंध होकर तथा खुडमुडा भाटागांव चौक होकर आवागमन कर सकते हैं।

 

26-07-2019
शास्त्री चौक से टाटीबंध तक लाइट रेल चलाने रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश

रायपुर।  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से आज मंत्रालय में नुआम टेक्नोप्रन्योर प्राइवेट लिमिटेड मुम्बई के प्रतिनिधिमंडल ने सौजन्य मुलाकात की। इस दौरान कंपनी के पदाधिकारियों ने लाइट रेल सिस्टम के बारे में प्रस्तुतिकरण दिया। बैठक में लाइट रेल चलाने की संभावनाओं पर चर्चा भी की गई। बैठक में मुख्यमंत्री ने कम्पनी के अधिकारियों से नया रायपुर से दुर्ग तक लाइट रेल चलाने के बारे में चर्चा की। उन्होंने कम्पनी के अधिकारियों से परीक्षण के तौर पर शास्त्री चौक से टाटीबंध तक इसे चलाने के लिए सर्वे कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हैं। बैठक में वन मंत्री मोहम्मद अकबर, मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव गौरव द्विवेदी, परिवहन विभाग के प्रमुख सचिव मनोज पिंगुआ, अपर परिवहन आयुक्त श्री एस.आर.पी. कल्लूरी तथा कंपनी के गाग्रेन, मंडकोव, करण जज, सत्येन्द्र सिंह, प्रसन्ना शेठ्ठी सहित अनेक पदाधिकारी उपस्थित थे। बैठक में नुआम टेक्नोप्रन्योर के अधिकारियों ने बताया कि लाइट रेल सिस्टम रूस की तकनीक पर आधारित है। यह रेल बैटरी चलित है। इस रेल में आठ बोगी रहती है, जो एलिवेटेड रूट पर चलती है, आठ बोगी के रेल में एक हजार 68 यात्री यात्रा कर सकते हंै। यह रेल पूर्णत: वातानुकूलित रहती है और इसमें वाईफाई सिस्टम सहित सभी आधुनिक सुविधाएं रहती है। रेल लाइन के किनारे सोलर पैनल रहते हैं, जिसमें स्ट्रीट लाइट भी लगाई जा सकती है। इसके अलावा रेल मार्ग पर टेलीकाम केबल आदि लगाने की व्यवस्था रहती है। कम्पनी के अधिकारियों ने प्रस्ताव किया कि इसके निर्माण का पूरा खर्च वहन किया जाएगा। कम्पनी इसे 30 साल चलाने के बाद शासन को सौंप देगी। इस रेल को लाइट रेल के लिए 70 साल गारंटी दी जाएगी। कम्पनी के अधिकारियों ने बताया कि कम्पनी द्वारा लाइट रेल परियोजना में दो वर्ष में 100 किलोमीटर रेल लाइन स्थापित कर संचालित किया जा सकता है। इस रेल को कार्गो की तरह उपयोग भी लाया जा सकता है।  

 

 

30-05-2019
निर्माणाधीन स्काई वॉक के संबंध में मांगे सुझाव, 15 जून तक भेज सकते हैं अभिमत

रायपुर। रायपुर शहर के मेकाहारा से शास्त्री चौक होते हुए जयस्तंभ चौक तक निर्माणाधीन स्काई वॉक के संबंध में आम नागरिकों जनप्रतिनिधियों, व्यापारियों, वास्तुविदों, बुद्धिजीवियों और मीडिया प्रतिनिधियों से 15 जून तक सुझाव आमंत्रित किए गए हैं। 

 सुझाव के लिए तय किए गए बिन्दु 

क्या निर्माणाधीन स्काई वॉक का निर्माण पूर्ण कर उपयोग किया जाना चाहिए ?
क्या निर्माणाधीन स्काई वॉक का किसी और रूप में उपयोग किया जा सकता है?
क्या निर्माणाधीन स्काई वॉक को तोड़कर उसे हटाया जाना चाहिए?
निर्माणाधीन स्काई वाक के संबंध में अन्य वैकल्पिक सुझाव ?

ऐसे भेंजे सुझाव

लोक निर्माण द्वारा सुझाव के लिए निर्धारित बिन्दुओं पर कोई भी व्यक्ति आवश्यक सुझाव लिखित में अपने बायोडाटा के साथ लोक निर्माण कार्यालय में स्थापित सुझाव पेटी में, डाक से अथवा ई-मेल आईडी में 1 से 15 जून शाम 5 बजे तक कार्यपालन अभियंता, लोक निर्माण विभाग (सेतु निर्माण संभाग) सिरपुर भवन कैम्पस, आकाशवाणी रायपुर के पीछे रायपुर के पते पर जमा कर सकते हैं। 

उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा रायपुर शहर में निर्माणाधीन स्काई वाक के संबंध में विगत 1 मार्च 2019 को छत्तीसगढ़ विधानसभा की समिति कक्ष में अधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों की संयुक्त बैठक में समीक्षा की गई थी। बैठक में यह तय किया गया था कि निर्माणाधीन स्काई वाक के संबंध में आम जनता, जनप्रतिनिधि, लालगंगा-बाम्बे मार्केट-जयस्तंभ चौक के व्यापारियों, बुद्धिजीवियों का अभिमत लिया जाए तथा सुझाव के अनुसार आगामी कार्रवाई तय की जाए। 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804