GLIBS
07-12-2019
वो जीना चाहती थी लेकिन नरपशुओं की दरिंदगी और सड़े हुए सिस्टम की कमी ने मार डाला

रायपुर। उन्नाव की बेटी ने आखिर दम तोड़ दिया। वह जीना चाहती थी। अपने भाई से लिपटकर उसने कहा था वो जीना चाहती है। वह बार-बार पूछती थी की वह बच तो जाएगी ना। मगर जिंदगी मौत से हार गई।उन्नाव की रेप पीड़िता ने आखिर दम तोड़ दिया, उन्नाव की बेटी नहीं रही। उन्नाव की बेटी की मौत के लिए किसे जिम्मेदार ठहराया जाए?उन नरपशु की दरिंदगी को? या फिर सड़ेले सिस्टम की कमियों को? नरपशु तो खैर जिम्मेदार है ही क्योंकि उन्होंने उसे दो बार मारा। पहली बार अपने साथियों के साथ गैंग रेप करके और दूसरी बार जमानत पर छूटने के बाद उसे जिंदा जला कर। क्या कहा जाए इसे नरपशुओं की दरिंदगी? या फिर सिस्टम की कमजोरी? जिसके कारण वह जेल से जमानत पर बाहर आ गया। खैर एक बार फिर लोग कैंडल लेकर सड़कों पर उतरेंगे। एक बार फिर जिंदाबाद मुर्दाबाद का शोर गूंजेगा। एक बार फिर सारे देश में हंगामा मचेगा। एक बार फिर रुदालियां एक सुर में रोएंगी एक बार फिर सिस्टम में सुधार की मांग होगी। एक बार फिर दरिंदों को फांसी देने की मांग होगी। और कुछ दिनों बाद एक बार फिर इसी बात के लिए हम सब दोबारा रोएंगे। क्योंकि ना तो बेटियां बढ़ रही है। ना बेटियां पढ़ रही है। और तो और ना बेटियां बच रही है। बस वह लूट रही है मर रही है।

05-12-2019
हैदराबाद मामले पर गरियाबंद में प्रदर्शन, किसी ने निकाली मौन रैली तो किसी ने लगाए वी वांट जस्टिस के नारे

गरियाबंद। हैदराबाद की रेप पीड़िता को न्याय दिलाने और हत्यारों को फांसी की सजा दिलवाने गरियाबंद में स्कूल एवं कॉलेज के छात्र-छात्राएं आगे आए हैं। यहां के एंजल इंग्लिश स्कूल के 500 छात्र-छात्राओं ने गुरूवार को मौन रैली निकाल कर पीड़िता के लिए न्याय और आरोपियों को फांसी की सजा देने की मांग की। वहीं कल शाम भी कॉलेज के छात्र छात्राओं ने वी वांट जस्टिस कार्यक्रम का आयोजन किया। इस कार्यक्रम के तहत नगर के तिरंगा चौक में पीड़िता को मोमबत्तियां जलाकर श्रद्धांजलि देते हुए जल्द आरोपियों को सजा देने की मांग की गई। इन युवाओं में गुस्सा नजर आया शासन-प्रशासन से बलात्कार के खिलाफ कड़े कानून बनाने की मांग करते हुए युवा नजर आए और कहा कि ऐसे प्रावधान होना चाहिए कि दोबारा कोई इस तरह की घटना करने की हिम्मत ना कर सके। इन युवाओं का कहना है कि कड़े कानून बनेंगे तो इस तरह की घटना के बारे में आरोपी सोच भी नहीं सकेगा, छात्र-छात्राओं की मौन रैली गरियाबंद पेट्रोल पंप से तिरंगा चौक, बाजार चौक, मुख्य बाजार, बस स्टैंड होते हुए तिरंगा चौक पहुंची थी जहां पीड़िता को श्रद्धांजलि दी गई।

 

05-12-2019
रेप पीड़िता को जिंदा जलाने वाले पांचो आरोपी गिरफ्तार, जमानत पर रिहा होकर दिया वारदात को अंजाम  

लखनऊ। उन्नाव गैंगरेप पीड़िता को जिंदा जलाने के मामले में पुलिस ने सभी पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। इनमें मुख्य आरोपी शिवम द्विवेदी भी शामिल है। उधर बुरी तरह जली पीड़िता की हालत गंभीर है, उसे लखनऊ के सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उन्नाव के एसपी विक्रांत वीर के अनुसार आरोपी को पकड़ने के लिए 4 टीमें लगाई गई थीं। उन्नाव में एक बार फिर मानवता शर्मसार हुई है। यहां गुरुवार को एक रेप पीड़िता को जमानत पर छूट कर आए दो आरोपियों ने अपने तीन साथियों के साथ मिलकर जिंदा जला दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने युवती को गंभीर हालत में जिला अस्पताल भेजा, जहां उसकी गंभीर हालत को देखते हुए डॉक्टरों ने लखनऊ रेफर कर दिया। बताया जा रहा है कि पीड़िता 80 प्रतिशत तक जल गई है।

जमानत पर रिहा हुए और दिया वारदात को अंजाम

बिहार थानाक्षेत्र के हिन्दुनगर गांव की है। कुछ दिन पहले ही युवती के साथ रेप हुआ था। इस मामले में दो नामजद आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था। गुरूवार को युवती इसी मामले की पैरवी के लिए रायबरेली जा रही थी। सुबह 4 बजे के करीब गांव के बाहर खेत में दोनों आरोपी व उसके तीन साथियों ने उसके ऊपर कैरोसीन छिड़ककर आग लगा दी। इसकी सूचना मिलते ही गांव में हड़कंप मच गया। सूचना पर पुलिस भी मौके पर पहुंची और पीड़िता को जिला अस्पताल पहुंचाया गया। जहां से उसे लखनऊ ट्रामा सेंटर रेफर किया गया है।

02-08-2019
उन्नाव रेप पीडि़ता का परिवार मध्यप्रदेश में बसे तो सीएम  कमलनाथ देंगे सुरक्षा

भोपाल। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने उन्नाव गैंगरेप पीडि़त केस में सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत किया है। उन्होंने कहा कि कोर्ट का फैसला स्वागत योग्य है। उन्होंने उन्नाव की बेटी के परिवार से अपील की है कि वो मध्यप्रदेश आकर बसे, सरकार उन्हें सुरक्षा देगी। उन्नाव रेप मामले पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद सीएम कमलनाथ ने ट्वीट कर अपनी बात कही। उन्होंने लिखा कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला स्वागत योग्य है। यूपी को असुरक्षित मानकर छोडऩे का निर्णय ले चुकी पीडि़ता की मां और परिवार से मैं अपील करता हूं कि वो सभी मध्यप्रदेश आकर बसने का निर्णय लें। हमारी सरकार आपके पूरे परिवार की रक्षा करेगी। अगले ट्वीट में सीएम कमलनाथ ने कहा कि अगर बच्ची परिवार यहां आता है तो हम उसका बेहतर इलाज कराएंगे। उसकी बेहतर शिक्षा से लेकर सम्पूर्ण दायित्व हम निभाएंगे। परिवार को हम किसी भी प्रकार की दिक्कत नहीं होने देंगे। सीएम ने लिखा-दिल्ली केस ट्रांसफर होने के कारण आपके दिल्ली आने-जाने की भी पूर्ण व्यवस्था करेंगे। हम बेटी का प्रदेश की बच्ची तरह खयाल रखेंगे। बच्ची का हम बेहतर इलाज कराएंगे। उसकी बेहतर शिक्षा से लेकर सम्पूर्ण दायित्व हम निभाएंगे। किसी भी प्रकार की दिक्कत का सामना नहीं होने देंगे। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने रायबरेली जेल में बंद उन्नाव रेप पीडि़ता के चाचा को दिल्ली की तिहाड़ जेल में शिफ्ट करने का आदेश दिया है। शुक्रवार को इस मामले की सुनवाई करते हुए चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की बेंच ने यह आदेश पारित किया। दरअसल पीडि़ता के वकील ने उसके चाचा की जान को खतरा बताते हुए उन्हें तिहाड़ जेल शिफ्ट करने की मांग की थी।

31-07-2019
उन्नाव केस में सामने आ रही भाजपा नेताओं की लीपापोती : प्रियंका गांधी

नई दिल्ली। सड़क हादसे में गंभीर रूप से घायल उन्नाव की रेप पीडि़ता जिंदगी और मौत के बीच झूल रही है। परिजनों का आरोप है कि यह एक्सीडेंट रेप के आरोपी जेल में बंद भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर ने ही करवाया था। एक्सीडेंट के बाद से ही तमाम विपक्षी पार्टियां बीजेपी पर हमलावर हैं। इस बीच कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने बीजेपी पर करारा हमला बोला है। उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि उन्नाव बलात्कार मामला व पीडि़ता के पूरे परिवार को प्रताडि़त करना सत्ता के सरंक्षण के बिना सम्भव नहीं है। अब परतें खुल रही हैं व भाजपा नेताओं के नाम और पुलिस की लीपापोती सामने आ रही है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने आगे लिखा है कि कांग्रेस न्याय के लिए प्रतिबद्ध है। ये लड़ाई हम मजबूती से लड़ेंगे। बता दें कि इस मामले में सीबीआई ने भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर और अन्य 10 लोगों के खिलाफ  मामला दर्ज कर लिया है।

29-07-2019
उन्नाव रेप पीड़िता का एक्सीडेंट, गंभीर रूप से घायल, दो परिवारवालों की मौत

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के उन्नाव से भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर रेप का आरोप लगाने वाली पीड़िता रविवार को एक सड़क हादसे में बुरी तरह घायल हो गई, वहीं पीड़िता की चाची और मौसी की इस घटना में मौत हो गई। रविवार को रायबरेली मेंं पीड़िता की कार और ट्रक की टक्कर हो गई। पीड़िता को गंभीर हालत में लखनऊ में एडमिट कराया गया है। रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है रायबरेली जिले के अतरुआ गांव में ट्रक और कार की आमने-सामने से टक्कर हो गई, जिसमें कार के परखच्चे उड़ गए। रेप पीड़िता को गंभीर हालत में लखनऊ के हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया है। वहीं पुलिस इस हादसे के कारणों की जांच कर रही है। 

रायबरेली में हुए इस भीषण सड़क हादसे में पीड़िता की मौसी और चाची की मौत रविवार को ही हो गई थी। पीड़िता और उसके वकील की हालत गंभीर बनी हुई है। दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल लखनऊ पहुंच चुकी हैं। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भी ट्वीट कर यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार पर सवाल उठाए हैं। प्रियंका गांधी ने लिखा, उन्नाव बलात्कार पीड़िता के साथ सड़क दुर्घटना का हादसा चौंकाने वाला है। इस केस में चल रही सीबीआई जांच कहां तक पहुंची? आरोपी विधायक अभी तक भाजपा में क्यों है? पीड़िता और गवाहों की सुरक्षा में ढ़िलाई क्यों। इन सवालों के जवाब बिना क्या भाजपा सरकार से न्याय की कोई उम्मीद की जा सकती है? समाजवादी पार्टी ने इस घटना की सीबीआई जांच की मांग की है। योगी आदित्यनाथ सरकार ने कहा है कि पीड़ित पक्ष चाहे तो हम सीबीआई जांच के लिए तैयार हैं।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804